पुलवामा हमले को लेकर जारी रहा गम और गुस्सा

0

Posted on : 18-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS
सेट्रल जेल चौराहे पर आतंकवाद और पाक का पुतला फूंकते युवा
कम्पिल में रैली निकालते स्कूली छात्र

फर्रुखाबाद:पुलवामा में आतंकी घटना में सैनिकों के शहीद होने पर गम और गुस्सा लोगों में बरकरार है। आतंकवाद के खिलाफ प्रदर्शन, पुतला दहन, नारेबाजी, कैंडिल मार्च और रैली निकालने का सिलसिला बना है। सोमबार को भी जिले में कई जगह कैंडिल मार्च और पुतला दहन किया गया|सेन्ट्रल जेल चौराहे पर भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने पुतला फुंककर पाक मुर्दाबाद के नारे लगाकर भारत माता की जय के गगन चुम्भी जयकारे लगाये|वही नेकपुर में पूर्व सैनिकों ने कैंडिल जुलूस निकाला| लोगों के जहन में पाक के खिलाफ फुस्सा साफ दिख रहा था|कैंडिल मार्च निकाल तो कहीं सभा आयोजित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। कम्पिल स्थिति बाबू नारायन सिंह शिक्षण संस्थान के छात्र छात्राये आतंकवाद के विरोध स्वरूप हाथो में काली पट्टी बांधकर कस्बे के मुख्य मार्गों से होते हुए थाना कम्पिल पहुंचे वहां पर स्कूल के प्रबंध तंत्र के सदस्य राजेश कुमार शाक्य ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन थाना प्रभारी को सौंपा,

हिन्दू महासभा की फर्रुखाबाद व कन्नौज की जिला कमेटी भंग

0

Posted on : 18-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS
अधिवक्ता दीपक द्विवेदी

फर्रुखाबाद: अखिल भारतीय हिन्दू महासभा की जनपद एवं कन्नौज की जिला ईकाई सहित सभी प्रकोष्ठों को भंग कर दिया गया है| वही अब सदस्यता अभियान चलाने के बाद ही नई कमेटी के विषय में संगठन विचार करेगा|संगठन के प्रदेश विधिक सलाहकार व प्रदेश प्रवक्ता दीपक द्विवेदी एडवोकेट ने बताया कि जिलाध्यक्ष पियूष कान्त वर्मा के आदेश पर जनपद एवं कन्नौज जनपद की भी जिला कमेटी को भंग किया है| जिसके अब फर्रुखाबाद जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा व कन्नौज जिलाध्यक्ष पंकज वर्मा को तत्काल पदमुक्त कर दिया गया है| अब संगठन आगामी 24 फरवरी से 24 अप्रैल तक सदस्यता अभियान चलेगा|इसके बाद नयी कमेटी का गठन करने पर विचार किया जायेगा| वही पूर्व जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा ने जारी किये गये प्रेस नोट में कहा है कि अब हिन्दू महासभा में माहौल ठीक नही रह गया है| जिसके चलते वह संगठन का कार्य करने में के लिए तैयार नही है| संगठन में केबल कार्यकर्ता का उपयोग और धन उगाही की जाती है| इस लिए वह खुद संगठन को त्याग पत्र दे रहे है|

ईशान व उसके दो भाईयों सहित आठ पर संगीन धाराओं में मुकदमा

0

Posted on : 18-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: पुलिस ने बीती देर रात ईशान व उसके दो भाईयों सहित चार के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया| पुलिस ने अभी ईशान की तरफ से मुकदमा दर्ज नही किया है|बीजेपी नेता राजू गुप्ता की पत्नी अनुराधा गुप्ता ने बीती देर रात शहर कोतवाली में तहरीर दी|जिसमे उन्होंने कहा है कि उनके पति राजू गुप्ता अपने मित्र पंकज गुप्ता के साथ खड़े थे|तभी अचानक अनीश,ईशान,जुबैर सहित तीन चार अज्ञात लोग आ गये| उन्होंने राजू गुप्ता पर तलबार से हमला कर दिया| जब वह बचन के लिए दुकान के भीतर भागे तो उनके पुत्र प्रांशु ने भी उन्हें बचाने का प्रयास किया तो उसके ऊपर भी धारदार हथियार से हमला कर दिया गया| इसके बाद जब अनुराधा चिल्लाई तो उनके ऊपर ईशान ने तमंचे से फायर किया जो मिस हो गया| पुलिस ने तहरीर के आधार पर ईशान,अनीश व जुबैर सहित चार अज्ञात के खिलाफ धारा 147,148,149,307,323,504,506,452 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है| पुलिस ने ईशान के भाई इकबाल और बहनोई शाहनवाज व गोविन्द सक्सेना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया|

भाजपाईयों और पुलिस में तीखी झडप,आधी रात तक चला हंगामा

0

Posted on : 18-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

रुपेश गुप्ता की स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित से होती नोकझोंक

