गठबंधन के पास PM के कई प्रत्याशी,भाजपा के पास नया नहीं:अखिलेश

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, धार्मिक, सामाजिक

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश सरकार से विचित्र मांग की है। प्रदेश में साधु-संतों को पेंशन देने की खबरों के बीच अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ सरकार से हर जगह पर रामलीला में काम करने वाले सभी कलाकारों को भी पेंशन देने की मांग कर दी है। इसके साथ ही गठबंधन के प्रधानमंत्री प्रत्याशी के बारे में कहा कि हमारे पास तो कई हैं, लेकिन भाजपा के पास कोई नया नाम नहीं है।
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने आज लखनऊ में पार्टी की छात्र इकाई के पदाधिकारियों से भेंट करने के बाद मीडिया को संबोधित किया। अखिलेश यादव आज लखनऊ में विभिन्न डिग्री कालेज में समाजवादी छात्रसभा के विजेता पदाधिकारियों से मिले और उनको शुभकामना दी। उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन के नेता के बारे में कहा कि हमारे पास तो प्रधानमंत्री के कई दावेदार हैं, लेकिन भाजपा के पास कोई नया नाम नहीं है। गठबंधन तो अपना प्रधानमंत्री आसीन करने की तैयारी में लगा है।
महागठबंधन के नेतृत्व के बारे में उन्होंने कहा कि हमारे पास बहुत विकल्प हैं। हमारे देश में नेतृत्व जनता खुद तय कर लेती है। आने वाले समय में जल्दी ही महागठबंधन का नेता तय होगा। देश नया प्रधानमंत्री का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। हम लोग भाजपा की सरकार को गिराने में लगे हैं और अपने प्रयास में सफल भी होंगे। अखिलेश यादव ने पत्रकार वार्ता में सपा बसपा गठबंधन की सीटों का विस्तृत ब्यौरा जारी करने की बात कही। रालोद व निषाद पार्टी को सीट देने के सवाल पर मौन रहे।
अखिलेश यादव ने कहा कि कहा जा रहा है कि दुनिया में भारत का डंका बज रहा है। इतना बड़ा झूठ बोलने में भी भाजपा को शर्म नहीं आ रही है। दुनिया में सबसे ज्यादा बेरोजगार भारत में ही रहते हैं। इसका भी डंका बज रहा है। हेल्थ इंडीकेटर्स पर जाएं और बीमारियों पर चर्चा करें तो कई स्टडी बताती हैं कि दुनिया में सबसे ज्यादा बीमारी भारत में फैल रही हैं। इसका भी डंका बज रहा है। कई रिपोर्ट बता रही हैं कि सबसे ज्यादा कैंसर पीडि़त भारत में ही है। इसके बाद आने वाले समय में सबसे ज्यादा कैंसर का खतरा भारतीयों को ही है।अखिलेश यादव ने कहा कि शिक्षा में क्या हाल है, तो डंका कैसे बज रहा है। दुनिया में कहीं भी भीड़ आदमी को मार रही हो। इसका भी तो डंका बज रहा होगा। दुनिया में सबसे ज्यादा झूठ भारतीय जनता पार्टी ने बोला है। उनकी राजनीतिक भाषा, व्यवहार जनता ने देख लिया है। अब उन्हें जनता बताएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि कोई राजनीतिक दल यह ट्रेनिंग नहीं देता होगा कि क्या भाषा होगी। भाजपा के लोग जो भारतीय संस्कृति की दुहाई देते हैं, सोचिए उनकी भाषा क्या है। यह तो कहिए आज जमाना डिजिटल है। राजनीति में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए। भाजपा की विधायक ने जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया है, वह राजनीति में कोई इस्तेमाल करता है क्या। अखिलेश ने कहा कि अभी तो चुनाव करीब आ रहा है। अभी कुछ लोगों की भाषा और निचले स्तर पर जाएगी।
जो लोग संस्कृति और समाज का ढंका पीटते हैं उनकी भाषा कल देखी आपने, बसपा की नेता आदरणीय मायावती जी के लिए जिस स्तर की घटिया भाषा का इस्तेमाल किया वह गलत है। इनके पास काम का कोई ब्यौरा नहीं है इसलिए इस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर ध्यान हटाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इस बार चुनाव में जनता उन्हें जवाब देने के लिए तैयार बैठी है। उसी महिला विधायक ने सपा के बारे में क्या कहा यह देखा है। मायावती जी के लिए जो शब्द इस्तेमाल किये गए हैं, उससे तो लग रहा है कि यह लोग फ्रस्टेट हैं। आंखों के सामने अंधेरा है उनके। अपने काम ना बता कर दूसरी तरफ चुनाव ले जाना चाहते हैं। अभी इनकी भाषा और गिरेगी।
यूपी में घुमंतू पशुओं की समस्या आगरा के एक किसान की मौत का कारण बन गयी. भाजपा की गलत नीतियों से पहले से ही परेशान किसान की अब सिर्फ़ फ़सल ही नहीं बल्कि जान भी दाँव पर लग गयी है. युवाओं और व्यापारियों-कारोबारियों के बाद अब किसानों की निगाह में भी ये सरकार ‘टोटल फ़ेल सरकार’ है.अखिलेश यादव ने भाजपा के विकास कार्य पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि वह महिलाएं इंतजार कर रही हैं, जिन्हें सिलेंडर और चूल्हा दिया गया था। चुनाव आए तो बताएं सिलेंडर कैसे भरा जाता है। वाराणसी में प्रवासी सम्मेलन पर अखिलेश यादव ने कहा हमें उम्मीद है कि कुंभ में नहाने के बाद वह यूपी में इन्वेस्टमेंट करेंगे। यूपी में इन्वेस्टमेंट तो हुआ नहीं। मैं एनआरआई का स्वागत करता हूं, काशी देखें, कुंभ देखें, मैं चाहता हूं कि लौटते समय एक्सप्रेस वे पर भी जाएं. ताकि पता करें काम कौन कर रहा है।
अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में सभी साधु -संतों को कम से कम 20-20 हजार रुपया महीना पेंशन मिलनी चाहिए। इसके साथ ही सरकार रामलीला में काम करने वाले सभी कलाकारों को भी पेंशन दे। इनमें राम, सीता व लक्ष्मण का रोल करने वालों को भी शामिल किया जाए। उनको भी पेंशन मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके बाद सरकारी खजाने से कुछ बचे तो रावण को भी पेंशन मिले। अखिलेश यादव ने कहा कि कुंभ में दान होता है। भारत सरकार यूपी को संगम किनारे का किला दान कर दे।अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि प्रवासी कुछ इन्वेस्ट करेंगे, कुम्भ देखकर मन बदलेगा। उन्हें भरोसा दिलाना होगा। ठोको नीति से उनका भरोसा नहीं जीता जा सकेगा। हमने पत्रकारों का सम्मान किया, लेकिन यह लोग उनकी पिटाई करवा रहे हैं।

