पत्रिका देगी केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं की जानकारी:डॉ० अरविन्द

0

Posted on : 30-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) लोक अधिकार मंच का कार्यालय खुलने के बाद ग्रामीणों को सरकार की योजनाओं से संबंधित जानकारी दी गई| इससे साथ ही साथ उनके स्वास्थ्य को लेकर भी चर्चा हुई|
कस्बे में लोक अधिकार मंच के जिलाध्यक्ष डॉ० अरविंद गुप्ता ने फीता काटकर व दीप [प्रज्वलित कर कार्यालय का शुभारंभ किया| इस दौरान उन्होंने किसानों को सरकारी योजनाओं के द्वारा आम जनमानस की बचत के संबंध में जानकारी दी| उन्होंने कहा कि जल्द ही किसानों के लिए संगठन द्वारा किताब उपलब्ध कराई जाएगी, जिसमें सरकार से जुड़ी हुई तमाम योजनाओं की जानकारी होगी| उन्होंने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य के लिए लोग अपनी दिनचर्या में बदलाव करें |उन्होंने पोस्टर भी बनवाए हैं|अभी तक 80 हजार घरों पर नागरिक जागरूकता के लिए उन्हें लगा जा चुका हैं| पूरे जिले में इस तरह से पोस्टर लगाने की योजना है| उन्होंने कहा कि कार्यालय खुलने से मोहम्मदाबाद के आसपास के क्षेत्रों को अत्यधिक लाभ होगा| इससे सरकारी योजनाओं की समस्त जानकारी व दिशा निर्देश मिल पायेगा| कार्यालय प्रभारी व दो सहायक हमेशा कार्यालय में मौजूद रहेंगे| इस दौरान जगदीश सिंह शाक्य, बलराम,अजीत,सुमित गुप्ता, आकाश, रोहित, हरनाथ सिंह, इज्जत सिंह, चंदन आदि ने डॉ० अरविन्द का स्वागत किया|

प्रो० रामगोपाल यादव के समधी दलगंजन सिंह का निधन

0

Posted on : 30-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद)सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो० रामगोपाल के समधी पूर्व सपा जिलाध्यक्ष दलगंजन सिंह यादव का बीती रात निधन हो गया| उनके निधन होने से सपा नेताओं के साथ साथ अन्य राजनीतिक दलों में भी शोक की लहर दौड़ गई|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम नदौरा निवासी दल गंजन सिंह यादव एक जमाने में सपा के दिग्गज नेता माने जाते थे उन्हें सपा नेता ही नहीं बल्कि अन्य पार्टियों के नेता भी सम्मान देते थे| वर्तमान में सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो० रामगोपाल यादव के समधी दल गंजन सिंह यादव का बीती रात निधन हो गया| यह समाचार जब सपा नेताओ को मिला तो उनमे शोक की लहर दौड़ गयी| रविवार को उनके आवास पर सपा के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह यादव,पूर्व मंत्री सतीश दीक्षित,जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फारुखी,जिला महासचिव मंदीप यादव,सचिन सिंह यादव,सुबोध यादव,पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव,जोगेंद्र सिंह यादव व जिला पंचायत सदस्य प्रदीप यादव आदि पंहुचे|
इसके बाद एसडीएम सदर अमित आसेरी,सीओ अमृतपुर सुरेन्द्र तिवारी आदि भी उनके आवास पर पंहुचे| जिसके बाद दलगंजन सिंह के पार्थिव शरीर को तिरंगे में लपेटकर गार्ड आफ ऑनर दिया गया जिला महासचिव मंदीप यादव ने बताया कि दलगंजन सिंह मिसा कानून के विरोध के दौरान जेल गये थे| उसी के लिए उन्हें गार्ड आफ आनर दिया गया|

खास खबर:सलाखों के पीछे दम तोड़ रहा कैदियों का हुनर!

