Featured Posts

मेजर और विजय समर्थकों की भिड़न्त की खबर पर छावनी बना लोहाई रोडमेजर और विजय समर्थकों की भिड़न्त की खबर पर छावनी बना लोहाई रोड फर्रुखाबाद: शहर के लोहाई रोड स्थित कनौडिया इण्टर कालेज बूथ के बाहर मेजर व विजय समर्थकों में भिड़न्त व नारेबाजी होते ही लोहाई रोड छावनी में तब्दील हो गया। पुलिस ने दोनो नेताओं के समर्थकों को तितर बितर कर दिया। मेजर समर्थकों का आरोप है कि सदर के विधायक व सपा प्रत्याशी विजय...

Read more

पर्ची बंटने के बावजूद नहीं घटी बस्तों की अहमियतपर्ची बंटने के बावजूद नहीं घटी बस्तों की अहमियत फर्रुखाबाद: चुनाव आयोग द्वारा भले ही घर-घर मतदाता पर्ची पहुंचाने की व्यवस्था की गयी हो लेकिन अभी भी बस्तों की अहमियत नहीं घटी। यह नजारा आज हो रहे विधानसभा चुनाव में साफ देखने को मिला। जहां पर प्रत्याशियों द्वारा अपने अपने बस्ते लगवाये गये। किसी पर भीड़ दिखायी दी तो कोई...

Read more

यूपी चुनाव LIVE: तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदानयूपी चुनाव LIVE: तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदान उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान शुरू हो गया है. इस फेज में 12 जिलों की 69 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. यह चरण इसलिए अहम है, क्योंकि इसमें सपा के गढ़ इटावा, मैनपुरी, कन्नौज, बाराबंकी और फर्रुखाबाद में मतदान हो रहे हैं. इस चरण में कुल 826 प्रत्याशी मैदान में हैं और...

Read more

विधानसभा अमृतपुर: ईवीएम खराब होने से कई जगह मतदान रुकाविधानसभा अमृतपुर: ईवीएम खराब होने से कई जगह मतदान रुका फर्रुखाबाद: (राजेपुर)लाख प्रयास के बाद भी आखिर ऐन मौके पर कई ईवीएम मशीने धोखा दे गयीं। जिससे विधानसभा क्षेत्र अमृतपुर के राजेपुर व ग्राम कड़क्का की ईवीएम मशीनें खराब होने से मतदान रुका। विधानसभा के ग्राम कड़क्का के बूथ संख्या 56 पर ईवीएम मशीन खराब होने से मतदान तकरीबन आधा...

Read more

राजनीति का खंजर- केवल चार बचेंगेराजनीति का खंजर- केवल चार बचेंगे पांच साल तक नेताओ के हाथ में रहने वाला राजनैतिक खंजर एक दिन मतदाताओ के हाथ में रहता है| मतदान के दिन ये खंजर किस किस पर कैसे कैसे चलेगा ये वोटिंग मशीन में ही गुप्त रूप से दर्ज हो जायेगा| बात उत्तर प्रदेश के आम विधानसभा चुनाव 2017 के जनपद फर्रुखाबाद की चार विधानसभाओ के परिपेक्ष्य...

Read more

बूथों पर अव्यवस्था के शिकार हुए मतदान कर्मीबूथों पर अव्यवस्था के शिकार हुए मतदान कर्मी फर्रुखाबाद: चुनाव आयोग के लाख प्रयास के बाद भी कहीं न कहीं खामी रह ही गयी। इसे किसके सर मड़ा जाये यह तो प्रशासन और चुनाव आयोग ही तय करे। लेकिन जब कई बूथों पर पोलिंग पार्टियां पहुंचीं तो उन्हें अव्यवस्था के शिकार हो गये। शनिवार शाम तक पोलिंग पार्टियां रवाना हुईं और जब बूथों...

Read more

मतदान के लिये फ़ोर्स ने कमर कसी,अधिकारियों ने दिये टिप्समतदान के लिये फ़ोर्स ने कमर कसी,अधिकारियों ने दिये टिप्स फर्रुखाबाद : विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2017 के लिये आगामी 19 फरवरी को मतदान को आयोग की मंशा के अनुसार निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं शान्तिपूर्वक रूप से सम्पन्न कराने के लिये जिला प्रशासन विभिन्न तैयारियॉ की जा रही है| मतदान को शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने में पुलिस फोर्स की बहुत...

