एएनएम टैबलेट से सवारेंगी स्वास्थ सेवायें

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: स्वास्थ्य विभाग ने एएनएम को स्वास्थ्य सेवाओं को ठीक से सबारने के लिए शासन से टैबलेट उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गयी है| जिले में 218 एएनएम को टैबलेट उपलब्ध होगा|
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक पंकज कुमार ने सभी मुख्य चिकित्साधिकारी पत्र भेजकर निर्देश दिये कि यह टेबलेट एप्लीकेशन के संचालन हेतु केवल अधिकृत एएनएम को उपलब्ध कराये जाएँगे | पत्र में निर्देश अनुसार कानपुर मण्डल में कुल 1,729 टेबलेट वितरित किये जाने है। फर्रुखाबाद में कुल 218 टेबलेट वितरित किये जायेंगे, जिसमें 192 टेबलेट्स सभी उपकेंद्रों में एएनएम को , 25 शहरी क्षेत्र की एएनएम को, और 1 टेबलेट डिस्ट्रिक्ट कमुनिटी प्रोसेस मैनेजर को दिया जाएगा। इससे ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत सारे आंकड़े स्क्रीन पर उपलब्ध होगे ।
अब नहीं करना होगा रजिस्टर पर लिखा-पढ़ी 
स्वास्थ्य योजनाओं की गाँव में क्या-क्या प्रगति हो रही है इसकी एक रिपोर्ट एएनएम बनाती है इस पूरी रिपोर्ट को एक रजिस्टर में दर्ज कर स्वास्थ्य विभाग को सौंपा जाता है | इस पूरी प्रक्रिया में समय लगता है | अब ऐसा कुछ नहीं होगा | ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत अब सारी जानकारी स्क्रीन पर उपलब्ध रहेगी | टेबलेट में ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन डाटा दर्ज करने की सुविधा भी उपलब्ध है | गोपनीयता रखने के लिए प्रत्येक टेबलेट का अपना एक आइएमईआई नंबर होगा ताकि यह एप किसी अन्य मोबाइल व अन्य टेबलेट पर काम न कर सके | इस योजना के तहत एएनएम को टेबलेट में सारी जानकारियाँ दर्ज करानी होंगी |
हर जानकारी होगी टेबलेट में दर्ज
टेबलेट में अनमोल एप में एएनएम को अपने प्रतिदिन के कार्यों की जानकारी दर्ज करनी होगी | उन्होने किन गाँव का भ्रमण किया है, कहाँ कहाँ अपनी सेवाएँ दी हैं, कितने योग्य दंपत्ति हैं, गर्भवती व धात्री महिलाएं तथा बच्चे हैं | बच्चे किस श्रेणी के हैं , कितने बच्चों का टीकाकरण हुआ है और किनका होना है, गाँव में कौन सा रोग फैला है, कितने लोग बीमार हैं, इससे संबन्धित जानकारियाँ टेबलेट में दर्ज करनी होंगी | टैबलेट चलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ए.एन.एम. को प्रशिक्षण भी देगा । इस एप के माध्यम से एएनएम लाभार्थियों के लिए कार्ययोजना/ ड्यूलिस्ट तैयार कर समयबद्ध स्वास्थ्य सेवाएँ प्रदान करेगी|
योजना से होगी सहूलियत
टैबलेट में 3 सॉफ्टवेयर
एएनएम. को दिये जाने वाले टैबलेट में 3 सॉफ्टवेयर हैं जैसे अनमोल, एनसीडी तथा आईडीएसपी है । अनमोल सॉफ्टवेयर में गांव की गर्भवती माताओं तथा बच्चों का विवरण होगा। वहीं एनसीडी सॉफ्टवेयर में कैंसर ब्लड प्रेशर शुगर मानसिक रोगी तथा हाइपरटेंशन आदि का विवरण होगा ।जबकि आईडीएसपी सॉफ्टवेयर में कुष्ठ रोगी मलेरिया टाइफाइड डेंगू आदि रोगों का विवरण उपलब्ध रहेगा l ए एन एम के बाद आशाओं को भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऑनलाइन किए जाने की व्यवस्था की जा रही है l