0

Posted on : 30-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, FEATURED, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)1868 में निर्मित केन्द्रीय कारागार फतेहगढ़ भी एक समय उद्योगों की खान हुआ करता था। एक से एक हुनरदार कैदी विभिन्न उद्योगों से करोड़ों रुपये की आमदनी जेल प्रशासन को देते थे। लेकिन समय की मार और शासन व सरकार की अनदेखी के चलते जेल के उद्योग भी बिलकुल बंद ही हो गये। कहीं न कहीं कैदियों का राजनीतिकरण और हुनरमंदों की कमी भी इसके आड़े आ गयी। कच्चा माल भी जेल प्रशासन को मुहैया नहीं हो पाया रहा है। सेन्ट्रल जेल में बनी हुई जूट व सूत का सामान आज भी बेहतरीन माना जाता है|
केन्द्रीय कारागार के इतिहास की तो अंग्रेजी शासनकाल में एच रावर्ट इण्डियन मेडिकल सर्विसेज के अंग्रेज अधीक्षक के साथ-साथ तीन यूरोपियन जेलर, आठ कार्यालय लिपिक, 25 बार्डर व 27 रिजर्व बार्डर, एक यूरोपियन मेट्रन की देखरेख में कारागार को शुरू किया गया था। एशिया की सबसे बड़ी मानी जाने वाले केन्द्रीय कारागार फतेहगढ़ 989 बीघे में फैली है। दर असल उसी समय से कारागार में कैदियों के हुनर को उत्पादों में बदलने का प्रयास किया गया। कारागार में सन 1882 में कपड़ा, तम्बू, लोहे का तसला, कटोरी बनाने का उद्योग प्रारंभ किया गया। सन 1908 में कारागार में दो लाख 15 हजार 72 रुपये की आमदनी इन उद्योगों से अर्जित की थी। आमदनी ठीक ठाक होने पर जेल प्रशासन ने इस पर पुनः जोर दिया। बढ़ते बढ़ते जेल के साथ-साथ देश भी अंग्रेजों के चंगुल से छूटा तो जेल के इन उद्योगों ने और अधिक तरक्की कर दी।
1982 में कारागार में इन्हीं उद्योगों में एक अच्छी सफलता हासिल की। कारागार ने एक करोड़ 34 लाख रुपये की आमदनी इन उद्योगों से की जो अपने आप में एक इतिहास है। जेल में बना तम्बू, लकड़ी इत्यादि का सामान, बाहरी दूसरी जेलों व अन्य पुलिस बलों को सप्लाई किया जाता था| तत्कालीन जेल अधीक्षक एच पी यादव उस समय तैनात थे। जिन्होंने जेल के उद्योग धन्धों में विशेष रुचि दिखायी और जेल में कैदियों की संख्या भी 15 सितम्बर 1983 को 4515 थी। एच पी यादव ने जेल में उद्योग धन्धों को बढ़ावा देने के लिए जेल के फार्म पर मछली पालन हेतु बहुत बड़े बड़े तालाब खुदवाये और सब्जी इत्यादि भी बड़े पैमाने पर पैदा होती थी। लेकिन समय की मार के चलते यह औद्योगिक जेल आज खुद दूसरों पर निर्भर हो गयी है। कभी कारागार के अंदर बन रहे कारीगरी के नमूनों को देश विदेश के लोग भी खरीदने आते थे। लेकिन अब सब कुछ खत्म सा हो रहा है। कमर टूटे इन जेल उद्योगों पर शासन को पुर्नविचार कर इन्हें गति देनी चाहिए।
जेल में दरी और जूट का सामान बेहतरीन
केन्द्रीय कारागार फतेहगढ़ में दरी का काम भी बेहतरीन है| बंदियों द्वारा निर्मित दरी की जादा मांग होती है| सूत से बनी दरी वर्षों तक प्रयोग में लायी जा सकती है| जेल में बनी दरी 6/4 फीट लम्बी 730 ,7/4 फीट लम्बी दरी 880,12/12 लम्बी दरी 3900 रूपये लगभग कीमत की केन्द्रीय कारागार से खरीदी जा सकती है| झोले लगभग 20 रूपये का एक,गार्डन छाता 4366 रूपये, शुद्ध जुट से बना हुआ आसन 180 रूपये का उपलब्ध है|
बंदियों को मिलता हुनर का ना के बराबर दाम
शासन ने जेल में काम करने वाले कारीगर बंदियों को प्रतिदिन की मजदूरी निर्धारित की है| जिसमे तीन तरह के बंदियों को शामिल किया गया है| जिसमे कुशल कारीगर बंदी,अर्द्ध कुशल कारीगर बंदी,अकुशल कारीगर बंदी शामिल है| कुशल कारीगर बंदियों को 40 रूपये.अर्द्ध कुशल कारीगरों को 30 रूपये व अकुशल कारीगर बंदियों को 25 रूपये का मानदेय दिया जाता है| जेल में जूट व सूत का कारीगर का काम करने वाले बंदियों की संख्या 40 से 45 है| जब बड़ी डिमांड आती है तो संख्या 150 बन्दियो तक पंहुच जाती है|
सर्वाधिक पीएसी में रहती थी जेल के तम्बुओं की मांग
जेल के तम्बुओं की मांग सिचाई विभाग,खनन विभाग,नहर विभाग व नलकूप विभाग में तम्बुओं की मांग रहती थी| सर्वाधिक पीएसी में जेल के तम्बू की मांग बनी रहती थी| लेकिन बीते दो वर्षो से जेल में तम्बू सप्लाई में भारी कमी आ गयी है| सेन्ट्रल जेल अधीक्षक एसएचएम रिजवी ने जेएनआई को बताया कि अभी वह नये आये हुए है| उन्हें पूरी जानकारी नही है| इस तरफ जल्द प्रयास किये जायेंगे|

