Featured Posts

हर वार्ड में सिम्बल पर प्रत्याशी उतारेगी बीजेपीहर वार्ड में सिम्बल पर प्रत्याशी उतारेगी बीजेपी फर्रुखाबाद: नगर निकाय व नगर पंचायत चुनाव को लेकर बीजेपी अपनी कमर कस चुकी है| जिसके चलते मंगलवार को सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के कैम्प कार्यालय आवास विकास में एक बैठक का आयोजन किया गया| जिसमे कहा गया कि बीजेपी नगर निकाय चुनाव प्रत्येक वार्ड में अपने सिम्बल पर लड़ायेगी| बैठक...

Read more

अदरक वाली चाय पीते हैं तो संभल जाएं, हो सकता है कि आप जहर पी रहे हों...अदरक वाली चाय पीते हैं तो संभल जाएं, हो सकता है कि आप जहर पी... नई दिल्ली: अगर आप अदरक की चाय पीने के शौकीन हैं या अदरक सब्ज़ी में डालकर खाना पसंद करते हैं तो सावधान हो जाइये, हो सकता है कि आप ज़हर खा रहें हों. देश की सबसे बड़ी आजादपुर मंडी के आसपास 6 अदरक गोदामों पर छापे मारकर दिल्ली प्रशासन ने करीब 450 लीटर तेज़ाब पकड़ा है. इससे अदरक को धोकर चमकाने...

Read more

बड़े भू-माफियाओ पर होगी बड़ी कार्यवाही: डीएमबड़े भू-माफियाओ पर होगी बड़ी कार्यवाही: डीएम फर्रुखाबाद: कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित ग्रामवार अबैध कब्जो की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने सख्त निर्देश दिये कि जल्द से जल्द भू-माफियाओ की सूची सम्बन्धित एसडीएम को दे दे| ताकि कार्यवाही अमल में लायी जा सके| जिलाधिकारी ने लेखपालो और कानून-गो के साथ समीक्षा...

Read more

पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों के खिलाफ कांग्रेसपेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों के खिलाफ कांग्रेस फर्रुखाबाद: देश में लगातार बढ़ रहे डीजल-पेट्रोल के दामो के खिलाफ कांग्रेस खड़ी हुई| कांग्रेस नेताओ ने बीजेपी सरकार पर हमला भी बोला| उन्होंने कहा कि प्रदेश में हो रहे पेट्रोल व डीजल के दामो की वृद्दि से प्रदेश का किसान व नौजवान आहत है| कांग्रेस जिलाध्यक्ष मृत्युंजय शर्मा के...

Read more

शव रखकर हाई-वे जाम करने में 39 पर मुकदमाशव रखकर हाई-वे जाम करने में 39 पर मुकदमा फर्रुखाबाद: बीते दिन टावर गार्ड के शव को रखकर हाई-वे जाम करने के मामले में पुलिस ने कार्यवाही की है| पुलिस ने 39 को चिन्हित कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है| इसके साथ ही साथ पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गयी है| जनपद हरदोई हरपालपुर कनंथूखेड़ा निवासी गौरव बीते कई वर्षो से...

Read more

टावर गार्ड की हत्या का आरोप लगा हाई-वे जाम, एसडीएम व पुलिस से नोकझोंकटावर गार्ड की हत्या का आरोप लगा हाई-वे जाम, एसडीएम व पुलिस से... फर्रुखाबाद: बीती दिन 37 वर्षीय गौरव कुमार पुत्र गिरीशचन्द्र की करंट लगने से मौत हो गयी थी| परिजनों ने बीती रात में ही हत्या का आरोप लगा थाने में तहरीर दे दी थी| लेकिन पुलिस के द्वारा मुकदमा दर्ज ना करने से आक्रोशित परिजनों ने पोस्टमार्टम के बाद पांचाल घाट पर हाई-वे जाम कर दिया|...

Read more

बरेली में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन के अपहरण की कोशिशबरेली में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन के अपहरण... बरेली: दिनदहाड़े कैबिनेट मिनिस्टर मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी को कार सवार बदमाशों ने उठाने का प्रयास किया है। घटना शहर के सबसे व्यस्तम चौकी चौराहे पर हुई है। फरहत नकवी तीन तलाक और पीड़ित महिलाओं की लड़ाई लड़ रही है। थाना किला क्षेत्र के मोहल्ला गढ़ेया की निवासी...

