नंदी सेना प्रमुख को महिलाओं ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, वीडियो वायरल

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:  शराब ठेके पर विवाद होने पर नंदी संकल्प सेना प्रमुख को आक्रोशित महिलाओं नें दौड़ाकर पीट दिया|लेंकिन नंदी सेना प्रमुख ने महिलाओं के द्वारा मारपीट करने की बात को गलत बताया|  घटना के बाद पुलिस मौके पर पंहुची जाँच पड़ताल कर रही है|
मिली जानकारी के मुताबिक नंदी संकल्प सेना प्रमुख विक्रांत अवस्थी अपने दो साथियों के साथ शहर कोतवाली क्षेत्र के पराग दूध डेयरी के निकट भोलेपुर निवासी मनोज शुक्ला की बियर की दूकान पर बियर पीने गए थे|
 ठेके पर सेल्समैंन प्रदीप कुमार की जगह उसका भाई मोनू बैठा था| बियर की दुकान से विक्रांत और उनके साथियों ने बियर खरीदी और पीने के लिए गिलास माँगा लेकिन मोनू ने गिलास नही दिया| गिलास ना देनें पर विक्रांत व उसके साथी भडक गये| उन्होंने मोनू के साथ मारपीट कर दी| जिससे मोनू की आँख में गम्भीर रूप से चोट लगी| मोनू ने अपने घर पर फोन किया| सूचना मिलने पर मोनू के परिजन और दर्जनों महिलायें मौके पर आ गयी| उन्होंने विक्रांत को दौड़ाकर पीट दिया| घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर आ गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल की|
विक्रांत अवस्थी ने बताया कि उनके साथ महिलाओं ने मारपीट नही की| ना ही उनके साथ कोई साथी था| वह अकेले ही दुकान पर गये थे जंहा विवाद हो गया|प्रभारी निरीक्षक रवि श्रीवास्तव ने बताया दोनों तरफ से तहरीर मिल गयी है| जाँच के बाद कार्यवाही की जायेगी|

सास से विवाद में महिला ने पुल से लगायी छलांग

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर)महिला का ससुराल में सास से विवाद होनें से रामगंगा के पुल से कूद गयी| जिसके बाद उसे गम्भीर हालत में सीएचसी में भर्ती कराया| पुलिस जाँच कर रही है|
थाना क्षेत्र के कस्बा निवासी 30 वर्षीय महिला नीतू पत्नी पुष्पेन्द्र का ससुराल में सास से विवाद हो गया| मंगलवार को शाम लगभग 4 बजे सास से विवाद होनें पर नीतू इटावा-बरेली हाई-वे पर पंहुची और रामगंगा के पुल से छलांग लगा दी|
घटना की जानकारी मिलने पर थाना पुलिस मौके पर पंहुची और जाँच पड़ताल की| वही थानाध्यक्ष अल्लागंज दरोगा  शिव कुमार त्रिवेदी भी आ गये| घटना स्थल अल्लागंज का होने पर अल्लागंज पुलिस ने महिला को सीएचसी में भर्ती कराया|

