Featured Posts

बहुत जल्द कुछ लोगो को जेल भेजने की तैयारी: धर्मपाल सिंहबहुत जल्द कुछ लोगो को जेल भेजने की तैयारी: धर्मपाल सिंह फर्रुखाबाद: जिले में आये प्रदेश सरकार के सिचाई मंत्री ने योगी सरकार की मंशा को साफ़ किया और कहा कि योगी सरकार जल्द से जल्द माफिया मुक्त शासन देगी| जो लोग जादा अराजकता फैला रहे है उनकी जगह बहुत जल्द जेल में होगी| उन्होंने इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी व एसपी को निर्देश भी दे दिये...

Read more

सांसद मुकेश पर लगा महिला को बहला-फुसलाकर शादी करने का आरोपसांसद मुकेश पर लगा महिला को बहला-फुसलाकर शादी करने का आरोप फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला लिंजीगंज निवासी एक युवक ने सांसद मुकेश राजपूत पर बीते दस वर्ष पूर्व उसकी पत्नी को बहला-फुसला कर विवाह कर लेने का आरोप लगाया और अफसरों से लिखित में शिकायत की| पीड़ित ने डीएनए टेस्ट कराये जाने की मांग भी की है| वही सांसद ने पूरे मामले...

Read more

राजकुमारी के विरोध में ज्ञानदेवी ने किया नामांकनराजकुमारी के विरोध में ज्ञानदेवी ने किया नामांकन फर्रुखाबाद: बीजेपी सांसद मुकेश राजपूत के चालक कल्लू कठेरिया की पत्नी राजकुमारी से पहले सपा समर्थित ज्ञानदेवी कठेरिया ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया| जिससे अब दोनों में कांटे की टक्कर होने की सम्भावना बन गयी है| जिलाधिकारी न्यायालय में सपा प्रत्याशी ज्ञानदेवी के साथ...

Read more

दिल्ली के कारीगरों ने शिव को दिया बाबा बर्फानी का रूपदिल्ली के कारीगरों ने शिव को दिया बाबा बर्फानी का रूप फर्रुखाबाद:(कंपिल) देश-विदेश में अपने पौराणिक इतिहास के लिये जाना जाने वाला कंपिल नगर भगबान कृष्ण के जन्मोत्सव पर दुल्हन के रूप में नजर आया| जंहा मन्दिरो की विभिन्य मूर्तियों का विशेश श्रंगार किया गया| जिसको देखने के लिये दूर-दराज से भीड़ उमड़ी| बीते मंगलवार को श्रीकृष्ण...

Read more

प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी ने किया पौधारोपणप्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी ने किया पौधारोपण फ़र्रुख़ाबाद:(कम्पिल) जिलाधिकारी रविंद्र कुमार की पत्नी प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी दीक्षा भण्डारी ने स्वतंत्रता दिवस पर पौधारोपण कर लोगो को पौधा रोपण के लिये जागरूक किया| कस्बा के रुदायन मार्ग पर वन विभाग के अफसरों ने पौधारोपण की तैयारी की| इसके साथ ही साथ मौके पर...

Read more

जरा याद करो कुर्बानी: अंग्रेज पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ व दरोगा सहित पिपरगांव में गिरी थी चार लाशेंजरा याद करो कुर्बानी: अंग्रेज पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ व दरोगा... फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) 81 साल बाद आज भी गांव के लोग जब उस खून से लाल जमीन को याद करते है तो उनके रोगटे खड़े हो जाते है| गांव में जब भी ब्रिटिश हुकूमत की बात शुरू होती है तो लोग 1936 में गांव में हुए पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ की हत्या की घटना को याद कर बैठते है| आखिर क्या हुआ था उस दिन मोहम्दाबाद...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सीअविश्वास प्रस्ताव में चली गयी सगुना की कुर्सी फर्रुखाबाद: जिला पंचायत अध्यक्ष सगुना देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद गुरुवार को एक बजे तक 21 जिला पंचायत सदस्यों ने अपना अविश्वास सगुना देवी में दिखा दिया| सगुना के पक्ष वाले 8 जिला पंचायत सदस्य उनके पक्ष में हाथ उठाने नही पंहुचे| अविश्वास लाने वाले जिला पंचायत...

