हाईस्कूल व इंटर के 4914 परीक्षार्थियों ने छोड़ा हिंदी का पेपर

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:योगी सरकार के निर्देश पर जिलाधिकारी मोनिका रानी के सख्त निर्देश के चलते जनपद के सभी 61 परीक्षा केन्द्रों पर हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा से कुल 4914 परीक्षार्थियों ने किनारा कर लिया| अधिकारियों को कई केन्द्रों पर बिजली की समस्या नजर आयी जिसे दुरस्त करने के निर्देश दिये गये है|
मंगलवार को आयोजित हुई परीक्षा में कुल 45719 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी| जिससें हाईस्कूल की परीक्षा पहली पाली में आयोजित की गयी| जिसमे कुल 26177 परीक्षार्थी बैठने थे| जिसमे से 2716 परीक्षार्थियों ने परीक्षा से किनारा कर लिया| जबकि कुल 23461 ने हिंदी ककी परीक्षा दी| इंटर की हिंदी साहित्य में कुल 6575 पंजीकृत थे| जिसमे से 626 ने परीक्षा छोड़ दी| हिंदी सामान्य में कुल 12562 में से 940 ने परीक्षा से तौबा कर ली|
हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा में सुबह की पाली में 1572 व शाम की पाली में 2716 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ी| दोनों पालियों में कुल 4914 ने परीक्षा छोड़ दी| डीआईओएस को निरीक्षण के दौरान कई विधालयों में बिजली की व्यवस्था दुरस्त नही मिली| राजेपुर में दयानन्द इन्टर कालेज अमृतपुर परीक्षा केन्द्र पर अँधेरा रहा| भरखा स्कूल के निकट कई संदिग्ध युवक घूमते मिले|

एआरटीओ की कार्यवाही से खफा ईरिक्शा चालकों ने किया प्रदर्शन

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कायमगंज)बीते एक दिन पूर्व एआरटीओ के द्वारा ईरिक्शा पर की गयी कार्यवाही से आहत चालकों ने मंगलवार को हड़ताल कर प्रदर्शन किया| इसके साथ ही साथ उन्होने प्रशासन के सामने कई मांगे रखी और ज्ञापन सौपा|
एआरटीओ ने कायमगंज क्षेत्र में चलने वाले बिना कागजात बाले ईरिक्शा के चालान कर दिये थे| इसके बाद मंगलवार को ई-रिक्शा चालक बड़ी संख्या में कायमगंज बाई-पास रोड पर एकत्रित हुए| उन्होंने हड़ताल की घोषणा कर दी| इस दौरान राका मंसूरी को अध्यक्ष चुना गया| वही चालकों ने कहा की उनका केबल पालिका में रजिस्ट्रेशन कराया जाए| इसके बाद किसी भी अभिलेख के लिए उन्हें परेशान ना किया जाये| इस दौरान हड़ताल में मौजूद चालकों ने तहसीलदार गजेन्द्र सिंह को ज्ञापन दिया|

