पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष के घर के निकट फायरिंग की सूचना पर हाफी पुलिस

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष के आवास के निकट फायरिंग किये जाने की सूचना मिलने पर पुलिस एक पैर पर दौड़ी| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है| पुलिस फायरिंग की सूचना को सही नही मान रही है|
पुलिस अधीक्षक डॉ० अनिल कुमार मिश्रा को सूचना मिली की नेकपुर निवासी पूर्व कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बाबू राजेन्द्र नाथ कटियार के निकट फायरिंग की गयी| एसपी के निर्देश पर शहर कोतवाल रवि श्रीवास्तव फ़ोर्स के साथ मौके पर पंहुचे और उनके साथ आवास-विकास चौकी इंचार्ज ज्ञानेश्वर सिंह व कर्नलगंज चौकी इंचार्ज हरीओम त्रिपाठी भी आ गये| घटना के पीछे भूमि विवाद बताया जा रहा है|शहर कोतवाल ने फायरिंग होने से इंकार कर कहा कि मामले की जाँच की जा रही है|

चौथे चरण में 29 अप्रैल को फर्रुखाबाद में होगा मतदान

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर जारी हुई चुनाव आयोग की तिथि के बाद राजनैतिक गलियारे में खलबली मची है| जिसके चलते दावेदारों ने क्षेत्र के भ्रमण तेज कर दिया है|
मतदान आगामी 29 अप्रैल को होगा|
लोकसभा के मतदान के लिए चुनाव आयोग ने चौथे चरण में जिले का मतदान कराने का निश्चय किया है| जिसके चलते 29 अप्रैल की तिथि निर्धारित कर दी गयी है| जिले में आलाधिकारी पूरी तेजी के साथ लग गये है| नगर में नगर पालिका के साथ ही सभी थाने की पुलिस को कड़े निर्देश भी दिए गये है कि जिले में लगे राजनैतिक होर्डिंग को हटायें जायें|
जिलाधिकारी मोनिका रानी और एसपी डॉ० अनिल कुमार मिश्रा के निर्देश से होर्डिंग हटाने का कार्य शुरू किया गया| नगर पालिका ने लाल गेट से आवास विकास तक लगे होर्डिंग हटाये गये| राजनैतिक होर्डिंग हटाये गये|

एक दर्जन दरोगा और 13 सिपाही इधर से उधर

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार मिश्रा ने जिले में 12 दरोगा और 13 सिपाहियों की तैनाती में फेर बदल कर दिया है|
कायमगंज की मंडी समिति चौकी इंचार्ज सूर्यभान सिंह को कोतवाली फर्रुखाबाद भेजा गया है| कोतवाली फर्रुखाबाद की महिला दरोगा श्वेता शर्मा को चौकी प्रभारी मंडी समिति कायमगंज का चार्ज दिया गया है| कमालगंज थाने के दरोगा को पुलिस लाइन,थाना शमसाबाद के दरोगा रहीस खान को कोतवाली फतेहगढ़,थाना मेरापुर के दरोगा जय प्रकाश को थाना कमालगंज,पुलिस लाइन के दरोगा उदयवीर सिंह को जहानगंज,कोतवाली कायमगंज के दरोगा रामबाबू को थाना मऊदरवाजा,प्रभारी एंटी रोमियों पूनम जादौन को महिला थाना वरिष्ठ उपनिरीक्षक,पुलिस लाइन से दरोगा प्रदीप त्यागी को पुलिस लाइन से कोतवाली कायमगंज,चौकी इंचार्ज सेंट्रल जेल दिनेश कुमार गौतम को एसपी पीआरओ द्वितीय,पुलिस लाइन के दरोगा अनिल कुमार दुबे को चौकी इंचार्ज सेन्ट्रल जेल,पुलिस कार्यालय में तैनात महिला दरोगा प्रतिभा वाजपेयी को कोतवाली फर्रुखाबाद में तैनाती दी गयी है|
इसके साथ ही एसपी डॉ0 अनिल कुमार मिश्रा ने 13 सिपाहियों की तैनाती में फेर बदल किया है|