Read more

बादशाह झूठा नहीं होता, झूठा हो तो बादशाह नहीं होता: आजम खानबादशाह झूठा नहीं होता, झूठा हो तो बादशाह नहीं होता: आजम खान फर्रुखाबाद: (कमालगंज/जहानगंज ) भोजपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम जरारी में सपा प्रत्याशी के समर्थन में समाजवादी पार्टी के स्टार प्रचारक मंत्री आजम खान ने जनसभा को सम्बोधित किया। इस दौरान आजम खान ने प्रधानमंत्री मोदी जी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने जनता से झूठा वादा...

Read more

कन्नौज में पीएम मोदी बोले, आपके प्यार को विकास के रूप में लौटाऊंगाकन्नौज में पीएम मोदी बोले, आपके प्यार को विकास के रूप में लौटाऊंगा फर्रुखाबाद : सपा के गढ़ कन्नौज में परिवर्तन संकल्प महारैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इतना प्यार 2014 में दे दिया होता तो कितना अच्छा होता। आपने आंख की शर्म के कारण जिन पर कृपा की वह एक कुनबा टूट गया, लेकिन मैं आपसे वादा करता हूं अबकी बार आपके प्यार...

Read more

यूपी चुनाव LIVE: दूसरे चरण का मतदान खत्म, 65.5 फीसदी लोगों ने डाले वोटयूपी चुनाव LIVE: दूसरे चरण का मतदान खत्म, 65.5 फीसदी लोगों ने डाले... उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में दूसरे चरण के लिए 11 जिलों की 67 सीटों पर मतदान बुधवार को संपन्न हो गया. इसी के साथ सभी 721 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला भी ईवीएम में बंद हो गया. जो मतदान केंद्र के अंदर बच गए थे उन्हें शाम 6 बजे तक मतदान के अधिकार का इस्तेमाल करने दिया गया. चुनाव...

Read more

यूपी चुनाव LIVE: तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदान

0

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान शुरू हो गया है. इस फेज में 12 जिलों की 69 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. यह चरण इसलिए अहम है, क्योंकि इसमें सपा के गढ़ इटावा, मैनपुरी, कन्नौज, बाराबंकी और फर्रुखाबाद में मतदान हो रहे हैं. इस चरण में कुल 826 प्रत्याशी मैदान में हैं और करीब दो करोड़ 41 लाख मतदाता हैं. वोटिंग के लिए कुल 25 हजार 603 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इटावा सीट पर सर्वाधिक 21 प्रत्याशी मैदान में हैं, जबकि बाराबंकी की हैदरगढ़ सीट पर सबसे कम तीन उम्मीदवार मैदान में हैं.

इस चरण में शिवपाल सिंह यादव, मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव और रीता बहुगुणा जोशी, अखिलेश के चचेरे भाई अनुराग यादव, प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप, राज्यमंत्री फरीद महफूज किदवई, राज्यमंत्री राजीव कुमार सिंह, राज्यमंत्री नितिन अग्रवाल, बसपा छोड़कर भाजपा में गए बृजेश पाठक और कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य पीएल पुनिया के बेटे तनुज पुनिया के राजनीतिक भाग्य का फैसला होगा. वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में सपा ने इन 69 सीटों में से 55 सीटें जीती थीं. बसपा को छह और भाजपा को पांच सीटें मिली थीं. कांग्रेस के खाते में दो सीटें गई थीं और एक सीट निर्दलीय प्रत्याशी को हासिल हुई थी.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वोट डाला, बोले- तीसरे चरण के बाद भी सपा सबसे आगे रहेगी

गृह मंत्री राजनाथ सिंह न पत्नी समेत किया मतदान. साथ में बीजेपी प्रत्याशी ब्रजेश पाठक भी मौजूद

