Featured Posts

राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा दर्जराजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव सहित उनके 26 साथियों पर मुकदमा... फर्रुखाबाद: ब्लाक प्रमुखी में अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रयास में लगे बीजेपी नेता को धमकाने के मामले में पुलिस ने राजेपुर ब्लाक प्रमुख सुबोध यादव व उनके 26 साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नेता को पुलिस सुरक्षा दी गयी है। थाना क्षेत्र के...

Read more

अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत, सगुना ही रहेगी अध्यक्षा!अविश्वास प्रस्ताव- बिना दूल्हे की बारात में दहेज़ पर मसक्कत,... फर्रुखाबाद: जिला पंचायत में अध्यक्षा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव बड़े ही ढोल पीट कर दे दिया गया है| मगर अगर अविश्वास प्रस्ताव आ गया तो अगला अध्यक्ष कौन बनेगा? अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित सीट है और दावेदार केवल पांच| एक वर्तमान में अध्यक्षा है और बाकी के चार के लिए...

Read more

आप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज फैसला, पूरे यूपी में मचा तहलकाआप संडे की छुट्टी मना रहे हैं, वहां योगी ने ले लिया बेहद सनसनीखेज... लखनऊ : उत्तर प्रदेश को अब उत्तम प्रदेश बनने से कोई नहीं रोक सकता, ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसा तो आप खुद कहेंगे इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़ने के बाद. सीएम योगी प्रदेश में कानूनों का सही तरीके से पालन हो इसके लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अब इसी सिलसिले में योगी सरकार...

Read more

बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर पर कार्यवाहीबंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर फोड़ा, प्रभारी डीएम घायल, डाक्टर... फर्रुखाबादः जिला जेल फतेहगढ़ में रविवार सुबह से चल रहे बबाल में आक्रोषित बंदियों ने जेल अधीक्षक का सिर पत्थर मारकर फोड़ दिया। बंदियों की मांग पर जेल के चिकित्सक डा0 नीरज को उनके पद से हटा दिया गया। प्रभारी डीएम सीडीओ एनपी पाण्डेय को भी पत्थर मारकर बंदियों ने घायल कर दिया।...

Read more

ब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथरावब्रेकिंग - जिला जेल में बंदीयों ने की तोड़फोड़ व पथराव फर्रुखाबादः रविवार को सुबह किसी बात को लेकर जिले जेल के बंदी अचानक भड़क गये। जिसके चलते उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही बंदियों ने काफी तोड़फोड़ कर दी। आगजनी का मामला भी सामने आया है। सूचना मिलने पर जेल में अलार्म व शायरन भी बजाया गया। लेकिन फिलहाल कोई असर दिखायी...

Read more

योगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभागयोगी मंत्रिमंडल की पूरी अधिकृत सूची- किसको मिला कौन सा विभाग लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक ने मुख्यमंत्री श्री आदित्य नाथ योगी के प्रस्ताव दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित सभी 22 मंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा 13 राज्यमंत्रियों को विभाग आवंटित करने पर अपना अनुमोदन प्रदान कर दिया है। मुख्यमंत्री ने गृह, आवास...

Read more

रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है...रिश्वत वसूली ऊपर वाले के लिए करनी पड़ती है... भाई साहब फाइल पर साहब का अप्र्रोवल लेना है खर्चा दो| दफ्तर के बाबू ने बड़ी शालीनता से ठेकेदार से रिश्वत की मांग अपने साहब के लिए कर दी| साथ ही ठेकेदार पर एहसान भी लाद दिया, आप तो घर के आदमी है मुझे कुछ नहीं चाहिए| रिश्वत कोई अपने लिए नहीं वसूलता है यहाँ सब ऊपर वाले के लिए रिश्वत...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाशब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं। गुरुवार की शाम परिजनों...

Read more

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिसरेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ...

Read more

हम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र बोलते हैंहम गायत्री मंत्र बोलते हैं, सपा वाले गायत्री प्रजापति मंत्र... जौनपुर. काशी में शनिवार को रोड शो करने के बाद नरेंद्र मोदी ने जौनपुर में रैली की। उन्होंने कहा- "हम सबका साथ-सबका विकास का नारा देते हैं। सपा- कांग्रेस वाले कुछ का साथ-कुछ का विकास की ही बात कहते हैं। मैं आपको गारंटी देता हूं कि बीजेपी सरकार की पहली मीटिंग में किसानों का कर्जा...

