स्वास्थ्य विभाग के लिपिक के साथ मारपीट में जबाबी मुकदमा

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: स्वास्थ्य विभाग के लिपिक व ठेकेदार के बीच हुई मारपीट में पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर के आधार पर जबाबी मुकदमा दर्ज कर जाँच शुरू कर दी|
लोहिया अस्पताल के महिला चिकित्सालय में तैनात लिपिक भोलानाथ चतुर्वेदी ने पुलिस को दी गयी तहरीर ने कहा है कि वह सरकारी कार्य से लिपिक मोहित गंगवार के साथ फतेहगढ़ बाइक से जा रहे थे| तभी मिलेट्री चौराहे पर सोनू मिश्रा पुत्र केसी मिश्रा निवासी सैनिक कालोनी, सनी कुमार सिंह पुत्र वीरपाल सिंह निवासी अपर दुर्गा कालोनी के साथ 7-8 अज्ञात लोग आ गये|  जिन्होंने लिपिक भोला के साथ जान से मारने की नियत से मारपीट कर दी और सरकारी अभिलेख भी फाड़ दिए|
वही दूसरी तहरीर में अधिवक्ता सोनू मिश्रा निवासी सैनिक कालोनी ने पुलिस को दी गयी तहरीर में कहा है कि भोला नाथ चतुर्वेदी व उनके सहयोगी मोहित गंगवार निवासी विकास नगर बढ़पुर, अभिषेक मिश्रा निवासी गंगानगर,अक्कू सेंगर पुत्र केपी सिंह निवासी सैनिक कालोनी,नौषाद हुसैन निवासी बेबर आदि 8-10 अज्ञात लोगों ने घेरकर हाथ से सोने की अंगूठी आदि भी लूट कर मारपीट भी कर दी| पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया|

सांस्कृतिक धरोहर के रक्षक थे डॉ० वाकणकर

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद: कला एवं साहित्य की अखिल भारतीय संस्था संस्कार भारती द्वारा संस्कार भारती के संस्थापक महामंत्री पुरातत्वविद् पद्मश्री डॉ. विष्णु श्रीधर वाकणकर का जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर एक विचार गोष्ठी का आयोजन नया कोठा पार्चा स्थित एशियन कम्प्यूटर इंस्टीट्यूट पर हुआ। संस्कार भारती फर्रुखाबाद के कला साधकों ने श्री डा0 विष्णु श्रीधर (हरिभाऊ) वाकणकर का स्मर्ण करते हुए अपने श्रृद्धा सुमन अर्पित किए।
गोष्ठी में बताया गया कि डॉ॰ वाकणकर जी ने अपना समस्त जीवन भारत की सांस्कृतिक धरोहरों को सहेजने में अर्पित किया। उन्होंने अपने अथक शोध द्वारा भारत की समृद्ध प्राचीन संस्कृति व सभ्यता से सारे विश्व को अवगत कराया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में आने पर उन्होंने आदिवासी क्षेत्रों में सामाजिक और शैक्षिक उत्थान कार्य किया, लगभग 50 वर्षों तक जंगलों में पैदल घूमकर विभिन्न प्रकार के हजारों चित्रित शैल आश्रयों का पता लगाकर उनकी कापी बनाई तथा देश विदेश में इस विषय पर विस्तार से लिखा, व्याख्यान दिए और प्रदर्शनी लगाई। प्राचीन भारतीय इतिहास एवं पुरातत्व के क्षेत्र में डॉ॰ वाकणकर ने अपने बहुविध योगदान से अनेक नये पथ का सूत्रपात किया।
कार्यक्रम में प्रान्तीय प्राचीन कला विधा संयोजक अखिलेश पाण्डेय, पुरातत्वविद यश भारती डा0 रामकृष्ण राजपूत रवीन्द्र भदौरिया, प्रान्तीय महामंत्री सुरेन्द्र पाण्डेय, अध्यक्ष संजय गर्ग, कार्यकारी अध्यक्ष शैलेन्द्र दुबे, सचिव आकांक्षा सक्सेना, कोषाध्यक्ष आदेश अवस्थी, डा0 समरेन्द्र शुक्ल ‘कवि’ सुनील अवस्थी अन्शुल कश्यप शिल्पी सक्सेना पूजा चैरसिया उपकार मणि उपकार आदि उपस्थित रहे।

