Featured Posts

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

हम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र बोलते हैंहम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र... जौनपुर. काशी में शनिवार को रोड शो करने के बाद नरेंद्र मोदी ने जौनपुर में रैली की। उन्होंने कहा- "हम सबका साथ-सबका विकास का नारा देते हैं। सपा- कांग्रेस वाले कुछ का साथ-कुछ का विकास की ही बात कहते हैं। मैं आपको गारंटी देता हूं कि बीजेपी सरकार की पहली मीटिंग में किसानों का कर्जा...

Read more

21 साल की उम्र में छोड़ दिया था योगी ने घर, जानें उनके परिवार के बारे में

0

Posted on : 26-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FEATURED, Politics, Politics-BJP

दिल्ली: उत्तर प्रदेश में आज से योगी राज की शुरुआत होगी. आज योगी आदित्यनाथ की देश के सबसे बड़े सूबे के मुख्यमंत्री के तौर पर ताजपोशी होगी. सीएम बनने पर उनके पूरे गांव और परिवार में खुशी का माहौल है. आदित्यनाथ ने 21 साल की उम्र में ही परिवार छोड़ दिया था और वो गोरखपुर आ गए थे. उनके पिता 24 साल पहले उत्तराखंड के एक गांव से संन्यास की दीक्षा लेने वाले बेटे को मनाने आए थे, लेकिन उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा. मां मायूस हो गई, लेकिन बेटे के लिए लगातार दुआएं मांगती रही. आज वो संन्यासी बेटा सीएम बनने जा रहा है तो घर ही नहीं पूरा गांव जश्न मना रहा है|

संन्यास लेने के बाद बेटे का नाम बदल गया और ठिकाना भी बदल गया. उत्तराखंड के पंचुर गांव का अजय सिंह बिष्ट आज सत्ता के शीर्ष पर पहुंच चुका है. बहुत बड़ी जिम्मेदारी संभालने जा रहा है. खुशी इतनी है कि मां संन्यासी बेटे की तस्वीर को गोद में लिए बैठी है और उसकी कामयाबी की खुशी पिता की आंखो में छलक रही है| योगी के बड़े भाई बड़े गौरव से भाई अजय के बारे में बात करते हैं, उनके बारे में बताते हैं. योगी के पिता आनंद सिंह बिष्ट का कहना है कि यूपी में गुंडाराज खत्म होना चाहिए और सबका साथ सबका विकास होना चाहिए. उम्मीद ये भी है कि उनके गांव में मौजूद बाबा गोरखनाथ डिग्री कॉलेज का अब उद्धार हो जाएगा और वो अब सरकारी कॉलेज बन जाएगा|

26 साल की उम्र में बने थे सांसद, जानें योगी आदित्यनाथ की पूरी कहानी

उत्तराखंड के पौड़ी जिले के रहने वाले योगी चार भाई और तीन बहनों में दूसरे नंबर के भाई हैं. उनके दो भाई कॉलेज में नौकरी करते हैं, जबकि एक भाई सेना की गढ़वाल रेजिमेंट में सूबेदार हैं. योगी आदित्यनाथ पौड़ी गढवाल के इस गांव से संन्यास और राजनीति का लंबा सफर तय कर चुके हैं| आज जब लखनऊ के स्मृति उपवन में हजारों लोगों की मौजूदगी में भव्य समारोह के बीच योगी आदित्यनाथ जब मुख्यमंत्री पद की शपथ ले रहे होंगे, तब पंचुर में मां सावित्री देवी अपने संन्यासी बेटे के लिए आंचल भर के दुआएं दे रही होंगी|

योगी आदित्यनाथ का असली नाम अजय सिंह बिष्ट है. योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले एक छोटे से गांव पंचूर में हुआ, उनके पिता का नाम आनंद सिंह बिष्ट हैं जो गांव में रहते हैं. सीएम बनाने के ऐलान के बाद आजतक ने योगी आदित्यनाथ ऊर्फ अजय सिंह नेगी के भाई महेंद्र सिंह बिष्ट से बात की. उन्होंने कहा कि आदित्यनाथ में बचपन से सेवा भावना थी. हालांकि, उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि वे सीएम पद तक पहुंचेंगे. महेंद्र सिंह ने कहा कि कि वह हमेशा से ही समाजसेवा की भावना थी और उसी दिशा में आगे बढ़े हैं. उनके भाई बोले कि योगी ने 1993 में गोरखपुर चले गए 21 साल में छोड़ दिया था|