23 मई को मिलेगा फर्रुखाबाद का अगला सांसद

0

फर्रुखाबाद: निर्वाचन आयोग के द्वारा आदर्श आचार संहिता लगाये जाते ही पूरे जिले में चुनावी सुरताल अचानक बजने लगे| गली-मोहल्ले में अपने-अपने तरीके से चर्चायें शुरू हो गयी|लोग आने वाली नई सरकार के अपने-अपने तरीके से कायस लगा रहे है| कोई विकास को प्राथमिकता दे रहा है तो कोई जाति और धर्म को| कुल मिलाकर निर्णय अब जनता के हाथ में है| लेकिन चुनाव आयोग की तिथियों के अनुसार जिले को आगामी 23 मई को नया सांसद मिल जायेगा| क्योंकि 23 मई को मतगणना होनी है|
सात चरणों के चुनाव में यूपी में हर चरण शामिल है| सीआईएसएफ व सीसीटीवी के साथ ही साथ गूगल और फेसबुक भी फेंक न्यूज पर अपनी नजर रखेंगे| जिला प्रशासन ने भी तैयारी तेज कर दी है| जिसके चलते अब जिले में सड़क किनारे लगे होर्डिंग व पोस्टरबैनर हटाने का कार्य शुरू होगा| जिले में जगह-जगह दीवारे व बिजली के पोल होर्डिंग व पोस्टर से पटे हुए है|जिला मुख्यालय पर जिला प्रशासन की बैठक हुई| जिसमे आचार संहिता का शतप्रतिशत पालन कराये जाने के कड़े निर्देश जारी किये गये|

सातों चरण में होगा यूपी में मतदान,पहला चरण 11 अप्रैल

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

लखनऊ:लोकसभा चुनाव 2019 की तारीख की घोषणा होने के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। सात चरण में होने वाले चुनाव में पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा। सातवें चरण का मतदान 19 मई को होगा। मतगणना 23 मई को एक साथ होगी।

उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर मतदान पहले से सातवें चरण तक होगा। पहले चरण में 11 अप्रैल को उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर मतदान होगा। उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण में 18 अप्रैल को आठ सीटों पर मतदान होगा। तीसरे चरण में 23 अप्रैल को दस सीटों के मतदाता अपना-अपना वोट डालेंगे। यूपी में चौथे चरण में 29 अप्रैल को 13 लोकसभा सीट पर मतदान होगा। पांचवें चरण में छह मई को 14 सीट के प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में कैद होगा। उत्तर प्रदेश में छठें चरण में 12 मई को मतदान होगा। इस चरण में 14 सीट पर मत पड़ेंगे। सातवें तथा अंतिम चरण में 19 मई को मतदान होगा। इसमें उत्तर प्रदेश की 13 सीट पर मतदाता अपने अधिकार का प्रयोग करेंगे। पहले चरण के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 25 मार्च होगी।
देश में सात चरण में लोकसभा के चुनाव की तारीख आज निर्वाचन आयोग ने की है। इसी के साथ ही आज से आदर्श आचार संहिता लग गई है। पहले चरण में 11 अप्रैल, दूसरे चरण में 18 अप्रैल, तीसरे चरण में तीसरे चरण में 23 अप्रैल, चौथे चरण में 29 अप्रैल, पांचवें चरण में छह मई, छठें चरण में 12 मई और सातवें चरण में 19 मई को मतदान होगा। पहले चरण में 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान होगा।
दूसरे चरण में 13 राज्यों की 97 सीटों पर, तीसरे चरण में 14 राज्यों की 115 सीटों पर, चौथे चरण में 9 राज्यों की 71 सीटों पर, पांचवें चरण में 7 राज्यों की 51 सीटों पर, छठे चरण में 7 राज्यों की 59 सीटों पर तथा सातवें व अंतिम चरण में 8 राज्यों की 29 सीटों पर मतदान होगा।