नोडल अधिकारी ने विधुत विभाग में दौड़ाया करंट

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:दो दिवसीय दौरे पर आये राजस्व सचिव एंव नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने विद्युत विभाग का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें कई कमियां दिखायी दीं जिन्हें दुरूस्त कराये जाने के लिए अधिशाषी अभियता को दिये। उन्होंने साफ़ कहा की यदि निर्देशों पर अम्ल नही हुआ तो कार्यवाही की जायेगी|
सोमवार को भोलेपुर स्थित विद्युत कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने सबसे पहले बिल जमा होने वाले काउंटरों की जानकारी ली। लाइनों मे लगे लोगों ने सचिव को बताया कि कई घंटो से हम लोग लाईन में लगे हैं कनेक्टिविटी न होने के बाद कर्मचारी कहके काम बंद कर देते हैं। इस पर सचिव ने नाराजगी जाहिर करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये कि ठेकेदार को बुलाकर सरवर ठीक करायें यदि वह ऐसा नहीं करता तो तुरंत कार्यवाई करें। लाईन में लगे बुजुर्गो के बैठने की व्यवस्था करायें। उन्होंने निर्माणाधीन अधीक्षण अभियंता कार्यालय को देख नाराजगी जाहिर की। कार्य पूर्ण करने की अवधि के बारे में अधीक्षण अभियंता कोई जवाब नहीं दे सके। जिस पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की और डीएम व सीडीओ से देखने को कहा। इस दौरान बात सामने आयी कि कई बार समय अवधि को बढ़ाया गया, लेकिन काय पूर्ण नहीं हुआ। इस पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की। रिपोर्ट 11 न दिखाये जाने पर अधिशाषी अभियंता शहरी पंकज अग्रवाल से नाराजगी जाहिर की।
उन्होने कहा कि आरएपी-ओआरपी केंद्र क्यों नहीं बनाया है। उन्होंने बताया कि इस केंद्र के होने से कई सेंटर खोले जा सकते हैं। जिससे उपभोक्ताओं को पूरी जानकारी एक ही जगह से प्राप्त हो सकती है। इस दौरान डीएम मोनिका रानी, सीडीओ अपूर्वा दुबे, कानपुर से आये अधीक्षण अभियंता अमित वाष्र्णेय,अधीक्षण अभियंता ए.के.श्रीवास्तव, एसडीएम अमृतपुर ईशान्त प्रताप सिंह आदि लोग मौजूद रहे। इससे पूर्व उन्होंने उप कृषि निदेशक कार्यालय का भी निरीक्षण किया।

