Featured Posts

दुष्कर्मी प्रधान ने नौकरी दिलानें के नाम पर ठगे करोड़ों रूपये!दुष्कर्मी प्रधान ने नौकरी दिलानें के नाम पर ठगे करोड़ों रूपये! फर्रुखाबाद:बीते दिन दुष्कर्म के आरोप में जेल गये प्रधान ने अपना माया जाल पूरे जिले में फैला रखा था| जिसमे उसने नौकरी दिलाने के नाम से करोड़ों रूपये एकत्रित किये| प्रधान के जेल जाने की खबर पर तकरीबन एक सैकड़ा से अधिक लोग उसके कार्यालय पर पंहुचे जंहा प्रधान के ना मिलने पर उन्होंने...

Read more

पंजाब प्रदेश सहित 15 जिलों के 78 बंदियों को सेन्ट्रल जेल से मिली रिहाईपंजाब प्रदेश सहित 15 जिलों के 78 बंदियों को सेन्ट्रल जेल से मिली... फर्रुखाबाद:शासन के आदेश के बाद सेन्ट्रल जेल में सजा काट रहे बंदियों को अब नयी उम्मीद जाग गयी है| चौथे चरण में कुल 78 बंदियों को और रिहाई दे दी गयी| जेल से बाहर निकले बंदियों ने आतंकवाद के खिलाफ अपना आक्रोश प्रगट किया| और कहा कि जिस तरह से हम सभी ने जो अपराध किया था उसकी सजा कानून...

Read more

हाई-वे के निकट मारुती शोरुम के ताले तोड़कर लाखों की चोरीहाई-वे के निकट मारुती शोरुम के ताले तोड़कर लाखों की चोरी फर्रुखाबाद:बीती रात हाई-वे पर स्थित मारुती शोरुम का ताला तोड़कर लाखों की नकदी चोरी कर ली गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल के बाद शोरूम के कैशियर सहित तीन को हिरासत में ले लिया| कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के इटावा-बरेली हाई-वे पर नेकपुर पुल के मारुती का शोरुम है| बीती रात उसमे तिजोरी से...

Read more

सोशल मीडिया पर अपने नेता का प्रचार,दावेदारों के समर्थकों में टकरारसोशल मीडिया पर अपने नेता का प्रचार,दावेदारों के समर्थकों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सोशल मीडिया फेसबुक व व्हाट्सएप पर इन दिनों सपा,भाजपा,बसपा व कांग्रेस के दावेदारों के समर्थकों में जमकर रायता फैलाया जा रहा है| समर्थक सोशल मीडिया पर पोलिंग करा रहे है| जिसके जादा लाइक उसे बेहतर प्रत्याशी माना जा रहा है| पुराने फोटो लाकर उसे नई तरह...

Read more

फर्रुखाबाद में फूटा सडकों पर गुस्सा,जगह-जगह से एक आबाज पाकिस्तान मुर्दाबादफर्रुखाबाद में फूटा सडकों पर गुस्सा,जगह-जगह से एक आबाज पाकिस्तान... फर्रुखाबाद: जनपद में शुक्रवार सुबह से लेकर शाम तक केबल पाक के खिलाफ आक्रोश ही सडकों पर नजर आया| शाम तक में कई जगहों पर पुलवामा आतंकी हमले पर लोगों का आक्रोश दिखा। लोगों ने जमकर पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। कई स्थानों पर पाकिस्तान के पीएम का पुतला जलाया गया। पुलवामा...

Read more

बड़ी खबर:साइकिल सबार माँ-बेटे सहित तीन को गैस टेंकर ने कुचला,मौतबड़ी खबर:साइकिल सबार माँ-बेटे सहित तीन को गैस टेंकर ने कुचला,मौत फर्रुखाबाद:साइकिल से सबार होकर जा रहे माँ-बेटे सहित तीन को तेज रफ्तार गैस टेंकर ने कुचल दिया| जिसमे माँ-बेटे की मौके पर ही मौत हो गयी| जबकि घायल ने लोहिया अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया| थाना राजेपुर के ग्राम शेराखार गौटिया निवासी 50 वर्षीय उर्मिला पत्नी वेदराम जाटव...

Read more

वैलेंटाइन डे: फूलों की जुबाँ से कही गयी दिल की बातवैलेंटाइन डे: फूलों की जुबाँ से कही गयी दिल की बात फर्रुखाबाद:प्यार के इजहार के प्रेम दिवस पर फूल के बाजार सजे रहे| वेलेंटाइन डे पर फूलों की दुकानों पर व बाजारों में गुरुवार की सुबह से ही चहल कदमी दिखी। फूल विक्रेता कोलकाता व लखनऊ से गुलाब की भारी खेप मंगायी थी| बाजार में दिल की बात रखने के लिए कई तरह के गुलाब खास तौर पर मंगवाए...

Read more

30 रुपयें में किस फार्मूले से भरेगा गौ माता का पेट,प्रधान चिंतित30 रुपयें में किस फार्मूले से भरेगा गौ माता का पेट,प्रधान चिंतित फर्रुखाबाद:योगी सरकार ने खुले में विचरण कर रहे अन्ना मबेशियों को अस्थाई गौशालयों में बंद कराकर उसकी देखरेख की जिम्मेदारी प्रधानों को दे रखी है| पहले तो लगभग एक महीने तक पकड़े गये मबेशियों को खिलाने के लिए प्रधानों को फूटी कौड़ी नही मिली| वही काफी हो हल्ला मचने के बाद सरकार...

Read more

61 बंदियों के साथ रिहा हुए शिव और अली ने पेश की गंगा-जमुनी तहजीब61 बंदियों के साथ रिहा हुए शिव और अली ने पेश की गंगा-जमुनी तहजीब फर्रुखाबाद:शासन के फरमान के बाद जेल से बन्दियो के रिहा होने का सिलसिला लगातार जारी है| अभी तक कुल 65 बंदियों को रिहा किया गया था| बुधवार शाम कुल 14 जिलों के 61 और बंदियों की सेन्ट्रल जेल से रिहाई कर दी गयी| इस दौरान जेल से रिहा हुए बंदी शिवबालक व अरबी अली ने एक दूसरे के गले मिल गंगा-जमुनी...

Read more

Exactly why Almost Every thing Might Discovered About Online business Is Unsuitable and Precisely what You should consider Your supplier can be created in cable connections. Actually it could not basically in company that you enter to be able to observe a profitable business card holder. The necessary thing is in order to take care of an online business like a new tricky lending broker whose man or women types need to have routine maintenance along with notice a lot like any sort of machine. Follow the clean necessities up to the point your business has the ability to obtain the supplemental things. You don't need to struggle with learning how to perform your company entity, or the technique to promote it since the exact serious business is able to which. Which means that get began your link offering online...

