2017-18 / पतंजलि की बिक्री 10% घटकर 8100 करोड़ रु. रह गई, रामदेव को दोगुनी होने की उम्मीद थी

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

नई दिल्ली. पतंजलि के फाउंडर रामदेव ने 2017 में उम्मीद जताई थी कि मार्च 2018 तक कंपनी की बिक्री दोगुनी से भी ज्यादा होकर 20,000 करोड़ रुपए पहुंच जाएगी। लेकिन, बढ़ने की बजाय पतंजलि बिक्री में 10% घटकर 8,100 करोड़ रुपए रह गई। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक पतंजलि ने सालाना वित्तीय रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है।

पतंजलि ने विस्तार करने में गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया: रिपोर्ट

  1. रॉयटर्स के सूत्रों और विश्लेषकों का कहना है कि बीते वित्त वर्ष 2018-19 में भी पतंजलि की बिक्री में और भी ज्यादा कमी आई होगी। केयर रेटिंग्स ने इस साल अप्रैल में बताया था कि 31 दिसंबर 2018 तक की तीन तिमाही में पतंजलि ने सिर्फ 4,700 करोड़ रुपए के उत्पाद बेचे थे।
  2. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक पतंजलि के मौजूदा और पूर्व कर्मचारियों, सप्लायलर्स, डिस्ट्रीब्यूटर्स, स्टोर मैनेजर और उपभोक्ताओं का कहना है कि गलत फैसलों की वजह से कंपनी की महत्वाकांक्षाओं में रुकावट आई है। उन्होंने बताया कि तेजी से विस्तार करने की वजह से पतंजलि ने गुणवत्ता बरकरार रखने पर ध्यान नहीं दिया।
  3. एक पूर्व कर्मचारी के मुताबिक ट्रांसपोर्टर्स के साथ लंबी अवधि की डील नहीं होने से पतंजलि की योजना उलझ गई और लागत बढ़ गई। एक अन्य पूर्व कर्मचारी ने कहा कि पतंजलि के पास बिक्री पर नजर रखने वाले सॉफ्टवेयर की भी कमी है।
  4. उधर पतंजलि का कहना है कि तेजी से विस्तार की वजह से कुछ शुरुआती दिक्कतें आईं लेकिन अब खत्म हो चुकी हैं। पतंजलि के 98.55% शेयर रखने वाले बालकृष्ण ने अप्रैल में एक इंटरव्यू में कहा था कि हमने अचानक विस्तार किया, तीन से चार नई यूनिट शुरू कीं, इसलिए समस्याएं आनी थीं। हमने नेटवर्क की दिक्कत का समाधान कर लिया है।
  5. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी के गलत फैसलों की वजह से बिक्री घटी
  6. 2018-19 में बिक्री और भी कम रहने के आसार, दिसंबर 2018 तक सिर्फ 4700 करोड़ रुपए थी

सुविधा / कॉमन सर्विस सेंटर पर एक हफ्ते के अंदर फिर से बनने लगेंगे आधार कार्ड

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

नई दिल्ली: जल्द ही कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSC) पर आधार कार्ड से जुड़ी सभी सेवाएं मिलनी शुरू हो जाएंगी। युनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने इन केंद्रों को फिर से आधार से जुड़ी सेवाएं प्रदान करने की अनुमति दे दी है। इसका सबसे ज्यादा फायदा ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को मिलेगा। उन्हें आधार कार्ड बनवाने या उससे जुड़े किसी अन्य काम के लिए कहीं और नहीं भटकना पड़ेगा। 

एक हफ्ते में शुरू होंगी सेवाएं 

एजेंसी की खबर के मुताबिक कॉमन सर्विस सेंटरों ने आधार से जुड़ी सेवाएं देना बंद कर दिया था, जब UIDAI ने 12 अंकों के आधार नंबर की डाटा सिक्योरिटी पर सवाल उठने के बाद इन सेंटरों को आधार से जुड़े काम करने से रोक दिया था। कॉमन सर्विस सेंटर ई-गवर्नेंस सर्विसेज सीईओ दिनेश त्यागी ने बताया कि, यूआईडीएआई ने कॉमन सर्विस सेंटर्स को आधार कार्ड की छपाई की अनुमति दे दी है। ग्राहकों से UIDAI द्वारा तय किया गया शुल्क वसूला जाएगा। यह सेवाएं एक हफ्ते के अंदर शुरू हो जाएंगी। 