हरदोई-चुनाव में ड्यूटी पर आए होमगार्ड की मौत, बिजौली विकासखंड कोथांवा के बूथ संख्या 254 पर होमगार्ड की थी तैनाती

इटावा के जसवंतनगर विधानसभा सीट के कटियापुर पोलिंग पूथ पर पत्थरबाजी, शिवपाल सिंह यादव हैं यहां से उम्मीदवार

फर्रुखाबाद- कायमगंज बिधानसभा के बूथ संख्या 292 पर पीठासीन अधिकारी बेहोश , आनन-फानन अस्पताल में भर्ती

सीतापुर: बिसवां विधानसभा के बूथ संख्या 169 पर मतदानकर्मी रामअवतार पर चुनाव में गड़बड़ी का आरोप.डीएम के निर्देश पर मतदानकर्मी को तत्काल हटाया गया

बीजेपी नेता उमा भारती ने लखनऊ में बूथ संख्या 149 पर मतदान किया

उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने भी किया मतदान

तीसरे चरण का मतदान खत्म, करीब 65 फ़ीसदी हुआ मतदान
औरैया:61.78%
कन्नौज: 64%
बाराबंकी: 68.00%
उन्नाव: 61.00%
सीतापुर: 69.00%
फर्रुखाबाद: 62.50%
हरदोई: 59.60%
कानपुर देहात: 60.7%
कानपुर नगर: 56.4%
लखनऊ: 60.00%
मैनपुरी: 58.72%
इटावा: 65.00%

तीसरे चरण में 250 उम्मीदवार करोड़पति, टॉप टेन में मुलायम की छोटी बहू अपर्णा भी शामिल

0

Posted on : 15-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP, Politics-BSP, Politics-CONG.

भले ही उत्तर प्रदेश में आज भी राजनीति बिजली, सड़क, रोटी और मकान के वादों के इर्द-गिर्द ही घूमती हो लेकिन तस्वीर का दूसरा पहलू ये है कि इसी प्रदेश में करोड़पति नेताओं की भी कमी नहीं है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण पर ही नजर डाल लें तो महज 69 सीटों पर जीत के लिए 250 करोड़​पति उम्मीदवार मैदान में हैं. इनमें भाजपा के 61, सपा के 51, बसपा के 56, कांग्रेस के सात, रालोद के 13 और निर्दलीय 24 प्रत्याशी शामिल हैं.

सबसे अमीर प्रत्याशियों की टॉप टेन लिस्ट की बात करें तो इसमें सपा के अनूप गुप्ता, सीमा सचान, मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव, सपा के सांसद नरेश अग्रवाल के बेट नितिन अग्रवाल के नाम शामिल हैं, वहीं कांग्रेस के अजय कपूर के साथ प्रमोद ​जायसवाल और भाजपा के सतीश महाना भी इस फेहरिस्त में शामिल हैं.

तीसरे चरण में 12 जिलों में 19 फरवरी को मतदान होना है. इसमें फर्रुखाबाद, हरदोई, कन्नौज, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी, सीतापुर शाामिल हैं. इस दौरान 12 जिलों की 69 विधानसभाओं के 826 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा.

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रैटिक रिफॉम्र्स और उत्तर प्रदेश इलेक्शन वॉच ने यूपी विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के उम्मीदवारों द्वारा घोषित वित्तीय विवरणों के आधार पर विश्लेषण किया है.

एडीआर ने 826 में से 813 उम्मीदवारों के पत्रों का विश्लेषण किया है. ये 105 राजनीतिक दलों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. इनमें 6 राष्ट्रीय दल, 7 क्षेत्रीय दल, 92 गैर मान्यता प्राप्त दल और 225 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल हैं.

विश्लेषण में सामने आया कि उम्मीदवारों ने जो अपनी संपत्ति का विवरण दिया है, उसमें 8 फीसदी यानी 68 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनकी संपत्ति 5 करोड़ रुपए या उससे ज्यादा है. वहीं 12 प्रतिशत यानी 98 प्रत्याशियों की संपत्ति 2 करोड़ या उससे ज्यादा है, 175 उम्मीदवारों की संपत्ति 50 लाख से 2 करोड़ के बीच है. इनमें 269 उम्मीदवार ऐसे भी हैं, जिनकी संपत्ति 10 लाख रुपए से कम है.