Read more

मोदी की जनसभा में उमड़ेगा दो लाख का जनसमुदाय

Comments Off on मोदी की जनसभा में उमड़ेगा दो लाख का जनसमुदाय

Posted on : 08-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

आगरा:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोठी मीना बाजार में नौ जनवरी को होने वाली जनसभा को लेकर व्यापक तैयारियां की गई हैं। 100 बाई 150 यानी 15 हजार वर्गफुट में सजे पंडाल के मंच से पीएम जनता को संबोधित करेंगे। पंडाल पूरी तरह से आग व पानी से सुरक्षित होगा। प्रधानमंत्री यहां आइटी पार्क, आलू प्रोसेसिंग प्लांट व अंतराष्ट्रीय स्टेडियम की घोषणा भी कर सकते हैं।
पूरे मैदान में करीब 2.5 लाख वर्गफुट क्षेत्रफल को कवर किया गया है। जनसभा में दो लाख की भीड़ पहुंचने का दावा किया है। भीड़ नियंत्रित करने के लिए 16 ब्लॉक बनाए गए हैं। हर ब्लॉक में कुर्सी डालकर उसे लोहे की बेरीकेडिंग से तीन तरफ से ब्लॉक किया गया है। इन ब्लॉक में करीब चालीस हजार कुर्सियां डाली गई हैं। मंच से दूर बैठे कार्यकर्ताओं को भाषण सुनने और प्रधानमंत्री को देखने में कोई दिक्कत न हो इसके लिए पूरे मैदान पर 12 गुणा आठ फुट की 18 एलईडी लगाई जा रही हैं।
पांच सेफ हाउस बनाए
पंडाल को सजाने का जिम्मा मुजफ्फर नगर के ठेकेदार दीपक जैन को मिला है। वे बताते हैं कि प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, राज्यपाल, डिप्टी सीएम और एक राजदूत के लिए पांच सेफ हाउस बनाए गए हैं। इनमें सोफे, टॉयलेट आदि का इंतजाम किया गया है।
300 एलईडी लाइट से रोशन होगा सभास्थल
पीएम की जनसभा का समय शाम 4:30 बजे का निर्धारित है। पीएम को आने में कुछ देरी हुई तो दिन भी ढल सकता है। ऐसे में सभा स्थल को रोशन करने के लिए 350 एलईडी लाइटें लगाई गई हैं। 11 बड़े जेनरेटर भी लगाए गए हैं।
दिल्ली से आईं कुर्सियां
मंच पर प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं के बैठने के लिए दिल्ली से कुर्सियां मंगाई गई हैं। मंच पर सभी के बैठने के लिए समान कुर्सी ही होंगी।
मोदी के साथ मंच पर रहेंगे 33 वीवीआइपी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच पर 33 वीवीआइपी रहेंगे। इनके नाम फाइनल कर लिए गए हैं। राज्यपाल रामनाईक व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री की अगवानी करेंगे। इस सूची में चौंकाने वाला नाम है जापान के राजदूत केंसी हिरामत्शु का। वे प्रधानमंत्री के साथ आ रहे हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि जापान की मदद से किसी बड़ी परियोजना की घोषणा हो सकती है। सीएम व राज्यपाल सहित जिले के प्रभारी व डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा भी पीएम की जनसभा में मौजूद रहेंगे। साथ ही प्रदेश के मंत्री सुरेश खन्ना, श्रीकांत मिश्रा, चौधरी, लक्ष्मी नारायण, एसपी सिंह बघेल, सभी विधायक व सांसद भी मोदी के साथ जनसभा के मंच पर मौजूद रहेंगे। अधिकारियों में कमिश्नर अनिल कुमार, एडीजी अजय आनंद व डीआइजी लव कुमार सूची में शामिल किए गए हैं।
पौने दो घंटे आगरा में रहेंगे मोदी
प्रधानमंत्री 3:15 बजे खेरिया एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। 3:20 बजे वहां से कोठी मीना बाजार के लिए रवाना होंगे। 3:35 बजे मैदान में करीब पांच हजार करोड़ की विकास परक योजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। इसके बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। 4:40 बजे वहां से खेरिया एयरपोर्ट पहुंचेंगे और पांच बजे शहर से रवाना हो जाएंगे। पीएम की राज्यपाल रामनाईक व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री की अगवानी करेंगे। यह प्रधानमंत्री से कुछ देर पहले ही आगरा आएंगे। प्रधानमंत्री की जनसभा में जापान के राजदूत केंसी हिरामत्शु भी मौजूद रहेगे। उनकी मौजूदगी के बारे में बताया जा रहा है कि गंगा जल परियोजना और नमामि गंगे परियोजना जापान की मदद से चलाई जा रही हैं। इसलिए राजदूत को आमंत्रित किया गया है।
इनकी सौगात मिलने के आसार
प्रधानमंत्री आइटी पार्क, आलू प्रोसेसिंग प्लांट व अंतराष्ट्रीय स्टेडियम की घोषणा भी कर सकते हैं। तीनों विकास कार्यों का प्रस्ताव बनाकर पीएमओ भेज दिया गया है। शहर में आइटी पार्क की मांग लंबे अरसे से की जा रही है, साथ ही आलू की रिकार्ड पैदावार होने की वजह से यहां आलू प्रोसेसिंग प्लांट की जरूरत भी महसूस की जा रही है। अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के लिए फिलहाल सींगना में 60 एकड़ भूमि चिह्नित कर ली गई है।

