मृतक आश्रितों की नियुक्ति पर तत्काल हो कार्यवाही

0

फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेशीय सफाई मजदूर संघ ने जिलाधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौपा| ज्ञापन में नौ सूत्रीय मांगे रखी गयी है|
संगठन के अध्यक्ष नीरज के नेतृत्व में सफाई कर्मी जिलाधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट रामअक्षयवर सिंह चौहान को सौपा| जिसमें सफाई कर्मियों नें संविदा सफ़ाई कर्मियों का दो माह का बकाया वेतन दिलवाने, मृतक आश्रितों की नियुक्ति पर तत्काल कार्यवाही, दीवाली का घोषित बोनस का तत्काल दिलाने व सफाई कर्मियों को ठंडी व गर्म वर्दी दिलाने के सहित कुल आठ सूत्रीय मांगे रखी  गयी|
विपिन कुमार, मुकेश वाल्मीकी आदि रहे|

छाबनी परिषद कार्यालय के बाहर कर्मचारियों का प्रदर्शन

0

Posted on : 01-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: अपनी विभिन्य मांगो को लेकर छाबनी परिषद के कर्मचरियों ने कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया| काफी देर तक चले हंगामे के बाद आखिर ईओ ने समझाकर मामले को रफा-दफा कराया|
फतेहगढ़ में कैंट परिसर  में बने छाबनी परिषद कार्यालय के बाहर सफाई कर्मी आदि एकत्रित हुए| उन्होंने कहा की उनके वेतन कर्मियों को एरियर भुगतान नही किया रहा है| इसके साथ ही छाबनी  परिषद के कर्मियों की एक बैठक तीन महीने में बुलायी जाये जिससे वह अपनी समस्याओं को रख सके| इसके साथ कुछ कर्मचारियों ने पेशन से सम्बन्धित समस्या बतायी|
छाबनी परिषद के सामने हंगामा होने की खबर पर अधिशाषी अधिकारी यशपाल सिंह मौके पर पंहुचे उन्होंने जल्द सभी समस्याओं के समाधान का भरोसा दिया जिसके बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ| सुखलाल, मलखान, रीना, रामभरोसे आदि रहे|

मानदेय ना मिलने से आक्रोशित सफाई कर्मियों ने ईओ को घेरा,जलकल अभियंता से गाली-गलौज

0

फर्रुखाबाद: बीते लगभग दो महीने से नगर पालिका के सफाई संविदा सफाई कर्मियों का वेतन ना मिलने से उनके सब्र का बांध टूट गया| इस दौरान आक्रोशित सफाई कर्मियों ने ईओ के आवास का घेराव किया और बातचीत करने आये जल-कल अभियंता के साथ गालीगलौज कर दिया|सफाई कर्मियों का आक्रोश देख ईओ और जल-कल अभियंता ने खुद में भीतर बंद कर लिया| बाहर सफाई कर्मी नारेबाजी करते रहे| हंगामे की सूचना पर पुलिस मौके पर पंहुची|
सफाई कर्मी यूनियन के नेता नीरज वाल्मीकि व हरिओम वाल्मीकि शुक्रवार दोपहर बाद अधिशासी अधिकारी रश्मि भारती के आवास का घेराव कर नारेबाजी की| और उन्हें बातचीत के लिए बाहर बुलाया|उन्होंने कहा कि सफाई कर्मियों का आक्रोश देखकर ईओ ने बाहर आने से इंकार कर दिया और जल-कल अभियंता विजय बहादुर सिंह को बाहर भेजा| जंहा उनकी सफाई कर्मियों से नोकझोंक हो गयी| आक्रोशित सफाई कर्मियों ने गाली-गलौज कर दी| सफाई कर्मियों का आक्रोश देख जलकल अभियंता भी भीतर चले गये और दरवाजा भीतर से ही बंद कर लिया|
जिसके बाद सफ़ाई कर्मी नारेबाजी करते रहे| सफाई कर्मियों ने बताया कि नगर पालिका परिषद में 300 संविदा सफाई कर्मी तैनात है|उनका आरोप की उन्हें 19600 रूपये मानदेय मिलता है| मार्च के केबल 15 हजार ही दिया गया और अप्रैल व मई का मानदेय अभी तक दिया भी नही गया| सूचना मिलने पर शहर कोतवाल रवि श्रीवास्तव मौके पर पंहुचे और बातचीत करने का प्रयास किया|
काफी देर चले प्रदर्शन के बाद आखिर ईओ रश्मि भारती वार्ता के लिए तैयार हुईं| जिसके बाद पालिका कार्यालय के सभागार में ईओ व तहसीलदार सदर प्रदीप सिंह के साथ बैठकर वार्ता हुई| ईओ नें कार्यवाही का आश्वासन दिया जिसके बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ|
ईओ ने जेएनआई को बताया कि सफाई कर्मियों से अभिलेख मांगे गये है| अभिलेखों के आधार पर रिपोर्ट बनाकर शासन और जिला प्रशासन को भेजी जायेगी| शासन के निर्देश पर कार्यवाही की जायेगी|

