Featured Posts

विवाह ना होने से नाखुश युवक ने फांसी लगाकर दी जानविवाह ना होने से नाखुश युवक ने फांसी लगाकर दी जान फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) बीते काफी दिनों से विवाह ना होने से परेशान चल रहे युवक ने नीम के पेंड में लटकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया| कोतवाली क्षेत्र के नगला दलजीत निवासी 28 वर्षीय सालिग्राम पुत्र काली चरन घर में बीती...

Read more

केरल की मदद को PM ने की 500 करोड़ राहत पैकेज की घोषणाकेरल की मदद को PM ने की 500 करोड़ राहत पैकेज की घोषणा कोच्चि:भयंकर बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे केरल के लिए देश और दुनिया एकजुट होकर मदद के लिए सामने आई है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद केरल जाकर बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन और केंद्रीय मंत्री केजे...

Read more

कांवड़ियों पर हमला, डेढ़ दर्जन जख्मी,लगाया जाम फर्रुखाबाद: ट्रेक्टर पर सबार होकर जा रहे कांवड़ियों के साथ कुछ ग्रामीणों ने जमकर मारपीट कर दी| जिससे कई जख्मी हो गये| उन्होंने लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के हथियापुर के निकट से गुजर रहे कांवड़ियों पर ग्रामीणों ने हमला बोल दिया| जिसमे तकरीबन...

Read more

नगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलिनगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि फर्रुखाबाद: पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजेपयी की मौत की खबर से पूरा देश शोक में है| जिसके चलते उनके चाहने वालों ने जगह-जगह अपने तरीके से श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया| कुछ कार्यकर्ताओं ने रेत पर अटल आकृति को उकेर कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की| भाजपा युवा मोर्चा के द्वारा...

Read more

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांसपूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांस नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है। वह 93 साल के थे। अटल जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाजपेयी को सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था। 15 अगस्‍त को उनकी तबीयत काफी बिगड़ गई थी, जिसके...

Read more

पीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़ेपीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़े नई दिल्‍ली:72 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री ने कई सारी बातें कहीं। इनमें से कुछ आपको याद रह गई होंगी तो कुछ को अाप भूल गए होगे। लेकिन यहां पर हम आपको उनका दिया पूरा भाषण दे रहे हैं। आज देश एक आत्‍मविश्‍वास से भरा हुआ है। सपनों को संकल्‍प...

Read more

स्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएमस्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएम फर्रुखाबाद:पूरे जनपद में स्वतन्त्रता दिवस बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया गया| सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में ध्वजारोहण कर मिष्ठान वितरण किया| जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट व एसपी अतुल शर्मा ने पुलिस ने ध्वजारोहण किया| जिलाधिकारी ने कहा की स्वतंत्रता के साथ ही साथ हमे स्वास्थ्य...

Read more

यूपी में शिक्षक भर्ती परीक्षा में 68500 पदों में 41556 अभ्यर्थी उत्तीर्ण इलाहाबाद:परिषदीय स्कूलों की सहायक अध्यापक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा का परिणाम सोमवार को जारी हो गया है। इसमें 41556 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए हैं। यह परिणाम सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 45 और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लिए 40 फीसद उत्तीर्ण प्रतिशत के आधार पर जारी किया गया...

Read more

15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी कानपुर:देश की जीवन दायिनी गंगा नदी को स्वच्छ तथा निर्मल बनाने का काम प्रदेश के साथ केंद्र सरकार की प्राथमिकता में है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कानपुर में नमामि गंगे के तहत हो रहे काम की समीक्षा की। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ...

Read more

बेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ेंबेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ें फर्रुखाबाद: बिल्वपत्र जिसे बेलपत्र का प्रयोग खास तौर से भगवान शिव के पूजन अभिषेक में किया जाता है। लेकिन अगर इसे औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो यह आपकी कई सेहत समस्याओं का बेहतरीन इलाज साबित हो सकता है। यकीन नहीं आता तो बेलपत्र से होने वाले सेहत के इन 5 फायदों को जरूर...

