Featured Posts

नगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलिनगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि फर्रुखाबाद: पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजेपयी की मौत की खबर से पूरा देश शोक में है| जिसके चलते उनके चाहने वालों ने जगह-जगह अपने तरीके से श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया| कुछ कार्यकर्ताओं ने रेत पर अटल आकृति को उकेर कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की| भाजपा युवा मोर्चा के द्वारा...

Read more

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांसपूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांस नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है। वह 93 साल के थे। अटल जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाजपेयी को सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था। 15 अगस्‍त को उनकी तबीयत काफी बिगड़ गई थी, जिसके...

Read more

पीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़ेपीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़े नई दिल्‍ली:72 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री ने कई सारी बातें कहीं। इनमें से कुछ आपको याद रह गई होंगी तो कुछ को अाप भूल गए होगे। लेकिन यहां पर हम आपको उनका दिया पूरा भाषण दे रहे हैं। आज देश एक आत्‍मविश्‍वास से भरा हुआ है। सपनों को संकल्‍प...

Read more

स्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएमस्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएम फर्रुखाबाद:पूरे जनपद में स्वतन्त्रता दिवस बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया गया| सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में ध्वजारोहण कर मिष्ठान वितरण किया| जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट व एसपी अतुल शर्मा ने पुलिस ने ध्वजारोहण किया| जिलाधिकारी ने कहा की स्वतंत्रता के साथ ही साथ हमे स्वास्थ्य...

Read more

यूपी में शिक्षक भर्ती परीक्षा में 68500 पदों में 41556 अभ्यर्थी उत्तीर्ण इलाहाबाद:परिषदीय स्कूलों की सहायक अध्यापक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा का परिणाम सोमवार को जारी हो गया है। इसमें 41556 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए हैं। यह परिणाम सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 45 और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लिए 40 फीसद उत्तीर्ण प्रतिशत के आधार पर जारी किया गया...

Read more

15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी कानपुर:देश की जीवन दायिनी गंगा नदी को स्वच्छ तथा निर्मल बनाने का काम प्रदेश के साथ केंद्र सरकार की प्राथमिकता में है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कानपुर में नमामि गंगे के तहत हो रहे काम की समीक्षा की। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ...

Read more

बेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ेंबेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ें फर्रुखाबाद: बिल्वपत्र जिसे बेलपत्र का प्रयोग खास तौर से भगवान शिव के पूजन अभिषेक में किया जाता है। लेकिन अगर इसे औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो यह आपकी कई सेहत समस्याओं का बेहतरीन इलाज साबित हो सकता है। यकीन नहीं आता तो बेलपत्र से होने वाले सेहत के इन 5 फायदों को जरूर...

Read more

स्वतंत्रता दिवस के रंग में रंगा तिरंगे का बाजारस्वतंत्रता दिवस के रंग में रंगा तिरंगे का बाजार फर्रुखाबाद:स्वतंत्रता दिवस को लेकर लोगों में उत्साह देखते ही बनता है। हर कोई आजाद हिन्द के इस गौरवमयी शौर्य दिवस को धूमधाम से मनाने को आतुर है। बाजार भी स्वतंत्रता दिवस से पहले रंग बिरंगे रूप में सजा हुआ है। शहर का परंपरागत बाजार में आकर्षक रूप में दिखाई दे रहा है। छोटी...

Read more

राजू पाण्डेय हत्याकांड में जाँच के लिये एसटीएफ ने डाला डेराराजू पाण्डेय हत्याकांड में जाँच के लिये एसटीएफ ने डाला डेरा फर्रुखाबाद:बीती 10 अगस्त की सराफा व्यापारी राजू पाण्डेय की हत्या किये जाने के मामले में पुलिस अभी तक किसी ठोस नतीजे पर नही पंहुच सकी है| पुलिस सीसीटीवी फुटेज को वायरल कर आरोपियों तक पंहुचने का प्रयास कर रही है| वही घटना को लेकर पूरे जिले में खौफ का माहौल बना हुआ है| पता चला...

Read more

राजू पाण्डेय हत्याकांड: दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज,एक का सीसीटीवी फुटेज जारीराजू पाण्डेय हत्याकांड: दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज,एक का सीसीटीवी... फर्रुखाबाद: बीती रात गोली मारकर मौत के घाट उतारे गये सराफा व्यापारी का शनिवार को पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया| वही देर रात ही पुलिस ने दो अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी का सीसीटीवी फुटेज भी जारी कर दिया है| पुलिस उसकी तलाश में जुटी है| शहर कोतवाली क्षेत्र...