पालिका की लापरवाही, बरसात में पड़ेगी लोगों पर फिर भारी!

0

Posted on : 31-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: बारिश आते ही शहर के बड़े नालों की गंदगी सिरदर्द बन जाएगी। गंदगी और पॉलीथिन से लबालब नालों की सफाई नहींहोने से वातावरण तो प्रदूषित होगा ही, गंदा पानी सड़कों पर आने से संक्रमण भी सिरदर्द बढ़ा सकता है। ताज्जुब की बात है कि हर वर्ष बरसात से पहले विभाग द्वारा नालों की सफाई का विशेष अभियान केबल कागजों में चलाकर लाखों का वजट चट किया जाता है| लेकिन आम जनता को इससे कोई लाभ नही दिया गया| वर्षों से जलभराव की समस्या से आम जनता को दो-चार होना पड़ता है|
नगर पालिका परिषद फर्रुखाबाद की लापरवाही कहें या फिर अनदेखी। नगर में कई नाले गंदगी से अटे पड़े हुए हैं। विभाग कर्मियों की लापरवाही के चलते कालोनियों के पानी को शहर से बाहर पहुंचाने वाले नाले अपनी दयनीय स्थिति पर आंसू बहा रहे हैं। नाले गंदगी और कूड़े के ढेरों से पटे पड़े है|पानी की निकासी अवरुद्ध होने के चलते थोड़ी बरसात होने के बाद ही नाले लबालब हो जाते हैं और पानी न निकलने के कारण नगर के अधिकांश कालोनियों में जलभराव हो जाता है। पालिका प्रशासन सालभर में मात्र एक-दो बार ही बड़े नालों की सफाई करने के लिए विशेष अभियान चलाता है। नगर के लोगों की मानें तो बरसात से पहले नालों की सफाई को लेकर चलाए जाने वाले अभियान में भी नगर पालिका प्रशासन की अनदेखी के कारण सफाईकर्मी महज खानापूर्ति करते हैं। इसका खामियाजा बरसात के समय में नगर के लोगों को उठाना पड़ता है।
पिछले वर्ष भी नालों की स्थिति काफी दयनीय थी और इस वर्ष भी उसमें कोई सुधार दिखाई नहीं दे रहा है। ऐसे में आने वाले बरसात के मौसम में नगर के गंदगी से पटे नाले लोगों के लिए आफत खड़ी कर सकते हैं। इसके अलावा कुछ स्थानों पर नालियां और नालों को ढकने की व्यवस्था नहीं होने के कारण हादसों का भी खतरा बना रहता है। नगर पालिका की ओर से आने वाले दिनों में यदि समय पर मुस्तैदी नहीं दिखाई गई, तो बारिश के दिनों में लोगों के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है।नगर के भीकमपुरा, अंगूरीबाग़, लालगेट, गंगानगर आदि कई जगहों के नाले कूड़े-कचड़े से भरे पड़े है| ईओ रश्मि भारती से फोन पर इस सम्बन्ध में वार्ता करने का प्रयास किया गया लेकिन उनका फोन रिसिब नही हुआ|
नगर पालिका अध्यक्ष वत्सला अग्रवाल ने बताया कि नाला सफाई का कार्य चल रहा है|बरसात से पहले सभी नाले साफ़ कर दिये जायेंगे| 