सपा के प्रदर्शन के दौरान तोडफ़ोड़, हिरासत में चोटिल सांसद धर्मेंद्र यादव

0

प्रयागराज:समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को आज प्रयागराज में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के वार्षिकोत्सव में आने की अनुमति न मिलने के बाद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता आज उग्र हो गए। सांसद धर्मेंद्र यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं ने बालसन चौराहा पर तोडफ़ोड़ व पथराव किया। पथराव में सीओ के घायल होने के बाद पुलिस के लाठीचार्ज में सांसद धर्मेंद्र यादव भी चोटिल हो गए। उनको निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है।
प्रयागराज में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के बवाल और पथराव में समाजवादी पार्टी के सांसद धर्मेंद्र यादव को मामूली चोट आई है। डिप्टी एसपी इंद्रपाल यादव को गम्भीर चोट आई है। उन्हें राज नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। सपा सांसद धर्मेंद्र यादव को हिरासत में लिया गया है।इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ के वार्षिकोत्सव में आने से अखिलेश यादव को लखनऊ में रोका गया। लेकिन सांसद धर्मेंद्र यादव पहुंचे। छात्रसंघ भवन से बालसन चौराहे तक सांसद धर्मेंद्र यादव के नेतृत्व में समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ताओ ने शांति मार्च निकाला। सांसद धर्मेंद्र यादव ने योगी आदित्यनाथ और नरेंद्र मोदी सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को ना आने देने का मतलब है कि योगी सरकार और मोदी सरकार गठबंधन को लेकर डर गई है। उन्हें आशंका है कि 2019 का चुनाव उनके हाथ से निकल ना जाए। वह यहां बालसन चौराहे पर गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने जा रहे थे। इसी दौरान विश्वविद्यालय मार्ग को दोनों तरफ से रोक दिया गया। बालसन चौराहे पर छात्रों ने चक्काजाम किया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया। सपाइयों ने तोडफ़ोड़ की।
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सीएम अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक दिया गया। उनके प्रयागराज न आने देने की खबर मिलते ही बमरौली एयरपोर्ट के बाहर सपाइयों ने हंगामा किया। इविवि छात्रसंघ भवन पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद धर्मेंद्र यादव पहुंचे। सछास के साथ मार्च निकाला। बालसन चौराहे पर गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण के दौरान रास्ताजाम व तोड़फोड़ हुई। पुलिस ने लाठीचार्ज किया तो पथराव भी हुआ। इस दौरान सांसद धर्मेंद्र, सीओ ट्रैफिक इंद्रपाल यादव समेत कई सपाई और छात्रों समेत कई पुलिसकर्मी भी जख्‍मी हो गए। पुलिस ने सांसद धर्मेंद्र समेत कई दर्जन सपाइयों को गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई। विरोध प्रदर्शन में फूलपुर सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल समेत अन्य सपा के नेता भी मौजूद रहे।
अखिलेश यादव के रोके जाने से आक्रोशित सपाइयों ने इससे पूर्व पीएम मोदी और सीएम योगी के खिलाफ नारेबाजी की थी। लक्ष्मी टॉकीज के निकट गमलों को तोड़ा गया, कुछ और जगह भी विरोध प्रदर्शन किया गया। वहीं एबीवीपी ने पूर्व सीएम अखिलेश यादव का पुतला दहन करने की कोशिश की जिसे पुलिस व प्रशासन ने रोका।
मोदी और योगी सरकार गठबंधन से डर गई है : धर्मेंद्र
छात्रसंघ भवन पर आयोजित कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करते हुए सांसद धर्मेंद्र यादव ने योगी और मोदी सरकार को निशाने पर लिया। कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को न आने देने का मतलब है कि योगी सरकार और मोदी सरकार गठबंधन को लेकर डर गई है। उन्हें आशंका है कि 2019 का चुनाव उनके हाथ से निकल न जाए।
पहुंचे सांसद धर्मेंद्र यादव
तमाम रोक के बावजूद सपा से जुड़े नेता और छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव साथियों के साथ वार्षिकोत्सव की तैयारी में जुटे रहे। हालांकि पूर्व सीएम अखिलेश यादव के न आने से छात्रों और छात्रनेताओं को मायूसी हुई थी। हालांकि छात्रों के बीच सांसद धर्मेंद्र यादव पहुंचे। धर्मेंद्र ने सबसे पहले लाल पद्मधर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद छात्रों ने जुलूस निकालने का निर्णय लिया है। सांसद धर्मेंद्र यादव के छात्रसंघ भवन पर पहुंचने के बाद समाजवादी पार्टी और समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ताओं में गजब का जोश है।
इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय छात्रसंघ के वार्षिक उत्सव में सूबे के पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर रोक के कारण सियासत गरमा गई है। पहले अखिलेश ने जहां ट्वीट करके हर हाल में आने का इरादा साफ कर दिया था। वहीं पुलिस प्रशासन ने साफ कर दिया है कि अखिलेश को विश्वविद्यालय में प्रवेश करने से रोका जाएगा। परिसर में पैरामिलिट्री लगाकर परिसर को छावनी बनाया गया। देर रात तक पुलिस और विवि प्रशासन अखिलेश को रोकने की रणनीति बनाई जाती रही।
अखिलेश ने ट्वीट कर कहा कि बिना किसी लिखित आदेश के एयरपोर्ट पर रोका गया
प्रयागराज में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ शपथ ग्रहण समारोह में जाने की तैयारी में लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर मंगलवार की सुबह पहुंचे अखिलेश यादव को रोक दिया गया। अखिलेश ने ट्वीट किया है कि ‘बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया। पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे। छात्रसंघ कार्यक्रम में जाने से रोकने का एकमात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है।’
इविवि प्रशासन ने अखिलेश के आने पर लगाई थी रोक
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ भवन में आज सुबह दस बजे से वार्षिकोत्सव का कार्यक्रम होना सुनिश्चित हुआ था। इसमें सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सीएम अखिलेश यादव को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया था। इस पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने आपत्ति जताते हुए रोक लगा दी थी। किसी राजनीतिक व्यक्ति को प्रवेश न दिए जाने के लिए विवि प्रशासन ने पुुलिस प्रशासन को पत्र भेजा था। इसके बाद पुलिस प्रशासन ने अखिलेश का प्रवेश रोकने के लिए इंतजाम कर लिए थे। इस बीच विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने अखिलेश के निजी सचिव को पत्र भेजकर कार्यक्रम में उनके प्रवेश की पाबंदी की सूचना दी थी। इसके बाद अखिलेश ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि प्रशासन उन्हें छात्रों से मिलने से नहीं रोक सकता। वह लखनऊ से प्रयागराज के लिए आने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे, लेकिन वहां उन्हें रोक दिया गया।
ट्वीट से विवि प्रशासन व पुलिस सकते में थी
अखिलेश का यह रुख देख इलाहाबाद विवि प्रशासन से लेकर पुलिस प्रशासन तक सकते में आ गए। देर रात तक उन्हें रोके जाने की योजना पर काम चलता रहा। पुलिस ने छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव को नोटिस भी जारी कर दिया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नितिन तिवारी ने स्पष्ट कहा था कि विश्वविद्यालय की आपत्ति के बाद पूर्व सीएम का परिसर में प्रवेश रोकेंगे। जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा था कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन जैसी मदद की अपेक्षा करेगा, वह की जाएगी।
खुफिया एजेंसियां भी परिसर में सक्रिय
एसपी सिटी ने सीओ व थानेदारों के साथ चर्चा के बाद कहा था कि उपद्रवी छात्रों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाए। खुफिया एजेंसियां भी परिसर व हॉस्टलों की गतिविधियों पर नजर रख रही हैं। एजेंसियों ने भी माहौल खराब होने की आशंका जाहिर की है।
छात्रसंघ भवन पर ताला जड़कर किया था हंगामा
अखिलेश यादव के आगमन के विरोध में छात्रसंघ महामंत्री शिवम सिंह व अन्य ने सोमवार को छात्रसंघ भवन गेट पर ताला जड़कर हंगामा किया था। एसपी सिटी ब्रजेश श्रीवास्तव ने वहां पहुंचकर छात्रसंघ भवन के भीतर खड़े वाहनों और कुछ सामान को बाहर निकलवाया और कानून-व्यवस्था को न बिगाडऩे की चेतावनी दी। पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष विनोद चंद्र दुबे ने कहा कि छात्रसंघ के वार्षिकोत्सव में जमाने से विभिन्न विचारधाराओं के राजनयिक आते रहे हैं। अखिलेश यादव को युवाओं के कार्यक्रम में आने से रोकना लोकतांत्रिक परंपराओं की हत्या है, छात्रसंघ के पदाधिकारियों के अधिकारों का हनन है।