अब पासपोर्ट बनवाने के लिए हिंदी में भी कर सकते हैं अप्लाई, जानिए क्या है नियम

0

Posted on : 24-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, राष्ट्रीय

नई दिल्ली: पासपोर्ट बनवाने की सोच रहे हैं और अंग्रेजी लिखने में दिक्कत होती है तो परेशान होने की जरुरत नहीं है। अब हिंदी में भी पासपोर्ट के अप्लाई किया जा सकता है। विदेश मंत्रालय ने लोगों को हिंदी में पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए एक प्रावधान किया है। विदेश मंत्रालय द्वारा यह कदम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा आधिकारिक भाषा के लिए बनाई गई समिति की सिफारिशों को स्वीकार करने के बाद उठाया गया है। 2011 में रिपोर्ट सौंपी गई। पैनल द्वारा दिए गए सुझाव में कहा गया था कि सभी पासपोर्ट कार्यालयों में हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में फॉर्म उपलब्ध कराए जाने चाहिए और हिंदी भरे गए आवेदनों को स्वीकार किया जाना चाहिए। इसके साथ ही पैनल ने अपनी सिफारिश में कहा था कि सभी पासपोर्ट में एंट्री भी हिंदी में होनी चाहिए।

एक आधिकारिक आदेश के मुताबिक राष्ट्रपति द्वारा हाल ही में इन सिफारिशों को स्वीकार किया गया है। जिसके बाद अब लोग हिंदी में भी पासपोर्ट के लिए आवेदन कर सकेंगे। आवेदनकर्ता वेबसाइट पर हिंदी में मौजूद को फॉर्म डाउनलोड कर सकता है और हिंदी में फॉर्म को भरकर वेबसाइट पर अपलोड करके पासपोर्ट के लिए अप्लाई कर सकता है। फॉर्म का भरा हुआ प्रिंट आउट पासपोर्ट सेवा केंद्र और स्थानीय पासपोर्ट ऑफिस में स्वीकार नहीं करेंगे। आधिकारिक भाषा के लिए बने पैनल ने अपनी सिफारिश में कहा कि पासपोर्ट और वीजा से जुड़ी जानकारी हिंदी में मंत्रालय की वेबसाइट पर भी मौजूद होनी चाहिए। एक आदेश में कहा गया है कि सिफारिशों को मंजूर कर लिया गया है।

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक पैनल ने पासपोर्ट दफ्तरों में मौजूद कम्प्यूटरों पर हिंदी में काम करने की सुविधा सुनिश्चित करने की भी सिफारिश की थी और कहा था कि कम्प्यूटर पर होने वाले सभी कार्य मुख्य रूप से हिंदी में किए जाने चाहिए। इसे भी स्वीकार कर लिया गया है। राष्ट्रपति ने दूतावासों और अधीनस्थ कार्यालयों में हिंदी अधिकारी के पद सृजित किए जाने को लेकर भी मंजूरी प्रदान कर दी है। साथ ही दफ्तरों में खाली पड़े हिंदी अधिकारियों के पदों को भी जल्द से जल्द भरने की सिफारिश को मंजूर किया है।

रंगोली से बनेगा संस्कारो का भू-अलंकरण

0

Posted on : 20-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, सामाजिक

फर्रुखाबाद: संस्कार भारती के द्वारा शनिवार 22 अप्रैल को अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य में भू-अलंकरण दिवस का आयोजन किया जायेगा| जिसमे रंगोली आकर्षण का केंद्र रहेगी|

शहर के कोटा पार्चा स्थित एशियन कम्प्यूटर सेंटर पर आयोजित एक बैठक में संस्कार भारती के प्रांतीय महामंत्री सुरेन्द्र पाण्डेय ने बताया कानपुर प्रान्त की सभी इकाईयां 22 अप्रैल को रंगोली बनाकर धरा को सुसज्जित करेंगी। चित्रकार अतुल कपूर ने बताया कि फर्रूखाबाद में रेलवे रोड पर मठिया देवी मंदिर के निकट रंगोली बनायी जायेगी।

