Featured Posts

अविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सीअविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सी फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद गुरुवार को एक बजे तक 21 जिला पंचायत सदस्यों ने अपना अविश्वास सगुना देवी में दिखा दिया| सगुना के पक्ष वाले 8 जिला पंचायत सदस्य उनके पक्ष में हाथ उठाने नही पंहुचे| अविश्वास लाने वाले जिला पंचायत...

Read more

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

संगठन ही कर रहे शिक्षकों का शोषण: गोविन्द तिवारी

0

फर्रुखाबाद: राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के अध्यक्ष गोविन्द तिवारी ने कहा कि प्रदेश के अधिकतर बीएसए कार्यालयों की दशा ठीक नही है| क्योंकि कई तथाकथित संगठन शिक्षको को न्याय दिलाने के नाम पर दलाली करते है| जिससे शिक्षक का शोषण होता है| उन्होंने जनपद पंहुचकर जिलाधिकारी को सम्बन्धित ज्ञापन एसडीएम सदर को सौपा और शिक्षको को गैर शैक्षणिक कार्यों में ना लगाये जाने का शासनादेश भी दिया|

संगठन के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी के नेकपुर स्थित आवास पर पंहुचे प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि शिक्षा निदेशक(बेसिक) के सचिव व अपर मुख्य सचिव ने 1 जून 2017 को यह आदेश जारी किया है कि प्राथमिक तथा उच्च प्राथमिक विधालयों के अध्यापको को गैर शैक्षिणिक कार्य में ना लगाये जाने का आदेश जारी कर दिया| इसके बाद भी फर्रुखाबाद व इटावा के जिलाधिकारी शिक्षक पर जबरन राशन कार्ड सत्यापन कराना चाहते है| यदि जिलाधिकारी ने अपनी मनमानी नही छोड़ी तो सोमबार को अपर मुख्य सचिव से भेट कर अग्रिम कार्यवाही के लिये रणनीति बनायी जायेगी|

उन्होंने साफ़ कहा कि शिक्षको का शोषण करने में कही ना कही कुछ शिक्षक संगठनों की भूमिका है| शिक्षको को न्याय दिलाने के नाम पर बीएसए कार्यालय में दलाली करते है| उन्होंने कहा कि पूर्व की शिक्षा में छात्रों को दंड का प्राविधान था जिससे इन्ही परिषदीय विधालयों से बड़े-बड़े अफसर निकलते थे| लेंकिन अब दंड समाप्त हो गया| जिससे व्यवस्था बिगड रही है| इसके लिये अभिभावक भी जिम्मेदार है| वह अपने बच्चो की पढ़ाई के लिये चिंतित नही है |देश की शिक्षा व्यवस्था धीरे-धीरे नष्ट हो रही है|

सड़क किनारे मिला IAS ऑफिसर का शव

Comments Off on सड़क किनारे मिला IAS ऑफिसर का शव

Posted on : 17-05-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, LUCKNOW, POLICE, जिला प्रशासन

लखनऊ: भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के एक अधिकारी की बुधवार सुबह राजधानी लखनऊ में एक सड़क किनारे बॉडी मिलने से प्रशासनिक अमला सकते में आ गया है. पुलिस ने इसको ‘रहस्‍यमय परिस्थितियों’ में मौत कहा है. मृतक आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी 2007 बैच के कर्नाटक कैडर के आईएएस थे. वह यूपी के ही बहराइच के रहने वाले थे.

पुलिस के मुताबिक उनकी बॉडी हजरतगंज इलाके में मीरा बाई गेस्‍ट हाउस के पास मिली है. कहा जा रहा है कि वह पिछले दो दिनों से यहां ठ‍हरे थे. सबसे पहले सड़क से गुजरते कुछ राहगीरों ने बॉडी को सड़क किनारे देखा और पुलिस को सूचित किया. ऑफिसर की पहचान उसके आई-कार्ड से हुई है. बॉडी को पोस्‍टमार्टम के लिए अस्‍पताल ले जाया गया है. विस्‍तृत विवरण की प्रतीक्षा है.

हजरतगंज के पुलिस निरीक्षक एके शाही ने बताया कि शुरुआती जांच में तिवारी के जबड़े के पास चोट के निशान पाये गये हैं. इसके अलावा उनके शरीर पर कोई चोट नहीं दिखी है. शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया है. मामले की जांच जारी है.

