Featured Posts

गंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजागंगा-जमुनी तहजीब की मिशाल बन रहा जेल में बंदियों का रोजा फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला) रमजान का पवित्र माह शुरू हो गया। जहां एक ओर लोगों ने सुबह सहरी कर पहला रोजा रखा। वहीं सेन्ट्रल जेल में बंद बंदियों ने भी रोजे रखे। मुस्लिम समाज के करीब 175 कैदियों ने अल्लाह की रजा (खुशी) हासिल करने के लिए रमजान का रोजा रखा। जिनकी सहरी और इफ्तार की जिम्मेदारी...

Read more

सांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचनसांसद करेंगे नरेन्द्र से नरेन्द्र तक पुस्तक का विमोचन फर्रुखाबाद: आचार्य ओम प्रकाश मिश्रा (कंचन) द्वारा लिखित पुस्तक नरेंन्द्र से नरेन्द्र तक का विमोचन सांसद मुकेश राजपूत के द्वारा किया जायेगा| जिसकी सभी तैयारी पूर्ण कर ली गयी है| शहर के कोटा पार्चा स्थित एशियन कम्प्यूटर सेंटर अपर आयोजित प्रेस वार्ता में आचार्य कंचन ने बताया...

Read more

खूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीणखूनी जबड़ों के साये में जीने को मजबूर रतनपुर के ग्रामीण फर्रुखाबाद:(जहानगंज) आदमखोर कुत्तों के साये में ग्रामीण व नैनिहाल अभी भी जी रहे है| डर भय का आलम यह है की गाँव के बच्चों ने विधालय जाना तकज छोड़ दिया दिया है| जिससे सरकारी विधालय की छात्र उपस्थिति लगातार कम होती जा रही है| परिजन खुद अपने बच्चों की लाठी-डंडो से लैस होकर सुरक्षा...

Read more

एक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोपएक ही फंदे पर माँ-बेटे की झूलती मिली लाश,हत्या का आरोप फर्रुखाबाद:(कंपिल) विवाहिता व उसके मासूम बेटे का शव फांसी पर लटका मिला| घटना की सूचना पर परिजन मौके पर पंहुचे| उन्होंने दहेज के लिये हत्या कर शव फांसी पर लटका दिये जाने का आरोप लगाया | कमरे में ही एक सुसाइड नोट भी मिला है| थाना क्षेत्र के ग्राम मेदपुर निवासी आनन्द उर्फ़ लालू...

Read more

निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौतनिर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत वाराणसी:पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें...

Read more

प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरनाप्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए कार्यालय पर दिया धरना फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ ने फरवरी माह का वेतन ना मिलने से खफा होकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया धरना दिया| शिक्षकों की नारेबाजी देख बीएसए अपने कक्ष से वित्त एवं लेखाधिकारी को साथ लेकर निकल आए और बिना अनुमति के धरना दिए जाने...

Read more

फरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बातफरियादियों के फोन पर नही हो सकी एडीजी की बात फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी अविनाश चन्द्र ने थाने के निरीक्षण के दौरान पुलिस कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये| वही उन्होंने आगन्तुक रजिस्टर चेक किया| जिसके बाद उन्होंने उसमे दर्ज फरियादियों को फोन लगाया लेकिन बात नही हो सकी| सुबह एडीजी थाने का निरीक्षण एसपी मृगेंद्र...

Read more

एडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियालीएडीजी के जाते ही थाने से चली गयी उधार की हरियाली फर्रुखाबाद:(जहानगंज) एडीजी के स्वागत के लिये थाना पुलिस ने कोई कोर कसर नही छोड़ी| यंहा तक की उन्हें खुश करने के लिये उधार की फुलवारी भी थाने में लाकर रखनी पड़ी| लेकिन जाने के बाद उसे पुलिस को वापस करना पड़ा| एडीजी अबिनाश चन्द्र के द्वारा थाने का निरीक्षण किया जाना पूर्व में ही...

Read more

मोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचामोर को शिकार के लिये ले जाते समय दबोचा फर्रुखाबाद:(जहानगंज) शिकार करने के इरादे से ले जाए जा रहे जिंदा मोर व एक आरोपी को ग्रामीण ने दबोच लिया| जिसके बाद उसे पुलिस के हबाले कर दिया गया| मौके से दो आरोपी भागने में कामयाब रहे| मामले में पुलिस को तहरीर दी गयी है| कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र ग्राम मुरास के निकट थाना...