स्वास्थ्य विभाग के लिपिक कोे सरेबाजार पीटा

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: काम से जा रहे स्वास्थ्य विभाग के लिपिक के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया| घटना के बाद स्वास्थ्य विभाग में आक्रोश है|
मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय में लिपिक के पद पर तैनात रहे एक लिपिक का बीते कुछ समय पहले की लोहिया महिला अस्पताल में तबादला किया गया था| लेकिन वह सीएमओ कार्यालय में फ़िलहाल अटैच है| शनिवार दोपहर वह किसी काम से जा रहे थे| उसी दौरान कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के फतेहगढ़ चौराहे के निकट कुछ लोगों ने लिपिक को जमकर पीट दिया और फरार हो गये| लिपिक ने पूरे मामले से सीएमओ को अवगत कराया| फिलहाल अभी पुलिस को कोई तहरीर नही दी गयी है|

दिल्ली के सीएम केजरीवाल को रोड शो में मारा थप्पड़

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

नई दिल्ली:दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को थप्पड़ मारने का मामला सामने आया है। रैली के दौरान एक शख्स ने केजरीवाल को थप्पड़ मार दिया। दरअसल केजरीवाल शनिवार शाम को मोती नगर में एक रोड शो कर रहे थे तभी  एक शख्स ने उन्हें थप्पड़ मार दिया। थप्पड़ मारने वाले शख्स को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। थप्पड़ मारने वाले का नाम सुरेश बताया जा रहा है और वह कैलाश पार्क का रहने वाला है। वहीं, इस घटना के लिए आम आदमी पार्टी ने भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। आप प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज का कहना है कि भाजपा के इशारे पर युवक ने मुख्यमंत्री को थप्पड़ मारा है।
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर हमले का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी कई बार उन पर इस तरह के हमले हो चुके हैं। गत साल नवंबर में केजरीवाल पर दिल्ली सचिवालय में मिर्च पाउडर से हमला किया गया था। अप्रैल, 2016 में दिल्ली सचिवालय में ही पत्रकार वार्ता के दौरान उन पर जूता फेंका गया था। जूता फेंकने वाला आम आदमी सेना का कार्यकर्ता वेदप्रकाश शर्मा था। जूते के अलावा केजरीवाल की ओर सीडी भी उछाली गई।
मिर्च पाउडर से हमला
इससे पहले गत साल नवंबर में केजरीवाल पर दिल्ली सचिवालय में मिर्च पाउडर से हमला किया गया था। दिल्ली सचिवालय में चैंबर से बाहर निकलने के दौरान केजरीवाल के ऊपर अनिल शर्मा नाम के शख्स ने अचानक मिर्च पाउडर फेंक दिया था। अनिल ने सीएम केजरीवाल को किसी समस्या को लेकर एक पत्र देने आया था। इस दौरान सीएम रुके तो वह उनके पैरों पर गिर गया। इस पर सीएम ने रोकने की कोशिश की तो इसमें उसका चश्मा गिर गया और टूट गया। फिर अनिल ने केजरीवाल के ऊपर मिर्च पाउडर फेंक दिया था। हमले से पहले आरोपित अनिल शर्मा ने केजरीवाल के साथ धक्का-मुक्की भी की थी।
लुधियाना में गाड़ी पर हमला
फरवरी, 2016 में ही पंजाब के लुधियाना में अरविंद केजरीवाल की कार पर कुछ लोगों ने लोहे की रॉड और डंडों से हमला किया था, जिससे कार का सामने वाला शीशा टूट गया था।
महिला ने फेंकी थी स्याही 
जनवरी, 2016 में दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में ऑड ईवन फॉर्मूले के 15 दिवसीय ट्रायल की सफलता का जश्न मना रहे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर स्याही फेंकने का मामला सामने आया था। मुख्यमंत्री जब मंच से सभा को संबोधि‍त कर रहे थे, तभी एक महिला ने नाराजगी जाहिर करते हुए उन पर स्याही फेंकी थी।
लड़के ने पत्थर मारा 
इससे पहले 27 दिसंबर 2014 को दिल्ली में रैली के दौरान एक लड़के ने केजरीवाल को पत्थर मारा था, यह अलग बात है कि उन्हें कोई चोट नहीं आई थी। फिर 26 दिसंबर 2014 को दिल्ली में रैली के दौरान उन पर अंडे फेंके गए थे। इससे भी पहले 2014 के लोकसभा चुनावों में दिल्ली में रोड शो के दौरान केजरीवाल को एक ऑटो ड्राइवर ने थप्पड़ मारा था।

