खाटू श्याम की प्राणप्रतिष्ठा व शोभायात्रा में उमड़ी आस्था

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: नगर में खाटू श्याम की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व भव्य शोभायात्रा निकाली गयी| जिसमे आस्था उमड़ती दिखी| जगह-जगह शोभायात्रा पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया|
नया कोठा पार्चा के श्रीरामजानकी महालक्ष्मी मन्दिर में पूजा अर्चना का आयोजन किया गया| इसके बाद शनिवार की शाम प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व नगर के मुख्य मार्गो पर खाटू श्याम की भव्य शोभायात्रा निकाली गयी|शोभायात्रा के आगे पीछे भक्त जयकारे लगाते चल रहे थे| नगर पालिका अध्यक्ष वत्सला अग्रवाल ने भी शोभायात्रा का स्वागत किया|
शोभायात्रा नया कोटा पार्चा, नेहरु रोड, चौक,रेलवे रोड, मठिया देवी मन्दिर, नितगंजा,घुमना होते हुए मन्दिर पंहुची| जंहा आरती के बाद प्रसाद का वितरण किया गया| इस दौरान प0 रामेन्द्र मिश्रा, मुख्य यजमान अंकित अग्रवाल, ज्योति अग्रवाल, अनिल त्रिपाठी, पुनीत अग्रवाल, सुरेन्द्र सफ्फड, अभिषेक तिवारी आदि रहे|

दूल्हे ने गोद में उठाया तो दुल्हन ने लौटा दी बरात

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

आगरा: ताजनगरी आगरा में जयमाल के बाद दूल्हे का दुल्हन को गोद में उठाने का फैसला काफी महंगा पड़ गया। दूल्हे की यह हरकत दुल्हन को काफी नागवार लगी। उसने तुरंत ही शादी न करने का ऐलान कर दिया। इसके बाद लंबे समय तक उसको मनाने का दौर चला, लेकिन दुल्हन अपने फैसले पर अडिग रही और बरात बैरंग लौट गई।
आगरा में कल रात जयमाल के बाद दूल्हे का दुल्हन को गोद में उठाना इतना भारी पड़ेगा यह उसने सपने में भी नहीं सोचा होगा। दूल्हे की इस हरकत से नाराज़ हुई दुल्हन ने उसके साथ फेरे लेने से मना कर दिया। उसने बरात को उल्टे पांव लौटा दिया। दुल्हन के फैसले ने दूल्हे और बारातियों के होश उड़ा दिये। उसे मनाने की कोशिश की गई लेकिन दुल्हन ने अपना फैसला नही बदला।
आगरा में यह मामला एत्मादुद्दौला थाना क्षेत्र का है। यहां कल रात कमला नगर से बरात आई थी। बरातियों का जोरदार स्वागत किया गया। उसके बाद द्वारचार भी हो गया। जयमाल कार्यक्रम भी चरम पर था। दूल्हे ने दुल्हन को माला भी पहना दी। वरमाला डालने के बाद दुल्हन के अचानक बेसुध हो गई। उसी दौरान दुल्हन को गोदी में लेकर जाते समय दूल्हे ने कुछ हरकत कर दी। इससे नाराज दुल्हन ने लोक लाज की परवाह ना करते हुए शादी करने से इनकार कर दिया। काफी देर तक दोनों पक्षों में समझौता का प्रयास किया गया लेकिन बात ना बन सकी।
दूल्हे के भाई ने बताया कि वह दो वरमाला लेकर आए थे। एक माला दूल्हे को पंडित ने बारोटी के समय गले में पहना दी थी। जिसके चलते एक ही माला रह गई थी। एक ही वरमाला दोनों की गली में डालनी पड़ी। काफी देर प्रयास के बाद बात नहीं बनी। पंचों की बीच बैठकर बारात वापस ले जाने की बात कही गई और दिया गया सारा सामान वापस दुल्हन के पक्ष के लोगों ने ले लिया। समान लेने के बाद वापस बारात को लौटा दिया गया।
पहली दुल्हन न मिली तो दूसरी को घर लेकर पहुंचा दूल्हा
दुल्हन के दरवाजे पर बरात लेकर पहुंचे दूल्हे राजा दुल्हन के मन को जीतने की चाह में होने वाली दुल्हन को गवां बैठे। इस सदमे में बाद दूल्हे की की तबियत भी खराब हो गई। दूल्हा नाराज होकर चला गया। इससे परेशान परिवारीजनों ने जल्द बाजी में दूसरी दुल्हन की व्यवस्था कर न्यू आगरा निवासी युवती को तैयार किया।