Read more

पुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचापुलिस जीप से कूदकर भागा आरोपी दबोचा फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) काफी समय से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस न्यायालय ले जा रही थी| वही वह पुलिस जीप से कूदकर फरार हो गया| लेकिन पुलिस ने उसे कुछ दूर दौड़कर दबोच लिया| जिसके बाद उसे न्यायालय में पेश किया गया| जंहा से उसे जेल भेज दिया गया| थाना में आरोपी राजेश उर्फ़ जितेन्द्र पुत्र...

Read more

धनबल व बाहुबल का प्रयोग कर सपा ने जीता चुनाव: बीजेपी

Comments Off on धनबल व बाहुबल का प्रयोग कर सपा ने जीता चुनाव: बीजेपी

Posted on : 23-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, ZILA PANCHAYAT

फर्रुखाबाद: बीजेपी ने जिला पंचायत चुनाव में करारी हार का ठिगरा बिरोधी पार्टी पर फोड़ा| उन्होंने कहा की सपा के लोगो ने धनबल व बाहुबल के बल पर चुनाव जीता गया| जिसमे प्रशासन के लोगो ने बीजेपी को जितनी मदद करना चाहिए था उतनी मदद नही की | चारो विधायको व जिलाध्यक्ष ने यह प्रदर्शन किया की वह सांसद के साथ है|
आवास विकास स्थित एक गेस्ट हॉउस में आयोजित वार्ता में विधायक सुशील शाक्य ने कहा कि बीते जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव में बीजेपी ने अपने प्रत्याशी लड़ाये थे| जिसमे उनके तीन प्रत्याशी ही चुनाव जीते थे | सपा ने धनबल का प्रयोग कर सदस्यों को आतंकित किया| जिसकी सूचना समय-समय पर जिला प्रशासन को दी जाती रही| चुनाव में तीन सदस्यों से हम 9 सदस्यों तक पंहुच गये| उन्होंने कहा कि कुछ लोग भ्रामक प्रचार कर रहे है की सांसद विधायक एक नही है| यह गलत है|
अपनी ही सत्ता में हार का मुंह देखने के बाद सांसद मुकेश राजपूत ने भी सुशील शाक्य की बात का समर्थन किया| उन्होंने कहा कि धनबल के साथ ही साथ बाहुबल का प्रयोग भी किया गया| सभी जिला पंचायत सदस्यों के घर पर सुबोध यादव, रामेश्वर सिंह यादव व जोगेंदर सिंह यादव ने जाकर धमकाया| उन्होंने कहा कि वही प्रशासन बे भी सहयोग नही किया| मतदान के दौरान मैनपुरी व एटा के सैकड़ो लोग जिले में मौजूद रहे| जिन्हें रोंका नही गया| सरकार बीजेपी की है लेकिन सपा के कुछ लोग गंगा-जमुनी तहजीव को बिगाड़ रहे है| वही बीजेपी जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने पूरे मामले में सफाई पेश की| उन्होंने कहा की जिले के चार विधायक व एक सांसद मिलाकर क्या कर सकते थे | तीन मत बीजेपी के थे उसकी जगह पर दस सदस्यों ने मतदान किया| उन्होंने कहा की 30 सदस्यों में से 27 बसपा व सपा के जीते सदस्य थे | लेकिन इसका जबाब 19 के चुनाव में मिलेगा| विधायक सुनील दत्त, अमर खटिक व भूदेव राजपूत मौजूद रहे|

मतगणना और मतदान बना रहा रहागीरों का सिरदर्द

Comments Off on मतगणना और मतदान बना रहा रहागीरों का सिरदर्द

Posted on : 22-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, ZILA PANCHAYAT, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत चुनाव के मतदान व मतगणना के दौरान पुलिस ने आम लोगो के लिये रास्ता बंद कर दिया| जिससे शाम लगभग चार बजे तक आम लोगो को निकालने में आने-जाने मे काफी दिक्कत का सामान करना पड़ा|