Read more

ट्रक ने छात्र को कुचला,हाई-वे जामट्रक ने छात्र को कुचला,हाई-वे जाम फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) मकान बनाने के लिये ड्रम में पानी लेने जा रहे छात्र को इटावा-बरेली हाई-वे पर ट्रक ने कुचल दिया| जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी| जबकि उसका बड़ा भाई जख्मी हो गया| आक्रोशित परिजनों ने दो बार हाई-वे जाम कर दिया| बाद में अफसरों ने पंहुचकर समझाकर जाम खुलाया| कोतवाली...

Read more

वरिष्ठ छायाकार रविन्द्र लखनऊ में हुये सम्मानितवरिष्ठ छायाकार रविन्द्र लखनऊ में हुये सम्मानित फर्रूखाबाद: 15 वें राष्ट्रीय पुस्तक मेला लखनऊ मे मेला आयोजन समिति व कविता लोक लखनऊ ने हिन्दी पत्रकारिता की दीर्घकालिक सेवा के लिए छायाकार रविंद्र भदौरिया को ‘‘हिंदी सेवा सम्मान‘‘ से विभूषित किया। डॉ० ऊषा सिन्हा, डॉ०अजय प्रसून तथा विशेष रूप से मेला आयोजन समिति की ओर से...

Read more

सैकड़ो समर्थको के साथ महेन्द्र थामेंगे साइकिल, बसपा का किया श्राद्धसैकड़ो समर्थको के साथ महेन्द्र थामेंगे साइकिल, बसपा का किया... फर्रुखाबाद: बीते 1993 से बसपा की सदस्यता लेकर पार्टी के लिये काम कर रहे महेंद्र कटियार ने शुक्रवार को सपा का दामन थाम लिया है| वह आगामी 21 सितम्बर को यूपी के पूर्व सीएम व सपा सुप्रीमो के सामने बसपा के पूर्व मंत्री इंद्रजीत सरोज के साथ सपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे| महेन्द्र के...

Read more

बाइक सबार दम्पत्ति से नकदी व जेबरात लूटे

0

Posted on : 19-09-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(कंपिल) थाना क्षेत्र के बराखेडा नगर के निकट बाइक सबार दम्पत्ति से नकदी व जेबरात बदमाशो ने लूट लिये| घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुची और जाँच पड़ताल की|

जनपद कासगंज के पटियाली नवादा निवासी प्रदीप यादव पुत्र जादव सिंह अपनी पत्नी अरुणा के साथ बाइक से ससुराल कंपिल थाना क्षेत्र के ग्राम हकीकतपुर आ रहा था| जब वह बराखेड़ा नगर के निकट महमूदपुर पट्टी सपा के पास दो अज्ञात बाइक सबार बदमाशो ने उन्हें तमंचा दिखाकर रोंक लिया|उन्होंने प्रदीप के पास रखे 5000 हजार रुपये व उसकी पत्नी अरुणा का पर्स,1 हार, 1 जोड़ी पायल, 3 अंगूठी, 1 चैन, 5000 हजार रुपए लूट लिये| बदमाशो ने प्रदीप के साथ भी जमकर मारपीट कर दी|

घटना की सूचना पर पंहुची पुलिस ने जाँच पड़ताल की| थानाध्यक्ष का कहना है कि तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी|

नवरात्र वर्षों बाद इस बार हस्त नक्षत्र में, श्रेष्ठ समय

0

Posted on : 19-09-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

लखनऊ: पितृपक्ष के बाद शारदीय नवरात्र इस बार 21 सितंबर से शुरु होगी। इस बार नवरात्र हस्त नक्षत्र में शुरु होंगे। इस बार कई वर्ष के बाद नवरात्र हस्त नक्षत्र में शुरू होंगे। इसे श्रेष्ठ बताया जा रहा है। उस दिन सुबह 6.29 से 7.47 तक घट स्थापना का श्रेष्ठ मुहूर्त रहेगा। पंडित ताराचन्द शास्त्री के अनुसार सुबह 6.29 से 7.47 तक घट स्थापना का श्रेष्ठ मुहूर्त है। इसके बाद चौघडिय़ों के अनुसार सुबह 11.01 बजे से दोपहर 3.32 बजे तक चर लाभ अमृत चौघडिय़ा में घट स्थापना होगी।

