पीटीओ को कार्यालय में घुसकर लात-घूंसों से पीटा, हालत गंभीर

0

JNI NEWS : 12-07-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: कार का चालान कोर्ट में भेजने का दबाब बना रहे लगभग दो दर्जन दबंगों ने एआरटीओ कार्यालय में घुसकर पीटीओ को जमकर लात-घूंसों से पीट दिया| जिससे उनकी हालत गंभीर हो गयी| घटना की सूचना पर भारी पुलिस बल के साथ जिलाधिकारी व एसपी मौके पर आ गये| उन्होंने गंभीर रूप से जख्मी पीटीओ को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया|
दरअसल एक मारुती कार का चालान यात्रीकर अधिकारी (पीटीओ) वीके आनन्द नें दो दिन पूर्व बधार नाले के पास किया था| पीटीओ ने बताया कि उसी कार का चालान कोर्ट में भेजने के लिये दबाब बनाने कुछ लोग आये जिस पर पीटीओ ने उन्हें तय समय पर ही चालान कोर्ट में भेजने की बात कही| जिससे वह हमलावर होगये| उन्होंने उन्हें कार्यालय के भीतर ही जमकर जमीन पर गिराकर लात-घूसों से पीट दिया|
उन्हें पीटने के बाद वह लोग अलग हट गये| और कुछ देर के बाद पुन: पीटीओ को जमकर पीट दिया| जिससे वह लहुलुहान हो गये| घटना को अंजाम देकर आरोपी मौके से खिसक गये| सूचना मिलने पर जिलाधिकारी मोनिका रानी, एसपी डॉ० अनिल कुमार मिश्रा, अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह, अपर जिलाधिकारी विवेक श्रीवास्तव आदि भारी पुलिस बल के साथ मौके पर आ गये| उन्होंने जाँच पड़ताल के बाद गंभीर रूप से जख्मी पीटीओ को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया|
पहले भी कई बार हो चुकी पीटीओ की पिटाई 
इससे पूर्व भी कई बार पीटीओ वीकेआनन्द के साथ मारपीट हो चुकी है| लेकिन कार्यवाही पुलिस के हाथ में जानें के बाद मामला ठंडे बस्ते में चला जाता है| जिससे दबंगों के हौसले बुलंद है|
दो दिन में तीन सरकारी अधिकारीयों और कर्मियों की हो चुकी पिटाई 
बीते दो दिन के भीतर सरकारी तीन अफसरों और कर्मियों की पिटाई हो चुकी है| लेकिन कार्यवाही के नाम पर मामला ठंडे वस्ते में है| बीते दिन विकास खंड शमसाबाद कार्यालय में ग्राम प्रधान सुनील यादव ने ग्राम सचिव आदित्य कुमार सिंह के साथ मारपीट की| बीते दिन ही कचेहरी परिसर में सिपाही अशोक त्रिपाठी की लात-घूंसों से पिटाई की गयी| वही शुक्रवार को पीटीओ की पिटाई होने से पुलिस और जिला प्रशासन की सक्रियता पर सबाल खड़े हो गये|
जिलाधिकारी मोनिका रानी नें जेएनआई को बताया कि जाँच करायी जा रही है| पीटीओ को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है| जिस लोगो के नाम प्रकाश में आया रहे है उन्हें जेल भेजा जायेगा| 

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-