Featured Posts

रावण कह रहा तुम मुझे यूँ जला ना पाओगे!रावण कह रहा तुम मुझे यूँ जला ना पाओगे! फर्रुखाबाद:श्रीराम लीला द्वारा मंचन चल रहा है| जिसके तहत विजय दशमी को रावण के वध के साथ ही उसका पुतला दहन होना है| पुतला बनाने वालों ने पुतले बनाकर तैयार कर मेला मैदान में लगा भी दिये है| बीते कई दिनों से कानपुर के ठेकेदार के द्वारा बनाये जा रहे रावण, कुम्भकरण व मेघनाथ के विशालकाय...

Read more

जिला जेल में सियाराम का हुआ वनवासजिला जेल में सियाराम का हुआ वनवास फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)बीते लगभग पांच दिनों से जिला जेल में चल रही राम लीला जनपद में चर्चा का विषय बनी हुई है| आपराधिक मानसिकता के लोगों में अध्यात्म की गंगा बहाने का काम किया जा रहा है| जिसके चलते यह जिला जेल में पहली अनोखी पहल है| जो बंदियों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार...

Read more

450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम450 वर्षों के बाद इलाहाबाद को मिला अपना पुराना नाम नई दिल्‍ली:संगम नगरी इलाहाबाद को 450 वर्षों के बाद आखिरकार अपना पुराना नाम वाप‍स मिल गया। कभी मुगल शासक सम्राट अकबर ने इसका नाम बदलकर प्रयागराज से इलाहाबाद (अल्‍लाहबाद) किया था। पुराणों में प्रयागराज का कई जगहों पर जिक्र मिलता है। रामचरित मानस में इलाहाबाद को प्रयागराज...

Read more

सीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएंसीएमओं ने खड़े होकर जलवा दी लाखों की दवाएं फर्रुखाबाद:सीएमओ कार्यालय के निकट परिवार नियोजन से सम्बन्धित करोड़ो रूपये की दवा व प्रचार सामिग्री सीएमओं अरुण उपाध्याय की मौजूदगी में आग के हवाले कर दी गयी| इस काम को अंजाम सीएमओ कार्यालय के पूर्व शोध अधिकारी अनिल कटियार निवासी नेकपुर चौरासी ने दिया| अनिल कटियार ने बताया...

Read more

पति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटीपति के दोस्तों ने नकदी जेबरात चोरी कर महिला की इज्जत लूटी फर्ररूखाबाद:बीती रात एक सनीखेज मामला सामने आया है| घर आये पति के दोस्तों ने महिला के साथ गैंग रेप कर उसके घर से नकदी व जेबरात चोरी कर लिये| घटना के सम्बन्ध में पुलिस को तहरीर दी गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल शुरू कर महिला को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया| थाना मऊदरवाजा क्षेत्र...

Read more

खड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसानखड़े होकर पानी पीते हैं? तो जान लीजिए गंभीर नुकसान डेस्क: यह तो हम सभी जानते हैं कि पूरे दिन में 8 से 10 गिलास पानी पीना हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए कितना जरूरी होता है। लेकिन आपको यह नहीं पता होगा कि जिस पोजीशन में आप पानी पीते हैं उसका भी आपकी सेहत पर असर पड़ता है। आपके बड़े-बुजुर्ग हमेशा से कहते आए होंगे कि बैठ कर शांति से पानी...

Read more

करवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का उद्यापनकरवाचौथ पर शुक्र अस्त होने के कारण इस बार नहीं होगा व्रत का... नई दिल्ली:वर्ष करवाचौथ 27 अक्टूबर को है। कार्तिक कृष्ण चतुर्थी को करवाचौथ का व्रत किया जाता है। सुहागिन महिलाओं के लिए इस व्रत का विशेष महत्व है। करवाचौथ के दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। कई संप्रदायों में कुवांरी कन्याएं भी अच्छे पति की...

Read more

पुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जामपुलिस की पिटाई से बीजेपी समर्थक की मौत पर बबाल,लगाया जाम फर्रुखाबाद: साथी के साथ गये युवक से पुलिस ने युवक से मारपीट कर दी| जिससे उसकी मौत हो गयी| आक्रोशित भीड़ ने परिजनों के साथ जाम लगाकर जमकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की| मौके पर पंहुचे एएसपी ने कार्यवाही का भरोसा दिया| जिसके बाद जाम खोला जा सका| शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला दरीवा...