उन्होंने बताया की संस्कार भारती 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य में भू-अलंकरण दिवस का आयोजन पूरे देश में कर रही है। आयोजन के संदर्भ में जानकारी देते हुए प्रान्तीय महामंत्री संरक्षक ओम प्रकाश मिश्रा ‘‘कंचन’’ ने कहा कि सभी नागरिक 22 अप्रैल को धरा को अलंकृत करें,
उन्होंने कहा
‘‘वसुधा का मान, मोदी युग की है पहचान
यह पहचान कभी मिटना, न चाहिये !!
मिटना न चाहिये स्वराश्ट्र् स्वाभिमान और,
भारत का मान कभी घटना न चाहिये !!’’

अध्यक्ष डा0 रवीन्द्र यादव ने कहा कि संस्कार भारती इस दिन अधिक से अधिक लोगो को अभियान से जोड़ेगी। भू-अलंकार दिवस पर लोगों को जागरूक कर मातृभूमि को सुसज्जित करने के लिये प्रेरित करेगी। इस अवसर पर सचिव पंकज पाण्डेय ,प्रान्तीय लोक कला विद्या संयोजक रविन्द्र भदौरिया मीडिया प्रभारी अनुराग पाण्डेय ‘‘रिंकू’’, अकांक्षा सक्सेना, आदि उपस्थित रहे।

हाईस्कूल पास हैं और सरकारी नौकरी चाहिए तो यहां करें अप्लाई

0

Posted on : 10-04-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, राष्ट्रीय

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में डाक विभाग ने कई पदों के लिए आवेदन मांगे हैं और इन पदों पर 10वीं पास कर चुके उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। महाराष्ट्र पोस्टल सर्किल की ओर से निकाली गई इस भर्ती में 1789 ग्रामीण डाक सेवक पदों पर उम्मीदवारों की नियुक्ति की जाएगी। साथ ही भर्ती में पोस्टल डिविजन और आरएमएस डिविजन में उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। बता दें कि डाक विभाग महाराष्ट्र में ही नहीं प्रदेश के कई अन्य हिस्सों में इस पद पर भर्ती निकालकर उम्मीदवारों की भर्ती कर रहा है। इसी क्रम में महाराष्ट्र में भी उम्मीदवारों को चयन किया जाएगा। साथ भी पदों की संख्यों को हर जाति वर्ग के अनुसार विभाजित किया गया है। अगर आप भी इस भर्ती में आवेदन करना चाहते हैं और इन पदों के लिए योग्य हैं तो आप आवेदन करने की आखिरी तारीख से पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

हालांकि अभी इस पद के लिए चयनित होने वाले उम्मीदवारों की पे-स्केल तय नहीं की गई है। वहीं कुल पदों की संख्या में अनारक्षित वर्ग के लिए 1034 पद, ओबीसी वर्ग के लिए 375 पद, एससी वर्ग के लिए 89 और एसटी के लिए 256 पद आरक्षित है। भर्ती में आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं पास होना आवश्यक है। वहीं इस भर्ती में 18 साल से 40 साल तक के उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और यह उम्र 5 मई 2017 के आधार पर तय की जाएगी। साथ ही आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को आयु सीमा में छूट दी जाएगी, जिसमें एससी-एसटी वर्ग के उम्मीदवारों को 5 साल और ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को 3 साल की छूट दी जाएगी। जबकि सभी चयनित उम्मीदवारों को महाराष्ट्र में ही नियुक्त किया जाएगा।

उम्मीदवारों का चयन 10 वीं कक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर होगा। इन पदों के लिए अनारक्षित और आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को 100 रुपये फीस का भुगतान करना होगा जबकि एससी-एसटी वर्ग के उम्मीदवारों को फीस नहीं देनी होगी। साथ ही यह फीस हेड पोस्ट ऑफिस में जमा करनी होगी। अगर आप भी आवेदन करना चाहते हैं तो http://indiapost.gov.in या http://www.appost.in/gdsonline पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने की आखिरी तारीख 6 मई 2017 है।

विशेष: 33 वर्षो से सोमबार को होते तीन देवियो के दर्शन!