हाई-वे पर कार की टक्कर से टैम्पो पलटा,एक की मौत, कई जख्मी

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पांचाल घाट से टैम्पो पर सबार होकर लौट रहे अधेड की कार की टक्कर लगने से मौत हो गयी| जबकि उसके अन्य परिजन जख्मी हो गये| पुलिस ने मृतक के शव को लोहिया अस्पताल भेजा |
जनपद औरेया के अहेरवा कटरा उमरैन निवासी 50 वर्षीय मंशाराम पुत्र गंगाराम अपनी सास की मौत पर पांचाल घाट शनिवार की शाम दीप जलाने आये थे| मंशाराम के साथ में उसकी पत्नी रीता, साली गीता के साथ ही कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र के ज्योता निवासी संजू पुत्र छोटे लाल व संजू की पत्नी अनीता आदि भी आये थे|
सभी ज्योता निवासी  मुकेश पुत्र राकेश के टैम्पों में बैठकर वापस जा रहे थे| उसी दौरान पांचाल घाट और मसेनी चौराहे के बीच इटावा-बरेली हाई-वे पर भूसा मंडी के पास पीछे से तेज रफ्तार कार ने जोरदार कट मार दिया| जिससे टैम्पो पलट गया| टैम्पों पलटने से मंशाराम की मौके पर ही मौत हो गयी| जबकि उसकी पत्नी रीता व साली गीता के साथ ही उसका पुत्र निखिल भी जख्मी हो गया|
जानकारी मिलने पर पांचाल घाट चौकी इंचार्ज अंकुश राघव फ़ोर्स के साथ मौके पर आ गयी| उन्होंने शव को उसी टैंपों में रखकर लोहिया अस्पताल भेजा|

धरोहरों को समेटने के इंतजार में खंडहर ना हो जाये संग्रहालय

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: जनपद अपने-अपने तरीके से 18 मई को अंतराष्ट्रीय संग्रहालय दिवस मना रहा है| अपने जनपद में करोड़ों की लागत से बना संग्रहालय केबल एक सफेद हाथी ही नजर आता है| 9 सालों के बाद भी उसे शुरू नही किया जा सका| इसके लिये लक्ष्मी शंकर वाजपेयी की चार लाइन सब कुछ कहती हैं –
वो दर्द वो बदहाली के मंज़र नहीं बदले
बस्ती में अँधेरे से भरे घर नहीं बदले।
हमने तो बहारों का, महज़ ज़िक्र सुना है
इस गाँव से तो, आज भी पतझर नहीं बदले।
खंडहर पे इमारत तो नई हमने खड़ी की,
पर भूल ये की, नींव के पत्थर नहीं बदले।
बदला है महज़ कातिल और उनके मुखौटे
वो कत्ल के अंदाज़, वो खंजर नहीं बदले।
दरअसल सामाजिक सांस्कृतिक विरासत और अमूल्य धरोहरों को नई पीढ़ी के सामने लाने का प्रयास वर्ष 2011 में राजकीय पुरातत्व संग्रहालय के निर्माण के साथ शुरू हुआ था| संग्रहालय का भवन लगभग बन कर तैयार है| लेकिन उसको अभी तक अमली जामा नही पहनाया जा सका| संग्रहालय के संचालन को प्रदेश सरकार से पद सृजित न हो पाने से ऐतिहासिक वस्तुओं के संग्रहालय में हस्तांतरण की कार्रवाई को अमली जामा नही पहनाया जा सका| दूसरी तरफ साहित्यकार डाक्टर रामकृष्ण राजपूत ने संग्रहालय की फ़िलहाल व्यवस्था ना होनें पर अपने घर में ही सैकड़ो वर्षों पुरानी चीजो को सहेजकर रखें हैं|
संग्रहालय को शुरू कराने के लिए काफी प्रयास किया गया लेकिन कोई नतीजा नही हुआ| कई जिलाधिकारी शासन और सरकार को संग्रहालय शुरू करने के लिए पत्र लिख चुके है| वर्तमान जिलाधिकारी मोनिका रानी ने भी सरकार को पत्र भेजा लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई|
डॉ0 रामकृष्ण राजपूत ने जेएनआई को बताया कि 10 अक्टूबर 2013 को इस सम्बन्ध में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से वार्ता हुई थी| लेकिन उसके बाद भी कोई परिणाम नही निकला| पुरातत्व विभाग को वित्त विभाग की सहमति से पद सृजित करना है। उनके आवास पर स्थित अस्थाई संग्रहालय की वस्तुओं को राजकीय संग्रहालय में हस्तांतरित किया जाना है।
बैठक में भी छाया संग्रहालय का मुद्दा
पूर्व विधायक उर्मिला राजपूत के आवास पर आहुति की गयी जिसकी अध्यक्षता अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ ने की|इसमे भी राजकीय संग्रहालय के अभी तक प्रारंभ ना होनें पर चिंता जाहिर की गयी| इसके साथ ही डॉ0 रामकृष्ण राजपूत, जवाहर सिंह गंगवार, वरिष्ठ छायाकार रविन्द्र भदौरिया, डॉ0 श्याम निर्मोही आदि रहे|