प्रेमिका का गला दबाया,हाथ बांध और कुएं में फेंका शव

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

बाराबंकी: लापता युवती का शव कुएं मेंं मिलने के बाद सनसनी फैल गई, युवती के दानों हाथ बंधे थे, कुएं में डालने के बाद ऊपर से पाट दिया गया था। कुर्सी पुलिस ने राजफाश तो किया लेकिन 23 दिन बाद। इसमें पुलिस का कहना है कि युवती को उसके प्रेमी ने बाग में बुलाया और हंसी मजाक में प्रेमी ने युवती के हाथ बांधे और बाद में गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपित पुलिस गिरफ्त में हैं।
कुर्सी थाना क्षेत्र के ग्राम नहोई मजरे बहरौली निवासी रामदास की 20 वर्षीय सुभाषनी पुत्री लखनऊ के एक निजी अस्पताल में नर्स थी। युवती 21 अप्रैल को घर से लखनऊ के लिए निकली, सात बजे रात में अपने पिता को फोन किया कि वह कुर्सी आ चुकी है। जब पिता कुर्सी पहुंचा तो वहां पर युवती नहीं मिली। काफी खोजबीन की लेकिन उसका कुछ नहीं पता चल सका। दो दिनों तक तलाश करता रहा लेकिन कहीं भी कुछ युवती का पता नहीं चल रहा था। थकहार कर 23 अप्रैल को थाने पहुंचा तो वहां पर पहले से ही शिकायत थी कि उसके द्वारा पुत्री सुभाषनी का उत्पीडऩ किया जा रहा है। उस समय पुलिस ने पिता की एक भी न सुनी।
रामदास तीन मई को फिर थाने गया तो तहरीर फाड़कर फेंक दी गई। उसने गुहार लगाई तो युवती के मोबाइल नंबर को ट्रैस किया गया। क्षेत्राधिकारी फतेहपुर अरव‍िंंद वर्मा ने बताया कि जब मोबाइल नंबर को ट्रैस किया गया तो उसका लोकेशन गांव में ही बता रहा था। गांव में पूछताछ हुई तो पता चला कि वास्तव में युवती कई दिनों से गायब है। तब आरोपित को पकड़ लिया गया। पूछताछ में उसने सारा जुर्म काबूल लिया। नहोई का रहना वाला नसीम पुत्र यासीन था, जो युवती के घर के सामने रहता था। दो वर्षों से उसका युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। नसीब का निकाह 24 अप्रैल को था, इसलिए उसने अपनी प्रेमिका को धरसंडा निवासी अजीज की बाग में बुलाया था। उसकी निशानदेही पर शव बरामद हुआ है।
कुर्सी पुलिस के प्रति लोगों का आक्रोश, पुलिस बल तैनात
कुर्सी पुलिस से अब लोगों का विश्वास उठता जा रहा है। पुलिस अब पीडि़तों की सुनवाई समय पर नहीं कर रही है। यही कारण है कि थाने के चक्कर काट रहे पिता को उसकी बेटी नहीं, बल्कि उसकी लाश हाथ लगी। नहोई गांव के रामदास की पुत्री जब गुम हुई तो वह आरोपितों पर कार्रवाई की मांग को लेकर थाने के चक्कर काटने लगा। बताया जा रहा है कि तीन मई को जब फिर थाने गया तो पुलिस ने पीडि़त की सुनी लेकिन नामजद तहरीर को फाड़कर फेंक दिया गया, दूसरी तहरीर लिखाकर गुमशुदगी दर्ज की। पिता गुहार लगा रहा था कि गांव के नसीम ने ही उसकी पुत्री को गायब किया है।
युवती के पिता रामदास ने बताया कि यदि पुलिस सुनवाई कर लेती तो हमे न्याय पहले ही मिल जाता। चुनाव होने की वजह से पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही थी। दस मई को पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर 13 मई की रात साढ़े दस बजे शव बरामद किया है। पुलिस कार्रवाई में देरी से लोगों में आक्रोश है, इसको लेकर गांव में कुर्सी, बड्डूपुर, घुंघटेर थाने की पुलिस तैनात कर दी गई है।
पुलिस को भम्रित कर रहा था नसीम
जब से युवती गायब हुई, तब से युवती के फोन से आरोपित 1090 और सौ नंबर पर सुभाषिनी बनकर लड़की की आवाज में सूचना देकर यह बता रहा था कि उसके पिता रामदास उत्पीडऩ कर रहे हैं, उसकी हत्या करना चाहते हैं। जब रामदास तहरीर लेकर थाने जाता तो पुलिस तहरीर लेने से मना कर देती कि तुम तो स्वयं युवती की हत्या करना चाहते हो। सात मई को भी नसीम ने सौ नंबर पर सूचना देकर पिता के उत्पीडऩ की बात बताई थी।
अपर पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम ने बताया कि गांव में तनाव की कोई बात नहीं है, एहतियात के तौर पर पुलिस बल गाांव में मौजूद है। पुलिस की ओर से कोई लापरवाही नहीं बरती गई है, कुर्सी पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले का खुलासा किया है।