Read more

ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश

Comments Off on ब्रेकिंग-आरोपी के घर बंद कमरे में मिली डिस संचालक की लाश

Posted on : 16-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics

फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के पक्कापुल निवासी मुकेश पुत्र ओमप्रकाश के अपहरण का मुकदमा तकरीबन 10 दिन पूर्व परिजनों ने कोतवाली में दर्ज कराया था। गुरुवार की शाम आरोपी के घर के अंदर ही मुकेश की लाश मिलने से पुलिस पर सवालिया निशान लगने लगे हैं।

गुरुवार की शाम परिजनों को सूचना मिली कि मुकदमें में आरोपी दुर्गेश मिश्रा के कटरा नुनहाई स्थित मकान से बदबू आ रही है। सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। भनक लगते ही सीओ सिटी आलोक कुमार सिंह, एस एस आई नरेन्द्र गौतम आदि पुलिस बल के साथ मौके पर आ गये। पुलिस ने अंदर जाकर देखा तो मकान के पीछे बने कमरे में मुकेश का क्षति विक्षत शव पड़ा था। लाश काली पड़ चुकी थी। दरबाजा खुलते ही बदबू से आस पास का इलाका महक गया। मृतक के बदन पर आस्तीन की बनियान व पैन्ट थी। शव एक पुराने बैड़ पर पड़ा मिला। मृतक के परिजनों ने सपा के पूर्व सदर विधायक विजय सिंह के संरक्षण में आरोपियों के रहने का आरोप लगाया। कहा कि 25 फरवरी से मुकेश लापता था। 27 फरवरी को गुमशुदगी दर्ज की गयी। उसके बाद अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया। दुर्गेश मिश्रा सहित तीन आरोपी थे। पुलिस ने पूर्व सपा विधायक विजय सिंह के संरक्षण में होने की बजह से आरोपी के घर दबिश नहीं दी। जिससे आरोपी अपने मंसूबे में कामयाब हो गये। घटना के पीछे लेनदेन का विवाद सामने आ रहा है।

क्षेत्राधिकारी नगर आलोक सिंह ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जायेगा।

रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस

Comments Off on रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति अरेस्ट, 17 दिन से खोज रही थी पुलिस

Posted on : 15-03-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME-Dowry-Rape, Election-2017, Politics- Sapaa, Politics-BJP, राष्ट्रीय

लखनऊ: .रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को लखनऊ पुलिस और एसटीएफ ने यहां बुधवार को अरेस्ट कर लिया है। वह करीब 17 दिन से फरार चल रहे थे। ऐसा कहा जा रहा कि लखनऊ के आलमबाग थाने में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मंगलवार को उनके दोनों बेटों अनुराग प्रजापति और अनि‍ल प्रजापति को पूछताछ के ल‍िए पुलिस ने रासत में ल‍िया था। गायत्री प्रजापति अखिलेश सरकार में मंत्री थे। उन्होंने अमेठी सीट से चुनाव भी लड़ा था। 27 फरवरी तक कैंपेन भी थी। इसके बाद वे फरार हो गए थे। बता दें कि फरवरी में सुप्रीम कोर्ट ने विक्टिम की पिटीशन पर गायत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के ऑर्डर दिए थे। महिला ने क्या आरोप लगाए थे…
– बता दें, गायत्री के खिलाफ एक महिला ने आरोप लगाया था कि प्रजापति और उनके साथियों ने दो साल तक उसका गैंगरेप क‍िया। साथ ही उसकी बेटी का भी सेक्शुअल हैरेसमेंट भी किया।
– महिला ने इसकी श‍िकायत भी की थी, लेकि‍न उस पर कोई कार्रवाई नही हुई।
– इसके बाद पीड़‍िता सुप्रीम कोर्ट पहुंची। कोर्ट ने तुरंत मंत्री के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज करने का ऑर्डर दिया था। साथ ही, यूपी पुल‍िस से 8 हफ्ते में र‍िपोर्ट भी मांगी है।
यूपी पुलिस अरेस्ट नहीं कर पाई
– सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद भी पुलिस करीब एक महीने तक गायत्री प्रजापति को अरेस्ट नहीं कर पाई।
– इस दौरान वे अमेठी सीट से समाजवादी पार्टी के कैंडिडेट थे। वे जगह- जगह कैंपेन करते देखे।
– बाद में जब और सख्ती हुई उसके बाद गायत्री 27 फरवरी के बाद अंडरग्राउंड हो गए।
प्रजापति से 3 साल पहले हुई थी मुलाकात
– महिला ने अपनी शिकायत में कहा था कि गायत्री के एक करीबी ने उसकी मुलाकात करीब 3 साल पहले गायत्री से कराई थी। महिला का आरोप है कि मंत्री ने उसकी चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर बेहोशी की हालत में उसके साथ रेप किया था।
– महिला ने आरोप लगाते हुए कहा था कि गायत्री ने घटना की तस्वीरें भी ली थीं। साथ ही, प्रजापति ने उसको कई बार तस्वीरों के जरिए ब्लैकमेल करते हुए रेप किया था।
गायत्री को अखिलेश ने किया था बर्खास्त
– सितंबर 2016 में सीएम अखिलेश यादव ने पहली बार करप्शन के आरोपों का सामना कर रहे गायत्री प्रजापति और राजकिशोर सिंह को बर्खास्त कर दिया था।
– दरअसल, गायत्री खनन मंत्री थे और उन पर खनन मंत्री रहते हुए अवैध खनन की गतिविधियों में शामिल रहने का आरोप है। गायत्री और खनन विभाग के अफसरों पर सीबीआई का शिकंजा कसने का संकेत मिलते ही सीएम अख‍िलेश ने उन्हें बर्खास्त कर दिया था।
– हालांकि, बाद में मुलायम सिंह यादव के कहने पर गायत्री की पार्टी में वापसी हो गई थी। बता दें कि प्रजापति को मुलायम सिंह यादव का करीबी माना जाता है।
बेटे पर भी रेप का आरोप
– अनुराग और अनिल की गिरफ्तारी के बाद जल्द ही गायत्री तक पहुंचना तय माना जा रहा है। दोनों बेटों के नाम 20 से ज्यादा कंपनियां हैं, जिसमें वे अरबों रुपए के मालिक हैं। दोनों बेटों की पढ़ाई अमेठी में ही हुई है। दोनों ने बीए किया है।
– बड़ा बेटा अनुराग पिता के साथ ही कमीशन एजेंट के तौर पर काम करने लगा। अनुराग पर भी अमेठी की रहने वाली एक लड़की ने 2014 में रेप का आरोप लगाया था। उसके ख‍िलाफ कार्रवाई करने की कई स‍िफारिशें की गईं, लेकिन गायत्री की हनक के चलते पुलिस ने एफआईआर तक नहीं दर्ज की। बताया जाता है ki बाद में परिवार पर दबाव बनाकर लड़की को शांत कराया गया।