थानें में अव्यवस्था व गंदगी देख एसपी खफा

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद/नवाबगंज) पुलिस अधीक्षक डॉ0 अनिल कुमार मिश्रा ने अचानक थानों का औचक निरीक्षण किया| जिसमे उन्हें कई खामियां मिली| जिस पर उन्होनें कड़ी नाराजगी व्यक्त की|
शनिवार को एसपी कोतवाली मोहम्मदाबाद पंहुचे| जंहा उन्होंने विभिन्य अभिलेख चेक किये| जिसके बाद उन्होंने प्रभारी निरीक्षक जय प्रकाश शर्मा को आवश्यक दिशा निर्देश दिये| गणेशपुर के कुछ फरियादियों से भी उन्होंने बात की| महिला कांस्टेबल कबिता से भी एसपी ने पूंछतांछ कर डियूटी में आ रही समस्याओं के विषय में जाना|
इसके साथ ही एसपी ने थाना नवाबगंज का भी औचक निरीक्षण किया| जंहा उन्होंने थाने का भोजनालय देखा| जिसमे गंदगी देख एसपी का पारा चढ़ गया| उन्होंने प्रभारी निरीक्षक वेद प्रकाश पाण्डेय से कड़ी नाराजगी व्यक्त की| एसपी ने थाने में साफ़-सफाई रखने के निर्देश दिये | अभिलेख भी देखे|
एसपी ने बताया कि औचक निरीक्षण किया व थाने के अभिलेखों, कर्मचारी बैरिक आवास, हवालात, मेस आदि को देखा गया| थाने पर लावारिस वाहनो के निस्तारण एवं साफ सफाई हेतु हिदायत दी गयी है|

ठेके के ताले तोड़कर 40 पेटी शराब चोरी

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) बीती देर रात शराब ठेके के ताले तोड़कर 40 पेटी अंग्रेजी शराब चोरी कर ली गयी| जिसके बाद जानकारी होनें पर सूचना पुलिस को दी गयी| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है|
कोतवाली क्षेत्र के इंद्रा नगर निवासी अरुण कुमार पुत्र रवि कुमार का संकिसा रोड पर अंग्रेजी शराब का ठेका है| जिसमे दाउदपुर निवासी कुलदीप पुत्र अरविन्द सेल्स मैंन का कार्य करता है| कुलदीप के अनुसार वह बीती रात वह ठेका बंद करके चला गया| जिसके बाद सुबह जब दस बजे ठेका खोलने आया तो ताले टूटे पड़े थे|दुकान के भीतर से 40 पेटी अंग्रेजी शराब गायब थी|
घटना के सम्बन्ध  में पुलिस को तहरीर दी| जिसके बाद पुलिस ने जाँच पड़ताल की|

