Featured Posts

विवाह ना होने से नाखुश युवक ने फांसी लगाकर दी जानविवाह ना होने से नाखुश युवक ने फांसी लगाकर दी जान फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) बीते काफी दिनों से विवाह ना होने से परेशान चल रहे युवक ने नीम के पेंड में लटकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया| कोतवाली क्षेत्र के नगला दलजीत निवासी 28 वर्षीय सालिग्राम पुत्र काली चरन घर में बीती...

Read more

केरल की मदद को PM ने की 500 करोड़ राहत पैकेज की घोषणाकेरल की मदद को PM ने की 500 करोड़ राहत पैकेज की घोषणा कोच्चि:भयंकर बारिश और बाढ़ की मार झेल रहे केरल के लिए देश और दुनिया एकजुट होकर मदद के लिए सामने आई है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद केरल जाकर बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उनके साथ केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन और केंद्रीय मंत्री केजे...

Read more

कांवड़ियों पर हमला, डेढ़ दर्जन जख्मी,लगाया जाम फर्रुखाबाद: ट्रेक्टर पर सबार होकर जा रहे कांवड़ियों के साथ कुछ ग्रामीणों ने जमकर मारपीट कर दी| जिससे कई जख्मी हो गये| उन्होंने लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के हथियापुर के निकट से गुजर रहे कांवड़ियों पर ग्रामीणों ने हमला बोल दिया| जिसमे तकरीबन...

Read more

नगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलिनगर में जगह-जगह पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि फर्रुखाबाद: पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजेपयी की मौत की खबर से पूरा देश शोक में है| जिसके चलते उनके चाहने वालों ने जगह-जगह अपने तरीके से श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया| कुछ कार्यकर्ताओं ने रेत पर अटल आकृति को उकेर कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की| भाजपा युवा मोर्चा के द्वारा...

Read more

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांसपूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने एम्स में ली अंतिम सांस नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है। वह 93 साल के थे। अटल जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वाजपेयी को सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था। 15 अगस्‍त को उनकी तबीयत काफी बिगड़ गई थी, जिसके...

Read more

पीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़ेपीएम मोदी का 72वें स्‍वतंत्रता दिवस पर पूरा भाषण पढ़े नई दिल्‍ली:72 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री ने कई सारी बातें कहीं। इनमें से कुछ आपको याद रह गई होंगी तो कुछ को अाप भूल गए होगे। लेकिन यहां पर हम आपको उनका दिया पूरा भाषण दे रहे हैं। आज देश एक आत्‍मविश्‍वास से भरा हुआ है। सपनों को संकल्‍प...

Read more

स्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएमस्वतंत्र रहने के लिये स्वास्थ्य व स्वच्छ होना जरूरी: डीएम फर्रुखाबाद:पूरे जनपद में स्वतन्त्रता दिवस बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया गया| सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में ध्वजारोहण कर मिष्ठान वितरण किया| जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट व एसपी अतुल शर्मा ने पुलिस ने ध्वजारोहण किया| जिलाधिकारी ने कहा की स्वतंत्रता के साथ ही साथ हमे स्वास्थ्य...

Read more

यूपी में शिक्षक भर्ती परीक्षा में 68500 पदों में 41556 अभ्यर्थी उत्तीर्ण इलाहाबाद:परिषदीय स्कूलों की सहायक अध्यापक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा का परिणाम सोमवार को जारी हो गया है। इसमें 41556 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए हैं। यह परिणाम सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 45 और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लिए 40 फीसद उत्तीर्ण प्रतिशत के आधार पर जारी किया गया...

Read more

15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी15 दिसंबर के बाद गंगा नदी में नहीं गिरेगा कोई नाला: सीएम योगी कानपुर:देश की जीवन दायिनी गंगा नदी को स्वच्छ तथा निर्मल बनाने का काम प्रदेश के साथ केंद्र सरकार की प्राथमिकता में है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कानपुर में नमामि गंगे के तहत हो रहे काम की समीक्षा की। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ...

