ईंटो से बंद किये जायेंगे स्ट्रांग रूम के ताले

0

फर्रुखाबाद:मतदान के बाद मतगणना के इंतजार में रखीं ईबीएम आदि की सुरक्षा पर जिलाधिकारी मोनिका रानी की सीधी नजर है| इसके लिए उन्होंने स्ट्रांग रूम के तालों को ईटों से बंद करने के निर्देश दिये गये|
सातनपुर गल्ला मंडी में रखी गयी ईबीएम आदि की सुरक्षा में सीआईएसएफ तैनात है| आलाधिकारी भी अपनी कदम ताल जारी रखे है| सुरक्षा में कोई चुक ना हो इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी ने निर्देश दिये की स्ट्रांग रूम के तालों को ईंटो से बंद किया जाये|
इसके साथ ही साथ उन्होंने बंदरों के आतंक कम करने के लिए वन विभाग के तीन कर्मियों की डियूटी लगायी है|डीएम ने यह भी निर्देश दिये कि जिन अधिकारीयों तथा कर्मचारियों के साथ पुलिस की डियूटी लगी है उनकी सूची सीआईएसएफ को उपलब्ध करायी जाये|

डीएम को गेंहू क्रय केंद्र प्रभारी मिले गायब

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:शासन के निर्देश पर खोले गये गेहूं क्रय केंद्र पर खरीद को लेकर केंद्र प्रभारी कितने गम्भीर है यह डीएम मोनिका रानी ने खुद ही देख लिया| उनके निरीक्षण के दौरान कई केंद्र प्रभारी गायब मिले| जिससे डीएम का पारा चढ़ गया और उन्होंने कार्यवाही के निर्देश दिये|
जिलाधिकारी ने नगर के सातनपुर मंडी में बने आरएफसी,पीसीएफ,एफसीआई एवं कर्मचारी कल्याण निगम के गेंहू खरीद केंद्र चेक किये| जिसमे पीसीएफ व कर्मचारी कल्याण निगम के केंद्र प्रभारी उन्हें गायब मिले|जिस पर डीएम  ने तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिये| आरएफसी गेंहू क्रय केंद्र पर उन्होंने क्रय रजिस्टर की जाँच की| उन्हें केंद्र प्रभारी प्रदीप यादव ने बताया कि की अब तक 32 किसानों से 2239.50 कुंतल गेंहू की खरीद की है| किसानों के खातों में 20 रूपये मजदूर शुल्क काटकर 1840 रूपये प्रति कुंतल के हिसाब से भुगतान किया गया है|डीएम ने सभी केन्द्रों के काँटों का वजन कराकर चेक किया|

अपडेट:खड्ड में पड़ी मिली वृद्धा की लाश,पुलिस ने नही कराया पोस्टमार्टम

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) बीते लगभग एक दिन से लापता वृद्धा की लाश सड़क किनारे खड्ड में पड़ी मिली| उसका चेहरा लहुलुहान था| पुलिस को हत्या का शक है| लेकिन पुलिस ने परिजनों की सहमती से शव का पोस्टमार्टम नही कराया|
थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के मोहल्ला गढ़ी अशरफ अली बजरिया निवासी 60 वर्षीय खुर्शीदा पत्नी रशीद बीते लगभग एक दिन से घर से लापता बतायी जा रही थी| उनके परिजनों ने थाना पुलिस को तहरीर भी दी थी| जिसके बाद परिजन उसकी खोजबीन में लगे थे| लेकिन कोई पता नही चला| बुधवार को दोपहर बाद थाना राजेपुर क्षेत्र के इटावा-बरेली हाई-वे पर जमापुर रोड के निकट सड़क किनारे खड्ड में खुर्शीदा की लाश पुलिस को मिली| उसके सिर में खून लगा था| हाथों व घुटनों में भी चोट के निशान थे| सूचना मिलने पर मृतका का पुत्र तालिब आदि मौके पर पंहुचे| परिजनों के अनुसार महिला का मानसिक संतुलन ठीक नही था| फ़िलहाल महिला की हत्या की आशंका जतायी जा रही है|पुलिस को मौके पर एक जोड़ी पुरुष की चप्पल भी मिली|
मौके पर दरोगा दीपक त्रिवेदी,किरण नागर व उदय भान आदि फ़ोर्स के साथ आ गये| उन्होंने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया|लेकिन बाद में परिजनों ने अपने सभी आरोप वापस लेकर पोस्टमार्टम कराने से मना कर दिया| उन्होंने लिखित में पुलिस को तहरीर दी जिसमे कोई कार्यवाही ना करने की बात कही|
प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि मृतका के परिजनों ने कोई कार्यवाही ना करने के लिए लिखकर दे दिया| जिसके बाद शव का पोस्टमार्टम नही कराया गया|