मोदी का मास्‍टर स्‍ट्रोक:सवर्णों को 10% आरक्षण को मंजूरी

1

Posted on : 07-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

नई दिल्‍ली:मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा कदम उठाया है। केंद्रीय कैबिनेट ने सवर्ण जातियों को 10 फीसद आरक्षण के फैसले पर मुहर लगा दी है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट की बैठक के बाद ये जानकारी दी। एसएसटी एक्‍ट पर मोदी सरकार के फैसले के बाद सवर्ण जातियों में नाराजगी और हाल के विधानसभा चुनाव में तीन राज्‍यों में मिली हार के मद्देनजर इसे अगड़ों को अपने पाले में लाने की कोशिश के तौर पर देखा जा सकता है। ऐसा माना जा रहा है कि मंगलवार को मोदी सरकार संविधान संशोधन बिल संसद में पेश कर सकती है। बता दें कि मंगलवार को ही संसद के शीतकालीन सत्र का आखिरी दिन है।
राजनीतिक पंडितों ने अनुसार, मोदी सरकार के इस फैसले ने राफेल सौदे और किसानों की कर्जमाफी जैसे मुद्दों की हवा निकाल दी है। ऐसा माना जा रहा है कि इस फैसले के दूरगामी राजनीतिक परिणाम देखने को मिलेंगे। कुछ और जातियां भी लोकसभा चुनाव से पहले आरक्षण की मांग कर सकती है।बता दें कि इसके तहत आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को आरक्षण दिया जाएगा। केंद्र सरकार का यह एक ऐतिहासिक फैसला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सोमवार को कैबिनेट की बैठक में ये फैसला लिया गया है। बता दें कि कई राज्यों में सवर्ण आरक्षण की मांग करते आ रहे हैं। हाल में तीन राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा को मिली हार के बाद इस फैसले की अहमियत और बढ़ जाती है।
भाजपा नेता शहनवाज हुसैन ने इसे मोदी सरकार का ऐतिहासिक फैसला बताते हुए कहा कि गरीब स्वर्ण समुदाय लंबे समय से इसकी मांग कर रहा था। पीएम मोदी ने उनकी इस मांग को मानकर समाज को मजबूत करने की दिशा में कदम बढ़ाया है। गौरतलब है कि केंद्र और राज्यों में पहले ही अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 27 फीसदी और अनुसूचित जाति व जनजाति के लिए 22 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था है।
सरकार ऐसे देगी सवर्णों को आरक्षण
मोदी सरकार सवर्णों को आरक्षण देने के लिए जल्द ही संविधान में बदलाव करेगी। इसके लिए संविधान के अनुच्छेद 15 और अनुच्छेद 16 में बदलाव किया जाएगा। दोनों अनुच्छेद में बदलाव कर आर्थिक आधार पर आरक्षण देने का रास्ता साफ हो जाएगा। बता दें कि पिछले साल जब सुप्रीम कोर्ट ने SC/ST एक्ट में बदलाव करने का आदेश दिया था तब देशभर में दलितों ने काफी प्रदर्शन किया था। इसको देखते हुए केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का फैसला बदल दिया था। ऐसा माना जा रहा था कि मोदी सरकार के इस फैसले से सवर्ण काफी नाराज हो गए, दलितों के बंद के बाद सवर्णों ने भी भारत बंद का आह्वान किया था।
क्‍या कहता है अनुच्छेद 15
संविधान में अनुच्छेद 15 केवल धर्म, मूलवंश, जाति, लिंग, जन्म स्थान, या इनमें से किसी के ही आधार पर भेदभाव पर रोक लगाता है। अंशतः या पूर्णतः राज्य के कोष से संचालित सार्वजनिक मनोरंजन स्थलों या सार्वजनिक रिसोर्ट में निशुल्क प्रवेश के संबंध में यह अधिकार राज्य के साथ-साथ निजी व्यक्तियों के खिलाफ भी प्रवर्तनीय है। हालांकि, राज्य को महिलाओं और बच्चों या अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति सहित सामाजिक और ‘शैक्षिक रूप से पिछड़े वर्गों’ के नागरिकों के लिए विशेष प्रावधान बनाने से राज्य को रोका नहीं गया है। इस अपवाद का प्रावधान इसलिए किया गया है, क्योंकि इसमें वर्णित वर्गों के लोग वंचित माने जाते हैं और उनको विशेष संरक्षण की आवश्‍यकता है।
अनुच्‍देद 16 में ये हैं प्रावधान
अनुच्छेद 16 सार्वजनिक रोजगार के संबंध में अवसर की समानता की गारंटी देता है और राज्य को किसी के भी खिलाफ केवल धर्म, नस्ल, जाति, लिंग, वंश, जन्म स्थान या इनमें से किसी एक के आधार पर भेदभाव करने से रोकता है। किसी भी पिछड़े वर्ग के नागरिकों का सार्वजनिक सेवाओं में पर्याप्त प्रतिनिधित्व सुनुश्चित करने के लिए उनके लाभार्थ सकारात्मक कार्रवाई के उपायों के कार्यान्वयन हेतु अपवाद बनाए जाते हैं, साथ ही किसी धार्मिक संस्थान के एक पद को उस धर्म का अनुसरण करने वाले व्यक्ति के लिए आरक्षित किया जाता है।
इन सवर्णों को मिलेगा आरक्षण का लाभ
ये होंगे मानक जिनके तहत मोदी सरकार ये आरक्षण की सुविधा दी जाएगी।
1- सालाना आय 8 लाख से कम हो।
2- 5 एकड़ से कम खेती की जमीन हो।
3-1000 स्क्वायर फीट से कम का घर हो।
4- निगम की 109 गज से कम अधिसूचित जमीन।
5- 209 गज से कम की निगम की गैर-अधिसूचित जमीन हो और जो अभी तक किसी भी तरह के आरक्षण के अंतर्गत नहीं आते हो।