Read more

बेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ेंबेलपत्र आपके लिये देता सात गुणकारी लाभ पढ़ें फर्रुखाबाद: बिल्वपत्र जिसे बेलपत्र का प्रयोग खास तौर से भगवान शिव के पूजन अभिषेक में किया जाता है। लेकिन अगर इसे औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो यह आपकी कई सेहत समस्याओं का बेहतरीन इलाज साबित हो सकता है। यकीन नहीं आता तो बेलपत्र से होने वाले सेहत के इन 5 फायदों को जरूर...

Read more

यूपी के सांसदों का रिपोर्ट कार्ड सबसे खराब,बीजेपी के डेढ़ दर्जन मंत्री समेत सौ सांसदों के टिकट पर संकट के बादल

Comments Off on यूपी के सांसदों का रिपोर्ट कार्ड सबसे खराब,बीजेपी के डेढ़ दर्जन मंत्री समेत सौ सांसदों के टिकट पर संकट के बादल

Posted on : 25-06-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP

नई दिल्ली: भाजपा के लगभग सौ सांसदों पर लोकसभा का टिकट कटने का खतरा मंडरा रहा है। इनमें डेढ़ दर्जन केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं। पार्टी के विभिन्न राज्यों के संगठन मंत्रियों ने अपने अपने राज्यों के आकलन में सांसदों के कामकाज और जनता में लोकप्रियता की कसौटी पर आंकड़ा तैयार किया है। इन सभी को स्थिति बेहतर करने के लिए छह माह का समय दिया जाएगा, साथ ही वैकल्पिक उम्मीदवार की तलाश भी की जाएगी।
केंद्र सरकार के चार साल पूरा होते ही भाजपा में हर लोकसभा सीट की समीक्षा व तैयारी का काम शुरू कर दिया गया है। संघ व संगठन के फीडबैक, निजी एजेंसियों के सर्वे और नमो एप से हर क्षेत्र व हर सांसद की जानकारी जुटाई जा रही है। सूत्रों के अनुसार हाल में सूरजकुंड में भाजपा के देश भर के सभी राज्यों के संगठन मंत्रियों की बैठक में अनौपचारिक विचार विमर्श में भाजपा के 104 लोकसभा सांसदों की स्थिति को कमजोर माना गया है। सांसद के कामकाज व जनता की राय को इसमें प्रमुख आधार माना गया है।
विपक्षी गठबंधन के बगैर किया गया है आकलन
सूत्रों के अनुसार इसमें उत्तर प्रदेश से आने वाले चार केंद्रीय मंत्रियों समेत 19 सांसद शामिल है। इसके बाद राजस्थान का नंबर आता है। बिहार, मध्य प्रदेश, गुजरात व कर्नाटक में सांसदों के प्रति भी नाराजगी सामने आई है। यूपी और बिहार में अभी विपक्षी गठबंधन को लेकर विचार नहीं किया गया है। अभी केवल सांसद की स्थिति पर ही राय तैयार की गई है।
नमो एप पर लिया जा रहा है फीडबैक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी नमो एप पर सांसदों के कामकाज पर जनता से सीधे प्रतिक्रिया ले रहे हैं। जनता से सांसदों के कामकाज के साथ उसकी लोकप्रियता, क्षेत्र का सबसे लोकप्रिय नेता की जानकारी जुटाई जा रही है। इसका आंकलन संसद के मानसून सत्र के पहले किया जाएगा। सत्र के दौरान संसदीय दल की बैठक में और अलग से मुलाकात कर भी प्रधानमंत्री सांसदों को उनकी स्थिति से अवगत करा देंगे।
जनवरी में तय होंगे उम्मीदवार
पार्टी के एक प्रमुख नेता ने कहा है कि जिन सांसदों का रिपोर्ट कार्ड खराब है, उनको छह महीने का आखिरी समय दिया जाएगा। इस दौरान उस क्षेत्र में वैकल्पिक उम्मीदवार का नाम भी तय किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार पार्टी जनवरी में हर क्षेत्र के लिए उम्मीदवार तय कर लेगी। इस बीच दो सर्वे कराए जाएंगे। आखिरी सर्वे चार राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद किया जाएगा।

भ्रष्टाचार-कालाधन के खिलाफ कार्रवाई से कट्टर दुश्मन भी मित्र बनेःमोदी

Comments Off on भ्रष्टाचार-कालाधन के खिलाफ कार्रवाई से कट्टर दुश्मन भी मित्र बनेःमोदी

