Featured Posts

उपचार को जा रहे कैदी ने रास्ते में दम तोड़ाउपचार को जा रहे कैदी ने रास्ते में दम तोड़ा फर्रुखाबाद: बीती रात उपचार के लिये जा रहे सेन्ट्रल जेल के सजायाफ्ता कैदी की उपचार के लिये ले जाते समय मौत हो गयी| पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया| जनपद बदायूं के ग्राम सहसवान निवासी 67 वर्षीय अवतारी को 28 फरवरी 1978 को हत्या के एक मामले में सजा पड़ी थी|...

Read more

पुलिस चौकी के सामने रोडबेज के परिचालक व सबारी में मारपीटपुलिस चौकी के सामने रोडबेज के परिचालक व सबारी में मारपीट फर्रुखाबाद:टिकट ना देने के विवाद रोडबेज के परिचालक व सबारी में विवाद हो गया| जिसके चलते आक्रोशित सबारी ने अपने समर्थको को बुला लिया| उन्होंने पुलिस चौकी के सामने बस को रोंककर परिचालक से मारपीट कर दी| घटना की सूचना पर पुलिस ने परिचालक व सबारी को कोतवाली में भेज दिया| कोतवाली...

Read more

36 घंटे की कठिन साधना के बाद उदीयमान सूर्य को दिया अ‌र्घ्य36 घंटे की कठिन साधना के बाद उदीयमान सूर्य को दिया अ‌र्घ्य फर्रुखाबाद:छठ का व्रत धारण करने वाली महिलाओं में बुधवार की सुबह उदीयमान सूर्य के लिए जबर्दस्त जुनून दिखा। पहली किरण धरती पर पड़ते ही व्रती महिलाओं ने भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य दिया और विधिपूर्वक छठ पूजा को संपन्न किया। व्रती महिलाओं ने लगभग 36 घंटे बाद व्रत का पारण किया।...

Read more

डीसी ने दिव्यांग मासूम के मुंह के कपड़ा ठूंसकर पीटाडीसी ने दिव्यांग मासूम के मुंह के कपड़ा ठूंसकर पीटा फर्रुखाबाद:चर्चित जिला समन्वयक ने अपने साथी शिक्षको के साथ दिव्यांग मासूम के साथ हैबनियत की सारी हदें पार कर दी| डीसी ने उसमे मुंह में कपड़ा ठूंसकर उसके साथ बेहरहमी से मारपीट कर दी| कई दिनों के बाद परिजनों को जानकारी होने पर उन्होंने जिलाधिकारी से शिकायत कर डीसी सहित तीन...

Read more

अस्ताचल सूर्य को व्रती महिलाओं ने दिया अर्घ्यअस्ताचल सूर्य को व्रती महिलाओं ने दिया अर्घ्य फर्रुखाबाद: महापर्व छठ का चार दिवसीय अनुष्ठान रविवार को नहाय खाय के साथ शुरू हुआ। सोमवार को खरना पूजा भी संपन्‍न हो गई। सोमवार शाम रोटी और गुड की बनी खीर का प्रसाद ग्रहण किया गया। मंगलवार शाम को अस्ताचल सूर्य को अर्घ्‍य दिया गया| बुधवार सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देने के...

Read more

जनवरी से शुरू होगा माघ मेला के लिये समतलीयकरणजनवरी से शुरू होगा माघ मेला के लिये समतलीयकरण फर्रुखाबादल:कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने माघ मेला श्रीरामनगरिया व विकास प्रदर्शनी के आयोजन से सम्बन्धित समीक्षा बैठक की| उन्होंने कहा की इस बार मेला परिसर में जो भी गंदगी फैलाता मिल गया तो उस पर जुर्माना किया जायेगा| डीएम ने कहा पिछली वर्ष से भी बेहतर...

Read more

फतेहगढ़ व राजेपुर सहित 11 थानाध्यक्षों की तैनाती में फेरबदलफतेहगढ़ व राजेपुर सहित 11 थानाध्यक्षों की तैनाती में फेरबदल फर्रुखाबाद:पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा ने लगातार बीते कई दिन से बढ़ रही अपराधिक घटनाओं से खफा होकर काफी बड़ा फेरबदल थानाध्यक्षों की तैनाती में किया है| जिसमे उन्होंने फतेहगढ़ कोतवाल व राजेपुर सहित 11 ककी तैनाती में फेर बदल किया है| बीती देर रात एसपी ने आदेश पर राजेपुर थानाध्यक्ष...