Read more

स्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ीस्कूल बैन की गैस से मासूम छात्रों की हालत बिगड़ी फर्रुखाबाद:(मेरापुर/नबावगंज) विधालय बच्चो को लेकर जा रही बैन की गैस निकलने से उसमे बैठे कई मासूम छात्र-छात्राओं की हालत बिगड़ गयी| ग्रामीणों का आक्रोश देख बैन का चालक मौके से खिसक गया| जिसके बाद मौके पर पंहुचे एसपी ने जाँच पड़ताल कर कार्यवाही के निर्देश दिये|जिसके बाद विधालय...

Read more

श्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोरश्रीराम की बारात में श्रद्धालु हुये भावविभोर फर्रुखाबाद:श्री राम विवाह की शोभायात्रा में सभी बरातियो ने जमकर लुफ्त उठाया| वही राम-सिया के विवाह मंचन से बारात तक के कार्यक्रम में सभी मनोहारी झाँकियो को देख कर श्रद्धालु भावविभोर हो गये| राम बारात में जैसे ही श्री राम के गले में सीता जी ने वरमाला डाली तो रामचरित मानस...

Read more

तेज हवाओं के साथ गिरे ओले, बरसा पानी

0

Posted on : 11-10-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, कृषि, सामाजिक

फर्रुखाबाद:गुरुवार की शाम अचानक मौसम का मिजाज बिगड़ गया। काली घटा घिर गई। तेज हवाएं चलने लगी। बूंदा-बांदी के साथ ओले गिरने शुरू हो गए। फिर तेज बारिश शुरू हो गई। देखते-देखते सड़क पर ओले की चादर बिछ गई। तकरीबन पौन घंटे हुई बारिश के बाद ठंडक बढ़ गई। वहीं मौजूदा वक्त में जो फसल खेतों में है उनके लिए तेज हवा के साथ हुई बरसात नुकसान पहुंचाने वाली है।
गुरुवार को शाम होते ही अचानक मौसम का मिजाज बदला। तेज हवा के साथ काले बादलों की घटा ने लोगों को हैरान कर दिया। देखते-देखते ओले गिरने लगे और जोर से बारिश शुरू हो गई। यह बारिश करीब पौन घंटे तक चली। सड़क पर ओले की चादर सी बिछ गई। जानकारी के मुताबिक ओले का क्षेत्र ज्यादा व्यापक नहीं रहा। लेकिन बारिश तकरीबन पूरे जिले में हुई। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई। जो फसल तैयार होकर खलिहान में रखी है उसके लिए भी और जो लगभग पकने को है उसे भी इस बारिश से नुकसान पहुंचा है।
मोहम्मदाबाद के साथ ही जिले के कई क्षेत्रों में ओले गिरे| जिससे धान की फसल को काफी नुकसान है|

ट्यूवबेल टेक्निकल एसोसिएशन के चुनाव में सभी पदाधिकारी निर्विरोध

0

फर्रुखाबाद: टयूबबेल टेक्निकल एम्पलाइज एसोसिएशन का चुनाव कराया गया| जिसमे आधा दर्जन पदों पर मतदान की तैयारी की गयी| जिसमे सभी आधा दर्जन पदाधिकारी निर्विरोध निर्वाचित हुये|
फतेहगढ़ क्षेत्र के बेबर रोड स्थित सिचाई विभाग के निरीक्षण भवन में संगठन का मतदान कराया गया| लेकिन किसी अन्य के मैदान में ना होने पर संरक्षक ऋषिपाल सिंह,आदेश प्रताप सिंह जिलाध्यक्ष,प्रभात कुमार सिंह जिला महाममंत्री, उपाध्यक्ष अबधेश कुमार शुक्ला को उपाध्यक्ष, अरुण कुमार सिंह को कोषाध्यक्ष व आडीटर के पद पर शैलेश कुमार गुप्ता निर्विरोध निर्वाचित हुये| इसके साथ ही हर महीने की 15 तारीख को संघ की मासिक बैठक करने का निर्णय लिया है|
चुनाव की प्रक्रिया निर्वाचन अधिकारी बने रुप किशोर, उपनिर्वाचन अधिकारी विनोद कुमार व संगठन के मंत्री प्रभात कुमार सिंह ने चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न करायी| इस दौरान प्रमोद दीक्षित, हरि प्रसाद, विकास जौहरी, राकेश चन्द्र व राकेश चन्द्र राही आदि रहे|

किचिन का कचरा ना फेंके, ऐसे करें प्रयोग

0

Posted on : 20-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, कृषि, सामाजिक

