Featured Posts

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

हम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र बोलते हैंहम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र... जौनपुर. काशी में शनिवार को रोड शो करने के बाद नरेंद्र मोदी ने जौनपुर में रैली की। उन्होंने कहा- "हम सबका साथ-सबका विकास का नारा देते हैं। सपा- कांग्रेस वाले कुछ का साथ-कुछ का विकास की ही बात कहते हैं। मैं आपको गारंटी देता हूं कि बीजेपी सरकार की पहली मीटिंग में किसानों का कर्जा...

Read more

पीएम नरेंद्र मोदी समेत अब कोई नहीं कर पाएगा लालबत्ती का इस्तेमाल

1

Posted on : 19-04-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अब लालबत्ती का इस्तेमाल नहीं करेंगे और न ही कोई मंत्री. 1 मई से अधिकारियों, मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों और जजों को अपनी कारों पर लालबत्ती इस्तेमाल करने पर प्रतिबंधित कर दिया गया है. केवल आपातकालीन वाहनों को नीली बत्ती इस्तेमाल की अनुमति होगी. केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपनी खुद की कार से लालबत्ती हटाने के बाद ये जानकारी दी. इसका एक सांकेतिक महत्व भी है. 1 मई को मजदूर दिवस है. सो इस दिन मोदी सरकार यह संदेश देना चाहती है कि उसके मंत्री वीआईपी कल्चर से दूर रहेंगे|

उल्लेखनीय है कि पीएम मोदी की कैबिनेट ने आज बैठक की, जिसमें VVPAT मशीनों की खरीद और लालबत्ती पर फैसला लिया. पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ लालबत्ती का इस्तेमाल पहले ही छोड़ चुके हैं| वैसे, आमतौर पर वीआईपी रूट के दौरान पुलिस बैरिकेट्स लगा देती है और कई जगह का ट्रैफिक रोक देती है, जिसकी वजह से आम लोगों को काफी दिक्कत होती है. इसी महीने की शुरुआत में एक वीडियो भी वाय़रल हुआ था, जिसमें एक एम्बुलेंस को पुलिस ने रोक दिया था, जिसमें घायल बच्चे को ले जाया जा रहा था|

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक- काफी वक्त से सड़क परिवहन मंत्रालय में इस मुद्दे पर काम चल रहा था. इससे पहले पीएमओ ने इसपर चर्चा के लिए एक बैठक बुलाई थी. यह मामला प्रधानमंत्री कार्यालय में लगभग डेढ़ साल से लंबित था. इस दौरान पीएमओ ने पूरे मामले पर कैबिनेट सेक्रटरी सहित कई बड़े अधिकारियों से चर्चा की थी. इसमें विकल्प दिया गया था कि संवैधानिक पदों पर बैठे 5 लोगों को ही इसके इस्तेमाल का अधिकार हो. इन पांच में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस और लोकसभा स्पीकर शामिल हों, हालांकि पीएम ने किसी को भी रियायत न देने का फैसला किया|

बिजली के इंतजार में गुजरा पीएम का भाषण

0

Posted on : 14-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) पंचायतों में पीएम के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखने के लिये जादातर ग्रामीण बिजली ना आने से खफा दिखे| टीवी भी थी और डिस भी लेकिन बिजली ने दगा दे दिया| जबकि सीएम योगी के खास निर्देश थे कि ग्रामीण क्षेत्रो में 18 घंटे बिजली मिलेगी | लेकिन इसके बाद भी भी बिजली ने अपना रंग दिखाया|

भीमराव अंबेडकर की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन का सीधा प्रसारण जिला स्तर पर स्थानीय पंचायत भवन में इसका सीधा प्रसारण होना था| सभी प्रधानो और अफसरों को इसको सफल बनने के निर्देश भी दिये गये थे| दोपहर 12.35 बजे प्रधानमंत्री महाराष्ट्र के नागपुर से अंबेडकर जयंती पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया। इसका सीधा प्रसारण जन-जन तक पहुंचे इसके लिए जिलास्तर, खंड स्तर, पंचायत स्तर पर व्यवस्थाके आदेश थे| पंचायत भवन में इस कार्यक्रम से पहले डिजिटल मेला लगाये जाने का फरमान भी था जिसमे कैशलेस भुगतान के बारे में लोगों को जागरूक किया जाना था। नई-नई तकनीक के माध्यम से इस प्रणाली को समझाने के लिए विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद रखने के भी निर्देश थे।