Read more

साफ दिखने लगा है बीते चार वर्ष का विकास कार्य:पीएम मोदीसाफ दिखने लगा है बीते चार वर्ष का विकास कार्य:पीएम मोदी वाराणसी:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में देश का पहला अंतरदेशीय जल मार्ग राष्ट्र को समर्पित किया। इस अंतर्देशीय जलमार्ग टर्मिनल से बंगाल के हल्दिया से वाराणसी तक जलमार्ग संचालित किया जाएगा। इसके बाद उन्होंने एयरपोर्ट से वाजिदपुर का रुख...

Read more

सचिन के नेतृत्व में बीजेपी के आधा सैकड़ा पदाधिकारी व प्रधान सपा में शामिलसचिन के नेतृत्व में बीजेपी के आधा सैकड़ा पदाधिकारी व प्रधान... फर्रुखाबाद:लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही राजनिति में जोड़तोड़ की राजनीति शुरू हो गयी है| जिसके चलते समाजवादी पार्टी कुल 44 बूथ अध्यक्ष व ग्राम प्रधानों को सपा में शामिल करा दिया गया| जिससे बीजेपी में हडकंप है| पूर्व लोक सभा प्रत्याशी रहे सचिन यादव पूर्व मंत्री बाबू राजेन्द्र...

Read more

युवक से चेन और नकदी लूट गोली मारीयुवक से चेन और नकदी लूट गोली मारी फर्रुखाबाद:स्कूटी से अपने गाँव जा रहे युवक से जेवर व नकदी लूट गोली मार दी गयी| जिसके बाद उसने गम्भीर हालत में लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया | जंहा हालत गम्भीर होने पर उसे रिफर कर दिया गया| शहर कोतवाली क्षेत्र मोहल्ला कूंचा भवानी दास निवासी रामकुमार पाण्डेय ने पुलिस...

Read more

धनबल व बाहुबल का प्रयोग कर सपा ने जीता चुनाव: बीजेपी

Comments Off on धनबल व बाहुबल का प्रयोग कर सपा ने जीता चुनाव: बीजेपी

Posted on : 23-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, ZILA PANCHAYAT

फर्रुखाबाद: बीजेपी ने जिला पंचायत चुनाव में करारी हार का ठिगरा बिरोधी पार्टी पर फोड़ा| उन्होंने कहा की सपा के लोगो ने धनबल व बाहुबल के बल पर चुनाव जीता गया| जिसमे प्रशासन के लोगो ने बीजेपी को जितनी मदद करना चाहिए था उतनी मदद नही की | चारो विधायको व जिलाध्यक्ष ने यह प्रदर्शन किया की वह सांसद के साथ है|
आवास विकास स्थित एक गेस्ट हॉउस में आयोजित वार्ता में विधायक सुशील शाक्य ने कहा कि बीते जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव में बीजेपी ने अपने प्रत्याशी लड़ाये थे| जिसमे उनके तीन प्रत्याशी ही चुनाव जीते थे | सपा ने धनबल का प्रयोग कर सदस्यों को आतंकित किया| जिसकी सूचना समय-समय पर जिला प्रशासन को दी जाती रही| चुनाव में तीन सदस्यों से हम 9 सदस्यों तक पंहुच गये| उन्होंने कहा कि कुछ लोग भ्रामक प्रचार कर रहे है की सांसद विधायक एक नही है| यह गलत है|
अपनी ही सत्ता में हार का मुंह देखने के बाद सांसद मुकेश राजपूत ने भी सुशील शाक्य की बात का समर्थन किया| उन्होंने कहा कि धनबल के साथ ही साथ बाहुबल का प्रयोग भी किया गया| सभी जिला पंचायत सदस्यों के घर पर सुबोध यादव, रामेश्वर सिंह यादव व जोगेंदर सिंह यादव ने जाकर धमकाया| उन्होंने कहा कि वही प्रशासन बे भी सहयोग नही किया| मतदान के दौरान मैनपुरी व एटा के सैकड़ो लोग जिले में मौजूद रहे| जिन्हें रोंका नही गया| सरकार बीजेपी की है लेकिन सपा के कुछ लोग गंगा-जमुनी तहजीव को बिगाड़ रहे है| वही बीजेपी जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने पूरे मामले में सफाई पेश की| उन्होंने कहा की जिले के चार विधायक व एक सांसद मिलाकर क्या कर सकते थे | तीन मत बीजेपी के थे उसकी जगह पर दस सदस्यों ने मतदान किया| उन्होंने कहा की 30 सदस्यों में से 27 बसपा व सपा के जीते सदस्य थे | लेकिन इसका जबाब 19 के चुनाव में मिलेगा| विधायक सुनील दत्त, अमर खटिक व भूदेव राजपूत मौजूद रहे|