पुलिस ने डीएन कालेज के निकट तिराहे पर एक चेकपोस्ट व बैरियर बनाया| जंहा से निर्धारित अबधि में मतदाता और अफसरों के निकलने की अनुमति थी| वही दूसरी बैरियर जीजीआईसी गेट पर लगाया जंहा से भी किसी की एंट्री नही की जा रही थी| सुबह स्कूली बच्चो, डिग्री कालेज की छात्राओ, अदालत जाने वाले लोगो को पुलिस ने बैरियर पर ही रोंक दिया| पुलिस की रोक थाम से दर्जनों बच्चे स्कूल जाने से महरूम रह गये|

कई दिव्यांगो को बैरियर से कचेहरी तक पैदल तेज धूप में जाना पड़ा| वही नेताओ को अंदर घुसने को लेकर पुलिस से तकरार भी हुई|

अपनों की गद्दारी ने बीजेपी को दिलाई हार

Comments Off on अपनों की गद्दारी ने बीजेपी को दिलाई हार

फर्रुखाबाद: बीजेपी में गद्दारी करना कोई नई परम्परा नही है| यह पहले भी हुआ है और पहले भी बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी| एक तरफ सत्ता दूसरी तरफ जिले में चार बीजेपी के विधायक व खुद सांसद होने के बाद भी जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर बीजेपी प्रत्याशी की हार लोगो के गले नही उतरी| बीजेपी समर्थित प्रत्याशी की हार को पार्टी के भितरघात से जोड़ा जा रहा है|

पिछले जिला पंचायत के चुनावो पर अगर नजर डाले तो इस बार का जिला पंचायत बिल्कुल भिन्न था| सरकार का कोई दखल तक नही| सुबह से ही मुकेश के विरोधी प्रत्याशी की मदद में कौन-कौन बीजेपी नेताओ है इसका जिक्र चलता रहा| कई लोगो ने बीजेपी के कुछ जनप्रतिनिधो पर ही धोखा देने का आरोप लगाया| कुछ लोगो ने कहा कि फोन से कई बीजेपी के जनप्रतिनिधि सपा प्रत्याशी की मदद में लगातार सम्पर्क में है| सत्ता में मंगलवार को बीजेपी नही बल्कि सपा समर्थक नजर आये|

बीजेपी के नेता सुबह से ही सड़क पर नही दिखे| जबकि सपा के नेताओ का जमाबड़ा लगा रहा| माना जा रहा था की सांसद की प्रत्याशी राजकुमारी को हराने के पीछे पार्टी के कुछ लोग अपना पुराना बदला निकालने में लगे है| प्रशासन भी पूरी तरह से सख्त था|

सपा की ज्ञान देवी ने बीजेपी की राजकुमारी को हराया

Comments Off on सपा की ज्ञान देवी ने बीजेपी की राजकुमारी को हराया

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत के उपचुनाव में आखिर सपा की प्रत्याशी ज्ञान देवी कठेरिया ने बीजेपी समर्थित प्रत्याशी राजकुमारी को करारी हार दे दी| जिससे बीजेपी के मायूसी छा गयी है| वही सपा में ख़ुशी की लहर है|
सांसद मुकेश राजपूत ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिये अपने चालक कल्लू की पत्नी राजकुमारी को चुनाव मैदान में उतारा था| वही सपा ने ज्ञानदेवी पर अपना दाव लगाया था| बीते कई दिनों के तक चले आरोप-प्रत्यारोप के दौरा के बाद आखिर मतदान के बाद सत्ता का नशा बीजेपी के नेताओ के चेहरे से उतर गया| सुबह 11 बजे से शुरू हुये मतदान के बाद दोपहर दो बजे तक सभी 30 मत पड़ गये| सबसे पहले सपा के खेमे से सपा महानगर अध्यक्ष विजय यादव 16 सदस्यो को लेकर मतदान कराने पंहुचे| यह देखकर ही परिणाम का गणित सियाशी पंडितो ने लगा लिया था| उनके बाद बीजेपी की राजकुमारी कठेरिया के साथ आधा दर्जन से अधिक मतदाता पंहुचे|
काफी इंतजार के बाद तीन सदस्यों को लेकर पंहुचे प्रदीप
लगभग सभी सदस्यों का मतदान हो गया था| केबल प्रदीप यादव सहित तीन सदस्यों का बेसब्री से इंतजार हो रहा था| सबसे अंत में प्रदीप यादव अपने साथ डॉ० सुरभि गंगवार व तहसीन सिद्दीकी की पत्नी जुबैरिया शाह को लेकर वोट डालने पंहुचे उन्होंने भी अंतिम समय में सपा के लिये मतदान कर मजबूती दे दी| उन्होंने बताया कि पार्टी सुप्रीमो के फरमान पर वह पूरी निष्ठां के साथ पार्टी के साथ खड़े है|
Upload Files
3 बजे से मतगणना शूरू हुई| जिसमे सपा की ज्ञान देवी को 20 व बीजेपी की राजकुमारी को केबल 9 मतो से संतोष करना पड़ा| वही एक मत अबैध पाया गया| 3 बजकर 25 मिनट पर ज्ञानदेवी की जीत घोषित हो गयी | जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने नव निर्वाचित अध्यक्ष ज्ञानदेवी को जीत का प्रमाण पत्र दिया| जीत की खबर आते ही सपा कार्यकर्ताओ ने जमकर नारेबाजी की|