इन सभी से जादा महत्वपूर्ण था पीएम मोदी का नागपुर से भाषण का सीधा संवाद जिससे देश की जनता पीएम के भाषण को सुन सके| क्षेत्र के ग्राम महद्दीनपुर के प्रधान सबित्री कटियार ने टीवी आदि की व्यवस्था मकर ग्रामीणों ओ एकत्रित किया| लेकिन सुबह 7 बजे से बिजली गायब होने से वह बंचित रहे| वही ग्राम महमदपुर अमलैया , दानमंडी, पतौंजा, सिरौंज में सहित दर्जनों गाँवों में भाषण सुनने की व्यवस्था नही की गयी| जिससे ग्रामीण मायूस रहे|

शपथ का दिन, समय, स्थान सब तय… बस आज यूपी के सीएम के नाम की घोषणा होनी बाकी

Comments Off on शपथ का दिन, समय, स्थान सब तय… बस आज यूपी के सीएम के नाम की घोषणा होनी बाकी

Posted on : 18-03-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

नई दिल्ली: देश की राजनीति में अभी का सबसे बड़ा सवाल यही है कि कौन बनेगा यूपी का मुख्यमंत्री. यूपी में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के फौरन बाद शुरू हुई अटकलों पर अभी तक विराम नहीं लगा है और शायद फिलहाल लगेगा भी नहीं. यह सत्ता और सियासत की रेस है, जहां पल में बाजियां पलटती हैं, घटनाक्रम बदलते हैं और नाम आते-जाते रहते हैं. यूपी का सीएम कौन होगा, इसका सही जवाब सिर्फ दो लोगों के पास है- वे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह.

गोवा और मणिपुर में सरकार बना लेने के बाद,बीजेपी ने उत्तराखंड का मुख्यमंत्री भी तय कर लिया है. RSS के प्रचारक रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत शनिवार को शपथ लेंगे. लेकिन बीजेपी के सबसे बड़े चुनावी दुर्ग का नेता तय होना बाक़ी है. शनिवार शाम चार बजे विधायक दल की बैठक के बाद बीजेपी यूपी के अगले मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान करेगी. यानी उत्तराखंड में जब शपथ ग्रहण समारोह चल रहा होगा, उसी समय यूपी में नेता चुना जा रहा होगा.

बीजेपी के विधायक दल की बैठक लोक भवन में होगी. केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव मुख्यमंत्री निर्वाचित करने के लिए बैठक में मौजूद होंगे. और फिर रविवार शाम 5 बजे उत्तर प्रदेश को मिलेगा उसका नया मुख्यमंत्री और नई सरकार. राज्यपाल राम नाइक ने लखनऊ में बयान जारी कर कहा है कि यूपी के नए मुख्यमंत्री अपनी कैबिनेट के सहयोगियों के साथ 19 मार्च को शाम 5 बजे कांशीराम स्मृति उपवन में शपथ लेंगे. मीडिया में कई नाम चर्चा में हैं, लेकिन औपचारिक ऐलान लखनऊ में शनिवार शाम विधायक दल की बैठक में ही होगा.

राजनाथ सिंह से लेकर मनोज सिन्हा तक कई नाम सोशल मीडिया और राजनीतिक गलियारे में घूम रहे हैं. वैसे तो मनोज सिन्हा रेस में सबसे आगे बताए जा रहे हैं लेकिन वो खुद किसी भी रेस में होने से इनकार कर रहे हैं. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि अगर अभी नाम का खुलासा कर देंगे तो फिर शनिवार को होने वाली विधायक दल की बैठक का क्या मतलब रह जाएगा. मीडिया में कयास लगते रहे लेकिन बीजेपी का कोई भी बड़ा नेता मुंह खोलने को तैयार नहीं हुआ. दिल्ली में भी बीजेपी के बड़े नेताओं की बैठकें चलती रहीं. शुक्रवार देर रात पार्टी के उपाध्यक्ष दिनेश शर्मा को दिल्ली बुलाया गया, लेकिन दिनेश शर्मा इसे सामान्य बात मान कर टाल गए. दिनेश शर्मा बोले, मैं उपाध्यक्ष हूं पार्टी का, दिल्ली आता रहता हूं.

