कैदियों के सुधार की ‘धुन’ निकालेगा कारागार रेडियो

0

Posted on : 10-06-2019 | By : JNI-Desk | In : JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

लखनऊ: हैलो, मैं बैरक नंबर छह-ए से कैदी संत राम बोल रहा हूं। मुझे ‘नदिया के पार’ फिल्म का गाना ‘कवना दिशा में लेके चला रे बटोहिया’ गाना सुनना है। कुछ ही देर बाद बैरक में लगे साउंड सिस्टम में गाने की धुन बजने लगती है और कैदी झूम उठते हैं। प्रदेश के मैनपुरी और बिजनौर जेल में कुछ ऐसा ही माहौल है, जो जल्द ही सभी जेलों में सुनने को मिलेगा।
कारागार प्रबंधन की ओर से शुरू की गई इस व्यवस्था को ‘कारागार रेडियो’ नाम दिया गया है। प्रदेश की सभी जेलों में यह व्यवस्था लागू की जा रही है। लखनऊ कारागार में भी जून के अंत तक यह शुरू हो जाएगा। इस बाबत एडीजी जेल चंद्र प्रकाश ने सभी जेल अफसरों को निर्देश जारी किए हैं।
मुख्यधारा से जोडऩे के लिए व्यवस्था लागू
एडीजी जेल चंद्रप्रकाश के मुताबिक, जेल में निरुद्ध कैदियों के जेहन से आपराधिक प्रवृत्ति को समाप्त करने और सजा पूरी कर जेल से छूटने के बाद उन्हें समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए कारागार विभाग द्वारा ‘कारागार रेडियो’ की शुरुआत की जा रही है। उम्मीद है कि संगीत के माध्यम से कैदियों में आपराधिक भावना में कमी आएगी।
ऐसे चलेगा सिस्टम
योजना के तहत जेल के हर बैरक में एक-एक साउंड सिस्टम लगाए जाएंगे। इसके अलावा परिसर में भी साउंड सिस्टम लगेंगे। हर बैरक में एक माइक भी दिया जाएगा। एक रिकॉर्डिंग और म्यूजिक रूम बनाया जाएगा, जहां एक ऑपरेटर बैठेगा। कैदी रिकॉर्डिंग रूम में जाकर खुद गाने गाकर और कोई संदेश देकर उसकी रिकॉर्डिंग भी करा सकेंगे। फिर एक निश्चित समय पर उन्हें गाना सुनाया जाएगा। कैदी अपनी बैरक से माइक के जरिये गाने की फरमाइश करेंगे और उसके बाद म्यूजिक रूम से उन्हें गाने सुनाए जाएंगे।
क्या कहते हैं एडीजी?
जेल एडीजी चंद्र प्रकाश का कहना है कि कोई भी व्यक्ति जन्म से अपराधी नहीं होता है। वह परिस्थितिवश अपराध करता है। जेल उसका सुधार गृह है। सजा पूरी होने के बाद वह बाहर निकलकर समाज की मुख्यधारा से जुड़े और उसके अंदर से आपराधिक प्रवृत्ति समाप्त हो, इसी उद्देश्य से कारागार रेडियो की व्यवस्था जेलों में की जा रही है।

