Featured Posts

मेजर और विजय समर्थकों की भिड़न्त की खबर पर छावनी बना लोहाई रोडमेजर और विजय समर्थकों की भिड़न्त की खबर पर छावनी बना लोहाई रोड फर्रुखाबाद: शहर के लोहाई रोड स्थित कनौडिया इण्टर कालेज बूथ के बाहर मेजर व विजय समर्थकों में भिड़न्त व नारेबाजी होते ही लोहाई रोड छावनी में तब्दील हो गया। पुलिस ने दोनो नेताओं के समर्थकों को तितर बितर कर दिया। मेजर समर्थकों का आरोप है कि सदर के विधायक व सपा प्रत्याशी विजय...

Read more

पर्ची बंटने के बावजूद नहीं घटी बस्तों की अहमियतपर्ची बंटने के बावजूद नहीं घटी बस्तों की अहमियत फर्रुखाबाद: चुनाव आयोग द्वारा भले ही घर-घर मतदाता पर्ची पहुंचाने की व्यवस्था की गयी हो लेकिन अभी भी बस्तों की अहमियत नहीं घटी। यह नजारा आज हो रहे विधानसभा चुनाव में साफ देखने को मिला। जहां पर प्रत्याशियों द्वारा अपने अपने बस्ते लगवाये गये। किसी पर भीड़ दिखायी दी तो कोई...

Read more

यूपी चुनाव LIVE: तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदानयूपी चुनाव LIVE: तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदान उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान शुरू हो गया है. इस फेज में 12 जिलों की 69 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. यह चरण इसलिए अहम है, क्योंकि इसमें सपा के गढ़ इटावा, मैनपुरी, कन्नौज, बाराबंकी और फर्रुखाबाद में मतदान हो रहे हैं. इस चरण में कुल 826 प्रत्याशी मैदान में हैं और...

Read more

विधानसभा अमृतपुर: ईवीएम खराब होने से कई जगह मतदान रुकाविधानसभा अमृतपुर: ईवीएम खराब होने से कई जगह मतदान रुका फर्रुखाबाद: (राजेपुर)लाख प्रयास के बाद भी आखिर ऐन मौके पर कई ईवीएम मशीने धोखा दे गयीं। जिससे विधानसभा क्षेत्र अमृतपुर के राजेपुर व ग्राम कड़क्का की ईवीएम मशीनें खराब होने से मतदान रुका। विधानसभा के ग्राम कड़क्का के बूथ संख्या 56 पर ईवीएम मशीन खराब होने से मतदान तकरीबन आधा...

Read more

राजनीति का खंजर- केवल चार बचेंगेराजनीति का खंजर- केवल चार बचेंगे पांच साल तक नेताओ के हाथ में रहने वाला राजनैतिक खंजर एक दिन मतदाताओ के हाथ में रहता है| मतदान के दिन ये खंजर किस किस पर कैसे कैसे चलेगा ये वोटिंग मशीन में ही गुप्त रूप से दर्ज हो जायेगा| बात उत्तर प्रदेश के आम विधानसभा चुनाव 2017 के जनपद फर्रुखाबाद की चार विधानसभाओ के परिपेक्ष्य...

Read more

बूथों पर अव्यवस्था के शिकार हुए मतदान कर्मीबूथों पर अव्यवस्था के शिकार हुए मतदान कर्मी फर्रुखाबाद: चुनाव आयोग के लाख प्रयास के बाद भी कहीं न कहीं खामी रह ही गयी। इसे किसके सर मड़ा जाये यह तो प्रशासन और चुनाव आयोग ही तय करे। लेकिन जब कई बूथों पर पोलिंग पार्टियां पहुंचीं तो उन्हें अव्यवस्था के शिकार हो गये। शनिवार शाम तक पोलिंग पार्टियां रवाना हुईं और जब बूथों...