यहां याद रखना चाहिए कि पिछले साल आनंदीबेन पटेल जब गुजरात सीएम के पद से हटी थीं तो उसके बाद नितिन पटेल का नाम तय माना जा रहा था. यहां तक कि उन्होंने ख़ुद मीडिया से मुख्यमंत्री के तौर पर शुभकामनाएं भी स्वीकार कर ली थीं लेकिन विधायक दल की बैठक में विजय रूपानी का नाम प्रस्तावित किया गया और वो सीएम बन गए. कोई बड़ी बात नहीं कि शनिवार को यूपी में भी ऐसा ही कुछ होता नज़र आए.

विजय के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी : पीएम मोदी

Comments Off on विजय के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी : पीएम मोदी

Posted on : 12-03-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद बीजेपी हेडक्वार्टर में आयोजित अभिनंदन समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव सिर्फ सरकार बनाने के लिए नहीं होते हैं, बल्कि यह लोकशिक्षण का माध्यम भी है. उन्होंने कहा कि अकल्पनीय भारी मतदान के बाद अकल्पनीय भारी विजय होता है, यह पोलिटिकल पंडितों के लिए विचार करने को मजबूर करता है. भावनात्मक मुद्दों के अलावा विकास एक कठिन चुनावी मुद्दा होता है. पिछले 50 सालों में विभिन्न राजनीतिक दल इस मुद्दे से कतराते रहे हैं|

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस जीत के लिए बीजेपी की चार पीढ़ियां खप गईं. हर चुनाव के साथ हमारा समर्थन बढ़ता गया. यह बीजेपी का स्वर्णिम युग है. उन्होंने कहा, चुनाव में कौन जीता, कौन हारा, मैं इस दायरे में सोचने वालों में से नहीं हूं. चुनाव का नतीजा हमारे लिए जनता जनार्दन का पवित्र आदेश होता है. जीत के फल के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी है. सत्ता जनता की सेवा करने का एक अवसर होती है. पीएम मोदी ने कहा, मैं देश की गरीबों की शक्ति को पहचान पाता हूं और राष्ट्र के निर्माण में गरीबों को जितना ज्यादा अवसर मिलेगा, देश उतना प्रगति करेगा. गरीब को अगर काम का अवसर मिला, तो वह देश के लिए ज्यादा काम करके दिखाएगा|

प्रधानमंत्री मोदी ने पांचों राज्यों की जनता का धन्यवाद देते हुए कहा कि जिन्होंने वोट दिया भाजपा की सरकार उनकी भी है, जिन्होंने नहीं दिया उनकी भी है. इसलिए वोट दिया कि नहीं दिया यह कोई मायने नहीं रखता. प्रधानमंत्री ने कहा सरकार सबकी होती है, सबके लिए होती है और सबको साथ लेकर चलने के लिए होती है. सरकार को कोई भेदभाव करने का हक नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा, मैं ऐसा पीएम जिससे पूछा जाता है, इतनी मेहनत क्यों करते हो…इससे बड़ा सौभाग्य क्या होगा|

अपने पीएम नरेंद्र मोदी के भव्य अभिनंदन समारोह में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने लोगों को होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ये होली देश और भाजपा दोनों के लिए अनोखा रंग लेकर आई है. उन्होंने कहा कि यूपी की जीत हर मामले में अप्रत्याशित रही. उत्तराखंड में भी प्रचंड बहुमत के साथ बीजेपी सरकार बनाने जा रही है. मणिपुर और गोवा में भी वहां की जनता ने भाजपा को भरपूर समर्थन दिया और हमारा प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा. पांचों राज्यों के चुनावों के नतीजे 2014 के लोकसभा चुनावों से भी दो कदम आगे है.

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि इस बार हमें 2014 से भी बड़ा समर्थन मिला है और देश का गरीब नोटबंदी के फैसले पर बीजेपी के साथ है. अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी आजादी के बाद सर्वाधिक लोकप्रिय नेता बनकर उभरे हैं. बीजेपी की विजय यात्रा हिमाचल, गुजरात होते हुए पूर्व और दक्षिण में भी पहुंचेगी. इस समारोह में शामिल होने के लिए पीएम मोदी ली मेरीडियन होटल से बीजेपी दफ़्तर तक पैदल पहुंचे. इस दौरान उन पर फूलों की बारिश की गई. बीजेपी दफ्तर पहुंचने के बाद पीएम ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर फूल चढ़ाए. बीजेपी के इस जश्न में बड़ी संख्या मेें पार्टी कार्यकर्ता और कई दिग्गज नेता मौजूद रहे. पार्टी दफ्तर में ढोल-नगाड़े की थाप पर बीजेपी कार्यकर्ता नाचते-गाते दिखे.

