सवारियों के आगे रोडवेज की व्यवस्था धड़ाम,जगह नहीं मिली

0

JNI NEWS : 05-11-2013 | By : HEMANT KUMAR | In : समाचार
सिकंदराबाद : बहन और भाई के त्योहार भैयादूज पर मुसाफिरों के उमड़ेे सैलाब से आगे रोडवेज की व्यवस्था की धड़ाम हो गए। मंगलवार को सुबह से लेकर शाम तक बसों की कमी के चलते मारामारी मचती रही। रोडवेज से लेकर निजी बसों में गंतत्व तक पहुंचने के लिए मारामारी मचती रही। जिस कारण बहनों को भाइयों के घर पहुंचने के लिए परेशानी उठानी पड़ी।
मंगलवार को मुसाफिरों को राहत नहीं मिली। सुबह से ही भैया दूज के पर्व के मद्देनजर मुसाफिरों का रोडवेज स्टेंड समेत निजी बस और फेयर स्टॉपेज पर सैलाब उमडऩे लगा। सुबह सात बजे से दस बजे तक परिवहन व्यवस्था पटरी पर रही, लेकिन इसके बाद पटरी से उतरी परिवहन व्यवस्था सायं तक भी सुचारु नहीं हो पाई। दस बजे भीषण जाम के कारण दिल्ली, गाजियाबाद व बुलंदशहर से वाहनों का रूट डायवर्ट होने से बसों का अकाल पडऩा शुरू हो गया। जो भी इक्का दुक्का बस बुलंदशहर, गाजियाबाद से आती, उसमें चढऩे के लिए मुसाफिरों में मारामारी मच जाती। जबकि पूर्वी साइड से आने वाली बस फेयर स्टेंड तो क्या रोडवेज डिपो पर नहीं रूकी, जिस कारण अलीगढ़, बदायूं, शिकारपुर, सहसवान आदि स्थानों पर जाने वाले मुसाफिर बेहाल रहे। ग्रेटर नोएडा और नोएडा, कोशांबी डिपो द्वारा सीएनजी बसों की संख्या के साथ फेरे भी बढ़ाए गए, लेकिन बढ़ती मुसाफिरों की तादात के आगे वे नाकाफी साबित हुई। कमोवश यही स्थित दादरी, गुलावठी, दनकौर, जेवर-ककोड़ और खुर्जा जाने वाली निजी बसों में रही। बसों की कमी के कारण बहनों को भाइयों और भाई को बहनों के घर पहुंचने के लिए भारी परेशानी उठानी पड़ी। देर सायं के बाद ही मुसाफिरों को राहत मिल सकी।

No related posts.

Related posts brought to you by Yet Another Related Posts Plugin.

Comments are closed.