तीन दिन से केंद्र पर ताले,गेंहू खरीद के लाले

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) मई में शासन व जिला प्रशासन गेंहू खरीद पर अपना पूरा ध्यान रखता है इसके बाद भी केंद्र प्रभारी प्रशासन की आँखों में धूल झोंकने से बाज नही आते| जेएनआई टीम ने जब गेंहू क्रय केन्द्रों का दौरा किया तो कई केन्द्रों पर ताले लटके मिले और किसान तेज धूप में प्रभारी का इंतजार करते दिखे|
क्षेत्र के ग्राम बरुआ में क्रय केंद्र को 2000 कुंतल का लक्ष्य मिला है| जबकि 500 कुंतल खरीद हो चुकी है| साधन सहकारी समिति बरुआ सेंटर 3 दिन से बंद है|सत्यपाल सिंह ने बताया कि सेंटर पर गेहूं खरीद नहीं आ रही है| राजेपुर कस्बा के केंद्र पर काँटा नही था| यंहा 15000 सौ कुंतल का लक्ष्य है|लेकिन खरीद अभी 7 हजार कुंतल ही हुई है|
इसके आलावा भी कई केन्द्रों पर अव्यवस्था हाबी थी| लेकिन कोई देखने वाला नही| किसान कई जगह चिलचिलाती धूप में केंद्र प्रभारी का इंतजार करते नजर आये| एसडीएम बसंत कुमार गुप्ता ने बताया कि सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित कर लापरवाही करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी|

घर के ताले तोड़कर दो लाख की चोरी

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) बीती रात चोरों ने ताले तोड़कर लाखों के नकदी व जेबरात चोरी कर लिये| घटना की सूचना पर पुलिस ने मौके पर जाकर जाँच पड़ताल की| लेकिन कोई सुराग नही लगा|
थाना क्षेत्र के ग्राम कोठी निवासी राजेश, लाखन सिंह, जसबंत, अर्जुन पुत्र सूरज पाल दिल्ली में रहकर प्राइवेट नौकरी कर रहे है| एक भाई जबर सिंह घर पर रहता है| राजेश की पत्नी रेखा और लखन की पत्नी संध्या भी घर पर ही रहती है|
शनिवार तड़के जब जबर सिंह मुसखिरिया निवासी हद्दू कटियार के खेत में शौच करने गया तो उसके अपने घर के चार बक्से खेत में पड़े मिले| जबर सिंह ने घटना की सूचना ग्रामीणों और परिजनों को दी| इसके बाद डायल 100 को बताया| सूचना पर डायल 100 मौके पर पंहुची| जिसके बाद पता चला चोरों ने लाखन के घर के चारों बक्सों को पार कर खेत में ले जाकर लगभग 30 हजार की नकदी सहित दो लाख रूपये की चोरी कर ली| घटना के बाद पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है|