संस्कार भारती ने किया विभूतियों को सम्मानित

0

Posted on : 30-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखबाद:अखिल भारतीय संस्था संस्कार भारती व राष्ट्रिय कवि संगम के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित जादूगर व साहित्यकार प्रोफेसर शिवेंद्र विजय स्मृति सम्मान समारोह का आयोजन किया गया| जिसमे विभिन्न कावियो ने पहुंच कर अपने अपने विचार रखे|
नगर के सरस्वती शिशु मंदिर सेनापति में आयोजित कार्यक्रम शुभारम्भ दीप प्रज्वलन के साथ हुआ| कार्यक्रम में साहित्यकार प्रोफ़ेसर शिवेंद्र विजय स्मृति सम्मान स्मृति अग्निहोत्री,जादूगर शिवेंद्र विजय स्मृति सम्मान जादूगर विष्णु शर्मा एवं दफेदार दीक्षित,अंचल स्मृति सम्मान गरिमा पांडेय को प्रदान किया गया|
कार्यक्रम इसके बाद सरस्वती वंदना और माँ सरस्वती के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की गयी| कार्यक्रम कि अध्यक्षता करते हुए भारती मिश्रा ने नारी के अस्तित्व से सम्बंधित कविता पड़ी| इंदू अंचल ने स्वर्गीय दफेदार दीक्षित कि स्मृति को अपने गीतों में ताजा किया| जादूगर करुणा शंकर गोगा व राधाकृष्ण श्रीवास्तव ने जादू कार्यक्रम में प्रस्तुत किये|कार्यक्रम कि अध्यक्षता कार्यकारी अध्यक्ष संजय गर्ग ने की|
इस दौरान हिंदी साहित्य सम्मलेन की पूर्व अध्यक्ष डॉ० रजनी सरीन,पूर्व प्राचार्य केएम सचदेवा,डॉ० आर के गुप्ता,डॉ० राजकुमार,डॉ० विनोद तिवारी,योगेंद्र शुक्ला,आदेश अवस्थी,सरस्वती शिशु मंदिर के प्रधानाचार्य हुकुम सिंह,सुरेंद्र पांडेय,अनुराग पांडेय,रविंद्र भदौरिया अनुभव सारस्वत आदि लोग उपस्थिति रहे|

गुलहरे वैश्य समाज निकालेगा भव्य शोभायात्रा

0

Posted on : 30-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:गुलहरे वैश्य सभा के द्वारा भव्य सोमवार को शोभायात्रा का आयोजन किया जा रहा है| जिसकी सभी तैयारी पूर्ण कर ली गयी| बीते दिन ही समाज के उत्सव का शुभारम्भ किया था|
रविवार को उत्सव के दौरान नितगंजा दक्षिण बूरावाली गली स्थित गुलहरे वैश्य धर्मशाला में कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है| जिसके तहत महिला दिवस पर मेंहदी लगाओ प्रतियोगिता,रंगोली प्रतियोगिता आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया| कमेटी के सदस्यों ने बताया कि 31 दिसम्बर को स्वरूप सजाओ प्रतियोगिता\,एक मिनट प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा| शाम को शोभायात्रा एवं नगर कीर्तन का आयोजन किया जायेगा|
शोभायात्रा नितगंजा धर्मशाला से प्रारम्भ होकर नितगंजा तिराहा,महावीरगंज,स्टेट बैंक होते हुए मठिया देवी की परिक्रमा करते हुए चौक व नेहरु रोड होते हुए धर्मशाला में सम्पन्न होगी| इसके साथ ही साथ 1 जनवरी को भी विभिन्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा| इस दौरान अध्यक्ष प्रदीप कुमार गुप्ता (मोनी),राजेश कुमार गुप्ता,दिनेश गुप्ता,अरविन्द गुप्ता,आडिटर कपिल गुप्ता आदि रहे|