1 से 8 तक सभी विधालय सुबह 7 बजे खुलेंगे

0

फर्रुखाबाद: जनपद में सुबह से ही तेज धूप और लू ने लोगों का घर से निकलना मुहाल कर दिया है| जिसके चलते सुबह विधालय जाने वाले नौनिहालों को भी भीषण गर्मी व लू का सामना करना पड़ रहा था| बीएसए ने गर्मी को देखते हुए विधालयों के समय में बदलाव कर दिया है|
बीते 25 अप्रैल को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी ने अपने प्रतिनिधि मंडल के साथ बीएसए रामसिंह ने भेट कर उनका ध्यान नौनिहालों की तरफ आकर्षित किया था| जिसके बाद बीएसए ने 30 अप्रैल को सभी सरकारी,सहायता प्राप्त,मान्यता प्राप्त विधालयों का समय सुबह 8 से 1 बजे की जगह सुबह 7 बजे से दोपहर 11:30 बजे तक करने का आदेश जारी कर दिया|

भीषण आग लगने से छह माह की मासूम सहित पांच की मौत

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, जिला प्रशासन, सामाजिक

लखनऊ:तकरोही के गीत व‍िहार कालोनी के एक मकान में मंगलवार देर रात आग लग गई। आग लगने से छह माह की मासूम बच्ची सहित घर में मौजूद पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। सभी को लोहिया अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया। मौत का कारण दम घुटना बताया जा रहा है। जिस घर में आग लगी उसमें गैस चूल्हे का गोदाम भी था। जहां रबर की पाइप और गैस लाइटर भी था। रबर के कारण आग तेजी से बढ़ी।
वहीं स्थानीय लोगों के मुताबिक कई बार फोन करने के बावजूद एंबुलेंस, फायर सर्विस और पुलिस को मौके पर पहुंचने में डेढ़ से दो घंटे लग गए। वह बिना उपकरण के आए थे तो स्थानीय लोगों की मदद से चार को करीब दो घंटे की जेद्दोजेहद के बाद निकालकर लोहिया अस्पताल भेजा गया। जबकि एक युवती का शव घर के बाथरूम में छह घंटे बाद बरामद हो सका। 
घटना मंगलवार रात करीब एक बजे की है। तकरोही के गीत व‍िहार कालोनी में टीआर सिंह अपने परिवार के साथ रहते थे। उनके घर के एसी में रात करीब डेढ़ बजे शार्ट सर्किट से आग लग गई। जिस समय घर की दूसरी मंजिल पर आग लगी उस समय टीआर सिंह के बेटे सुमित सिंह (31), सुमित की पत्नी जूली सिंह (28), उनकी छह माह की बेटी बेबी, सुमित सिंह की बहन वंदना (22) और टीआर सिंह का भांजा डब्ल्यू सिंह (48) घर में थे। आग लगने के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस, फायर और एंबुलेंस को फोन किया। फायर सर्विस करीब एक घंटे बाद पहुंची। बिजली की आपूर्ति बंद कराकर आग बुझाने का काम शुरू किया गया।
स्थानीय लोगों की मदद से सुबह चार बजे सुमित सिंह, जूली सिंह, बेबी और डब्ल्यू सिंह को बाहर निकाला गया। उनको तुरंत लोहिया अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया। वहीं घर में पीछे से जेसीबी की मदद से बड़ा छेद करके दमकलकर्मी भीतर घुसे। छह घंटे बाद घर के बाथरूम से वंदना का शव भी बरामद किया गया। 