Read more

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

गरीब किसानो का वायोडाटा तैयार करेंगे लेखपाल

0

फर्रुखाबाद: कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी रविंद्र कुमार सिंह ने सभी लेखपालों को निर्देश दिये की की जो किसान ऋण माफी योजना के अंर्तगत आते है उनका वायोडाटा एकत्रित करे| जिससे उन्हें योजना का लाभ दिया जा सके |

बैठक में उपस्थित जनपद के 180 क्षेत्रीय लेखपाल को निर्देशित करते हुए डीएम ने कहा कि ऐसे कृषक जो 01 लाख ऋण माफी योजना के दायरे में आते है उन कृषकों का बैंक का नाम, ब्रांच का नाम ,लाभार्थी का नाम ,केसीसी नं० ,कुल भूमि, लघु व सीमांत एवं बृहद कृषक,आधार नम्बर एवं कृषक के हस्ताक्षर व अंगूठा निसानी के साथ घर-घर जाकर पूर्ण सूचना प्रारूप पर भरे| जिलाधिकारी ने कहा कि लेखपाल प्रारूप भरा हुआ स्म्बन्धित तहसीलदार को उपलब्ध करायेगे| वही तहसीलदार वह प्राप्त सूचना उपजिलाधिकारी को उपलब्ध कराये। उन्होंने साफ कहा की लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी|

बैठक में सीडीओ अविनाश कुमार,एडीएम आरबी सोनकर,तहसीलदार सदर अजीत सिंह व अन्य अफसर भी मौजूद रहे |

अब ब‍िना जन्‍म प्रमाणपत्र के भी बनवा सकेंगे पासपोर्ट

0

नई दिल्ली: अगर आप अपना पासपोर्ट बनवाना चाहते है लेकिन इसे बनवाने के लिए आपके पास जन्म प्रमाणपत्र नहीं है तो चिंता मत किजीए क्योंकि अब पासपोर्ट बनवाने के लिए आपको जन्म प्रमाणपत्र नहीं देना होगा। इस हफ्ते लोकसभा की कार्रवाई के दौरान सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया था कि आधार और पैन कार्ट के जरिए ही आप अपने कागजों में अपना जन्म का प्रूफ दे सकेंगे। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार 1980 में लागू किए गए पासपोर्ट नियमों के अनुसार 26/01/1989 में और इसके बाद जन्म व्यक्ति को पासपोर्ट के लिए जन्म प्रमाणपत्र देना जरूरी होता था।

वहीं अब अगर कोई व्यक्ति पासपोर्ट बनवाना चाहता है तो वह जन्म प्रमाणपत्र की जगह, ट्रांसफर, स्कूल लीवींग सर्टिफिकेट या फिर दसवीं का सर्टिफिकेट जमा करवा सकता है। इन सभी दस्तावेजों में आपकी जन्मतिथी होना अनिवार्य है, तभी आपके इन कागजों को जन्म प्रमाणपत्र की जगह पर जमा किया जाएगा। इनके अलावा आप पैन कार्ड, आधार कार्ड या ई-आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पहचान पत्र या फिर एलआईसी पॉलिसी बांड भी जाम करा सकते है। वहीं सरकारी कर्मचारियों को इसमें छूट दी गई है कि वे अपना सर्विस रिकॉर्ड, पेंशन रिकॉर्ड अथवा जमा करा सकते है।

लोकसभा में यह बदलाव किए जाने के प्रश्न पर वीके सिंह ने कहा इसके पीछे का उद्देश्य यह कि देश में ज्यादा से लोग आसानी से पासपोर्ट बनवा सकें। इस बदलाव से पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार (23 जून) को पासपोर्ट शुल्क में कमी का ऐलान किया था। सुषमा ने बताया था कि पासपोर्ट शुल्क बनवाने के लिए अब 10 प्रतीशत कम पैसे देने होंगे, लेकिन यह फायदा केवल आठ साल से कम और 60 साल से ज्यादा के लोगों को ही मिलेगा। बाकी लोगों को पहले जैसा चार्ज देना होगा। इसके साथ ही सुषमा ने बताया था कि पासपोर्ट अब हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में हुआ करेंगे। इसके अलावा पासपोर्ट बनवाने के लिए कुछ पुराने नियमों को खत्म भी कर दिया गया था।