स्वास्थ्य संविदा कर्मियों की हड़ताल से भटके मरीज

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, HEALTH, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:सोमबार से शुरू हुई संविदा कर्मियों की अनिश्चित कालीन हड़ताल के प्रथम दिन ही स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गयी| जिसके साथ ही मरीज भटकते रहे| कई स्वास्थ्य केन्द्रों पर ताले लटके नजर आये| वही स्वास्थ्य कर्मियों कहा कहना है कि उनकी मांगे जब तक मानी नही जाती वह हड़ताल से नही हटेंगे|
लोहिया अस्पताल में सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में स्वास्थ्य कर्मी यूपी राष्ट्रिय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ के बैनर तले एकत्रित होकर धरने पर बैठ गये| प्रथम दिन संविदा कर्मियों की हड़ताल को संयुक्त राज्य परिषद,डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन,स्टाफ नर्स संघ आदि संगठनों ने अपना समर्थन भी दिया| संगठन के महामंत्री नरेंद्र मिश्रा ने बताया की अनिश्चित कालीन हड़ताल तब तक नही खत्म होगी जब तक उनकी चार सूत्रीय मांगे नही मानी जाती|
हड़ताल के प्रथम दिन सोमबार को महिला ओपीडी के सर्वाधिक भीड़ रही दूर-दराज से आने वाली महिलायें चिकित्सक ना मिलने से मायूस होकर लौट गयीं| इस दौरान अध्यक्ष डॉ० गौरव वर्मा,कोषाध्यक्ष पुनीत पाण्डेय,साबिर हुसैन आदि रहे|

मेला शुभारम्भ पर अनदेखी का आरोप लगा भड़के कल्पवासी साधू,हंगामा

0

फर्रुखाबाद:मेला शुभारम्भ के दौरान कल्पवासी साधू अनदेखी का आरोप लगाया जिला प्रशासन के खिलाफ आक्रोशित हो गये| उन्होंने शुभारम्भ पांडाल में ही अनदेखी का आरोप लगाकर हंगामा किया| जिससे मौके पर मौजूद अधिकारी अपना मुंह बंद करके खड़े रहे| उन्होंने जिलाधिकारी से शिकायत करने की बात कही|
रामनगरिया के जिस पांडाल में मेले का शुभारम्भ होना था उसमे जिलाधिकारी मोनिका रानी ने हबन पूजन किया और गंगा-घाट पर दीपदान करने चली गयी| उसी समय अखिल भारतीय श्रीपंच तेरह भाई त्यागी खालसा के महंत बालक दास की अगुआई में संत एकत्रित हो गये| उन्होंने पंडाल में हंगामा शुरू कर दिया| साधुओं ने आरोप लगाया की उनकी जिला प्रशासन ने अनदेखी की है| साधुओं ने आरोप लगाया की जिलाधिकारी मोनिक रानी ने हबन पूजन में हिस्सा लिया| यह पहली बार हुआ है जब उनकी समस्याओं के विषय में जानकारी नही ली गयी| उनको सम्मान नही दिया गया| जब पूजा पांडाल में डीएम नही मिली तो दर्जनों की संख्या में साधू उनके मेला कार्यालय जा पंहुचे| जंहा कुछ आक्रोशित साधू जमीन पर भी बैठ गये| वही पास में ही बैठे अतिरिक्त मजिस्ट्रे भानू प्रताप ने साधुओं की समस्या की तरफ कोई ध्यान नही दिया| साधुओं ने राशन ना मिलने की शिकायत भी की|
इसके बाद ब्रजकिशोर मिश्रा एडवोकेट व रवि मिश्रा साधुओं को पुन: पूजा पांडाल में ले गये| उन्होंने वही पर साधुओं को बैठाया और बातचीत की बाद में मामले को शांत कराया गया|
बरसात ने लेजर शो पर फेरा पानी
जिला प्रशासन के द्वारा गंगा के किनारे कराए जाने वाले लेजर शो के कार्यक्रम की सभी तैयारी पूर्ण कर ली गयी थी| सोमबार को देर शाम लगभग आठ बजे शो का प्रदर्शन किया जाना था | लेकिन समय आते ही बरसात और आंधी आ गयी| जिससे व्यवस्था खराब हो गयी और लेजर शो को नही कराया जा सका|