राजेपुर थानाध्यक्ष व दरोगा के खिलाफ कोर्ट में मुकदमा

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: अधिवक्ता को अपराधी लिखने के मामले में न्यायालय सख्त हो गया है| न्यायालय ने थानाध्यक्ष व दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तलब किया है|
शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला नुन्हाई निवासी नितिन कुमार मिश्रा ने कोर्ट को बताया कि एक प्रार्थना पत्र 156 (3) के तहत अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के समक्ष पेश किया था| न्यायालय के द्वारा थाना राजेपुर से आख्या तलब की गयी| जिसमे उप निरीक्षक उदयभान सिंह ने 22 अप्रैल 2019 को आख्या पर अंकित किया की नितिन कुमार मिश्रा चालक किस्म का अपराधी है व थानाध्यक्ष राकेश कुमार ने मोहर द्वारा अंकित किया की वह आख्या से सहमत है| नितिन कुमार मिश्रा ने कहा की वह पेशे से अधिवक्ता है|
कोर्ट ने मामले को गम्भीरता से देखते हुए मुकदमा दर्ज कर 14 मई की तिथि नियत की| नितिन मिश्रा की तरफ से पैरवी अधिवक्ता दीपक द्विवेदी ने की|

महामिलावटी पद के लालच में दिल्ली आने को आतुर:पीएम मोदी

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, राष्ट्रीय

बस्ती:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बस्ती में चुनावी सभा को संबोधित करने हेलिकॉप्टर के बेड़ा के साथ पहुंचे। पीएम नरेंद्र मोदी प्रतापगढ़ के हेलिकॉप्टर को देखते ही भयंकर गरमी में भी लोग उत्साह से भर गए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वागत के बाद माइक संभाला तो सीधा यहां पर मंच से सपा व बसपा गठबंधन को अल्टीमेटम दिया। उन्होंने कहा कि महामिलावटी लोग गरीबों को खरीदने के प्रयास में न रहें। सपा बसपा इंसान को वोट का पताका समझते हैं। यह लोग (सपा बसपा) इंसानों को वोट के रूप में बेच रहे हैं। ऐसे नेता हमें मंजूर नहीं। जनता ने तय किया है कि नेता अपनी खातिर खरीद बेच की बिक्री चला रहे हैं। यह लोग (सपा बसपा) डंके की चोट पर वोट ट्रांसफार करने का दावा कर रहे हैं। इंसान और रुपयों में बहुत बड़ा फर्क होता है। जनता गरीब हो सकती है बिकाऊ नहीं। उन्होंने कहा कि सपा व बसपा के लोग जैसे पैसे एक खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर करते हैं, यह लोग भी इंसान को उसी तरह तौलते हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि हमारी तो कार्य संस्कृति ही लक्ष्य तय करने और उसे पूरा करने की है। महामिलावटी गठबंधन और एनडीए की कार्य संस्कृति एक दूसरे से काफी अलग है। हम सरकार को दिल्ली से बाहर ले जाना चाहते हैं, वहीं जो महामिलावटी हैं, जो पद के लालच में दिल्ली आने को आतुर हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आप लोग (सपा बसपा) बिकाऊ, ठेकेदार हो। यूपी के लोग नेकी और नियत के आधार पर वोट देते हैं।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अभी जो पहले आप, पहले आप जैसी बात करते थे वो चार चरण के बाद एक दूसरे का गला काटने का खेल खेल रहे हैं। 23 को जब चुनाव के नतीजे आएंगे तक कहेंगे आप कौन। उन्होंने कहा कि हम जाति पात दूर भगाएंगे। भूख, गरीबी को भगाएंगे। 2017 में जनता ने भेदभाव करने वाले लोगों को जनता ने नकार दिया। 2019 के चुनाव में यूपी हैट्रिक लगाने वाला है। विकास को ध्यान में रखते हुए आपने जो पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी उसने पूरी इमानदारी से काम किया। आज भारत के कहने पर भारत के गुनहगारों को कठघरे में खड़ा किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में पीएम के पद को इतने चेहरे हवा में चल रहे हैं, जिनकी गिनती कठिन है। जो चार सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं जो चालीस सीट पर चुनाव लड़ रहे वह भी प्रधानमंत्री बनना चहता है। आप बताएं कौन सा चेहरा है जो आतंकवाद को खत्म कर सकता है। यह आपको तय करना है कि आपको कैसा सेवक चाहिए। साफ-सफाई से लेकर इलाज का काम शुरू किया। हमने पहली बार तीन साल के अंदर बच्चों व माताओं पर निरंतर नजर रखी जा रही है। एएनएम आशा को उपकरण दिए गए हैं बीमारों की बीमारी पर नजर रखने के लिए। गरीब किसी भी वर्ग व समुदाय का हो उसके लिए पांच लाख रुपये तक की चिकित्सा व्यवस्था चौकीदार ने की है। आयुष्यमान होने का तोहफा दिया है।