Posted on : 26-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

नई दिल्ली: केंद्र में एनडीए सरकार के चार साल पूरे होने पर आज बीजेपी और मोदी कैबिनेट के मंत्री सरकार की उपलब्धियां जनता तक पहुंचा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड ओडिशा के कटक में पेश कर रहे हैं। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कटक की जनता का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मेरी सरकार के 4 साल पूरे होने के बाद भगवान जगन्नाथ की धरती से सवा अरब भारतीय को प्रणाम करने सौभाग्य हासिल हुआ है। उत्कल की धरती विशेष है। यहां का कण-कण कुछ करने का संकल्प देता है। यहां शुरू किया कोई भी अभियान विफल नहीं होता।
पीएम मोदी ने केंद्र सरकार के चार साल पूरे होने पर कहा कि इन चार सालों में देश के सवा अरब लोगों में यह भरोसा पैदा किया है कि हालात बदल सकते हैं। हिन्दुस्तान बदल सकता है। सभी देशवासी जानते हैं कि केंद्र सरकार सबका साथ सबका विकास के लिए कार्य कर रही है।उन्होंने कहा कि गरीब का कल्याण करना एनडीए सरकार का पहला कर्तव्य है। पहली बार देश के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और पीएम ऐसे लोग हैं जिनका बचपन गरीबी में बीता है। भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई की वजह से कुछ लोग एक मंच पर जमा हुए हैं, इनमें से कुछ घोटाले के आरोप में जमानत पर हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रही जांच की वजह से इस देश में 4 पूर्व मुख्यमंत्री जेल में हैं।
जनता सब देखती है, सब समझती है कि कैसे कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई के बाद कट्टर दुश्मन भी दोस्त बन गए। जब कन्फ्यूजन नहीं कमिटमेंट वाली सरकार चलती है तब देश का राजकोषीय घाटा कम करने का फैसला लिया जाता है।

कल शाम 4 बजे होगा येद्दयुरप्पा सरकार का शक्ति परीक्षण,सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,

Comments Off on कल शाम 4 बजे होगा येद्दयुरप्पा सरकार का शक्ति परीक्षण,सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,