Read more

वर्चस्व को लेकर सेन्ट्रल जेल में कैदीयों के दो गुटों में मारपीट

0

Posted on : 09-08-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE

फर्रुखाबाद: साथी की मौत की झूठी अफवाह सुनकर कैदियों के दो गुटों में मोर्चा बंदी हो गयी| जिसके बाद जेल प्रशासन के हाथ पैर फूल गये| मुख्य गेट पर पीएसी बुला ली गयी| काफी देर रात तक जेल के भीतर विवाद के हालात रहे| इसके बाद हालत पर काबू पाया गया| यह हालत सेन्ट्रल जेल में तब है जब यंहा सुनील राठी और सुभाष ठाकुर जैसे माफिया बंद है| फ़िलहाल जेल में अब यह तो साफ हो गया की बंदियों में मोर्चा बंदी है!
मिली जानकारी के मुताबिक सेन्ट्रल जेल की बैरक नम्बर 1 में एक छोटे शुक्ला नाम का बंदी सजा काट रहा है| जेल के भीतर उसकी हत्या कर शव फांसी पर लटका देने की अफवाह जंगल में आग की तरह फ़ैल गयी| बंदी छोटे शुक्ला के पक्ष के बंदियों ने दुसरे पक्ष के बंदियों पर आरोप लगाकर हंगामा कर दिया| जेल सूत्रों के अनुसार जमकर मारपीट के साथ पथराव भी किया गया | सूचना मिलने पर डीआईजी जेल वीपी त्रिपाठी,जेलर पीके सिंह बंदी रक्षकों के साथ मौके पर पंहुचे| मुख्य गेट पर पीएसी तैनात कर दी गयी| बंदी छोटे शुक्ला को उसके साथियों से भेट करकर मामले को रफा दफा किया गया|
जेलर पीके सिंह ने जेएनआई को बताया कि एक बंदी के फांसी लगाने की अपवाह फैला दी गयी थी| कुछ जेल में बंद अपराधिक तत्व नही चाहते की शांति रहे| मारपीट और पथराव की बात गलत है|

मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: बंदियों के मुंह ना खोलने से जांच धीमी

0

Posted on : 03-08-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE

बागपत:माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की बागपत जिला जेल में हत्या की जांच में सरकार भले ही तेजी दिखाए, लेकिन विवेचना के दौरान कोई भी बंदी इस हत्याकांड पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद सुनील राठी को फतेहगढ़ सेंट्रल जेल शिफ्ट कर दिया गया।
मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की विवेचना गति नहीं पकड़ रही है। बागपत जेल में हर कोई वारदात की जानकारी देने से बच रहा है। पुलिस के मुताबिक किसी ने इस वारदात के दौरान खुद को उस वक्त सोया हुआ बताया तो किसी ने बाथरूम में होना। पुलिस अब तक करीब 175 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। केस डायरी में बयान सिर्फ 50-60 के ही दर्ज हुए हैं।
झांसी जेल से बी-वारंट पर अदालत के लिए लाए गए पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी को आठ जुलाई की रात बागपत जेल में दाखिल किया गया था। नौ की सुबह ही उसकी गोलियों से भूनकर सुनील राठी ने हत्या कर दी। राठी की निशानदेही पर जेल के सेफ्टी टैंक से पिस्टल, दो मैग्जीन व 22 कारतूस बरामद कर पुलिस ने जांच के लिए आगरा लैब में भेज दिया था। पुलिस तभी से ही केस की विवेचना में लगी हुई है।
जेल के स्टाफ और बंदियों से पूछताछ कर रही है। अभी करीब 175 लोगों से पूछताछ हो चुकी है। केस के विवेचक एवं खेकड़ा थानाध्यक्ष एसपी सिंह का कहना है कि अभी 50-60 बंदी व अन्य लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं। अधिकांश लोगों ने घटना के संबंध में जानकारी होने से इन्कार किया है। वहीं बजरंगी की पत्नी सीमा ङ्क्षसह को भेजे गए नोटिस का जबाव आने के बाद अब पुलिस ने उसके बयान लेने की तैयारी शुरू कर दी है।
इसके लिए पुलिस उससे फोन पर संपर्क करने में लगी हुई है। केस के विवेचक एसपी सिंह का कहना है कि अभी फोन पर इस संबंध में वार्ता नहीं हो पा रही है। सीमा सिंह ने पुलिस को लिखकर भी दिया है कि पुलिस लखनऊ आकर उसका बयान ले।