Read more

संचार क्रांति के जनक थे पूर्व पीएम राजीव गांधी

0

फर्रुखाबाद:भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी का 75 वां जन्मदिवस को कांग्रेसियों द्वारा मनाते हुए उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया।
नगर के कांग्रेसी नेता डॉ० पीएन सक्सेना के आवास पर विचार गोष्ठी जिलाध्यक्ष मृत्युंजय शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित हुई| जिसमे राजीव गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये गये| जिलाध्यक्ष ने कहा कि पूर्व पीएम संचार क्रांति के जनक थे। उन्होंने अल्पायु में देश को जो कुछ दिया, देश के युवाओं के लिए आज नजीर बना हुआ है। उनका देश को विकसित राष्ट्र बनाने का सपना असमय मृत्यु के कारण अधूरा रह गया। उन्होंने पंचायती राज व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने का कार्य किया|
प्रदेश सचिव कौशलेन्द्र यादव ने कहा कि राजीव गांधी लोकतंत्र के सच्चे प्रहरी थे। उनकी छवि एक ईमानदार और स्वच्छ नेता की थी। देश हित में बहुत कुछ किया। उन्होंने देश में शांति स्थापित करने के लिए पंजाब, असम और मिजोरम समझौते किए।
वसीमुज्जामा खां, पुन्नी शुक्ला, अरुण अग्निहोत्री, राकेश सागर,जुम्मन खां, रमेश चन्द्र पाण्डेय, आयुष सक्सेना, इमरान अंसारी आदि रहे| संचालन राजेन्द्र कुमार मिश्रा ने किया|

नैनो से भी छोटी है इलेक्ट्रॉनिक माइक्रो कार, फीचर्स हैं दमदार

0

Posted on : 19-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, राष्ट्रीय, सामाजिक

डेस्क: आपको नैनो तो याद होगी। टाटा ने नैनो को बनाना बंद कर दिया है। अब नैनो से भी छोटी इलेक्ट्रॉनिक माइक्रो कार बनाई गई है। स्वीडन की इलेक्ट्रॉनिक कार निर्माता कम्पनी Uniti ने इस कार को तैयार किया है। Uniti One नाम की यह कार दिखने में भले ही नैनो से छोटी हो लेकिन इसके फीचर्स दमदार हैं। आइए जानते है क्या हैं इसके खास फीचर्स-
– यह माइक्रो कार तंग गलियों में भी आसानी से मुड़ सकती है व शहरों के अंदरूनी इलाकों में बिना प्रदूषण किए सफर करने में मदद करती है।
– यूनिटी वन कार को कंट्रोल करने के लिए स्टेयरिंग व्हील नहीं दिया गया, बल्कि ट्विन जॉयस्टिक हैंडलबार को लगाया गया है। सामने की ओर बड़ी विंडशील्ड लगी है। इसके अलावा एक टैबलेट जैसी डिस्प्ले भी लगी है जो चालक को स्पीड से लेकर बची हुई बैटरी पावर की जानकारी देगी।
– Uniti One नामक इलेक्ट्रॉनिक माइक्रो कार को इंडोर में टैस्टिंग करने के बाद आखिरकार दक्षिणी स्वीडन की सड़कों पर दौड़ाया गया। कंपनी के मुताबिक इसकी कीमत 17,300 डॉलर (11 लाख 87 हजार रुपए) रखी गई है।
– कार में सुरक्षा के लिए इसके चारों ओर सैंसर्स लगे हैं जिसे इंटेलीजेंट सेफ्टी टेक्नोलॉजिस के साथ कनेक्टकिया गया है। ये सेंसर्स किसी भी वस्तु के पास आने या उससे टक्कर होने से पहले उसका पता लगा लेंगे व यह सेफ्टी सिस्टम कार को दूसरी तरफ मोड़ देगा जिससे दुर्घटना होने से बचा जा सकेगा।
– इस माइक्रो नैनो नैनो से भी काफी कम रखा गया है। इसे एक बार फुल चार्ज कर 150 से 300 किलोमीटर तक का सफर तय किया जा सकता है।
– कंपनी के अनुसार यह माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक कार 3.5 सेकंड में 0 से 80km/h की स्पीड पर पहुंच जाती है और इसकी टॉप स्पीड 130km/h की बताई गई है।
– माइक्रो कार में 22 kWh क्षमता के बैटरी पैक को लगाया गया है। वहीं मेन बैटरी के बैकअप के लिए अलग से ऑग्जिलरी बैटरी यूनिट भी लगा है जिसे आप घर में या ऑफिस में चार्ज कर मेन बैटरी के खत्म होने पर भी 30 किलोमीटर तक के सफर को तय कर सकते हैं।
– माइक्रो कार में ड्राइवर समेत एक यात्री के सफर करने की सुविधा है। इस टू सीटर कार की लम्बाई 2.91 मीटर, चौड़ाई 1.2 मीटर और ऊंचाई 1.4 मीटर है। वहीं इसका वजन 450 किलोग्राम है जो नैनो कार से भी काफी कम है।