इस बार नवरात्र में घटम बढ़त नहीं होने के चलते इन्हे श्रेष्ठ माना जा रहा है। दुर्गाष्टमी 28 व रामनवमी 29 सितम्बर को मनाई जाएगी। 30 सितम्बर को विजय दशमी का पर्व मनाया जाएगा। शास्त्रों के अनुसार 27 नक्षत्र हैं और अभिजीत को जोडऩे पर 28 हो जाते हैं। इस दिन हस्त नक्षत्र के साथ सूर्य व चन्द्रमा भी कन्या राशि में विद्यमान रहेंगे। अष्टमी, नवमी व दशमी को कन्या पूजन करना श्रेष्ठ है। अष्टमी के दिन मां गौरी की पूजा होगी। जो लोग पूरे नवरात्र व्रत नहीं कर सकते हैं वे अष्टमी व नवमी को व्रत कर इसका फल प्राप्त कर सकते हैं। इसमें भी अष्टमी के दिन व्रत करना श्रेष्ठ माना गया है।

शारदीय नवरात्र इस बार 21 सितंबर गुरुवार से शुरू हो रहे हैं। प्रतिपदा तिथि में सुबह सात बजकर अठतीस मिनट पर घटस्थापना का शुभ मुहूर्त है। अश्विन शुक्ल प्रतिपदा से नवमी पर्यन्त नवरात्रि व्रत व दुर्गा पूजन किया जाता है। देहरादून में कई स्थानों पर दुर्गा पूजाएं और जागरण के कार्यक्रम होने हैं। मंदिरों में एक बार फिर से उत्सव का माहौल रहेगा। नवरात्रियों तक व्रत करने से नवरात्र व्रत पूर्ण होता है। शारदीय नवरात्र शक्ति उपासना का समय है। देवी व्रतों में कुमारी पूजन (कन्याओं का पूजन) जरूरी बताया गया है। 2 से 10 साल तक की कन्याओं को देवी मानकर उनको भोजनादि से तृप्त किया जाता है। विद्वानों के अनुसार इन दिनों भू शयन, ब्रह्मचर्य पालन, क्षमा, दया, उदारता पूर्वक रहने, क्रोध, लोभ, मोह का त्याग कर नवमी व्रत का पारण करें तो इससे देवी प्रसन्न होती है।
घट स्थापना का शुभ मुहूर्त
ज्योतिषाचार्य के अनुसार 21 सितंबर को सुबह 10:25 बजे तक प्रतिपदा तिथि रहेगी। रात 11:23 बजे तक हस्त नश्रत्र रहेगा। हस्त नश्रत्र और अभिजित मुहूर्त, द्विस्वभाव लग्न में कलश स्थापना शुभ मानी जाती है। अभिजित मुहूर्त सुबह 11:46 से 12:34 बजे तक रहेगा। सुबह 7:38 से 8:10 बजे तक कन्या लग्न और 12:50 से 1:42 बजे दोपहर तक धनु लग्न में कलश स्थापना (जौ बोना) अधिक शुभ रहेगा। ये समय सभी तरह से दोष मुक्त है। इसके बाद 3:16 बजे तक राहुकाल रहेगा।

दो दुकानों में नकब लगा हजारो की नकदी-सामान साफ

0

Posted on : 19-09-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के बेबर रोड शारदा कोल्ड के निकट पशु आहार एजेंसी सहित दो दुकानों में लाखो की चोरी कर ली गयी| पुलिस ने मौके पर जाकर जाँच पड़ताल की| चोर गोदाम की चाबी अपने साथ ले गये| जिससे गोदाम से भी सामान चोरी होने का शक है|
थाना मऊदरवाजा के तिकोना निवासी उमाशंकर गुप्ता की बेबर रोड पर पशु आहार व साबुन की एजेंसी है| उसके साथ उनका पार्टनर दिनेश यादव भी दुकान पर बैठता है| बीती रात दिनेश यादव ने दुकान बंद की| सुबह दिनेश के भाई राजवीर ने दुकान खोली तो पता चला की पीछे से नकब लग गया है| वही पड़ोस की परचून की दुकान में भी नकब लगाया गया है | राजवीर ने सूचना दिनेश को दी| जिसके बाद सभी लोग मौके पर गये| इसके बाद घटना की जानकारी डायल 100 को दी गयी| कुछ देर में ही डायल 100 मौके पर आयी और जाँच पड़ताल की| वही दिनेश गुप्ता ने कोतवाल अनूप निगम को भी फोन से घटना की सूचना दी|