सांड की करंट से मौत, बिजली विभाग के खिलाफ तहरीर

0

फर्रुखाबाद: सांड की बिजली करंट से मौत हो गयी| जिसमे चलते लोगों में आक्रोश है| हिन्दूवादी नेताओं ने मौके पर जाकर हंगामा किया और बिजली विभाग के खिलाफ तहरीर दी|
शहर कोतवाली क्षेत्र के चौक बाजार में शनिवार देर शाम एक सांड अचानक बिजली पोल से चिपकर मौत के मुंह में चला गया| सूचना मिलने पर एडवोकेट दीपक द्विवेदी, हिन्दूवादी नेता राजेश मिश्रा, अंकित तिवारी मौके पर आ गये|
उन्होंने आरोप लगाया कि कई बार बिजली विभाग को पोल में करंट होने की बात से अवगत कराया गया लेकिन कार्यवाही नही हुई| वही आलाधिकारियों को भी सूचना दी गयी| जिसके बाद शहर कोतवाल रवि श्रीवास्तव आदि मौके पर पंहुचे| आक्रोशित लोगों ने सांड का पोस्टमार्टम कराने की मांग की है| मामले में बिजली विभाग की लापरवाही बताकर अंकित तिवारी ने शहर कोतवाली में तहरीर देनें की बात की है|

खबर का असर:लाल दरबाजे के रंगीन फब्बारे में रिपेयरिंग कार्य शुरू

0

फर्रुखाबाद:(नगर प्रतिनिधि)बीते कई महीनों ने खराब हो चुके लाल दरबाजे के फब्बारे पर जेएनआई की खबर के 24 घंटे में ही सुधार कार्य शुरू हो गया|जिसको लेकर स्थानीय लोगों को ख़ुशी की लहर है|
बीते दिन ही आपके प्रिय जेएनआई न्यूज ने “पीसा की मीनार बना लाल दरवाजे का रंगीन फब्बारा” शीर्षक पर समाचार प्रकाशित किया था| जिस पर नगर पालिका ने 24 घंटे में ही काम शुरू करा दिया| लखनऊ से तत्काल कारीगर बुलाये गये|उन्होंने गुरुवार को उसमे रिपेयरिंग कार्य भी शूरू कर दिया गया| फब्बारा सीधा कर दिया गया| पानी आदि का कार्य अभी होना है|

डीएम को पालिका में मिले 55 बिना पंजीकरण के वाहन

0

फर्रुखाबाद:नगर पालिका में दशकों से बिना पंजीकरण के चल रहे वाहनों का फर्जीबाड़ा जिलाधिकारी मोनिका रानी को मिला| उन्हें कुल 55 वाहन एआरटीओ कार्यालय में बिना पंजीकरण के चलते मिले| जिस पर डीएम सख्त हो गयी| उन्होंने ईओ को जल्द सभी वाहनों के पंजीकरण कराने के निर्देश दिये|
शनिवार को अन्न पशुओं की व्यवस्था देखने के लिए गयी थी| उन्होंने टाउन हाल स्थित पालिका का स्टोर देखा| जंहा वह दर्जनों वाहनों को कबाड़ में देखकर दंग रह गयी| उन्होंने कहा की जो भी वाहन कबाड़ है उनको तत्काल चिन्हित कर नीलामी कर दी जाये| ताकि जगह खाली हो सके| इसके साथ ही उन्होंने स्टोर इंचार्ज महेश बाबू से पालिका के वाहनों के सम्बन्ध में बात की| जिस पर महेश बाबू ने जिलाधिकारी को बताया कि कुल छोटे बड़े 55 वाहन संचालित है जिनमे एक का भी पंजीकरण नही है| इस पर डीएम ने यात्री कर अधिकारी बीके आनन्द को मौके पर बुला लिया| पीटीओ ने मौके पर आकर कहा कि उन्होंने पालिका से एक वर्ष पूर्व कहा था लेकिन पालिका ने पंजीकरण के सम्बन्धित फाइल उपलब्ध नही करायी| जिससे पंजीकरण नही हो सके|
इसके बाद डीएम ने ईओ नगर पालिका रमेश यादव को तत्काल वाहनों के पंजीकरण कराने के निर्देश दिये|