आगरा-एक्सप्रेस पर रफ्तार नें ली पांच की जान

0

उन्नाव: आगरा-एक्सप्रेस बेहद खतरनाक साबित हो रहा है। लखनऊ से आगरा के बीच रफ्तार भरते वाहन लगभग रोज ही दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। आज उन्नाव में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर गुरुग्राम से बिहार जा रही तेज रफ्तार वॉल्वो बस पलट गई। जिससे पांच यात्रियों की मौत हो गई जबकि दो दर्जन से अधिक घायल हैं। इनमें सात की हालत गंभीर है।
लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस पेपर गंजमुरादाबाद क्षेत्र में तेज रफ्तार वॉल्वो बस तरबूज से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली को टक्कर मारने के बाद पलट गई, हादसे में जहां तीन बच्चों समेत पांच की मौत हो गई। बस में सवार 80 यात्री में से 40 यात्री घायल हो गए, जिन्हें बांगरमऊ सीएससी ले जाया गया। हालत गंभीर होने पर 23 को जिला अस्पताल रेफर किया है। इनमें सात को लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है। जिला अस्पताल में घायलों के इलाज का इंतजाम देखने जिलाधिकारी देवेंद्र कुमार पाण्डेय के साथ एसपी भी पहुंचे।
हादसा भोर पहर बांगरमऊ कोतवाली, गंजमुरादाबाद क्षेत्र के जसरापुर गांव के पास हुआ। दिल्ली से वॉल्वो बस 80 यात्रियों को लेकर बिहार के लिए चली थी। बस अभी एक्सप्रेस वे पर गंजमुरादाबाद के जसरापुर गांव के पास पहुंची थी कि ओवरटेक की कोशिश में तरबूज लदी ट्रैक्टर ट्रॉली में बस टक्कर मारकर पलट गई। हादसे में तीन बच्चों समेत 5 की मौत हो गई, 40 लोग घायल हो गए। घायलों का शोर सुन यूपीडा कर्मियों ने पुलिस की मदद से घायलों को सीएचसी पहुंचाया। हादसे के बाद आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस पर जाम लग गया। पुलिस ने क्रेन की सहायता से बस को हटाकर यातायात को शुरू करवाया।
इनकी हुई मौत
– 47 वर्षीय रंजीत यादव निवासी मधुवनी बिहार
– 10 वर्षीय मनीष पुत्र विष्णु निवासी मधुवनी बिहार
– 7 वर्षीय नंदनी निवासी मधुबनी बिहार
– 16 और 7 वर्षीय दो की पहचान नहीं हो पाई।
बस सवार घायल
एक वर्षीय ऋषि पुत्र रामबाबू  हरियाणा, 10 वर्षीय सरस्वती पुत्री रामबाबू  निवासी गुड़गांव मानेश्वर हरियाणा, 8 वर्षीय अंजलि पुत्री रंजीत सुपौल कर्जन बिहार, 24 वर्षीय परशुराम मंडल पुत्र रामबिलास निवासी बरमोत्रा राघवपुर बिहार, 25 वर्षीय संतोष मण्डल पुत्र हनुमानी निवासी बरमोत्रा राघवपुर बिहार, 26 वर्षीय बेबी देवी पत्नी राम विछेद यादव मधुबनी बिहार, 35 वर्षीय विष्णु पुत्र राम प्रसाद मधुबनी, 39 वर्षीय रामविनोद पुत्र विंदेश्वर निवासी गुड़गांव हरियाणा, 38 वर्षीय बलराम पुत्र सुदामा यादव पटेल नगर गुड़गांव, 28 वर्षीय रीता पत्नी विष्णु सुआ पट्टी फुबवास बिहार, 35 वर्षीय उदय शंकर पासवान पुत्र बिनवारी निवासी मुजफ्फरनगर बिहार, 32 वर्षीय शिव कला पत्नी रामबाबू मानेश्वर गुड़गांव, 40 वर्षीय सुनीता पत्नी रंजीत निवासी डल्ला पुर मधुबनी बिहार, 40 वर्षीय श्रीकांत पुत्र गोपीचंद निवासी बिलासपुर बढ़ौच देवरिया, 18 वर्षीय वंदना पुत्री रामविनोद निवासी मधुबनी बिहार, 5 वर्षीय राजकिशोर बरमोला राघवपुर बिहार, 7 वर्षीय चण्डिका पुत्र रंजीत डल्लापुर मधुबनी, एक वर्षीय अंकित पुत्र रंजीत डल्लापुर मधुबनी। सभी  सभी गंभीर घायल जिला अस्पताल रेफर।
एसओ अरविन्द सिंह ने बताया कि वॉल्वो बस नंबर यूपी 83 बीटी 4106 गुरुग्राम से बिहार के मधुबनी जा रही थी। इसी बीच ट्रैक्टर ट्रॉली से बचने के प्रयास में अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसमे एक पुरुष समेत चार बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि करीब 24 यात्री घायल हैं।घायलों को जिला अस्पताल उन्नाव भेजा गया है, जहां से गंभीर रूप से घायलों को लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतकों की शिनाख्त कर उनके परिजनों संपर्क करने की कोशिश कर रही है।

