Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

कब्रिस्तान व मस्जिद की जमीनों के अबैध कब्जेदारों पर होगी कार्यवाही

Comments Off on कब्रिस्तान व मस्जिद की जमीनों के अबैध कब्जेदारों पर होगी कार्यवाही

फर्रुखाबाद:विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी मोनिका रानी की अध्यक्षता में अल्पसंख्यक अधिकार दिवस का आयोजन किया गया।जिसमे मुख्य रूप से कब्रिस्तान एवं मस्जिद की जमीनों पर कब्जा को लेकर वक्ताओं ने आबाज बुलंद की|
अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर डीएम ने कहा कि आपसी समन्वय को बरकरार रखा जाए। सभी वर्ग के समुदाय के लिए जिला प्रशासन पारदर्शी है और रहेगा। समाज में होने वाली छोटी-छोटी कमियांे को आप सबके सहयोग से समाप्त कराने का पूर्ण प्रयास जिला प्रशासन द्वारा किया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी कार्यक्रम में महिलाओं को भी प्रतिभाग करने हेतु आमंत्रित किया जाए। उन्होंने कहा कि कब्रिस्तान पर कब्जे की शिकायतें की गयी है। राजस्व, पुलिस विभाग की संयुक्त टीम द्वारा सर्वे कराकर कब्जेदारों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। डीएम ने बताया कि अल्पसंख्यक समाज के लिए प्रधानमंत्री जन विकास योजना के अन्तर्गत सदभाव मण्डप बनाने हेतु जिला प्रशासन द्वारा स्वीकृति दे दी गयी है। धार्मिक स्थलों पर या आस-पास पान, गुटखे की दुकानों को हटवाने हेतु अभियान चलाया जाएगा और संबंधित पर दण्डात्मक कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। अल्पसंख्यक समाज के अवशेष छात्र जो कि छात्रवृत्ति से वंचित है उनको जल्द से जल्द छात्रवृत्ति दिलाने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिए। अल्पसंख्यक समाज से जुड़े हर व्यक्ति तक विभाग की सभी योजनाओं की सूचनाएं पहुॅचाने के निर्देश दिए।
अल्पसंख्यक समाज के प्रतिनिधियों द्वारा बैठक में कब्रिस्तान की जमीनों पर कब्जे और अतिक्रमण की समस्याएं रखी गयी। उन्हांेने कहा कि मन्दिर, मस्जिद, गिरजा घर एवं गुरूद्वारा आदि धार्मिक स्थलों के आस-पास नगर पालिका एवं पंचायती राज विभाग द्वारा पूर्ण सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए। बैठक में बताया गया कि जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी द्वारा दों जनपदों का कार्यभार देखा जा रहा जिससे कि इस जनपद के अल्पसंख्यक समाज के प्रतिनिधियों को विभागीय योजनाओं की जानकारी व सूचनाएं प्राप्त नहीं हो पाती है। बैठक में जिला अल्पसंख्य कल्याण अधिकारी की तैनाती एक ही जनपद में कराने की मांग की गयी। कब्रिस्तान की जगहों पर पूर्ण सर्वे कराकर अभिलेखों में दर्ज कराया जाए। कब्रिस्तान की चाहरदीवार का निर्माण कराने की मांग की गयी। बैठक में यह भी बताया गया कि कब्रिस्तान की जमीनों पर कब्जा कर व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास का निर्माण करा रहे है। पूर्ण जांच कराकर संबंधित पर कार्यवाही करायी जाए। मदरसा प्रबन्धकों द्वारा आधुनिकीकरण के मानदेय न प्रदान किए जाने तथा भारत सरकार द्वारा संचालित छात्रवृत्ति योजना का पोर्टल पुनः खुलवाने की भी माॅग की गयी। मुख्य विकास अधिकारी अपुर्वा दुबे ने बताया गया कि प्रधानमंत्री जन विकास के अन्तर्गत सदभाव मण्डप, अल्पसंख्यक छात्राओं हेतु राजकीय बालिका इण्टर कालेज एवं ई-लाइबे्ररी की कार्य योजना प्रस्तुत किए जाने की जानकारी अल्पसंख्यक समुदाय को प्रदान की गयी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी,अल्प संख्यक कल्याण अधिकारी मकरंद प्रसाद, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी, पेश इमाम मोअज्जम अली,सपा जिलाध्यक्ष नदीम फारूकी,जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा बीजेपी,अरशद मंसूरी,शाकिर अली,डॉ० रामकृष्ण राजपूत एवं जनपद के अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रहे| संचालन रिजवान ने किया|

