पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत

0

Posted on : 16-04-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, राष्ट्रीय

नई दिल्ली:उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि  रोहित शेखर तिवारी की दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी स्थित घर में मौत हो गई।
ज्वाइंट कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव के मुताबिक, शेखर के नाक से खून निकल रहा था। घर पर मौजूद नौकरों ने शेखर की मां को फोन किया जो उस वक्त अस्पताल में चेक अप करवाने गई थी, शेखर की मां अस्पताल से डिफेंस कॉलोनी स्थित अपने घर पहुंची और एम्बुलेंस से मैक्स अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने शेखर को मृत घोषित कर दिया। रोहित शेखर के डिफेंस कॉलोनी स्थित घर को फिलहाल पुलिस ने कब्जे में लिया हुआ है। फिलहाल पुलिस रोहित के घर अंदर मौजूद है और छानबीन जारी है।
शाम चार बजे परिजनों को चला पता
बताया जा रहा है कि परिजनों ने मंगलवार शाम को 4 बजे रोहित शेखर तिवारी को उनके कमरे में जगाने की कोशिश की। उन्होंने देखा कि उनका हाथ और पैर ठंडा पड़ा हुआ है। इसके बाद उन्हें मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया। रोहित को पत्नी और मां ने अस्पताल में भर्ती करवाया था। मौत किस वजह से हुई अभी इसकी जानकारी नहीं मिल पायी है
मैक्स हॉस्पिटल की तरफ से बताया गया कि रोहित शेखर तिवारी के घर से मंगलवार शाम 4.41 बजे इमरजेंसी फोन आया था। जांच में देखा गया कि रोहित मृत अवस्था में थे। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। वहीं, साउथ दिल्ली के डीसीपी विजय कुमार का कहना है कि रोहित शेखर तिवारी को मृत अवस्था में मैक्स हॉस्पिटल लाया गया था। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।
लंबी कानूनी लड़ाई के बाद एनडी तिवारी ने माना था बेटा
रोहित शेखर ने एनडी तिवारी को अपना पिता साबित करने के लिए लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी थी। इसके लिए डीएनए टेस्ट भी कराया गया था, तब जाकर तिवारी ने रोहित को अपना बेटा माना था। लंबी लड़ाई से थकने के बाद 90 साल की उम्र में एनडी तिवारी ने सार्वजनिक रूप से मान लिया था कि रोहित शेखर उनके बेटे हैं। इसके बाद उन्होंने बेटे रोहित को अपनी राजनीतिक विरासत सौंप दी थी।रोहित शेखर साल 2017 में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा में शामिल हुए थे। वे दिल्ली में अपनी मां उज्ज्वला और पत्नी अपूर्वा शुक्ला के साथ रहते थे। साल 2018 में रोहित की शादी इंदौर निवासी अपूर्वा शुक्ला से हुई थी।
राजनीति में एनडी तिवारी का बड़ा कद था
कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का राजनीतिक कद इसी से लगाया जा सकता है कि वे उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे। वे यूपी के चार बार मुख्यमंत्री रहे। 21 जनवरी 1976 को एनडी तिवारी पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे। साल 1988 में चौथी बार उन्होंने सीएम पद की शपथ ली। 2002 में उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बने। इसके बाद 2007 में एनडी तिवारी को आंध्र प्रदेश का राज्यपाल बनाया गया।

बूथ पर समस्या हो तो पुलिस को करें फोन

0

Posted on : 16-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, लोकसभा चुनाव 2019

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन पूरी ताकत के साथ लगा है| चुनाव प्रेक्षक ने अति संवेदनशील बूथों का निरीक्षक किया|
चुनाव प्रेक्षक महेश कुमार जैन ने सीओ राजवीर सिंह व थानाध्यक्ष अंगदसिंह के साथ क्षेत्र के तकरीबन एक दर्जन गांवों में जाकर बूथों के हालात देखे|उन्होंने ग्रामीणों से आगामी 29 अप्रैल को मतदान जरुर करने की अपील की| उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि यदि मतदान के दौरान बूथ पर कोई समस्या हो तो पुलिस क सूचना दें|उन्होंने तकरीबन एक दर्जन गाँवो का दौरा किया|
उन्होंने भड़ोसा,न्यामतनगर,जरारी,गदनपुर,तुर्रा,जहांगीरपुर,नगला भटोसा,झसी,शरफाबाद, सिथौली व पकड़िया आदि गाँवो में प्रेक्षक गये| उन्होंने मतदाताओं से लोकतन्त्र के पर्व में बढ़-चढ़ के हिस्सा लेनें की बात कही|