सपा व बीजेपी के नाक का सबाल बनी अध्यक्ष की कुर्सी

Comments Off on सपा व बीजेपी के नाक का सबाल बनी अध्यक्ष की कुर्सी

फर्रुखाबाद: मंगलवार 22 अगस्त को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिये मतदान होना है| जिसमे सपा व बीजेपी पूरी ताकत झोंके है| एक तरफ सांसद मुकेश राजपूत की प्रत्याशी राजकुमारी कठेरिया है तो वही सपा की तरफ से ज्ञानदेवी मैदान में है| सियासत के शतरंज को पार कर कौन अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठेगा इसका पता लगभग 24 घंटे बाद लग ही जायेगा| लेकिन किसी एक की नाक कटना लाजमी है|

बीजेपी के सांसद के साथ कहने को तो केंद्र व प्रदेश के साथ ही साथ जिले के अधिकतर जनप्रतिनिधि है| लेकिन अंदरूनी भीतरघात उन्हें भी झेलना पड़ रहा है | बीजेपी की यह अंदरूनी खेमे बंदी कोई नई नही है| बीते कई चुनावो में बीजेपी को अंदरूनी कलह व विरोध ही सत्ता से दूर किये रहा |अब फिर जिला पंचायत के चुनाव को लेकर बीजेपी के कई नेताओ पर आरोप लग रहे है कि वह सांसद की मदद ना करके विरोधी से अंदरखाने में मिले हुये है| इसी भीतरघात से ही चुनाव अब खतरे में नजर आने लगा है | यदि केंद्र व प्रदेश में सत्ता व जिले में चार विधायक व एक सांसद होने के बाद भी चुनाव में जीत हासिल नही होती तो बीजेपी का जिले में भविष्य क्या होगा|

वही सपा की सरकार ना होने के बाद भी ज्ञानदेवी को चुनाव लड़ा रहे सुबोध यादव अपने पास 23 सदस्यों के होने का दावा कर रहे है| सोमबार सुबह कंपिल चेयरमैंन उदयपाल ने अपने भाई के साथ सपा प्रत्याशी ज्ञान देवी को समर्थन दे देने से यह बात भी साफ हो गयी की बीजेपी की सत्ता का चुनाव पर असर कितना असर है| सत्ता का असर क्या होता है यह सगुना देवी के जिला पंचायत अध्यक्ष बनने के दौरान सभी ने देख लिया था| आज भी वही फार्मूला चल रहा है| चुनाव में कमजोर पड़ रही बीजेपी को देखकर तो यह लग रहा है| सपा एक बार फिर से सत्ता होने जैसा अनुभव करा रही है|

सांसद मुकेश राजपूत ने बताया कि विरोधी जिस तरह से चुनाव लड़ रहे है उस तरह से वह नही लड़ सकत| वह जिले की जनता के सम्मान के लिये चुनाव मैदान में अपना प्रत्याशी उतारे है| सुबोध यादव ने बताया कि सपा के साथ तब भी सभी सदस्य थे| शगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के बाद भी वह उन्ही के साथ है| इससे बड़ा प्रमाण क्या होगा|

[bannergarden id="12"]