देशभर में 3.9 लाख लोग चला रहे हैं CSC

रिपाेर्ट के मुताबिक 3.9 लाख विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर्स (VLE) देशभर में कॉमन सर्विस सेंटर चला रहे हैं। ये एंटरप्रेन्योर लोगों को ट्रेन टिकट बुक करने, पासपोर्ट के लिए आवेदन देने, जन्म प्रमाणपत्र बनाने, आयुष्मान भारत स्कीम में रजिस्टर करने जैसी सरकारी सेवाएं मुहैया कराते हैं। अब कॉमन सर्विस सेंटरों पर आधार कार्ड में अपडेट भी कराया जा सकेगा, जैसे- फोटो या एड्रेस बदलना।  

बैंक व पोस्ट ऑफिस में भी मिलेंगी सेवाएं

CSC के अलावा लोग आधार से जुड़ी सेवाएं बैंक की शाखाओं, पोस्ट ऑफिस और सरकारी प्रांगण में UIDAI के मान्यता प्राप्त सेंटर्स में आधार से जुड़ी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। पहले CSC में आधार के लिए आवेदन करने की अनुमति थी, लेकिन इसे पिछले साल सितंबर में रोक दिया गया। तब विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर्स ने धमकी दी थी कि अगर उन्हें आधार से जुड़ा काम नहीं करने दिया जाएगा तो वे सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे। 

मौत से कुछ घंटे पहले ऋषभ ने माँ को किया था फोन

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: अपनी मौत के आने से पूर्व ऋषभ ने कुछ समय तक अपनी माँ से बात की| वही अभी तक पुलिस इस बात पर मंथन कर रही है कि उसका शव अर्द्धनग्न क्यों था| उसके सीने में गोली लगना भी कुछ और इशारा कर रहा है|
आरपीएफ फर्रुखाबाद में तैनात सिपाही ओमप्रकाश पटेल के पुत्र ऋषभ का शव गुरुवार तड़के घर भीतर मिला| उसके पास एक 315 बोर का नया तमंचा मिला| पुलिस को तमंचे में एक कारतूस का खोखा और तीन जिंदा कारतूस मिले| सबाल यह भी की ऋषभ को तमंचा और कारतूस कहा मिले| इसके साथ ही साथ वह नग्न क्यों था|| इस तरह के कई सबाल है जिनके जबाब अभी पुलिस तलाश रही है|
गुरुवार दोपहर बाद गोरखपुर से मृतक की माँ सुभावती व पिता ओमप्रकाश पटेल पोस्टमार्टम में पंहुचे| सुभावती ने बताया की बीती रात लगभग 9 बजे बेटे का फोन आया था वह ठीक था| सुबह उसकी  मौत  की खबर मिली|

 

नाबालिग ने गाड़ी चलाई तो 2500 जुर्माना, पढ़े यातायात नियमों ये हुए बदलाव

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: बिना हेल्मेट दोपहिया वाहन चलाने पर पर 500 और नाबालिग के वाहन चलाने पर अब ढाई हजार रुपए जुर्माना होगा।  गति सीमा का उल्लंघन करने पर कार चालक को दो हजार और ट्रक  चालक को चार हजार रुपए जुर्माना देना होगा। प्रदेश सरकार ने मोटरयान अधिनियम 1988 की धाराओं में संशोधन करके यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर जुर्माना राशि निर्धारित की है।  

बिना हेल्मेट वाहन चलाते पकड़े जाने पर पहली बार में 500 और दूसरी बार पकड़े जाने पर एक हजार रुपए जुर्माना देना होगा। इसी तरह चौपहिया वाहन में चालक समेत आगे की सवारी के सीट बेल्ट का उपयोग न किए जाने पर भी 500 रुपए जुर्माना देना होगा।  बिना ड्राइविंग लाइसेंस के चलने पर 500 रुपए जुर्माना देना होगा। वाहन चलाते समय मोबाइल या हेडफोन का उपयोग करने पर भी 500 रुपए जुर्माना देना होगा।

एक साल से अधिक अन्य राज्य के नम्बर का उपयोग करने व नम्बर प्लेट के वाहन चलाने पर भी 300 रुपए जुर्माना देना होगा। दोपहिया वाहन पर चालक समेत दो से ज्यादा सवार होने पर 300 रुपए जुर्माना देना होगा। सार्वजनिक स्थान पर अवैध ढंग से वाहन की पार्किंग पर 500 रुपए दण्ड देना होगा। वाहन चलाने के अपात्र व्यक्ति के वाहन चलाने पर 2500 रुपए जुर्माना निर्धारित किया गया है।    