उमाशंकर गुप्ता ने बताया कि 5 साबुन के गत्ते, 10 बोरी निरमा व 8 हजार रूपये चोरी कर लिये गये| वही नगला कलार निवासी सुरेन्द्र सिंह राजपूत भी पशु आहार एजेंसी के पास ही परचून की दुकान है| इनकी दुकान में भी नकब लगा| चोरो ने परचून के सामान के साथ ही साथ 12 हजार नकद ले गये| साथ ही साथ लोहे का सामान भी चोरी किया गया| पुलिस ने मौके पर जाकर जाँच पड़ताल की|

मकान के विवाद में युवक के गोली मारी

0

Posted on : 19-09-2017 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद: कोतवाली फतेहगढ़ के मोहल्ला भूसामंडी निवासी मदन सिंह पुत्र गुरुदयाल को मकान की रंजिश में गोली मारकर घायल कर दिया गया| पुलिस ने घायल को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया और आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया|

घायल मदन के भाई किशनपाल ने पुलिस को दी तहरीर में कहा की बीती रात लगभग 12 बजे उसके दरवाजे की कुंडी किसी ने बजायी तो मदन देखने गया| जब मदन ने दरवाजा खोला तो सामने देवेश पुत्र सर्वेश निवासी नरैनामऊ कायमगंज, मुन्नालाल पुत्र सियाराम मिवासी भूसा मंडी फतेहगढ़, राजन पुत्र अनिल कुमार मिवासी बजरिया हरिलाल व एक व्यक्ति अज्ञात ने गाली-गलौज शुरू कर दिया| जब मना किया तो देवेश ने 12 बोर के तमंचे से फायरिंग कर दी| जिससे गोली मदन के सीधे हाथ के पंजे में लगी|

घटना की सूचना पर पुलिस ने जाँच पड़ताल की और रात 12:45 पर मदन को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया| पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया|

सीएम ने खोला पिछली सरकारों के 15 वर्षों के कारनामों का कच्चा चिट्ठा

0

लखनऊ: मंगलवार को छह माह का कार्यकाल पूरा कर रही योगी सरकार ने पूर्व संध्या पर अपना पहला श्वेत पत्र जारी किया। 24 पृष्ठों के दस्तावेज में बिना नाम लिए कालखंड (2003-2017) के जरिये सपा-बसपा की पूर्ववर्ती सरकारों पर मुख्यमंत्री ने जमकर निशाना साधा। इस दस्तावेज में गुजरे 15 वर्षों की हुकूमत के कारनामों का कच्चा चिट्ठा दिया गया है। योगी ने भ्रष्टाचार, जर्जर अर्थव्यवस्था, अपराधियों को प्रश्रय और खराब कानून-व्यवस्था के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए बर्बादी का सारा ठीकरा उनके ही मत्थे फोड़ा। उनका कहना था कि 15 वर्षों में उत्तर प्रदेश को पिछली सरकारों ने बर्बाद कर दिया।

सोमवार को लोकभवन के सभागार में अपनी कैबिनेट के साथ मौजूद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्वेतपत्र जारी करते हुए पूर्ववर्ती सरकारों को घेरने में कसर नहीं छोड़ी। योगी ने कहा, ’15 वर्षों के दौरान सत्ता पर काबिज सरकारों ने भ्रष्टाचार को नहीं विकास रोका, असामाजिक और भ्रष्ट तत्वों को बढ़ावा देकर अराजकता का माहौल बनाया। पिछली सरकारों ने सूबे को किस हाल में छोड़ा था, यह जानना जनता का हक और हमारी जवाबदेही है। श्वेतपत्र लाने का मकसद भी यही है।