दम घुटने से हुई मौत 
रात को 12:30 से एक बजे के बीच दो बार क्षेत्र की बिजली गई। इसके बाद शार्ट सर्किट से घर में आग लग गई। बताया जाता है कि जिस समय आग लगी उस समय परिवार बालकनी में था। उनकी मौत जलकर नहीं बल्कि आग के बाद निकले धुएं के कारण दम घुटने की बात डॉक्टरों ने बतायी। 
दो साल पहले आया था परिवार
टीआर सिंह के बेटे सुमित सिंह की शादी दो साल पहले ही हुई थी। पूरा परिवार प्रतापगढ़ में रहता था। लखनऊ में इंदिरानगर में उनकी गैस चूल्हा और उपकरण की दुकान है। जबकि घर के भूतल पर इसका पूरा गोदाम है। सुमित शादी के बाद पूरे परिवार सहित लखनऊ आ गए थे। 
टार्च तक नहीं 
स्थानीय युवक अनुज सिंह ने बताया कि अग्निशमन वालों के पास टार्च जैसे उपकरण नहीं थे। किसी तरह इंतजाम किया तो वह भीतर जाने को तैयार नहीं थे। पुलिस भी मूकदर्शक बनी रही। स्थानीय युवक चादर ओढ़कर भीतर घुसे थे। तब जाकर चार लोगों को दो घंटे बाद ढूंढकर बाहर निकाला जा सका। 
उठाने के लिए करते रहे मोबाइल फोन
टीआर सिंह के घर के सामने रहने वाले मायाराम यादव रात डेढ़ बजे पानी पीने के लिए उठे थे। उन्होंने आग की लपटें उठती हुई देखी। तुरंत बेटे मनीष और पत्नी को जगाया। सुमित को बाहर से बहुत आवाज लगायी। उनका मोबाइल फोन कई बार लगाया। लेकिन फोन नहीं उठा। बाहर से पत्थर घर पर बरसाए गए। तब भी कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी।
इन युवकों ने लगायी जान की बाजी
क्षेत्र के युवक रिषभ सिंह राठौर और अनुज सिंह ने जान की परवाह किए बिना सुमित और उनके परिवार को बचाने का बहुत प्रयास किया। उनके साथ मायाराम यादव और क्षेत्र के अन्य लोग भी प्रयास करते रहे। 
बिजली ने पहुंचायी बाधा
हादसे के बाद क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति बंद कर दी गई। इस कारण लोगों के घरों में लगे सबमर्सिबल पम्प भी नहीं चल सके। ऐसे में फायर सर्विस के आने का वह इंतजार करते रहे। एक गाड़ी आयी ही थी कि कुछ देर में उसका पानी खत्म हो गया।
तारों का मकडज़ाल
जिस कालोनी में आग लगी। वहां के पूरे इलाके में लोहे के खंभे आज भी लगे हुए हैं। वहां एबीसी की जगह उनपर तारों का मकडज़ाल बना हुआ है। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में कुछ लोग बिजली की चोरी भी करते हैं। वह लोग भारी उपकरण इस्तेमाल करते हैं जिससे क्षेत्र के तार ओवरलोड हैं। आए दिन ओवरलोड होने से बिजली कट जाती है। जबकि बारिश के समय घरों में करंट भी उतर आता है।  