विधायक, सांसद को VIP ट्रीटमेंट, ट्रैफिक से बचाने के लिए टोल पर योगी सरकार बनायेगी अलग लेन

0

Posted on : 22-07-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

लखनऊ: एक तरफ तो जहां पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की बात करते हैं वहीं बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश में वीवीआईपी लोगों के लिए टोल प्लाजा पर अलग से लेन की सुविधा दी जाने वाली। यह सुविधा विधायकों और सांसदों को दी जाएगी ताकि वे ट्रैफिक जाम से बच सकें। राज्य के सभी टोल प्लाजा के साथ-साथ इन वीवीआईपी लोगों को यह सुविधा नेशनल हाइवों पर भी दी जाएगी। सभी जिला अधिकारियों को इस मामले को लेकर निर्देश दिए जा चुके हैं कि उनके अंतर्गत आने वाले टोल प्लाजा पर सांसदों और विधायकों के लिए एक लेन अलग से रखी जाए।

इस मामले को लेकर उच्च अधिकारियों का कहना है कि एक तरफ तो सरकार प्रदेश में वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए गाड़ियों से नीली बत्ती हटाने का निर्देश देती है। वहीं दूसरी तरफ वीआईपी लोगों के लिए टोल पर अलग से लेन बनाने के निर्देश जारी कर फिर से वीआईपी कल्चर लाने के लिए जोर दे रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार इस प्रकार का निर्देश टोल प्लाजा ऑपरेटर्स के लिए परेशानी खड़ा करेगा। कई बार ऐसा देखा गया है कि विधायक टोल प्लाजा कर्मचारियों से टोल न देने को लेकर बहसबाजी करते है। एडिशनल जिला अधिकारी ने बताया कि जब लखनऊ और दिल्ली जाते है तो विधायक और सांसद के साथ काफिले में अक्सर चार से पांच गाड़ियां होती है। ये गाड़ियां उन राज्य और नेशनल हाइवे से निकलती हैं जहां पर टोल प्लाजा बने हुए होते है। जब टोल कर्मचारी उनसे टोल मांगते हैं तो ये विधायक और सांसद उनके साथ अभद्र व्यवहार करते है। कई बार तो यह भी देखा गया है कि कर्मचारी टोल मांग जाने पर इन लोगों द्वारा उनकी पिटाई कर दी जाती है। इस तरह के मामलों से कानून व्यवस्था पर भी असर पड़ता है।

आपको बता दें कि प्रदेश में हाल के दिनों में विधायकों और सांसदों द्वारा टोल कर्मचारियों के साथ मारपीट व बदतमीजी करने के कई मामले सामने आए है। विधायक और सांसदों को छोड़ दें तो राज्य की पुलिस भी टोल कर्मचारियों के साथ मारपीट करती है। एक घटना की बात करें तो बाराबंकी जिले के अहमदपुर में एक टोल पर 100 नंबर डायल वाली पुलिस की गाड़ी को रोका गया तो पुलिसवाले ने बेरहमी से टोल कर्मचारी की पिटाई कर दी थी। यह घटना एक सीसीटीवी में कैद हुई जिसके बाद पुलिसवाले को सस्पेंड कर जांच के निर्देश दिए गए थे।

Jio जियो: मुफ्त में मिलेगा 4जी फोन, 24 अगस्त से होगी बुकिंग

0

Posted on : 21-07-2017 | By : JNI-Desk | In : Delhi, FARRUKHABAD NEWS, राष्ट्रीय, सामाजिक