योगी ने 19 मार्च को सत्ता संभालने के बाद के अनुभवों को सिलसिलेवार गिनाया। कहा, पूर्ववर्ती सरकारों की उपेक्षा के चलते किसानों की बदहाली, चीनी मिलों द्वारा समय से गन्ना किसानों की उपज का भुगतान न होने और उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग तथा भर्ती करने वाली संस्थाओं में अराजकता का उदाहरण दिखाकर योगी ने कहा कि गुजरे डेढ़ दशक में सपा-बसपा सरकारों ने किसानों और नौजवानों के साथ छल किया। बिजली आपूर्ति में पक्षपात किया गया। उन्होंने सड़कों की बदहाली बुंदेलखंड व पूर्वांचल के साथ उपेक्षा पूर्ण रवैए का भी मुद्दा उठाया। श्वेत पत्र के जरिये योगी ने सामाजिक, आर्थिक, भौगोलिक हर मोर्चे पर पक्षपात पूर्ण और अनैतिक आचरण का आरोप लगाकर सपा-बसपा की सरकारों की अराजकता चिह्नित की।

योगी यह बताने से भी नहीं चूके कि पिछली सरकार में बिना काम पूरा किए लोकार्पण किए गये। उन्होंने मेट्रो रेल, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, जयप्रकाश नारायण अंतर्राष्ट्रीय केंद्र, गोमती रिवर फ्रंट, अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, कैंसर इंस्टीट्यूट और एसजीपीजीआइ के ट्रामा सेंटर के नाम भी गिनाए। सपा सरकार पर स्वच्छ भारत मिशन की अनदेखी का भी आरोप मढ़ा।हमारी सरकार को विरासत में अराजकता, अपराध और भ्रष्टाचार मिले। ध्वस्त कानून-व्यवस्था के कारण निवेशकों और व्यापारियों का उत्तर प्रदेश से मोह भंग हो चुका था।
भू-माफिया की खोली पोल
श्वेत पत्र के जरिये सार्वजनिक और निजी भूमि पर कब्जा करने वाले अपराधियों और भू-माफिया की योगी ने पोल खोली। कहा कि थानों में मुकदमा दर्ज करने तक में भेदभाव होता रहा है। पुलिस के रिक्त पदों पर भर्ती में पक्षपात और भरने के लिए सार्थक प्रयास न करना, मथुरा के जवाहर बाग की घटना की याद दिलाकर यह भी आरोप लगाया कि प्रदेश के कारागार अपराधियों के आरामगाह बन गए थे। योगी ने कहा कि अपराधियों को सरकारी संरक्षण दिया गया।
फिजूलखर्जी में खजाना खर्च
मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा जब सत्ता में आई तो खजाना खाली था। 10 वर्षों में राजकोषीय घाटा बढ़कर ढाई गुना (374775 करोड़ रुपये) हो गया था। वर्ष 2010 में प्रदेश के हर व्यक्ति पर 7,795 रुपये के कर्ज था जो 2017 में बढ़कर 17,097 रुपये हो गया। सकल आय के मानक को तोड़ कर कर्ज तो लिया गया पर पूंजीगत व्यय में भारी कटौती करने से विकास के काम ठप रहे। स्पष्ट है कि विकास के पैसे फिजूूलखर्ची में खर्च किए गए। प्रदेश के समग्र विकास और रोजगार देने में अहम भूमिका निभाने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम भी इस दौरान लगातार घाटे के कारण दम तोड़ते गए। 2011-12 में इस क्षेत्र का घाटा 6489.91 करोड़ था जो 2015-16 में बढ़कर 91401.19 करोड़ तक पहुंच गई। इसी समयावधि में इनका कर्ज बढ़कर 35952.78 से बढ़कर 75950.27 करोड़ हो गया। सर्वाधिक घाटे में दक्षिणांचल, पूर्वांचल, मध्यांचल और पश्चिमांचल के विद्युत वितरण निगम रहे।
हफ्ते में औसतन दो दंगे
सांप्रदायिक मोर्चे पर पिछली सरकार की विफलता भी श्वेत पत्र में उजागर की गई है। कहा गया है कि पूर्ववर्ती सरकार के कार्यकाल में मथुरा, मुजफ्फरनगर, बरेली समेत सभी प्रमुख जिलों में सांप्रदायिक दंगे हुए। औसतन हर हफ्ते दो दंगे की बात कही गई है।
