कलेक्ट्रेट गेट तक सांसद लेकर पंहुचे पांच वाहन,प्रसपा प्रत्याशी लेकर पंहुचे भीड़

0

फर्रुखाबाद: लोकसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन करने पंहुचे सांसद मुकेश राजपूत कलेक्ट्रेट गेट तक पांच वाहन लेकर पंहुचे| वही प्रसपा प्रत्याशी ने रोंक के बाद भी सैकड़ों के संख्या में भीड़ कलेक्ट्रेट गेट के निकट पंहुचाकर नारेबाजी की| जिसकी निर्वाचन अधिकारीयों ने वीडियो ग्राफी भी करायी|
जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी व एसपी डॉ- अनिल कुमार मिश्रा ने भीड़ को रोंकने के लिए भारत माता मन्दिर के निकट व दुर्गा नारायण पीजी कालेज के निकट बैरियर लगा रखे है| जंहा से प्रत्याशी के साथ ही उसके प्रस्तावक को ही भीतर जाने की इजाजत है| लेकिन सांसद मुकेश राजपूत सोमवार को पुन: दो नामांकन पत्र दाखिल करने पंहुचे| उनकी गाड़ी के साथ ही विधायक सुशील शाक्य व विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर की गाड़ियों सहित पांच गाड़ियों का काफिला जिलाधिकारी कार्यलय के गेट तक पंहुचा| जिसकी वीडियों ग्राफी भी हुई|
इसके बाद प्रसपा प्रत्याशी उदयपाल सिंह यादव अपने समर्थकों के साथ गाड़ियों का लम्बा काफिला लेकर फतेहगढ़ चौराहे से होते हुए विकास भवन तिराहे पर लगे बैरियर पर पंहुचे| जंहा उनके समर्थकों ने जमकर नारेबाजी की| इसके बाद पुलिस ने उन्हें रोंक दिया| प्रत्याशी के साथ केबल पांच लोगों को ही जाने की इजाजत दी गयी|जिसके बाद प्रसपा प्रत्याशी उदय पाल के साथ किशन पाल यादव,विश्वास गुप्ता आदि पांच लोगों को साथ लेकर पैदल नामांकन के लिए निकले| कुछ दूर जाने के बाद उदयपाल वापस लौट आये और मौके पर थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार के साथ कुछ बात की| इसके बाद उनकी एक गाड़ी को भीतर जाने की इजाजत दी गयी|
जब प्रत्याशी उदयपाल डीएन डिग्री कालेज के बाहर पंहुचे तो उनके पीछे पुलिस के मना करने के बाद भी कई सैकड़ा समर्थक एकत्रित हुए और नारेबाजी की| उन्होंने फूलमालाओं से उनका स्वागत भी किया व पुलिस अधीक्षक के पुराने कार्यालय के बाहर जमकर नारेबाज की| जिला पंचायत सदस्य प्रदीप यादव आदि रहे|

प्रसपा जिलाध्यक्ष के कोल्ड में गार्ड ने लगायी फांसी

0

Posted on : 30-03-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, नगर परिक्रमा, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) प्रसपा जिलाध्यक्ष के कोल्ड में बीती रात नौकरी करने आये गार्ड का शव कोल्ड मैनेजर के कार्यालय में लटका मिला| सूचना मिलने पर परिजन मौके पर आ गये| उनका रो-रो कर बुरा हाल हो गया| पुलिस ने परिजनों ने शव छिनकर भेज दिया|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रतनपुर निवासी 45 वर्षीय सुखेन्द्र सिंह बीते लगभग 6 वर्षों से प्रसपा जिलाध्यक्ष डॉ0 जितेन्द्र यादव के यंहा गार्ड की नौकरी करता था| सुखेंन्द्र के पुत्र कन्हैया लाल ने बताया कि चार साल पिता सुखेन्द्र ने उनके मेडिकल कालेज में गार्ड की नौकरी की| इसके बाद बीते दो वर्षों से उनके इटावा-बरेली हाई-वे पर स्थित कोल्ड में नौकरी कर रहे थे| लेकिन बीते दो वर्षों से उनकावेतन नही मिला था| जो लगभग 60 हजार रूपये हो गया था|
कन्हैया के अनुसार बीते शुक्रवार को कोल्ड मैनेजर का फोन आया और उन्होंने पुराना रुपया अदा करने का भरोसा दिया और पुन :नौकरी पर बुलाया|जिसके बाद सुखेन्द्र शुक्रवार की देर शाम लगभग 9 बजे कोल्ड में गार्ड की नौकरी करने चला गया|लेकिन सुबह घर नही पंहुचा|परिजनों को दोपहर लगभग डेढ़ बजे कोल्ड से सूचना मिली की सुखेन्द्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली|घटना की सूचना मिलने पर मृतक की पत्नी प्रतिभा पुत्र कन्हैया आदि मौके पर आ गये| उनका रो-रो कर बुरा हाल हो गया| घटना की सूचना पर सीओ राजवीर सिंह,प्रभारी निरीक्षक,एसएस आई राजेश कुमार कई थानों के फ़ोर्स के साथ पंहुचे|