नई दिल्ली:कर्नाटक को लेकर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला आया है, इस फैसले को भाजपा के लिए झटका भी कहा जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने कल यानि शनिवार शाम चार बजे येद्दयुरप्पा को कर्नाटक विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा है। कोर्ट का यह फैसला एक तरह से कांग्रेस और जेडीएस के लिए राहत लेकर आया है और कांग्रेस ने इस फैसले को ऐतिहासिक बताने में भी देर नहीं लगायी। हालांकि भाजपा की ओर से इसका विरोध करते हुए कुछ समय और मांगा गया, लेकिन कोर्ट ने इसके लिए इन्‍कार कर दिया। भाजपा के वकील सात दिन का समय चाहते थे।
कोर्ट ने यह भी साफ कर दिया कि जब तक शक्ति परीक्षण पास नहीं कर लेते, तब तक मुख्यमंत्री बीएस येद्दयुरप्पा कोई भी नीतिगत फैसला नहीं ले सकते। यही नहीं एंग्लो इंडियन सदस्य के मनोनयन को लेकर भी सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है। कोर्ट ने कहा है कि विधायकों के शपथग्रहण से पहले एंग्लो इंडियन सदस्य को मनोनीत नहीं किया जा सकता है।
कोर्ट के फैसले को कांग्रेस ने बताया ऐतिहासिक
कर्नाटक के राजनीतिक विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए कांग्रेस ने इसे ऐतिहासिक बताया है। कांग्रेस नेता और वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। कोर्ट ने कई निर्देश जारी किये हैं। कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट के लिए आज शाम (शुक्रवार) 4 बजे तक प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करने का आदेश दिया है।’ उन्होंने कहा कि कोर्ट के अनुसार, कल फ्लोर टेस्ट से पहले सभी विधायकों का शपथ ग्रहण होगा और येद्दयुरप्पा कल तक कोई भी नीतिगत निर्णय नहीं ले सकेंगे।’
सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नेताओं की प्रतिक्रिया
-सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बीएस येद्दयुरप्पा ने कहा, ‘हमने मुख्य सचिव से बात की है और शनिवार को असेंबली का सेशन बुलाया है। हमें 100 प्रतिशत विश्वास है कि हम पूर्ण बहुमत के साथ जीतेंगे।’ उन्होंने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार, हमें कल बहुमत साबित करने की पूरी उम्मीद है। हम राज्यपाल को कल सुबह 11 बजे विधानसभा सत्र बुलाए जाने के लिए अपनी फाइल भेज रहे हैं। हम बहुमत साबित करने जा रहे हैं।’
– वहीं, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा, ‘भाजपा बहुमत परीक्षण के लिए तैयार है। हमें विश्वास मत जीतने का भरोसा है। सदन में होने वाले फ्लोर टेस्ट में हम बहुमत सिद्ध कर देंगे।’
राज्यपाल मामले में अलग से होगी सुनवाई
राज्यपाल के विशेषाधिकार और उसके तहत दिए गए आदेश की न्यायिक जांच के मामलों की कोर्ट दस हफ्ते बाद सुनवाई करेगा। बता दें कि कर्नाटक के राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने भाजपा को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का समय दिया था। लेकिन कोर्ट के आदेश के बाद बीएस येद्दयुरप्‍पा के पास बहुमत साबित करने के लिए अब कुछ घंटों का समय शेष रह गया है। कांग्रेस और जेडीएस ने अपनी याचिका में राज्यपाल द्वारा येद्दयुरप्पा को सरकार बनाने का न्योता दिये जाने को चुनौती दी थी। यही नहीं एंग्लो इंडियन सदस्य मनोनीत किए जाने को भी कांग्रेस व जेडीएस ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी।
इन बिंदुओं पर SC में हुई चर्चा
– कर्नाटक मामले पर जस्टिस सीकरी के दो सुझाव दिये, पहला: 24 घंटे के भीतर बहुमत साबित करें और दूसरा शपथ ग्रहण की समीक्षा हो।
– जिसे न्योता मिला वो बहुमत साबित करे : जस्टिस बोबडे
– विधानसभा में ही आखिरी फैसले होना चाहिए : जस्टिस बोबडे
– हम राजनीतिक लड़ाई में नहीं पड़ रहे हैं : जस्टिस सीकरी
– बेहतर होगा कि कल बहुमत परीक्षण हो : SC
– कल बहुमत परीक्षण का प्रस्ताव दे सकते हैं? : SC
– जस्टिस सीकरी: जनादेश सबसे महत्वपूर्ण है
– जस्टिस सीकरी: किस आधार पर भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया
– दोनों पार्टियों (कांग्रेस और जेडीएस) ने चुनाव के बाद गठबंधन किया : रोहतगी
– रोहतगी ने कहा नंबर दो और तीन की पार्टियां भाजपा से बहुत पीछे
– मुकुल रोहतगी ने कहा भाजपा कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी
– कर्नाटक मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू
सिंघवी की दलील
– नतीजे घोषित होने से पहले ही येद्दयुरप्पा का दावा
– राज्यपाल भाजपा को कैसे मौका दे सकते हैं?
– कांग्रेस-जेडीएस के पास बहुमत है
– कांग्रेस-जेडीएस कल ही बहुमत साबित करने के लिए तैयार है। कोर्ट को तय करना चाहिए की किसी बहुमत साबित करने का मौका मिले
भाजपा के वकील मुकुल रोहतगी, कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम, राम जेठमलानी, शांति भूषण कोर्ट में मौजूद रहे। बता दें कि जस्टिस सीकरी, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस बोबडे की तीन जजों की बेंच ने मामले की सुनवाई की। दोनों दलों ने भाजपा को सरकार बनाने का न्योता देने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती दी थी। सुनवाई शुरू होने से पहले भाजपा के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि कर्नाटक में खरीद-फरोख्त का सवाल ही नहीं उठता। दरअसल, कांग्रेस भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगा रही है।
इससे पहले बुधवार को कांग्रेस-जेडीएस की याचिका पर रातभर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चली, हालांकि कोर्ट ने भाजपा नेता बीएस येद्दयुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया। बुधवार देर रात सवा दो बजे शुरू हुई सुनवाई गुरुवार सुबह पांच बजकर 28 मिनट तक चली। सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने यह स्पष्ट किया कि राज्य में शपथ ग्रहण और सरकार के गठन की प्रक्रिया उसके समक्ष लंबित मामले के अंतिम फैसले के दायरे में आएगी।
अभी तक का घटनाक्रम