0

फर्रुखाबाद:पूरे जनपद में नवरात्रि में 9 देवियो के दर्शन की धूम है| मंदिरो में भक्तो के दर्शन का मेला लगा है ! लेकिन कमालगंज के रामपुर माँझगाँव में साक्षात तीन देवियों के दर्शन की धूम मची है| नवरात्रि के दिनों में भक्त 9 देवियो के साथ साक्षात पुष्पा देवी,सुभलेसा देवी और अर्चना देवी के दर्शन कर कृतज्ञ हो रहे है| पुष्पादेवी बीते 33 वर्षो से यंहा बैठी है|

33 साल से पुष्पा देवी मंदिर में धूनी रमाये बैठी है वही अर्चना देवी और सुभलेसा देवी पुष्पा देवी की प्रेणना से देवी बनी बैठी है |यह तीनो देवियां अपने आप को देव शक्ति प्राप्त होने का भी लोग दावा कर रहे है| पुष्पा माता की अलौकिक ख्याति सुन कर लोग दूर दूर से अपनी मनोकामना लिए चले आते है| लोगो के अनुसार इनकी मनोकामना पूरी भी होती है इस गाँव में तीनो देवियो माता के मंदिर की ख्याति साक्षात देवी मंदिर के रूप में हो चुकी है|

रामपुर माँझगाँव के रामदास के पांच संताने तीन बेटे व् दो बेटिया है| जिसमे से तीसरी संतान पुष्पा देवी बचपन से धार्मिक प्रवत्ति की थी | हमेशा पूजा पाठ में लगी रहती थी| बचपन में गाँव के स्कूल में ही पढ़ाई की| धार्मिक होने के कारण से उनका ध्यान हर समय साधना व् तपस्या में ही रहता था| 13 साल की उम्र में बसंत पंचमी के दिन अचानक वह अपने घर में ध्यान में लींन हो गयी| घर के लोगो ने काफी समझाया लेकिन वह नही मानी|ध्यान में लींन होने के कारण उनके घर पर लोगो का मेला लगने लगा| घर वालो ने पुष्पा को घर के बाहर खुली जगह में बैठाल दिया| लेकिन वह ध्यान साधना में लींन हो चुकी थी |आखिर थक हार कर उनके बैठने के स्थान पर एक छप्पर डाल दिया गया| उस दिन के बाद पुष्पा माता उसी स्थान पर आसान लगा कर बैठी है जहां अब एक विशाल मंदिर बन चुका है| अपने माता पिता की मौत की खबर सुन कर भी वह उस स्थान से उठ कर नही गयी| यह मंदिर पुष्पा माता मंदिर नाम से जाना जाता है !

पुष्पा देवी का साधना स्थल बन गया पुष्पा माता मंदिर पुष्पा माता केवल सोमवार के दिन भक्तो को दर्शन देती है| बाक़ी दिन मंदिर के नीचे एक गुफा रूपी कमरे में ध्यान साधना मे लीन रहती है| पुष्पा माता मंदिर में सोमवार के दिन भक्तो का मेला लगता है| लोग दूर दूर से अपनी मनोकामना ले कर आते है| भक्तो की मनोकामना पूरी होती है| पुष्पा माता मंदिर लोगो की आस्था का केंद्र बन गया है| मंदिर की व्यवस्था पुष्पा माता के भाई प्रवीण सम्हाले है|उनका कहना है की पुष्पा माता मंदिर में जो भी सच्चे मन से अपनी मनोकामना लेकर आता है उसकी मनोकामना पूरी होती है| नवरात्रि के समय साक्षात देवी के दर्शन को सोमवार के दिन भक्तो हुजूम उमड़ता है| हर भक्त साक्षात माता के दर्शन कर कृतज्ञ होता है | पुष्पा देवी की प्रेरणा लेकर गांव की ही सुभलेसा देवी और अर्चना भी देवी बनकर साधना में बैठ गयी है |​

[bannergarden id="12"]