कश्मीर में सक्रिय आतंकियों के सफाए का खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों को निर्देश

0

Posted on : 16-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय, सामाजिक

नई दिल्ली:पुलवामा हमले के जवाब में पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई के लिए सेना को खुली छूट के बाद केंद्र सरकार ने घाटी में सक्रिय आतंकियों के खात्मे के लिए हर संभव कदम उठाने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही पूरे देश में सुरक्षा तंत्र को चुस्त-दुरूस्त करने को कहा गया है ताकि देश के किसी भी भाग में आतंकी अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो पाए।
शनिवार को आंतरिक सुरक्षा के हालात के लिए राजनाथ सिंह ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में एनएसए अजीत डोभाल, खुफिया ब्यूरो के निदेशक राजीव जैन, रॉ प्रमुख अनिल धसमाना के साथ गृह सचिव राजीव गौबा भी मौजूद थे। वरिष्ठ अधिकारियों ने देश में आंतरिक सुरक्षा की मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी। राजनाथ सिंह ने उन्हें निर्देश दिया कि खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों को पूरे देश में चौकन्ना रखा जाए ताकि कोई भी आतंकी वारदात को अंजाम देने में सफल नहीं हो सके।
श्रीनगर के दौरे से एक दिन पहले ही लौटे राजनाथ सिंह ने कश्मीर के हालात पर अधिकारियों पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों को वह हर संभव कदम उठाने चाहिए जिससे घाटी में इस समय सक्रिय आतंकियों को ढूंढ-ढूंढकर मारा जा सके।
उनका कहना था कि कश्मीर में कोई भी आतंकी बचना नहीं चाहिए और इसके लिए कश्मीर की आंतरिक सुरक्षा में तैनात सुरक्षा बलों को पूरी छूट है। माना जा रहा है कि राजनाथ सिंह के स्पष्ट निर्देश के बाद घाटी में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई और तेज होगी।
केंद्र ने राज्यों से कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा
नई दिल्ली। केंद्र ने शनिवार को सभी राज्यों से अपने यहां रहने वाले जम्मू एवं कश्मीर के निवासी छात्रों और लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद ऐसे लोगों पर खतरा देखते हुए यह निर्देश दिया है।निर्देश देने से पहले सर्वदलीय बैठक में गृह मंत्री राजनाथ ने कश्मीरी छात्रों और लोगों की सुरक्षा का भरोसा दिया था।
उन्होंने कहा था कि इसके लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर के छात्रों और अन्य निवासियों को धमकी मिलने की जानकारी सामने आई है। इसी बात को ध्यान में रखकर गृह मंत्रालय ने शनिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को परामर्श जारी किया है।उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में रहने वाले कुछ कश्मीरी छात्रों ने आरोप लगाया है कि उन्हें प्रताड़ित किया गया है और उनके मकान मालिक ने आवास खाली करने को कहा है।

साँस्कृतिक धरोहरों को सहेजने की जरूरत:डॉ० लवकुश

0

Posted on : 16-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:जनपद आये आगरा विश्व विधालय के इतिहास एवं पुरातत्व पर्यटन एंव होटल मैनेजमेन्ट के विषेशज्ञ व राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के प्रदेश महामंत्री डॉ० लवकुश मिश्र ने साफ कहा कि आज हम सभी को साँस्कृतिक धरोहरों को सहेजने की जरूरत है और अभियान चलाकर नौनिहालों को को इतिहास से परिचय कराने की जरूरत है|
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के जिलाध्यक्ष संजय तिवारी के नेकपुर स्थित आवास पर आये डॉ० लवकुश मिश्र ने कहा कि आज हम अपनी साँस्कृतिक धरोहरों की अनदेखी कर रहे है| यह भविष्य को गर्त में ले जाने वाली बात है| आज हम सभी को अपनी साँस्कृतिक धरोहरों को सहेजने की जरूरत है| इस तरफ हम सभी को रूचि रखनी चाहिए| उन्होंने कहा कि हम सभी को साँस्कृतिक धरोहरों को सहेजने की जरूरत है| साथ ही इतिहास से भी अभियान चलाकर नौनिहालों को परिचित कराने की जरूरत है| इस दौरान अनुपम चतुर्वेदी,हुकुम सिंह,दयाशंकर सिंह,ओमप्रकाश शर्मा आदि रहे|
इसके साथ ही साथ पांचालघाट पर आयोजित पांचाल सम्मेलन में भी उन्होंने हिस्सा लिया| इस दौरान महामंडलेश्वर स्वामी योगीराज जयदेवानन्द सरस्वती ने ज्ञान का दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया| इस दौरान भी श्री मिश्रा ने अपने विचार व्यक्त किये| इस अवसर पर डा0 रामकृश्ण राजपूत,भूपेन्द्र सिंह,अनिल सिंह,महेश सिंह उपकारी,कैलाश चन्द्र कटियार,राममुरारी शुक्ला,आदि मौजूद रहे। संचालन ब्रजकिशोर सिंह ने किया।