 

निर्वाचन कार्यालय के भीतर बुलाये गये तेज बहादुर यादव

0

वाराणसी:पहले निर्दल और बाद में सपा के सिंबल पर नामांकन फार्म दाखिल करने वाले बर्खास्त फौजी तेज बहादुर यादव को जिला निर्वाचन अधिकारी से नोटिस मिलते ही सपा में हड़कंप मच गया है। सोमवार को नामांकन कराने शालिनी यादव के साथ पहुंचे सपा नेता मंगलवार को बर्खास्त फौजी के साथ नामांकन स्थल पर पहुंचे थे। वे तेज बहादुर का नामांकन फार्म को वैध कराने के लिए अधिकारियों से संपर्क करने के साथ मौके पर डटे रहे। फिर भी जिला निर्वाचन अधिकारी ने उन्हें नोटिस जारी कर एक मई को सुबह 11 बजे तक मोहलत देते हुए जवाब मांगा है। जवाब नहीं मिलने पर उनके फार्म को खारिज कर दिया जाएगा।
दोपहर तक चले संशय के बाद बुधवार दोपहर 1.35 बजे तेजबहादुर यादव को निर्वाचन कार्यालय में बुलाया गया। उम्‍मीद है थोड़ी देर में ही संशय पर स्थिति स्‍पष्‍ट हो जाएगी।
निर्वाचन अधिकारी की त्रुटि वायरल
एक ओर जिला निर्वाचन अधिकारी ने त्रुटि पर तेज बहादुर यादव को नोटिस जारी की वहीं दूसरी ओर जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से एक भारी भूल भी नोटिस में कर दी गई। तेजबहादुर को जारी नोटिस में दिनांक 01-05-2109 कर दिया गया। जबकि यह वर्ष 2019 होना चाहिए था। सोशल मीडिया पर यह सूचना वायरल होने के बाद देर रात डीएम ने इस सूचना में सुधार कराया। हालांकि तब तक यह त्रुटि सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी थी। वहीं तेजबहादुर के समर्थकों की ओर से भी यह लापरवाही पर जिला प्रशासन को सोशल मीडिया में कठघरे में खड़ा किया जा रहा है।
बोले तेज बहादुर यादव
निर्वाचन अधिकारी से मिलकर आने के बाद तेजबहादुर ने मीडिया से बातचीत भी की। तेज बहादुर का कहना है कि बीएसएफ की तरफ से चुनाव आयोग को पत्र दिया जा चुका है कि अनुशासन हीनता में उनको बर्खास्‍त किया गया था। इसमें किसी भी प्रकार से चुनाव लड़ने पर रोक नहीं है। वहीं उन्‍होंने आरोप लगाया कि पीएमओ के इशारे पर देर की जा रही है। वहीं तेजबहादुर ने बताया कि रात 12 बजे उनके वकील को जिला निर्वाचन कार्यालय से फोनकर बुलाया गया और बीएसएफ से पत्र मंगाने के लिए कहा गया।
12.40 बजे तक भी नहीं हो सका फैसला
सुबह निर्वाचन कार्यालय में तेज बहादुर यादव अपने अधिवक्‍ता की ओर से जवाब दाखिल करने पहुंचे। जवाब सुनने के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी ने 12.40 बजे तक की मोहलत मांगी। हालांकि समय बीतने के बाद भी फैसना नहीं हो सका है। जिला निर्वाचन अधिकारी का कहना है कि अभी तक चुनाव आयोग से कोई दिशा निर्देश नहीं आया है। निर्वाचन कार्यालय से बाहर आए तेज बहादुर यादव ने बताया कि उन्हें कोई सूचना चुनाव आयोग के फैसले की नहीं मिली है, अभी इंतजार किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर बीजेपी की ओर से जिला निर्वाचन कार्यालय में तेजबहादुर के चुनाव लड़ने पर रोक की मांग करते हुए आपत्ति दाखिल की गई है। वहीं सूत्रों के अनुसार बीएसएफ की तरफ से रक्षा मंत्रालय से तेजबहादुर की बर्खास्तगी की स्थिति पर जिला निर्वाचन अधिकारी पत्र आने का इंतज़ार कर रहे हैं।
बुधवार सुबह से सियासी सरगर्मी
बुधवार की सुबह 11 बजे से पूर्व तेज बहादुर यादव अपने वकील के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी से मिलने पहुंचे हैं। उन्‍होंने क्‍या जवाब दाखिल किया है इसकी जानकारी थोड़ी देर बाद प्रशासन की ओर से जारी की जाएगी। वहीं समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी तेज बहादुर के पर्चे पर सुनवाई के पहले समर्थक डीएम पोर्टिको के बाहर धरने पर बैठ गए हैं। तेज बहादुर का नामांकन रद्द होने की आशंका के बीच धरने पर बैठे समर्थकों ने अनवरत धरने की चेतावनी दी है। वहीं विवाद होने की सूरत के बीच एडीएम सिटी और एसपी सिटी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को मौके पर पहुंचकर मनाया, इसके बाद शांति की स्थिति बनी।
शपथ पत्र से उठे सवाल
जिला निर्वाचन के अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने सपा प्रत्याशी तेज बहादुर यादव से नोटिस के जरिए पूछा है कि भारत सरकार या किसी राज्य के अधीन पद धारण करने के दौरान भ्रष्टाचार के करण या अभक्ति के कारण पदच्युत किया जाता है। ऐसे पदच्युत की तारीख आप ने अपने विवरण में 19 अप्रैल 2017 लिखा है। आप की ओर से दिए गए द्वितीय नामांकन फार्म के शपथपत्र में उल्लेख किया गया है कि गलती से पहले नामांकन फार्म में नहीं की जगह हां लिख दिया गया है। शपथपत्र में बयान दिया गया है कि 19 अप्रैल 2017 को बर्खास्त किया गया है लेकिन भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा पदधारण के दौरान भ्रष्टाचार एवं अभक्ति के कारण पदच्युत नहीं किया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि आप अभक्ति या भ्रष्टाचार के कारण पदच्युत किए जाने,  न किए जाने पर निर्णायक साक्ष्य भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्रमाणपत्र जारी किया जाएगा। आपके द्वारा दोनों नाम निर्देशन पत्र के साथ प्रस्तुत नहीं किया गया है। नोटिस का जवाब मिलने पर ही विचार किया जाएगा।