बुलेरो की टक्कर से बालक की मौत, आक्रोशित भीड़ ने लगाया जाम

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कमालगंज) माँ के साथ ननिहाल जा रहे बालक को तेज रफ्तार बुलेरो ने कुचल दिया| जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी| आक्रोशित परिजनों नें कानपुर-फतेहगढ़ मार्ग पर जाम लगा दिया| पुलिस ने कड़ी मसक्कत के बाद जाम खुलवाया और शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा|
थाना मेरापुर के ग्राम विसौली निवासी कप्तान की पत्नी विनीता अपने 12 वर्षीय पुत्र अर्जुन को लेकर थाना कमालगंज के ग्राम हसनगंज मायके जा रही थी| फतेहगढ़ से टैम्पों पर सबार होकर वह हसनगंज पंहुचे| कानपुर-फतेहगढ़ मार्ग पर टैम्पो को अर्जुन की माँ पैसे देनें लगी, उसी दौरान अर्जुन ने अचानक सड़क पार करने  का प्रयास किया|
उसी दौरान तेज रफ्तार बुलेरों ने अर्जुन को कुचल दिया| जिससे अर्जुन की मौके पर ही मौत हो गयी| बुलेर्रों सबार मौके से फरार हो गया| आक्रोशित ग्रामीणों ने मौके पर जाम लगा दिया| घटना की सूचना पर सीओ कमालगंज सुरेन्द्र तिवारी, प्रभारी निरीक्षक जसबंत सिंह आदि फ़ोर्स  साथ मौके पर पंहुचे और तकरीबन एक घंटे बाद कार्यवाही का भरोसा देकर जाम खुलवाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा

OBC आरक्षण पर नया फार्मूला ला सकती है मोदी सरकार, ये होंगे बदलाव

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

नई दिल्ली: मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में ओबीसी आरक्षण पर बड़ा फैसला ले सकती है। मोदी सरकार नए फॉर्मूले के तहत अति पिछड़े वर्ग को मिलने वाले 27 फीसदी आरक्षण को तीन हिस्सों में बांट सकती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक इससे संबंधित पैनल में इसे लेकर सिफारिश केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय से की है। अगर वो इसे मंजूरी देती है तो ओबीसी आरक्षण में इसके बड़े बदवाल दिखेंगे।

देश में इस समय 2633 ओबीसी जातियां है

पैनल ने अपनी रिपोर्ट में ये सिफारिश की है कि ओबीसी जातियों में जिन जातियों को आरक्षण का बिल्कुल लाभ नहीं मिला है, उनके लिए दस फीसदी आरक्षण सुनिश्चित किया जाना चाहिए। वहीं ओबीसी कोटे के तहत जिन जातियों को थोड़ा बहुत आरक्षण का लाभ मिला है, उन्हें भी दस फीसदी आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए। पैनल में अपनी रिपोर्ट में आगे कहा है कि जिन ओबीसी जातियों को आरक्षण का सबसे अधिक लाभ मिला है, उन्हें सिर्फ सात फीसदी आरक्षण मिलना चाहिए।

10 जातियों को मिला रिजर्वेशन का अधिक फायदा

पैनल में अपनी रिपोर्ट में बताया है कि ओबीसी कैटेगरी में केवल दस उपजातियों को 27 में से 25 फीसदी आरक्षण का लाभ मिला है। ओबीसी में 983 ऐसी उपजातियां हैं, जिन्हें आरक्षण का लाभ न के बराबर मिल पाया है। पैनल इस संबंध में अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप दे रहा है। इस पैनल की अध्यक्ष हाईकोर्ट की पूर्व चीफ जस्टिस जी रोहिणी है। उन्होंने बताया कि हम अपनी रिपोर्ट 31 जुलाई से पहले मंत्रालय को सौंप देंगे। रिपोर्ट देखने के बाद लेंगे अंतिम फैसला पैनल की इस सिफारिश के बारे में जब केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि पहले उन्हें रिपोर्ट जमा करने दीजिए। इसके बाद हम देखेंगे कि ओबीसी जातियो का उप-वर्गीकरण कैसे करना है।

गौरतलब है कि पैनल ने 1931 से पहले की जातिगत जनगणना के आधार ये रिपोर्ट तैयार की है। कयास लगाए जा रहे हैं कि साल 2021 में होने वाली जनगणना में 90 साला बाद ओबीसी की गिनती की जाएगी। संविधान के शुरुआत में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की तरह ओबीसी जातियों के लिए आरक्षण लागू नहीं था। 1979 में स्थापित मंडल कमीशन बना था। इसकी सिफारिश के आधार पर साल 1990 में ओबीसी जातियों के लिए 27 फीसदी आरक्षण लागू किया गया था। साल 2016 में इसे विस्तार देकर उच्च शिक्षा में भी लागू कर दिया गया।