बीजेपी मुख्यालय में पीएम मोदी के स्वागत की भव्य तैयारी की गई. वहां होली के रंगीन होर्डिंग के जरिये विधानसभा चुनावों में बीजेपी का समर्थन करने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया गया. ली मेरिडियन होटल से लेकर बीजेपी मुख्यालय तक के रास्ते के बीच लोगों की भीड़ के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के खास इंतजाम किए थे. पार्टी कार्यकर्ता पीएम मोदी के बड़े-बड़े कटआउट लेकर सड़कों के दोनों ओर खड़े दिखे. स्वागत समारोह में कई केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

स्वागत समारोह के बाद बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक होनी है, जहां यूपी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों के नाम तय किए जा सकते हैं. कहा जा रहा है कि यूपी में मुख्यमंत्री पद के लिए केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा का नाम सबसे आगे चल रहा है. वहीं अमित शाह के क़रीबी दिनेश शर्मा भी रेस में हैं.

यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, महासचिव श्रीकांत शर्मा समेत कई और नामों की चर्चा चल रही है. वहीं उत्तराखंड में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क़रीबी त्रिवेंद्र सिंह रावत, सतपाल महाराज, प्रकाश पंत जैसे कई नाम रेस में हैं.

मोदी जी को दूसरों के बाथरूम में झांकना पसंद है: राहुल गांधी

Comments Off on मोदी जी को दूसरों के बाथरूम में झांकना पसंद है: राहुल गांधी

Posted on : 11-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लखनऊ में शनिवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में न्यूनतम साझा कार्यक्रम जारी किया. सपा-कांग्रेस के साझा कार्यक्रम के मुख्य बिंदुओं में गरीबों के लिए स्मार्ट फोन, कौशल विकास, मुफ्त साइकिलें और मकान शामिल हैं|

अखिलेश ने कहा कि पहले चरण के मतदान के शुरुआती वोटिंग रुझान से खुश हूं. शुरुआती वोट सपा-कांग्रेस गठबंधन को मिला और इसलिए गठबंधन आगे रहेगा. भावनाओं और क्रोध की कोई जरुरत नहीं. ये चुनाव राज्य के विकास और समृद्धि के लिए हैं| जबकि राहुल ने कहा, हमें युवाओं और दूरदृष्टि वाली सरकार चाहिए. साझा कार्यक्रम में ये दस बिंदू विकास की नींव हैं|

अखिलेश-राहुल ने पीएम मोदी पर साधा निशाना
अखिलेश और राहुल गांधी ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राशिफल वाले बयान पर कहा कि इंटरनेट के इस युग में किसी की भी ‘जन्मपत्री’ सिर्फ एक ‘क्लिक’ मात्र की दूरी पर है. प्रधानमंत्री और बीजेपी को लोगों को ‘गुमराह’ नहीं करना चाहिए और आगे आकर यह बताना चाहिए कि उन्होंने राज्य को क्या दिया, जहां से एनडीए के सभी प्रतिष्ठित नेता निर्वाचित हुए हैं| सीएम अखिलेश ने कहा, पीएम मन की बात करते हैं, लेकिन काम की बात नहीं| वहीं, राहुल गांधी ने भी पीएम मोदी पर कई जुबानी वार किए हैं. उन्होंने कहा कि मोदी को ‘जन्मपत्री’ पढ़ना, गूगल पर सर्च करना और दूसरों के बाथरूम में झांकना पसंद है, लेकिन एक प्रधानमंत्री के तौर पर वह विफल हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश के चुनाव परिणामों से झटका लगेगा|

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर राहुल ने दिया ये जवाब-
राहुल ने कहा कि सपा और कांग्रेस में 403 सीटों में से 99 फीसदी पर कोई समस्या नहीं है, शेष सीटों पर मुद्दों को हल किया जा रहा है| हम साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं. यह कहना गलत है कि गठबंधन में कोई समंवय नहीं है|

[bannergarden id="12"]