पीएम मोदी ने कहा कि हम देश की सीमा के साथ ही आंतरिक सुरक्षा को लेकर भी काफी सगज हैं। अब तो आतंकी कहीं भी हो खोज कर मारा जाएगा। इसके साथ ही अब बस्ती में मेडिकल कालेज, गोरखपुर में एम्स, काशी में कैंसर अस्पताल मिलने से गरीब को बेहतर इलाज की सुविधा मिली है। बच्चों को पढ़ाई, नौजवानों को कमाई,बीमारों को दवाई मेरा लक्ष्य है। मुंडेरवा में चीनी मिल योगी के प्रयास से शुरु हो गई है। किसान सम्मान निधि का लाभ दिया गया है। नतीजा 23 मई को आने वाला है। फिर एक बार मोदी सरकार के नारे के नारे लगवाए। खेत मजदूर, छोटे किसान, दुकानदार को हर माह पेंशन योजना का लाभ मिलेगा।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ऐसे लक्ष्य ले कर चल रही है जिसके बारे में पूर्व की सरकारें सोच ही नहीं सकती थीं। किसानों की आय दोगुनी करने का प्रयास हमारी सरकार का है। महान मिलावटी गठबंधन व एनडीए एक दूसरे से अलग हैं। अगर थोड़ा सा ध्यान दें तो आप समझ सकते हैं। इनमें महान मिलावट है। भ्रष्टाचारियों, वंशवादियों, जातिवादियों के लिए प्रधानमंत्री बनने के सपने सपने ही रह गए। सपा,बसपा, कांग्रेस इन तीनों के जनता वोट बैंक है। यह धन की तरह से जनता को एक दूसरे के खाते में ट्रांसफर करते हैं। मेरे उत्तर प्रदेश का हर नागरिक उद्यमी हो सकता है बिकाऊ नहीं हो सकता है। मेरे उत्तर प्रदेश के वोटर मन बना चुके हैं। पीएम मोदी ने कहा कि जनता ने विकास की नीति को अपना लिया है। आपने जो सरकार बनाई उसने पूरी इमानदारी से काम किया। भारत के कहने पर दुनियाभर में सुना जा रहा है। आपने देखा होगा आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में भारत को अपार सफलाता मिली। मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया गया है। अब पाकिस्तान या जो सोमालिया बनने के लिए तैयार रहना होगा या अजहर पर कार्रवाई करना होगा। पाकिस्तान मजबूर हुआ है तो भारत मजबूत हुआ है। शहीदों के परिवानों को सुकून मिला है।
भाजपा के दमदार प्रदर्शन से सपा, बसपा की नींद हराम हो गई है। कंफ्यूज हो गई हैं। बहन जी परेशान हो गईं हैं। यह लोग कभी सही नहीं बोलते हैं। 23 मई को 2007 को गोरखपुर मे गोलघर में सीरियल धमाके हुए थे जब किसकी सरकार थी, लखनऊ, अयोध्या सहित कई शहरों में धमाके हुए तब भी मायावाती की सरकार थी। अयोध्या में बम फटा था तब किसकी सरकार थी। भीड़ ने कहा मयायावती। प्रदेश की जनता इसे कभी नहीं भूल सकती। भारत माता की संतानों के खून के हर कतरे का हिसाब लेने के लिए देश ने मुझे बैठाया है।
पीएम मोदी ने लोगों से बड़ी संख्या में मतदान की अपील की। लोगों से हाथ उठवाए। कहा कि जब आप कमल का बटन दबाएंगे तो सीधा वह वोट मोदी को मिलेगा। जो लोग धूप में तप कर भाषण सुन रहे हैं उनको विश्वास दिलाता हूं कि उनका वोट बेकार नहीं जाने दूंगा। विकास कर दिखाऊंगा।
बस्ती में मंडल की तीन सीटों बस्ती, संतकबीर नगर व डुमरियागंज के लिए बस्ती के राजकीय पालीटेक्निक मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संतकबीर नगर, डुमरियागंज व बस्ती के मतदाताओं व जनता का आभार व्यक्त किया। सांसदों का धन्यवाद दिया कि आपने मुझे गौरवान्वित होने का अवसर दिया है। पांच साल के लिए धन्यवाद देने आया हूं देश की आकांक्षा पूरी करने के लिए आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं।
बस्ती में पॉलीटेक्निक के मंच पर भाजपा के प्रत्याशी तथा नेताओं से पीएम मोदी मंच पर बारी-बारी से मिले। यहां मंच पर पीएम मोदी का माल्यार्पण से स्वागत किया गया। भाजपा गोरखपुर के क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र ने स्वागत भाषण किया। बस्ती से भाजपा ने एक बार फिर हरीश द्विवेदी को मैदान में उतारा है। पीएम मोदी ने उनके पक्ष में माहौल बनाने के साथ ही गोरक्षप्रांत की 13 सीटों पर भी अपना जादू चलाया।