लोकसभा चुनाव की घोषणा,आचार संहिता लागू

0

दिल्ली:लोकसभा चुनाव की तारिखें की घोषणा के साथ चुनाव आयोग द्वारा आदर्श आचार संहिता लागू कर दी गई है। सत्तारुढ़ दलों के लिए चुनाव आचार संहिता लागू होने का बड़ा मतलब होता है। क्योंकि इसके बाद कोई भी सरकार मतदाताओं को लुभाने वाली घोषणा नहींं कर सकती है। कई बार आम जनता अखबारों या न्यूज चैनलों पर देखती सुनती तो है कि आचार संहिता लग गई है लेकिन आचार संहिता क्या है इसकी जानकारी उन्हें नहीं होती। ऐसे में जेएनआई आसान भाषा में आपको बता रहा है कि आचार संहिता क्या है।
चुनाव आचार संहिता (आदर्श आचार संहिता/आचार संहिता) यानि चुनाव आयोग के वे निर्देश जिनका पालन चुनाव खत्म होने तक हर पार्टी और उसके उम्मीदवार को करना होता है। अगर कोई उम्मीदवार इन नियमों का पालन नहीं करता तो चुनाव आयोग उसके ख़िलाफ़ कार्रवाई कर सकता है, उसे चुनाव लडऩे से रोका जा सकता है, उम्मीदवार के खिलाफ एफआइआर दर्ज हो सकती है और दोषी पाए जाने पर उसे जेल भी जाना पड़ सकता है।राज्यों में चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही वहां चुनाव आचार संहिता भी लागू हो जाती हैं। चुनाव आचार संहिता के लागू होते ही सरकार और प्रशासन पर कई अंकुश लग जाते हैं। सरकारी कर्मचारी चुनाव प्रक्रिया पूरी होने तक निर्वाचन आयोग के कर्मचारी बन जाते हैं। वे आयोग के मातहत रहकर उसके दिशा-निर्देश पर काम करते हैं।
मंत्री नहीं करेंगे कोई घोषणा
केंद्र या प्रदेश सरकार के मंत्री अब न तो कोई घोषणा कर सकेंगे, न शिलान्यास, लोकार्पण या भूमिपूजन। सरकारी खर्च से ऐसा आयोजन नहीं होगा, जिससे किसी भी दल विशेष को लाभ पहुंचता हो। राजनीतिक दलों के आचरण और क्रियाकलापों पर नजर रखने के लिए चुनाव आयोग पर्यवेक्षक नियुक्त करता है।
सामान्‍य नियम
– कोई भी दल ऐसा काम न करे, जिससे जातियों और धार्मिक या भाषाई समुदायों के बीच मतभेद बढ़े या घृणा फैले।

– राजनीतिक दलों की आलोचना कार्यक्रम व नीतियों तक सीमित हो, न ही व्यक्तिगत।
– धार्मिक स्थानों का उपयोग चुनाव प्रचार के मंच के रूप में नहीं किया जाना चाहिए।
– मत पाने के लिए भ्रष्ट आचरण का उपयोग न करें। जैसे-रिश्वत देना, मतदाताओं को परेशान करना आदि।
-किसी की अनुमति के बिना उसकी दीवार, अहाते या भूमि का उपयोग न करें।
– किसी दल की सभा या जुलूस में बाधा न डालें।
– राजनीतिक दल ऐसी कोई भी अपील जारी नहीं करेंगे, जिससे किसी की धार्मिक या जातीय भावनाएं आहत होती हों।

राजनीतिक सभाओं के लिए नियम
– सभा के स्थान व समय की पूर्व सूचना पुलिस अधिकारियों को दी जाए।
– दल या अभ्यर्थी पहले ही सुनिश्चित कर लें कि जो स्थान उन्होंने चुना है, वहॉं निषेधाज्ञा तो लागू नहीं है।
-सभा स्थल में लाउडस्पीकर के उपयोग की अनुमति पहले प्राप्त करें।
– सभा के आयोजक विघ्न डालने वालों से निपटने के लिए पुलिस की सहायता करें।
जुलूस के लिए संबंधी नियम
–  जुलूस का समय, शुरू होने का स्थान, मार्ग और समाप्ति का समय तय कर सूचना पुलिस को देनी होगी।
– जुलूस का इंतजाम ऐसा हो, जिससे यातायात प्रभावित न हो।
– राजनीतिक दलों का एक ही दिन, एक ही रास्ते से जुलूस निकालने का प्रस्ताव हो तो समय को लेकर पहले बात करनी होगी।
– जुलूस सड़क के दायीं ओर से निकाला जाए।