-सुप्रीम कोर्ट ने कल यानि शनिवार शाम चार बजे येद्दयुरप्पा को कर्नाटक विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा है।
– बुधवार को राज्यपाल के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची कांग्रेस और जेडीएस। देर रात शुरू हुई सुनवाई रातभर चली, सुबह साढ़े पांच बजे खत्म हुई।
– सुप्रीम कोर्ट ने येद्दयुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक से इनकार कर दिया। कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई तय की और भाजपा को अपने विधायकों लिस्ट लाने का निर्देश दिया।
– गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भाजपा नेता बीएस येद्दयुरप्पा ने राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वे तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने।
– येद्दयुरप्पा के शपथग्रहण के बाद भाजपा अब बहुमत साबित करने की तैयारी में है। येद्दयुरप्पा ने कहा कि मुझे यकीन है कि वे विधानसभा में विश्वासमत हासिल करेंगे।
– कांग्रेस ने भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया। विधायकों को इस टूट से बचाने के लिए कांग्रेस और जेडीएस अपने सभी विधायकों को हैदराबाद ले गई।
– इससे पहले कांग्रेस अपने विधायकों को केरल के कोच्चि ले जाने की तैयारी में थी। तीन चार्टर्ड प्लेन से विधायकों को कोच्चि ले जाना था, लेकिन कांग्रेस का आरोप है कि डीजीसीए ने चार्टर्ड प्लेन को उड़ान भरने की इजाजत नहीं दी।
– भाजपा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस-जेडीएस ने राज्यपाल को विधायकों के समर्थन की जो चिट्ठी दी है, उसमें कई दस्तखत फर्जी हैं।
– कर्नाटक में 222 सीटों पर चुनाव हुए थे, जिसमे से भाजपा को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें मिली थीं। वहीं, दो सीट निर्दलीय के पाले में हैं।

राहुल गांधी पर मोदी का हमला, बोले कांग्रेस अपने साथ लेकर चलती है छह बीमारियां

Comments Off on राहुल गांधी पर मोदी का हमला, बोले कांग्रेस अपने साथ लेकर चलती है छह बीमारियां

