Featured Posts

दीये बिक्री हो तभी तो मने अंशिका की दीवालीदीये बिक्री हो तभी तो मने अंशिका की दीवाली फर्रुखाबाद :(दीपक-शुक्ला)अब से ढाई दशक पहले दीपावली के त्योहार पर लोग मिट्टी के दीये से घर को रोशन करते थे लेकिन धीरे-धीरे इनका स्थान अब बिजली की झालरों और रंगबिरंगी मोमबत्तियों ने ले लिया है। जिसके चलते मिट्टी के दीये सगुन बनकर रह गये हैं। लोग पूजा पाठ में ही इनका प्रयोग...

Read more

दिग्गजों के वार्ड में 10 वर्षो से चुनाव हार रही बीजेपीदिग्गजों के वार्ड में 10 वर्षो से चुनाव हार रही बीजेपी फर्रुखाबाद:वर्षो से प्रदेश में बीजेपी की सरकार नही बनी| तो निकाय चुनाव में भी किसी ने कोई दमखम नही दिखाया| लेकिन अब केंद्र से लेकर प्रदेश की कुर्सी का भगवा करण होने के बाद बीजेपी के छोटे-बड़े सुरमा अपना दांव अजमाने में लगे है| जगह-जगह बैठके आयोजित हो रही है| बीजेपी वार्डो का...

Read more

प्रेम प्रसंग के शक में ग्रामीण की गोली मारकर हत्याप्रेम प्रसंग के शक में ग्रामीण की गोली मारकर हत्या फर्रुखाबाद: बीते कई वर्षो से विवाहिता से प्रेम प्रसंग के शक में विवाहिता के परिजनों ने ग्रामीण की गोली मारकर हत्या कर दी गयी| पुलिस ने घटना के बाद शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा दिया| मृतक के भाई ने घटना के सम्बन्ध में तहरीर दी| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के ग्राम...

Read more

1,989 परीक्षार्थीयों ने किया टीईटी परीक्षा से किनारा1,989 परीक्षार्थीयों ने किया टीईटी परीक्षा से किनारा फर्रुखाबाद: रविवार को हुई टीईटी परीक्षा के लिये प्रशासन ने पूरी सख्ती दिखाई| जिससे परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से निकट गयी| लेकिन वही दोनों पालियों में 14 केंद्रों पर 11590 परीक्षार्थी परीक्षा मे से 1,989 परीक्षार्थीयों ने किनारा कर लिया| शिक्षक पात्रता परीक्षा(टीईटी) पहली पाली...

Read more

सोशल मिडिया को चुनावी हथियार बनायेगी बीजेपीसोशल मिडिया को चुनावी हथियार बनायेगी बीजेपी फर्रुखाबाद: आगामी निकाय चुनाव में बीजेपी ने सोशल मिडिया को हथियार बनाने का खका तैयार कर लिया है| इसके लिये बैठक कर दिशा निर्देश भी जारी किये गये है| नगर के सिकत्तरबाग में डॉ० महिपाल सिंह के विधालय में आयोजित आईटी विभाग की बैठक में जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने कहा कि नगर निकाय...

Read more

आजीवन सदस्यता वाले ही कर सकेंगे सपा से दावेदारीआजीवन सदस्यता वाले ही कर सकेंगे सपा से दावेदारी फर्रुखाबाद: नगर पालिका अध्यक्ष की टिकट सामान्य होने के बाद से अब दावेदारों की एक लम्बी लिस्ट हर पार्टी के सामने आ गयी है| कुछ प्रत्यक्ष रूप से तो कुछ पर्दे के पीछे से अपनी राजनितिक शतरंज में गोट फिट करने में लग गये है| फ़िलहाल सपा ने आवेदन लेने भी शुरू कर दिये है| समाजवादी...

Read more

मासूम की मौत पर डॉ० भल्ला के खिलाफ मुकदमामासूम की मौत पर डॉ० भल्ला के खिलाफ मुकदमा फर्रुखाबाद: पैसे ना होने से बच्चे का उपचार ना करने से मासूम की मौत पर जिलाधिकारी मोनिका रानी ने सख्त कार्यवाही कर दी| उन्होंने जाँच के आदेश के साथ ही चिकित्सक भल्ला के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करा दिया| कोतवाली मोहम्मदाबाद क्षेत्र के ग्राम खिमसेपुर निवासी नन्हे लाल के 6 माह...

Read more

दो वर्षो में तीसरी बार बम से घटना को अंजाम देने की साजिशदो वर्षो में तीसरी बार बम से घटना को अंजाम देने की साजिश फर्रुखाबाद: जिले की सुरक्षा एजेंसी किस तरह से कार्य कर रही है| एलआईयू व स्वाट टीम किस पर शिकंजा कर रही है| जब दो वर्षो में तीसरी बार घटना को अंजाम देने की नाकाम शाजिश रची गयी| मजे की बात तो यह है कि पुलिस से लेकर एटीएस तक बम बरामद के मामले में जाँच पड़ताल कर चुकी है| लेकिन अभी तक...

Read more

सेंट लारेंस स्कूल के पीछे मिला संदिग्ध बमसेंट लारेंस स्कूल के पीछे मिला संदिग्ध बम फर्रुखाबाद: शहर में दीपावली के त्योहार को देखते हुये पुलिस जितनी अलर्ट है अपराधी उनसे एक कदम आगे नजर आ रहे है| जिसके चलते एक साजिश के तहत विधालय के पीछे बम मिलने से सनसनी फ़ैल गयी| मौके पर पुलिस ने पंहुचकर जाँच पड़ताल की| शहर कोतवाली क्षेत्र के श्याम नगर में सेंट् लारेन्स स्कूल...