कर्नाटक में किसानों को कर्ज माफी के नाम पर धोखा:मोदी

Comments Off on कर्नाटक में किसानों को कर्ज माफी के नाम पर धोखा:मोदी

Posted on : 29-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, सामाजिक

गाजीपुर:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गाजीपुर में अपने मात्र डेढ़ घंटा के प्रवास में ही जिले को दो नायाब तोहफा प्रदान किया। आइआइटी मैदान पर उन्होंने गाजीपुर में एक बड़े मेडिकल कालेज की आधारशिला रखने के साथ महाराजा सुहैलदेव पर डाक टिकट जारी किया।
प्रधानमंत्री ने इसके बाद जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि इतने ठण्ड के मौसम में आप मुझे आशीर्वाद देने पहुंचे हैं उसके लिए मैं आपको नमन करता हूँ। भारत माता की जय व भोजपुरी भाषा में जनता के अभिवादन के साथ अपना संबोधन शुरू किया। भोजपुरी में सभी का अभिवादन करने के बाद उन्होंने कहा कि आज पूर्वांचल और पूरे उत्तर प्रदेश का गौरव बढ़ाने वाला एक और पुण्य कार्य हुआ है। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार वोट के लिए योजनाएं नहीं बनाती है। हमारी सरकार वोट के लिए घोषणाएं नहीं करती है। हमने फीते काटने की परंपरा को हमने बदला है।
महाराज सुहैलदेव की के योगदान को नमन करते हुए उनकी स्मृति में पोस्टल स्टैंप जारी किया गया है। यह डाक टिकट लाखों की संख्या में देशभर के पोस्ट ऑफिस के माध्यम से देश के घर-घर में पहुंचेगा। पीएम मोदी ने कहा कि प्रदेश में मेरे आज के प्रवास के दौरान, आज पूर्वांचल को देश का एक बड़ा मेडिकल हब बनाने, कृषि से जुड़े शोध का महत्वपूर्ण सेंटर बनाने और यूपी के लघु उद्योगों को मजबूत करने की दिशा में अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए जाएंगे। इन सभी कार्य के प्रदेश के लोगों को बड़ा लाभ मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि गाजीपुर का नया मेडिकल कॉलेज हो, गोरखपुर का एम्स हो या फिर वाराणसी में बन रहे अनेक आधुनिक अस्पताल हों। प्रदेश में पुराने अस्पतालों का विस्तार होने से भी पूर्वांचल में हजारों करोड़ की स्वास्थ्य सुविधाएं तैयार हो रही हैं। आज गरीब से गरीब की भी सुनवाई होने का मार्ग खुला है। समाज के आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति को गरिमापूर्ण जीवन देने का यह अभियान अभी शुरुआती दौर में है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार देश के ऐसे हर वीर-वीरांगनाओं को, जिन्हें पहले की सरकारों ने पूरा मान नहीं दिया, उनको नमन करने का काम कर रही है।
उन्होंने कहा कि इस अस्पताल से गाजीपुर के साथ-साथ पास के जिलों को भी लाभ होगा। करीब 250 करोड़ की लागत से जब मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार हो जाएगा तो, गाजीपुर का जिला अस्पताल 300 बेड का हो जाएगा। यहां पर जिस मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया गया है उससे इस क्षेत्र को आधुनिक चिकित्सा सुविधा तो मिलेगी ही, गाजीपुर में नए और मेधावी डॉक्टर भी तैयार होंगे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य की दृष्टि से देश में सबसे कम विकसित क्षेत्रों में से एक पूर्वांचल को मेडिकल हब बनाने की दिशा में निरंतर तेजी लाई जा रही है। पूर्वांचल में स्वास्थ्य सेवा में सुधार इसी दिशा में उठाया गया कदम है। अभी एक ठोस आधार बनाने में सरकार सफल हुई है। इस नींव पर मजबूत इमारत तैयार करने का काम अभी बाकी है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आने वाला समय आपका तथा आपके बच्चों का है। आपके भविष्य को संवारने के लिए, आपके बच्चों का भविष्य बनाने के लिए, आपका यह चौकीदार, बहुत ईमानदारी से, बहुत लगन के साथ, दिन-रात एक कर रहा है। उन्होंने कहा कि अनेक काम हैं जो बीते चार वर्ष से हो रहे हैं। यह सब अब दिखने लगे हैं। जो छोटा किसान है उसको भी हमारी सरकार बैंकों से जोड़ रही है। जब लक्ष्य व्यवस्था में स्थाई परिवर्तन होता है, तब बड़े काम होते हैं, तब दूर की सोच के साथ स्थाई और ईमानदार प्रयास किए जाते हैं। जब सरकारें पारदर्शिता के साथ काम करती हैं, जब जनहित स्वहित से ऊपर रखा जाता है, संवेदनशीलता जब शासन का हिस्सा बनने लगती हैं,तब बड़े काम होते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान योजना का भी बड़ा लाभ मिल रहा है। उत्तर प्रदेश के 14,000 हजार से ज्यादा बहनों-भाइयों को इसका लाभ मिला है। आयुष्मान योजना के तहत 100 दिन के भीतर ही साढ़े छह लाख गरीब बहन-भाइयों का या तो इलाज हो चुका है या अस्पताल में इलाज चल रहा है।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का दृढ़ निश्चय है कि जिन्होंने भी भारत की रक्षा, सामाजिक जीवन को ऊपर उठाने में योगदान दिया है, उनकी स्मृति को मिटने नहीं दिया जाएगा। देश के ऐसे हर वीर-वीरांगनाओं को, जिन्हें पहले की सरकारों ने पूरा मान नहीं दिया, उनको नमन करने का काम हमारी सरकार कर रही है। महाराजा सुहेलदेव की स्मृति में बहराइच में स्मारक बनाने का फैसला करने के लिए मैं उत्तर प्रदेश सरकार को शुभकामनाएं देता हूं। जब विदेशी आक्रांताओं ने भारत भूमि पर आंख उठाई तो महाराजा सुहेलदेव उन महावीरों में थे। जिन्होंने उनका डटकर मुकाबला किया और उन्हें परास्त किया। महाराजा सुहेलदेव देश के उन वीरों में रहे हैं, जिन्होंने मां भारती के सम्मान के लिए संघर्ष किया है। इससे पहले उन्होंने रिमोट का बटन दबाकर मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास और महाराजा सुहेलदेव के नाम पर स्मृति डाक टिकट जारी किया।
कर्नाटक में कर्जमाफी के नाम पर धोखा
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता में शुरू से ही गरीब व किसान के साथ युवा भी रहे हैं। हमने किसी को धोखा देने का काम नहीं किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कर्नाटक में लाखों किसानों को कर्ज माफी का वादा किया था लेकिन वहां सिर्फ 800 किसानों का ही कर्ज माफ हुआ। भाई यह कैसा खेल है। कैसा धोखा है। यह तो कर्ज माफी के नाम पर किसानों के साथ धोखा है।
केंद्र की हर योजना का लाभ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार की हर योजना का लाभ लोगों को मिल रहा है। उज्जवला योजना के तहत के 90 लाख लोगों को नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन देने का काम किया गया है। जनता ने 2014 में जो विश्वास दिखाया था वो आज सच होते दिख रहा है, हर सड़क हर चौराहे पर विकास कार्य दिख रहा है। उन्होंने कहा कि आज महाराजा सुहेलदेव के नाम पर डाक टिकट जारी हो रहा है। हम सब जानते हैं कि ग्यारहवीं शताब्दी के पूर्वार्द्ध में इस देश के अंदर बलिदान देने वाला एक ओजस्वी नेतृत्व महाराज सुहेलदेव के रूप में इस क्षेत्र को प्राप्त हुआ था। उसी का यह परिणाम है कि हम बड़े सम्मान के साथ उनका स्मरण करते हैं।
इनके नाम पर ट्रेन का संचालन किया जा रहा है। आने वाले पीढिय़ों के लिए यह कभी न मिटने वाली स्मृति है। विकास के लिए भाजपा सरकार ने किसी धर्म और मजहब को नहीं देखा, सबका साथ सबका विकास के आधार पर काम किया। स्वच्छ भारत अभियान के तहत गांवों और शहरों में शौचालय बनाने का काम किया है। पिछले 70 वर्ष में 13 मेडिकल कॉलेज बने थे, लेकिन पिछले चार वर्ष में प्रदेश में 17 मेडिकल कॉलेज बने हैं।
हर जगह दिख रहा विकास
संचार राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार तथा रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि आज गाजीपुर से देश के किसी भी कोने में जाना हो तो यहां से रेलगाड़ी मिल रही है। माता वैष्णो देवी के दर्शन को जाने के लिए भी यहां से ट्रेन चल रही है। यहां पर चाहे बंद गन्ना मिल हो या फिर यूरिया फैक्ट्री हो, हर जगह विकास दिख रहा है। गाजीपुर से सांसद मनोज सिन्हा ने कहा कि पिछली सरकारों में पूर्वांचल उपेक्षित रहा, लेकिन आज पूर्वांचल के विकास को पूरा उत्तर प्रदेश देख रहा है।
गाजीपुर में आइआइटी कालेज के ग्राउंड पर संचार राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार तथा रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने उनका स्वागत किया। इसके बाद मंच पर उनके साथ राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा भाजपा प्रदेश डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय ने जनसभा स्थल पर जनता का अभिवादन किया।पीएम मोदी के कार्यक्रम का केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ यूपी के मंत्री ओमप्रकाश राजभर बहिष्कार कर रहे हैं। दो महीने में अपने निर्वाचन क्षेत्र में उनकी यह दूसरी यात्रा है। अपने पूरे कार्यकाल में पीएम मोदी ने कुल 16 बार वाराणसी का दौरा किया है।
इसके बाद वाराणसी में उनका कार्यक्रम करीब साढ़े तीन घंटा का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करीब 11:45 बजे वाराणसी के बाबतपुर हवाई अड्डे पहुंचे। यहां राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री बनने के बाद गाजीपुर में उनका यह दूसरा आगमन है। इससे पहले वह 14 नवंबर 2016 को इसी मैदान में आ चुके हैं। प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में राज्यपाल राम नाईक के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा सहित केंद्र व प्रदेश सरकार के कई मंत्री मौजूद थे।