आबकारी को जलती मिली कच्ची शराब की भट्टी,एक गिरफ्तार

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:बीते दिनों सहारनपुर व कुशीनगर में लगभग एक सैकड़ा लोगों की जान कच्ची शराब से जाने के बाद शासन हरकत में आ गया| आबकारी ने छापेमारी की तो उसे भट्टी पर कच्ची शराब बनती मिली| पुलिस ने मौके से एक कच्ची शराब के कारोबारी को गिरफ्तार कर लिया|
शासन के निर्देश पर जिला आबकारी टीआर वैश्य के नेतृत्व में शहर कोतवाली के गिहार बस्ती में दबिश दी गयी| आबकारी टीम ने गिहार बस्ती के घर-घर में दबिश दी| जिसमे कई घरों में जमीन में भारी मात्रा में लहन व शराब बरामद हुई| टीम को देखकर आरोपी मौके से फरार हो गये| आबकारी ने एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| पुलिस को मौके पर ही जलती हुई भट्टी मिली|
आबकारी अधिकारी ने जेएनआई को बताया की भारी मात्रा में लहन व कच्ची शराब मिली है| एक आरोपी गिरफ्तार किया गया है| अभियान जारी रहेगा| इस दौरान आबकारी निरीक्षक संजय गुप्ता आदि रहे|

खुशहाल जीवन जीने की तमन्ना लिये रिहा हुए 30 और कैदी

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, JAIL, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:मंगलवार का दिन सेन्ट्रल जेल में सालों से कैद 30 बंदियों के लिए खुशियां लेकर आया। शासन से मिले निर्देशों के बाद मंगलवार को उम्रकैद की सजा काट रहे 30 कैदियों को रिहा किया गया। बाहर निकलकर वह अब नई जिन्दगी का प्रण लेकर जीवन की डगर पर आगे बढ़ गये|
बीते सोमबार को 35 बंदियों को सेन्ट्रल जेल से रिहा किया गया था| जिसके बाद मंगलबार को लगभग दोपहर 30 अन्य बन्दियों को जब बताया गया की उनको आजाद किया जा रहा है| तो ख़ुशी के कारण उनके कदम जेल के मुख्य द्वार तक आने तक कई जगह लडखडा गये| कई की बुजुर्ग हो चली आँखों में जीवन जीने की नई रोशनी आ गयी|
पहले सभी से कागजी कार्यवाही पूरी करायी गयी| जिसके बाद जेल का फाटक खुला और उन्हें बाहर की हबा खाने को मिली| चेहरे पर झुर्रियां लेकिन दिन में नई उम्मीद लिए रिहा बंदी अपने परिजनों के साथ अपने घरों को लौट गये| इस दौरान जनपद हरदोई के 12,जालौन के 1,कासगंज का एक,उन्नाव के सात,फर्रुखाबाद के दो,कानपुर नगर के दो,एटा के तीन व मैनपुरी जनपद का एक बंदी रिहा किया गया|
सेन्ट्रल जेल के अधीक्षक एसएचएम रिजवी ने बताया कि पहले चरण में 35 व दूसरे चरण में मंगलवार को 30 बंदी रिहा किये गये| कुल लगभग 200 बंदियों को रिहा किया जाना है| जैसे-जैसे आदेश आते जायेंगे वैसे वैसे रिहाई होती रहेगी|

