ई-पॉश मशीनों से सर्वर गायब,एक-एक दाने को तरसे ग्रामीण

0

फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)अनाज वितरण में पारदर्शिता लाने के लिए लगाई गई ई-पॉश मशीनों ने गरीबों के साथ ही कोटेदारों की भी मुश्किलें बढ़ा दी हैं। लगातार कई दिन गुजर जाने के बाद भी अनाज वितरण पूरी तरह ठप है। कार्डधारक घंटों इंतजार करते रहे। काफी देर तक व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो वे मायूस होकर लौट गए। वहीं, कुछ दुकानों में कार्डधारकों और कोटेदारों में कहासुनी भी हुई।
सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों में कोटेदारों पर सख्ती के लिए सरकार ने मशीनों के माध्यम से अनाज वितरण शुरू कराया गया। शुरुआती दौर में ही मशीनों में कोई न कोई खामी आने लगी। हर महीने की पांच तारीख को अनाज वितरण के दौरान मशीनों का सर्वर गायब रहता है। इस बार भी पांच नबम्वर से लगातार सर्वर की समस्या है| रविवार को भी यही स्थिति बनी रही। अनाज के लिए दुकान पर पहुंचे कार्डधारक काफी देर तक इंतजार करते रहे।
बुढनामऊ,भाऊपुर, कमालगंज,खानपुर,याकूतगंज,कटरी धर्मपुर,निनौँआ,धन्सुआ,राजेपुर के ग्राम बर्राखेडा गांवों में जेएनआई टीम ने सम्पर्क किया तो अनाज वितरण की हालत काफी गम्भीर दिखी| लोग अनाज के लिए काफी देर तक खड़े वही कोटेदार भी सर्वर न आने की बात कहते रहे। निनौआ की कोटेदार किरन देवी ने बताया की उनके गाँव में 336 राशन कार्ड धारक है| जिसमे से ई-पॉश में सर्वर ना आने से केबल चार को ही राशन उपलब्ध कराया जा सका है|
वही याकूतगंज के कोटेदार राजेन्द्र दुबे ने जेएनआई को बताया की उनके पास 778 कार्ड धारक है| जिसमे से ई-पॉश मशीन में सर्बर ना आने से एक भी कार्ड धारक को राशन वितरण नही किया जा सका है| नगर से सटे ग्राम खानपुर के कोटेदार राकेश राजन ने बताया की उनके पास 880 राशन कार्ड का वितरण है लेकिन अभी चार नबम्वर से अभी तक केबल 450 का ही वितरण किया जा सका है|
विजाधरपुर के कोटेदार पुत्र नीलेंद्र दुबे ने बताया की सर्बर से सिरदर्द पैदा कर दिया है| राशन कार्ड धारक सुबह से ही आकार बैठ जाते है| लेकिन सर्बर ना होने से उन्हें मायूस लौटना पड़ रहा है| उनके पास 1140 राशन कार्ड धारक है अभी केबल 190 राशन कार्ड पर राशन बांटा गया है| आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राजेश तिवारी के पास राजेपुर के बर्राखेडा का कोटा है| उन्होंने बताया क उनके पास कुल 348 राशन कार्ड है लेकिन अभी तक 152 का ही वितरण किया जा सका है| इस सम्बम्ध में वह जिला पूर्ति अधिकारी से मिलेंगे|
बीते तकरीबन 6 दिन से लगातार जब राशन की जगह कार्ड धारकों को मायूसी मिली तो उनके सब्र का बांध टूटा तो उन्होंने कोटेदारों को खूब खरी-खोटी सुनाई। इस दौरान कोटेदार भी असमर्थता जताते रहे। कई कार्डधारकों ने जिला पूर्ति कार्यालय और क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी कार्यालय पहुंचकर शिकायत भी की। यहां पर वही समस्या बताकर अगले दिन आने की बात कहकर लौटा दिया गया।
जिला पूर्ति अधिकारी राजेश कुमार ने जेएनआई को बताया की एनआईसी लखनऊ से सर्बर की समस्या है| सोमबार को इसको दुरस्त करने के प्रयास होंगे| जल्द व्यवस्था दुरस्त की जायेगी| सर्वर की समस्या पूरे प्रदेश में आ रही है|
एसडीएम सदर अमित असेरी ने जेएनआई को बताया की पूर्ति विभाग के द्वारा अभी कोई विकल्प नही आया है| शासन के आदेश का इंतजार है| शासन यदि आदेश करेगा तो ही पूर्व विकल्प से वितरण कराया जायेगा| उन्होंने बताया की याकूतगंज कोटे पर यदि एक भी वितरण नही हुआ है तो उसे जल्द चेक कराया जायेगा

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-