पंजाब प्रदेश सहित 15 जिलों के 78 बंदियों को सेन्ट्रल जेल से मिली रिहाई

0

Posted on : 16-02-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:शासन के आदेश के बाद सेन्ट्रल जेल में सजा काट रहे बंदियों को अब नयी उम्मीद जाग गयी है| चौथे चरण में कुल 78 बंदियों को और रिहाई दे दी गयी| जेल से बाहर निकले बंदियों ने आतंकवाद के खिलाफ अपना आक्रोश प्रगट किया| और कहा कि जिस तरह से हम सभी ने जो अपराध किया था उसकी सजा कानून ने उन्हें दी| उसी तरह जो पाक ने जघन्य अपराध किया है सरकार उनको कठोर सजा दे|
सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बीते 9 फरवरी को कुल 35 बंदियों की रिहाई हुई थी| उसके बाद 12 फरवरी को 30 बंदी रिहा किये गये| 13 फरवरी को पुनः 61 बंदियों को आजादी मिल गयी| इसके ठीक तीन दिन बाद वह मौका शनिवार को पुन: आ गया जिसमे 78 बंदियों को फिर रिहाई दी गयी| जेल से रिहा हुए वृद्ध बंदियों को उनके परिजन सहारा देकर घर ले गये| अपनों को वर्षो बाद आजाद देखने और अपनों से वर्षों के बाद सलाखों के बाहर आकर मिलने का दौर चला तो आँखों में आंसू भी आ ही गये| लेकिन उसी में एक वृद्ध व दिव्यांग बंदी वह भी था जिसको लेने कोई भी नही आया| हरदोई जनपद के मटियामऊ मल्लावां निवासी फहीम पुत्र नन्हू पैरो से चलने से लाचार था| उसके अकेला देखकर कारापाल पीके सिंह ने उसको जेल की एम्बुलेंस से घर भेजा| वही पंजाब प्रदेश के जिला लुधियाना सानेवाल भूखडी कला निवासी सरदार अमरजीत उर्फ़ जोगा पुत्र शेर सिंह जब जेल से बाहर आया तो पहले उसने जेल गेट के बाहर धरती के पैर छुए और उसके बाद रवाना हुआ|
15 जनपदों के बंदियों को मिली रिहाई
शनिवारकोजालौन,कन्नौज,एटा,कानपुरनगर,मैनपुरी,उन्नाव,फतेहपुर,लुधियानापंजाब,प्रतापगढ़,हरदोई,फर्रुखाबाद,कासगंज,लखनऊ,इटावा,औरैया के बंदियों को रिहाई मिली| सेन्ट्रल जेल अधीक्षक एसएचएम रिजवी,जेलर पीके सिंह आदि रहे|