अटलजी की अस्थियां हरकी पैड़ी पर गंगा में विसर्जित

0

हरिद्वार:भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री जन-नायक अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां रविवार को ‘अटल तुम लौट के आना और भारत माता की जय’ के गगनभेदी नारों के बीच पूरे विधि-विधान और वैदिक मंत्रोचारण के साथ हरकी पैड़ी ब्रह्मकुंड पर गंगा में विसर्जित कर दी गईं। अस्थि विसर्जन के निमित्त कर्म-कांड उनकी दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य, दामाद रंजन भट्टाचार्य, नातिन निहारिका भट्टाचार्य और भांजे भाजपा सांसद अनूप मिश्रा ने किया।
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्‍तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित स्थानीय व बाहर से आए गणमान्य व्यक्तियों के साथ बड़ी संख्या में संतगण प्रमुख रूप से मौजूद थे। इस मौके पर अपने प्रिय नेता को अंतिम विदाई देने के लिए गंगा घाट पर लाखों की संख्या में अटल समर्थकों का जन-सैलाब उमड़ पड़ा। जिस वक्त ब्रह्मकुंड पर वाजपेयी परिवार के तीर्थ पुरोहित पंडित अखिलेश शर्मा ‘शास्त्री’ और श्रीगंगासभा के आचार्य हरिओम जैवाल अस्थि विसर्जन का कर्म-कांड संपन्न करा रहे थे, उस वक्त पाश्र्व में अटल जी के प्रसिद्ध भाषण की ये पंक्तियां गूंज रही थी कि’..और मरने के बाद भी गंगाजल में बहती हुई हमारी अस्थियों को कोई कान लगाकर सुनेगा तो एक ही आवाज आयेगी, भारत माता की जय।’
इससे पहले अटल जी का अस्थि कलश लेकर उनके परिजन, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और अटल जी के सहयोगी शिवकुमार सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे जौलीग्रांट हवाई अड्डे से हरिद्वार भल्ला कॉलेज स्टेडियम अस्थाई हैलीपैड पहुंचे। यहां से अस्थि कलश को रथ में तब्दील सेना के ट्रक में रख अस्थि कलश यात्रा हरकी पैड़ी रवाना हुई। इस दौरान अटल बिहारी वाजपेयी को अपने श्रृद्धा सुमन अर्पित करने को जन-सैलाब सड़कों पर उतर आया, क्या बच्चे और क्या बूढ़े।
विदेशियों ने भी उन्हें श्रृद्धा सुमन अर्पित किए। पूरे रास्ते प्रसिद्ध गीत ‘ए मेरे वतन के लोगों की पंक्तियां’ खुश रहना देश के प्यारों, अब हम तो सफर करते हैं’ गूंज रही थी। जगह-जगह अटल के कट-आउट लगे हुए थे, उनमें उल्लखित थीं, उनके भाषण और कविताओं की पंक्तियां।
डेढ़ घंटे का सफर पूरा कर अस्थि कलश यात्रा तकरीबन एक बजे हरकी पैड़ी पहुंची, यहां श्रीगंगा सभा ने श्रृद्धांजलि सभा का आयोजन किया हुआ था। अस्थि कलश को यहां बने मंच पर कुछ देर सभी के दर्शनार्थ रखा गया, यहां मौजूद संतों ने उन्हें अपने श्रृद्धा सुमन अर्पित किए और अटल जी के साथ अपने संस्मरणों को साझा किया। यहां से अस्थियों को ब्रह्मकुंड अस्थि विसर्जन स्थल ले जाया गया, जहां अटल बिहारी वाजपेयी परिवार के तीर्थ पुरोहित पंडित अखिलेश शर्मा ‘शास्त्री’ और श्रीगंगासभा के आचार्य हरिओम जैवाल ने वैदिक मंत्रोचारण के बीच पिंडदान व तिलांजलि आदि समस्त कर्म-कांड को पूरा कराते हुए अस्थियों को गंगा में उसका विसर्जन करा दिया।
अस्थियों को गंगाजल से कराया स्नान
भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों को हरकी पैड़ी पर गंगाजल से स्नान कराने के बाद वैदिक मंत्रोचारण के साथ दुग्ध स्नान कराने के बाद अन्य कर्म-कांड पूरा करने के साथ गंगा में विसर्जित किया गया। वाजपेयी परिवार के तीर्थ पुरोहित पंडित अखिलेश शर्मा ‘शास्त्री’ ने बताया कि अस्थियों को सर्व प्रथम गंगाजल से स्नान कराने के बाद ही अन्य कर्म-कांड शुरु किए गए।