मतदाता पर्ची ना बाँटने में बीएलओ पर गाज गिरना तय!

0

Posted on : 04-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FOOD & SUPPLY, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) मतदान से पूर्व मतदाता पर्ची का वितरण ना करना बीएलओ को मंहगा पड़ सकता है| जाँच में अधिकारियों को इसकी पुष्टि भी कर दी की बीएलओ ने मतदाताओं को मतदाता पर्ची वितरण नही की|
मतदान के दिन शाम को ग्राम पट्टीदारापुर की बीएलओ (शिक्षा मित्र) कृष्णा देवी के घर से दर्जनों मतदाता पर्ची मिली थी| जिसकी शिकायत जिलाधिकारी मोनिका रानी से की गयी थी| जिलाधिकारी ने तहसीलदार अमृतपुर राजू कुमार को मामले की जाँच के लिए अधिकृत किया| शनिवार को तहसीलदार के साथ ही कानूनगो कुलदीप राठौर व लेखपाल मान्मेन्द्र सिंह ग्राम पट्टीदारापुर में जाँच करनें पंहुचे| उन्होंने लगभग 111 मतदाता पर्चियों की जाँच में कुल 40 पर्ची इस तरह की मिली जिनको बीएलओ के द्वारा नही बांटा गया|
तहसीलदार ने जेएनआई को बताया कि जाँच में कुल 40 मतदाताओं को पर्ची ना देंने की पुष्टि हुई| तहसीलदार ने बताया कि जाँच रिपोर्ट बनाकर जिलाधिकारी को भेजी जा रही है| जिलाधिकारी के स्तर पर कार्यवाही की जायेगी|