देश का सबसे बड़ा पुल तैयार,गाड़ियों के साथ दौड़ेंगी ट्रेनें

Comments Off on देश का सबसे बड़ा पुल तैयार,गाड़ियों के साथ दौड़ेंगी ट्रेनें

Posted on : 22-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP

डिब्रूगढ़:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के मौके पर ब्रह्मपुत्र नदी पर बने देश के सबसे लंबे और एशिया के दूसरे सबसे लंबे रेल-सड़क पुल बोगीबील ब्रिज का उद्घाटन करेंगे। यह पुल ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तर तथा दक्षिणी तटों को जोड़ता है। वाजयेपी के जन्मदिवस 25 दिसंबर को मनाये जाने वाले सुशासन दिवस के दिन देशवासियों को इसकी सौगात मिलेगी।
इस पुल की आधारशिला 1997 में तत्कालीन प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा ने रखी थीं, लेकिन इसका निर्माण अप्रैल 2002 में शुरू हो पाया था। उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रेलमंत्री नीतीश कुमार के साथ इसका शिलान्यास किया था| पूर्वोत्तर के राज्य असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने इस बोगीबील पुल की लंबाई 4.94 किलोमीटर है। यह पुल नदी के दक्षिणी किनारे पर स्थित डिब्रूगढ़ जिले को अरुणाचल प्रदेश की सीमा से लगते धेमाजी जिले के सीलापथार को जोड़ता है। पुल के बनने के बाद अरुणाचल प्रदेश से चीन की सीमा तक पहुंचना आसान हो जाएगा।
5800 करोड़ रुपये आएगी लागत
चीफ इंजीनियर मोहिंदर सिंह ने बताया कि डिब्रूगढ़ शहर से 17 किलोमीटर दूरी पर ब्रह्मपुत्र नदी पर बने बोगीबील पुल की अनुमानित लागत 5800 करोड़ रुपये है। इस पुल का निर्माण अत्याधुनिक तकनीक से किया गया है। इसके बन जाने से ब्रह्मपुत्र के दक्षिणी और उत्तरी किनारों पर मौजूद रेलवे लाइने आपस में जुड़ जाएंगी। पुल के साथ ब्रह्मपुत्र के दक्षिणी किनारे पर मौजूद धमाल गांव और तंगनी रेलवे स्टेशन भी तैयार हो चुके हैं।
कई अड़चनों के बाद पूरा हुआ पुल
पिछले 21 वर्षों में इस पुल के निर्माण को पूरा करने के लिये कई बार समय-सीमा तय की गई। लेकिन अपर्याप्त फंड, तकनीकी अड़चनों के कारण कार्य पूरा नहीं हो सका। कई बार विफल होने के बाद आखिरकार इस साल एक दिसंबर को पहली मालगाड़ी के इस पुल से गुजरने के साथ इसका निर्माण कार्य पूर्ण घोषित हुआ। तीन लेन की सड़क और दो रेलवे ट्रैक वाले इस पुल के निर्माण से अरुणाचल प्रदेश में चीन की लगती सीमा तक पहुंचना आसान हो जाएगा। इससे सैन्य साजो सामान पहुंचाने में भी सहूलियत होगी।
रेल, रोड की दूरी होगी कम
इस पुल के बनने से डिब्रूगढ़ और अरुणाचल प्रदेश के बीच रेल की 500 किलोमीटर की दूरी घटकर 400 किलोमीटर रह जाएगी। जबकि ईटानगर के लिए रोड की दूरी 150 किमी घटेगी। इस पुल के साथ कई संपर्क सड़कों तथा लिंक लाइनों का निर्माण भी किया गया है। इनमें ब्रह्मपुत्र के उत्तरी तट पर ट्रांस अरुणाचल हाईवे तथा मुख्य नदी और इसकी सहायक नदियों जैसे दिबांग, लोहित, सुबनसिरी और कामेंग पर नई सड़कों तथा रेल लिंक का निर्माण भी शामिल है।
दिल्ली से बढ़ेगी रेल कनेक्टिविटी
तिनसुकिया के मंडल वाणिज्य प्रबंधक शुभम कुमार के अनुसार इस पुल के बनने से दिल्ली से डिब्रूगढ़ की रेल से दूरी तीन घंटे कम हो जाएगी। अब ट्रेन डिब्रूगढ़ से गुवाहाटी होते हुए नाहरलगुन (अरुणाचल) पहुंचाएगी। ज्यादा ट्रेने चल पाएंगी। अभी दिल्ली से नाहरलगुन वीकली ट्रेन चलती है।
25 दिसंबर को प्रधानमंत्री तिनसुकिया-नाहरलगुन (15907-15908 ) इंटरसिटी ट्रेन का भी उद्घाटन करेंगे । ये 14 कोच की ट्रैन साढ़े पांच घन्टे लेगी। इससे असम के धीमाजी, लखीमपुर के अलावा अरुणाचल के लोगों को भी फायदा होगा। आगे एक राजधानी बोगीबील से धीमाजी होते हुए दिल्ली के लिए चलाई जा सकती है।
पंजाब, हरयाणा से बढ़ेगी अनाज की ढुलाई
अभी असम से कोयला, उर्वरक और स्टोन चिप्स की रेल से सप्लाई उत्तर व शेष भारत को होती है। जबकि पंजाब, हरयाणा से अनाज यहां आता है। इस पुल के बनने से इनमें बढ़ोतरी के साथ रेलवे की आमदनी बढ़ने की संभावना है।
नई तकनीक, उपस्करों का इस्तेमाल
पुल के निर्माण में 80 हजार टन स्टील प्लेट्स का इस्तेमाल हुआ।
देश का पहला फुल्ली वेल्डेड पुल जिसमें यूरोपियन मानकों का पालन हुआ है।
हिंदुस्तान कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन ने मैग्नेटिक पार्टिकल टेस्टिंग, ड्राई पेनिट्रेशन टेस्टिंग तथा अल्ट्रासोनिक टेस्टिंग जैसी आधुनिकतम तकनीकों का इस्तेमाल किया।
बीम बनाने के लिए इटली से विशेष मशीन मंगाई गई।
बीम को पिलर पर चढ़ाने के लिए 1000 टन के हाइड्रॉलिक और स्ट्रैंड जैक का इस्तेमाल किया गया।
पुल के 120 साल चलने की आशा है।