आधी-अधूरी तैयारी के बीच हुआ रामनगरिया मेले का शुभारम्भ

0

फर्रुखाबाद:इस बार जंहा कुम्भ मेले को लेकर सरकार अपनी पूरी ताकत लगाये हुए है| उसकी भव्यता को विदेशों से देखने के लिए श्रद्धालु आ रहे है| वही मेलारामनगरिया को अनदेखी का शिकार होना पड़ा| सोमबार को आधी अधूरी तैयारी के बीच मेले का शुभारम्भ किया गया| जिसको लेकर कल्पवासियों व साधुओं में काफी आक्रोश देखने को मिला|
सोमबार को जिलाधिकारी मोनिका रानी व एसपी संतोष मिश्रा ने मेला रामनगरिया का शुभारम्भ किया| पहले उन्होंने फीता काटा उसके बाद उन्होंने हबन-पूजन में भाग लिया| हवन में हिस्सा लेने के बाद एसपी व डीएम के साथ गंगा घाट पर पंहुचे और दीपदान के साथ गंगा की आरती भी उतारी| जिला प्रशासन की अनदेखी मेले में साफ़ नजर आयी| कुल मिलाकर शुभारम्भ फीका रहा|
रास्ते अभी भी पड़े अधूरे
जिला प्रशासन ने अभी तक गंगा घाट को जाने वाले मार्गो को दुरस्त नही किया| ना ही उन्हें ठीक से समतल किया गया| जिससे शुभारम्भ वाले दिन भी गंगा में दुबकी लगाने वाले श्रधालुओं के वाहन बालू में फंसे नजर आये| जो अनदेखी का जीता-जागता उदाहरण है|
नल,शौचालय व बिजली व्यवस्था भी पूर्ण नही
जब जिम्मेदार अफसर जानते थे कि मेले का शुभारम्भ 21 जनवरी को है और कल्पवासी तकरीबन दस दिन पूर्व से ही आने शूरू हो गये थे| लेकिन उसके बाद भी जिला प्रशासन ने इस तरफ कोई ध्यान नही दिया| जिसका उदाहरण तब सामने आया की हजारों की संख्या में कल्पवासी खुले में शौच जाने को मजबूर है| नल व शौचालय के ठेकेदार दिनेश चन्द्र ने बताया की बीते दिनों पूर्व फर्रुखाबाद के एक ठेकेदार को ठेका दिया गया था लेकिन वह काम पूर्ण नही कर पाया| जिसके बाद उसके जगह दिनेश को ठेका दिया गया है| दिनेश के अनुसार अभी उसने 150 शौचालय बनाये है और दो हजार नल लगने है| वही अभी तक कुल 550 नल लगाये गये है लगातार लगाये जाने का सिलसिला जारी है| तकरीबन दस दिन में शौचालय का काम पूर्ण हो पायेगा|
शुभारम्भ में नही दिखे बीजेपी के जनप्रतिनिधि बीते वर्षो ने होने वाले रामनगरिया के शुभारम्भ को यदि याद करें तो जिस दल की सरकार होती थी उसी दल के लोग व जनप्रतिनिधि शुभारम्भ के समय दिखते थे| लेकिन इस बार अन्य दलों ने तो दूरी बना ही ली साथ ही साथ बीजेपी के नेता और जनप्रतिनिधि नजर नही आये| केबल भाजपा जिलाध्यक्ष भूदेव राजपूत,भास्कर दत्त द्विवेदी ही नजर आये| वही सपा ने केबल पूर्व जिलाध्यक्ष चन्द्रपाल यादव रहे|इसके आलावा पार्टी का कोई भी बड़ा चेहरा मेले में नही पंहुचा|
केबल हबन सामिग्री से कराया स्वाहा
शुभारम्भ के दौरान हबन कुंड के आस-पास अधिकारी बैठ गये|लेकिन पूरे पंडाल में कुल 11 हबन कुंड बनाये गये थे| जिसमे बटुकों ने बैठकर आहुति दी| लेंकिन आहुति केबल हबन सामिग्री से दिला दी गयी| आचार्य अजय भारद्वाज ने बताया की बटुकों को हबन के लिए केबल धूप दी गयी| उन्हें देशी घी नही दिया गया| यह धार्मिक हिसाब से ठीक नही है|
पन्नी पर पाबंदी लगाने में मेला प्रशासन रहा नाकाम
पन्नी पर यूपी सरकार ने रोंक लगा रखी है| वही सुप्रीम कोर्ट का आदेश है की गंगा के तकरीबन 200 मीटर की दूरी तक पन्नी का प्रयोग ना हो| इसके बाद भी मेले में दुकानदारों के द्वारा पन्नी में खुल सामान बेंचा गया| लेकिन कोई रोकने वाला नही था|
इस दौरान सीडीओ अपूर्व दुबे,तहसीलदार सदर अमित आसेरी,तहसीलदार प्रदीप सिंह,ईओ नगर पालिका/अतिरिक्त एसडीएम रमेश चन्द्र,एएसपी त्रिभुवन सिंह,अरुण प्रकाश तिवारी ददुआ,सौरभ शुक्ला,रवि मिश्रा,भाजयुमो मंडल उपाध्यक्ष पंकज पाल,आलोक राजपूत,अनुभव सारस्वत, मेला प्रभारी महेंद्र त्रिपाठी,अंगद सिंह आदि रहे|