Read more

मतदान के लिये फ़ोर्स ने कमर कसी,अधिकारियों ने दिये टिप्समतदान के लिये फ़ोर्स ने कमर कसी,अधिकारियों ने दिये टिप्स फर्रुखाबाद : विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2017 के लिये आगामी 19 फरवरी को मतदान को आयोग की मंशा के अनुसार निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं शान्तिपूर्वक रूप से सम्पन्न कराने के लिये जिला प्रशासन विभिन्न तैयारियॉ की जा रही है| मतदान को शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने में पुलिस फोर्स की बहुत...

Read more

बादशाह झूठा नहीं होता, झूठा हो तो बादशाह नहीं होता: आजम खानबादशाह झूठा नहीं होता, झूठा हो तो बादशाह नहीं होता: आजम खान फर्रुखाबाद: (कमालगंज/जहानगंज ) भोजपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम जरारी में सपा प्रत्याशी के समर्थन में समाजवादी पार्टी के स्टार प्रचारक मंत्री आजम खान ने जनसभा को सम्बोधित किया। इस दौरान आजम खान ने प्रधानमंत्री मोदी जी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने जनता से झूठा वादा...

Read more

कन्नौज में पीएम मोदी बोले, आपके प्यार को विकास के रूप में लौटाऊंगाकन्नौज में पीएम मोदी बोले, आपके प्यार को विकास के रूप में लौटाऊंगा फर्रुखाबाद : सपा के गढ़ कन्नौज में परिवर्तन संकल्प महारैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इतना प्यार 2014 में दे दिया होता तो कितना अच्छा होता। आपने आंख की शर्म के कारण जिन पर कृपा की वह एक कुनबा टूट गया, लेकिन मैं आपसे वादा करता हूं अबकी बार आपके प्यार...

Read more

यूपी चुनाव LIVE: दूसरे चरण का मतदान खत्म, 65.5 फीसदी लोगों ने डाले वोटयूपी चुनाव LIVE: दूसरे चरण का मतदान खत्म, 65.5 फीसदी लोगों ने डाले... उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में दूसरे चरण के लिए 11 जिलों की 67 सीटों पर मतदान बुधवार को संपन्न हो गया. इसी के साथ सभी 721 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला भी ईवीएम में बंद हो गया. जो मतदान केंद्र के अंदर बच गए थे उन्हें शाम 6 बजे तक मतदान के अधिकार का इस्तेमाल करने दिया गया. चुनाव...

Read more

जरूरी कैश निकाल लें क्‍योंकि अगले 5 दिन तक बंद रहेंगे बैंक

0

Posted on : 22-02-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: कैश की जरूरत आने वाले कुछ दिनों में ज्‍यादा होने वाली हो या कहीं चेक ड्राफ्ट आदि जमा करना हो तो कल तक बैंक का कोई भी काम निपटा लें| इसकी वजह ये है कि आने वाले 5 दिनों तक बैंक बंद रहने वाले हैं|

शुक्रवार से बैंक लगातार 5 दिनों तक बंद रहने वाले हैं| इस वजह से आपको एटीएम से कैश निकालने की भी दिक्कत आ सकती है| बेहतर होगा पर्याप्त कैश निकाल कर रख लें| कैश की जरूरत आने वाले कुछ दिनों में ज्‍यादा होने वाली हो या कहीं चेक ड्राफ्ट आदि जमा करना हो तो कल तक बैंक का कोई भी काम निपटा लें. इसकी वजह ये है कि आने वाले 5 दिनों तक बैंक बंद रहने वाले हैं|

ये है छुट्टी का प्‍लान
24 फरवरी को महाशिवरात्रि की छुट्टी है, 25 को महीने का चौथा शनिवार है, 26 फरवरी को रविवार है| इतनी छुट्टियों के बाद फिर अगले दिन यूपी के कुछ क्षेत्रों में 27 फरवरी को मतदान होना है तो उसकी भी छुट्टी होगी| इसके बाद 28 फरवरी यानि मंगलवार को बैंकों की राष्ट्रीय हड़ताल के चलते बैंक बंद रहेंगे ऐसे में बेहतर यही होगा कि बैंक से संबंधित अपने सभी कामों को निपटा लें|
एटीएम भी दे सकता है दगा
अगर बैंक बंद रहेंगे तो एटीएम में पैसों की किल्लत हो सकती है। ऐसे में जरूरत के मुताबिक पैसे निकाल कर रख लें| ज्ञात हो कि आम लोगों को बैंक बंद होने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, ऐसे में आप बैंक से संबंधित अपने सभी काम निपटा लें|