– जुलूस में ऐसी चीजों का प्रयोग न करें, जिनका दुरुपयोग उत्तेजना के क्षणों में हो सके।

मतदान के दिन के लिए नियम

–  अधिकृत कार्यकर्ताओं को बिल्ले या पहचान पत्र दें।

– मतदाताओं को दी जाने वाली पर्ची सादे कागज पर हो और उसमें प्रतीक चिह्न, अभ्यर्थी या दल का नाम न हो।

– मतदान के दिन और इसके 24 घंटे पहले किसी को शराब वितरित न की जाए।

– मतदान केन्द्र के पास लगाए जाने वाले कैम्पों में भीड़ न लगाएं।

– कैम्प साधारण होने चाहिए।

– मतदान के दिन वाहन चलाने पर उसका परमिट प्राप्त करें।

– कार्यकलापों में शिकायत का मौका न दें।

– मंत्री शासकीय दौरों के दौरान चुनाव प्रचार के कार्य न करें।

– इस काम में शासकीय मशीनरी तथा कर्मचारियों का इस्तेमाल न करें।

– सरकारी विमान और गाडिय़ों का प्रयोग दल के हितों को बढ़ावा देने के लिए न हो।

– हेलीपेड पर एकाधिकार न जताएं।

– विश्रामगृह, डाक-बंगले या सरकारी आवासों पर एकाधिकार नहीं हो।

– इन स्थानों का प्रयोग प्रचार कार्यालय के लिए नहीं होगा।

– सरकारी धन पर विज्ञापनों के जरिये उपलब्धियां नहीं गिनवाएंगे।

– मंत्रियों के शासकीय भ्रमण पर उस स्थिति में गार्ड लगाई जाएगी जब वे सर्किट हाउस में ठहरे हों।

– कैबिनेट की बैठक नहीं करेंगे।

– स्थानांतरण तथा पदस्थापना के प्रकरण आयोग का पूर्व अनुमोदन जरूरी।

ये काम नहीं करेंगे कोई भी मंत्री

– शासकीय दौरा (अपवाद को छोड़कर)

– विवेकाधीन निधि से अनुदान या स्वीकृति

– परियोजना या योजना की आधारशिला

– सड़क निर्माण या पीने के पानी की सुविधा उपलब्ध कराने का आश्वासन

अधिकारियों के लिए नियम

– शासकीय सेवक किसी भी अभ्यर्थी के निर्वाचन, मतदाता या गणना एजेंट नहीं बनेंगे।

– मंत्री यदि दौरे के समय निजी आवास पर ठहरते हैं तो अधिकारी बुलाने पर भी वहॉं नहीं जाएंगे।

– चुनाव कार्य से जाने वाले मंत्रियों के साथ नहीं जाएंगे।

– जिनकी ड्यूटी लगाई गई है, उन्हें छोड़कर सभा या अन्य राजनीतिक आयोजन में शामिल नहीं होंगे।

– राजनीतिक दलों को सभा के लिए स्थान देते समय भेदभाव नहीं करेंगे।

लाउडस्पीकर के प्रयोग पर प्रतिबंध

चुनाव की घोषणा हो जाने से परिणामों की घोषणा तक सभाओं और वाहनों में लगने वाले लाउडस्पीकर के उपयोग के लिए दिशा-निर्देश तैयार किए गए हैं। इसके मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में सुबह 6 से रात 11 बजे तक और शहरी क्षेत्र में सुबह 6 से रात 10 बजे तक इनके उपयोग की अनुमति होगी।

पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेन्द्र नाथ कटियार का निधन

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: कई दशक तक कांग्रेस की राजनीति में सक्रिय रहे पूर्व जिलाध्यक्ष ने रविवार को सुबह अंतिम साँस ली| उनके निधन की खबर आते ही उनके शुभचिंतकों में शोक की लहर दौड़ गयी| लगभग पांच दशक तक जनपद में कांग्रेस का झंडा उठाकर चले बाबू राजेन्द्र नाथ कटियार का रविवार को दिल्ली के एक अस्पताल में 90 वर्ष की अवस्था में निधन हो गया| उन्होंने समय-समय पर कांग्रेस को जिले में नई दिशा दी| कई मोर्चों पर पार्टी के लिए सडकों पर उतर पार्टी को गति देनें का काम किया|
श्री कटियार बीते कुछ दिनों से अस्वस्थ्य चल रहे थे| उनका दिल्ली में इलाज चल रहा था| रविवार सुबह लगभग 9 बजे उन्होंने अंतिम साँस ली| उनका शव नेकपुर स्थित आवास पर लाया जायेगा| जंहा कई पार्टियों के नेताओं के जुटने की सम्भावना है|

तलैया मोहल्ला बना ताल,गंगा नगर में गंदे पानी का संगम

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: नगर पालिका की ओर से शहर की सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। काफी समय से नालों की सफाई नहीं हो सकी है, जिससे मुहल्लों में जलभराव हो गया। इससे गंदगी फैल गई। ऐसे में लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
शहर में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। सफाई कर्मी वार्डों से कूड़ा नहीं उठा रहे हैं। ऐसे में शहर के तमाम इलाकों का बुरा हाल है। रविवार को नगर के गंगानगर,तलैया मोहल्ला,नरकसा,कछियाना व मदारबाड़ी में नाला चोख होनें से जलभराव हो गया है| जबकि नाला सफाई में लाखों का वजट आया था| ऐसे में बाजार में गंदगी फैल गई। गलियों में पानी भर गया, जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। सबसे ज्यादा दिक्कत बाजार आने जाने वालों को हुई। कीचड़ होने की वजह से लोगों को गंदगी के बीच ही खरीदारी भी करनी पड़ी। वहीं, शहर के अन्य इलाकों का भी यही हाल है, जिससे साफ है कि पालिका सफाई को लेकर गंभीर नहीं हैं।
गंगानगर निवासी अखिलेश कुमार ने बताया कि उनके घर पर विवाह का कार्यक्रम है|लेकिन जलभराव से खड़े होने तक की जगह नही बची है| जिससे लोगों में आक्रोश है| कई मन्दिर भी जलमग्न है| गंदा नाली का पानी मन्दिरों में प्रवेश कर गया है|

चाचा-भतीजे में चले चाकू,जूतमपैजार

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:पैसे के लेनदेन के चलते चाचा-भतीजे में जमकर मारपीट के साथ जूतमपैजार हो गयी| इस दौरान चाकू भी चल गये| मौके पर भीड़ लग गयी| पुलिस को कानो कान भनक नही लगी|शहर कोतवाली के लाल दरवाजे स्थित रोडबेज अड्डे के बाहर चाचा भतीजे में पहले जमकर कहा-सुनी हुई उसके बाद दोनों में जूतमपैजार हो गयी| चाक़ू लगने से चाचा व भतीजे जख्मी हो गये| जमकर जूतमपैजार हुई| यह नजारा देखकर मौके पर भीड़ लग गयी| पुलिस को भनक नही लगी| जबकि घटना स्थल से चंद कदम की दूरी पर पुलिस की पिकेट लगती है|

विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

0

Posted on : 10-03-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(जहानगंज प्रतिनिधि) विवाहिता ने फांसी लगाकर जान दे दी|परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर हंगामा किया|पुलिस ने मौके पर जाकर जाँच पड़ताल की|
थाना क्षेत्र के ग्राम महरूपुर बिजल निवासी दीपू दिवाकर का विवाह बीते 15 मई 2011 को जनपद हरदोई के हरपालपुर अचानकपुर निवासी रामनिवास की पुत्री 28 वर्षीय सोनी ने के साथ हुआ था| सोनी ने अपनी ससुराल में कमरे के कुंडे में दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली|
घटना के बाद पुलिस को सूचना दी गयी| सीओ के साथ ही साथ दरोगा विश्वनाथ व अश्वनी कुमार आदि ने मौके पर जाकर जाँच पड़ताल की|पुलिस  ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया| मृतका की माँ ललिता व पिता रामनिवास ने हत्या कर शव फांसी पर लटका देनें का आरोप लगाया है|