महासभा ने की हिन्दू न्याय पीठ की स्थापना

0

फर्रुखाबाद:हिन्दू महासभा ने रविवार को हिन्दू न्यायपीठ की स्थापना की| न्याय पीठ के सदस्यों के अनुसार हिन्दू समाज के लोगों के आपसी विवादों को सुलह-समझौता के माध्यम से निपटाना है|
नगर के चौक स्थित श्रीराम दुलारी मन्दिर में हिन्दू न्याय पीठ की स्थापना की गयी| जिसमे हिन्दू समाज के आपसी मामलों को सुलह-समझौता के माध्यम से निपटने का प्रयास किया जायेगा| साप्ताहिक अवकाश मंगलवार को होगा| न्याय पीठ पंच परमेश्वर के सिद्धांत पर कार्य करेगी| पीठ में तीन स्थाई सदस्य व दो आस्थाई सदस्य रहेंगें| स्थाई सदस्यों में ओम प्रकाश गुप्ता,राजेश मिश्रा,दीपक द्विवेदी एडवोकेट होंगे|
रविवार को दुर्वासा ऋषि आश्रम के महंत ईश्वरदास महाराज आस्थाई सदस्य रहे| उनके ही नेतृत्व में वैदिक मंत्रोचार के साथ पीठ की स्थापना की गयी| इसके साथ ही आस्थाई सदस्य में राहुल कुमार सोनू को बनाया गया है| इस दौरान हिन्दू महासभा के जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा,कानपुर मंडल अध्यक्ष अंकित तिवारी,सौरभ मिश्रा,सौरभ राजपूत,नितिन शर्मा,गौरक्षा से सचिन शर्मा,प्रांशु शाक्य आदि रहे|

अपना इतिहास व धरोहर संजोने में ही सभी का सम्मान

0

फर्रुखाबाद:फतेहगढ़ महोत्सव में पहुंचे जिला पंचायत सदस्य विजय यादव व नगर मजिस्ट्रेट रामअक्षयवर सिंह चौहान के साथ फीता काटकर शुभारम्भ किया| महोत्सव में पुराने इतिहास व धरोहरों को सजोने की जरुरत पर प्रकाश डाला गया|इस दौरान छात्र छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये बच्चो को पुरूस्कार वितरण भी किया गया |
फतेहगढ़ क्षेत्र के आस्ताना हजरत सैय्यद सहिल आफताब शाह बाबा के कैम्पस भूसा मंडी में आयोजित फतेहगढ़ महोत्सव में पहुंचे नगर मजिस्ट्रेट रामअक्षयवर सिंह चौहान ने कहा आज हम लोग अपने बुजुर्ग माँ-बाप को अलग रख कर जिंदगी बिता रहे है| ऐसे में फर्रुखाबाद व फतेहगढ़ महोत्सव कर अपने बुजुर्गो की यादे व धरोहरों को सजोने में एक प्रेरणादायी भूमिका अदा कर रहा है |
जिला पंचायत सदस्य व कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि विजय यादव ने कहा कि आज जरुरत है जनपद की संस्कृति व गंगा-जमुनी तहजीव बनाये रखने की| इसके लिए हम सभी को मिल-झुल कर आगे आने की जरुरत है तभी हमारी धरोहर सुरक्षित रह सकेगी और आगे आने वाली पीढ़ी महोत्सव के माध्यम से इतिहास,पुरातत्व,संस्कृति आदि की जानकारी हासिल कर पाएगी|
डॉ शाकिर अली मंसूरी ने कहा कि सेंट्रल जेल में अधीक्षक के आवास को म्यूजियम बनाकर देशभक्तो को सच्ची श्रद्धांजलि दी जानी चाहिए| कार्यक्रम में मजहर मोहम्मद खां ने मुल्क की आजादी में जनपद के लोगो के योगदान पर भी प्रकाश डाला| इस दौरान डॉ० अरविन्द गुप्ता,हाजी पुत्तन मियां,रिजवान अहमद ताज,सूफी पप्पन मियां,नबाब काजी हुसैन,अफ़ज़ल हुसैन,श्री नारायण त्रिवेदी,आदि ने अपने विचार रखे|
इस दौरान ओम प्रकाश चौटाला,श्याम बिहारी दीक्षित,मुमताज बेगम मंसूरी,पीर मोहम्मद मंसूरी ,दिनेश पाल सिंह,प्रदीप यादव,मौजूद रहे संचालन अनिल मिश्रा ने किया इस मौके पर “फतेहगढ़ हमारी विरासत” पत्रिका का भी विमोचन किया गया|