किशोरी ने दिया बेटी को जन्म,कलयुगी पिता ने दोनों को उतारा मौत के घाट

0

Posted on : 16-04-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

बिजनौर: स्योहारा थाना क्षेत्र के ग्राम टांडा गामडी में सोमवार की शाम को एक लोमहर्षक वारदात में एक निर्दयी पिता ने अपनी किशोरी बेटी और उसकी नवजात पुत्री को मौत के घाट उतार दिया। इस विभत्स घटना से पूरे गांव में सनसनी फैल गई। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।
नहर के किनारे कर दिया अंतिम संस्कार
एक 16 वर्षीय किशोरी का प्रसव होने पर सोमवार की शाम एक निर्दयी पिता ने अपनी पुत्री को मौत के घाट उतार दिया। इससे पूर्व किशोरी के पिता ने नवजात शिशु का गला रेत कर उसका शव कपड़े के थेले मे भर लिया और रात के समय गांव के पास नहर के किनारे दोनों का अंतिम संस्कार भी कर दिया। इस घटना से ग्रामीण सन रह गए।
पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर मंगलवार की सुबह पुलिस ने गांव में पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस आरोपित राजपाल उर्फ पलवा की दो अन्‍य पुत्रियों को पूछताछ के लिये थाने ले गई है। घटना के बाद से आरोपित पलवा और उसकी पत्नी अपने घर से फरार है। थानाध्यक्ष उदय प्रताप का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। दोनों के शवों की राख को जांच के लिए ले लिया गया है।

लोकसभा चुनाव को 15 जोनल मजिस्ट्रेट व 32 मास्टर ट्रेनर तैनात

0

फर्रुखाबाद:लोकसभा चुनाव शांतिपूर्व ढंग से सम्पन्न कराने के लिए 15 जोनल मजिस्ट्रेट की तैनाती की गयी है| इसके साथ ही कुल 32 मास्टर ट्रेनर भी लगाये गयें है|
जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी ने जिले को 15 जोंन में बांटा है| जिसके तहत जिले को 15 जोंन में बांटा गया है| अधिशाषी अभियंता विधुत ग्रामीण रमेश चन्द्र,भूमि संरक्षण अधिकारी सुशील कुमार उत्तम,अधिशाषी अधिकारी लोकनिर्माण विभाग आदित्य कुमार,अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत एनपी सिंह,अपर मुख्य चिकित्साधिकारी दलवीर सिंह,मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 राजकिशोर,अधिशाषी अधिकारी विधुत ग्रामीण धनश्याम कसेरवाल,अधिशाषी अधिकारी जल निगम सुनील कुमार,जिला गन्ना अधिकारी अजय कुमार,प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी वीके उपाध्यय,महाप्रबन्धक चीनीमिल कायमगंज डीके सक्सेना,अधिशाषी अधिकारी विधुत (शहरी) पंकज अग्रवाल,अधिशासी अभियंता नलकूप रणवीर सिंह चौहान,अधिशासी अधिकारी सिचाई सुशील कुमार,अधिशाषी अधिकारी सिचाई सुशील कुमार को जोनल मजिस्ट्रेट बनाया गया है| वही 32 लोगों को मास्टर ट्रेनर बनाया गया है|

जनता कहिन-2 क्या कहती है फतेहगढ़ की जनता अपने नेता के बारे में

0

Posted on : 16-04-2019 | By : पंकज दीक्षित | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: क्या कहती है जनता अपने नेता के बारे में| क्या है जनता के मूड में और अपने नेता से है क्या उम्मीदो/ वर्तमान सांसद मुकेश राजपूत को मिलेगा दुबारा मौका या फिर मनोज मार ले जायेंगे बाजी, सलमान खुर्शीद के फिर से सांसद बनने के कितने है चांस| शिवपाल की पार्टी प्रगतिशील गठबंधन का नगर फर्रुखाबाद में क्या है बोलबाला? सब जानिये आज के एपिडोस में- फतेहगढ़ कचहरी से कोतवाली होते हुए भोलेपुर तक की जनता क्या कहती है….