पाबंदी के बाद भी हाथ से नहीं छूट पा रही मुसीबत की थैली

0

Posted on : 21-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:पॉलिथीन की थैली में सामनों की बिक्री शहर में धड़ल्ले से हो रही। न तो दुकानदारों को भय दिखा और न ही ग्राहक में। अधिकांश लोगों को प्रशासन के इस फैसले का पता ही नहीं था। यहां तक कि नगर पालिका के अफसरों ने पॉलिथीन बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति की। सब्जी से लेकर बड़े शो-रूम में भी पॉलिथीन में सामानों की बिक्री हो रही।
बढ़ते प्रदूषण व आवारा जानवरों के पॉलिथीन खाने से उनकी मौत होने सहित अन्य समस्याओं को देखते हुए योगी सरकार ने पॉलीथिन की बिक्री पर रोक लगा दी थी। निर्देश नहीं मानने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी गई थी। आदेश का अनुपालन कराने के लिए अधिकारी सड़क पर उतरे। पॉलिथीन में सामान दे रहे दुकानदारों पर कार्रवाई के नाम पर केबल खानापूर्ति की गयी।
नगर में यदि नजर डाले तो जगह-जगह सड़क किनारे सब्जी व फल बेच रहे दुकानदारों को खुले आम पॉलिथीन का इस्तेमाल करते देखा जा सकता है| लेकिन इसके बाद भी सरकार के फरमान पर अधिकारी ध्यान नही दे रहे| केबल कागजों पर ही पॉलिथीन के इस्तेमाल पर रोंक दिखाकर सरकार के आँखों में पट्टी बांधने का काम किया जा रहा है| बाजार में पॉलिथीन की थैली में सामान बिक्री होने के बाद पॉलिथीन घरों में जा रही है| घरों से सडकों पर फेंकी जा रही है| यही पॉलिथीन गायों के द्वारा खा ली जाती है जिससे उनकी अकाल मौत होती है| फ़िलहाल पॉलिथीन पर पूर्ण रूप से पाबंदी लगाने के लिए जिला प्रशासन सडकों पर नजर नही आ रहा है| जिससे यह मुसीबत की थैली आदमी के हाथ ने नही छूट पा रही है|
नगर पालिका के अधिशासी अभियंता (ईओ) रमेश यादव ने बताया कि जल्द पुन: अभियान चलाकर पॉलिथीनकी बिक्री करने वालों पर शिकंजा कसा जायेगा|

एक मात्र सार्वजनिक मूत्रालय,वह भी गंदगी के हवाले!

0

Posted on : 16-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:स्वच्छ भारत अभियान प्रधानमंत्री की प्राथमिकताओं में भले ही शुमार हो, लेकिन नगर पालिका को इससे सरोकार नहीं। नगर पालिका के कर्मचारियों की मनमानी के चलते स्वच्छ भारत अभियान को पलीता लग रहा है। लोगों को परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। जिसका जीता-जागता उदाहरण है नगर का एक मात्र सार्वजिक मूत्रालय जिसमे गंदगी का अंबार है| महीनों से उसे साफ़ नही किया गया|
नगर के रेलवे रोड पर एसबीआई की दीवार के निकट एक सार्वजनिक मूत्रालय पालिका द्वारा बनाया गया है| जिसमे महिलाओं और पुरुषों को लिए अलग-अलग मूत्रालय बनाया गया है| लेकिन आज की तिथि में वह गंदगी का अम्बार है| जिसे देखने वाला नही है| नतीजा यह हुआ है कि लोग खुले में ही गंदगी करने पर मजबूर है| नगर पालिका सफाई के नाम के होर्डिंग व बाल पेंटिग में लाखो रूपये का वजट खर्च कर रही है|