हेड कांस्टेबल की गाजीपुर में हत्या मामले में एक सैकड़ा से ज्यादा पर मुकदमा

0

गाजीपुर:हेड कांस्टेबल सुरेश प्रताप वत्स की हत्या के मामले में पुलिस ने करीमुद्दीनपुर थानाध्यक्ष सुधाकर राय के तहरीर पर 32 नामजद व 70 अज्ञात खिलाफ मुकदमा दर्ज कर 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपितों से पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। एडीजी जोन पीवी रामा शास्त्री ने पुलिस लाइन में पत्रकार वार्ता कर इसकी जानकारी। उन्होंने कहा कि जल्द ही अन्य आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। साथ ही प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई के लिए डीएम को पत्र लिखा जाएगा।
करीमुद्दीनपुर थाने के हेड कांस्टेबल की हत्या से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। देर रात एडीजी, आइजी मौके पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की जानकारी लेने के बाद मातहतों को निर्देश दिए। उच्चाधिकारियों का निर्देश पाते ही पुलिस रात भर छापेमारी कर 11 लोगों को दबोच लिया। गौरतलब हो कि शनिवार निषाद पार्टी के कार्यकर्ता नोनहरा थाना क्षेत्र के कठवामोड़ के पास रास्ता जाम किए थे। जाम हटाने गए हेड कांस्टेबल सुरेश प्रताप को भीड़ ने मार डाला था।
इसलिए भड़का था निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं का गुस्सा
निषाद पार्टी के कार्यकर्ता आरक्षण की मांग को लेकर जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे थे। इस पर पुलिस विभिन्न जगहों से 9 लोगों को हिरासत में ले ली। इसकी जानकारी जब कठवामोड़ के पास धरना दे रहे कार्यकर्ताओं को हुई तो वे उन्हें छोड़ने की मांग को लेकर गाजीपुर-मुहम्मदाबाद मार्ग पर जाम लगा दिए। जाम छुड़ाने करीमुद्दीनपुर थानाध्यक्ष सुधाकर राय संग गए हेड कांस्टेबल सुरेश प्रसाद भीड़ के गुस्से का शिकार हो गए थे।
सुहवल पुलिस ने दर्ज किया 200 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा
आरक्षण की मांग को लेकर सुहवल थाना क्षेत्र के कालूपुर चट्टी के पास प्रदर्शन कर रहे निषाद पार्टी के 200 अज्ञात कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज किया है। प्रदर्शन के दौरान बनाई गई वीडियो के आधार पर उनकी पहचान की जा रही है। थानाध्यक्ष राजू कुमार ने बताया कि जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं कोतवाली पुलिस ने भटौली व अंधऊ के पास प्रदर्शन करने वाले सैकड़ों कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तलाश कर रही है। करंडा पुलिस धरना-प्रदर्शन के मामले में तीन लोग को गिरफ्तार कर जेल भेज दी।
कठोर कार्रवाई का दिया गया है निर्देश
एडीजी जोन वाराणसी पीवी रामा शास्त्री ने बताया कि ड्यूटी के दौरान सिपाही की हत्या को गंभीरता से लिया गया है। पूरे प्रकरण की जांच के लिए अपर पुलिस अधीक्षक रैंक के अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है। हमलावरों को चिह्नित कर जल्द से गिरफ्तारी करने के साथ ही कठोर कार्रवाई को निर्देश दिया गया है। निर्दोषों को परेशान नहीं किया जाएगा। साक्ष्य व प्रणाम के आधार पर ही दाेषियों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

आवास के इंतजार में झोपडी में ठिठुर रहे दलित की मौत !

0

फर्रुखाबाद:(कमालगंज)सरकार हर गरीब को घर देने की योजना को लेकर कार्य कर रही योगी सरकार को उनके ही अफसर किस तरह से पलीता लगाने में लगे है किस तरह से आवास गरीबो को दिए जा रहे है इसका ताजा मामला प्रकाश में आया है| जिसके चलते ठंड में परिवार के साथ ठिठुर रहे दलित की मौत हो गयी| खबर मीडिया को लगने पर जिला प्रशासन में हडकंप मचा हुआ है| जिला प्रशासन का कहना है कि उसकी मौत बीमारी से हुई है|
ताजा मामला कस्बे के राजेपुर सरायमेदा का है| 40 वर्षीय मोती लाल पुत्र रामबाबू उर्फ़ भोला अपनी पत्नी गीता देवी व आठ वर्षीय पुत्री निर्भया,6 वर्षीय पुत्री खुशबु,4 वर्षीय विपिन व तीन वर्षीय नितिन के टूटी-फूटी झोपडी में रह रहा था| बीते कुछ दिनों से चल रही ठंड में झोपडी की दीवारों को चीरकर ठंडी हवा के रूप में घुसी मौत ने दलित मोती लाल का दम की निकाल दिया| सरकार जब दोनों हाथो ने पीएम आवास बाँटने का दावा कर रही है तो फिर मोती को अभी तक आवास क्यों नही मिला| क्यों उसकी मौत खुद की छट के नीचे नही हुई| मोती की मौत की खबर पर जिला प्रशासन सक्रिय हो गया| उन्होंने लेखपाल राहुल जी जाँच करने के लिए भेजा| लेखपाल ने जाँच की| पीड़ित परिवार ने सीएम योगी को भी शिकायत भेजी है|
विधायक भोजपुर नागेन्द्र सिंह राठौर ने जेएनआई को बताया कि मोती लाल की मौत का मामला उनकी जानकारी में नही है| यदि उसके पास अभी तक आवास नही था तो इसमे ग्राम प्रधान दोषी है| जाँच कराकर कार्यवाही की जायेगी|
तहसील सदर प्रदीप कुमार ने जेएनआई को बताया कि मोती की मौत बीमारी से हुई है| ठंड से नही हुई है| ठंड से मौत होंने की बात गलत है| मोती काफी दिनों से बीमार चल रहे थे|

डॉग शो में छाया रहा विदेशी कुत्तों का जादू,देशी नस्ल गायब

0

फर्रुखाबाद:कुत्ते आज आधुनिकता के समय में केबल अपनी सुरक्षा या शौक के लिए बल्कि एक अच्छा रोजगार देने के लिए भी पाले जा रहे है| कुत्तों के अच्छा धनकमाने के युग में आज देशी नस्ल के कुतों को पालने में दिलचस्पी लोगों की खत्म सी हो गयी है| यही कुछ डॉग शो में भी देखने को मिला|
नगर में बढ़पुर स्थित एक गेस्ट हॉउस में आयोजित डॉग शो में जनपद के साथ ही साथ दिल्ली,लखनऊ,कानपुर,मैनपुरी व बरेली आदि जिलो से बड़ी संख्या में लोग अपने कुत्ते डॉग शो में लेकर पंहुचे| जिसमें विदेशों में पाये जाने वाले विभिन्य प्रजाति के कुत्तो को लाया गया था| रॉट वेल्लर,पिट बुल,जर्मन शेफर्ड, डाबरमैन पिन्स्चर,बुलमास्टिफ,बॉक्सर, ग्रेट डैन,लिटिल लॉयन डॉग, रॉटविलर नस्ल,रोट्टूवेलर डॉग,समोई डॉग आदि दर्जनों विदेशी नस्ल के कुत्ते छाये रहे|
मजे की बात यह है कि डॉग-शो में पाकिस्तानी नस्ल का कुत्ता मैनपुरी से लेकर पंहुचे तो उसने द्वितीय एस्थान हासिल किया| सबसे बड़ी बात की चर्चा शुरू हुई की क्या देशी नस्ल का कोई भी कुत्ता डॉगशो में नही पंहुचा तो पता चला की पूरे शो में विदेशी कुत्ते ही छाये रहे| शो सुबह लगभग 11 बजे शुरू हुआ और शाम तक चलता रहा|