परशुराम शोभायात्रा में सभी वर्गों का एक जुट होना जरुरी

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी आयोजित होने वाली भगवान परशुराम की शोभायात्रा में सभी वर्गों के एक जुट होकर शामिल होनें की सलाह दी गयी|
नगर के ब्राह्मण धर्मशाला में बुलाई गयी बैठक में 8 मई को आयोजित होने वाली शोभायात्रा पर गहन मंथन हुआ| जिसमे बताया गया कि शोभायात्रा ब्राह्मण समाज सेवा समिति के द्वारा निकाली जायेगी| शोभायात्रा पंडाबाग़ से शुरू होकर चौक,घुमना,होते हुए मित्तू कूंचा स्थित ब्राह्मण समाज धर्मशाला में प्रसाद वितरण के साथ समाप्त होगी| बैठक में आये लोगों से शोभा यात्रा में भीड़ बढ़ाने की जिम्मेदारी दी गयी|
इस दौरान अध्यक्ष अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ,महामंत्री रमेश अवस्थी,गिरीश चन्द्र दुबे,आदित्य दीक्षित,शैलेन्द्र दुबे,सरल दुबे,बॉबी दुबे,बॉबी मिश्रा,सुरेन्द्र पाण्डेय,राघव दत्त मिश्रा,प्रभात मिश्रा,रवि मिश्रा,रितेश शुक्ला,दीपक सारस्वत,विमलेश मिश्रा,गौरव मिश्रा आदि रहे|

सांसद का आरोप- भाजपा समर्थित मतदाता के जमकर काटे गए वोट, उच्च स्तर की जाँच की मांग

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: लगता है कि मतदाता सूची से कटे नामो से मतदान से वंचित रहे मतदाताओ का प्रकरण इस बार ठन्डे बस्ते में नहीं जाने वाला है| फर्रुखाबाद के सांसद मुकेश राजपूत ने प्रेस वार्ता कर मामले में उच्च स्तर की जाँच के साथ दोषी कर्मचारियों और अधिकारियो के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है| उन्होंने दावा किया कि हर विधानसभा में वोट कटे है और लगभग 1 लाख उन मतदाताओ के वोट कटे जो मौजूद थे और मतदान केंद्र से मायूस वापस लौटे| श्री राजपूत ने कहा कि अगर प्रशासन ने स्वयं संज्ञान नहीं लिया तो वे स्वयं मुकदमा लिखाएंगे|

अपने आवास पर मतदातो और मतदान में लगे सरकारी तंत्र को धन्यवाद ज्ञापित करने के उद्देश्य से बुलाई गयी पत्रकार वार्ता में सांसद ने दावा किया कि उनके जीत के अंतर को कम करने का षड्यंत्र सरकारी मशीनरी ने किया है| कई मतदान केन्द्रों पर जीवित व्यक्तिओ के वोट कट गए जबकि मृतक सूची में शामिल रहे| उन्होंने दावा किया कि भाजपा के गढ़ वाले बूथों पर 100 से 300 तक वोट काटे गए है| उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें केवल बूथ लेवल ऑफिसर ही शामील नहीं है बल्कि ऊपर के अफसर भी जिम्मेदार है उनकी भी जाँच की वे मांग करेंगे और चुनाव आयोग में अपनी शिकायत दर्ज कराएँगे|