तीसरे चरण में उम्मीदवारों की औसत संपत्ति करीब 1.61 करोड़ रुपए है. इनमें कांग्रेस का औसत 6 करोड़ 20 लाख रुपए, भाजपा का 3 करोड़ 79 लाख रुपए, बसपा का 4.18 करोड़ रुपए, सपा का 5.70 करोड़ रुपए, रालोद का 73.56 लाख रुपए और निर्दलीय उम्मीदवारों की संपत्ति का औसत 72.25 लाख रुपए है.

दो उम्मीदवारों के पास कुछ भी नहीं

दिलचस्प बात ये है कि लखनऊ पश्चिम से सीपीआई के प्रत्याशी मोहम्मद अकरम खान और सीतापुर की लहरपुर सीट से आवामी समता पार्टी के प्रत्याशी सुरेश चंद्र ने ऐलान किया है कि उनके पास एक रुपए की संपत्ति नहीं है. इसके अलावा कानपुर नगर की घाटमपुर सीट से ओजस्वी पार्टी के प्रत्याशी विजय गौतम ने सं​पत्ति के नाम पर 1000 रुपए घोषित किए हैं, वहीं फर्रुखाबाद के भोजपुर से निर्दलीय प्रत्याशी अवनीत कुमार और सीतापुर से प्रत्याशी नारायण उर्फ राम नारायण ने अपने पास संपत्ति के नाम पर 3000 रुपए दिखाए हैं.

सबसे ज्यादा देनदारी घोषित करने वाले उम्मीदवारों में फर्रुखाबाद के मनेाज अग्रवाल नंबर एक हैं, इनकी कुल संपत्ति 26 करोड़ रुपए है, जबकि देनदारी इन्होंने 13 करोड़ की दिखाई है, वहीं कानपुर नगर के कांग्रेस प्रत्याशी अजय कपूर ने 31 करोड़ की अपनी संपत्ति में 9 करोड़ की देनदारी दिखाई है, ज​बकि लखनऊ कैंट से सपा प्रत्याशी अपर्णा यादव यहां तीसरे नंबर पर हैं. अपर्णा यादव के पास 22 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति है और देनदारी उन्होंने 8 करोड़ से ज्यादा की दिखाई है.

50 लाख सालाना कमाती हैं अपर्णा यादव

दिलचस्प बात ये है कि इनकम टैक्स में सबसे ज्यादा वार्षिक आय घोषित करने वालों की टॉप थ्री लिस्ट में मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव का नाम सबसे ऊपर है. अपर्णा ने अपने पति प्रतीक के साथ घोषित किया है कि उनकी सालाना आय 1.97 करोड़ से ज्यादा है. इसमें अपर्णा की खुद की आय 50 लाख रुपए के करीब है.

करोड़ों की संपत्ति लेकिन आयकर रिटर्न नहीं करते दाखिल

813 में से सिर्फ 26 प्रतिशत यानी 208 प्रत्याशियों के पास ही पैन है. करीब 424 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिन्होंने अपनी आयकर का विवरण घोषित नहीं किया है. इसमें भी खास बात ये है कि 26 उम्मीदवारों ने अपनी संपत्ति एक करोड़ रुपए से ज्यादा की घोषित की है, लेकिन आयकर विवरण नहीं दिया है. इनमें लखनऊ के सरोजनीनगर सीट से निर्दलीय प्रत्याशी रुद्र दमन​ सिंह ने अपनी संपत्ति 16 करोड़ से ज्यादा की दिखाई है, इनके पास पैन भी है लेकिन ये आयकर रिटर्न दाखिल नहीं करते.