नई दिल्ली: अपने डाटा प्लान से दूरसंचार क्षेत्र में तहलका मचाने वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने शुक्रवार को एक और धमाका किया। उन्होंने ‘इंटेलीजेंट स्मार्टफोन’ जियो फोन के लांच की घोषणा की। इसमें 4जी डाटा सुविधाएं होंगी, साथ ही जिंदगीभर मुफ्त वॉयस कॉल भी मिलेगी। कंपनी ने इसे पूरी तरह से भारतीय फोन करार दिया।
1) कितनी कीमत चुकानी होगी
जियो फोन की प्रभावी कीमत ‘शून्य’ रखी गई है यानी जियो फोन उपभोक्ताओं को मुफ्त मिलेगा। हालांकि जियो उपभोक्ताओं को सिक्योरिटी मनी के तौर पर 1500 रुपये चुकाने होंगे। ये धनराशि तीन साल बाद फोन लौटाने पर वापस भी मिल जाएंगे।
2) कब तक हाथ में आएगा
जियो फोन 15 अगस्त से प्रशिक्षण के लिए उपलब्ध होगा। इसकी बुकिंग 24 अगस्त से शुरू होगी। पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर सितंबर में इस फोन की डिलीवरी शुरू होगी। कंपनी का लक्ष्य हर हफ्ते 50 लाख लोगों तक फोन पहुंचाने का है।
3) क्या हैं इसके फीचर्स
अल्फान्यूमेरिक कीपैड, 4वें नेवीगेशन, कॉम्पैक्ट डिजाइन, फोन कॉन्टैक्ट्स, कॉल हिस्ट्री, 2.4” क्यूवीजीए डिस्प्ले, एसडी कार्ड स्लॉट-कैमरा, माइक्रोफोन और स्पीकर, हेडफोन जैक, रिंगटोन्स, टॉर्च, एफएम रेडियो, 4जी VoLTE तकनीक पर आधारित
4) क्या हैं इसकी खासियत
– टचस्क्रीन इसमें नहीं है लेकिन आप बोलकर गाने सुन सकेंगे
– इंटरनेट पर सर्फिंग के लिए भी वॉयस कमांड का इस्तेमाल
– संदेश भी आप बोल कर भेज सकते हैं। बस संदेश भेजने के लिए प्राप्तकर्ता का नाम बोलना होगा
– जियो के सारे एप इसमें प्रीलोडेड होंगे
– 22 भाषाओं में कमांड समझेगा फोन
5) आपातकालीन बटन
मुश्किल में होने पर 5 नंबर की बटन को थोड़ी देर दबाकर रखने से फोन में पहले से सुरक्षित कुछ नंबरों पर आपकी लोकेशन चली जाएगी। जल्द ही इस फीचर में स्थानीय पुलिस को भी जोड़ा जाएगा।
6) एनएफसी तकनीक भी जल्द
जियो आने वाले समय में इस फोन पर एनएफसी तकनीक भी शुरू करेगी। इसकी मदद से आप जनधन खाते, यूपीआई खाते, बैंक खाते और डेबिट-क्रेडिट कार्ड को जोड़ने के साथ-साथ भुगतान भी कर सकेंगे।
7) क्या हैं ऑफर
-जियोफोन पर उपभोक्ताओं को अनलिमिटेड डाटा की सुविधा मिलेगी
– जियो अनलिमिटेड धन धना धन प्लान सिर्फ 153 रुपये में उपलब्ध होगा
– फोन पर वॉयस कॉलिंग हमेशा मुफ्त रहेगी
– 24 रुपये का दो दिन का प्लान और 54 रुपये का साप्ताहिक प्लान भी लांच किया।

रामनाथ कोविंद के घर कानपुर में जश्न का माहौल, मिठाइयां बांट रहे हैं लोग

Comments Off on रामनाथ कोविंद के घर कानपुर में जश्न का माहौल, मिठाइयां बांट रहे हैं लोग