श्री राजपूत ने कहा कि चुनाव आयोग और जिला प्रशासन के साथ साथ सामाजिक संगठनो और स्कूल के बच्चो तक ने मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए गर्मी के खूब पसीना बहाया मगर फिर भी वोट प्रतिशत घट गया| मतदान प्रतिशत अभियान को बढ़ाने के अभियान में जायज वोटो का काटना अभियान में पलीता लगाने जैसा है| इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में गड़बड़ी की शिकायत टो पहले भी आती थी मगर तब प्राइवेट ठेकेदार के खिलाफ आरोप मड मुकदमा दर्ज कर दिया जाता था मगर अब तो मतदाता सूची के काम में किसी प्राइवेट व्यक्ति का दखल नहीं होता| ऐसे में मताधिकार से वंचित करने के मामले में बूथ लेवल ऑफिसर से लेकर मतदाता रजिस्ट्रीकरण अधिकारी ही जिम्मेदार है| उन्हें चाहिए कि वे इस मामले की अपने स्तर से जाँच करा ले और कार्यवाही करे अन्यथा उनके खिलाफ भी FIR दर्ज करायी जाएगी| श्री राजपूत अपने आवास पर प्रेस को सम्बोधित करते हुए मतदाता सूची के प्रकरण में काफी गुस्से में दिखाई पड़े| उन्होंने भीषण गर्मी में मतदान करने के लिए मतदाताओ और मतदान कराने में लगे सरकारी अफसर और कर्मचारियों के साथ अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओ का आभार भी व्यक्त किया|
पूर्व जिला महामंत्री विमल कटियार,सुरेन्द्र राजपूत, संजीव गुप्ता,धीरेन्द्र वर्मा आदि रहे|

राशिफल:देखें कैसा रहेगा आज आपका दिन

0

Posted on : 01-05-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

डेस्क:आज के दिन का राशिफल, कैसा होगा आपका दिन, किसे मिलेगा प्यार, किसका चलेगा व्यापार, करियर में किसे मिलेगी उड़ान, किसे मिलेगा धन अपार… हर वर्ग के लिए जानिए दैनिक राशिफल
मेष-यात्रा को यथासंभव टालें। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। किसी व्यक्ति से अकारण विवाद हो सकता है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। व्यापार ठीक चलेगा। नौकरी में कार्यभार रहेगा। आय बनी रहेगी।
वृष-शारीरिक कष्ट की आशंका है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यर्थ खर्च होंगे। जीवनसाथी के बारे में चिंता रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। नए काम करने का मन बनेगा। लाभ होगा।
मिथुन-राज्य से लाभ होगा। नई योजना बनेगी। सामाजिक कार्य करने का मन बनेगा। नए कार्य प्रारंभ हो सकते हैं। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। भाइयों का सहयोग मिलेगा। जोखिम न लें।
कर्क-शत्रुओं से सावधान रहें। नए मित्र बनेंगे। सुख के साधनों पर व्यय होगा। धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। कोर्ट व कचहरी के कार्य अनुकूल रहेंगे। धनलाभ सुगम होगा। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। प्रमाद न करें।
सिंह-व्यापार से बड़ा लाभ हो सकता है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में लापरवाही से शारीरिक हानि हो सकती है। विवाद को बढ़ावा न दें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। भावनाओं पर नियंत्रण रखें।
कन्या-कोई बुरी खबर मिल सकती है। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल बनेगी। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। नौकरी में सहकर्मी सहयोग करेंगे। निवेश शुभ रहेगा। जोखिम न लें।
तुला-वाणी पर नियंत्रण रखें। विरोधी सक्रिय रहेंगे। पारिवारिक चिंता बनी रहेगी। भूमि व भवन इत्यादि के कार्य लाभप्रद रहेंगे। रोजगार की समस्या दूर होगी, प्रयास करें। कारोबार में वृद्धि होगी। कुसंगति से बचें। प्रसन्नता बनी रहेगी।
वृश्चिक-किसी तरह का शारीरिक कष्ट हो सकता है। बेचैनी रहेगी। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। विरोध हो सकता है। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी।
धनु-आशंका-कुशंका के चलते कार्यप्रणाली प्रभावित हो सकती है। समय पर काम नहीं होने से क्षोभ उत्पन्न होगा। कोई बुरी सूचना मिल सकती है। पुराना रोग उभर सकता है। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। परिश्रम होगा।
मकर-स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। कार्य के प्रति चिंता रहेगी। सुख के साधनों पर व्यय होगा। थोड़े प्रयास से ही कार्यसिद्धि होगी। कार्यप्रणाली की प्रशंसा होगी। रिश्तेदारों व मित्रों का सहयोग कर पाएंगे। आय में वृद्धि होगी।
कुंभ-दूर से शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। सुख के साधनों पर व्यय होगा। व्यस्तता रहेगी। परिवार के वरिष्ठ जनों को लेकर चिंता रहेगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। पुराने मित्र मिलेंगे।
मीन-जल्दबाजी व विवाद करने से बचें। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। कोई बड़ा कार्य हो सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड से लाभ होगा।