एफआईआर दर्ज करने में हीला हवाली करने वाले पुलिसकर्मियों पर होगी कार्यवाही: डीजीपी

Comments Off on एफआईआर दर्ज करने में हीला हवाली करने वाले पुलिसकर्मियों पर होगी कार्यवाही: डीजीपी

Posted on : 26-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, LUCKNOW, POLICE, सामाजिक

लखनऊ: यूपी में एफआईआर दर्ज करने में हीला हवाली करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सुलखान सिंह ने कहा है, सभी प्रकरणों में एफआईआर दर्ज करने में किसी प्रकार की हीला हवाली ना की जाए एवं इसमें क्षेत्राधिकार के विवाद में ना पडकर शिकायतकर्ता की एफआईआर तत्काल दर्ज की जाए। एफआईआर ना दर्ज करने पर संबंधित थाना प्रभारी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। सिंह ने जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर उचित निर्देश दिये हैं। इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि गोरक्षा और प्रेम संबंध जैसे मुद्दों पर कानून हाथ में लेकर हिंसा करने वालों और अराजकता फैलाने वालों के खिलाफ कडी कार्रवाई की जानी चाहिए। डीजीपी ने एंटी रोमियो स्क्वायड के बारे में कहा कि एक ‘स्टैडिंग आर्डर’ तैयार करा लिया जाये जिसमें ‘क्या करें और क्या ना करें’ स्पष्ट रूप से वर्णित हो। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक स्क्वायड की स्वयं ब्रीफिंग करें, स्क्वायड को किसी प्रकार की कोई तफ्तीश नहीं करनी है, केवल उद्दंड व्यक्तियों के खिलाफ ही कार्रवाई की जाये।

उन्होंने कल पुलिस कप्तानों से बातचीत करते हुए कहा कि ऐसे सभी व्यक्तियों को जेल न भेजा जाये बल्कि उनके अभिभावकों को बुलाकर समझाया जाये। एन्टी रोमियो स्क्वायड यथासम्भव उपरोक्त समस्त कार्रवाई को बाडी कैमरा या वीडियो कैमरे से रिकार्ड करें।सिंह ने निर्देश दिया कि किसी भी स्थिति में कोई नई परम्परा स्थापित नहीं होगी, किसी मुद्दे पर रोड जाम होने नहीं दिया जाये। सभी बड़े कस्बों और जनपद मुख्यालय पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक तथा समस्त अधिकारी जनप्रतिनिधियों की बैठक कर उनका सहयोग लें। इसी तरह लेबर यूनियन, अधिवक्ता एवं समाज के अन्य प्रबुद्घ वर्गों के साथ बैठक कर एक तारतम्य स्थापित किया जाये एवं उनका विश्वास जीता जाये।

यातायात व्यवस्था पर डीजीपी ने कहा कि सड़कों पर यातायात व्यवस्था में अपेक्षित सुधार लाया जाये। अतिक्रमणकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की जाये तथा ‘सड़क अनुशासन’ का मजबूती से पालन किया जाये। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी हर दिन सुबह कार्यालय में बैठकर जनता की समस्याओं का निस्तारण करें। पुलिस लाइन में सभी अधिकारी साप्ताहिक परेड में भाग लें एवं अनुशासन स्थापित करें। सिंह ने स्पष्ट निर्देश दिया कि पुलिस कार्रवाई के दौरान किसी भी स्थिति में किसी व्यक्ति को अपमानित ना किया जाए। सभी व्यक्तियों से सम्मानपूर्वक व्यवहार किया जाए।

विधानसभा में सीएम योगी बोले- यूपी को बनाएंगे नंबर एक

Comments Off on विधानसभा में सीएम योगी बोले- यूपी को बनाएंगे नंबर एक

Posted on : 30-03-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, LUCKNOW, Politics, Politics-BJP

लखनऊ: यूपी का मुख्यमंत्री बनने के बाद विधानसभा में योगी आदित्य नाथ ने अपना पहला भाषण दिया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि सदन को चर्चा का मंच बनाना है और यूपी को नंबर एक राज्य बनाना है। उन्होंने कहा- “मेरी सरकार विपक्ष से भेदभाव नहीं करेगी। लोकतंत्र में किसी को भी भेदभाव महसूस नहीं होना चाहिए।” योगी आदित्यनाथ ने कहा,”चुनावों में हम एक-दूसरे के खिलाफ थे, लेकिन अब एक साथ उत्तर प्रदेश के लिए काम करना है। हमें उम्मीदों पर खरा उतरना है। उत्तर प्रदेश की 22 करोड़ जनता के बारे में सोचना है। सत्ता पक्ष और विपक्ष लोकतंत्र के दो महत्वपूर्ण स्तंभ हैं। दोनों मिलकर एक साथ कार्य कर सकें। हम सभी का लक्ष्य एक ही होना चाहिए। जनता की समस्या के समाधान में विपक्ष भी सहयोग करे।”

उन्होंने कहा, “प्रदेश की जनता ने विकास के लिए हमें मौका दिया है, ऐसे में हमें इस मौके का फायदा उठाना चाहिए। विकास दर और उत्तर प्रदेश के आम जन की समस्या को देखा जाए तो हम अभी बहुत पीछे हैं। क्या यह हो सकता है कि यह सदन चर्चा का एक मंच बन सके.. उच्च लोकतांत्रिक मूल्यों का एक आदर्श बन सके।” सीएम योगी ने ने कहा हम आशा करते हैं कि विधानसभा शांति पूर्ण ढंग से चलेगी और प्रदेश के विकास के लिए काम करेगी।