किसानों की उपेक्षा
योगी के अनुसार किसानों को उनके हाल पर छोड़ दिया गया था। न समय से खाद-बीज मुहैया कराया गया और न न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनके उपज को खरीदा गया। आलू के समर्थन मूल्य की व्यवस्था न होने से अधिक उत्पादन वाले वर्षों में किसानों को भारी घाटा हुआ। बागबानी की फसलों को प्रोत्साहित करने और उपज के संरक्षण की कोई नीति नहीं रही। बकाये के कारण गन्ना किसानों की कमर टूट गई। 2014-15 में 44.64 करोड़ का बकाया 2016-17 में बढ़कर 23000 करोड़ रुपये से अधिक हो गया। कुप्रंबधन के नाते कई चीनी मिलें बंद हो गईं। सहकारी चीनी मिलों की नियुक्तियों में धांधली हुई। चीनी और गन्ना निगम की 11 मिलों को अनुमानित कीमत 173.63 करोड़ रुपये थी, पर इनको मात्र 91.65 करोड़ में ही बेच दिया गया।
योजनाओं में देर से वित्तीय भार
श्वेत पत्र में पिछली सरकारों की अनियमितताएं गिनाते हुए यह बताया गया कि योजनाएं समय से पूरा न करने की वजह से लागत का बोझ बढ़ता गया। न कार्य समय से पूरा हुए और न ही तय बजट में। बाढ़ बचाव की न तो समय से कोई तैयारी हुई और न ही अधूरे कार्यों को पूरा किया गया। भ्रष्टाचार के चलते 50 लाख की संख्या में फर्जी राशन कार्ड जारी किए जाने का भी अनुमान लगाया है।
बिना पैसे और योजना सड़कों को मंजूरी
सरकार को विरासत में कुल 121000 किमी बदहाल सड़कें मिलीं। बिना पैसे और कार्ययोजना के कई सड़कों के निर्माण की मंजूरी दी गई। मात्र एक हजार और एक लाख के टोकन मनी पर दी गई मंजूरी से साफ है कि सरकार की रुचि सड़कों के निर्माण से अधिक कुछ खास ठेकेदारों के हित में थी। इन ठेकेदारों और अभियंताओं में सांठ-गांठ थी। अधिकांश टेंडर इनके पक्ष में ही खुले। इस सबके नाते विरासत में नई सरकार को 230 अधूरी सड़कें मिली।
यश भारती की बंदरबांट
पिछली सरकारों ने पर्यटन और संस्कृति क्षेत्र की भारी उपेक्षा की। साल भर पहले केंद्र सरकार से मंजूर योजनाओं पर काम तक नहीं शुरू कराया। पर्यटन नीति-2016 को लागू तो किया पर क्रियान्वयन के लिए शासनादेश नहीं जारी किया। योग्यता की अनदेखी कर यशभारती बांटने से पुरस्कार की गरिमा तो गिरी ही योग्यता का अपमान भी हुआ।
अल्पसंख्यकों का कल्याण दिखावा
अल्पसंख्यकों का कल्याण पिछली सरकार के लिए सिर्फ दिखावा था। वर्ष 2012-13 से 2016-17 के बजट में प्रावधानित राशि 13904 करोड़ रुपये में से 4830 करोड़ का उपयोग न होना इसका सबूत है।
कुछ खास बिंदु
– स्मारकों के निर्माण में बड़े पैमाने पर अनियमितता।
– गुजरे पांच वर्षों में परिषदीय विद्यालयों में 23.62 लाख छात्र-छात्राओं की संख्या में गिरावट।
– अध्यापकों की तैनाती छात्र संख्या के मानक के अनुरूप नहीं। विभिन्न विद्यालयों में 65 हजार 597 अध्यापक छात्र संख्या के मानक से अधिक तैनात थे, जबकि दूसरी ओर लगभग सात हजार 587 विद्यालय एकल थे।
– 31 मार्च, 2007 को सरकार की ऋणग्रस्तता करीब एक लाख 35 हजार करोड़ रुपये थी, तो 31 मार्च, 2017 को बढ़कर लगभग तीन लाख 75 हजार करोड़ रुपये हो गई।

[bannergarden id="12"]