कांग्रेस तथा भाजपा विरोधी नेताओं के भाषण पर पाकिस्तान में बजती हैं तालियां:मोदी

Comments Off on कांग्रेस तथा भाजपा विरोधी नेताओं के भाषण पर पाकिस्तान में बजती हैं तालियां:मोदी

Posted on : 16-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

रायबरेली:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र के पहले दौरे में ही आज रायबरेली को 1100 करोड़ की सौगात देने के साथ पहले की सरकारों पर निशाना साधा। जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी को निशाने पर रखा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के साथ ही भाजपा का विरोध करने वाली पार्टियों पर निशाना साधा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस रक्षा सौदों के लेकर इसलिए भड़की है क्योंकि उसमें ‘क्वात्रोची मामा’ या फिर क्रिश्चेन मिशेल अंकल’ नहीं है। उन्होंने कहा कि भाइयों-बहनों देश में स्वतंत्रता के बाद से ही कुछ लोगों का शासन रहा है। कोई किसी का मामा, रिश्तेदार सेंध लगाते रहे हैं। अब सब रुक गया है तो फिर दर्द होना स्वाभाविक है। उन्होंने कहा कि भाजपा विरोधी के साथ कांग्रेस के लोग देश को कमजोर करने वालों के साथ हैं। क्या कारण हैं कि भाजपा के खिलाफ यहां के नेता भाषण देते हैं और ताली पाकिस्तान में बजती है।आज कांग्रेस व विरोधी उनके साथ खड़े हैं जो देश को कमजोर करना चाहते हैं। आप बताइए देश को सेना ताकतवर होनी चाहिए या नही। पीएम मोदी ने कहा कि आज दो पक्ष हैं, एक पक्ष सरकार सच्चाई का है, एक पक्ष देश को कमजोर कर रहा है। यह सब लोग मोदी पर वो किसी भी तरह एक दाग लगा देना चाहते हैं, मैं सब जानता हूँ, मगर इसके लिए देश की सुरक्षा के साथ क्यों खिलवाड़ कर रहे है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारा एक ही मंत्र है। इसी मंत्र पर केंद्र के साथ ही उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार भी काम कर रही है। हम तो देश के सामान्य से सामान्य नागरिक के जीवन में हम परिवर्तन ला रहे हैं। रायबरेली में ही दो लाख महिलाओ को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए। सरकार चाहे केंद्र की हो या योगी जी की हमारा एक ही मंत्र है, सबका साथ सबका विकास। कांग्रेस इनको दबा रही है, कांग्रेस की साजिश को हमारी सरकार अब घर घर जाकर पहुंचाएगी। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने देश के किसानों के साथ बड़ा धोखा किया है। कर्नाटक में सैकड़ों किसानों के वारंट निकल रहे हैं। कांग्रेस ने कर्ज माफी पर झूठे वादे किए। सौ रुपये में डेढ़ रूपये ज्यादा से ज्यादा पांच रूपये का प्रीमियम लिया गया। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से सरकार में किसानों की सारी समस्याओं को दूर किया। किसके दबाव में कांग्रेस ने यूरिया का शत प्रतिशत नीम कोटिंग किया। इस एक फैसले से हमारे देश के किसानों को 60 हजार करोड़ का फायदा होगा। खरीफ व रबी की 22 फसलों पर एमएसपी लागू किया गया। इनका जवाब कांग्रेस कभी नही देगी। किसके दबाव में एमएसपी को दाब दिया। कांग्रेस ने स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों को क्यों लागू नहीं किया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि हम किसानों का संकट दूर करने का प्रयास कर रहे हैं। पहली बार 70 वर्ष में हमारी सरकार ने किसानों के लिए नीतियां बनाकर लागू किया। कांग्रेस के राज में किसी की कोई परवाह नहीं की। वन रैंक वन पेंशन हमने लागू की। जिस पार्टी के लोग सेना की सर्जिकल स्ट्राइक पर उंगली उठाते हैं, उनसे क्या उम्मीद करें। जिस पार्टी के लोग हमारे सेनाध्यक्ष को गुंडा कहते है और गुंडा को पार्टी में ऊंचे पद पर बैठाए हैं उनसे क्या उम्मीद कर सकते हैं। जब ईमानदारी से सौदे होते हैं तो कांग्रेस बौखला जाती है। एचएएल को 1400 करोड़ की मंजूरी दी गयी। हमने 2016 में 83 नए तेजस विमान खरीदने की स्वीकृति दी। इसे तेज करने की कोशिश नही हुई। इस साल अप्रैल में भारत की कंपनी एक लाख 16 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट बना रही है। सरकार ने ऑर्डर दे दिया। हमने 2014 में सरकार बनने के बाद 2016 जैकेट दिए। हमारी सेना की सुरक्षा के प्रति कांग्रेस से 2009 में भारतीय सेना ने लाखों बुलेटप्रूफ जैकेट मांगे मगर 2014 तक नही खरीदा। सेना के लिए मैं कड़ें से कड़े फैसले लेने में पीछे नही हटूंगा। उन माताओं बहनों, बच्चों का मैं जवाबदार हूँ जिंनके घरवाले सेना में हैं। जान की बाजी लगाने वाले सैनिकों को कोई दिक्कत नहीं होने दूंगा। हम पूरा प्रयास कर रहे हैं कि भारत को सेनाएं किसी से कम न हों। जब देश की सुरक्षा की बात हो, सेना की बात हो, तब एनडीए सरकार सिर्फ राष्ट्रहित का ध्यान रखती है। जो सौदा भाजपा सरकार सुरक्षा के लिए कर रही है, उसमे कोई दाग नहीं है। इस घोटाले में कांग्रेस ने अपना वकील बचाने को भेज दिया। कांग्रेस सरकार के क्वात्रोची मामा बोफोर्स घोटाले वाले को देश माफ नहीं करेगा। करगिल युद्ध के बाद वायुसेना को मजबूत करने को जरूरत थी मगर कांग्रेस ने ऐसा नहीं किया। सेना के प्रति कांग्रेस सरकार का रवैया क्या रहा इसके लिए देश उन्हें माफ नही करेगा। हमारे लिए दल से बड़ा देश है और जीवन पर्यंत रहेगा। झूठ बोलने वालों पर सत्य बोलने वालों की विजय होती है। सच को श्रृंगार की जरूरत नहीं होती, झूठ चाहे जितना बोलो इसमें जान नहीं होती। इन लोगों के लिए हमारी सेना झूठी हैं, हमारी सेना की रक्षा मंत्री झूठी हैं, हमारे वायु सेना के अफसर भी झूठे हैं। झूठ की पंक्तियों को कुछ लोगों ने जीवन का मूल मंत्र बना लिया है। कांग्रेस के समय तेजस विमान से जुड़ी हर कड़ी को कमजोर किया गया। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के पापों को बताने के लिए पूरा सपताह कम पड़ जायेगा।