जेलों में छापेमारी के दौरान चार मोबाइल,पांच चाकू बरामद

0

Posted on : 29-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: जिला कारागार व केन्द्रीय कारागार में जिलाधिकारी मोनिका रानी व पुलिस अधीक्षक ने सघन छापेमारी की| इस दौरान हड़कम्प मच गया| पता चला है की जिला जेल में मोबाइल बरामद हुए है| जिससे आलाधिकारी खफा हो गये है|
डीएम-एपसी के निर्देश पर सीओ सिटी रामशरण सरोज व शहर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक राजेश पाठक,प्रभारी निरीक्षक फ़तेहगढ झाँझन लाल सोनकर आदि भारी संख्या में पुलिस बल को पुलिस लाइन में एकत्रित किया गया| जिसके बाद पहले जिला जेल पर छापेमारी की गयी| जिससे जेल में हडकंप मच गया| अधिकारीयों ने फ़ोर्स को तलाशी में लगाया| तलाशी के दौरान बंदियों के द्वारा प्रयोग किये जाने के लिये चार मोबाइल व आठ सिम के साथ ही बीडी, सिगरेट,पांच चाकू, 2 कैंची व 4 लाइटर के साथ ही एक स्वता निर्मित चार्जर व ताश के पत्ते बरामद हुए है|
बड़ी संख्या में संदिग्ध सामान मिलने से अधिकारियों ने जेल प्रशासन की कड़ी फटकार लगायी| सबाल यह उठा की आखिर जब जेल गेट पर तलाशी की व्यवस्था है हर आने-जाने वाली की तलाशी ली जाती है| इसके बाद भी भारी मात्रा में संदिग्ध सामान मिलना जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर सबाल खड़े करता है| सिम की पुष्टि एसपी ने नही की|
सेन्ट्रल जेल में बंद माफियाओं की सुरक्षा व्यवस्था देखी
इसके बाद डीएम-एपसी ने सेन्ट्रल जेल में छापेमारी की| यंहा पंहुचते ही पानी बरसने लगा| इसके बाद भी अधिकारियों ने माफिया सुभाष ठाकुर व सुनील राठी की बैरकों में जाकर उसकी सुरक्षा व्यवस्था देखी| यह कोई खास चीज नही मिली| जबकि सुभाष ठाकुर की बैरक में एक शुगर मापने वाला यन्त्र मिला है|
एसपी ने बताया की जाँच की जा रही है| वही जिलाधिकारी मोनिका रानी ने बताया की जिला जेल में मोबाइल के साथ ही अन्य संदिग्ध सामान मिले है| जाँच की जा रही है| कार्यवाही की जायेगी|

सुनील राठी के डर से गवाही देने नहीं पहुंचा कोई

0

Posted on : 27-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

बागपत:जिला कारागार में पूर्वांचल के माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की मजिस्ट्रीयल जांच में 25 जुलाई तक किसी ने भी एडीएम के समक्ष उपस्थित होकर लिखित या मौखिक साक्ष्य नहीं दिए। इसी के चलते एडीएम ने साक्ष्य देने की तारीख बढ़ाकर दस अगस्त कर दी है। बागपत जेल में नौ जुलाई को मुन्ना बजरंगी की हुई हत्या की मजिस्ट्रीयल जांच के लिए डीएम ऋषिरेन्द्र कुमार ने एडीएम वित्त व राजस्व लोकपाल सिंह को जांच अधिकारी नामित किया था।
एडीएम ने जेल अधीक्षक से हत्याकांड से संबंधित उपलब्ध अभिलेखों की प्रमाणित प्रति तथा थाना खेकड़ा प्रभारी निरीक्षक से समस्त अभिलेख, एफआइआर तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आदि की प्रमाणित प्रति उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। साथ ही आम जन से भी उक्त हत्याकांड के संबंध में कोई भी लिखित या मौखिक साक्ष्य उपलब्ध कराने को 25 जुलाई तक का समय दिया था, लेकिन इस अवधि में कोई भी लिखित या मौखिक साक्ष्य उपलब्ध कराने एडीएम के समक्ष नहीं पहुंचा। अब यह तिथि दस अगस्त कर कर दी गई है।
मुन्ना बजरंगी के घर तक नहीं पहुंचा नोटिस
मुन्ना बजरंगी की हत्या के 17 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने मृतक के परिवार से कोई संपर्क नहीं किया। पुलिस अधिकारियों ने चार दिन पूर्व बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह को नोटिस भेजने का दावा किया था, लेकिन गुरुवार शाम तक उसके पास कोई नोटिस नहीं पहुंचा।
मुन्ना बजरंगी की नौ जुलाई को जेल में हत्या कर दी गई थी। कुख्यात सुनील राठी ने हत्या करना स्वीकार किया था। सीमा ने सीओ को तहरीर दी थी जिसे विवेचना में शामिल किया गया है। एसपी जय प्रकाश ने 22 जुलाई को सीमा सिंह को बयान के लिए नोटिस भेजने की बात कही थी,लेकिन गुरुवार शाम तक नोटिस सीमा के घर तक नहीं पहुंचा।मुन्ना बजरंगी के रिश्तेदार एवं वकील विकास श्रीवास्तव ने बताया कि अभी तक न तो पुलिस का उनके पास कोई नोटिस आया है और न ही पुलिस ने उनसे कोई संपर्क किया है। पुलिस क्या कार्रवाई कर रही है, इसकी उनको कोई जानकारी नहीं है। उधर एसपी जयप्रकाश का कहना है कि केस की विवेचना चल रही है।
जेल के स्टाफ व बंदियों से पूछताछ जारी : जेल के स्टाफ और बंदियों से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। शायद ही कोई दिन गुजरता हो, जब पुलिस की टीम वहां पर न जाती हो, लेकिन नतीजा शून्य है। पुलिस अभी तक पिस्टल जेल में कैसे पहुंची, इसका भी जवाब नहीं ढूंढ़ पाई है।