मतगणना और मतदान बना रहा रहागीरों का सिरदर्द

Comments Off on मतगणना और मतदान बना रहा रहागीरों का सिरदर्द

Posted on : 22-08-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, ZILA PANCHAYAT, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत चुनाव के मतदान व मतगणना के दौरान पुलिस ने आम लोगो के लिये रास्ता बंद कर दिया| जिससे शाम लगभग चार बजे तक आम लोगो को निकालने में आने-जाने मे काफी दिक्कत का सामान करना पड़ा|

पुलिस ने डीएन कालेज के निकट तिराहे पर एक चेकपोस्ट व बैरियर बनाया| जंहा से निर्धारित अबधि में मतदाता और अफसरों के निकलने की अनुमति थी| वही दूसरी बैरियर जीजीआईसी गेट पर लगाया जंहा से भी किसी की एंट्री नही की जा रही थी| सुबह स्कूली बच्चो, डिग्री कालेज की छात्राओ, अदालत जाने वाले लोगो को पुलिस ने बैरियर पर ही रोंक दिया| पुलिस की रोक थाम से दर्जनों बच्चे स्कूल जाने से महरूम रह गये|

कई दिव्यांगो को बैरियर से कचेहरी तक पैदल तेज धूप में जाना पड़ा| वही नेताओ को अंदर घुसने को लेकर पुलिस से तकरार भी हुई|

अपनों की गद्दारी ने बीजेपी को दिलाई हार

Comments Off on अपनों की गद्दारी ने बीजेपी को दिलाई हार

फर्रुखाबाद: बीजेपी में गद्दारी करना कोई नई परम्परा नही है| यह पहले भी हुआ है और पहले भी बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी| एक तरफ सत्ता दूसरी तरफ जिले में चार बीजेपी के विधायक व खुद सांसद होने के बाद भी जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर बीजेपी प्रत्याशी की हार लोगो के गले नही उतरी| बीजेपी समर्थित प्रत्याशी की हार को पार्टी के भितरघात से जोड़ा जा रहा है|

पिछले जिला पंचायत के चुनावो पर अगर नजर डाले तो इस बार का जिला पंचायत बिल्कुल भिन्न था| सरकार का कोई दखल तक नही| सुबह से ही मुकेश के विरोधी प्रत्याशी की मदद में कौन-कौन बीजेपी नेताओ है इसका जिक्र चलता रहा| कई लोगो ने बीजेपी के कुछ जनप्रतिनिधो पर ही धोखा देने का आरोप लगाया| कुछ लोगो ने कहा कि फोन से कई बीजेपी के जनप्रतिनिधि सपा प्रत्याशी की मदद में लगातार सम्पर्क में है| सत्ता में मंगलवार को बीजेपी नही बल्कि सपा समर्थक नजर आये|

बीजेपी के नेता सुबह से ही सड़क पर नही दिखे| जबकि सपा के नेताओ का जमाबड़ा लगा रहा| माना जा रहा था की सांसद की प्रत्याशी राजकुमारी को हराने के पीछे पार्टी के कुछ लोग अपना पुराना बदला निकालने में लगे है| प्रशासन भी पूरी तरह से सख्त था|