तीसरे चरण में करोड़पति उम्मीदवार

भाजपा के 68 में से 61 प्रत्याशी — 90 प्रतिशत

सपा के 59 में से 51 प्रत्याशी — 86 फीसदी

बसपा के 67 में से 56 प्रत्याशी — 84 फीसदी

कांग्रेस के 14 में से 7 प्रत्याशी— 50 फीसदी

रालोद के 40 में से 13 प्रत्याशी — 33 प्रतिशत

निर्दलीय 225 में से 24 प्रत्याशी — 11 प्रतिशत

तीसरे चरण में चल-अचल संपत्ति वाले टॉप टेन प्रत्याशी

अनूप कुमार गुप्ता – सीतापुर में महोली से सपा प्रत्याशी – 42 करोड़ रुपए से ज्यादा

अजय कपूर – कानपुर नगर की ​किदवईनगर से कांग्रेस प्रत्याशी – 31 करोड़ से ज्यादा

सीमा सचान – कानपुर देहात की सिकंदरा से सपा प्रत्याशी – 29 करोड़ से ज्यादा

मनोज अग्रवाल – फर्रुखाबाद से निर्दलीय उम्मीदवार – 26 करोड़ से ज्यादा

प्रमोद जायसवाल – कानपुर नगर की आर्यनगर से कांग्रेस प्रत्याशी – 24 करोड़ से ज्यादा

अपर्णा यादव – लखनऊ कैंट से सपा प्रत्याशी – 22 करोड़ से ज्यादा

सतीश महाना – कानपुर नगर के महाराजपुर से भाजपा प्रत्याशी – 20 करोड़ से ज्यादा

तस्कीन – कन्नौज की छिबरामऊ से निर्दलीय प्रत्याशी – 19 करोड़ से ज्यादा

नितिन अग्रवाल – हरदोई सीट से सपा प्रत्याशी – 19 करोड़ से ज्यादा

शिव कुमार गुप्ता – सीतापुर की सेवता सीट से सपा प्रत्याशी – 19 करोड़ से ज्यादा

यूपी चुनाव LIVE: पहले चरण की पोलिंग खत्म, 5.00 बजे तक करीब 64 फीसदी मतदान

0

Posted on : 11-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP, Politics-BSP, Politics-CONG.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान जारी है. इस चरण में पश्चिमी यूपी के 15 जिलों की 73 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. इस दौरान कुछ इलाकों में हिंसक झड़प की घटनाएं सामने आई है.

मेरठ में किठौर के राधना गांव में मंत्री शाहिद मंजूर के बूथ में जाने पर जमकर विरोध हुआ. यहां तक कि मंत्री के साथ गाली-गलौज किया गया. उनकी गाड़ी पर पथराव हुआ. कार का शीशा फूट गया और शाहिद मंजूर जान को वहां से भागना पड़ा.

मेरठ के सरधना से विधायक और बीजेपी प्रत्याशी संगीत सोम के भाई गगन सोम को पुलिस में हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि गगन पिस्टल के साथ पोलिंग बूथ पहुंचे थे.

कुछ जगहों पर ईवीएम में खराबी आने से वोटिंग प्रभावित हुई है.इस फेज में 2,60,17,128 वोटर 839 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करने जा रहे हैं. इसमें 14276128 पुरुष और 11776308 महिलाएं शामिल हैं. मतदान के लिए 14514 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. मतदान केंद्रों पर पर 2362 डिजिटल कैमरे और 1526 वीडियो कैमरा लगाए गए हैं.

पहले चरण के तहत शामली जिले की कैराना, थाना भवन, शामली मुजफ्फरनगर की बुढ़ाना, चरथावल, पुरकाजी, मुजफ्फरनगर, खतौली, मीरापुर विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है. बागपत जिले की छपरौली, बड़ौत और मेरठ जिले की सिवालखास, सरधना, हस्तिनापुर, किठोर, मेरठ कैंट, मेरठ, मेरठ साउथ विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है.

गाजियाबाद की लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद, मोदी नगर व गौतमबुद्धनगर की नोएडा, दादरी, जेवर विधानसभा सीट पर भी वोट डाले जा रहे हैं.

हापुड़ की धौलाना, हापुड़, गढ़मुक्तेश्वर, बुलंदशहर की सिकंदराबाद, स्याना, अनूपशहर, देबाई, शिकारपुर, खुर्जा के साथ ही अलीगढ़ जिले की खैर, बरौली, अतरौली, छर्रा, कोइल, अलीगढ़, इगलास विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है.