अलवेला पंक्षी मुझको पथ की परवाह नहीं………….

Comments Off on अलवेला पंक्षी मुझको पथ की परवाह नहीं………….

Posted on : 12-03-2017 | By : JNI-Desk | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद: एक जमाने में फर्रुखाबाद की राजनीति के करता धरता रहे पूर्व मंत्री स्वर्गीय ब्रह्मदत्त द्विवेदी प्रतिमा पर पहली बार विधायक बनने के बाद पहुंचे मेजर सुनील दत्त द्विवेदी की आंखें नम थीं। कार्यकर्ता उनमें ब्रह्मदत्त द्विवेदी की छवि देख रहे थे। पुष्पांजलि के दौरान ब्रह्मदत्त द्विवेदी द्वारा कही गयीं पंक्तियां याद आ गयीं। उन्होंने कहा था कि फूलों पर चलने वाला हूं, फूलों की चाह नहीं, अलवेला पंक्षी, मुझको पथ की परवाह नहीं।

सदर विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी इस समय जिले के साथ-साथ प्रदेश की राजनीति में चर्चा का विषय बने हुए हैं। वर्षों बाद उन्हें ब्रह्मदत्त द्विवेदी की विरासत के साथ-साथ सत्ता में आने का मौका मिला है। उन्होंने निर्वाचित होने के ठीक बाद पांचाल घाट स्थित पूर्व मंत्री ब्रह्मदत्त द्विवेदी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। कार्यकर्ताओं ने ब्रह्मदत्त के साथ ही साथ मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी के लिए नारे बुलंद किये। उस समय आत्म प्रकाश शुक्ल की कही हुई बात कि आने वाला काल खण्ड गाथा को दोहरायेंगे, ब्रह्मदत्त हम तुम्हें कभी भी भूल नहीं पायेंगे। याद आ गया। वर्षों बाद काल खण्ड की गाथा को मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी के रूप में जनता ने दोहरा दिया। मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी का कहना है कि उनके दरबाजे जनता के लिए हमेशा खुले रहेंगे। जन समस्याओं का निराकरण करना उनकी पहली प्राथमिकता होगी। जिले में बिजली, पानी, सड़क पर विशेष जोर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अब जनता के अच्छे दिन आ गये हैं। इस दौरान धीरेन्द्र वर्मा, दिलीप भारद्धाज राजू पाण्डेय आदि मौजूद रहे।

भर दी झोली वोटरों ने, उम्मीद पर खरे होकर दिखाओ….