बता दें कि हृदय नारायण दिक्षित को यूपी विधानसभा का नया स्पीकर चुना गया है। उनके सम्मान में योगी आदित्यनाथ ने अपना पहला भाषण दिया है। सीएम योगी ने विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित का अभिनंदन करते हुए कहा, आपने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है। आपने पत्रकारिता जगत में काफी सक्रिय योगदान दिया है। इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा में अपनी आखिरी स्पीच दी थी।

शिक्षामित्रों का मानदेय बढ़ सकता है तीन गुना

2

लखनऊ:लंबे समय से मानदेय बढ़ाने की मांग कर रहे शिक्षामित्रों की मुराद जल्द ही पूरी हो सकती है 27 मार्च को नई दिल्ली में हुई सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए) के प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में केंद्र सरकार ने शिक्षामित्रों का मासिक मानदेय बढ़ाकर 10 हजार रुपये करने पर विचार करने पर सहमति जतायी है। अभी शिक्षामित्रों को 3500 रुपये प्रति माह मानदेय मिलता है। यदि केंद्र सरकार ने राज्य की ओर से भेजे गए प्रस्ताव पर मुहर लगायी तो प्रदेश के 26,504 शिक्षामित्रों के मानदेय में तकरीबन तीन गुने का इजाफा हो जाएगा।

एसएसए के राज्य परियोजना कार्यालय ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए उत्तर प्रदेश की जो वार्षिक कार्ययोजना प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की मंजूरी के लिए भेजी थी, उसमें शिक्षामित्रों का मानदेय बढ़ाकर 10,000 रुपये करने का प्रस्ताव था। एसएसए के राज्य परियोजना निदेशक डॉ.वेदपति मिश्र ने बताया कि प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में केंद्र सरकार की ओर से शिक्षामित्रों का मानदेय बढ़ाने पर विचार करने के लिए कहा गया है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि असल स्थिति प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक का कार्यवृत्त जारी होने पर पता चलेगी। इससे पहले पिछले दो वर्षों में भी राज्य की ओर शिक्षामित्रों का मानदेय बढ़ाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा था लेकिन, प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में नामंजूर कर दिया गया था।

बढ़ेगा अंशकालिक अनुदेशकों का मानदेय : प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में केंद्र सरकार ने अंशकालिक अनुदेशकों का मासिक मानदेय बढ़ाकर 10,000 रुपये करने पर भी सहमति जतायी है। अंशकालिक अनुदेशकों को अभी 8470 रुपये मासिक मानदेय मिलता है। राज्य कर्मचारियों के लिए सातवां वेतन आयोग लागू होने के क्रम में एसएसए के राज्य परियोजना कार्यालय ने अंशकालिक अनुदेशकों का मानदेय बढ़ाकर 17,000 रुपये प्रति माह करने का प्रस्ताव भेजा था।

प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में केंद्र सरकार की ओर से पहले तो अनुदेशकों के मानदेय में सिर्फ 10 प्रतिशत वृद्धि की बात की गई लेकिन, बाद में इसे बढ़ाकर 10,000 रुपये करने पर सहमति बनी। सहमति के इस बिंदु पर अमल होने पर प्रदेश के 30,949 अंशकालिक अनुदेशकों के मानदेय में लगभग डेढ़ हजार रुपये की बढ़ोतरी होगी। राज्य सरकार ने वार्षिक कार्ययोजना के तहत 23,538 करोड़ रुपये के प्रस्ताव भेजे थे, जिसमें से प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड ने 20,500 करोड़ के प्रस्तावों को मंजूरी दी। इसमें से लगभग 17,500 करोड़ रुपये वेतन खर्च के हैं।

स्कूलों में बनेंगे 17 हजार शौचालय
मोदी सरकार के स्वच्छता मिशन को रफ्तार देने के लिए प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में परिषदीय स्कूलों में 17 हजार अतिरिक्त शौचालयों के निर्माण को भी अगले वित्तीय वर्ष की कार्ययोजना में मंजूरी दी गई है। यह शौचालय उन स्कूलों में बनाये जाएंगे जहां बच्चों की संख्या ज्यादा है।
नए निर्माण कार्यों पर कैंची
प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड की बैठक में सर्व शिक्षा अभियान के तहत प्रदेश में नये स्कूलों, अतिरिक्त क्लास रूम, विद्यालयों की चहारदीवारी आदि के निर्माण के प्रस्ताव पर एक बार फिर कैंची चल गई। बैठक में केंद्र सरकार ने इन प्रस्तावों को नामंजूर कर दिया।
सोलर पैनल का प्रस्ताव नामंजूर
सौ से अधिक छात्र नामांकन वाले स्कूलों में सोलर पैनल सिस्टम लगाने के प्रस्ताव को भी केंद्र सरकार ने मंजूरी देने से इन्कार कर दिया है।

[bannergarden id="12"]