फानी तूफ़ान ने बरपाया कहर, आठ की मौत, हजारों पेड़ उखड़े, सैकड़ो मकान छतिग्रस्त

0

नई दिल्ली: फानी तूफान बंगाल की खाड़ी में उठे समुद्री तूफान फानी ने शुक्रवार को पुरी सहित ओडिशा के अन्य जिलों में जमकर तबाही मचाई। इस दौरान तीन अलग-अलग घटनाओं में आठ की मौत हो गई। पुरी में जहां 245 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चली, वहीं अन्य हिस्सों में 175 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश हुई।
समुद्र में उठती ऊंची-ऊंची लहरों से लोग दहशत में रहे। तेज हवा से हजारों पेड़, झोपड़ियां और घर के छप्पर उजड़ गए। कई जगहों पर भूस्खलन हुआ। बिजली व्यवस्था और संचार व्यवस्था चरमरा गई है। कोलकाता-चेन्नई रूट पर 220 से अधिक ट्रेनें शनिवार से रद हैं। भुवनेश्वर हवाई अड्डे से शुक्रवार को सभी उड़ानें रद रहीं।
फानी से प्रभावित राज्यों को निपटने के लिए केंद्र सरकार ने 1000 करोड़ रुपये जारी किए है। इसकी घोषणा शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने की। इससे पहले 11 लाख लोगों को प्रभावित इलाकों से पहले ही हटा लिया गया था, जिससे नुकसान काफी कम हुआ। 10,000 गांवों और 52 शहरी क्षेत्रों को खाली करा लिया गया था।
बांग्लादेश की ओर मुड़ा तूफान
पुरी से गुजरने के बाद फानी चक्रवात खुर्दा, भुवनेश्वर, कटक, भद्रक, व बालेश्वर होते हुए पश्चिम बंगाल से गुजर कर बांग्लादेश की ओर चला गया। इससे पहले फानी तूफान का बाहरी आवरण शुक्रवार को सुबह करीब नौ बजे पुरी जिले के गोपालपुर और चांदबली के बीच जमीन से टकराया। उस समय इसकी गति सौ किमी प्रति घंटे थी। जैसे-जैसे तूफान का केंद्र तट की ओर बढ़ता गया इसकी गति भी तीव्र हो गई। जब तूफान का केंद्र सुबह करीब दस बजे पुरी में तट से टकराया तो उस समय उसकी रफ्तार 245 किमी प्रति घंटा मापी गई। जो धीरे धीरे कमजोर पड़ती चली गई। पिछले 43 साल में यह सबसे तीव्र गति का तूफान था।
|बस्तियों से हटा लिए गए थे लोग
तूफान की वजह से भुवनेश्वर में तेज हवाओं से लोग बुरी तरह सहम गए। भुवनेश्वर में 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवा व भारी बारिश के कारण तमाम जगहों पर विशालकाय पेड़ भी धराशायी हो गए। प्रशासन की तरफ से बस्ती में रहने वाले लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया था। बावजूद इसके भुवनेश्वर में काफी संख्या में लोग बस्तियों में रुके रहे। जिन्हें शुक्रवार को तबाही के बाद आश्रय स्थल में लाया गया।
एनडीआरएफ की 28 टीमें तैनात
किसी भी आपदा से निपटने के लिए नेशनल डिजास्टर रिस्पॉस फोर्स (एनडीआरएफ) की 28 टीमों को तैनात किया गया है। इससे पहले शासन प्रशासन ने किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली थी। प्रभावितों को लिए 800 आश्रय स्थल बनाए है। स्कूल व कॉलेजों को बंद कर आश्रय स्थल में तब्दील कर दिया गया है।
एक लाख भोजन के पैकेट तैयार
प्रभावितों के लिए सूखे भोजन के एक लाख पैकेट और इन्हें वितरित करने के लिए दो हेलीकॉप्टर तैयार हैं। भारतीय तटरक्षक बल के पास विशाखापट्टनम, चेन्नई, गोपालपुर, हल्दिया, फ्रेजरंगज और कोलकाता के विभिन्न स्थानों पर 34 आपदा राहत दल हैं। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए चार जहाज तैनात हैं। भारतीय नौसेना ने राहत सामग्री और चिकित्सा दलों के साथ तीन जहाजों को भी तैनात किया है ताकि वह बचाव अभियान शुरू कर सके। 17 जगह पर स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से विशेष व्यवस्था की गई है।
पीएम ने दिया हर संभव मदद का भरोसा
राजस्थान के करौली-धौलपुर में रैली के लिए पहुंचे पीएम मोदी ने फानी का भी जिक्र किया। कहा कि केंद्र सरकार प्रभावित राज्यों की सरकारों के साथ लगातार संपर्क में है और एक दिन पहले ही इसके लिए 1000 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि जारी की जा चुकी है।