सपा की ज्ञान देवी ने बीजेपी की राजकुमारी को हराया

Comments Off on सपा की ज्ञान देवी ने बीजेपी की राजकुमारी को हराया

फर्रुखाबाद: जिला पंचायत के उपचुनाव में आखिर सपा की प्रत्याशी ज्ञान देवी कठेरिया ने बीजेपी समर्थित प्रत्याशी राजकुमारी को करारी हार दे दी| जिससे बीजेपी के मायूसी छा गयी है| वही सपा में ख़ुशी की लहर है|
सांसद मुकेश राजपूत ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिये अपने चालक कल्लू की पत्नी राजकुमारी को चुनाव मैदान में उतारा था| वही सपा ने ज्ञानदेवी पर अपना दाव लगाया था| बीते कई दिनों के तक चले आरोप-प्रत्यारोप के दौरा के बाद आखिर मतदान के बाद सत्ता का नशा बीजेपी के नेताओ के चेहरे से उतर गया| सुबह 11 बजे से शुरू हुये मतदान के बाद दोपहर दो बजे तक सभी 30 मत पड़ गये| सबसे पहले सपा के खेमे से सपा महानगर अध्यक्ष विजय यादव 16 सदस्यो को लेकर मतदान कराने पंहुचे| यह देखकर ही परिणाम का गणित सियाशी पंडितो ने लगा लिया था| उनके बाद बीजेपी की राजकुमारी कठेरिया के साथ आधा दर्जन से अधिक मतदाता पंहुचे|
काफी इंतजार के बाद तीन सदस्यों को लेकर पंहुचे प्रदीप
लगभग सभी सदस्यों का मतदान हो गया था| केबल प्रदीप यादव सहित तीन सदस्यों का बेसब्री से इंतजार हो रहा था| सबसे अंत में प्रदीप यादव अपने साथ डॉ० सुरभि गंगवार व तहसीन सिद्दीकी की पत्नी जुबैरिया शाह को लेकर वोट डालने पंहुचे उन्होंने भी अंतिम समय में सपा के लिये मतदान कर मजबूती दे दी| उन्होंने बताया कि पार्टी सुप्रीमो के फरमान पर वह पूरी निष्ठां के साथ पार्टी के साथ खड़े है|
Upload Files
3 बजे से मतगणना शूरू हुई| जिसमे सपा की ज्ञान देवी को 20 व बीजेपी की राजकुमारी को केबल 9 मतो से संतोष करना पड़ा| वही एक मत अबैध पाया गया| 3 बजकर 25 मिनट पर ज्ञानदेवी की जीत घोषित हो गयी | जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने नव निर्वाचित अध्यक्ष ज्ञानदेवी को जीत का प्रमाण पत्र दिया| जीत की खबर आते ही सपा कार्यकर्ताओ ने जमकर नारेबाजी की|

सपा व बीजेपी के नाक का सबाल बनी अध्यक्ष की कुर्सी

Comments Off on सपा व बीजेपी के नाक का सबाल बनी अध्यक्ष की कुर्सी

फर्रुखाबाद: मंगलवार 22 अगस्त को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिये मतदान होना है| जिसमे सपा व बीजेपी पूरी ताकत झोंके है| एक तरफ सांसद मुकेश राजपूत की प्रत्याशी राजकुमारी कठेरिया है तो वही सपा की तरफ से ज्ञानदेवी मैदान में है| सियासत के शतरंज को पार कर कौन अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठेगा इसका पता लगभग 24 घंटे बाद लग ही जायेगा| लेकिन किसी एक की नाक कटना लाजमी है|

बीजेपी के सांसद के साथ कहने को तो केंद्र व प्रदेश के साथ ही साथ जिले के अधिकतर जनप्रतिनिधि है| लेकिन अंदरूनी भीतरघात उन्हें भी झेलना पड़ रहा है | बीजेपी की यह अंदरूनी खेमे बंदी कोई नई नही है| बीते कई चुनावो में बीजेपी को अंदरूनी कलह व विरोध ही सत्ता से दूर किये रहा |अब फिर जिला पंचायत के चुनाव को लेकर बीजेपी के कई नेताओ पर आरोप लग रहे है कि वह सांसद की मदद ना करके विरोधी से अंदरखाने में मिले हुये है| इसी भीतरघात से ही चुनाव अब खतरे में नजर आने लगा है | यदि केंद्र व प्रदेश में सत्ता व जिले में चार विधायक व एक सांसद होने के बाद भी चुनाव में जीत हासिल नही होती तो बीजेपी का जिले में भविष्य क्या होगा|

वही सपा की सरकार ना होने के बाद भी ज्ञानदेवी को चुनाव लड़ा रहे सुबोध यादव अपने पास 23 सदस्यों के होने का दावा कर रहे है| सोमबार सुबह कंपिल चेयरमैंन उदयपाल ने अपने भाई के साथ सपा प्रत्याशी ज्ञान देवी को समर्थन दे देने से यह बात भी साफ हो गयी की बीजेपी की सत्ता का चुनाव पर असर कितना असर है| सत्ता का असर क्या होता है यह सगुना देवी के जिला पंचायत अध्यक्ष बनने के दौरान सभी ने देख लिया था| आज भी वही फार्मूला चल रहा है| चुनाव में कमजोर पड़ रही बीजेपी को देखकर तो यह लग रहा है| सपा एक बार फिर से सत्ता होने जैसा अनुभव करा रही है|

सांसद मुकेश राजपूत ने बताया कि विरोधी जिस तरह से चुनाव लड़ रहे है उस तरह से वह नही लड़ सकत| वह जिले की जनता के सम्मान के लिये चुनाव मैदान में अपना प्रत्याशी उतारे है| सुबोध यादव ने बताया कि सपा के साथ तब भी सभी सदस्य थे| शगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के बाद भी वह उन्ही के साथ है| इससे बड़ा प्रमाण क्या होगा|

[bannergarden id="12"]