रामनगरिया में डियूटी लगाने को पीआरडी जबानों का प्रदर्शन

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रूखाबाद:मेला रामनगरिया में प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष डियूटी ना लगने से खफा होकर पीआरडी जवानों ने जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर डीएम को मांगपत्र सौंपा।
जिला युवा कल्याण एंव प्रादेशिक विकासदल के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार के नेतृत्व मे कई सैकड़ा पीआरडी जवान कलेक्ट्रेट पंहुचे और नारेबाजी कर डीएम को मांगपत्र सौंपा। जिसमे दर्शाया कि मेला श्रीरामनगरिया में प्रतिवर्ष पीआरडी जवानो की डयूटी लगती चली आ रही है। इस बार हम लोगों की डयूटी नही लगायी गयी। अधिकारी का कहना है कि अनुमति नहीं मिली है। जिस पर डीएम ने जांच कराकर कार्यवाई कराये जाने का भरोसा दिया है। इस दौरान प्रदीप कुुमार,रामऔतार,तिलक सिंह,प्रेमचंद्र,जगदीश प्रसाद, हरीराम, रामविलास, ओमकार सिंह, राजकुमार,आदि पीआरडी जवान मौजूद थे।

बदलते मौसम में जानिए ये उपाय, ताकि आप सर्दी, खांसी और फ्लू की चपेट में न आएं

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, सामाजिक

डेस्क:मौसम में परिवर्तन होने पर सर्दी, खांसी और फ्लू का संक्रमण होना आम बात है। लेकिन यह समस्याएं ठीक होने में काफी वक्त लेती हैं, और कई बार तो आपके द्वारा किए गए सारे जतन इन पर नाकाम साबित होते होते हैं। ब्रिटिश शोधकर्ताओं के अनुसार, कोल्ड वायरस 37 डिग्री सेल्स‍ियस से कम तापमान पर सक्रिय हो जाते हैं, और खानपान पर ध्यान देकर, इन्हें आसानी से रोका जा सकता है। आइए जानते हैं, सर्दी, खांसी और फ्लू का संक्रमण होने पर किन बातों का रखें ध्यान –
क्या खाएं –
1 दिनभर खूब पानी पिएं, लेकिन पानी उबला हुआ हो इस बात का ध्यान रखें । कम से कम 6 से 7 ग्लास लिक्विड डायट जरूर लें।
2 लहसुन और मिर्च को भोजन में शामिल करें। लहसुन गर्म होने के साथ ही एंटीबैक्टीरियल होता है, और मिर्च में कैप्सैसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो नेजल और साइनस कंजेक्शन ठीक करने में सहायक होता है।
3 विटामिन- सी युक्त फल और सब्जियों का प्रयोग अधिक से अधिक करें। मशरूम, नींबू और शहद को डायट में शामिल करें।
4 जिंक युक्त भोज्य पदार्थों का भरपूर प्रयोग करें। रेड मीट, अंडा, दही, साबुत अनाज को भोजन में शामिल करें।
5 अगर आप मांसाहारी हैं, तो चिकन सूप का प्रयोग जरूर करें। इसमें सिस्टाइन नामन तत्व पाया जाता है, जो कफ को ढीला करने में मदद करता है।
कब जाएं डॉक्टर के पास –
1 अगर हरे या पीले रंग का कफ निकलने लगे ।
2 सांस लेने में तकलीफ हो रही हो ।
3 उपाय करने के बावजूद बुखार 2 – 3 दिन से ज्यादा समय तक रहे ।
4 सिर, कान और मसूड़ों में तेज दर्द होने की स्थ‍िति में ।