करनाल:यदि आप रसोई का कचरा यूं ही फेंक देते हैं तो आगे से एेसा न करें। यह बड़े काम की चीज है और इसका इस्‍तेमाल खाद के रूप में किया जा सकता है। फल-सब्जी के छिलके, बचे हुए भोजन आदि के रूप में रसोई से निकलने वाला जैविक कचरा बंजर भूमि को उपजाऊ बनाने में बेहद कारगर साबित हुआ है।
शोध में खुलासा हुआ है कि रसोई के कचरे का इस रूप में सदुपयोग किया जाए तो बेहतर वेस्ट मैनेजमेंट के साथ ही देश में बंजर पड़ी 37.70 लाख हेक्टेयर क्षारीय भूमि को उपाजाऊ बनाया जा सकता है। हरियााण के करनाल स्थित केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान (सीएसएसआरआइ) में हुए शोध में जैविक कचरे के इस विशेष गुण की पुष्टि हुई है।
संस्थान की वैज्ञानिक पारुल सूंधा बताती हैं कि किचन से निकलने वाला कचरा जब गलता है तो वह एसिडिक यानी अम्लीय हो जाता है। क्षारीय भूमि में जब इसको मिलाया जाता है तो क्षारीय भूमि बेसिक हो जाती है। उन्‍होंने बताया कि शोध में साबित हुआ कि क्षारीय भूमि के सुधार में जैविक कचरे (आर्गेनिक वेस्ट) की बड़ी भूमिका हो सकती है। शोध में यह भी स्पष्ट हुआ कि जैविक कचरे के अलावा जिप्सम का इस्तेमाल फायदेमंद होगा, लेकिन जिप्सम की मात्रा 25 से 30 प्रतिशत कम हो।
इस समय देश में अधिकतर क्षारीय भूमि उत्तर प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार और कर्नाटक में है। क्षारीय सुधार से भूमि, जल, वातावरण और अनेक अनूकुल परिस्थिति का सीधा प्रभाव ग्रामवासियों के रहन-सहन, स्वास्थ्य एवं उपयोग की स्थिति पर पड़ा है।
सीएसएसआरआइ में चल रहे इस शोध के सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। शोध पूरा होने के बाद यह शहर व ग्रामीण दोनों क्षेत्र के लिए संजीवनी का काम करेगा। शहरों से रोजाना निकलने वाले करोड़ों टन गलनशील कचरे का निस्तारण भी होगा और वह प्रोसेसिंग होकर जब क्षारीय जमीन में पहुंचेगा तो बंजर भूमि में भी जान आएगी। जहां पर अन्न का एक दाना भी नहीं होता वहां पर फसलें लहलाएंगी।
डॉ. पारुल ने बताया कि इस भूमि में सोडियम काबरेनेट, बाइकाबरेनेट तथा सिलीकेट लवणों की अधिकता होती है। विनिमय योग्य सोडियम 15 प्रतिशत से अधिक और पीएच मान 8.2 से अधिक हो तो वह क्षारीय भूमि होती है। इस तरह की भूमि में घुलनशील लवण ऊपरी सतह पर सफेद पाउडर के रूप में एकत्रित हो जाते हैं। जिस कारण भूमि खेती के योग्य नहीं रहती।
बंजर भूमि उपजाऊ हुई तो हर साल होगी 15 लाख टन अनाज की उपज
सीएसएसआरआइ के विशेषज्ञों के मुताबिक, हरियाणा में जितनी बंजर जमीन पड़ी है, यदि वह उपजाऊ हो तो 15 लाख टन खाद्यान्न उत्पादन अधिक हर साल हो सकता है। इसकी कीमत औसत एक हजार करोड़ रुपये बनती है। इस समय प्रदेश में कुल 44 लाख हैक्टेयर भूमि में है, जिसमें से 39 लाख हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है। बाकी लवणीय व क्षारीय भूमि है।
” वर्ष 2016 में म्यूनिसिपल वेस्ट पर रिसर्च शुरू की गई। रसोई से निकलने वाला कचरा, सब्जियों व फलों के छिलके व अन्य पदार्थ जो डीकंपोज हो सकें, वह क्षारीय भूमि के सुधार में बेहद फायदेमंद साबित हुए। जिस क्षारीय भूमि का पीएच मान 9.5 से ऊपर है उस पर शोध किया गया। यह ऐसी जमीन होती है जहां पर फसलें नहीं होती, शोध सफल रहा है।
– डॉ. पारुल सूंधा, वैज्ञानिक, केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान, करनाल, हरियाणा।

कड़क्का बांध कई जगह टूटने से विचपुरिया गांव में दाखिल हुई रामगंगा

Comments Off on कड़क्का बांध कई जगह टूटने से विचपुरिया गांव में दाखिल हुई रामगंगा