माफिया के अहमदाबाद शिफ्ट होते ही सेंट्रल जेल में शराब की पार्टी से जश्न

0

Posted on : 06-06-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, सामाजिक

प्रयागराज: माफिया डॉन और पूर्व सांसद अतीक अहमद के प्रयागराज के नैनी सेंट्रल जेल से गुजरात के अहमदाबाद जेल शिफ्ट होने पर यहां के बंदियों ने चैन की सांस ली। सोमवार को प्रयागराज से जेब में नोट की गड्डी लेकर वाराणसी के रास्ते अतीक अहमद के अहमदाबाद जाते ही नैनी जेल में जश्न का माहौल बन गया।
नैनी जेल में बंद तमाम शातिर शूटर अपने रंग में आ गए। जेल में ही नॉन वेज के साथ शराब की पार्टी हो गई। नैनी जेल में शूटरों ने शराब और मुर्गे की दावत उड़ाई। सिर्फ इतना ही नहीं, इन सभी ने इस पार्टी का वीडियो भी बनाया और जमकर फोटोग्राफी भी की। इन शूटरों की पार्टी की तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल है। इन वायरल तस्वीरों में नामी बदमाश जेल में शराब व मुर्गे की दावत उड़ाते दिख रहे हैं। इन तस्वीरों में तस्वीरों में 50 हजार का इनामी उदय यादव, 25 हजार का इनामी रानू, पार्षद पति राजकुमार और 50 हजार का इनामी गदऊ पासी शामिल है।
जेल में पार्टी का मामला सामने आते ही एडीजी जेल चंद्रप्रकाश ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इस प्रकरण की जांच डीआईजी जेल प्रयागराज बीआर वर्मा को सौंपते हुए रिपोर्ट 24 घंटे में तलब की गई है। इस संगीन मामले में एडीजी जेल ने सख्त कार्रवाई की बात भी कही है।
मामला बेहद संगीन
तस्वीरें सामने आने के बाद बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि क्या नैनी सेंट्रल जेल में अपराधियों को सभी सुविधाएं मिलती है। जेल के अंदर शराब और कबाब की पार्टी कैसे चल रही थी। जेल प्रशासन क्या कर रहा था। मामला सामने आने के बाद जेल प्रशासन मामले को दबाने में जुटा हुआ है।
अहमदाबाद में ही ठहरे हैं अतीक के कई करीबी
माफिया डॉन के बाद सांसद बने अतीक अहमद को गुजरात के केंद्रीय कारागार अहमदाबाद में शिफ्ट कर दिया गया है। उनके गैंग के कई सदस्य और करीबी अहमदाबाद पहुंच गए हैं। अहमदाबाद एयरपोर्ट से अतीक के निकलने, जेल तक पहुंचने के कई वीडियो वायरल हुए हैं। इन रिकार्डिंग में प्रयागराज के रहने वाले उनके कई करीबी पुलिस के पीछे-पीछे चल रहे हैं।
यह सभी वहीं ठहरे हुए हैं ताकि जरूरत पडऩे पर मदद पहुंचा सकें। कई करीबी अहमदाबाद जेल में जाने की फिराक में है। ऐसा पहले भी हुआ कि श्रावस्ती, देवरिया और बरेली जेल में अतीक के रहने के दौरान कई गुर्गे किसी न किसी केस में जमानत तुड़वाकर वहां पहुंच गए। अतीक अहमद नैनी सेंट्रल जेल समेत प्रदेश की कई जेलों में रहे हैं।
इन जेलों में उनसे मिलाई करने वालों की अच्छी खासी संख्या रही है। देवरिया, श्रावस्ती तक प्रयागराज से उनके गुर्गे व करीबी टोली बनाकर जाते रहे हैं। पूर्व सांसद को अहमदाबाद जेल में शिफ्ट किया जाना तय होते ही कई करीबी पहले से गुजरात पहुंच गए। वाराणसी से फ्लाइट से अहमदाबाद एयरपोर्ट पर अतीक पहुंचे तो करीबियों और गुर्गों ने उनका स्वागत भी किया। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी है। ईद पर परिवार के लोग भी जेल पहुंचकर अतीक से मिलने की तैयारी में थे।

