Featured Posts

मंडलीय खेलकूद में फर्रुखाबाद रहा अब्बलमंडलीय खेलकूद में फर्रुखाबाद रहा अब्बल फर्रुखाबाद: 26 वीं मंडलीय बाल क्रींडा प्रतियोगिता एवं शिक्षक समारोह में आखिर जनपद ने अपना जलवा कायम रखा| उसको प्रथम स्थान मिला| जिसके बाद टीम के लोगों ने जमकर जसं मनाया| पुलिस लाइन मैदान में बीते शनिवार से चल रही प्रतियोगिता में सोमबार को अंतिम दिन आये परिमाण में फर्रुखाबाद...

Read more

जरदोजी व्यापारी की खंजर खोपकर हत्या, दो जख्मीजरदोजी व्यापारी की खंजर खोपकर हत्या, दो जख्मी फर्रुखाबाद: पुरानी रंजिश में युवक पर जान लेवा हमला कर रहे हमलावरों से उलझने में जरदोजी व्यापारी को भी खंजर खोपकर मौत के घाट उतार दिया गया| पुलिस में जाँच पड़ताल शुरू कर दी| गम्भीर रूप से जख्मी दो को निजी अस्पताल में भर्ती किया गया| शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला छाबनी निवासी...

Read more

टिकट के नाम पर ठगी में भाजयुमो नेता सहित दो पर केसटिकट के नाम पर ठगी में भाजयुमो नेता सहित दो पर केस फर्रुखाबाद : बीते नगर निकाय चुनाव में वार्ड नंबर 12 से सभासद पद पर भाजपा का टिकट दिलाने के नाम पर भाजयुमो नेता सहित दो पर ठगी करने का आरोप लगा है| एसपी के आदेश पर दोनों के खिलाफ कोतवाल फतेहगढ़ में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जाँच शुरू कर दी| फतेहगढ़ कोतवाली के मोहल्ला बनखड़िया वार्ड...

Read more

वार्डो में सपा ने बीजेपी को दी जोरदार पटखनीवार्डो में सपा ने बीजेपी को दी जोरदार पटखनी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला) निकाय चुनाव में सपा दो व बीजेपी ने तीन सीटे अध्यक्ष पद के लिये जीती हो| लेकिन वार्डो के चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी बीजेपी से दो गुने जीते| समाजवादी पार्टी ने कुल 23 वार्डो में अपने प्रत्याशी लड़ाये थे| जिसमे से उनके 9 प्रत्याशी पार्टी सिम्बल...

Read more

प्रधान पति को चाचा ने गोली मार मौत के घाट उताराप्रधान पति को चाचा ने गोली मार मौत के घाट उतारा फर्रुखाबाद:(राजेपुर)भूमि विवाद के साथ ही साथ चुनावी रंजिश में सगे चाचा ने भतीजे को मौत के घाट उतारा दिया| पुलिस ने मौके पर जाकर जाच पड़ताल| थाना अमृतपुर के ग्राम करनपुर दत्त में सौरभ उर्फ़ अप्पा की पत्नी कीर्ति वर्तमान में ग्राम प्रधान है| उनकी परिवार में भूमि विवाद के साथ...

Read more

राममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमतराममंदिर मामले में अब शिवपाल सीएम के बयान से सहमत फर्रुखाबाद: समाजवादी सरकार में पूर्व कैबिनेट मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव गुरुवार को यूपी के सीमें योगी आदित्य नाथ के राममंदिर पर दिये गये वयान से सहमत दिखे| उन्होंने कहा की यदि समझौता नही तो कोर्ट का आदेश ही विकल्प है| समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष विश्वास गुप्ता...

Read more

हाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिलाहाई-वे पर जाम में फंसा रहा पूर्व मंत्री शिवपाल का काफिला फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) सत्ता की शक्ति से कौन अंजान है और खास कर वो तो बिल्कुल भी नही जो सत्ता का सुख एक लम्बे समय तक ले चुका हो| लेकिन कुर्सी पर ना रहने के बाद नेता को सड़क पर चलना मुश्किल हो जाता है| यही नजारा देखने को मिला जब शिवपाल सिंह का काफिला लगभग 20 मिनट तक जाम की झाम में...

Read more

बसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थनबसपा प्रत्याशी वत्सला को महान दल का समर्थन फर्रूखाबाद: नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिये बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी वत्सला अग्रवाल को महान दल ने अपना समर्थन दे तेजी से चुनाव लड़ाने का ऐलान किया है |जिससे वत्सला के खेमे में मजबूती आ गयी है| महान दल के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने रेलवे रोड स्थित बसपा प्रत्याशी के चुनाव...

Read more

नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत?नही खुला विशाल की मौत का राज, आखिर कैसे हुई मौत? फर्रुखाबाद: बीती रात बाइक चोरी के आरोप में पकड़े गये आरोपी की मौत का राज फ़िलहाल पोस्टमार्टम में भी नही खुल सका| जिससे उसकी मौत की गुत्थी उलझ गयी है| वही पुलिस मामले की जाँच कर रही है| थाना राजेपुर के बमियारी रामपुर निवासी विशाल पाठक पुत्र चन्द्रमोहन पाठक उर्फ़ रामू को बाइक...