पुलवामा हमले पर पाक के खिलाफ थम नहीं रहा जनाक्रोश

0

Posted on : 16-02-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:पुलवामा आतंकी हमले को लेकर जनाक्रोश थमने के नाम नहीं ले रहा है| दुसरे दिन भी लोगों ने सडकों पर प्रदर्शन कर पाक की नापाक हरकत के चलते उसके खिलाफ नारेबाजी कर पुतले फूंके|
राजेपुर कस्बे में पुलवामा आतंकी हमले को लेकर पूर्व सैनिको ने शहीद हुए अपने साथियों को श्रधांजलि देते हुए केंडल मार्च निकाला।
करीब एक दर्जन पूर्व सैनिक राजेपुर रामलीला मैदान में एकत्रित हुए पहले मौन रखकर डाक बंगला तिराहे तक कैंडल मार्च निकाला । इसमे ग्रामीणों बुजुर्गो ने भी साथ दिया । उमेश कुमार सिंह,ब्रजेश कुमार सिंह,राम प्रकाश सिंह,राजेन्द्र सिंह,जगदीश सिंह,केपी सिंह , राम सरन,छोटे सिंह आदि लोग मौजूद रहे।
नगर में मुस्लिम महासभा ने प्रदर्शन कर पाक का पुतला फूंका| वही पुलवामा में शहीद हुए जबानों के परिवार को आर्थिक रूप में
तहसील बार एशोसिएशन के अधिवक्ताओं ने तहसील सदर में चंदा एकत्र कर 21 हजार धनराशि जुटाई ।
मेहंदी हसन मेमोरियल इंटर कॉलेज जरारी प्रबंधक हाजी अब्दुल समीद व संचालक परवेज अहमद,मोहम्मद नसीम प्रधानाचार्य,अंजुम बानो,अफजाल,शादाब,नाजिम,घनश्याम यादव,मनोज यादव व केंद्र व्यवस्थापक जिया उल हक आदि ने कैडिल जलाकर शहीदों की श्रद्धांजलि दी| मदरसा जफरुल इस्लाम जरारी में भी कैडिल मार्च निकाला गया| इस दौरान आदिल,मुबीन सिद्दीकी व खुर्शीद व मुजीब व प्रदीप व आमिर सिद्दीकी व शाहिला बानो आदि रहे|
जरारी में खूब लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे
पुलवामा आतंकी हमले को लेकर जरारी गाँव में भी जनाक्रोश दिखा| गाँव के अधिकतर ग्रामीण एक छत के नीचे पाकिस्तान के खिलाफ खड़े नजर आये| सभी ने शहीदों की शहादत को याद करते हुए गाँव में कैडिल मार्च निकाला| इस दौरान आफ़ताब,कामरान,जाबेद,चंदा होटल वाले आदि रहे|
प्राथमिक शिक्षक संघ ने भी फूंका पुतला
बीआरसी राजेपुर में प्राथमिक शिक्षक संघ व उत्तर प्रदेश शिक्षक संघ के नेतृत्व में पुलबामा में भारत के सैनिकों पर हुए आतंकी हमले में शहीदों को शिक्षको द्वारा शोक सभा कर दो मिनट का मौन रखकर भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई| इसी दौरान हमले के विरोध में जुलुस मुख्य मार्ग से होते हुए पाकिस्तान हाय हाय,अजहर मसूद मुर्दाबाद,हाफिज सईद मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए राजेपुर तिराहे पर आतंकियों के पुतले फूंके गये| शिक्षिका मधुबाला त्रिवेदी ने शहीदों के सहायतार्थ दो हजार की चेक जिलाध्यक्ष भूपेश पाठक को भेंट की शिक्षको ने अपने वेतन से 1000 रु शहीदों को दान देने हेतु संघ को आश्वाशन दिया, मौके पर भूपेश पाठक,प्रदीप चतुर्वेदी,संतोष गुप्ता ,ओमनारायण मिस्र, राजेश यादव,मनोजशाक्य, के के दिक्सित,मल्लिका सिंह,संगीता गुप्ता सहित सैकड़ों शिक्षक मौजूद रहे।
वही संस्कार भारती ने नया कोटा पार्चा में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर भारत माता के चित्र के सामने कैंडिल जलाकर व पुष्पांजलि अर्पित कर शोख सम्मवेदना व्यक्त की| इस दौरान अध्यक्ष डॉ० रविन्द्र यादव,संजय गर्ग,सुरेन्द्र पाण्डेय,नबीन मिश्रा,उपकार मणि,अनुभव सारस्वत आदि रहे|
प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया एसोसिएशन ने नगर में कैंडिल मार्च निकाल कर शहीदों के प्रति अपनी सम्बेदना व्यक्त की| इस दौरान एसोसिएशन के राष्टीय अध्यक्ष विनय कुशवाह,इंदु अवस्थी आदि रहे| जिला उद्योग प्रतिनिधि मंडल में चौक पर कैंडिल जलाकर अपनी श्रद्धांजलि दी| इस दौरान अध्यक्ष राजीव अग्रवाल,पुन्नी शुक्ला,किशन कन्हैया सक्सेना,हरीशचन्द्र वर्मा,प्रमोद जैन,डालचंद कठेरिया आदि रहे|

थानों में एसपी ने नये सिपाहियों को सिखाये डियूटी के टिप्स

0

Posted on : 16-02-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कमालगंज/जहानगंज)पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा ने थाना कमालगंज व जहानगंज का दौरा किया| जंहा उन्होंने थाना दिवस में आये फरियादियों की समस्याओं को सुना और वही नये तैनात किये गये सिपाहियों को डियूटी के टिप्स भी दिए|
एसपी शनिवार को दोपहर कमालगंज थाने पंहुचे| जंहा उन्होंने थाना दिवस में रूट चार्ट के विषय में जानकारी की| उन्होंने सभी पुलिस कर्मियों को मुतैद रहने की नसीहत भी दी| इसके साथ ही उन्होंने प्रभारी निरीक्षक प्रदीप कुमार से क्षेत्र की आयी समस्याओं का निस्तारण जल्द करने के निर्देश दिए| इसके बाद वह जहानगंज थाने में आ गये| जंहा उन्होंने फरियादियों की समस्याओं को सुना और निस्तारण के निर्देश प्रभारी निरीक्षक संजीब राठौर को दिए|
उन्होंने नये तैनात किये गये 10 सिपाहियों से बीट प्लान की जानकारी ली| इसके साथ ही साथ आठ नम्बर रजिस्टर के बारे में जानकारी दी| इसके साथ ही उन्होंने आन लाइन केस डायरी में शिकायतों को दर्ज करने के निर्देश दिए| उन्होंने मुंशी राजेश व रामवीर सेंगर को निर्देश दिए की यदि काम करने में असुबिधा हो तो नये सिपाहियों को इस कार्य में लगाया जाये| सभी को दो-दो घंटे कार्यालय डियूटी पर लगाने के निर्देश दिए|