Posted on : 20-07-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

कानपुर: रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति बन गए। वोटों की गिनती खत्म होते ही उनके गांव कानपुर में जश्न शुरू हो गया। उनके राष्ट्रपति बनते ही कानपुर अौर कानपुर देहात में अौर तेज से जश्न शुरू हो गया। परिवार और गांव में मिठाईयां बंटनी शुरू हो गई। गांव वालों ने कोविंद की भाभी का मुंह मीठा कराया।
उनके पैतृक गांव परौंख से लेकर कानपुर नगर के दयानंद विहार तक जश्न का दौर चल रहा है। परिणाम आने से पहले से ही चारों ओर खुशियां का माहौल देखने को मिल रहा था। पैतृक गांव परौख में ढोल नगाड़े बज रहे हैं। राष्ट्रपति चुनाव के परिणाम सामने आ गए हैं। दयानंद विहार की गलियां संवारी जा रही हैं। कूड़े के ढेर हटा दिए गए हैं। चोक नालियां साफ करा दी गई। झूलते बिजली के तार कसे जा रहे हैं और टूटे खंभे भी बदलने का काम शुरू हो गया है।
राष्ट्रपति चुनाव परिणाम: देश के 14वें राष्ट्रपति होंगे रामनाथ कोविंद
जश्न का दौर, फूट रहे पटाखे
मतों की गिनती शुरू होते ही जश्न के दौर शुरू हो गए। भाजपाई ही नहीं कानपुर नगर और देहात के लोग भी कोविंद की ताजपोशी का इंतजार कर रहे हैं। ढोल नगाड़ों के बीच जश्न का दौर शुरू हो गया है। दयानंद विहार में पटाखे फूट रहे हैं और मिठाइयां बंट रही हैं। मोहल्ले के लोग एक दूसरे को एडवांस में जीत की बधाई दे रहे हैं। पड़ोसी पिछले दौरें की यादें ताजा कर रहे हैं। राज्यपाल रहते हुए जब दयानंद विहार पहुंचे थे तो हर व्यक्ति से हालचाल पूछा था। मोहल्ले का हर व्यक्ति खुद को राष्ट्रपति मानने लगा है।
घर के बाहर सैकड़ों लोग पहुंचे
बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद मूल रूप से कानपुर देहात के परौंख गांव के रहने वाले हैं। इनके भाई परिवार के साथ गांव में ही रहते हैं। कोविंद ने कुछ दिनों पहले कानपुर शहर के दयानंद विहार कालोनी में चार कमरों वाला मकान खरीदा था। फिलहाल इसमें कोई नहीं रहता। घर में ताला लगा है और पीछे केयरटेकर रहता है। घर के बाहर लोग जमा हो गए हैं। कालोनी की सोसाइटी की ओर से शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए गए हैं।
चमकने लगा कानपुर का दयानंद विहार ।
प्रशासनिक अफसर दयानंद विहार पहुंचे
दयानंद विहार कालोनी की सूरत भी बदलनी शुरू हो गई। नगर निगम और केस्को के अफसर सुबह ही कालोनी पहुंच गए। इसी कालोनी में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का घर है। नगर निगम ने कालोनी के नुक्कड़ के कूड़ाघर को साफ कर दिया है। गलियों में विशेष सफाई कराई गई। नालियां दुरुस्त करा दी गई हैं। सड़कों के गड्ढे भर दिए गए हैं। सुबह से ही सफाई कर्मचारियों की फौज लगी हुई है। दयानंद विहार कालोनी की स्ट्रीट लाइटें बदल दी गई हैं। केस्को ने बिजली के टूटे खंबे बदल दिए तथा जर्जर तार और नया ट्रांसफार्मर रखवा दिया है।

पैतृक गांव परौंख में बज रहे ढोल नगाड़े
कानपुर देहात जिले का परौख गांव आज खुद पर इतरा रहा है। दो दिन से गांव में रुद्रभिषेक, हवन पूजन चल रहा है। गुरुवार को वोटिंग शुरू होते ही रामनाथ कोविंद के गांव में जश्न का माहौल है और लोग होली दिवाली की तरह खुशी मना रहे हैं। जीत को लेकर आशान्वित लोग ढोल नगाड़े बजा रहे हैं। आसपास के गांवों के लोग भी परौंख पहुंच गए हैं। कोविंद के भाई और भतीजों को बधाई देने का सिलसिला सा चल गया है।

[bannergarden id="12"]