तम्बाकू निषेध दिवस पर रैली निकाल किया जागरूक

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: विश्व तम्बाकू निषेध दिवस माह के तहत रैली निकाल कर लोगों को जागरुक किया गया| ताकि लोगों को इस जानलेवा लत से बचाया जा सके |
फतेहगढ़ स्थित ब्रह्मदत्त स्टेडियम से जन जागरूकता रैली निकालकर नशे से दूर रहने की अपील की गई | रैली को मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० चंद्रशेखर ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया | हर वर्ष 31 मई को तंबाकू निषेध दिवस के रुप में मनाया जाता है, दुनिया में यह दिन 31 मई 1989 को मनाया गया था और अब भारत में भी यह दिवस मनाया जाता है, ताकि लोगों को इस जानलेवा लत से बचाया जा सके |
डॉ चंद्रशेखर ने कहा कि नशा करने से बौद्धिक, शारीरिक और आध्यात्मिक रूप से भी व्यक्ति कमजोर होता है, उन्होंने कहा कि पूरे विश्व के लोगों को तंबाकू मुक्त और स्वस्थ बनाने के लिए तथा सभी स्वास्थ्य खतरों से बचाने के लिए तंबाकू चबाने या धुम्रपान के द्वारा होने वाले सभी परेशानियों और स्वास्थ्य जटिलताओं से लोगों को आसानी से जागरुक बनाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा पहली बार विश्व तंबाकू निषेध दिवस को आरम्भ किया गया, जिसके तहत हर वर्ष यह दिवस जागरूकता के लिए मनाया जाता है |
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दलवीर सिंह, तम्बाकू प्रकोष्ठ के जिला सलाहकार सूरज दुबे ने कहा कि तम्बाकू एक ऐसा जहर है जो दिखाई नहीं देता और शरीर को अंदर-ही अंदर खोखला करता जाता है |
रैली के दौरान राजकीय इंटर कालेज बालक बालिका फतेहगढ़ के छात्र छात्राएं, अध्यापक अध्यापिकाएं डी.पी.एम. कंचनबाला, डी.सी.पी.एम. रणविजय, डॉ शेखर प्रभाकर बर्मा, अमित सिसोदिया आदि लोग मौजूद रहे |

मतगणना की घड़ी अब नजदीक, प्रत्याशियों की धड़कनें बढ़ीं

0

फर्रुखाबाद: लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचने का सपना संजोये  प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होने की घड़ी नजदीक आती जा रही है। इसी के साथ इनके दिल की धड़कन भी बढ़ने लगी है। कौन जीतेगा और कौन हारेगा, इसको लेकर कयास लगने लगे हैं। प्रत्याशी और उनके समर्थक सुबह से शाम तक यही गुणा-भाग लगाने में जुटे हैं कि किसको कहां से कितना वोट मिलेगा। मजे की बात तो यह है कि सभी अपनी-अपनी जीत पक्की बता रहे हैं। साथ ही इसके लिए पर्याप्त तर्क देते हुए जीत की दावेदारी कर रहे हैं।
सातनपुर गल्ला मंडी में 23 मई को सुबह से मतगणना शुरू होगी यानी मतों की गिनती होने में सिर्फ 9 रोज बचे हैं। मतगणना की तारीख नजदीक आने के साथ चुनावी रणभूमि में हर दांव पेंच अपनाने वाले प्रत्याशियों की बेचैनी भी बढ़ने लगी है। कमोबेश सभी प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ बैठकें कर जीत-हार के समीकरण पर विचार मंथन कर रहे हैं। साथ ही पूरा लेखाजोखा भी निकाल रहे हैं कि किस प्रत्याशी को कहां से कितना वोट मिला है।
जातीय समीकरण के आधार पर भी गुणा-भाग लगाया जा रहा है। तमाम कवायद के बीच हर प्रत्याशी अपनी जीत को लेकर आश्वस्त दिख रहा है। साथ ही यह रूपरेखा बनाने में भी जुटे हैं कि चुनाव में जीत का सेहरा बांधने के बाद विकास कार्यों की गंगा कैसे बहानी है।