पीएम मोदी ने कहा कि जिस भारत मां के नारों से गौरव होता है कुछ लोग इस जयघोष पर शर्मिंदगी महसूस करते हैं। मैं तो सेना के शौर्य समर्पण के प्रति प्रहरियों का गौरव गान करके नमन करता हूँ। युद्ध में शामिल हर सैनिक को मैं नमन करता हूँ। 1971 में आज के ही दिन भारत की सेना ने अराजकता व आतंक को धूल चटाई थी। देश के इतिहास में आज का दिन एक और वजह से विशेष है। आपलोग बताइए कि देश की सेना मजबूत होनी चाहिए कि नहीं। उन्होंने कहा कांग्रेस को उसमें भी दिक्कत है। रामचरितमानस में एक चौपाई है झूठै लेना झूठे देना झूठै भोजन झूठ चबेना। आज कुछ लोगों को सत्य हजम नहीं हो पा रहा है। भारत आज सबसे बड़ा देश है। आज जब मैं देश के सपने देखता हूँ। भाजपा पार्टी राष्ट्रहित में सोचती है। इसके लिए हमको कड़े से कड़े फैसले लेने में भी कोई हिचक नहीं है। उन्होंने कहा अगले वर्ष तक देश के सैनिकों को बड़ी संख्या में बुलेटप्रूफ जैकेट प्रदान की जाएगी। पीएम मोदी ने कहा कि देश को यह भी जानकारी देना चाहता हूं कि सेना के जवानों के लिए बुलेटप्रूफ जैकेट भी देश की कंपनी बना रही है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा किआप सोचिए 2007 में स्वीकृत हुई रेल कोच 2010 में फैक्ट्री बनकर तैयार हो गयी। इसके बाद भी उत्पादन शून्य था। इससे पता चलता है कि पहले की सरकारों ने देश के संसाधनों के साथ अन्याय किया। इसकी गवाही रेल कोच फैक्ट्री दे रही है। अब जिस गति से काम हो रहा है वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि यहां मंच पर आने से पहले रेल कोच मॉडर्न फैक्ट्री में था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब आने वाले समय में यहां से 5000 कोच प्रतिवर्ष बनाए जाएंगे।अभी तो प्रतिवर्ष तीन हजार कोच बनेंगे। मैं चाहूंगा अगले वर्ष दो गुना डिब्बे बनें। उन्होंने कहा कि यह हमारी सरकार के काम का नतीजा है कि बीते वर्ष 711 कोच बने। रायबरेली के नौ जवान बहुत अच्छे हैं। यहां के लोगों को यहां काम मिले, हम इसके प्रयास में लगे हैं। भाइयों बहनों मैं छोटा सोचने की आदत नहीं रखता। भाजपा सरकार में नई मशीन लगाई जा रही हैं। हमारी सरकार आने के तीन महीने के भीतर ऐसा कोच निकला जो पूरी तरह रायबरेली रेल कोच में बना हुआ था। हालत ये थी कि 2014 तक यहां की तीन प्रतिशत मशीन काम कर रही थे। चार साल तक इस फैक्ट्री में कपूरथला से लाकर पेंच कस रहे थे।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज रायबरेली में 1100 करोड़ के प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया है। मैं तो रायबरेली के लोगों व भूमि को नमन करता हूं। इसी भूमि पर पण्डित अमोल शर्मा हुए। यह तो बीरा पासी, राणा बेनी माधव के बलिदान की भूमि है। आज मैं उस भूमि पर हूँ जिसने साहित्य, राजनीति सहित सबको दिशा दिखाई है। इस भूमि के साथ न्याय नहीं किया गया। प्रधानमंत्री ने रायबरेली में कोच फ़ैक्टरी में उत्पादित 900वें रेल डिब्बे व हमसफर रेक को हरी झंडी दिखा कर देश को समर्पित किया। एल्युमिनियम के हल्के कोच बनाकर देश दुनिया की सबसे बड़ी फैक्ट्री बनाना हमारा लक्ष्य है। रेलवे, हाइवे, एयरवे और मोटरवे आदि के लिए दिन रात काम हो रहा है। थोड़ी देर पहले ही बांदा तक जाने वाली सड़क का उद्घाटन किया है। रायबरेली भी स्वस्थ रहे और अपने आसपासो के लोगों को स्वस्थ्य रखें इस नाते मेडिकल कालेज समेत कई योजना दी गई है। हमारे पीएम आवास लोगों की खुशहाली पहुंचा रही है। उन्होंने कहा कि आज के दिन देश के वीर सपूतों ने वलिदान दिया था। उनके सम्मान में जयकारे लगवाए।
रायबरेली व अमेठी का वास्तविक विकास 2014 के बाद से हुआ : योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ ने कहा रायबरेली का वास्तविक विकास 2014 के बाद से ही हुआहै। प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना किसी भेदभाव के देश के साथ प्रदेश के हर जिले तथा गांव के विकास के बारे में योजना बनाकर उसका क्रियान्वयन किया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अभी तक रायबरेली विकास के लिए तड़प रहा था। यहां 2014 के बाद से तेजी से विकास के नए आयाम गढ़े जा रहे हैं। यहां पर जुलाई में एम्स शुरू हुआ। सौभाग्य योजना में बिजली 1345 गांव पहुंचाई गई। केंद्र सरकार ने अमेठी और रायबरेली में भी पूरी ईमानदारी से काम किया है। कोई भेदभाव नहीं किया है। पहले की सरकारों ने कभी भी ईमानदारी से कार्य नहीं किया।
उन्होंने कहा कि रायबरेली में डेढ़ वर्ष में 23430 पीएम आवास बनाये गए है। आठ लाख 85 हजार पीएम आवास उत्तर प्रदेश में बन चुके हैं। पीएम आवास योजना ने मील का पत्थर स्थापित किया। स्वच्छ भारत मिशन में रायबरेली में 311858 तथा अमेठी में 214974 इज्जत घर बनाए गए हैं। हम अमेठी में 934 गांव के 5239 मजरों में विद्युतीकरण का कार्य कर रहे हैं।