अटल बिहारी वाजपेयी के 20 अस्थि कलश 21 को लखनऊ आएंगे

0

Posted on : 19-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय, सामाजिक

लखनऊ:पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का लखनऊ से गहरा नाता रहा है। उनके निधन के बाद से ही शोक की लहर है। रविवार को यहां उनकी अस्थियां आने वाली थी लेकिन, अब मंगलवार को हरिद्वार से विशेष विमान से 20 अस्थि कलश आएंगे। इसके बाद प्रदेश के सभी 18 मंडलों के लिए अलग-अलग अस्थि कलश यात्रा रवाना होगी। इनको प्रमुख नदियों में प्रवाहित किया जाएगा।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय और संगठन महामंत्री सुनील बंसल ने कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की है। इसके लिए पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों की जिम्मेदारी और जवाबदेही तय की गई है। प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक, गोविंद नारायण शुक्ल और प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर को अलग-अलग कार्यक्रम का नेतृत्व सौंपा गया है। इनके सहयोग में भी पदाधिकारी लगाए गए हैं। अटल के प्रति उमड़ रहे भावनाओं के ज्वार को एक बड़ा मंच देने की तैयारी की गई है। रविवार को हरिद्वार में उनकी अस्थियां प्रवाहित की जानी थी, इसलिए लखनऊ के आयोजन को टाल दिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हरिद्वार पहुंचे थे। अब अस्थि कलश लेने डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, संगठन के पदाधिकारी और राज्य सरकार के मंत्री जाएंगे। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पांडेय का कहना है कि बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी अटल जी ने सात दशकों तक भारतीय राजनीति को एक दिशा दी है। ऐसे महापुरुष को अंतिम प्रणाम करने का अवसर सभी को मिलेगा। अस्थि कलश यात्रा के बाद भाजपा की सांगठनिक 92 जिला इकाइयों और 1400 से अधिक मंडल इकाइयों में भी श्रद्धांजलि सभा आयोजित होगी।
भाजपा मुख्यालय पर अस्थि कलश दर्शन
मंगलवार को भाजपा मुख्यालय में अटल के अस्थि कलश दर्शनार्थ रखे जाएंगे। फिर प्रदेश के 18 मंडल मुख्यालयों के लिए कलश यात्रा रवाना की जाएगी। हर मंडल में एक प्रमुख नदी में अस्थियों का विसर्जन होगा। मसलन मेरठ मंडल में गढ़मुक्तेश्वर में गंगा नदी, सहारनपुर के सरसांवा में यमुना, मुरादाबाद में रामगंगा, आगरा में यमुना, चित्रकूट में मंदाकिनी, झांसी में बेतवा, अयोध्या में सरयू, गोरखपुर में राप्ती, आजमगढ़ में तमसा, इलाहाबाद में संगम में अटल की अस्थियां विसर्जित होंगी। इस कलश यात्रा को भाजपा मुख्यालय से प्रदेश सरकार के एक मंत्री और भाजपा संगठन के एक प्रमुख पदाधिकारी लेकर जाएंगे।
लखनऊ में गोमती नदी के किनारे झूलेलाल पार्क में 23 अगस्त को एक श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जा रही है। भाजपा उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर ने बताया कि इस सभा में अटल जी की दत्तक पुत्री समेत उनका परिवार व उनके निजी सलाहकार शिव कुमार शामिल होंगे। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रमुख राजनीतिक दलों के अध्यक्ष, धर्म गुरु और लखनऊ महानगर के लोग अटल के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। शाम को उनका अस्थि कलश गोमती नदी में प्रवाहित किया जाएगा।