घरेलू हिंसा रोकने में मददगार होंगी आशा

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) आशा कार्यकर्ता मां व बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए काम करती हैं। इस कारण समाज में उनकी अलग पहचान है। इसको देखते हुए घरों में होने वाली हिंसा को रोकने के लिए अब आशाओं को स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रशिक्षण दिया गया|
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर चिकित्सक दीपेन्द्र अवस्थी के नेतृत्व में तीसरा पांच दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न हुआ| जिसमे  अब तक आशा कार्यकत्री महिलाओं, नवजात और किशोर किशोरियों को होने बीमारियों से बचाव के लिए जागरूक करती रही हैं लेकिन अब एक नई जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ताओं पर विभाग की ओर से सौंपी गयी है|
आशाओं को घरेलू हिंसा रोकने के लिए भी कार्य करने की जिम्मेदारी दी गयी है| प्रशिक्षण में बताया गया कि महिलाओं को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने, अनावश्यक कार्य के लिए दबाव बनाने, मजदूरी करने के लिए मारपीट किए जाने आदि जैसी हिंसा आम समस्या है। इन समस्याओं से निपटने के लिए अब आशा कार्य करेंगी। उन्हें अगर महिला हिंसा से जुड़ी जानकारी मिलती है, तो आशा कार्यकर्ता पहले विभाग को सूचना देने के साथ ही पुलिस को भी खबर करेंगी।  बताया गया कि आशा कार्यकर्ताओं का कार्य क्षेत्र गांव है। इससे प्राथमिक स्तर पर महिलाओं को होने वाली परेशानी का बेहतर ढंग से पता चल जाएगा। समय रहते सही जगह पर सूचना पहुंच जाने से समस्याओं के समाधान में मदद मिलेगी। स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ दिलाने के साथ ही आशाओं को दी जाने वाली यह जिम्मेदारी चुनौतीपूर्ण होगी।
इस व्यवस्था से महिलाओं के साथ होने वाली घरेलू हिंसा को रोकने में काफी हद मदद मिल सकती है।
इस दौरान स्वास्थ शिक्षा अधिकारी अखिलेश कुमार, अनीता त्रिपाठी, डॉ० पर्मित व  नीतू शामिल रहे|

सोलर प्लेट चोरी करने में दूल्हा सहित कई पकड़े

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:(कमालगंज) बीते कई दिन पूर्व चोरी हुई सोलर प्लेटों के मामले में पुलिस ने दुल्हे सहित कई को दबोच लिया है| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है|
थाना क्षेत्र के ग्राम कमालगंज विकास खण्ड परिसर के साथ ही साथ गुड मंडी से सोलर प्लेटें चोरी हुई थी| जिसकी पुलिस जाँच पड़ताल कर रही थी| पुलिस ने नगर फर्रुखाबाद क्षेत्र के एक गाँव से दूल्हे के साथ ही पांच लोगों को उठा लिया| पुलिस पकड़े गये आरोपियों से पड़ताल कर रही है| पुलिस को दो सोलर प्लेट भी बरामद हुई है|
पकड़े गये दूल्हे ने बताया कि उसकी बारात मंगलवार को लौट कर आयी वैसे ही पुलिस ने उसे दबोच लिया|पुलिस जाँच कर रही है|