1

Posted on : 11-03-2017 | By : पंकज दीक्षित | In : EDITORIALS, Election-2017, FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: 2017 के चुनाव में वोटरों ने भाजपा की झोली उम्मीद से ज्यादा ही भर दी है इस उम्मीद के साथ कि जो कहा है कर के दिखाओ| न भ्रष्टाचार न गुंडाराज के होल्डिंग से शुरू हुआ चुनाव जैसे जैसे परवान चढ़ा नरेंद्र मोदी ने वोटरों की उम्मीदे जगा दी| जनता ने ख्वाव देखा कि भाजपा सरकार आते ही रिश्वतखोरी बंद हो जाएगी| अवैध जमीन कब्जे बन्द हो जायेंगे| गरीब को भी इन्साफ मिल जायेगा| आधी रात को भी माँ बहनो के लिए सड़क परनिर्भय होकर निकलना अब हो जायेगा| कोई सरकारी कर्मचारी और अफसर अब रिश्वत के बिना काम करेगा| सपने तो बहुत से मोदी ने पाल दिए है उन्हें पूरा करने की जिम्मेदारी कौन निभाएगा अब सवाल खड़ा होगा| अगर खरे न उतरे तो फिर वही होगा जो इस बार हुआ है|
फर्रुखाबाद की जनता ने विजय सिंह, नरेंद्र सिंह यादव, जमालुदीन सिद्दीकी के पुत्र अरशद जमाल, मनोज अग्रवाल, उमर खान, सुरभि गंगवार को नकार मेजर सुनील, सुशील शाक्य, नागेन्द्र सिंह और अमर सिंह को सर पर बैठाया है| मगर जिन्हें जिताया है उनके भी रिकॉर्ड में कोई उपलब्धि नहीं है केवल मोदी के कहने पर जिताया है| ये मोदी की लहर का चुनाव था, भ्रष्टाचार और गुंडाराज के खिलाफ चुनाव था| इसमें कोई शक नहीं| उपलब्धि अब इन जीते हुए प्रत्याशियो को बनानी है अपने राजनैतिक भविष्य के लिए वार्ना कितने ही विधायक एक बार चुनाव जीत हाशिये पर जा चुके है| अगर मोदी ने कहा है कि न खाऊंगा और न खाने दूंगा तो जनता ने उन्हें पसंद कर लिए| भरोसा भी कर लिया| क्या यही भरोसा फर्रुखाबाद के चारो जीते हुए भाजपा प्रत्याशी जनता को दिल पायेंगे| ये वो सवाल है जिस पर वोपक्ष की नजर 5 साल रहेगी|

इसमें कोई दो राय नहीं कि यूपी की जनता परिवर्तन चाहती थी| जमीनी हकीकत कुछ और थी और मुख्यमंत्री अखिलेश तक पहुची रिपोर्ट कुछ और| मुख्यमंत्री के साथ फोटो खिंचाने वाले उन्ही फोटो की दम पर पुलिस और प्रशासन पर हनक बनाते और अवैध कब्जे और अवैध खनन में लगे थे| उसी हनक पर विरोधियो पर सरकारी तरीको से अत्याचार कराते रहे| जनता वास्तव में भ्रष्टाचार और गुंडाराज से त्रस्त थी और मोदी ने इसे कैश कर लिया| ये राजनीती है, दाव चलने और बिसात बिछाने में माहिर खिलाड़ी ही इसके विजेता बनते है| जनता तो बस उम्मीद में जीती है| साल दर साल उम्मीद में काटती जाती है| तो उम्मीद कितनी पूरी होती है इसकी बानगी भी कुछ दिनों में दिखने लगेगी| सवाल फिर से खड़े होंगे कि भाजपा की झोली तो भर दी है अब गरीब और मजबूर की बारी है…….

फर्रुखाबाद में 3454 वोटरों ने दबाया नोटा का बटन

Comments Off on फर्रुखाबाद में 3454 वोटरों ने दबाया नोटा का बटन

Posted on : 11-03-2017 | By : पंकज दीक्षित | In : Election-2017, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद: जनपद फर्रुखाबाद की चार विधानसभाओ में कुल 3454 वोटरों ने किसी प्रत्याशी को पसंद नहीं किया| इसमें सबसे बड़ी संख्या कायमगंज विधानसभा के वोटरों की रही यहाँ 1964 वोटरों ने ई वी एम् का नोटा बटन दबा कर अपने गुस्से का इजहार किया| वहीँ अमृतपुर में 1250, फर्रुखाबाद सदर से 300 और भोजपुर विधानसभा में 240 वोटरों ने नोटा बटन दबा कर वोट डाला| ज्ञात हो कि चुनाव आयोग ने वोटिंग मशीन में सुविधा दी है कि अगर आपको चुनाव लड़ रहा कोई प्रत्याशी पसंद नहीं है तो आप नोटा बटन दबा कर अपनी पसंद का इजहार कर सकते है|

[bannergarden id="12"]