Read more

सूची जारी: दो महिला नगर पंचायत अध्यक्ष बनना तयसूची जारी: दो महिला नगर पंचायत अध्यक्ष बनना तय फर्रुखाबाद: काफी लम्बे इंतजार के बाद आखिर नगर पंचायतो का आरक्षण जारी कर दिया गया| जिसको लेकर कही ख़ुशी तो कही गम का माहौल हो गया है| कई की योजनाओ को पलीता लगा तो कई को नया रास्ता नजर आ गया| वही दो महिला नगर पंचायत अध्यक्ष बनना तय हो गया है| नगर विकास अनुभाग लखनऊ से जारी नगर पंचायतो...

Read more

गरीब बच्चों के अारटीई दाखिले अब ऑनलाइन लॉटरी से

Comments Off on गरीब बच्चों के अारटीई दाखिले अब ऑनलाइन लॉटरी से

Posted on : 07-02-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, RTE, हमारे स्‍कूल

लखनऊ शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत अगले सत्र से निजी स्कूलों में गरीब और अलाभित समूह के बच्चों के दाखिले की प्रक्रिया को सरकार ऑनलाइन करने का निर्णय कर चुकी है। दाखिले के लिए गरीब बच्चों को निजी स्कूलों का आवंटन जिला सतर पर केंद्रीयकृत लॉटरी के आधार पर किया जाएगा। सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने राज्य सूचना विज्ञान केंद्र को इसके लिए आवश्यक कार्यवाही करने के लिए पत्र भेजा है जिसकी प्रतिलिपि सभी जिलाधिकारियों, बेसिक शिक्षा निदेशक, सभी मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशकों को भेजी गई है।

लॉटरी प्रक्रिया के तहत प्रत्येक अभ्यर्थी को एक रैंडम लॉटरी नंबर आवंटित किया जाएगा। लॉटरी नंबर के आरोही क्रम में प्रत्येक अभ्यर्थी को उसकी वरीयता के आधार पर स्कूल का आवंटन किया जाएगा। स्कूलों को रजिस्टर्ड ई-मेल के जरिये बच्चों की सूची भेजी जाएगी। पोर्टल पर स्कूल अपना नाम व उसमें प्रवेश लेने वाले बच्चों की सूची प्राप्त कर सकता है। लॉटरी के बाद चयनित व निरस्त अभ्यर्थियों के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जाएगी। लॉटरी की तारीख को लॉटरी संचालित करने की पूरी प्रक्रिया जिलाधिकारी द्वारा पोर्टल पर लॉगिन के माध्यम से की जाएगी।

अभिभावकों द्वारा बच्चों के प्रवेश के लिए किये गए आवेदनों में से ऐसे आवेदन पत्र जिनमे पहली अप्रैल को बच्चों की आयु तीन वर्ष से अधिक और छह साल से कम है, ऐसे बच्चों का नामांकन संबंधित स्कूल द्वारा पूर्व प्राथमिक कक्षाओं में किया जाएगा। बशर्ते उस स्कूल में पूर्व प्राथमिक कक्षाएं चल रही हों। ऐसे बच्चे जिनकी आयु पहली अप्रैल को छह साल से अधिक और सात वर्ष से कम है, ऐसे बच्चों का नामांकन कक्षा एक में किया जाएगा। एनआइसी हर स्कूल को एक लॉगिन आइडी और पासवर्ड देगा जिसकी सूचना बीएसए संबंधित सकूल को देंगे। अभ्यर्थी के स्कूल में प्रवेश की प्रक्रिया के समय स्कूल द्वारा पोर्टल पर लॉगिन कर अभ्यर्थी का आवेदन नंबर दर्ज किया जाएगा जिसकी सूचना वन टाइम पासवर्ड या एसएमएस के जरिये रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजी जाएगी। अभ्यर्थी वन टाइम पासवर्ड या एसएमएस को स्कूल में दिखाकर उसके प्रवेश की प्रक्रिया पूरी करेंगे। अभ्यर्थी से जुड़े सभी अभिलेख वेब पोर्टल पर डाउनलोड किया जाएगा। दाखिले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद स्कूलवार प्रवेश की स्थिति पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएगी। यदि किसी कारणवश स्कूल अभ्यर्थी को दाखिला नहीं देता है तो प्रधानाचार्य को उसका स्पष्ट कारण वेबपोर्टल पर सूचित करना होगा।

वेब पोर्टल पर करना होगा आवेदन
निजी स्कूलों में अपने बच्चों के प्रवेश के लिए अभिभावकों को वेब पोर्टल पर उपलब्ध ई-फार्म के माध्यम से आवेदन करना होगा। ई-फार्म में अभिभावक वरीयता क्रम में आसपड़ोस के स्कूलों का विकल्प भरेंगे।

ऑफलाइन आवेदन का विकल्प भी : अभिभावकों को ऑनलाइन आवेदन के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा लेकिन यदि किन्हीं कारणों से वे ऑफलाइन आवेदन करते हैं तो ऐसे आवेदनों को संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से सत्यापित कराकर वेब पोर्टल पर अपलोड कराने की जिम्मेदारी बीएसए की होगी।

[bannergarden id="12"]