Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

गाँव-गाँव कार्यालय खोलेगा लोक अधिकार मंच

0

Posted on : 20-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कम्पिल)लोक अधिकार मंच के पांचवें कार्यालय का शुभारम्भ रविवार को विधि-विधान से हो गया| जिसके बाद सभी को केंद्र सरकार के द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के विषय में अवगत कराया गया|
पांचवें कार्यालय के शुभारम्भ पर कंपिल पंहुचे लोक अधिकार मंच के जिलाध्यक्ष डॉ० अरविन्द गुप्ता ने कार्यालय का शुभारम्भ किया| इसके साथ ही उन्होंने कार्यक्रम में आये लोगों को सरकार की योजनाओं से अवगत कराया| उन्होंने कहा कि लोक अधिकार मंच वह मंच है जो जनता के अधिकारों के लिए प्रयास करता है| संगठन के द्वारा भारत सरकार द्वारा चलायी गयी विभिन्य योजनाओ को जन- जन तक पहुचाने का जो वीणा उठाया है उस को पूरा करने के लिए लोक अधिकार मंच को जनता का समर्थन मिल रहा है|
इसी सहयोग के चलते संगठन के पांचवें कार्यालय का शुभारम्भ किया गया है| लोक अधिकार मंच अब हर ग्राम में कार्यालय खोलेगा जिसके माध्यम से विभिन्य योजनाओं के निशुल्क फ़ार्म एवं साथ में दिशा निर्देश फ़ार्म भी प्राप्त मिलेगा|
जिलाध्यक्ष का जगह-जगह स्वागत किया| सचिन,रियंस शुक्ला,अभिषेक,विनोद,सागीर अहमद,गोविन्द राजकुमार,सुरेश चन्द्र, राजकिशोर,कृष्ण मुरारी,आमिर प्रताप सिंह,पुष्पेन्द्र व शिवम आदि रहे|

बड़ी खबर:जूना अखाड़े के नांगा संतों ने फिर किया शाही स्नान से इंकार

0

Posted on : 20-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:बीते मकर संक्रांति पर जूना अखाड़ा के संतों ने गंगा में गिर रहे गंदे नाले बंद करने से आक्रोशित होकर शाही स्नान नही किया था| लेकिन इसके बाद भी जिला प्रशासन नही चेता| सोमबार को मेला रामनगरिया का शुभारम्भ है| इस दौरान भी नांगा साधुओं ने गंगा के गंदे पानी से शाही डुबकी लगाने से इंकार किया है| रविवार को भी नाले लगभग बंद नही हो सके|
योगी सरकार की मंशा को पूरा करने के चक्कर में जिले के आला अफसर अब बुरी तरह से फंसे है| गंगा में आ रहे गंदे नालों को इस लिए कागजों में बंद करना है की मेला रामनगरिया का शुभारम्भ होने जा रहा है| अस्थाई बांध बनाकर पानी रोकनें का दिखाबा किया जा रहा है| नाले में लगाये जाने बांध केबल देखने भर के है| दरअसल जिला प्रशासन ऊपर इस समय एक तरफ कुआँ दूसरी तरफ खाई की कहावत सटीक बैठ रही है| यदि नालों में बाँध ना लगें तो मेले में साधु आक्रोशित यदि बांध लगा दें तो पानी आस-पास के सैकड़ों बीघा खेतों की फसलों की जल मगन कर दे| किसान आन्दोलन के लिए तैयार खड़े| इस स्थित में जिला प्रशासन दोनों पले बजा रहा है|
अब वो दौर भी नही रह गया की जैसा पूर्व के वर्षों में हुआ| जिले के एक गणमान्य नेता जी ने मेला शुरू होने से पूर्व मीडिया कबरेज के लिए भैरव घाट पंहुच कर नाला गंगा में जाते देख तत्कालीन सरकार के अफसरों को कैमरों के सामने गरियाया और रामनगरिया में संतो के साथ धरना भी दिया| लेकिन अब तो सरकार भी बन गयी और खुद वह ही सरकार है लेकिन अब डर सता रहा है कि कैसे बोले अब तो अफसर से लेकर सरकार व खुद गंगा भी उनकी ही है|
अलबत्ता आलम यह है की सरकारी अफसर नालों को बंद करने में लगभग नाकाम दिख रहे है| मेला शुभारम्भ से एक दिन पूर्व ही पंच दसनाम जूना अखाड़ा के महंत संत सत्य गिरी महाराज ने नालों का पानी गंगा में समाहित होने से आक्रोशित होकर शाही स्नान से साफ इंकार कर दिया| उन्होंने बताया की कोई भी अखाड़े का नांगा संत गंगा के जल में शाही डुबकी नही लगायेगा|