केरल की मदद को PM ने की 500 करोड़ राहत पैकेज की घोषणा

0

कोच्चि:भयंकर बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे केरल के लिए देश और दुनिया एकजुट होकर मदद के लिए सामने आई है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद केरल जाकर बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन और केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस भी थे। साथ ही, उन्होंने मुख्यमंत्री विजयन समेत उच्च अधिकारियों के साथ बैठक कर बाढ़ से हुए नुकसान और स्थिति का जायजा लिया।
इस बीच पीएम मोदी ने केरल के लिए 500 करोड़ रूपये के राहत पैकेज की भी घोषणा की है। केंद्र सरकार पहले ही केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों के लिए 100 करोड़ रुपये की राहत दे चुकी है। इसके आलावा प्रधानमंत्री ने राज्य को खाद्यान और दवाई की सप्लाई का आशवासन दिया है। साथ ही उन्होंने बाढ़ से हुए जान और माल के नुकसान पर शोक भी व्यक्त किया है।
केरल की मदद के लिए PM मोदी की घोषणा
केंद्र ने प्रधानमंत्री राहत कोष से बाढ़ में मारे गए व्यक्ति के परिजनों को दो लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीमा कंपनियों को स्पेशल कैंप लगाकर बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन करने और उसके आधार पर विभिन्न सामाजिक सुरक्षा के तहत मिलने वाली राशि/सहायता को शीघ्र जारी करने को कहा है। किसानों की फसल को हुए नुकसान को देखते हुए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से मिलने वाली राशि को शीघ्र जारी करने को कहा है।
बिजली की व्यवस्था सुचारू बनाने का निर्देश
इस बीच पीएम मोदी ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया से खराब सड़कों की तुरंत मरम्मत और NTPC और PGCIL को राज्य में बिजली की व्यवस्था को जल्दी-जल्दी सुचारू बनाने के निर्देश दिए है। जिन लोगों के कच्चे घर बाढ़ में नष्ट हो गए हैं, उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत शीघ्र आवास दिलाने को कहा गया है। पीएम ने कहा, ‘केंद्र सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं, बागवानी के एकीकृत विकास प्राथमिकता के आधार पर केरल के प्रभावित (बाढ़) लोगों तक पहुंचे।’
पीएम मोदी ने ट्वीट कर बताया कि एनडीआरएफ, बीएसएफ, सीआइएसएफ और आरएएफ की कंपनियों को राज्य में बचाव और राहत कार्यों के लिए तैनात किया गया है। वहीं, वायुसेना, सेना, नौसेना और तटरक्षक केरल के विभिन्न हिस्सों में परिचालन में सहायता कर रहे हैं। बाढ़ में फंसे हुए लोगों का रेस्क्यू सर्वोच्च प्राथमिकता बनी हुई है।
मदद के लिए आगे आए कई राज्य
इस बीच केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 10-10 करोड़ रुपये की राशि देने की घोषणा की है। वहीं, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू भी केरल को मदद के तौर पर 10 करोड़ रुपये देने की घोषणा कर चुके हैं। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने 25 करोड़ रुपये की मदद देने का ऐलान किया है। ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की। इसके साथ ही वे बचाव कार्य के लिए 254 दमकल कर्मचारी और नाव भी भेजेंगे।
संयुक्त राष्ट्र केरल में बाढ़ से हुई तबाही पर चिंतित
केरल में बाढ़ से मची भारी तबाही पर संयुक्त राष्ट्र ने चिंता जाहिर की है। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस केरल में बांध से लोगों की मौत और तबाही से चिंतित हैं। वैश्विक संगठन इस घटनाक्रम पर करीब से नजर बनाए हुए है।

[bannergarden id="12"]