बाबा केदार के दरबार में पीएम मोदी ने की पूजा

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP

देहरादून: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ धाम पहुंचकर बाबा केदार के दर्शन किए। इस दौरान उन्‍होंने अभिषेक के साथ पूजा-अर्चना की। साथ ही केदारपुरी में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। सेफ हाउस में विश्राम के उपरांत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बारिश के बीच पैदल चलकर ध्यान गुफा पहुंचे। बताया जा रहा है कि वे रात्रि विश्राम भी इसी गुफा में करेंगे। मंदिर से लगभग 1.5 किलोमीटर दूर एक पहाड़ी पर स्थित यह गुफा पांच मीटर लंबी और तीन मीटर चौड़ी है। पिछले वर्ष ही साढ़े आठ लाख रुपये की लागत से इसे तैयार किया गया है।
प्रधानमंत्री शनिवार सुबह नौ बजकर 37 मिनट पर केदारनाथ धाम पहुंचे, दस बजकर सात मिनट पर उन्‍होंने पूजा अर्चना शुरू की। करीब 17 मिनट तक पीएम मोदी ने पूजा की। पुरोहितों ने मोदी को अंगवस्त्र भेंट किया। मोदी ने पारंपरिक वेशभूषा पहनी हुई थी। कमर में गमछा बंधा था, हाथ में छड़ी थी। इसके बाद उन्‍होंने मंदिर की परिक्रमा की। इसके बाद वहां मौजूद तीर्थयात्रियों और स्‍थानीय लोगों का पीएम मोदी ने हाथ हिलाकर अभिवादन स्‍वीकार किया।
परिक्रमा के बाद पीएम को मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने शाल ओढ़ाया। इस मौके पर स्‍मृति चिह्न भी भेंट भी किया। इसके बाद पीएम मोदी ने केदारनाथ मंदिर के समीप चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों से संबंधित नक्‍शों का अवलोकन भी किया। करीब एक घंटे तक केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने के बाद पीएम मोदी विश्राम के लिए मंदिर के पास सेफ हाउस पहुंचे। यहां कुछ देर विश्राम करेंगे।
बाबा केदार को प्रधानमंत्री ने करीब सवा क्विंटल पीतल का घंटा भी अर्पित किया। दोपहर में मोदी केदारनाथ स्थित एक गुफा में ध्यान भी लगाएंगे। इससे पूर्व मोदी का देहरादून एयरपोर्ट में उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वागत किया। रविवार को भगवान बदरी विशाल के दर्शन प्रधानमंत्री करेंगे।
पीएम ने पहनी है गढ़वाली पोशाक
पीएम नरेंद्र मोदी ने गढ़वाली पोशाक पहनी हुई है। साथ ही सिर पर हिमाचली टोपी लगाए हुए हैं। पीएम मोदी ने कमर भगवा गमछा बांधा हुआ है।
मंदिर में चढ़ाया बाघाम्‍बर और अर्पित किया घंटा
पीएम मोदी ने केदारनाथ धाम पर बाघाम्बर प्रि‍ंंट का अंग वस्‍त्र चढ़ाया है और घंटा भी अर्पित किया है। घंटे का वजन एक से डेढ़ क्विंटल का है। धर्म के जानकार बताते हैं कि जब किसी व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो जाती है, तो वह घंटे या घंटियां मंदिर में चढ़ाते हैं। कई बार लोग मन्नत मांगने के समय भी इस तरह का उपहार चढ़ाते हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को केदारनाथ पहुंचकर बाबा केदार के दर्शन कि‍या। उन्‍होंने केदारपुरी में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। इसके बाद केदारनाथ स्थित एक गुफा में ध्यान भी लगाएंगे। रात्रि विश्राम भी वह केदारनाथ में कर सकते हैं। अगले दिन रविवार को वह बदरीनाथ धाम पहुंचकर भगवान बदरीनारायण के दर्शन करेंगे और दोपहर बाद दिल्ली लौट जाएंगे।
उत्तराखंड से प्रधानमंत्री मोदी का खास लगाव है और केदारनाथधाम के प्रति उनकी अगाध आस्था है। एक दौर में नमो ने केदारनाथ के नजदीक ही गरुड़चट्टी में साधना की थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद वह अक्सर केदारनाथ आते रहे हैं। केदारपुरी का पुनर्निर्माण उनके ड्रीम प्रोजक्ट में शामिल है। वह खुद इसकी मॉनीटरिंग करते आए हैं। इसका नतीजा ये हुआ कि 2013 की आपदा में तबाह हुई केदारपुरी अब नए कलेवर में निखर चुकी है। पिछली बार केदारनाथधाम के कपाट खुलने व बंद होने के अवसर पर वह मौजूद रहे थे।
इस मर्तबा लोकसभा चुनाव की आपाधापी के कारण वह केदारनाथ नहीं पहुंच पाए थे, मगर माना जा रहा था कि चुनाव से निबटने के बाद वह केदारनाथ आएंगे। पिछले कुछ दिनों से उनकी उत्तराखंड यात्रा को लेकर मशीनरी सक्रिय थी और अब सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बीते तीन दिनों में एसपीजी के साथ ही उत्तराखंड के आला अधिकारियों ने केदारनाथ और बदरीनाथ में व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री रात्रि विश्राम केदारनाथ में कर सकते हैं। यदि मौसम प्रतिकूल रहा तो गौचर को वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर तैयार रखा गया है। सूत्रों ने बताया कि 19 मई को प्रधानमंत्री बदरीनाथ जाएंगे। वहां दर्शन करने के बाद वह पहले जौलीग्रांट पहुंचेंगे और फिर दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।
केदारनाथ में एसपीजी ने संभाला मोर्चा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के केदारनाथ दौरे को लेकर केदारपुरी में एसपीजी ने मोर्चा संभाल लिया है। केदारपुरी को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। शुक्रवार को एसपीजी के अधिकारियों ने केदारनाथ में सुरक्षा तैयारियों का जायजा लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मोदी इससे पहले 3 मई 2017, 20 अक्‍टूबर 2017 और 7 नवंबर 2018 को केदारनाथ आ चूके हैं। चौथी बार केदारनाथ पहुंच रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के केदारनाथ दौरे को लेकर शासन-प्रशासन तैयारियों में जुटा गया था। जिससे पीएम की सुरक्षा व्यवस्थाओं में कोई चूक न रह जाए, इसके लिए कार्यक्रम से पूर्व ही सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई है। डीएम व एसपी समेत कई वरिष्ठ अधिकारी एक सप्ताह से केदारनाथ में डेरा जमाए हुए हैं।