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी

0

लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि पर की जा सकेगी। मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय ने सभी जिलाधिकारियों को इस बारे में शुक्रवार को शासनादेश जारी कर कार्यवाही का निर्देश दिया है। इसके साथ ही छुट्टा गोवंश स्थल के लिए आवंटित 78.5 करोड़ रूपये सरकार ने मंजूर कर दिए है| जेएनआई ने बीते दिन अन्ना मबेशियों के खाने को वजट ना होने की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की थी|
अनारक्षित श्रेणी भूमि की व्यवस्था होगी
शासनादेश के मुताबिक चरागाह की जमीन पर पशुओं के लिए चारा मुहैया कराने वाली वृक्ष प्रजातियों को रोपने और पशुओं के पानी पीने के लिए नलकूप व चरही आदि की स्थापना के लिए गांव की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन और कॉरपोरेट घरानों से अनुबंध कर सकती है। इसके लिए ग्राम पंचायत की खुली बैठक में प्रस्ताव पारित किया जाएगा जिसमें भूमि प्रबंधक समिति प्रथम पक्ष होगी। वहीं छुट्टा गोवंश के लिए पशु आश्रय स्थलों का निर्माण ग्राम सभा के प्रस्ताव के बाद और उसके प्रबंधन के अंतर्गत सुरक्षित श्रेणी से इतर श्रेणी की जमीनों पर किया जा सकता है। इसके लिए गोचर (चरागाह) भूमि के पास में विनिमय के जरिये अनारक्षित श्रेणी भूमि की व्यवस्था की जा सकती है।
गोवंश स्थल के लिए आवंटित 78.5 करोड़
मुख्य सचिव ने अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल की स्थापना व संचालन तथा उनमें संरक्षित गोवंश के भरण-पोषण के लिए मंडी परिषद को जल्द रकम उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि बुंदेलखंड के सात जिलों में से प्रत्येक को 1.50 करोड़ और अन्य 68 जिलों में से प्रत्येक को एक करोड़ रुपये की दर से कुल 78.50 करोड़ रुपये की रकम जिलाधिकारियों को आवंटित करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। योजना भवन में जिलाधिकारियों व अन्य संबंधित अधिकारियों को मुख्य सचिव ने अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल की स्थापना के लिए अलग बैैंक खाता खोलने का निर्देश दिया। साथ ही हिदायत दी कि निराश्रित पशुओं के रख-रखाव व भरण-पोषण में किसी तरह की असुविधा न होने पाए। मुख्य सचिव ने बताया कि पूर्व में वृहद गो-संरक्षण केंद्रों के निर्माण के लिए बुंदेलखंड के सात जिलों को 10 करोड़ रुपये और अन्य 68 जिलों के लिए मंजूर एक करोड़ रुपये में से पहली किस्त के तौर सीधे जिलाधिकारियों को आवंटित करने के निर्देश दिए।