‘चाय में जो नशा था वह बहुतों का उतर गया’: अखिलेश

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP

बलिया: सपा-बसपा और रालोद गठबंधन की ओर से बलिया जिले में दो चुनावी सभाएं मंगलवार को आयोजित की गईं। बलिया में अंतिम सातवें चरण में 19 मई को मतदान होना है। यहां से गठबंधन ने समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक सनातन पाण्डेय को प्रत्याशी बनाया है। सपा-बसपा व रालोद गठबंधन के शीर्ष नेता अखिलेश यादव, मायावती व चौधरी अजित सिंह बलिया में आज दो चुनावी सभाओं को संबोधित करने पहुंचे। गठबंधन नेताओं की पहली संयुक्त सभा सलेमपुर लोकसभा क्षेत्र के सरकातों में और दूसरी सभा बलिया लोकसभा क्षेत्र के अलावलपुर में आयोजित हुई।
बलिया की जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने पहले भृगु और बलिया की धरती को नमन किया। इसके बाद बोले क‍ि यह धरती है जिसने आजादी से पूर्व आजादी दिलाई। यह धरती वही है जिसने पहले समाजवादी पीएम को दिया। इसलिए भी नमन इस धरती को नमन कि यहीं की जमीन पर जय प्रकाश जी हों या जनेश्वर मिश्र सभी को ऊंचाई दी, इसके लिए आप सबका धन्यवाद। जो जागरुक और समझदार हैं वह जानते हैं कि किस तरफ हवा चल रही है। इसबार साइकिल और हाथी की रफ्तार नहीं रुकेगी|
जब पीएम नरेंद्र मोदी भी यहां थे, वो भी यहीं आए थे हमें नहीं पता क्या बता कर और देकर गए हमें नहीं जानकारी कि क्या देकर चले गए होंगे।  बताओ जिसका पांच साल खत्म हो गया वो क्या देकर जाएगा। यह पहले देश के पीएम हैं जो वादा करते हैं और वादे के खिलाफ काम करते हैं। अगर एक भी वादा पूरा हुआ हो तो बताएं। अच्छे दिन आएंगे तो अच्छे दिन किसके आए। यह नौजवान और किसान जानते हैं अच्छे दिन कौन लाएगा। किसानों से वादा किया था कि लागत से अधिक मुनाफा मिलेगा। किसी के फसल की कीमत मिली हो तो बताएं। नौजवान जानते होंगे कि करोडों नौकरी देंगे मगर कितनी मिली। करोडो नौकरी देने का वादा था मगर नोटबंदी और जीएसटी से कारोबार रोक दिया। रोजगार की मांग की तो बोले पकौडे बनाओ।
यह हमें आपको धोखा देकर गए, 2014 में आए थे तो चायवाला बनकर आए थे। सरकार में पीएम बन गए अब वही आए हैं चौकीदार बनके। पांच साल में चाय का स्वाद पता लग गया होगा। चाय में जो नशा था वो बहुतों का उतर गया। हम लोग भी धोखा खा गए। पता ही नहीं लगा कि चाय अच्छी तब बनती है जब दूध अच्छा होगा। अब वो चौकीदार बनकर आए हैं। कौन भरोसा करेगा चौकीदार पर। बताओ चौकीदार की चौकी छीनोगे? बाबा मुख्यमंत्री भी हैं और बाबा मुख्यमंत्री कानून व्यवस्था ठीक करने के लिए कह रहे हैं ‘ठोंक दो’। पुलिस को पता ही नहीं किसको ठोंकना है। गाजीपुर में ठोंकाठोंकी हुई कि नहीं हुई। पुलिस इतनी कभी अपमानित नहीं हुई जितनी इस सरकार में हो रही है। एक सांसद और विधायक ने भी ठोंको नीति समझ ली। संतकबीरनगर में सांसद ने विधायक पर जूते की सलामी दे दी। अगर रोका न होता तो सांसद 21 जूतों की सलामी देने जा रहे थे। केवल चौकीदार नहीं हटाना है बल्कि सीएम को भी हटाने की जरुरत है।
वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी सभा को संबाेधित किया और कांग्रेस व भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्‍होंने भाजपा सरकार पर अपने वादों को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए जनता से गठबंधन को चुनाव में जिताने की अपील की। इसके बाद रालोद अध्‍यक्ष चौधरी अजीत सिंह ने भी जनता को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार की नीतियों को लेकर उनको कठघरे में खड़ा किया।

मंगल बहेलिया गिरोह की चार महिलाओं सहित आधा दर्जन गिरफ्तार

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बीते काफी लम्बे समय से सक्रिय मंगल बहेलिया गिरोह की चार महिलाओं सहित आधा दर्जन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है| उनके पास से पुलिस को एक कार व अफीम सहित जेबरात भी मिले है|
पुलिस लाइन सभागार में एसपी डॉ0 अनिल कुमार मिश्रा ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस ने मंगल बहेरिया गिरोह ने भारत सिंह (मंगल बहेलिया के चचेरा भाई) पुत्र कमलेश उर्फ़ राजकुमार , राजकुमार (मंगल बहेलिया का भाई) निवासी आजाद नगर बनपोई मोहम्मदाबाद, आशा पत्नी मंगल बहेलिया निवासी आजाद नगर बनपोई, शिवानी (मंगल की सलहज) पत्नी प्रदीप बहेलिया निवासी गिरराज मन्दिर राजस्थान, सोनी (मंगल की भाभी) पत्नी आनन्द निवासी गिरराज मन्दिर सर्वेश नगर राजस्थान, सोनी पत्नी जोगी बहेलिया निवासी सैमरा  भरतपुर राजस्थान को कोतवाली प्रभारी मोहम्मदाबाद जय प्रकाश शर्मा व स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित ने गिरफ्तार किया|
आरोपियों के पास से तीन सोने की चैन,1.800 ग्राम अफीम व घटना में प्रयुक्त कार बरामद की| गैंग कई जनपदों में लूट व डकैती की घटनाओं को अंजाम देता रहता है|