रेस्‍क्‍यू आपरेशन:दस घंटे बाद नाला तोड़कर जिंदा निकाला नंदी

0

Posted on : 03-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, NAGAR PALIKA, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद:सोमबार को लगभग सुबह आठ बजे दो नंदी आपस में लड़ रहे थे| उसी दौरान एक नंदी मंडी समिति के गहरे नाले में चला गया| जिसके बाद पालिका को सूचना दी गयी| तकरीबन दस घंटे चले रेस्‍क्‍यू आपरेशन के बाद आखिर नंदी को जिंदा निकाला गया|
शहर कोतवाली के सातनपुर आलू मंडी के सामने बीते कुछ महीने पहले मंडी निर्माण निगम ने एक नाला बनाया था| जिसमे आलू मंडी गेट के बाहर तकरीबन चार फीट नाला खुला हुआ था| सुबह तकरीबन आठ बजे दो सांड आपस में लड़ने लगे| काफी देर चली भिडंत के बाद एक सांड नाले में चला गया| जिसके बाद उसका कोई पता नही चला| उसी दौरान सांसद मुकेश राजपूत के प्रतिनिधि दिलीप भारद्वाज गेट के सामने खड़े थे| उन्होंने सांड को नाले में गिरते हुए देख लिया| जिसके बाद उन्होंने ईओ नगर पालिका को फोन पर जानकारी दी| उसी दौरान हिन्दू महासभा के जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा अपने समर्थको के साथ आ गये| उन्होंने नगर पालिका चेयरमैंन के पति मनोज अग्रवाल को अवगत कराया| जिसके बाद नगर पालिका की जेसीबी तकरीबन 10 बजे मौके पर पंहुची| जब उसकी तलाश के लिये नाले के ऊपर रखी पटिया हटायी गयी लेकिन उससे कोई नतीजा नही निकला| क्योंकि नाला तकरीबन आठ फीट गहरा था| जिससे उसका पता ही नही चल पा रहा था|
काफी प्रयास के बाद भी जब पता नही चला तो नगर पालिका से सीवर सेक्शन मशीन लेकर सफाई नायक विनय कश्यप पंहुचे| जिसके बाद नाले का पानी निकालना शुरू किया गया| लेकिन पानी अधिक होने के कारण काफी समय लग रहा था| जिसके बाद पम्प सेट मगाया गया| सीबर सेक्शन मशीन व पम्प सेट के साथ पानी निकालने के लिये लगाये गये| उन्होंने तकरीबन दो घंटे तक पानी निकाला उसके बाद भी जब नाले में कही नंदी का पता नही चला तो मंडी गेट और गल्ला मंडी के गेट के निकट की पुलिया के निकट पटिया हटाई गयी| तकरीबन शाम 5:30 बजे नंदी गल्ला मंडी के सामने वाली पुलिया के नीचे फंसा हुआ मिला| जिसके बाद पालिका संविदा कर्मी जितेन्द्र ठंडे पानी में उतर गया और एक ग्रामीण की मदद से नंदी को रस्सी में बाँधकर उसे जेसीबी से काफी मसक्कत के बाद ऊपर निकाला| इसके लिए नाले को कई जगह तोडना पड़ा| जैसे ही नंदी बाहर आया वह भीड़ पर भडक गया| जिससे भगदड़ मच गयी| जैसे तैसे उसे खदेड़ा गया|
नगर पालिका के इन कर्मियों ने दिया आपरेशन को अंजाम
सफाई नायक विनय कुमार कश्यप,जेसीबी चालक सरजू,संविदा कर्मी जितेन्द्र कुमार,सीवर सेक्शन चालक मनीष कुमार,पम्प सेट चालक रघुराज,संविदा कर्मी अजय ने रेस्कू आपरेशन को अंजाम दिया|
पांच घंटे बाद पंहुचे जेई नगर पालिका
सांसद प्रतिनिधि दिलीप भारद्वाज व हिन्दू महासभा के जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा के सूचना देने के तकरीबन पांच घंटे बाद जेई नगर पालिका मौके पर पंहुचे और टहल कर वापस लौट गये|जिससे लोग आक्रोशित दिखे|
किसान संघ युवा के जिलाध्यक्ष प्रभात मिश्रा,बीजेपी नेता अमित राठौर,हिन्दू महासभा महामंत्री सौरभ मिश्रा,गौरक्षा प्रकोष्ठ से रजत गुप्ता,दुर्गेश सक्सेना आदि रहे|