Read more

योगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैरयोगी की पुलिस से परेशान महिलाओं ने पकड़े मंत्री के पैर फर्रुखाबाद: बीते दिनों शराब ठेके पर पुलिस व ग्रामीणों के साथ हुई हिंसक झड़प के बाद पुलिस ने कई को आरोपी बनाया था| जिसको पकड़ने के लिये पुलिस लगातार हाथ-पैर मार रही है |जिस पर अब राजनितिक रंग चढ़ गया है| पुलिस के खौफ से खफा महिलाओ ने राज्य मंत्री के पैर पकड़कर न्याय की मांग की है|...

Read more

गरीब बच्चों के अारटीई दाखिले अब ऑनलाइन लॉटरी से

Comments Off on गरीब बच्चों के अारटीई दाखिले अब ऑनलाइन लॉटरी से

Posted on : 07-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, RTE, हमारे स्‍कूल

लखनऊ शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत अगले सत्र से निजी स्कूलों में गरीब और अलाभित समूह के बच्चों के दाखिले की प्रक्रिया को सरकार ऑनलाइन करने का निर्णय कर चुकी है। दाखिले के लिए गरीब बच्चों को निजी स्कूलों का आवंटन जिला सतर पर केंद्रीयकृत लॉटरी के आधार पर किया जाएगा। सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने राज्य सूचना विज्ञान केंद्र को इसके लिए आवश्यक कार्यवाही करने के लिए पत्र भेजा है जिसकी प्रतिलिपि सभी जिलाधिकारियों, बेसिक शिक्षा निदेशक, सभी मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशकों को भेजी गई है।

लॉटरी प्रक्रिया के तहत प्रत्येक अभ्यर्थी को एक रैंडम लॉटरी नंबर आवंटित किया जाएगा। लॉटरी नंबर के आरोही क्रम में प्रत्येक अभ्यर्थी को उसकी वरीयता के आधार पर स्कूल का आवंटन किया जाएगा। स्कूलों को रजिस्टर्ड ई-मेल के जरिये बच्चों की सूची भेजी जाएगी। पोर्टल पर स्कूल अपना नाम व उसमें प्रवेश लेने वाले बच्चों की सूची प्राप्त कर सकता है। लॉटरी के बाद चयनित व निरस्त अभ्यर्थियों के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जाएगी। लॉटरी की तारीख को लॉटरी संचालित करने की पूरी प्रक्रिया जिलाधिकारी द्वारा पोर्टल पर लॉगिन के माध्यम से की जाएगी।

अभिभावकों द्वारा बच्चों के प्रवेश के लिए किये गए आवेदनों में से ऐसे आवेदन पत्र जिनमे पहली अप्रैल को बच्चों की आयु तीन वर्ष से अधिक और छह साल से कम है, ऐसे बच्चों का नामांकन संबंधित स्कूल द्वारा पूर्व प्राथमिक कक्षाओं में किया जाएगा। बशर्ते उस स्कूल में पूर्व प्राथमिक कक्षाएं चल रही हों। ऐसे बच्चे जिनकी आयु पहली अप्रैल को छह साल से अधिक और सात वर्ष से कम है, ऐसे बच्चों का नामांकन कक्षा एक में किया जाएगा। एनआइसी हर स्कूल को एक लॉगिन आइडी और पासवर्ड देगा जिसकी सूचना बीएसए संबंधित सकूल को देंगे। अभ्यर्थी के स्कूल में प्रवेश की प्रक्रिया के समय स्कूल द्वारा पोर्टल पर लॉगिन कर अभ्यर्थी का आवेदन नंबर दर्ज किया जाएगा जिसकी सूचना वन टाइम पासवर्ड या एसएमएस के जरिये रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजी जाएगी। अभ्यर्थी वन टाइम पासवर्ड या एसएमएस को स्कूल में दिखाकर उसके प्रवेश की प्रक्रिया पूरी करेंगे। अभ्यर्थी से जुड़े सभी अभिलेख वेब पोर्टल पर डाउनलोड किया जाएगा। दाखिले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद स्कूलवार प्रवेश की स्थिति पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएगी। यदि किसी कारणवश स्कूल अभ्यर्थी को दाखिला नहीं देता है तो प्रधानाचार्य को उसका स्पष्ट कारण वेबपोर्टल पर सूचित करना होगा।

वेब पोर्टल पर करना होगा आवेदन
निजी स्कूलों में अपने बच्चों के प्रवेश के लिए अभिभावकों को वेब पोर्टल पर उपलब्ध ई-फार्म के माध्यम से आवेदन करना होगा। ई-फार्म में अभिभावक वरीयता क्रम में आसपड़ोस के स्कूलों का विकल्प भरेंगे।

ऑफलाइन आवेदन का विकल्प भी : अभिभावकों को ऑनलाइन आवेदन के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा लेकिन यदि किन्हीं कारणों से वे ऑफलाइन आवेदन करते हैं तो ऐसे आवेदनों को संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से सत्यापित कराकर वेब पोर्टल पर अपलोड कराने की जिम्मेदारी बीएसए की होगी।

[bannergarden id="12"]