बुद्ध पूर्णिमा पर गंगा स्नान को उमड़ी भीड़,हाई-वे जाम

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: बुद्ध पूर्णिमा के मौके पर पांचाल गंगा घाट में हजारों श्रद्धालुओं ने हर हर गंगे मैया का उद्घोष करते हुए गंगा स्नान किया। श्रद्धालुओं ने खरबूजा आदि का दान किया और शर्बत पिलाकर पुण्य कमाया। वही भीड़ अधिक होनें से दोपहर बाद तक जाम के हालात रहे|
बुद्ध पूर्णिमा पर तड़के चार बजे से ही श्रद्धालुओं की भीड़ गंगा स्नान को आना शुरू हो गयी। बुद्ध पूर्णिमा को भीषण गर्मी में भी हजारों की संख्या में श्रद्धालु गंगा स्नान को आते जाते रहे। गंगा घाट पर हैंडपंप न होने के कारण श्रद्धालु पेयजल के लिए तरस गये। जहां पानी लेने वालों की भीड़ लगी रही। गंगा स्नान करने आये श्रद्धालुओं के हलक सूख गये। यहां दोपहर बाद तक  स्नान करने का क्रम जारी रहा।
गंगा स्नान के लिए आये श्रद्धालुओं और वाहनों की भीड़ के चलते यहां जाम की स्थिति बनी रही। लोगों ने अपने वाहनों को भीड़ में बढ़ा दिया। जिससे जाम रहा। जिससे श्रद्धालुओं को मुश्किल का सामना करना पड़ा।

फरियाद ना सुनने पर सड़क पर बैठी बहनें, पुलिस से विवाद

0

Posted on : 18-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) बीते दो दिन पूर्व दबंगों द्वारा मारपीट करने और नकदी जबरन ले जाने की शिकायत लिखित रूप से करने के बाद भी महिला सुरक्षा की बात करने वाली इस सरकार में भी पुलिस ने कार्यवाही नही की| दोनों बहनों को टरका दिया|जब हक पाने के लिए वह सड़क पर बैठी तो पुलिस ने उन्हें थाने ले आयी| युवतियों ने थाने में भी मारपीट करने का आरोप लगाया|
थाना क्षेत्र के ग्राम लाइकपुर निवासी 16 वर्षीय प्रीती व 19 वर्षीय गंगा पुत्री सोने लाल ने बीते दो  दिन पूर्व थाना पुलिस को तहरीर दी और कहा कि उनके गाँव के ही अमर पाल पुत्र अशोक आदि से उसका तरबूज के पैसे को लेकर विवाद चल रहा है| जिसको लेकर अमर पाल ने घर में घुसकर मारपीट कर 10 हजार रूपये हडपने का आरोप लगाया|
प्रीती व गंगा पुन: शनिवार को तड़के थाने पंहुची|उनका आरोप है कि पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की और उन्हें फिर टरका दिया|जिससे आक्रोशित दोनों बहनें थांने के निकट सड़क पर सत्यागृह पर बैठ गयी| जिससे जाम लग गया| घटना की सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पंहुची और उन्हें सड़क से हटाने का प्रयास किया| लेकिन वह नही हटी| जिसके बाद उन्हें पुलिस ने जबरन हटाने का प्रयास किया तो दोनों बहनें बिफर गयी| उनकी पुलिस से हाथापाई हो गयी|
बहुत मुश्किल से पुलिस ने उन्हें सड़क से हटाया और यातायात सुचारू किया| प्रीति व गंगा का आरोप है कि धरने से हटाने के बाद पुलिस उन्हें थाने ले आयी और उन्हें पीटा|
आखिर तहरीर पर पुलिस ने क्यों नही की कार्यवाही
तकरीबन दो दिन पूर्व गंगा ने पुलिस को आरोपियों के खिलाफ तहरीर दी | फिर पुलिस ने कार्यवाही क्यों नही की| यह सबाल हर किसी के जहन में था| जिसकी चर्चा आम है|जब गंगा ने अपनी बहन के साथ हंगामा किया इसके बाद पुलिस जागी|
प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार ने बताया की पुलिस को मौके पर भेजा गया है| किसी के साथ मारपीट पुलिस ने नही की|युवतियों का आरोप गलत है| जाँच कर कार्यवाही की जायेगी|