मथुरा जिले की छाता, मांट, गोवर्धन, मथुरा, बलदेव व हाथरस जिले की हाथरस, सादाबाद, सिकंदर राव व आगरा जिले की एतमादपुर, आगरा कैंट, आगरा साउथ, आगरा नॉर्थ, आगरा ग्रामीण, फतेहपुर सीकरी, खेरागढ़, फतेहाबाद, बाह सीटों पर मतदान हो रहा है. फिरोजाबाद की टूंडला, जसराना, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद, सिरसागंज व एटा जिले की अलीगंज, एटा, मरहरा, जलेसर कासगंज जिले की कासगंज, अमनपुर, पटियाली सीट पर वोट डाले जा रहे हैं.

बागपत-बागवाली कॉलोनी में वोट डालने के विवाद में दो पक्षों में संघर्ष, पथराव, मारपीट,एक दर्जन घायल, 3 गंभीर
अलीगढ़-कल्याण सिंह ने मढौली पहुंचकर डाला वोट, पत्नी और परिवार समेत कल्याण सिंह ने किया मतदान
फिरोजाबाद-शिकोहाबाद के दो गांवों नगला कोठी और सलेमपुर में मतदान बहिष्कार
मेरठ: मुंडाली के अजराड़ा में बूथ संख्या 48 के बाहर फायरिंग, मजिस्ट्रेट समेत भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर. सपा के मंत्री शाहिद मंजूर हैं यहां से प्रत्याशी.
हाथरस-सादाबाद के गढ़ी हरवल के लोगों ने किया मतदान बहिष्कार,विकास कार्य न होने से नाराज होकर किया मतदान बहिष्कार
मथुरा: रालोद, बीजेपी समर्थकों में जमकर मारपीट. रालोद पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप

पहले चरण की पोलिंग खत्म, 5.00 बजे तक करीब 64 फीसदी मतदान

आगरा: 63.94%
एटा: 68%
हापुड़: 69.8%
अलीगढ: 65%
हाथरस: 61%
गाजियाबाद: 57%
मथुरा: 68.30%
मेरठ: 65%
शामली: 62%
बुलंदशहर: 64%
फिरोजाबाद: 61%
कासगंज: 64%
बागपत: 65%
नोएडा: 60%
मुजफ्फरनगर: 65%

खुद तो शीशे के घरों में रहते हैं मगर दूसरों के घरों में पत्थर मारना नहीं भूलते: मायावती

0

फर्रुखाबाद(कमालगंज): कमालगंज में अपनी चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने बीजेपी व सपा को आड़े हाथों लिया। एक तरफ उन्होंने प्रदेश में सपा के गुन्डाराज का बखान किया तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के नोटबंदी को भी नहीं बख्सा। यहां तक कि उन्होंने मीडिया पर भी कटाक्ष करने से नहीं छोड़ा, उन्होंने कहा कि वे लोग मैनेज की गयी मीडिया की खबरों से सावधान रहें। यदि सावधानी न बरती तो भारतीय जनता पार्टी या सपा प्रदेश की सत्ता में आ सकती है। वहीं उन्होंने नोटबंदी के द्वारा बड़े पूंजीपतियों को पहले ही बताने व उन्हें लाभ पहुंचाने की भी बात कही। उन्होंने कहा कि जो खुद तो शीशे के घरों में रहते हैं मगर दूसरों के घरों में पत्थर मारना नहीं भूलते। उन्होंने कहा कि इन्ही गलत नीतियों के कारण बीजेपी अपने मुख्यमंत्री का चेहरा नहीं दिखा पायी।

बसपा सुप्रीमों एवं पूर्व मुख्यमंत्री ने कमालगंज मैदान में मौजूद भीड़ को सम्बोधित करते हुए कहा कि लाखों की संख्या में उपस्थित इस अपार भीड़ देखकर पूर्ण भरोसा हो गया है कि आप लोग चुनाव में हर प्रकार से अपने फर्रुखाबाद तथा कन्नौज जिले की सभी विधानसभा सीटों से प्रत्याशी जिताकर बीएसपी की सरकार बनायेंगे और बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का सपना पूरा करेंगे।