योगी सरकार ने खिलाडियों की प्रतिभा को निखारा

0

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) बीते 15 जनवरी से 18 जनवरी तक चली बालीबाल प्रतियोगिता के समापन पर पंहुचे सूबे की सरकार के खेल मंत्री चेतन चौहान ने कहा की पिछली सरकारों ने खिलाडियों की प्रतिभा को आगे बढने नही दिया| प्रदेश में जब से बीजेपी की सरकार बनी है तभी से खिलाडियों के अच्छे दिन शुरू हुए|
विकास खंड मोहम्मदाबाद के ग्राम नवादा दोयम में आयोजित हुई स्वर्गीय राजेन्द्र सिंह राठौर स्मारक राज्य स्तरीय बालीबाल खेलकूद प्रतियोगिता का शुक्रवार को प्रभारी मंत्री ने समापन किया| उन्होंने यूपी पुलिस गाजियाबाद की टीम को हराने वाली गोरखपुर की टीम को विजेती ट्राफी दी| इस दौरान उन्होंने कहा कि यूपी ने जबसे बीजेपी सरकारी बनी है तभी से खिलाडियों की तरफ सरकार अपना ध्यान दे रही है| जीतने वाले खिलाडियों को आगे बढ़ाने का काम सूबे की सरकार कर रही है| उन्होंने में कहा की पुलिस भर्ती में खिलाडियों को आरक्षण दिया जायेगा| वही 15 हजार खिलाडी पुलिस में भर्ती किये जायेंगे| उन्होंने कहा अब जो भी खिलाडी सेवानिवृत होंगें उन्हें 20 हजार पेंशन दी जायेगी| उन्होंने कहा की जो खिलाडी दूसरे देशों से गोल्ड जीतकर लाते है तो उन्हें 6 करोड़.सिल्वर पदक लाने वाले को 4 करोड़ व कास्य पदक लाने वालें खिलाडियों को दो करोड़ दिया जायेगा| इस दौरान मंत्री व सांसद मुकेश राजपूत ने कम्बल भी वितरित किये|
जिलाध्यक्ष डॉ० भूदेव राजपूत,क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सत्यपाल सिंह,विधायक नागेन्द्र सिंह,सदर मेजर सुनील दत्त द्विवेदी,व्लाक प्रमुख अमित दुबे,एसपी संतोष मिश्रा,एएसपी त्रिभुवन सिंह,एसडीएम सदर अमित आसेरी,ईओ नगर पालिका रमेश यादव आदि रहे|

सहकारी संघ से 44 वर्ष बाद हटा सपा का कब्जा

0

Posted on : 15-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP

फर्रुखाबाद:बीते लगभग चार दशक से अधिक समय से सहकारिता विभाग पर सपा का कब्जा था| लेंकिन इस बार बीजेपी ने जिले की सहकारिता से सपा का पत्ता साफ़ कर दिया| भाजपा के जिला महामंत्री शैलेन्द्र सिंह राठौर की पत्नी पूनम सिंह सहकारी संघ की अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित हुई|
नगर के रेटगंज स्थित जिला सहकारी संघ के अध्यक्ष पद के लिए पूनम सिंह ने अपना पर्चा आरो रमेश चन्द्र यादव के सामने दाखिल किया| पूनम के विरोध में कोई भी पर्चा दाखिल ना होने पर उन्हें निर्विरोध निर्वाचित किया गया| उन्हें शाम चार बजे जीत का प्रमाण पत्र सौपा गया| समर्थकों ने शैलेन्द्र राठौर व निर्वाचित अध्यक्ष पूनम सिंह का मालाओं से स्वागत किया| जिला सहकारी संघ लि० के रिक्त प्रतिनिधि के पदों पर भी निर्वाचन हुआ| जिसमे इफ्को देहली के दिनेश चन्द्र मिश्रा,पीसीएफ लखनऊ के राजेश त्रिपाठी,पीसीयू लखनऊ के आनन्द किशोर दुबे,सत्यपाल सिंह आलू संघ फर्रुखाबाद,मनोज कुमार केन्द्रीय भंडारण निगम देहली,अरुणा देवी डीसीबी फर्रुखाबाद,संजीब गुप्ता डीसीबी,भूदेव सिंह यूपी उपभोक्ता संघ लखनऊ,शैलेन्द्र सिंह राठौर डीसीबी फर्रुखाबाद,अरुण कुमार यूपी उपभोक्ता सह संघ के प्रतिनिधि चुने गये|
सहकारी संघ पर लगभग 44 वर्षों से सपा के पूर्व सांसद छोटे सिंह का कब्जा था| जो समाप्त हो गया| इस दौरान जिलाध्यक्ष भूदेव राजपूत,सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी,क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सत्यपाल सिंह आदि रहे|

[bannergarden id="12"]