राहत सामग्री की मुफ्त ढुलाई करेगा रेलवे  
रेलवे ने कहा है कि चक्रवात प्रभावित ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश के लिए वो राहत सामग्रियों की मुफ्त ढुलाई करेगा। रेलवे ने इस संबंध में दिशानिर्देश जारी किए हैं। साथ ही सभी मंडल रेल प्रबंधकों (डीआरएम) को इस संबंध में पत्र भी लिखा है। रेलवे के मुताबिक जिलाधिकारी और कमिश्नर के माध्यम से राहत और सहायता सामग्री फणि प्रभावित राज्यों को भेजे जा सकते हैं। सरकारी संगठनों द्वारा भेजे जाने वाली सामग्री की ढुलाई रेलवे मुफ्त करेगा। संबंधित जिलों में जिलाधिकारी और कमिश्नर ही राहत सामग्री को प्राप्त भी करेंगे।
बंगाल में भी व्यापक असर 
फानी का पश्चिम बंगाल के पश्चिम मेदिनीपुर जिलों में व्यापक असर देखा गया। आंधी के चलते 185 मकानों के क्षतिग्रस्त हुए। नौ घायल हुए। शासन ने स्पष्ट किया कि मनाही के बावजूद समुद्र में जाने वाले मछुआरों के खिलाफ कार्रवाई होगी। लगातार माइकिंग की जा रही है। नदियों में नावों के आवागमन पर रोक है। हल्दिया बंदरगाह से करीब 15 नॉटिकल मील (करीब 28 किमी) दूर स्थित बंदरगाह में माल चढ़ाने और उतारने का कार्य बुधवार से स्थगित है। वहीं राज्य में एक व्यक्ति के मारे जाने की भी सूचना है।
असम में भी हाई अलर्ट 
चक्रवाती तूफान फणि के पश्चिम बंगाल से टकराने के बाद पूरे पूर्वोत्तर में भारी बारिश की आशंका जताई गई है। इसको देखते हुए असम सरकार ने सभी जिलों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। मध्य जल आयोग ने चार और पांच मई को पश्चिमी और मध्य असम के जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई है। राज्य आपदा राहत बल को पूरे राज्य में 40 जगहों पर तैनात किया गया है।बिहार में तीन मरे
उत्तर बिहार के कई क्षेत्रों में शुक्रवार को चक्रवात फणि के प्रभाव से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। कई जगह पेड़ गिरने से आवागमन बाधित हो गया। बिजली ठप हो गई। घरों के छप्पर उड़ गए। ठनका गिरने से पश्चिम चंपारण में दो लोगों की मौत हो गई।
आंध्र के चार जिलों को आचार संहिता में छूट
चुनाव आयोग ने चक्रवात फणि को देखते हुए आंध्र प्रदेश के चार जिलों में आदर्श आचार चुनाव संहिता में ढील दे दी है, ताकि राहत और बचाव के कार्य तेजी से चलाए जा सकें। आंध्र प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी ने चुनाव आयोग से पूर्वी गोदावरी, विशाखापट्टनम, विजयानगरम और श्रीकाकुलम के लिए आदर्श आचार संहिता में ढील देने की मांग की थी, जिसे आयोग ने मान लिया है। हालांकि, श्रीकाकुलम को छोड़कर आंध्र प्रदेश के तटवर्ती इलाकों में फणि का कुछ ज्यादा असर नहीं पड़ा है। तेज हवाओं के चलते कुछ पेड़, बिजली के खंबे और टेलीफोन के टॉवर जरूर उखड़े गए हैं। बिजली और संचार व्यवस्था को बहाल करने का काम तेजी से चल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य के तटवर्ती इलाकों में सिर्फ सात गांवों पर ही इसका असर पड़ा है, यहां तेज बारिश हो रही है, लेकिन जान-माल के किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है।
दो दशकों में ओडिशा में चक्रवात 
29 अक्टूबर 1999 : महाचक्रवात
4 अक्टूबर 2013 : फेलिन
12 अक्टूबर 2014 : हुदहुद
10 अक्टूबर 2018 : तितली
फानी  का असर
-भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार में झारखंड में अपनी सभी तीन रैलियों को रद किया।
-बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी आज होने वाली अपनी सभी रैलियों को रद किया।
-बंगाल में फानी के मद्देनजर स्ट्रांग रूम की सुरक्षा पर आयोग ने मांगी रिपोर्ट।
-हजारों पेड़ धराशायी, 11 लाख को प्रभावित क्षेत्रों से हटाया।
-220 से अधिक ट्रेनें व भुवनेश्वर से सारी उड़ानें रद, कोलकाता एयरपोर्ट भी बंद।
-प्रभावित राज्यों को केंद्र ने दी 1000 करोड़ की मदद।