उन्होंने कहा कि इसके लिए आप लोगों को इस चुनाव में सत्ता में कांग्रेस, सपा गंठबंधन, बीजेपी आदि को वोट न देकर मात्र हितैषी पार्टी बहुजन समाज पार्टी को वोट दें। इन विरोधी पाटियों के बारे में आप लोगों को मालूम है कि उत्तर प्रदेश में सपा के पांच वर्ष एवं केन्द्र में बीजेपी के तीन वर्षों के कार्यकाल में गरीब, पिछड़े, अल्पसंख्य, किसान आदि विरोधी नीतियों के कारण प्रदेश की लगभग 22 करोड़ जनता में जनाक्रोष व्याप्त है। ऐसे हालात में बीजेपी अपने मुख्यमंत्री का चेहरा नहीं दिखा पायी।

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अपने आपको सेक्युलर कहने वाले कांग्रेस पार्टी सपा से गंठबंधन कर चुकी है। आजादी के बाद उत्तर प्रदेश में 37 वर्षों तक तथा केन्द्र में 54 वर्षों तक अकेले राज्य किया। गलत कार्यशैली के बजह से केन्द्र व राज्यों की सत्ता से कांग्रेस बाहर हो गयी।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सपा सरकार में अराजकता, सम्प्रदायिकता व्याप्त रही है। पूरे प्रदेश में चोरी, लूट, हत्या, अपहरण, महिला उत्पीड़न, अवैध कब्जे, सम्प्रदायिक दंगे चरमसीमा पर लगातार जारी है। वहीं उन्होंने बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मुजफ्फर नगर सहित 500 छोटे बड़े दंगे, मथुरा में जमीन अवैध कब्जे को लेकर खूनी संघर्ष हुआ। प्रदेश में अधिकांश बड़े कार्यों की शुरूआत बीएसपी में कर दी गयी थी। वर्तमान सपा सरकार ने बहुत चालाकी से नाम बदलकर उन्हीं कार्यो को दोहरया। सपा सरकार में प्रदेश के गरीबों, मजदूरों, कर्मचारियों, वकीलों, युवाओं, महिलाओं, बुजुर्गों की भी हालत खराब बनी रही। जिसके लिए वर्तमान भाजपा सरकार भी बराबर की जिम्मेदार है। जिसे जबर्दस्त नुकसान भी उठाना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि सपा नेता मुलायम सिंह यादव ने पुत्र मोह में अपने भाई शिवपाल सिंह यादव को अपमानित किया है। वह अंदर अंदर जरूर नुकसान पहुंचायेंगे। वह एक दूसरे के उम्मीदवारों को हराने की भी कोशिश करेंगे। उन्होंने अल्पसख्ंयक समाज के लिए कहा कि अल्पसंख्यक समाज के लोग सपा के उम्मीदवारों को यदि वोट देते है तो उसका सीधा फायदा बीजेपी को होगा।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि मोदी जी ने सन 2014 में उत्तर प्रदेश व पूरे देश की जनता में कल्याण के लिए जो अनेक चुनावी वादे किये थे। जिसमें गरीबों, किसानों के लिए केन्द्र में बीजेपी की सरकार बनने पर विदेशों से सभी काला धन वापस लाकर सभी गरीब परिवारों को 15 से 20 लाख रुपये दिये जायेंगे। किसानों का सभी कर्जा माफ कर दिया जायेगा। जिसे अब यह लोग इस चुनाव में फिर से भुनाने में लगे हैं। दोनो चुनावी वायदे अन्य वायदों की तरह हवा हवाई रह गये।

बीजेपी ने पूरे देश में अचानक 500 व 1000 के नोट पर पाबंदी लगाने का फैसला ले लिया। 90 प्रतिशत गरीब, किसान व मध्यम वर्गीय उभर नहीं पा रहे। पूरे देश में करोड़ों लोग बेरोजगार भी हो चुके। यह भी आम चर्चा है कि बीजेपी प्रधानमंत्री ने अपने फैसले के पहले ही 10 महीनों के अंदर अपनी पार्टी, अपने चेहते पूंजीपतियों का कालाधन ठिकाने लगवा दिया था। जिसका अभी तक खुलासा नहीं किया गया। आज तक इन्होंने यह भी नहीं बताया कि देश में नोटबंदी करने के बाद इन तीन महीनों के अंदर कितना काला धन इकट्ठा किया गया कितने लोगों को सजा दी गयी। बीजेपी ने नोटबंदी का फैसला अपने राजनैतिक स्वार्थ में किया।