मेरी भी जाति बागी, गरीबी के खिलाफ की बगावत: मोदी

0

बलिया:लोकसभा चुनाव 2019 में चक्रव्यूह के आखिरी द्वार को भेदने में सभी दल लग गए हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज इस क्रम में बागी के नाम से विख्यात बलिया में भाजपा विजय संकल्प रैली को संबोधित किया। बलिया में 19 मई को मतदान होना है। यहां से भदोही के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त भाजपा के प्रत्याशी हैं। भाजपा ने सांसद भरत सिंह को इस बार प्रत्याशी नहीं बनाया है। पीएम नरेंद्र मोदी आज बलिया में बिल्कुल बागी हो गए। मंच से खुलकर बोले और जनता को मोह लिया। बलिया के माल्देपुर मोड़ पर ग्राम हैबतपुर में विजय संकल्प रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी योजना भारत को सबसे शक्तिशाली देश बनाने की है। हम इस पर काफी हद तक सफल भी रहे हैं। हमको अब तो रोकने का काम तेज हो गया है। अवसरवादी तथा महामिलावटी एक होकर विरोध में लगे हैं, लेकिन मुझे तो जनता का सहयोग है। मैं इनके प्रयास को बेकार कर दूंगा। उन्होंने कहा कि मैं तो मां, बहनों और बेटियों के सम्मान में खड़ा हूं।महामिलावटी लोग जनता के फैसले का कैसे जवाब देंगे
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैं गरीब के आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए खड़ा हूं। मैं समाज की आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति को सशक्त करने के लिए जुटा हूं। अब देखना है कि यह सब महामिलावटी लोग जनता के फैसले का कैसे जवाब देंगे। पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावट वाले सपा हो, बसपा हो, कांग्रेस हो, यह सब मोदी को गाली देने में जुटे हैं। ऐसा कोई दिन नहीं है, जब मोदी के लिए इनके मुंह से गाली नहीं निकलती है। हम भी इनकी गाली सुनकर काफी मन से तेजी से काम करने लगते हैं। हमको किसी की बुराई नहीं करनी है, हमको तो देश का विकास करना है।
पीएम ने कहा कि बागी बलिया उज्ज्वला योजना से धुएं से मुक्त हुआ है। उसके इसी समर्थन का परिणाम है महामिलावट वाले यह सारे मोदी को गाली देने में जुट गए हैं। ऐसा कोई दिन नहीं जब मोदी के लिए उनके मुंह से गाली न निकले। छह चरणों की बौखलाहट है, हार की हताशा साफ दिख रही है। मैं इनकी गालियों को उपहार मानता हूं। इनकी गालियों का जवाब मोदी नहीं यह जनता जनार्दन देगी। मैं तो मां, बहन-बेटियों के सम्मान में खड़ा हूं। समाज के आखिरी पंक्ति में जो खड़ा है उसके लिए हूं। महामिलावटी पूछ रहे हैं कि मोदी की जाति क्या है। साथियों बुआ-बबुआ दोनों मिलकर जितने साल मुख्यमंत्री नहीं रहे उससे ज्यादा समय मैं गुजरात का सीएम रहा हूं। अनेक चुनाव लड़े- लडाए हैं, लेकिन कभी अपनी जाति का सहारा नहीं लिया।
देश को अगड़ा बनाने का लक्ष्य
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं पैदा भले अति पिछड़ी जाति में हुआ, लेकिन दुनिया में देश को अगड़ा बनाने का लक्ष्य है। मेरे दिमाग में जाति का भेदभाव नहीं है। जनता को लाभ जाति पूछकर नहीं दिया। इसलिए वोट भी जाति के नाम पर नहीं मांग रहा हूं। मुझे देश के लिए जीना है वोट भी देश के लिए मांगता हूं। मेरे दिल की आवाज है आपसे कहना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि जय प्रकाश नारायण की धरती से कहना चाहता हूं कि आपकी संतान आपकी तरह पिछड़ी जिंदगी न जिए। आपकी संतानों को विरासत में पिछड़ापन न मिले।
आपके बच्चों को विरासत में गरीबी न मिले। आपका आशीर्वाद चाहिए। आप सोच रहे होंगे मोदी यह काम कैसे कर पाएगा। इतने प्रधानमंत्री आए नहीं कर पाए, मोदी कैसे करेगा। मैं इसलिए कर पाऊंगा, क्योंकि आपके बीच से निकल कार आया हूं। जो दर्द आज आप सह रहे हैं, वह मैने सहा है। मैं अपना पिछड़ापन अपनी गरीबी नहीं, आपके लिए जीता हूं। आपके लिए जूझता हूं इसलिए विश्वास है परिस्थिति बदल दूंगा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विरोधियों ने सत्ता के नाम पर धोखा दिया है, लूटा है, आप जानते हैं। जाति के नाम पर अपने और रिश्तेदारों के लिए बंगले, महल बनाए और बेनामी संपत्ति का अंबार लगाया है। एजेंसियां जांच कर रही हैं। पानी पीकर गालियां देने वाले आज महामिलावट करने पर मजबूर हैं। रात को देखा कि सपा-बसपा के कार्यकर्ता एक-दूसरे का सिर फोड़ रहे थे। अभी तो चुनाव बाकी है हिसाब चुकता करना शुरू कर दिया है।
