Featured Posts

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

हम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र बोलते हैंहम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र... जौनपुर. काशी में शनिवार को रोड शो करने के बाद नरेंद्र मोदी ने जौनपुर में रैली की। उन्होंने कहा- "हम सबका साथ-सबका विकास का नारा देते हैं। सपा- कांग्रेस वाले कुछ का साथ-कुछ का विकास की ही बात कहते हैं। मैं आपको गारंटी देता हूं कि बीजेपी सरकार की पहली मीटिंग में किसानों का कर्जा...

Read more

एफआईआर दर्ज करने में हीला हवाली करने वाले पुलिसकर्मियों पर होगी कार्यवाही: डीजीपी

0

Posted on : 26-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, LUCKNOW, POLICE, सामाजिक

लखनऊ: यूपी में एफआईआर दर्ज करने में हीला हवाली करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सुलखान सिंह ने कहा है, सभी प्रकरणों में एफआईआर दर्ज करने में किसी प्रकार की हीला हवाली ना की जाए एवं इसमें क्षेत्राधिकार के विवाद में ना पडकर शिकायतकर्ता की एफआईआर तत्काल दर्ज की जाए। एफआईआर ना दर्ज करने पर संबंधित थाना प्रभारी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। सिंह ने जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर उचित निर्देश दिये हैं। इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि गोरक्षा और प्रेम संबंध जैसे मुद्दों पर कानून हाथ में लेकर हिंसा करने वालों और अराजकता फैलाने वालों के खिलाफ कडी कार्रवाई की जानी चाहिए। डीजीपी ने एंटी रोमियो स्क्वायड के बारे में कहा कि एक ‘स्टैडिंग आर्डर’ तैयार करा लिया जाये जिसमें ‘क्या करें और क्या ना करें’ स्पष्ट रूप से वर्णित हो। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक स्क्वायड की स्वयं ब्रीफिंग करें, स्क्वायड को किसी प्रकार की कोई तफ्तीश नहीं करनी है, केवल उद्दंड व्यक्तियों के खिलाफ ही कार्रवाई की जाये।

उन्होंने कल पुलिस कप्तानों से बातचीत करते हुए कहा कि ऐसे सभी व्यक्तियों को जेल न भेजा जाये बल्कि उनके अभिभावकों को बुलाकर समझाया जाये। एन्टी रोमियो स्क्वायड यथासम्भव उपरोक्त समस्त कार्रवाई को बाडी कैमरा या वीडियो कैमरे से रिकार्ड करें।सिंह ने निर्देश दिया कि किसी भी स्थिति में कोई नई परम्परा स्थापित नहीं होगी, किसी मुद्दे पर रोड जाम होने नहीं दिया जाये। सभी बड़े कस्बों और जनपद मुख्यालय पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक तथा समस्त अधिकारी जनप्रतिनिधियों की बैठक कर उनका सहयोग लें। इसी तरह लेबर यूनियन, अधिवक्ता एवं समाज के अन्य प्रबुद्घ वर्गों के साथ बैठक कर एक तारतम्य स्थापित किया जाये एवं उनका विश्वास जीता जाये।

यातायात व्यवस्था पर डीजीपी ने कहा कि सड़कों पर यातायात व्यवस्था में अपेक्षित सुधार लाया जाये। अतिक्रमणकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की जाये तथा ‘सड़क अनुशासन’ का मजबूती से पालन किया जाये। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी हर दिन सुबह कार्यालय में बैठकर जनता की समस्याओं का निस्तारण करें। पुलिस लाइन में सभी अधिकारी साप्ताहिक परेड में भाग लें एवं अनुशासन स्थापित करें। सिंह ने स्पष्ट निर्देश दिया कि पुलिस कार्रवाई के दौरान किसी भी स्थिति में किसी व्यक्ति को अपमानित ना किया जाए। सभी व्यक्तियों से सम्मानपूर्वक व्यवहार किया जाए।

कोतवाली के मुन्शी के खिलाफ तहरीर

0

Posted on : 26-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के नाला मछरट्टा निवासी अंकुर ने कोतवाली के मुन्शी महेश के खिलाफ रिश्वत मांगने का आरोप लगाकर तहरीर दी है।

अंकुर ने दी गयी तहरीर में कहा है कि वह बीते 24 अप्रैल को अपने दोस्त पक्कापुल निवासी रामू गुप्ता पुत्र महेशचन्द्र गुप्ता के साथ कोतवाली गया था। उसकी मोटरसाइकिल के कागजात गिर गये थे। जब वह कोतवाली कार्यालय पहुंचे तो मुन्शी ने उससे रिश्वत मांगी। जब अंकुर ने बताया कि वह व्यापार मण्डल का पदाधिकारी तो मुन्शी ने गाली गलौज कर कोतवाली से भगा दिया। इस सम्बंध में अंकुर श्रीवास्तव ने कोतवाल डी के सिंह को तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

रबर बुलेट का नाम नहीं बता पाया हेड मोहर्रिर

0

Posted on : 26-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: (जहानगंज) थाना परिसर का निरीक्षण करने पहुंचे सीओ मोहम्मदाबाद उमेश शर्मा तब अचंभित रह गये जब थाने का हेड मोहर्रिर उन्हें रबर बुलेट का नाम नहीं बता सका। जिस पर सीओ ने नाराजगी व्यक्त की।