दुष्कर्म मामले में आसाराम के बेटे नारायण साईं को उम्र कैद, एक लाख का जुर्माना

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

सूरत:गुजरात के सूरत स्थित आश्रम में दो बहनों से दुष्कर्म के मामले में निचली अदालत ने मंगलवार को आसाराम के बेटे नारायण साईं को उम्रकैद की सजा सुनाई है। साथ ही, एक लाख रुपये का जुर्माना भी किया है। नारायण के चार साथियों को भी सजा सुनाई गई है।मामला 11 साल पुराना है। शुक्रवार को ही अदालत ने नारायण साईं को दोषी करार दिया था। सूरत सत्र अदालत ने आसाराम के बेटे नारायण को 2013 के दुष्कर्म मामले में दोषी करार दिया था। 2013 से ही लाजपोर जेल में बंद 47 वर्षीय नारायण के अलावा दो महिलाओं सहित उसके चार सहयोगियों को विभिन्न अपराधों के लिए दोषी ठहराया गया था। नारायण को आइपीसी की धारा 376 (दुष्कर्म), 377 (अप्राकृतिक अपराध), 323 (हमला), 506-2 (आपराधिक भय) और 120-बी (साजिश) के तहत दोषी करार दिया गया था।
साईं की सहयोगी धर्मिष्ठा उर्फ गंगा, भावना उर्फ जमुना और पवन उर्फ हनुमान को साजिश का हिस्सेदार होने का दोषी पाया गया है। नारायण साईं के ड्राइवर राजकुमार उर्फ रमेश मल्होत्रा को आइपीसी की धारा 212 (अपराध रचने) का दोषी ठहराया गया है। साधिका कही जाने वाली गंगा और जमुना को पीड़िता को गैरकानूनी रूप से बंधक बनाने और साई के कहने पर पिटाई करने का दोषी पाया गया है। दोनों पर पीड़िता को साई के साथ संबंध बनाने के लिए ब्रेनवाश करने का भी आरोप है।
सूरत पुलिस ने 2014 में साई के खिलाफ 1100 पृष्ठों का आरोपपत्र दायर किया था। 2013 में राजस्थान में एक लड़की के साथ दुष्कर्म के आरोप में आसाराम की गिरफ्तारी के बाद सूरत की निवासी दो बहनों ने आसाराम और उसके बेटे पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। बड़ी बहन ने आसाराम पर 1997 से 2006 के बीच यौन हमला करने का आरोप लगाया। उस दौरान वह अहमदाबाद में आसाराम के आश्रम में रहती थी। छोटी बहन ने साईं पर 2002 से 2005 के बीच यौन हमले करने का आरोप लगाया। उस दौरान वह आसाराम के सूरत के जहांगीरपुरा क्षेत्र में स्थित आश्रम में रहती थी।
रिश्वत देने की कोशिश का हुआ था पर्दाफाशसाईं के जेल में रहने के दौरान सूरत पुलिस ने पुलिस अधिकारियों, डॉक्टरों और यहां तक कि न्यायिक अधिकारियों को रिश्वत देने की साजिश का पर्दाफाश करने का दावा किया था। उसने अपने खिलाफ मामला कमजोर करने की साजिश रची थी।
जोधपुर दुष्कर्म मामले में आसाराम को हो चुकी है सजा
आसाराम को जोधपुर की अदालत दुष्कर्म के मामले में दोषी ठहरा चुकी है। सूरत की महिला की ओर से दर्ज कराए गए मामले की सुनवाई गांधीनगर कोर्ट में चली।
तीन गवाह मारे गए
आसाराम और उसके बेटे की गिरफ्तारी के बाद महत्वपूर्ण गवाहों पर हमले शुरू हो गए। करीबी सहयोगी रह चुके तीन गवाहों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी । राजकोट के आयुर्वेदिक डॉक्टर अमृत प्रजापति को उनकी क्लीनिक के बाहर गोली मारी गई। आसाराम का सहयोगी एक रसोइये अखिल गुप्ता की उनके गृह नगर मुजफ्फरनगर में गोली मारकर हत्या की गई। जोधपुर दुष्कर्म मामले के गवाह कृपाल सिंह की उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में गोली मारकर हत्या की गई। नारायण की पत्नी ने भी लगाए थे आरोप
नारायण साईं की पत्नी जानकी ने भी अपने पति और ससुर आसाराम पर प्रताड़ना के आरोप लगाए थे। उन्होंने इंदौर के खजराना पुलिस थाने में 19 सितंबर, 2015 को शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें कहा था कि 22 मई 1997 को उसकी शादी नारायण हरपलानी (नारायण साईं का असली नाम) से हुई थी। इसके बाद नारायण ने उसके सामने ही कई महिलाओं से नाजायज संबंध कायम किए, जिससे उसे मानसिक प्रताड़ना सहना पड़ी। साथ ही, उसे पत्नी मानने से भी इंकार कर दिया था।
नाबालिग से दुष्कर्म के केस में आसाराम को 2013 में इंदौर के आश्रम से गिरफ्तार किया गया था। जानकी ने आरोप लगाया था कि मेरे पति ने हमेशा धर्म के नाम पर ढोंग किया है। नारायण ने अपने आश्रम की एक साधिका से अवैध संबंध बनाए, जब यह साधिका गर्भवती हो गई तो उसने मुझसे कहा कि वह दूसरी शादी करना चाहता है। जानकी ने आरोप लगाया था कि नारायण साईं ने उससे तलाक लिए बगैर ही उस साधिका से राजस्थान में शादी कर ली और उस महिला से नारायण की एक संतान भी है।