गरीबी से लड़ते-लड़ते मोदी भी बागी
पीएम मोदी ने कहा कि बलिया जिस प्रकार गुलामी के खिलाफ बागी हुआ यह मोदी भी गरीबी से लड़ते-लड़ते बागी हो गया। मेरी भी जाति बागी है और गरीबी के खिलाफ बगावत की है। पीएम मोदी ने कहा कि बचपन में मैंने मां को धुएं से जूझते देखा है। टपकती छत के कारण लोगों को रात में जागते देखा है, गरीबी के कारण खेत बिकते देखा है, ढिबरी में पढ़ाई कितनी मुश्किल होती है देखा है। इन्हीं वजहों ने मुझे गरीबी के खिलाफ बगावत करना सिखाया है।
इसी गरीबी को दूर करना है। प्रेरणा से गैस, बिजली, शौचालय जैसी योजना मिल रही है। 2022 तक हर गरीब के पास अपना पक्का घर होगा। चौकीदार है तो हर किसी को पक्का घर देकर ही सांस लेने वाला है। इसी प्रेरणा से गरीब से गरीब को पांच लाख तक मुफ्त इलाज मिल रहा है। यही प्रेरणा है कि छोटे किसानों के खाते में सीधे पैसे जमा किए जा रहे हैं। 23 मई के बाद हर किसी को यह लाभ मिलेगा। गरीबों को पेंशन मिले यह योजना चौकीदार बनाएगा। सामान्य वर्ग के गरीबों को दस फीसद का आरक्षण दिया गया। ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया गया।
मैं मेरा पिछड़ापन, मेरी गरीबी दूर करने नहीं, आपके लिए जीता हूं, आपके लिए जूझता हूं। इसी कारण मुझे विश्वास है कि इस परिस्थिति को बदलने में हम सफल होंगे। पीढ़ी दर पीढ़ी चली आ रही इस दयनीय स्थिति को मुझे बदलना है। मैं नहीं चाहता कि आपकी संतान भी, आपकी तरह पिछड़ी हुई जिंदगी जीने के लिए मजबूर हो। मैं नहीं चाहता कि आपकी संतानों को विरासत में पिछड़ापन मिले। मैं नहीं चाहता कि आपके बच्चों को विरासत में गरीबी मिले। मैं पैदा भले ही अति पिछड़ी जाति में हुआ हूं, लेकिन मेरा लक्ष्य पूरे देश को दुनिया में अगड़ा बनाने का है।
महामिलावट वालों को खुली चुनौती
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- मैं महामिलावट वालों को खुली चुनौती देता हूं कि गाली-गलौच करने के बजाय मैदान में आओ। मैं खुली चुनौती देता हूं – मैंने कोई बेनामी संपत्ति या फार्म हाउस या शापिंग मॉल न बनवाया, न विदेश में संपत्ति जमा की। मेरे पास गाड़ी भी नहीं है। मैंने बंगले नहीं बनवाए। मैंने न अमीरी के सपने देखे और न ही गरीब के पैसे लूटने का पाप किया। हमारे लिए गरीब का कल्याण और मातृभूमि की रक्षा जिंदगी में सर्वोपरि है। आज तो पाकिस्तान और आतंकियों की सारी हेकड़ी हवा हो गई है। आतंकी पाकिस्तान में घुसकर हथियारों की नुमाइश करते थे वो आज जमीन में घुसकर मोदी को हटाने की दुआ करते हैं। नींद हराम हो गई है, उनको लगता है भारत के सपूत आ धमकेंगे। आपके आशीर्वाद से देश के सपूतों को खुली छूट है। पहले सर्जिकल स्ट्राइक फिर एयर स्ट्राइक की। आज आतंक की लडाई सीमा पार लेकर गए हैं। सपा-बसपा और कांग्रेस को आपने आतंक या राष्ट्र रक्षा पर बोलते सुना है क्या। वो सपूतों के शौर्य पर सवाल उठाते हैं। प्रधानमंत्री मोदी कहा जो लोग गली के गुंडों पर लगाम नहीं लगा पाए वो आतंकवाद पर क्या लगाम लगाएंगे। पूरी दुनिया जिससे परेशान है उससे निपटने के लिए दिल्ली में हिम्मत के साथ देश के लिए फैसले लेने वाली सरकार चाहिए। सबका साथ सबका विकास हमारा मंत्र है सबको सुरक्षा और सम्मान हमारा प्रण है। इसी पर चलते हुए पूर्वांचल और पूर्वी भारत के विकास पर जोर दिया है। आज यहां ट्रेनों की आवाजाही बढी है, सडक बनी है। कनेक्टिविटी बढी है। हमारी सरकार ने मोबाइल कनेक्टिविटी पर जोर दिया है। फोन आज घर-घर पहुंचा है। भोजपुरी सिनेमा को लाभ मिला है। हमने 4 जी गरीब तक पहुंचाया है। मेक इन इंडिया होने से फोन सस्ता हुआ है। सरकार की नीति से दुनिया में इंटरनेट सबसे सस्ता है।