bank

प्रत्याशियों की देर से हुई सुबह, दिनभर मिटाई थकान

0

Posted on : 20-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, FEATURED

फर्रुखाबाद : एक महीने के चुनावी मैराथन में प्रत्याशी सबकुछ भूल चुके थे। सिर्फ चुनाव ही नजर आ रहा था। जनसंपर्क, बैठकें व सभाएं यही कार्यक्रम रह गया था। दिनचर्या पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गई थी। सुबह निकलने के बाद फिर घर लौटने का कोई समय नहीं रहता था। दोपहर का भोजन भी कार्यकर्ताओं के साथ कर लिया तो सही, वरना कई बार तो चाय-समोसे व हल्के-फुल्के नाश्ते से ही चलाना पड़ता था। चुनाव निकट आते ही प्रत्याशियों को न दिन दिखाई दे रहा था, न ही रात। थककर चूर हो गए थे। रविवार को मतदान के बाद प्रत्याशियों को कुछ राहत मिली।

सोमबार की सुबह कुछ देर से हुई और थकान मिटाई। परिवार वालों के साथ नाश्ता व लंच किया। कुछ पल समर्थकों के साथ भी बैठे। जिले में प्रत्याशियों की दिनचर्य काफी सुकून भरी रही| मतदान के बाद पहले तो देर रात तक अपने समर्थको के साथ बैठकर चुनावी गणित पर चर्चा कितने वोट पड़े और कितने बूथों पर उनके वोट कम पड़े,कितने बुथो पर मिले ही नही| यदि नही मिले तो फिर भी क्यों नही मिले| इन सब बातो ने मतदान के बाद भी प्रत्याशियों को परेशान रखा| प्रत्याशियो के समर्थको ने भी मन की बात| कही डमी प्रत्याशी भी अपनी जीत पक्की बता रहे है| कई पार्टी के प्रत्याशी व उनके चमचे तो जीत पक्की कर आगे की रणनीति बनाने में लग गये रहे|

देर रात चले इस चुनावी गणित के बाद प्रत्याशियों ने थकान की नीद ली और सुबह देर से उठे और जब तक नहा-धोकर तैयार हुये राजनीति के पंडित फिर उनके आवासों पर पंहुच गये | हलाना कि अधिकतर प्रत्याशी मतदान के बाद अपने परिवार के साथ सुकून से बैठे और समय भी बिताया| सोमबार को भी पूरे दिन प्रत्याशी अपनी थकान उतारते रहे|

अंधविश्वास से दूर, जातिपांति से उठकर करें वोट

0

Posted on : 08-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, FEATURED

फर्रुखाबाद: (राहुल सिंह राठौर) भगवान ने मनुष्य को सर्वश्रेष्ठ बनाकर एक अनमोल तोहफा दिया है। वह है बुद्धि, विवेक, जिससे वह सोच समझकर हर काम को सही ढंग से करे। लेकिन आज के दौर में मनुष्य अपने अमूल्य तोहफे का दुरुपयोग कर रहा है। लोग जाति पांति में फसकर आम जन की भलाई को भूल गये हैं। लोगों को चाहिए कि वह जाति पांति से दूर रहते हुए समाज के हित की सोचें एवं उसी के अनुसार वोट करें।

मनुश्य के बनाये जाति, पांति को अपने जीवन में रोड़ा न बनने दें। भगवान ने तो सिर्फ एक ही जाति बनायी थी, जो है इंसान। लेकिन मनुष्य ने यहां आकर अनेक जातियां, अनेक धर्म बना लिये। जिसका हम बखूबी पालन कर रहे हैं। आज मनुष्य मनुष्य की बातों पर चलता है। अपने बनाये नियमों का पालन करता है। जाति पांति की बात करने वाले भगवान का कोई महत्व नहीं समझ रहे।

जातिवाद ने समाज को इस तरह से जकड़ रखा है जिस तरह से एक मक्खी शहद खाने के लिए अपनी जान दे देती है पर वह शहद खाना नहीं छोड़ती। वह जानती है इस पर बैठेंगे तो हमारे पंख चिपक जायेंगे, इसी प्रकार मनुष्य जानता है कि जाति पाति कुछ नहीं है। लेकिन समाज में रहकर इन सबको मानना एक मजबूरी हो जाती है। कहा जाता है कि एकता में शक्ति होती है, अगर सब मिलकर इसे खत्म करने का प्रयास करें तो यह खत्म हो सकती है। यह तभी संभव है जब हमारे राजनेता, हमारा समाज एक साथ जातिवाद से दूर रहकर विकास की बात करे और उसी के आधार पर जनता वोट करे।

छलका आंगनबाड़ी कार्यकत्री का दर्द, सुपरवाइजर करतीं अवैध वसूली

0

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) जनपद में वैसे तो आंगनबाड़ी केन्द्रों का हाल किसी से छिपा नहीं है। लेकिन जब मामला विभाग के ही लोगों द्वारा खुलासा किया गया तो उसका नजारा कुछ और ही था। यह कहानी कमालगंज ब्लाक के ही एक ग्राम की कार्यकत्री की है।

कार्यकत्री नाम न छापने की शर्त पर जेएनआई को अपनी आपबीती सुनाती हुई कहती हैं कि उनसे प्रतिमाह सुपरवाइजर द्वारा पहले ही 800 रुपये ले लिये जाते, जोकि उन्हें अपनी जेब से देने होते है। इसके अलावा बोरियां केन्द्र तक ले जाने के लिए किराया भी उन्हें जेब से ही भरना पड़ रहा है। जिसके बाद उन्हें 18 बोरी पंजीरी विभाग द्वारा दी जाती है। वहीं पंजीरी बच्चों को बांटने के अलावा 200 रुपये प्रति बोरी के हिसाब से जरूरतमंद लोगों को बेच दी जाती है। उन्होंने बताया कि उनके यहां 60 बच्चे अंकित है। वहीं हाट कुक के बारे में पूछे जाने पर बताया कि हाट कुक के लिए विभाग द्वारा उन्हें कोई पैसा नहीं दिया जा रहा तो वह बनवायें कहां से।

यूपी पुलिस और सीआईएसएफ का एक चेहरा यह भी

0

Posted on : 01-02-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, POLICE

फर्रुखाबाद: वैसे हमेशा सभी को अपनी वर्दी का रौब दिखाने के लिये मशहूर पुलिस का एक नया रूप देखने को मिला| जब पतंग के धागे में फंसकर 6 घंटे तक पेंड पर उल्टे लटके परिंदे को पुलिस ने कड़ी मसक्कत के बाद सही सलामत बचा लिया| पुलिस के इस कार्य की सभी ने सराहना भी की|

शहर कोतवाली के कादरी गेट चौकी के पुलिस कर्मियों ने चौकी के ऊपर एक विशाल पेड़ की पतली सी शाखा में एक परिंदे को पतंग के धागे में फंसा हुआ देखा| वह आजाद होने के लिये छटपटा रहा था| लेकिन अधिक ऊँचाई पर होने के कारण वंहा पंहुचना नामुमकिन था| जिस पर पुलिस कर्मियों से उनकी किसी भी कीमत पर जान बचाने की ठान ली| कोई जुगत ना देखकर पुलिस कर्मियों ने दो बॉस को आपस में जोड़कर उसके सहारे कड़ी मेहनत के बाद उसे नीचे उतारा| नीचे खड़े सीआईएसएफ के जबानो ने परिंदे को धागे से आजाद किया और उसे पानी पिलाया| ‘

कभी देर बाद वह उड़ने के काबिल हो सका| मौके पर मौजूद लोगो ने पुलिस के इस रूप की सराहना की| शहर कोतावल डीके सिंह और चौकी इंचार्ज देवेन्द्र सिंह गंगवार भी मौजूद रहे|

[bannergarden id="12"]