युवक का शव आते ही मचा कोहराम

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) बीते लगभग चार दिन पूर्व मार्ग दुर्घटना में जख्मी युवक की तीन दिन बाद उपचार के दौरान मौत हो गयी| उसका शव आते ही कोहराम मच गया|
थाना क्षेत्र के ग्राम कोलासोता हरपालपुर निवासी 25 वर्षीय जयपाल पुत्र जितेन्द्र अपनी दुकान राजपुर से बीते 27 अप्रैल को बाइक से घर आ रहा था| तभी पीछे से किसी अज्ञात वाहन ने उसको जोरदार टक्कर मार दी| जिससे वह गम्भीर रूप से जख्मी हो गया था| परिजन उसे इलाज के लिए दिल्ली ले गये|
दिल्ली में उपचार के दौरान रविवार की रात मौत हो गयी| उसका शव सोमबार देर रात घर आते ही कोहराम मच गया| मृतक की पत्नी संध्या का रो-रो कर बुरा हाल हो गया| जयपाल अपने पीछे 5 वर्षीय पुत्र मयंक,2 वर्षीय पुत्र अनिकेत है| विवाह को अभी 6 वर्ष का समय ही हुआ है| परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी|

 

वोटिंग में सदर विधान सभा फिसड्डी,कायमगंज अब्बल

0

फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)जिला प्रशासन के लाख प्रयास के बाद भी लोकसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत 2014 की तुलना में कम हुआ| इसके साथ ही लोकसभा की पांचो विधानसभाओं में मतदान का प्रतिशत कम रहा|
192 कायमगंज विधान सभा में कुल 389211 मतों में से 234266 लोगों ने मतदान किया| जिससे कायमगंज विधानसभा मतदान करने के मामले में नम्बर बन रही| कायमगंज में कुल 60.19 प्रतिशत मत पड़े|
वही 193 अमृतपुर विधानसभा में कुल 305828 मत है| जिसमे से 181085 लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया| अमृतपुर में 59.21 प्रतिशत वोट पड़े| 194 सदर विधानसभा में कुल 365204 मत है|जिसमे से केबल 201832 लोगों ने मतदान किया| यंहा 55.27 प्रतिशत मतदान हुआ| 195 भोजपुर विधानसभा में 312199 मत है| जिसमे से 185566 लोगों ने मतदान किया| कुल 59.44 प्रतिशत वोट पड़े|
जनपद एटा की 103 अलीगंज विधानसभा में कुल 331484 मतदाता है| जिसमे से 197254 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया| यंहा कुल 59.51 प्रतिशत मतदान हुआ| कुल मिलकर पांचो विधान सभाओं में 1703926 मतों में से 1000003 लोगों ने अपने वोट डाले| मंगलवार को जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी और प्रेक्षक ने सातनपुर गल्ला मंडी में प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर चुनाव में हुए मतदान की समीक्षा की|

कालाबाजारी के लिए जा रहा दो ड्रम तेल पकड़ा

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद(मेरापुर) कालाबाजारी के लिए जा रहा दो ड्रम मिट्टी का तेल डायल 100 पुलिस ने पकड़ कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है|
थाना क्षेत्र के ग्राम संकिसा के कोटेदार दिलीप दीक्षित ने अबैध रूप से दो ड्रम केरोसिन ग्राम बसंतपुर निवासी बलराम यादव को बिक्री कर दिया| खरीदने के बाद बलराम का पुत्र अपने ट्रैक्टर से लेकर जा रहा था| गाँव के पूर्व कोटेदार ने सूचना डायल 100 पुलिस को दी| जिसके बाद पुलिस ने संजय को हिरासत में ले लिया| इसके साथ ही केरोसिन के दोनों ड्रम थाना पुलिस के हबाले कर दिये|थानाध्यक्ष महेंद्र त्रिपाठी ने बताया की घटना की जानकारी सप्लाई इंस्पेक्टर को दे दी गई है जो मामले की जांच पड़ताल कर कानूनी कार्रवाई की जायेगी|