Posted on : 05-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, कृषि, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) लगातार हो रही बरसात से पानी प्रलय बनकर लोगों के घरों में दाखिल हो रहा है| कई बार खबर प्रकाशन के बाद भी जिला प्रशासन की घोर लापरवाही सामने आयी है| कडक्का बांध कई जगह से टूट जाने से रामगंगा का पानी विचपुरिया गांव में दाखिल हो गया है| जिससे ग्रामीणों में हडकंप है|
बदायू मार्ग सड़कों  पर सिर्फ गढढे व मिट्टी ही नजर आ रही है। अभी तक कोई जनप्रतिनिधि बाढ पीड़ितों की खबर तक लेने नही आये| लोग झोपड़ी डालकर चारा मशीन बदायू मार्ग पर लगाकर रहने पर मजबूर हैं| वही ग्राम भुड़न के लोग बरेली हाइवे पर पालीथिन डालकर रहने पर मजबूर हैं| गाँव में लगभग 70 मकान डुवे हुए हैं|
राजेपुर कस्बे में भी पानी का कहर शुरू
वही कस्बा में पशु अस्पताल, पोस्ट ऑफिस, राजेपुर आंगनबाड़ी पुष्टाहार, बिजली उपकेंद्र में गंगा का पानी कहर बनकर घुसा है| ग्रामीणों में दहशत फैल गई| राजेपुर कस्वा बाजार में घुटनों से पानी सड़क पर बह रहा है| गंगा और रामगंगा के विकराल रुप ले लिया राजेपुर कस्बा के छोटे वाहनों का आवागमन प्रभावित हो गया है| ग्रामीण बाढ़ के पानी से निकलने पर मजबूर हैं| बदायू मार्ग चित्रकूट पर बनी डिप पर पानी भरने से बदायूँ सम्पर्क मार्ग टूट गया है|रामगंगा और गंगा की बाढ़ से तहसील क्षेत्र के करीब 150 गांव घिर गए हैं। इसके चलते हजारों ग्रामीणों के सामने खाने-पीने के साथ ही अन्य समस्याएं खड़ी हो गई हैं। कलक्टरगंज, जोगराजपुर, करनपुरघाट, अमैयापुर, हीरानगर, भावन, रूलापुर, चपरा, गुड़ेरा, गुलरिया, गहलार और खाकिन मार्गों पर पानी कमर से ऊपर बह रहा है। पानी से होकर ही ग्रामीण और स्कूली बच्चे आवागमन कर रहे हैं।
बाइक सबार को बचाने में बाल-बाल बची पुलिस
राजेपुर गांव चित्रकूट डीप पर 4 फुट पानी बदायूं मार्ग पर कई जगह चल रहा है वह चित्र कूट पर मोटरसाइकिल सवार बाढ़ के पानी में गुजर रहा था| अचानक धार का बहाव आने से मोटरसाइकिल सवार पानी में बह गया| तभी पहले से भ्रमण कर रहे थानाध्यक्ष अंगद सिंह ने मौके पर खड़े थे थानाध्यक्ष अंगद सिंह ने अपनी जान जोखिम में डालकर जीप को पानी में घुसा कर मोटरसाइकिल सवार को निकाला|

तीन घंटे गंगा की तेज धार में खड़े रहे किसान मित्र

Comments Off on तीन घंटे गंगा की तेज धार में खड़े रहे किसान मित्र

फर्रुखाबाद:अपनी मांगो को लेकर आन्दोलन कर रहे किसान मित्र आखिर अब नये तरीके इजात करने पर उतर आये है| जिसके चलते उन्होंने सरकार को हिलाने के लिये जल सत्यागृह शुरू कर दिया| तीन घंटे सभी गंगा की तेज धार में खड़े रहे| लेकिन कोई भी अधिकारी उनसे मिलने नही पंहुचा|
सर्वोदय मंडल के लक्ष्मण सिंह के साथ किसान मित्र एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष अरविन्द राजपूत व उनके साथ शहर के पांचाल घाट स्थित दुर्वाषा ऋषि आश्रम पंहुचे| जंहा सभी गंगा की तेज धारा में लगभग 12 बजे उतर गये| जिसके बाद उन्होंने गंगा में खड़े होकर अपना प्रदर्शन शुरू कर दिया| तकरीबन तीन बजे तक सभी गंगा में सत्यागृह आन्दोलन करते रहे| तीन बजे सभी गंगा से बाहर आये| उन्होंने शासन व जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर भडास निकाली|
लक्ष्मण सिंह ने बताया कि यदि जरूरत पड़ी तो जल सत्याग्रह भविष्य में भी होगा| मांगे ना मानी गयी तो बड़ा आन्दोलन ट्रेन रोकने व बस अड्डे का चक्का जाम तक किया जायेगा| इस दौरान विजय सिंह, नरसिंह , रामोतार, किशन राजपूत, शिवराम सिंह, अभिनय त्रिवेदी आदि रहे|

[bannergarden id="12"]