पति से मुलाकात करने जेल आयी महिला नें किया आत्महत्या का प्रयास

0

Posted on : 19-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: जिला जेल फतेहगढ़ में बंद अपने पति से मुलाकात करने आयी महिला ने जहरीला पदार्थ खा लिया| जिससे उसकी हालत बिगड़ गयी|  उसे आनन-फानन में लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया| जंहा उसका उपचार चल रहा है|
रविवार को थाना मऊदरवाजा के ग्राम अर्रावाजपुर निवासी महिला माधुरी पत्नी धीरेश ठाकुर अपने पति से जिला जेल में मुलाकात करने गयी थी| लेकिन महिला के पास आधार कार्ड नही था जिससे उसकी मुलाकात नही हो सकी| जिसके बाद उसने जेल गेट के निकट ही कुछ जहरीला पदार्थ खा लिया| जानकारी होनें पर हडकंप मच गया| आनन-फानन में उसे 108 एम्बुलेंस से लोहिया अस्पताल भेजा गया|
माधुरी की माँ मीरा देवी पत्नी रामलखन ने बताया कि बीते पांच माह पूर्व किसी पुलिस कर्मी के साथ मारपीट करने के आरोप में दामाद धीरेश कुमार जेल गया था| जिसके बाद माधुरी का पुत्र 3 वर्षीय आदर्श का स्वास्थ्य खराब हो गया था| उसके इलाज में काफी खर्चा होने पर जेबरात भी गिरमी रखने पड़े| आरोप है कि यह खबर जब माधुरी के ससुराल पक्ष को लगी तो उसने माधुरी के साथ मारपीट भी की | इस सम्बन्ध में पति से बात करने माधुरी जेल में जाना चाह रही थी| लेकिन मुलाक़ात नही हो सकी| और आक्रोशित होकर उसने जहरीला पदार्थ खा लिया|

जेल में मुलाकातियों को दिलाया मतदान का संकल्प

0

Posted on : 21-04-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: आगामी 29 अप्रैल को जिले में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए मतदान अधिक से अधिक लोग करें| इसका प्रयास जारी है| जिला जेल में मतदाता जागरूकता अभियान चला। यहां बंदियों से मिलने आए मुलाकातियों को मतदान का संकल्प दिलाया गया है।
जिला जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह के नेतृत्व में स्वीप टीम लीडर दीपिका त्रिपाठी ने जेल में बंद बंदियों से भेट करने आये परिजनों से वार्ता की| मुलाक़ात के बाद जेल गेट पर महिला 127 महिला व 162 पुरुष व 60 बच्चो के साथ वार्ता के बाद उन्हें मतदान के लिए जागरूक कर मतदाता जागरूकता की शपथ दिलाई गयी|उन्हें वोट की अहमियत बताते हुए अधीक्षक ने कहा की मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदान करना चाहिए| जिससे एक मजबूत सरकार बने और समाज व देश का विकास हो|
मुलाकातियों की समस्याओं को सुना
मतदाता जागरूकता की शपथ कार्यक्रम के साथ ही जेल अधीक्षक ने बंदियों के परिजनों से बात कर मुलाकात में आने वाली समस्याओं के बारे में जाना| उन्होंने भरोसा दिया कि वह खुद इस सम्बन्ध में सुधार की व्यवस्था देखेंगें|
इस दौरान गिरिजा शंकर यादव,डिप्टी जेलर जितेन्द्र कुमार,बंदी रक्षक राजपाल,माली राधा देवी,बंदी रक्षक जितेन्द्र सिंह यादव, संतोष कुमार,अनूप कुमार के साथ ही रंजना त्रिपाठी,समीर खान,अमर पाल आदि रहे|

सेन्ट्रल जेल में अस्पताल के शौचालय में सजायाफ्ता कैदी ने फांसी लगायी

0

Posted on : 19-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE

फर्रुखाबाद: सेन्ट्रल जेल में सजा काट रहे बंदी ने अस्पताल के शौचालय में लुंगी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| घटना की सूचना पर एसपी ने मौके पर जाकर जायजा लिया||जनपद कन्नौज के सबदलगंज निवासी मो० वसीम पुत्र मो० यासीम को गैर इरादतन हत्या की धारा 304 के तहत दस वर्ष की सजा हुई थी| जिसके बाद वह 3 जुलाई 2014 को सेन्ट्रल जेल सिफ्ट किया गया| जेल सूत्रों के अनुसार उसकी 10 वर्ष की सजा पूरी हो चुकी थी| वह अन्य किसी मामले में फ़िलहाल बंद था| उसके परिजन उससे काफी समय से मुलाकात करने भी नही आये थे|
जिसके चलते उसने जेल अस्पताल के शौचालय में अपनी लुंगी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| घटना की जानकारी होने पर जेल प्रशासन में हडकंप मच गया| सेंट्रल जेल अधीक्षक एसएचएम रिजवी व जेलर पीके सिंह मौके पर पंहुचे और जाँच पड़ताल के बाद पुलिस अधीक्षक को सूचना दी| जिसके बाद एसपी डॉ० अनिल कुमार ने सेन्ट्रल जेल जाकर पड़ताल की|
जेल अधीक्षक ने जेएनआई को बताया कि कैदी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है| परिजनों को सूचना के लिए उसके घर बंदी रक्षक को भेजा गया है| 