सेन्ट्रल जेल में वीडियो कांफ्रेंसिंग से कुख्यात सुनील राठी की हुई पेशी

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

बागपत:(फर्रुखाबाद) सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बंद कुख्यात सुनील राठी ने पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या बागपत जेल में गोली मारकर की थी| इसी केस में सुनील राठी की बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग से बागपत सीजेएम कोर्ट में पेशी हुई। केस के विवेचक का कहना है कि राठी के केस में दोबारा रिमांड बन गया है।
बीते नौ जुलाई की सुबह बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। कुख्यात सुनील राठी ने बजरंगी की हत्या करना स्वीकार किया था और उसकी निशानदेही पर पुलिस ने जेल के सेफ्टी टैंक से वारदात में प्रयुक्त पिस्टल, दो मैग्जीन और 22 कारतूस बरामद किए थे। खेकड़ा थाने में राठी के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज हुए थे। इनमें एक हत्या व दूसरा राठी की निशानदेही पर पिस्टल बरामदगी का केस शामिल है। सुरक्षा की लिहाज से उसे से फतेहगढ़ सेंट्रल जेल से राठी को पेशी पर नहीं लाया गया। केस के विवेचक एवं खेकड़ा थानाध्यक्ष एसपी सिंह का कहना है राठी की वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी हुई है। उसका 14 दिन का न्यायिक रिमांड बन गया है।
बता दें कि बजरंगी की हत्या के केस में राठी का 21 जुलाई को रिमांड बना था। दूसरी ओर कुख्यात अजीत उर्फ हप्पू निवासी बावली भी फतेहगढ़ की सेंट्रल जेल में बंद है। उसकी भी बुधवार को सीजेएम अदालत में पेशी थी। वह न्यायालय में पेशी पर नहीं आया। न्यायालय ने पेशी की अगली तारीख नियत कर दी है। मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में न्यायिक जांच भी तेजी से आगे बढ़ रही है। इस मामले में निलंबित जेलर, डिप्टी जेलर समेत चारों कर्मचारियों के बयान दर्ज होंगे। इसके लिए अदालत ने उनको तलब किया है। इससे पहले विक्की सुन्हैड़ा समेत तीन बंदियों के बयान दर्ज हो चुके हैं। जेल सूत्रों के मुताबिक अदालत ने निलंबित जेलर यूपी सिंह, डिप्टी जेलर शिवाजी यादव और दो मुख्य बंदीरक्षक अरजिंदर और माधव कुमार को बयान दर्ज कराने के लिए तलब किया है। ये चारों जल्द ही बयान देने के लिए अदालत पहुंचेंगे। अदालत ने मुन्ना बजंरगी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी तलब कर रखी है। इसके अलावा मजिस्ट्रेटी, पुलिस और जेल के अधिकारी भी जांच करने में लगे हुए है। बुधवार को भी पुलिस की टीम ने जेल में पहुंचकर जांच पड़ताल कर बंदियों से पूछताछ की।
साक्ष्य देने की तिथि बढ़ेगी
बजरंगी हत्याकांड की मजिस्ट्रीयल जांच में बुधवार को कोई भी साक्ष्य देने नहीं पहुंचा। अब साक्ष्य देने की तारीख बढ़ाई जाएगी। एडीएम वित्त व राजस्व लोकपाल सिंह मजिस्ट्रीयल जांच कर रहे हैं। हत्याकांड के संबंध में कोई भी लिखित या मौखिक साक्ष्य 25 जुलाई तक दे सकता था। परिजनों को भी सूचना दी गई थी।

[bannergarden id="12"]