अपडेट:रोडबेज और टैम्पो की टक्कर से चचेरे भाईयों सहित चार की मौत,कई गम्भीर

0

Posted on : 30-04-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:(कायमगंज)मंगलवार तड़के रोडबेज और टैम्पो की भिंडत में चार लोगों की मौत हो गयी|जबकि कई गम्भीर रूप से जख्मी भी हो गये| जिन्हें उपचार हेतु भेजा गया|
थाना कंपिल के ग्राम गंगाटोला निवासी 24 वर्षीय अली मोहम्मद पुत्र बादशाह अपने चचेरे भाई 22 वर्षीय यासीन पुत्र इदरीश के साथ ही मोहल्ले के 34 वर्षीय रामपाल पुत्र रामोतार,शाहरुख़ उर्फ़ भोले पुत्र रामेश्वर,मोबीन पुत्र इदरीश आदि के साथ शमसाबाद बिक्री के लिए खीरा आदि खरीदने के लिए आ रहे थे|
सभी ने मोहल्ले  के ही भोला उर्फ़ उमेश पुत्र रामेश्वर के टैम्पो पर शमसाबाद जाने के लिए बैठ गये|रास्ते में उन्हें थाना कंपिल के लहरा निवासी सर्वेश श्रीवास्तव पुत्र रामचन्द्र मिल गया| उसे भी टैम्पो पर बैठा लिया |कोतवाली कायमगंज क्षेत्र के टेडी कोन के निकट कायमगंज की तरफ जा रही रोडबेज ने सामने से आ रहे टैम्पो में जोरदार टक्कर मार दी|
जिसके बाद टैम्पो पलट गया|टैम्पो में दबकर मौके पर सर्वेश की मौत हो गयी|सर्वेश अपने पुत्र सचिन के विवाह के कार्ड बांटने के लिए गया था|सचिन का 12 मई को विवाह है| घटना के बाद अली मोहम्मद पुत्र बादशाह उसके चचेरे भाई 22 वर्षीय यासीन पुत्र इदरीश के साथ ही मोहल्ले के 34 वर्षीय रामपाल पुत्र रामोतार,शाहरुख़ उर्फ़ भोले पुत्र रामेश्वर,मोबीन पुत्र इदरीश को पुलिस ने सीएचसी में भर्ती कराया| जंहा उपचार के दौरान अली मोहम्मद को मृत घोषित कर दिया गया| जबकि उसके चचेरे भाई यामीन के साथ ही मोबिन को लोहिया अस्पताल भेजा गया| जंहा चिकित्सक नें यामीन को मृत घोषित कर दिया| जबकि मोबिन ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया|
घटना की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक जसबंत सिंह फ़ोर्स के साथ मौके पर पंहुचे और जाँच पड़ताल कर शवों का पंचनामा भराकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया |

राशिफल:देखें कैसा रहेगा आज आपका दिन

0

डेस्क:आज के दिन का राशिफल, कैसा होगा आपका दिन, किसे मिलेगा प्यार, किसका चलेगा व्यापार, करियर में किसे मिलेगी उड़ान, किसे मिलेगा धन अपार… हर वर्ग के लिए जानिए दैनिक राशिफल
मेष-व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कामकाज में वृद्धि के योग हैं। घर-बाहर सभी तरफ प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। निवेश शुभ रहेगा। नौकरी में अधिकारी प्रसन्न रहेंगे।
वृष-कार्यस्थल पर परिवर्तन व सुधार हो सकता है। योजना फलीभूत होगी। मित्रों तथा रिश्तेदारों का सहयोग कर पाएंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। नए कार्य मिलेंगे। पार्टनरों का सहयोग मिलेगा। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे।
मिथुन-सत्संग का लाभ प्राप्त हो सकता है। पूजा-पाठ में मन लगेगा। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति लाभदायक रहेगी। घर-बाहर सभी तरफ सफलता प्राप्त होगी। विरोधी सक्रिय रहेंगे। बाहर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। धन प्राप्ति सुगमता से होगी।|
कर्क-क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि हो सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। नौकरी में कार्यभार रहेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। आय में वृद्धि हो सकती है, प्रयास करते रहें। कारोबार में अधिक ध्यान दें।
सिंह-कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। भेंट व उपहार देना पड़ सकता है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। पारिवारिक चिंता रहेगी। प्रतिद्वंद्विता बढ़ेगी।
कन्या-स्थायी संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। नया कार्य प्रारंभ करने की योजना बनेगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। विरोध होगा। व्यस्तता के चलते थकान रह सकती है। प्रमाद न करें|
तुला-रचनात्मक कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। संगीत इत्यादि में रुचि रहेगी। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। किसी पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। पठन-पाठन व लेखन इत्यादि के कार्य सफल रहेंगे। भावना में बहकर निर्णय न लें।
वृश्चिक-कोई बुरी सूचना मिल सकती है। नकारात्मकता रहेगी। वाणी पर नियंत्रण रखें। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। सावधान रहें। लेन-देन में सावधानी आवश्यक है। दूसरों के बहकावे में न आएं। सोच-समझकर निर्णय लें। व्यापार से लाभ होगा।
धनु-पहले की गई मेहनत का फल प्राप्त होगा। रुके कार्य पूरे होंगे। लाभ में वृद्धि होगी। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। प्रसन्नता बनी रहेगी। असहाय लोगों की मदद करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। सभी तरफ से सफलता मिलेगी। जल्दबाजी न करें।
मकर-आत्मसम्मान बना रहेगा। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। पारिवारिक आवश्यकताओं पर व्यय होगा। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। नौकरी में चैन रहेगा। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। उत्साह बना रहेगा।
कुंभ-नवीन वस्त्राभूषण पर व्यय होगा। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। मान-सम्मान मिलेगा। नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण निर्मित होगा। जल्दबाजी न करें।
मीन-फालतू खर्च अधिक हो सकता है। विवाद को बढ़ावा न दें। दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप न करें। पुराना रोग उभर सकता है। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। नौकरी में कार्यभार रहेगा। जल्दबाजी न करें।

खबर का असर:मतदान की गोपनीयता भंग करने और वोट की अपील करने में सांसद मुकेश राजपूत सहित कई पर केस

0

फर्रुखाबाद:मतदान की गोपनीयता भंग कर ईवीएम की मतदान करते हुए फोटो वायरल करना मंहगा पड गया|पुलिस ने जिला सूचनाधिकारी की तहरीर पर भाजपा सांसद व प्रत्याशी मुकेश राजपूत सहित व सपा नेता के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया|जेएनआई ने प्रमुखता से इस समाचार को प्रकाशित किया जिसके बाद जिला प्रशासन ने कार्यवाही की|
प्रभारी जिला सूचना अधिकारी राजन मिश्रा दर्ज कराये गये मुकदमे में कहा है कि मोहित यादव के मोबाइल नम्बर से यूथ विजन पव्लिक व्हाट्सएप ग्रुप एवं सपा नेता इलियास मंसूरी सहप्रवक्ता जिला समाजवादी पार्टी के ग्रुप पर मतदान करते समय ईबीएम-बीबीपेड की वीडियो बनाकर सोशल मिडिया पर शेयर की|
वही सांसद मुकेश राजपूत ने लोगो के फोन पर काल रिकार्ड कर भेजने और भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील करने में मुकदमा दर्ज किया है| पुलिस धारा 171-एफ व सूचना संसोधन अधिनियम 72 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया|
वही रवि मिश्रा,आजम खान ने प्रसपा प्रत्याशी उदयपाल के पक्ष में व रजत शाक्य व संचालक शुभम स्टूडियो ने भाजपा प्रत्याशी मुकेश राजपूत के पक्ष में ईबीएम की मतदान करते समय का फोटो वायरल किया| जिससे उनके खिलाफ भी पुलिस ने उनके भी खिलाफ मुकदमा शहर कोतवाली में दर्ज कर लिया|