एसएचएम रिजवी

बंदियों ने आजमगढ़ जिला जेल में की भूख हड़ताल

0

Posted on : 17-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE

आजमगढ़:जिला कारागार आजमगढ़ में निरुद्ध बंदियों का आक्रोश तीसरे दिन बुधवार को फूट पड़ा। जेल प्रशासन की सख्ती की वजह से जेल में कैदियों ने भूख हड़ताल कर दिया और धरने पर बैठ गए।
इधर आमरण अनशन पर बैठे सात बंदियों की हालत बिगड़ने पर उन्हें जेल से जिला अस्पताल में लाकर भर्ती कराना पड़ा। जेल में बंदियों के आमरण अनशन पर बैठने की सूचना से जेल अधिकारियों व कर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन की तरफ से भी जेल के हालातों पर जानकारी ली जा रही है। बीते माह भी जेल में मारपीट के बाद जेल में काफी समय तक हालात बिगड़ गए थे। इसके बाद जिला प्रशासन को मोर्चा संभालना पड़ा।

गठबंधन की सभा में भीड़ ने की तोड़फोड़

0

Posted on : 17-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, Politics

फर्रुखाबाद:लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी की चुनावी जनसभा को सम्बोधित करने के दौरान ही भीड़ ने तोड़फोड़ कर दी|
दरअसल सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव व सांसद डिम्पल यादव के साथ मंच पर पंहुचे| उन्होंने समर्थकों और भीड़ को सम्बोधित किया| उनके भाषण समाप्त होते ही भीड़ बेकाबू हो गयी|भीड़ ने अखिलेश ने मिलने का प्रयास किया तो
पुलिस ने उन्हें रोंक दिया | जिससे भीड़ आक्रोशित हो गयी| भीड़ ने दर्जनों कुर्सियों को तोड़ दिया| जिससे अफरा-तफरी मच गयी|

अधिकारीयों से शिकायत पर बंदी की पिटाई!

0

Posted on : 01-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:सेन्ट्रल जेल में सजा काट रहे बंदी ने अपने साथ मारपीट करने का आरोप जेल प्रशासन पर लगाया है| जिसके बाद उसका मेडिकल परीक्षण कराया गया| जिसमे उसके चोटें होने की पुष्टि हुई है|
जेल में अधिकारियों ने निरीक्षण किया था|जिसमे बंदी सुभाष पुत्र श्रीकृष्ण ने जेल की कुछ अव्यवस्थाओं आदि की शिकायत की थी| अधिकारीयों के जाने के बाद बंदी का आरोप है की जेल कर्मियों ने उसके साथ जमकर मारपीट कर दी|
घटना के बाद वह अपने एक मुकदमे की पेशी में न्यायालय गया तो उसने न्यायिक अधिकारी को घटना से अवगत करा दिया| जिसके बाद जिलाधिकारी आदि के आदेश पर सोमबार को पुलिस लाइन से दरोगा ओमप्रकाश तिवारी उसे लेकर लोहिया अस्पताल पंहुचा| जंहा उसका  मेडिकल पैनल से किया गया| पैनल में डॉ0 अभिषेक चतुर्वेदी,डॉ0 अशोक कुमार व डॉ0 गौरव मिश्रा ने मेडिकल किया|
सेन्ट्रल जेल के अधीक्षक एसएचएम रिजवी ने बताया है कि  बंदी दबाब बनाने के लिए गलत आरोप लगा रहा है| उसने पूर्व में जिला जेल से भागने का प्रयास किया था| जिसके बाद उसे सेन्ट्रल जेल की हाई सिक्योर्टी बैरग में रखा गया है|जिसके चलते वह जेल कर्मियों पर गगलत आरोप लगाया है| उसका दो दिन पहले बंदियों के साथ मारपीट हो गयी थी जिससे उसे चोट आयी होंगी| 