सीओ उमेश शर्मा ने थाने में लगी खराब आर ओ मशीन और उसकी गंदगी को जल्द दुरुस्त करने के निर्देश थानाध्यक्ष नरेन्द्र कुमार गौतम को दिये। उन्हें आगन्तुक रजिस्टर अपूर्ण मिला। कैश डायरी पर लगभग 10 दिनों से थानाध्यक्ष के हस्ताक्षर नहीं थे। पंचनामा रजिस्टर में भी गड़बड़ मिला। जिस पर सीओ ने थाने के पुलिस कर्मियों को सख्त निर्देश दिये कि सभी अपनी आदत में सुधार लायें। उन्होंने थाने के हथियारों का भी बारीकी से निरीक्षण किया।

बीडीओ को छात्राओं ने चप्पल लेकर दौड़ाया

0

Posted on : 25-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

छात्राओं ने स्कूटी में टक्कर मारने से आक्रोषित होकर बीडीओ को चप्पल लेकर दौड़ा दिया। बाद में पुलिस ने बीच बचाव कर मामले को रफा दफा किया।

कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला हाथीखाना निवासी एक छात्रा स्कूटी से कन्नौज के छिबरामऊ बीएड की परीक्षा देकर अपनी कुछ साथी युवतियों के साथ लौट रही थी। तभी मैनपुरी जनपद में बीडीओ के पद पर तैनात अधिकारी ने अपनी कार से युवती की स्कूटी में टक्कर मार दी। जिससे स्कूटी क्षतिग्रस्त हो गयी। बीडीओ ने अपनी कुर्सी का धौंस युवती को दिखाया। लेकिन युवती के समर्थन में उसकी अन्य साथी छात्रायें भी आ गयीं और उन्होंने बीडीओ को चप्पल लेकर दौड़ा दिया। पता चला है कि बीडीओ सेन्ट्रल जेल आर्यावर्त ग्रामीण बैंक नारायनपुर के पीछे रह रहे हैं। मौके पर सेन्ट्रल जेल चैकी इंचार्ज ने पहुंचकर मामले को रफादफा कराया।

सेन्ट्रल जेल चौकी इंचार्ज अतुल कुमार ने बताया की वह बाहर है उन्हें मामले की जानकारी नही है|

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को पॉस्को कोर्ट से मिली जमानत

0

Posted on : 25-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, Politics- Sapaa

लखनऊ: रेप केस में फंसे उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता गायत्री प्रसाद प्रजापति को पॉस्को कोर्ट से आखिरकार जमानत मिल ही गई. उनके खिलाफ एक युवती ने रेप का मामला दर्ज कराया था. युवती का आरोप था कि गायत्री प्रजापति ने उसके साथ प्लॉट दिलाने के नाम पर बलात्कार किया था|

यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को लखनऊ की पॉस्को कोर्ट ने मंगलवार को जमानत दे दी. यही नहीं उनके दो साथी पिंटू और विकास को भी अदालत ने जमानत पर रिहा कर दिया. इन सभी को कोर्ट ने एक एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दी है| गायत्री प्रजापति के वकील सुनील सिंह ने बताया कि पिछले एक महीने से लखनऊ के आदर्श कारागार में बंद गायत्री प्रजापति मंगलवार की देर शाम तक जेल से रिहा हो सकते हैं| बताते चलें कि चुनाव के दौरान ही उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था. तब वे फरार हो गए थे, लेकिन बाद में लखनऊ पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था|

गौरतलब है कि रेप पीड़िता के मुताबिक, साल 2014 में नौकरी और प्लॉट दिलान के बहाने उसे गायत्री प्रसाद प्रजापति ने लखनऊ स्थित गौतमपल्ली आवास पर बुलाया. वहां चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया गया. इसके बाद वह अपना सुध-बुध खो बैठी. बेहोशी की हालत में मंत्री और उसके सहयोगी ने रेप किया था. इसका अश्लील वीडियो बनाते हुए तस्वीरें भी ली गई थीं|

पीड़िता का यह भी आरोप है कि अश्लील वीडियो और तस्वीरों के जरिए गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके सहयोगी साल 2016 तक उसे और उसकी बेटी को हवस का शिकार बनाते रहे. इससे तंग आकर उसने 7 अक्टूबर 2016 को थाने में तहरीर दी, लेकिन उस पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी| इसके बाद पीड़िता सूबे के आलाधिकारियों से भी मिली थी|

पुलिस से जब पीड़िता को इंसाफ नहीं मिला, तो उसने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. लेकिन वहां उसकी याचिका को खारिज कर दिया गया. इसके बाद भी पीड़िता हार नहीं मानी. वह सुप्रीम कोर्ट के दर पर पहुंची. सुप्रीम कोर्ट ने गायत्री प्रसाद प्रजापति को जोरदार झटका देते हुए पुलिस को निर्देश दिया कि इस मामले में केस दर्ज करके तेजी से जांच की जाए|

[bannergarden id="12"]