फर्रुखाबाद: बीती रात लोहिया अस्पताल में भाजपा नेता राजू गुप्ता व ईसान के दोनों पक्षों में तीखी झडप की आशंका के चलते भारी पुलिस बल बुला लिया गया| वही भाजपा नेताओं ने पुलिस लापरवाही का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया| बाद में एसपी ने मौके पर आकर मामले को शांत किया| आधी रात तक भाजपाईयों ने जमकर हंगामा किया| शहर कोतवाली के रेटगंज निवासी राजू गुप्ता व ईसान के बीच हुए खुनी संघर्ष के बाद दोंनों पक्षों ने चार लोगों को लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया|जिसके चलते दोनों पक्षो के सैकड़ों लोग मौके पर आ गये| उसी दौरान लोहिया गेट से ईसान समर्थकों ने कुछ अभद्र भाषा का प्रयोग कर दिया| जिससे मौके पर राजू के समर्थन में खड़े भाजपा नेता भडक गये| भाजपा नेता अंकुर मिश्रा व शिवम दुबे आदि दर्जनों भाजपाईयों ने उन्हें दौड़ा लिया| वह युवक आवास विकास के एक निजी नर्सिग होम में घुस गये| जिसके बाद भाजपाई हंगामा करते हुए अस्पाल में दाखिल हो गये|उन्होंने युवकों को बाहर निकालने का प्रयास किया| लेकिन पुलिस ने भाजपईयों को रोंक दिया| जिस पर उनकी पुलिस ने झडप हो गयी| पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर दी| पुलिस ने हंगामा कर रहे भाजपाईयों को अस्पताल से बाहर किया|भाजपाई उन युवकों को पकड़ने की मांग कर रहे थे जो लोहिया गेट पर अभद्र का प्रयोग कर भागे थे| हंगामे की जानकारी होने पर भाजपा एएसपी त्रिभुवन सिंह मौके पर आ गये|उन्होंने भाजपा नेताओं से उचित कार्यवाही का भरोसा दिया|उसी दौरान भाजपा नेताओं ने पुलिस पर आरोपियों को बचाने का आरोप लगा कर पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद की नारेबाजी कर दी| यह देखकर एएसपी त्रिभुवन सिंह पुलिस को लाठियां चलाने के निर्देश दिए| इसके बाद पुलिस ने भाजपा नेताओं को खदेड़ना शुरू कर दिया| भाजपा नेता रुपेश गुप्ता सड़क पर खड़े थे उन्हें स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित ने धक्का देकर हटाया तो वह भडक गये उन्होंने कहा की वह क्या उन्हें जानते नही है|यह देखकर भाजपाईयों व पुलिस में जमकर धक्का-मुक्की हो गयी|भाजपा नेता अंकुर मिश्रा ने आरोप लगाया की सरकार होने के बाद भी कार्यकर्ताओं के सम्मान के साथ खिलबाड किया जा रहा है| वह जमीन पर बैठ गये|लेकिन उन्हें कार्यकर्ताओं ने उठा लिया|रुपेश गुप्ता ने एएसपी के सामने स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित की शिकायत की| उन्होंने कहा स्वाट टीम प्रभारी शराब के नशे में है| क्या डियूटी के दौरान शराब पीना क़ानूनी रूप से बैध है| जिस पर स्वाट टीम प्रभारी व रुपेश में फिर कहा सुनी हो गयी| जिला महामंत्री शैलेन्द्र सिंह राठौर से भी पुलिस ने अभद्रता करने का प्रयास किया|मामला बिगड़नें की खबर पर एसपी संतोष मिश्रा भी मौके पर आ गये| उन्होंने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को उचित कार्यवाही का भरोसा दिया|इसके बाद मामला शांत हुआ| इस दौरान भाजयुमो जिलाध्यक्ष मयंक बुंदेला आदि रहे|

जिले की शांति को सम्प्रदायिकता की आग में धकेलने का हुआ प्रयास!

0

Posted on : 18-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:भाजपा नेता राजू गुप्ता व ईशान के मामले को रात भर साम्प्रदायिक तूल देनें का प्रयास किया गया| लेकिन फ़िलहाल उसमे सफलता नही मिल पायी है| दरअसल राजू गुप्ता व ईशान के बीच खूनी रंजिश आज की नही है| यह रंजिश लगभग 9 साल पुरानी है| दोनों पक्षों में इससे पूर्व भी कई बार खूनी संघर्ष हुआ| दोनों एक ही मोहल्ले के होनें के कारण अक्सर विवाद हो जाता है| आप को बताना जरुरी है कि यह रंजिश लगभग वर्ष 2011 से चल रही है| 3 मई 2011 को दुकान को ईशान व राजू गुप्ता के बीच जमकर विवाद हुआ था|विवाद के दौरान राजू ने मारपीट कर फायरिंग करने के आरोप में ईशान सहित चार लोगों के खिलाफ जान लेना हमले आदि में मुकदमा दर्ज कराया था| यही से मुख्य रूप से खूनी रंजिश ने जन्म लिया|एक दूसरे के खिलाफ स्वाभिमान की लड़ाई यही से शुरू हुई| 14 सितम्बर 2017 को भी ईशान के खिलाफ राजू ने एक और मुकदमा दर्ज कराया था| जिसको लेकर आपसी रंजिश और बढ़ गयी|बीते 4 नवम्बर 2017 को पूर्व एमएलसी मनोज अग्रवाल की लाल दरबाजे स्थित माँ रसोई के बाहर राजू गुप्ता व उनके पुत्र ने ईशान को पकड़ कर जमकर पीट दिया था| राजू का आरोप था की उसके खिलाफ मुकदमा है और पुलिस उसे गिरफ्तार नही कर रही थी इस लिए उसे पकड़ा तो ईशान के साथ राजू का उस दिन भी जमकर खूनी संघर्ष हुआ था| बीती रात एक बार फिर से दोनों के जख्म ताजा हो गये| जुलूस के दौरान पटाखा ईशान का मित्र रेटगंज निवासी गोविन्द पुत्र मुन्नू सक्सेना  चला रहा था| साथी की पिटाई होते देख ईशान उसकी मदद में आ गया तो राजू और ईशान के पुराने जख्म फिर से हरे हो गये और गोविन्द को छोड़ राजू और ईशान में महाभारत हो गयी| बीच सडक पर लाठी डंडे चले और एक दूसरे को खून से लाल किया गया|इसके बाद भी दोनों पक्षों से सांप्रदायिक तूल देनें का प्रयास किया गया|