राशिफल:देखें कैसा रहेगा आज आपका दिन

0

Posted on : 21-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

डेस्क:आज के दिन का राशिफल, कैसा होगा आपका दिन, किसे मिलेगा प्यार, किसका चलेगा व्यापार, करियर में किसे मिलेगी उड़ान, किसे मिलेगा धन अपार… हर वर्ग के लिए जानिए दैनिक राशिफल
मेष-एकाएक स्वास्थ्‍य खराब हो सकता है, लापरवाही न करें। दूर से दु:खद समाचार प्राप्त हो सकता है। व्यर्थ दौड़धूप होगी। विवाद से स्वाभिमान को चोट पहूंच सकती है। काम में मन नहीं लगेगा। नौकरी में कार्यभार रहेगा। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। आय में निश्चितता रहेगी। जोखिम न लें।
वृष- प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। नौकरी में कार्य की प्रशंसा होगी। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल लाभ देगा। लाभ देगा। कोई बड़ा काम करने का मन बनेगा। प्रतिद्वंद्विता में वृद्धि होगी। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड इत्यादि में जल्दबाजी न करें। लाभ होगा।
मिथुन- फिजूलखर्ची ज्यादा होगी। शत्रु भय रहेगा। शारीरिक कष्ट से बाधा उत्पन्न होगी। दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। नए काम करने का मन बनेगा। दूर यात्रा की योजना बनेगी। व्यापार से लाभ होगा। नौकरी में चैन रहेगा। जोखिम न लें।
कर्क- अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी। निवेश शुभ रहेगा। नौकरी में अधिकार बढ़ने के योग हैं। कोई बड़ी समस्या का अंत हो सकता है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। लेन-देन में सावधानी रखें।
सिंह-कोई बड़ा खर्च एकाएक सामने आएगा। कर्ज लेना पड़ सकता है। कुसंगति से बचें। किसी व्यक्ति के काम की जवाबदारी न लें। स्वयं के काम पर ध्यान दें। बनते काम बिगड़ सकते हैं। विवाद को बढ़ावा न दें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। व्यापार ठीक चलेगा। कार्यकुशलता कम होगी।
कन्या- घर के छोटे सदस्यों संबंधी चिंता रहेगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कोई बड़ा काम करने का मन बनेगा। भाग्य का साथ मिलेगा। व्यापार मनोनुकूल रहेगा। निवेश शुभ रहेगा। जल्दबाजी न करें।
तुला- नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। सुख के साधन जुटेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। निवेश शुभ रहेगा। नौकरी में अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। धनहानि हो सकती है। सावधानी आवश्यक है। थकान महसूस होगी।
वृश्चिक-वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। शारीरिक कष्ट संभव है। अज्ञात भय सताएगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। तंत्र-मंत्र में रुचि जागृत होगी। किसी जानकार व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त हो सकता है। कोर्ट व कचहरी के कार्य मनोनुकूल रहेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे।
धनु-स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद से क्लेश हो सकता है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। पार्टनरों से कहासुनी हो सकती है। भागदौड़ होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बनी रहेगी। लाभ के लिए प्रयास करें।
मकर- कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल बनेगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कोई ऐसा कार्य न करें जिससे कि अपमान हो। व्यापार-व्यवसाय अनुकूल रहेगा। निवेश सोच-समझकर करें। नौकरी में चैन रहेगा। मित्रों का सहयोग मिलेगा।
कुंभ- नौकरी में अधिकार मिल सकते हैं। सुख के साधन जुटेंगे। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। स्वास्थ्‍य संबंधी चिंता बनी रहेगी। आशंका व कुशंका रहेगी। कार्य में बाधा संभव है। उत्साह बना रहेगा।
मीन- विवेक का प्रयोग करें। समस्याएं कम होंगी। शारीरिक कष्ट संभव है। अज्ञात भय रहेगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता प्राप्त करेगा। किसी प्रबुद्ध व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे।