Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

गठबंधन करते वक्त भी नहीं भूलीं मायावती,23 साल पहले हुआ ‘गेस्ट हाउस कांड’

0

Posted on : 12-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BSP

लखनऊ:उत्तर प्रदेश की राजनीति में धुरविरोधी माने जाने वाले बहुजन समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी ने भी भाजपा के खिलाफ लोकसभा चुनाव को एक जंग के रूप में लिया है। लखनऊ के विख्यात गेस्ट हाउस कांड को भूलकर दोनों दल 23 वर्ष बाद एक बार फिर साथ हो गए हैं।
लखनऊ में गठबंधन का ऐलान करने के लिए बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी मायावती को वह गेस्ट हाउस कांड याद रहा। उन्होंने कहा, ‘राष्ट्रहित में हम उस कांड को भुलाकर साथ आए हैं।’ लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर प्रदेश में नरेंद्र मोदी को मात देने के लिए धुरविरोधी पार्टियां एक साथ आ रही हैं। इसे साबित हो गया है कि अब राजनीति अवसरों का खेल है। यहां पर कोई स्थाई कोई दोस्त या दुश्मन नहीं होता। कम से कम उत्तर प्रदेश में तो ऐसा ही होने जा रहा है। जो कल तक एक दूसरे की शक्ल देखना पसंद नहीं करते थे वो आज 23 साल की दुश्मनी भुलाकर एक मंच पर आने को तैयार हैं।
लखनऊ में एक ऐसी ऐतिहासिक तस्वीर आज देखने को मिली। इस तस्वीर में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस देखने को मिली। लोकसभा चुनाव 2019 के लिए दोनों में गठबंधन करीब फाइनल हो चुका है। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में आज सीट बंटवारे और गठबंधन को लेकर औपचारिक ऐलान हो सकता है। दोनों दलों में यह गठबंधन 23 वर्ष बाद हो रहा है। इससे पहले 1993 में भी दोनों दल भाजपा को शिकस्त देने की खातिर एक हो गए थे।
इससे पहले जब सपा-बसपा में 1993 में गठबंधन हुआ था तब प्रदेश में बाबरी विध्वंस के बाद राष्ट्रपति शासन चल रहा था। मंदिर-मस्जिद विवाद के कारण ध्रुवीकरण चरम पर था। यह सभी राजनीतिक दल समझ चुके थे। इसी के मद्देनजर प्रदेश की दो धुरविरोधी पार्टियां सपा और बसपा ने साथ चुनाव लड़ने का फैसला लिया। इस चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला। गठबंधन ने चार दिसंबर 1993 को सत्ता की कमान संभाल ली। मायावती मुख्यमंत्री बनीं। दो जून, 1995 को बसपा ने सरकार से किनारा कर लिया और समर्थन वापसी की घोषणा कर दी। दोनों का गठबंधन टूट गया। बसपा के समर्थन वापसी से मुलायम सिंह की सरकार अल्पमत में आ गई। तीन जून, 1995 को मायावती ने भाजपा के साथ मिलकर सत्ता की कमान संभाली। दो जून 1995 को प्रदेश की राजनीति में जो हुआ वह शायद ही कभी हुआ हो। उस दिन एक उन्मादी भीड़ सबक सिखाने के नाम पर बसपा सुप्रीमो की आबरू पर हमला करने पर आमादा थी। उस दिन को लेकर कई बातें होती रहती हैं। यह आज भी एक विषय है कि दो जून 1995 को लखनऊ के राज्य अतिथि गृह में हुआ क्या था।
मायावती कर चुकीं हैं अखिलेश का बचाव
अखिलेश और मायावती दोनों ने साथ आने के संकेत काफी पहले से देने शुरू कर दिए थे। इस जोडी का फॉर्मूला गोरखपुर व फूलपुर में हुए उपचुनाव में निकला। जहां लोकसभा चुनाव में परचम लहराने वाली भाजपा को अपने गढ़ में शिकस्त झेलनी पड़ी। अखिलेश यादव खुद मायावती को इसकी बधाई देने उनके घर गए थे। इसमें कोई दो राय नहीं मायावती के जेहन में आज भी गेस्टहाउस कांड जिंदा है, तभी तो एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने इस कांड को लेकर अखिलेश यादव का बचाव किया था और कहा था कि उस वक्त अखिलेश राजनीति में आए भी नहीं थे।
क्या हुआ था उस दिन
मायावती के समर्थन वापसी के बाद जब मुलायम सरकार पर संकट के बादल आए तो सरकार को बचाने के लिए जोड़-तोड़ शुरू हो गया। ऐसे में अंत में जब बात नहीं बनी तो सपा के नाराज कार्यकर्ता व विधायक लखनऊ के मीराबाई मार्ग स्थित स्टेट गेस्टहाउस पहुंच गए, जहां मायावती ठहरी हुईं थीं। उस दिन गेस्ट हाउस के कमरे में बंद बसपा सुप्रीमो के साथ कुछ गुंडों ने बदसलूकी की। बसपा के मुताबिक सपा के लोगों ने तब मायावती को धक्का दिया और मुकदमा ये लिखाया गया कि वो लोग उन्हें जान से मारना चाहते थे। इसी कांड को गेस्टहाउस कांड कहा जाता है।

अन्ना पशुओं को जल्द पकड़ने के कड़े निर्देश जारी

0

Posted on : 12-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, कृषि, जिला प्रशासन

फर्रूखाबाद:जिलाधिकारी मोनिका रानी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में निराश्रित गौवंश एवं चारागाह के संबंध में बैठक का आयोजन किया गया| जिसमे डीएम ने अन्न पशुओं को जल्द पकड़ने के निर्देश दिए| इसके साथ ही हिंसक साड़ों को बेहोश कर पकड़ने के कड़े निर्देश जारी किये गये है| उन्होंने कहा की किसी तरह की कोई लापरवाही पाए जाने पर कड़ी कार्यवही होगी|
फतेहगढ़ में आयोजित बैठक में बढ़पुर,मोहम्मदाबाद,नवाबगंज एवं कमालगंज ब्लाक की समीक्षा बैठक आयोजित हुई बैठक में कहा गया कि खिमसेपुर,मोहम्मदाबाद कस्बा,आवादपुर,सोता बहादुरपुर,सिलसंडा,अटसेनी पहाड़पुर,बिचपुरी,हैदरपुर,गनीपुर जोगपुर आदि ग्रामों में हिंसक सांड है| जो कि ग्रामीणों को जान-माल का खतरा पहुॅचा चुके है। जिलाधिकारी ने सीबीओ को तत्काल उक्त ग्रामों मे टीम लगाकर सांड पकड़वाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अन्य किसी ग्राम में भी यदि हिंसक सांड पाया जाये तो उसकी सूचना तत्काल पशु चिकित्सा अधिकारी को उपलब्ध कराएँ।
विकास खंड बढ़पुर के ग्राम प्रधानों द्वारा बताया गया कि फर्रूखाबाद शहर के नजदीक वाले ग्रामों में रात्रि को चिरपुरा,बजरिया, ढबरपुर,ग्वालटोली,हैवतपुर गढ़िया आदि से गाय पालक अपनी गायों को एक साथ छोड़ देते है जो कि किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुॅचाती है। जिलाधिकारी एसडीएम सदर अमित आसेरी को को निर्देशित करते हुए कहा शहरी आवासीय क्षेत्रों से पशु छोड़ने वाले पशुपालकों पर तत्काल जुर्माना की कार्यवाही की जाये। उसके बाद भी सुधार न आने पर तत्काल उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर उनको जेल भेजने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
सभी क्षेत्रों में शाम के समय भ्रमण करने हेतु कानूनगो एवं लेखपाल की टीम बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आज किसानों की सबसे बडी समस्या निराश्रित गौवंश है जो कि उनकी फसलों को तो नष्ट कर ही देते है एवं किसानों को जान-माल की हानि भी पहुॅचाते है इसलिए सभी ग्राम प्रधान,सचिव,लेखपाल व क्षेत्रीय कानूनगो सभी निराश्रित गौवंशोंको चिन्हित कर उन्हे पकड़वाकर अस्थाई वाड़े में पशु को पहुॅचायें। ताकि किसानों को होने वाली समस्या से निजात मिल सके। जिलाधिकारी ने कहा कि अस्थाई वाड़े में पशुओं की सामान्य मृत्यु भी हो सकती है। मृत्यु होने की दशा में उनका विधिवत ससमय निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाए। इसके बाद भी पशुओं को दूध निकाल कर छोड़ने बालों की सूची बनाने के निर्देश लेखपाल व कानून-गों को दिए गये है|
एसडीएम ने कसे प्रधानों के पेंच
राजेपुर: अमृतपुर तहसील में प्रधानों पर उपजिलाधिकारी ईशान प्रताप सख्त दिखे| उन्होंने कहा की गांव में कोई पशुओं को छोड़ता है तो जेल होगी| उपजिलाधिकारी ने प्रधानों को निर्देश दिए कि पशुओं को चिन्हित कर ट्रैक्टर ट्राली में भरकर पशुओं को भेजें| उन्होंने बताया कि अगर कोई पशुओं को छोड़ेगा तो 188 में तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी| तहसील अमृतपुर में 144 धारा में लगी हुई है|
प्रधान उमेश राजेपुर, छोटे शुक्ला प्रधान, कुंवर पाल एडीओ पंचायत, अजित पाठक, अशोक प्रधान आदि लोग बैठक में मौजूद है

जगह-जगह लोगों को दिया गया समाजवादी मंत्र

0

Posted on : 12-01-2019 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, सामाजिक

फर्रखाबाद:नगर में पूर्व मंत्री के नेतृत्व में कई जगह कार्यक्रमों में हिस्सा लिया| पूर्व की सपा सरकार की उपलब्धियों के विषय में जानकारी दी गयी|
पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह व सचिन यादव के द्वारा आयोजित कराये गये कार्यक्रमों में समाजिक मन्त्र दिया गया| लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप तिवारी ने सपा व भाजपा के फर्क से लोगों को रूबरू कराया| समाजवादी विकास पेयजल एवं सामाजिक न्याय कार्यक्रम के अंतर्गत अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम बरखा,भुसेरा सदर में नाला मछरट्टा फतेहगढ़ में सिविल लाइन में कार्यक्रम हुए| जिसमें पूर्व मंत्री सतीश दीक्षित, जिलाध्यक्ष नदीम फारुकी,पूर्व जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह राठौर,मनमोहन सिंह,समीर यादव,जिला महासचिव मंदीप यादव,मुन्ना यादव,जीतू यादव आदि उपस्थित रहे|

अंतिम संस्कार को जा रहे शव को पुलिस ने रोका

0

Posted on : 12-01-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्ररूखाबाद:संदिग्ध हालत की मौत होने से सूचना मिलने पर पुलिस ने अंतिम संस्कार को जा रहे शव को रास्ते में ही रोक लिया| पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया| जिसमे मौत हदय गति रुकने से होना आया है|
शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सातनपुर निवासी 50 वर्षीय रतिभान सिंह पुत्र शोभाराम शराब पीने का आदि था| बीती रात अचानक हदय गति रुकने से मौत हो गयी| मौके पर परिजन एकत्रित हुए| किसी ने सोशल मीडिया (व्हाट्स अप) पर हत्या की आशंका का मैसेज डाल दिया| जिसके बाद पुलिस हरकत में आ गयी| पुलिस ने शव को अंतिम संस्कार के लिए जाते समय मसेनी चौराहे के निकट रोंक लिया| आवास विकास चौकी इंचार्ज ज्ञानेश्वर सिंह ने शव का पंचनामा भरा उसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया|
शव का पोस्टमार्टम डॉ० अंशुल चतुर्वेदी ने शव का पोस्टमार्टम किया| सूत्रों की माने तो मौत का कारण हदय गति रुकने से होना बताया गया है| पोस्टमार्टम बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया|

लापता बालिका की गला दबाकर हत्या,पूर्व सैनिक के घर मिला शव

0

Posted on : 12-01-2019 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(कायमगंज)बीते दिन से गायब हुई बालिका का शव पूर्व सैनिक के घर में पड़ा मिला| मौके पर भीड़ लग गयी| बालिका के गले को एक शर्ट से दबाया गया था| पुलिस जाँच पड़ताल कर रही है| परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम नगला बिधि निवासी प्रदीप पाल की पांच वर्षीय पुत्री बीते शुक्रवार को दोपहर लगभग ढाई बजे अचानक खेलते हुए कही गायब हो गयी| परिजनों ने काफी खोजबीन की लेकिन उसका कोई पता नही चला| जिसके बाद बालिका के पिता प्रदीप पाल ने कोतवली में गुमशुदगी दर्ज करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया| पुलिस जांच पड़ताल कर रही थी| लेकिन उसका पता नहीं चल पा रहा था| तभी शनिवार को उसकी चप्पल गांव के ही पूर्व सैनिक रामसुरेश पुत्र उत्तम सिंह के खाली पड़े मकान के बाहर पड़ी मिली| जिसकी सूचना परिजनों को दी गयी| मौके पर बालिका के पिता प्रदीप पाल व माँ पूजा आदि आ गयी| जानकारी मिलने पर कार्यवाहक प्रभारी निरीक्षक राधेश्याम फ़ोर्स के साथ मौके पर आ गये| उन्होंने पूर्व सैनिक के खाली पड़े घर की तलाशी ली तो उन्हें घर के कमरे में भरे भूसे में उसका शव पड़ा मिला| उसके गर्दन में उसकी ही टीशर्ट पड़ी बंधी हुई थी| जिससे यह साफ हो गया की बालिका की हत्या गला घोंटकर की गयी|
सूचना पर एएसपी त्रिभुवन सिंह,सीओ राजवीर सिंह,एसडीएम अनिल कुमार,डॉग स्कोट आदि मौके पर आ गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल तेज कर दी| बालिका के साथ दुष्कर्म की आशंका भी जाहिर की जा रही है|

[bannergarden id="12"]