UPPSC ने घोषित किया PCS (J) 2018 की मुख्य परीक्षा का परिणाम, 1847 अभ्यर्थी सफल

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश न्यायिक सेवा सिविल जज (पीसीएस जे) मुख्य परीक्षा 2018 का परिणाम जारी हो गया है। इसमें 1847 अभ्यर्थी सफल घोषित किए हैं। सफल अभ्यर्थी अब साक्षात्कार में शामिल होंगे। उप्र लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने गुरुवार शाम को वेबसाइट व कार्यालय के सूचना पट पर रिजल्ट अपलोड कर दिया है। इस भर्ती परीक्षा में कुल 610 रिक्तियां हैं।

यूपीपीएससी ने मुख्य परीक्षा 30 व 31 जनवरी व एक फरवरी 2019 को प्रयागराज व लखनऊ जिले के केंद्रों पर कराई थी। परीक्षा में कुल 5795 अभ्यर्थी शामिल हुए थे। पीसीएस जे भर्ती परीक्षा 2018 में कुल 610 रिक्तियां हैं। इसमें अनारक्षित श्रेणी की 306, अनुसूचित जाति की 128, अनुसूचित जनजाति की 12 व अन्य पिछड़ा वर्ग की 164 रिक्तियां घोषित हैं। भर्ती में नियमानुसार क्षैतिज आरक्षण के अंतर्गत डीएफएफ श्रेणी की 12, दिव्यांग श्रेणी की 24 व महिला श्रेणी की 122 रिक्तियां सम्मिलित हैं।

परीक्षा में 1847 अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए औपबंधिक रूप से सफल घोषित किया गया है। परीक्षाफल आयोग कार्यालय के सूचना पट्ट पर चस्पा कर दिया गया है। इसके अलावा अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट uppsc.up.nic.in पर भी परिणाम देख सकते हैं। आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि अभ्यर्थियों के प्राप्तांक व श्रेणीवार कटऑफ अंक आयोग की वेबसाइट पर प्रश्नगत परीक्षा का अंतिम परिणाम घोषित होने के बाद उपलब्ध कराया जाएगा।

दिसंबर 2018 में हुई थी प्री परीक्षा

यूपीपीएससी ने 16 दिसंबर, 2018 को प्रयागराज, लखनऊ, मेरठ व आगरा के केंद्रों पर प्रारंभिक परीक्षा कराई थी। भर्ती के लिए प्रदेश भर से 64 हजार 691 अभ्यर्थियों ने आवेदन किए थे और इनमें से 38 हजार 174 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। आयोग ने प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम 20 दिन बाद पांच जनवरी 2019 को जारी कर दिया था। मुख्य परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रारंभिक परीक्षा में 6041 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया था।

इसी माह के अंत तक इंटरव्यू

यूपीपीएससी की मानें तो इस भर्ती का साक्षात्कार जून माह के अंत तक शुरू होगा। इसके लिए मेंस में सफल अभ्यर्थियों को अलग से सूचना दी जाएगी। ज्ञात हो कि यह भर्ती कोर्ट के आदेश पर मई माह में ही पूरी होनी थी, लेकिन, उसमें विलंब हुआ है। इसलिए अब साक्षात्कार कराकर जल्द अंतिम रिजल्ट देने की तैयारी है।

डीएसओ ने अमृतपुर पूर्ति निरीक्षक को पैदल किया, सभी चार्ज छीने

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) बीते कई दिनों ने बिना बताये अनुपस्थित चल रहे पूर्ति निरिक्षक पर आखिर विभागीय गाज गिर गयी| डीएसओ ने पूर्ति निरीक्षक का चार्ज फ़िलहाल छिन लिया|
अमृतपुर के पूर्ति निरीक्षक संतोष कुमार श्रीवास्तव को बीते 11 जून को जिला पूर्ति अधिकारी जीवेश कुमार मौर्य ने अनुपस्थित होंने के सम्बन्ध में नोटिस जारी किया था| जिसके जबाब के लिए तीन दिन का समय दिया गया था|
लेकिन जबाब ना देनें पर डीएसओ जीवेश कुमार मौर्य ने पूर्ति निरीक्षक संतोष के सभी अधिकार सीज कर दिये गये| फ़िलहाल अस्थाई रूप से पूर्ति निरीक्षक का चार्ज पूर्ति निरीक्षक रणधीर कुमार को दिया गया है|