मोदी जी ने केवल देश में अपने चहते बड़े बड़े पूंजीपतियों व धन्नासेठों को कई गुना माला माल व धनवान बना दिया। उत्तर प्रदेश में भी सत्ता में आने के सपने देख रहे है। जातिवादी मानसिकता के चलते देश के दलितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों का शोषण किया है।

ताबड़तोड़ रैलियों से हुंकार भरेंगे राहुल ,अखिलेश, मायावती और राजनाथ, ये रहा पूरा शेड्यूल

0

Posted on : 06-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP, Politics-BSP, Politics-CONG.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में महज 5 दिन बाकी रह गए हैं. चुनाव को लेकर रैलियों और जनसभाओं को दौर शुरु है. सोमवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमों मायावती और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह अपनी-अपनी पार्टियों के पक्ष में 15 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे.

राहुल गांधी की 3 जनसभाएं

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज यूपी में तीन जनसभाओं को संबोधित करेंगे. जिसमें शामली, मथुरा और अलीगढ़ शामिल हैं. दोपहर 12 बजे राहुल गांधी की पहली जनसभा शामली में होगी, जिसके बाद मथुरा में 2.10 मिनट औ अलीगढ़ की जनसभा 3 बजकर 30 मिनट पर शुरु होगी.

सीएम अखिलेश यादव करेंगे 6 जनसभाएं

यूपी के सीएम अखिलेश यादव आज सीतापुर जिले में 6 चुनावी सभाएं करेंगे. वे सिधौली विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी मनीष रावत, मिश्रिख विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी रामपाल राजवंशी, पिसांवा विधानसभा क्षेत्र से अनूप गुप्ता, सेवता विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी शिव कुमार गुप्ता, विधानसभा क्षेत्र महमूदाबाद से प्रत्याशी नरेंद्र सिंह वर्मा और बिसवां विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी अफजाल कौसर अंसारी के पक्ष में मतदान की जनता से अपील करेंगे. अखिलेश यादव विधानसभा क्षेत्र लखीमपुर और श्रीनगर की एक संयुक्त सभा कर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी उत्कर्ष वर्मा और राम सरन मौर्य को चुनाव में जीत दिलाने के लिए जनता से अपील करेंगे.

बसपा सुप्रमों मायावती की 2 रैलियां

बसपा सुप्रीमो मायावती आज दो चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे. मायावती की पहली रैली दोपहर 12 बजे फर्रुखाबाद के कमालगंज और इसके बाद दोपहर 2 बजे आगरा के कोठीमीना बाजार मैदान पर होगी.

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की 4 जनसभाएं

केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज पश्चिमी यूपी में चार जनसभाओ को संबोधित करेंगे. वह सुबह 11.5 बजे कासगंज के पटियाली में, दोपहर 1.10 बजे फिरोजाबाद के टूंडला में , दोपहर 2.20 बजे मथुरा के छाता में और दोपहर 3.45 बजे बुलंदशहर के सिकंदराबाद में जनसभा को संबोधित करेंगे.

यूपी में सात चरणों में वोटिंग

उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च के बीच सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल और समाजवादी पार्टी के अखिलेश धड़े के बीच गठबंध के बावजूद बहुकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा.

केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद जिस तरह से बीजेपी को दिल्ली और बिहार में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है, वैसे में उत्तर प्रदेश का चुनाव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है.

मुख्यमंत्री चेहरे को सामने न लाकर एक बार फिर बीजेपी ने पीएम मोदी के चेहरे पर दांव खेला है. इसका कितना फायदा उसे इन चुनावों में मिलेगा वह 11 मार्च को सामने आ ही जाएगा.

[bannergarden id="12"]