अखिलेश को रोंके जाने से खफा सपा नेताओं ने फूंका सीएम का पुतला

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को प्रयागराज में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ शपथ ग्रहण समारोह में जाने की तैयारी में लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर उनको प्रयागराज जाने से रोका गया| जिससे सपा नेताओं में आक्रोश व्याप्त हो गया| सपा नेताओं ने सीएम योगी के खिलाफ नारेबाजी कर पुतला फूंक दिया|
नगर के आवास विकास स्थित सपा के जिला कार्यालय के बाहर सपा नेता जिला महासचिव मंदीप यादव के नेतृत्व में एकत्रित हुए| इसके बाद उन्होंने अमौसी एयरपोर्ट पर सुप्रीमो को रोंके जानें पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की| सपा नेताओं ने सीएम योगी आदित्य नाथ सरकार द्वारा पूर्व सीएम को रोकनें की घटना को तानाशाह रवैया बताया| जिससे कार्यकर्ता आक्रोशित हो गये| उन्होंने पार्टी कार्यालय के बाहर ही सीएम योगी का पुतला फूंक कर नारेबाजी कर दी|
इस दौरान जिला उपाध्यक्ष अनिल श्रीवास्तव,सयुस जिलाध्यक्ष जितेन्द्र यादव,पूर्व ब्लाक प्रमुख सुधीर यादव,राधेश्याम श्रीवास्तव,बंटी यादव,अरविंद यादव,जीतू यादव,नितिन यादव, छोटे सिंह यादव नवाब सिंह यादव,सरजू सिंह, प्रेम सिंह,सुकरमपाल,सोनू कुशवाह,बबलू सभासद सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।

तीन दुकानों के ताले तोड़कर नकदी सामान साफ़

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद)बीती रात चोरों ने तीन दुकानों का ताला तोड़कर हजारों की नकदी व सामान चोरी कर लिया| घटना की सूचना पर पुलिस मौकेपर आ गयी| पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी|
कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला शास्त्री नगर कैथन नगला निवासी हरिओम पुत्र सियाराम,मोनू चतुर्वेदी पुत्र राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी,रामनरेश पुत्र सियाराम की परचून की दुकानें है|बीती रात चोरों ने तीनो दुकानों से नकदी व सामान चोरी कर लिया गया| घटना की जानकारी होने पर सूचना पुलिस को दी गयी| प्रभारी निरीक्षक डीबी तिवारी ने जाँच पड़ताल की| प्रभारी निरीक्षक ने बताया की तहरीर के आधार पर जाँच की जा रही है |

लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने पर बोले अखिलेश,डर गई है यूपी सरकार

0

Posted on : 12-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-CONG.

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर बेहद गंभीर आरोप लगाया है। प्रयागराज में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ शपथ ग्रहण समारोह में जाने की तैयारी में लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर पहुंचे अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है कि उनको प्रयागराज जाने से रोका जा रहा है। मेरी फ्लाइट रोकी गई है।
अखिलेश यादव का आरोप है कि उन्हें जबरन लखनऊ एयरपोर्ट पर रोका गया है और इलाहाबाद यूनिवर्सिटी नहीं जाने दिया जा रहा है। अखिलेश यादव करीब 11 बजे लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे थे। जहां पहुंचने के बाद उन्होंने आरोप लगाया है कि उनकी फ्लाइट को प्रयागराज जाने से रोका गया है। बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया। उन्होंने कहा कि पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे। छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है।
एक छात्र नेता के शपथ ग्रहण कार्यक्रम से सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ हवाई-अड्डे पर रोका जा रहा है! वह अब प्रयागराज के कार्यक्रम में जाने पर अड़े हैं। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ का वार्षिकोत्सव है। यह कार्यक्रम 12 बजे से होना है। उन्होंने कहा कि एक छात्र नेता के कार्यक्रम से सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ के ही हवाई-अड्डे पर रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ बेवजह सरकार मेरे कार्यक्रम में अड़चन डाल रही है।
इससे पहले कल के रोड शो पर अखिलेश यादव ने कहा कि कांग्रेस का रोड शो अच्छी बात है। राजनीतिक दलों को कार्यक्रम करते रहना चाहिए। कांग्रेस का रोड शो और अच्छी बात है। चुनाव करीब है। पांच साल में भाजपा को देख लिया। सपा-बसपा गठबंधन में बहुत से दल शामिल हैं। वह सब मदद करेंगे। रालोद को भी तीन सीट दी गई हैं। वह भी शामिल है और निषाद पार्टी भी।पहले हम उनके साथ मिल कर चुनाव लड़े हैं। आने वाले समय में कुछ लोकसभा में हमारे साथ रहेंगे तो कुछ दल विधानसभा चुनाव में हमारे साथ रहेंगे।