एटीएस ने सेन्ट्रल जेल में खंगाले बद्दो के साथियों के रिकार्ड

0

Posted on : 29-03-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, राष्ट्रीय, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बीते दिन सेन्ट्रल जेल से गाजियाबाद तारीख पर गये शातिर अपराधी बदन सिंह बद्दो के फरार हो जाने के बाद पूरे प्रदेश में पुलिस उसकी गिरफ्तारी को लेकर सक्रिय है| जिसके चलते एटीएस ने सेन्ट्रल जेल जाकर बद्दो से मिलने वाले साथियों के अभिलेख खंगाले और उन्हें अपने साथ ले गयी|
शुक्रवार को आगरा एटीएस की टीम ने सेन्ट्रल जेल पंहुच कर जेल अधिकारीयों से वार्ता की| इसके  साथ ही बद्दो से जेल में मिलने आने वाले साथियों के बारे में जानकारी ली| वही एटीएस ने जाँच में पाया की बीते 22 मार्च को बद्दो से मुलाकात की थी|एटीएस उनके आधार कार्ड की फोटो कांपी,नाम व पता आदि अपने साथ ले गयी|
उधर बद्दो के फरार होने के बाद सेन्ट्रल जेल की हाई सिक्योरटी बैरंग में बंद अन्य कैदियों पर शिकंजा कस दिया गया| उनका बाहर से आने वाला सामान आदि भी बंद करा दिया गया|जिससे कई कैदी भडक गये| उन्होंने हंगामा भी किया| लेकिन बाद में जेल अधिकारीयों के समझाने के बाद वह शांत हुए|
कारागार अधीक्षक एसएचएम रिजवी ने जेएनआई को बताया की चुनाव आयोग की के निर्देश के चलते जेल जेल में बंद शातिर अपराधियों की तलाशी आदि की गयी|बंदियों ने किसी तरह का हंगामा नही किया |

“बद्दू” को लेकर गये दरोगा सहित आधा दर्जन पुलिस कर्मी निलंबित

0

Posted on : 29-03-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:बीते दिन गाजियावाद पेशी पर गये कुख्यात बदन सिंह बद्दू के फरार होने के बाद मेरठ पुलिस ने पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार कर लिया|
इसके साथ ही उन्हें फतेहगढ़ पुलिस के द्वारा निलंबित भी किया गया है| पुलिस अधीक्षक डॉ0 अनिल कुमार मिश्रा ने उपनिरीक्षक देशराज त्यागी,चालक भूपेन्द्र सिंह,मुख्य आरक्षी संतोष कुमार,आरक्षी राजकुमार,सुनील सिंह व ओमवीर को निलंबित कर दिया है|
उधर मेरठ पुलिस ने आरोपी दरोगा व पुलिस कर्मियों सहित आधा दर्जन को गिरफ्तार भी कर लिया गया है|एसपी के निलंबित आदेश में कहा है कि पुलिस कर्मी पुलिस लाइन से सरकारी वाहन के द्वारा सेन्ट्रल जेल से बंदी बदन सिंह उर्फ़ बद्दू को लेकर जनपद गाजियाबाद के विजय नगर थाना क्षेत्र के तहत अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के कोर्ट संख्या 2 में पेश करने के लिए रवाना हुए थे| बंदी बदन सिंह बद्दू वापसी में थाना क्षेत्र ब्रह्मपुरी मेरठ से अभिरक्षा के दौरान फरार हो गया| इसके बाद ब्रह्मपुरी थाने में 221,224,120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया| इसी के चलते दरोगा व चालक सहित आधा पुलिस कर्मियों को एसपी निलंबित कर दिया है|