कई वर्षो बाद ख़ामोशी से हुआ मतदान सम्पन्न, पोलिंग पार्टियाँ वापस आना शुरू

0

Posted on : 29-04-2019 | By : पंकज दीक्षित | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: 36 घंटे की थका देने वाली चुनावी ड्यूटी ख़त्म करके मतदान कर्मी अब वापस रवाना होने लगे है| ये सभी अपने अपने सामान और मशीन के साथ सातनपुर मंडी पहुचेंगे और ई वी एम् जमा कराएँगे| जहाँ इन्हें स्ट्रोंग रूम में रख सील कर दिया जायेगा और 23 मई को खोला जायेगा| लगभग एक माह की चिल्ल पो के साथ मतदान शांतिपूर्वक सम्पन्न हो गया|

वैसे 2019 का लोकसभा चुनाव काफी सुर्खियों भरा रहा| न कोई खास गड़बड़ी और न ही कोई बड़ी वारदात| ये तह्सीर है फर्रुखाबादी मिजाज की| ये भी समझने की बात है| यहाँ के नेता और जनता बाकई में बधाई के पात्र है| मगर जब जब किसी बाहरी नेता ने फर्रुखाबाद में घुसपैठ करने की कोशिश की जिले की शांति में खलल जरुर पड़ा|

अगर पिछले तीन लोकसभा चुनावो का ही विश्लेषण कर ले तो 2019 का चुनाव सबसे शांतिपूर्वक लिखा जायेगा| 2009 के चुनाव में हरदोई के नरेश अग्रवाल फर्रुखाबाद से बहुजन समाज पार्टी की टिकेट पर किस्मत आजमाने आये थे| हरदोई के रंग ढंग में चुनाव लड़ना चाहते थे| भाषणों में खुद को अजेय नरेश बताते थे| कटुता भरे भाषणों को फर्रुखाबाद की जनता ने नकार दिया और सलमान खुर्शीद को सांसद बना दिया| ऐसे ही 2014 का चुनाव एटा जनपद के रामेश्वर सिंह यादव के समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ने पर हुआ| रामेश्वर के खिलाफ उन्ही की पार्टी के सचिन ने निर्दलीय चुनावी ताल ठोक दी| खूब मुकदमे लिखे गए| दोनों ओर से खूब तल्खी हुई और फर्रुखाबादी जनता ने अपना फैसला सरल और सौम्य स्वभाव के मुकेश राजपूत  पक्ष में सुना दिया|

वर्ष 2019 के चुनाव में कोई बाहरी प्रत्याशी नहीं था| फर्रुखाबादी जनता को फैसला घर के तीन प्रत्याशी में करना था| मनोज अग्रवाल, सलमान खुर्शीद और मुकेश राजपूत तीनो ही प्रत्याशी स्वभाव से सरल और सौम्य| शिक्षा दीक्षा को लेकर भले ही तीनो में अंतर हो मगर तीनो ही प्रत्याशी कभी दूसरे से बदले की भावना से काम करते नहीं देखे गए| किसी ने कुछ उल्टा सीधा कह भी दिया तो हस कर टाल गए और बात आई-गई कर गए| राजनैतिक सत्ता हथियाने के लिए पार्टी स्तर पर भले ही खूब तीर चले हो मगर जब कभी सामाजिक कार्यक्रम हुआ फर्रुखाबादी नेता एक मेज पर बैठे देखे गए| कुल मिलाकर जिला प्रशासन  लिए भी ये मुक्कदर की बात है कि वे ऐसे जिले में चुनाव करा रहे थे जहाँ बहुत तल्खियाँ नहीं थी| और न ही कोई प्रत्याशी ऐसा था जो अनुचित दबाब बनाता या रोज रोज शिकायतों की पोटली लिए जिला निर्वाचन अधिकारी के चक्कर लगाता| निष्कर्ष ये है कि वर्षो बाद ऐसा शांतिपूर्वक चुनाव फर्रुखाबाद में सम्पन्न हुआ है|

 हे ईश्वर मेरे शहर को बाहरी हवा बयार से बचाए रखना, बहुत नाजुक है यहाँ का माहौल, अपनी छत्र छाया बनाये रखना|