रायबरेली में 7013 मजरों में विद्युतीकरण कर नि:शुल्क कनेक्शन दिये गए। रायबरेली के 3500 गांव सौर ऊर्जा से युक्त किये गए। सूबे के वीवीआइपी जनपद में सौभाग्य योजना में 1547 गाँव में विद्युतीकरण किया गया। सौभाग्य योजना से प्रत्येक घर में बिजली मिल रही है। उन्होंने कहा कि इससे पहले जाति के आधार पर लोगों ने बांटने का काम किया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा रायबरेली की रेल फैक्ट्री नौजवानों को नौकरी दे रही है साथ ही मेक इन इंडिया के स्वरूप को भी साकार कर रही है। रायबरेली विकास के लिए तड़प रहा था। वहां 2014 के बाद से विकास के नए आयाम गढ़े जा रहे हैं। जुलाई में एम्स शुरू हुआ। सौभाग्य योजना में बिजली 1345 गांव पहुंचाई गई। उन्होंने, राज्यपाल, विधानसभा अध्यक्ष, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और क्षेत्रीय विधायक एमएलसी आदि का नाम लेकर उदबोधन शुरू किया।इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रायबरेली को 1100 करोड़ का तोहफा देने के साथ मार्डन रेल कोच फैक्ट्री का निरीक्षण किया। उन्होंने हमसफर एक्सप्रेस के 900वें मार्डन कोच का भी शिलान्यास किया। पीएम मोदी ने हमसफर एक्सप्रेस के 900वें कोच को राष्ट्र को समर्पित किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधे मार्डन कोच फैक्ट्री का रुख किया। उन्होंने कोच फैक्ट्री का निरीक्षण किया। इसके बाद यहां पर दो हजार रेल डिब्बों की उत्पादन क्षमता के लिए विस्तारीकरण कार्य का शुभारंभ करने के साथ कोच फैक्ट्री के इस वित्तीय वर्ष में उत्पादित 900वें रेल डिब्बे व हमसफर रैक को राष्ट्र को समर्पित किया। उनके साथ रेल मंत्री पीयूष गोयल भी हैं। रायबरेली में उनका पहला हेलीकॉप्टर 10.20, दूसरा 10:22 पर तथा तीसरा 10.23 पर रेल कोच के कारखाना परिसर में बने हेलीपैड पर पहुंचा। वहां पर उनकी अगवानी तथा स्वागत किया गया। उधर सभा स्थल पर जाने के लिए यहां पर जनसैलाब उमड़ा है। पांडाल के सभी प्रवेश द्वारों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होने के कारण उत्साहित कार्यकर्ताओं और सतर्क सुरक्षाकर्मियों के बीच कई बार तकरार भी हुई। सुरक्षा बलों ने काली जैकेट पहने लोगो को वापस लौटाया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी कुर्सी संभालने के बाद आज पहली बार कांग्रेस के सनातन गढ़ रायबरेली में चुनावी शंखनाद करेंगे। पीएम मोदी के साथ यहां पर आधा दर्जन केंद्रीय मंत्री के साथ उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक व सीएम योगी आदित्यनाथ भी है।सोनिया गांधी और उनसे पहले नेहरू-गांधी परिवार का राजनीतिक दुर्ग रायबरेली का पीएम नरेंद्र मोदी का यह पहला दौरा होगा। पीएम नरेंद्र मोदी रायबरेली को लगभग 1100 करोड़ रुपये की सौगात देंगे। कांग्रेस का गढ़ रायबरेली को माना जाता रहा है। बीते साढ़े चार सालों में भाजपा ने इसे दरकाने की हर कोशिश की। उसे हल्की सफलता भी मिली। छह महीने पूर्व गांधी परिवार के करीबी कुनबे को साथ जोडऩे में सफल हुई। भाजपा अब आक्रामक मुद्रा में है। प्रदेश की सत्ता भी इस जिले पर पैनी निगाह रखे है। पांच राज्यों के आशा विपरीत चुनाव परिणाम के बाद पीएम जनसभा में जब बोलेंगे, तो कांग्रेस ही उनके निशाने पर होगी।प्रधानमंत्री मोदी का यह दौरा राजनीति के लिहाज से भी बहुत अहम है।
प्रदेश की इस लोकसभा सीट को गांधी परिवार और कांग्रेस का गढ़ कहा जाता है। यहां की सांसद यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं और कभी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी इस क्षेत्र से चुनाव लड़ चुकी हैं। यहां की ही जनता ने एक बार इंदिरा गांधी को हरा भी दिया था। उसके बाद से सिर्फ दो बार ही यह सीट कांग्रेस के खाते में नहीं आई। प्रधानमंत्री का यहां आना महत्वपूर्ण है। इससे यह संदेश जाएगा कि भारत उसके कारखानों में तैयार डिब्बों के निर्यात के लिए प्रतिस्पर्धी बाजार में उतर रहा है। उनका यह दौरा इस लिहाज से काफी अहम है कि भारत की उच्च गुणवत्ता के रेल डिब्बों के विनिर्माण और निर्यात बाजार पर नजर है। रेलवे ने कुछ महीने पहले ही प्रस्ताव दिया था कि वह ऐसे देशों के लिए बुलेट ट्रेन के डिब्बे बनाने और निर्यात करने को इच्छुक है, जो तेज रफ्तार गलियारे का निर्माण कर रहे हैं। कारखाने को लेकर पहले ही कई देश अपनी रूचि दिखा चुके हैं। कोरिया, जापान, जर्मनी, चीन और ताइवान के अधिकारी कारखाने का दौरा कर चुके हैं। रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि कई देश कम उत्पादन लागत की वजह से भारत का इस्तेमाल विनिर्माण के प्रमुख केंद्र के रूप में कर सकते हैं। माडर्न कोच फैक्टरी (एमसीएफ)में पहली बार पूरे डिब्बे का विनिर्माण रोबोट ने किया है। एक किलोमीटर लंबी उत्पादन लाइन में रोबोट को समानांतर तौर पर काम में लगाया गया है, जहां वे डिब्बों पर कुछ-कुछ काम कर रहे हैं। वर्तमान में 70 रोबोट काम में लगे हुए हैं। यह पूरी तरह से ‘मेक इन इंडिया’ है।
भाजपा आम चुनाव 2019 से पहले कांग्रेस के शीर्ष नेताओं को उनके घर में ही घेरने की रणनीति पर तेजी से काम कर रही है। यही कारण है कि अमेठी में केंद्रीय नेतृत्व की सक्रियता के बाद बीते छह महीनों में कई बार भाजपा का शीर्ष नेतृत्व यहां आ चुका है। 21 अप्रैल को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शहर में रैली को संबोधित कर चुके हैं। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आए थे। तबसे पार्टी नेताओं की सक्रियता बनी हुई है।पार्टी के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने बताया कि रायबरेली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विकास की अलख जगाने आ रहे हैं। इससे यह साफ है कि भाजपा अपने विकास के एजेंडे पर ही पूरी मजबूती से चल रही है। भारतीय जनता पार्टी पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में पार्टी हार से विचलित न होते हुए पूरा फोकस उत्तर प्रदेश पर कर रही है।
उत्तर प्रदेश से भाजपा को जहां 2014 में उसे 71 सीटों पर जीत मिली थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी आज पहली बार रायबरेली दौरे पर पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां एक जनसभा को संबोधित भी करेंगे। देश की सियासत के लिहाज से रायबरेली सदस्यीय सीट हमेशा से ही महत्वपूर्ण रही है। गांधी परिवार की इस सीट को अपने खाते में करने का सपना भाजपा और संघ का लंबे समय से रहा है।

[bannergarden id="12"]