Posted on : 09-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP

बेंगलुरु:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगारपेट की चुनावी रैली में जनता को भाजपा के पक्ष में करते नजर आए। सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री पूरी तरह कांग्रेस पर आक्रामक दिखे। एक ओर उन्‍होंने कांग्रेस को 6 बीमारियों से ग्रस्‍त बताया तो दूसरी ओर राहुल गांधी द्वारा पीएम बनने वाले बयान पर तंज कसते हुए कहा, ‘राहुल के इस बयान से नामदार का अहंकार दिखता है।‘
बीमारियों को साथ लेकर चलती है कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस 6 बीमारियों- कांग्रेस कल्‍चर, सांप्रदायिकता, अपराध, भ्रष्‍टाचार, ठेकेदारी, जातिवाद से ग्रस्‍त है। यह जहां जाती है इन बीमारियों को साथ लेकर जाती है।’ कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्‍होंने आगे कहा, ‘यूपीए सरकार के दौरान एक प्रधानमंत्री थे और एक रिमोट कंट्रोल। एनडीए सरकार में हमारा रिमोट कंट्रोल और हाइकमांड भारत की 125 करोड़ जनता है।’
राहुल के पीएम बनने के बयान पर पीएम का हमला
प्रधानमंत्री ने सीधे तौर पर राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा, ‘मोदी को हटाने के लिए बड़ी-बड़ी बैठक हो रहीं हैं। नामदार का अहंकार सातवें आसमान पर है। राहुल ने स्‍वयं पीएम पद के लिए अपने नाम का एलान किया। कोई अपने आपको पीएम उम्‍मीदवार कैसे घोषित कर सकता है, जबकि गठबंधन में कई उम्‍मीदवार कतार में हों।‘
कर्नाटक से कांग्रेस का होगा सफाया
इसके अलावा उन्‍होंने सवाल उठाया कि कांग्रेस के प्रति लोगों के बीच इतनी नाराजगी क्‍यों है… उन्‍होंने विभिन्‍न राज्‍यों में हाल ही में संपन्‍न चुनावों में भाजपा की जीत और कांग्रेस के हार की याद दिलायी। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हिंदुस्‍तान में जहां-जहां चुनाव का मौका आया, वहां-वहां से कांग्रेस साफ हो गयी और कर्नाटक से भी कांग्रेस साफ होने वाली है।’
कांग्रेस कल्‍चर को पूरा देश पहचानता है
कर्नाटक से कांग्रेस की विदाई तय है। कर्नाटक चुनाव किसी की जीत या हार के लिए नहीं है बल्‍कि, यह चुनाव यहां के युवाओं का भविष्‍य तय करेगा। जहां कांग्रेस आती है वहां बुराइ तय है। पूरा देश कांग्रेस के कल्‍चर और कारनामों को पहचानता है।
विपक्ष पर भ्रष्‍टाचार का आरोप
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जब मैं वृहत पैमाने पर शौचालय बनवा रहा था तो क्‍या ये अमीरों के लिए था, नहीं ये गरीबों के लिए था। जो सोने के चम्‍मच के साथ पैदा हुए वे गरीबों की जरूरतों को कभी नहीं समझ पाएंगे। ये कांग्रेस के नामदार सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए हैं और ये सोना भी कोलार वाला सोना नहीं ये तो विदेशों और भ्रष्टाचार से मिला सोना है।
अब तक 17 रैलियां कर चुके हैं पीएम
कर्नाटक चुनाव में आज से मात्र चार दिन शेष हैं। भाजपा समेत सभी राजनीतिक दलों ने प्रचार के अंतिम चरण में पूरी ताक़त झोंक दी है। भाजपा की ओर से प्रधान नरेंद्र मोदी स्‍वयं 1 मई से ही राज्‍य भर में घूम-घूम कर धुआंधर चुनावी रैलियां करने में जुटे हैं। इस क्रम में बुधवार को भी वे एक के बाद एक चार रैलियों को संबोधित करेंगे।
प्रधानमंत्री मोदी के आज के कार्यक्रम में कर्नाटक स्‍थित कोलार के बंगारपेट, चिकमंगलूर, बेलगावी और बीदर में चुनावी रैलियां शामिल हैं। प्रधानमंत्री मोदी अब तक कर्नाटक में 17 रैलियां कर चुके है। कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होने हैं और नतीजें 15 मई को आएंगे।

कर्नाटक चुनाव:मोदी बोले कांग्रेस का एक भी मंत्री पाक साफ नहीं

Comments Off on कर्नाटक चुनाव:मोदी बोले कांग्रेस का एक भी मंत्री पाक साफ नहीं

Posted on : 08-05-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, Politics-CONG.

नई दिल्ली: मई के महीने में एक तरफ जहां पारा चढ़ता जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ मतदान पास आते ही कर्नाटक के पारे ने सियासत को पूरी तरह से गरमा कर रख दिया है। ऐसे में कोई भी राजनीतिक दल पलटवार करने से नहीं चूक रहे हैं। मंगलवार को बीजापुर जिले के विजयापुर में आयोजित रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिद्धारमैया सरकार पर सीधा निशाना साधा।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यहां का एक भी मंत्री ऐसा नहीं है जिस पर भ्रष्टाचार के आरोप न लगे हो। उन्होंने राज्य सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि कर्नाटक के सिंचाई मंत्री का कच्चा चिट्ठा घर-घर में पहुंचा हुआ है। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि ये संप्रदाय और जातियों में लोगों को बांटती है।
गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी की तरफ से खुद प्रचार की कमान संभाल रहे प्रधानमंत्री मोदी राज्य में धुआंधार रैली कर कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं। मंगलवार को उनकी तीन रैलियां है- बीजेपी के विजयापुर के अलावा कोप्पल और बेंगलुरू।

[bannergarden id="12"]