योगी आदित्यनाथ ने कहा-पीएम ने जाति देखकर विकास नहीं किया
सीएम योगी आदित्यनाथ से इससे पहले बलिया में पीएम मोदी का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने जाति देख कर विकास नहीं किया। सभी गरीब पिछड़ों को बिना भेदभाव किए विकास की योजनाओं से जोड़ा लेकिन फिर आज मोदी जी की जाति की बात हो रही है। उन्होंने कहा कि बलिया अब पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से जुडऩे वाला है, अब विश्वविद्यालय भी बनने जा रहा है। यह सब भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है।
भाजपा ने यहां से भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भदोही से सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को अपना प्रत्याशी घोषित किया है, जबकि गठबंधन से समाजवादी पार्टी के सनातन पाण्डेय उम्मीदवार हैं। एसपी-बीएसपी गठबंधन ने समाजवाद की जड़ें मजबूत करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के कुनबे से अलग पूर्व विधायक सनातन पांडेय पर दांव चलकर लोगों को चौंकाया है।कांग्रेस ने यह सीट अपने सहयोगी दल जन अधिकार पार्टी को दी थी, लेकिन उसके प्रत्याशी अमरजीत यादव का पर्चा खारिज हो गया। अब यहां महागठबंधन और बीजेपी में सीधा मुकाबला है।
मोदी की जनसभा में उमड़ा जनसैलाब
माल्देपुर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली में लोगों का हुजूम आने का सिलसिला शुरू हो गया है। नारेबाजी करते हुए समर्थक हाथों में झंडा व कंधे पर भगवा गमछा सर पर ‘मैं भी हूं चौकीदार’ की टोपी पहने  सभास्थल की तरफ जा रहे हैं। सुरक्षा-व्यवस्था में भारी मात्रा में फोर्स तैनात किए गए हैं। 15 मेटल स्कैनर द्वार से चेकिंग के बाद सभास्थल पर लोग पहुंच रहे हैं। कार्यकर्ता मैं भी चौकीदार हूं कि टोपी व मोदी का मुखौटा का वितरण कर रहे हैं।मोदी समर्थक देश के कोने-कोने से पहुंच रहे हैं।
भारत के आठवें प्रधानमंत्री चंद्रशेखर बलिया लोकसभा सीट से सांसद रहे थे। इस क्षेत्र में विधानसभा की पांच सीटें आती हैं, जिनमें जहूराबाद, बैरिया, फेफना, बलिया नगर और मोहम्मदाबाद शामिल हैं। बलिया सीट पर पहली बार 1952 में चुनाव हुआ था। निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मुरली मनोहर ने जीत हासिल की थी। वहीं, 1957 में कांग्रेस के राधा मोहन सिंह, 1962 में कांग्रेस के मुरली मनोहर और 1967-1971 में कांग्रेस के चंद्रिका प्रसाद ने दो बार जीत हासिल की थी। आखिरी बार इस सीट से कांग्रेस ने 1984 में चुनाव जीता था।दिग्गज नेता और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर ने कुल आठ बार (1977-2004) जीत हासिल की। चंद्रशेखर के पुत्र नीरज शेखर भी इस निर्वाचन क्षेत्र से दो बार 2007-2009 में सांसद रह चुके हैं।

एबीआरसी के घर सहित दो जगह ताले तोड़कर चोरी

0

Posted on : 14-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बीती रात चोरों ने एबीआरसी के घर सहित दो घरों में ताले तोड़कर नकदी जेबर साफ कर दिये गये| पुलिस ने जाँच पड़ताल की|
शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम नगला खैरबंद निवासी विश्राम सिंह राजपूत अपने गाँव जहानगंज के चुरसई भागवत में गये थे| मंगलवार को तड़के वह अपने घर पंहुचे तो घर के ताले टूटे पड़े थे| चोरों ने नकदी जेबरात साफ़ कर दिये| घटना की सूचना पुलिस को दी गयी|
वही शहर कोतवाली के ही ग्राम पपियापुर निवासी विश्राम सिंह राजपूत सुरजीत के घर ताले तोड़कर नकदी व जेबरात साफ़ कर दिया गया| सुरजीत के भाई मूलचंद का विवाह सम्बन्धित रस्मे चल रही थी| उसी दौरान चोरो ने घटना को अंजाम दिया|
आईटीआई चौकी इंचार्ज रामकेश ने बताया कि नगला खैरबंद गये थे| लेकिन पपियापुर की चोरी के विषय में कोई जानकारी उनके पास नही है|तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी|