मतदाता पर्ची ना बाँटने में बीएलओ पर गाज गिरना तय!

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FOOD & SUPPLY, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) मतदान से पूर्व मतदाता पर्ची का वितरण ना करना बीएलओ को मंहगा पड़ सकता है| जाँच में अधिकारियों को इसकी पुष्टि भी कर दी की बीएलओ ने मतदाताओं को मतदाता पर्ची वितरण नही की|
मतदान के दिन शाम को ग्राम पट्टीदारापुर की बीएलओ (शिक्षा मित्र) कृष्णा देवी के घर से दर्जनों मतदाता पर्ची मिली थी| जिसकी शिकायत जिलाधिकारी मोनिका रानी से की गयी थी| जिलाधिकारी ने तहसीलदार अमृतपुर राजू कुमार को मामले की जाँच के लिए अधिकृत किया| शनिवार को तहसीलदार के साथ ही कानूनगो कुलदीप राठौर व लेखपाल मान्मेन्द्र सिंह ग्राम पट्टीदारापुर में जाँच करनें पंहुचे| उन्होंने लगभग 111 मतदाता पर्चियों की जाँच में कुल 40 पर्ची इस तरह की मिली जिनको बीएलओ के द्वारा नही बांटा गया|
तहसीलदार ने जेएनआई को बताया कि जाँच में कुल 40 मतदाताओं को पर्ची ना देंने की पुष्टि हुई| तहसीलदार ने बताया कि जाँच रिपोर्ट बनाकर जिलाधिकारी को भेजी जा रही है| जिलाधिकारी के स्तर पर कार्यवाही की जायेगी|

ई-पॉश मशीनों से सर्वर गायब,एक-एक दाने को तरसे ग्रामीण

0

फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)अनाज वितरण में पारदर्शिता लाने के लिए लगाई गई ई-पॉश मशीनों ने गरीबों के साथ ही कोटेदारों की भी मुश्किलें बढ़ा दी हैं। लगातार कई दिन गुजर जाने के बाद भी अनाज वितरण पूरी तरह ठप है। कार्डधारक घंटों इंतजार करते रहे। काफी देर तक व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो वे मायूस होकर लौट गए। वहीं, कुछ दुकानों में कार्डधारकों और कोटेदारों में कहासुनी भी हुई।
सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों में कोटेदारों पर सख्ती के लिए सरकार ने मशीनों के माध्यम से अनाज वितरण शुरू कराया गया। शुरुआती दौर में ही मशीनों में कोई न कोई खामी आने लगी। हर महीने की पांच तारीख को अनाज वितरण के दौरान मशीनों का सर्वर गायब रहता है। इस बार भी पांच नबम्वर से लगातार सर्वर की समस्या है| रविवार को भी यही स्थिति बनी रही। अनाज के लिए दुकान पर पहुंचे कार्डधारक काफी देर तक इंतजार करते रहे।
बुढनामऊ,भाऊपुर, कमालगंज,खानपुर,याकूतगंज,कटरी धर्मपुर,निनौँआ,धन्सुआ,राजेपुर के ग्राम बर्राखेडा गांवों में जेएनआई टीम ने सम्पर्क किया तो अनाज वितरण की हालत काफी गम्भीर दिखी| लोग अनाज के लिए काफी देर तक खड़े वही कोटेदार भी सर्वर न आने की बात कहते रहे। निनौआ की कोटेदार किरन देवी ने बताया की उनके गाँव में 336 राशन कार्ड धारक है| जिसमे से ई-पॉश में सर्वर ना आने से केबल चार को ही राशन उपलब्ध कराया जा सका है|
वही याकूतगंज के कोटेदार राजेन्द्र दुबे ने जेएनआई को बताया की उनके पास 778 कार्ड धारक है| जिसमे से ई-पॉश मशीन में सर्बर ना आने से एक भी कार्ड धारक को राशन वितरण नही किया जा सका है| नगर से सटे ग्राम खानपुर के कोटेदार राकेश राजन ने बताया की उनके पास 880 राशन कार्ड का वितरण है लेकिन अभी चार नबम्वर से अभी तक केबल 450 का ही वितरण किया जा सका है|
विजाधरपुर के कोटेदार पुत्र नीलेंद्र दुबे ने बताया की सर्बर से सिरदर्द पैदा कर दिया है| राशन कार्ड धारक सुबह से ही आकार बैठ जाते है| लेकिन सर्बर ना होने से उन्हें मायूस लौटना पड़ रहा है| उनके पास 1140 राशन कार्ड धारक है अभी केबल 190 राशन कार्ड पर राशन बांटा गया है| आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राजेश तिवारी के पास राजेपुर के बर्राखेडा का कोटा है| उन्होंने बताया क उनके पास कुल 348 राशन कार्ड है लेकिन अभी तक 152 का ही वितरण किया जा सका है| इस सम्बम्ध में वह जिला पूर्ति अधिकारी से मिलेंगे|
बीते तकरीबन 6 दिन से लगातार जब राशन की जगह कार्ड धारकों को मायूसी मिली तो उनके सब्र का बांध टूटा तो उन्होंने कोटेदारों को खूब खरी-खोटी सुनाई। इस दौरान कोटेदार भी असमर्थता जताते रहे। कई कार्डधारकों ने जिला पूर्ति कार्यालय और क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी कार्यालय पहुंचकर शिकायत भी की। यहां पर वही समस्या बताकर अगले दिन आने की बात कहकर लौटा दिया गया।
जिला पूर्ति अधिकारी राजेश कुमार ने जेएनआई को बताया की एनआईसी लखनऊ से सर्बर की समस्या है| सोमबार को इसको दुरस्त करने के प्रयास होंगे| जल्द व्यवस्था दुरस्त की जायेगी| सर्वर की समस्या पूरे प्रदेश में आ रही है|
एसडीएम सदर अमित असेरी ने जेएनआई को बताया की पूर्ति विभाग के द्वारा अभी कोई विकल्प नही आया है| शासन के आदेश का इंतजार है| शासन यदि आदेश करेगा तो ही पूर्व विकल्प से वितरण कराया जायेगा| उन्होंने बताया की याकूतगंज कोटे पर यदि एक भी वितरण नही हुआ है तो उसे जल्द चेक कराया जायेगा

चांदी के वर्क वाली मिठाई से क्यों रहें सावधान?

0

Posted on : 02-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, FOOD & SUPPLY, सामाजिक

फर्रुखाबाद:मिठाईयों पर लगाया जाने वाला चांदी का वर्क जितना आकर्षक लगता है, सेहत के लिए भी उतना ही फायदेमंद होता है। लेकिन वर्तमान में जहां हर चीज में मिलावट होती है वहां चांदी का वर्क भी मिलावट से अछूता नहीं है। ऐसे में अगर आप नकली चांदी के वर्क लगी मिठाईयां खाते हैं, तो यह सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। इसलिए जान लीजिए नकली वर्क को पहचानने के तरीके –
1 चांदी का वर्क लगी कोई भी मिठाई लेकर इसे अपनी अंगुली पोंछने का प्रयास करें। अगर पोंछते समय यह आपके हाथ में चिपकता है, तो इसका मतलब है इसमें एल्युमिनियम है। लेकिन अगर यह आपके हाथ में नहीं चिपकता और गायब हो जाता है, तो यह पूरी तरह सुरक्षित है।
2 नकली वर्क थोड़ा मोटा होता है जबकि असली वर्क महीन होता है। अगर मिठाई पर लगे चांदी के वर्क को उतारा जाए और इसे गर्म किया जाए, तो यह चांदी के गोले की तरह तब्दील हो जाएगा। लेकिन अगर वर्क मिलावटी है, तो जलाने पर यह काला पड़ जाता है या फिर राख में बदल जाता है, क्योंकि इसमें एल्यमिनियम मिला होता है।
3 चांदी के वर्क को परखनली में लेकर अगर हाइड्रोक्लोरिक एसिड की एक बूंद डाली जाए तो यह सफेद वेग के साथ टदबाइड हो जाएगा। लेकिन अगर यह मिलावटी है, तो यह टरबाइड नहीं होगा। इसका मतलब है कि इसमें चांदी नहीं बल्कि एल्युमिनियम है।
4 अगर आप चांदी के वर्क को हाथ में रखकर हथेली के बीच रगड़ेंगे, तो यह गायब हो जाएगी। लेकिन अगर चांद के वर्क में मिलावट है, तो यह एक बॉल के रूप में एकट्ठा हो जाएगा।
5 चांदी का वर्क अगर असली है, तो यह लंबे समय तक भी टिका रहता है और इसकी चमक कम नहीं होती। लेकिन अगर यह एल्युमिनियम है, तो पुराना होने पर इसका रंग काला पड़ जाता है।

लेखपालो के ना पंहुचने से शिकायते लटकी

0

Posted on : 05-08-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, FOOD & SUPPLY, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(जहानगंज/कमालगंज) पुलिस अधीक्षक दया नंद मिश्रा ने समाधान दिवस में पंहुचकर फरियादियों की समस्या को सुना और उनके निस्तारण का प्रयास किया| लेकिन जहानगंज में लेखपालो के गायब रहने से फरियादियों को समस्या से निजात नही मिल सकी |
एसपी कमालगंज थाने के समाधान दिवस में पंहुचे जंहा उन्होंने लेखपालो और पुलिस कर्मियों को सख्त निर्देश दिये की वह वाइक चलाते समय हेलमेट का प्रयोग करे नही तो कार्यवाही की जायेगी| इसके साथ ही दिनारपुर निवासी हरदेवी पत्नी सुरेन्द्र व लज्जावती पत्नी किशन सिंह निवासी भोजपुर, श्यामदत्त निवासी माझगांव सहित 7 फरियादी अपनी भूमि सम्बन्धित शिकायते लेकर पंहुचे| सभी शिकायतों पर पुलिस वलेखपाल भेजे गये|
वही थाना जहानगंज में एसपी के पंहुचें पर केबल चार शिकायते आयी जिसमे सभी भूमि विवाद से सम्बन्धित थी| लेकिन लेखपाल मौके पर मौजूद ना होने से उनकी समस्या का निस्तरण नही हो सका | लेकिन एसपी ने सभी पर कार्यावाही करने के निर्देश दिये|

पांच दुकानों से भरे गये नमूने

0

Posted on : 09-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, FOOD & SUPPLY, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: खाद्य सुरक्षा विभाग के द्वारा गुरुवार को शहर के मुख्य बाजार से खोया, घी, पापड़, पास्सा आदि के नमूने लिये। खाद्य सुरक्षा की टीम पहुंचते ही मिलावटखोर दुकानदारों में हड़कंप मच गया।

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी पंकज कुमार ने बताया कि खाद्य सुरक्षा आयुक्त के निर्देश पर छापेमारी अभियान चलाया गया। जिसमें का चौक बाजार में खोया बेचने आये नागेश्वर पुत्र धनपाल कोरी निवासी बिरसिंहपुर हरिहरपुर राजेपुर के खोये का नमूना भरा। वहीं शहर के लाल सराय स्थित राहुल गुप्ता पुत्र सुरेशचन्द्र गुप्ता की दुकान से घी का सेम्पुल भरा गया। किराना बाजार के लक्ष्मी नारायण पापड़ भण्डार की दुकान से पापड़ का नमूना लिया। यहीं के राजेश खण्डेलवाल पुत्र कैलाशचन्द्र की दुकान से पास्सा का नमूना लिया गया।

खाद्य सुरक्षा विभाग के सचल दल ने पांचाल घाट से बंगाली स्वीट हाउस की दुकान पर जाकर पेड़ा का नमूना भरा। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी पंकज कुमार ने बताया कि सभी नमूने संग्रहीत कर जांच के लिए खाद्य विश्लेषक को भेजे गये हैं।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी के छापेमारी से मिलावटखोरों में हड़कंप, तीन के नमूने भरे

0

Posted on : 06-03-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FOOD & SUPPLY

फर्रुखाबाद: होली आते ही जनपद में खाद्य सामग्री में मिलावट करने वालों की पौबारह हो गयी है, फिर चाहे खोये में मिलावट करने की बात हो या फिर बाजार में मिल रहे अन्य मिष्ठाव व अन्य खाद्य सामग्री। सभी में कुछ न कुछ मिलावट करके आम जनता के स्वास्थ्य से खुलेआम खिलवाड़ किया जा रहा है। इसी को देखते हुए आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन लखनऊ के निर्देशों के अनुपालन में जनपद के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने अपनी टीम के साथ शहर में छापामार कार्यवाही की। इस दौरान मिलावटखोरों में हड़कंप की स्थिति रही।

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने सचल दल के साथ याकूतगंज, पांचाल घाट, हथियापुर में छापामार कार्यवाही की। कार्यवाही के दौरान व्यापारियों के द्वारा बेची जा रही खाद्य सामग्री का नमूना भरकर खाद्य विश्लेषक को जांच के लिए भेजा गया। इस दौरान सौदान सिंह पुत्र राम सिंह निवासी यादव मार्केट पांचाल घाट के बर्फी के नमूने को जांच के लिए भेजा गया। वहीं मऊदरवाजा थाना क्षेत्र के हथियापुर के मूलचन्द्र पुत्र श्रीपाल के बेसन के लड्डू का नमूना भरकर जांच के लिए भेजा गया। इसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने मुलायम सिंह पुत्र गंगाराम राजपूत निवासी पिथूपुर मेहदिया याकूतगंज के पेड़ों का नमूना लिया। सभी नमूनों को जांच हेतु खाद्य विश्लेषको भेज दिया गया। वहीं अधिकारियों ने कहा कि छापामार कार्यवाही जारी रहेगी। मिलावटखोरी पर पूर्णतः अंकुश लगाया जायेगा।

कोटेदार पर दर्ज हुआ मुकदमा

0

Posted on : 28-02-2017 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FOOD & SUPPLY, POLICE

फर्रुखाबाद: (अमृतपुर) थाना अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम हुसैनपुर राजपुर के कोटेदार पर मुकदमा दर्ज कराया है। जिस पर भण्डारण होने के बावजूद भी राशन का वितरण ना करने का आरोप था।

बीते रविवार को जिलाधिकारी से हुसैनपुर राजपुर के ग्रामीणों ने शिकायत कर कहा था कि कोटेदार सोनपाल कुशवाहा राशन नहीं बांटते हैं। जिलाधिकारी ने कोटेदार को सोमवार को राशन बांटने के आदेश भी दिये। डीएम के आदेश के बाद भी राशन नहीं बांटा गया। जिसके बाद जागरूक ग्रामीणों ने डीएम के मोबाइल फोन पर बात की। डीएम ने तत्काल कोटेदार की जांच के आदेश दिये थे। सोमवार को आपूर्ति निरीक्षक अशोक चैरसिया ने गांव में पहुंचकर ग्रामीणों के वयान दर्ज किये। मौके पर उन्हें 100 कुन्तल गेहूं, 67 कुन्टल चावल, तीन कुन्टल चीनी और 550 लीटर मिट्टी का तेल मिला। जिसकी जांच रिपोर्ट उन्होंने तैयार की। मंगलवार को पूर्ति निरीक्षक की तहरीर पर कोटेदार सोनपाल कुशवाहा के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है।