मुनीम की जेब काटकर नकदी साफ

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: टैम्पो पर सबार होकर जा रहे मुनीम की जेब काटकर टप्पेबाज पल्सर से फरार हो गया| घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पंहुची और जाँच पड़ताल की|
कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के गोला कोहना निवासी राकेश वर्मा पुत्र मुंशी लाल शहर कोतवाली क्षेत्र के ठंडी सड़क स्थित एक टूरिस्ट बस सर्विस में मुनीम का कार्य करता है| राकेश ने बताया कि वह अपनी ठंडी सड़क स्थित दुकान से फतेहगढ़ जाने के लिए टैम्पो में बैठा| वही रास्ते में एक युवक भी टैम्पों में बैठ गया|
राकेश ने बताया कि लाल दरवाजे पर पंहुचा तो उसे पता चला की उसकी जेब काट दी है| उसी समय पास में बैठा युवक चलती टैक्सी में से कूदकर अपने साथी की काली पल्सर पर बैठकर फरार हो गया| राकेश के अनुसार उसकी जेब में 10 हजार रूपये थे| घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पंहुची और जाँच पड़ताल की|
कादरी गेट चौकी इंचार्ज बलराज भाटी ने बताया कि जाँच पड़ताल की जा रही है| तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी| 

बेटियां एक नहीं करती दो कुलों का कल्याण: प्रेमभूषण

0

Posted on : 13-06-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद)  श्री रघुनाथ कथा के अष्टम दिन कथा पांडाल खचा-खच नजर आया| इस दौरान कथा व्यास ने हनुमान, सुग्रीव मिलन और शबरी प्रेम का मनोहारी वर्णन किया|
सहसपुर में चल रही श्री रघुनाथ कथा में बोलते हुए कथा व्यास प्रेम भूषण महाराज ने कहा कि स्वामी का मन ही सेवक का मन है। क्यों कि स्वामी के हृदय में सेवक का मन वास करता है। जो स्वतः स्फूर्ति व्यवहार करता है वह उसकी निजता है। निजता को कोई ले नहीं सकता। सन्त जी ने कहा बेटियां धन है, बेटियां घर का श्रंगार है, बेटियां एक नहीं दो कुलों का कल्याण करती है| उन्होंने कहा कि श्रेष्ठतम की प्राप्ति कठोरतम तप का परिणाम है।
ग्रहस्थ आश्रम में बहुत कठोर नियमों का निर्णय नहीं लेना चाहिये। नियम सदैव सहज और मीठा होना चाहिये। धर्म में जीवन जीने से सुख और समृद्धि परिवार में सदैव बनी रहती है। सत्य को बदला नहीं जा सकता है। सत्य अपरिवर्तनीय सत्ता है। सुन्दता जीव के सत्कर्मो का फल है। प्रशंसा से जीव में ऊर्जा भर जाती है।
उन्होंने कहा कि सरकार ने मेरे दर्शन का फल यह है जीव को उसका सहज स्वरूप प्राप्त हो जायेगा हमारा स्वरूप क्या है। हम ईश्वर के अंश है हम आप कैसे है या तो ईश्वर जैसे है या अपने में बुराई दर्शन न करें, अपने में अच्छाईयां दर्शन करें। धीरे-धीरे हमारे अन्दर अच्छाईयां उतरती चली जायेगी। बुराईयां अपने आप हट जायेंगी।
कथा के बाद मुख्य यजमान डाॅ0 अनुपम दुवे एडवोकेट ने अपनी पत्नी मीनाक्षी दुवे, ब्लाक प्रमुख अमित दुवे ‘बब्बन’, अनुराग दुवे ‘डब्बन’ सीतू दुवे एवं परिवार के साथ आरती उतारी। भक्तों को प्रसाद वितरण किया गया। इस मौेके पर सांसद मुकेश राजपूत फर्रूखाबाद, शैलेन्द्र अग्निहोत्री चेयरमैन कन्नौज, प्रशून पाठक , पूर्व विधायक कुलदीप गंगवार, सत्यव्रत पाण्डेय, रामजी पाठक, आशुतोष मिश्रा, शिव प्रताप सिंह चीनू, पंकज मिश्रा, श्याम सुन्दर, कैलाश गुप्ता, निशान्त पाण्डेय लखनऊ, चन्दन त्रिपाठी, सुभाष गौतम मथुरा, जगदीश दुवे एडवोकेट कन्नौज आदि लोग उपस्थित रहे।