“आजाद” शहादत को याद करने पंहुची रज कलश यात्रा

Comments Off on “आजाद” शहादत को याद करने पंहुची रज कलश यात्रा

Posted on : 18-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:काकोरी कांड के शहीदों की शहादत दिवस पर मिशन अमर शहीद अमर जवान के द्वारा शहीद रज कलश यात्रा का आयोजन किया जा रहा है| जिसके तहत यात्रा शहर-शहर जाकर क्रांतिकारियों को श्रद्धांजलि दे रही है| नगर में पंहुची यात्रा ने भी शहीद आजाद को श्रद्धांजलि दी|
शहर के साहबगंज चौराहे पर स्थित आजाद भवन में अमर शहीद क्रांतिकारी पंडित रामनारायण आजाद के निवास पर पहुंचे यात्रा में आए लोगों ने शहीद आजाद के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की| आजाद की धरती से पावन मिट्टी लेकर यात्रा रवाना हुई| अन्य शहरों में शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए यात्रा 19 दिसंबर को दिल्ली अमर जवान ज्योति पर संपन्न होगी| कार्यक्रम की अध्यक्षता गिरीश चंद दुबे ने की| इस दौरान आजाद के पौत्र बॉबी दुबे, राजू भारद्वाज, धर्मेंद्र, रवि चौहान, संजय कुशवाहा,दीपक दुबे, पियूष दुबे आदि लोग मौजूद रहे|

अब डॉ० रजनी खुद करेंगी नरेंद्र सरीन विधालय का रखरखाब!

Comments Off on अब डॉ० रजनी खुद करेंगी नरेंद्र सरीन विधालय का रखरखाब!

फर्रुखाबाद:भाजपा नेत्री डॉ० रजनी सरीन के पूर्वजों के द्वारा जिला प्रशासन को दान में दिये गये विधालय की व्यवस्थाओं की हालत खस्ता है| एनएसए ने जिस भवन को नीलाम कर दिया था उसका डॉओ रजनी सरीन ने मंगलवार को निरीक्षण किया | जो विधालय की व्यवस्था को देख वह काफी दुखी दिखी| विभाग ने ना ही भवन पर ध्यान दिया ना की उसमे शिक्षा लेनें वाले नौनिहालों पर|लिहाजा डॉ० रजनी सरीन ने विधालय के देखरेख की व्यवस्था खुद करने का जिम्मा लिखित में उठा लिया है|
मंगलबार सुबह तकरीबन 11 बजे डॉ० रजनी सरीन फतेहगढ़ के नरेंद्र सरीन विधालय पंहुची| उन्होंने विधालय का भवन देखा जो दुरस्त था| इसके बाद उन्हें विधालय के कुल 130 बच्चे पंजीकृत मिले| 130 बच्चो पर केबल एक ही हेडमास्टर तैनात मिली| जिससे यह पता चलता है की विभाग नौनिहालों की शिक्षा पर कितना ध्यान दे रहा है| वही विधालय के कई कमरे विभागीय लोगों के कब्जे में मिले|
डॉ० रजनी सरीन को विधालय के रख रखाब करने का मिला आदेश
नगर शिक्षा अधिकारी सोमबीर सिंह ने नरेंद्र सरीन मांटेसरी विधालय व पूर्व माध्यमिक विधालय फतेहगढ़ की देख-रेख रख-रखाब एवं मरम्मत आदि कराने की स्वीकृत आदेश जारी कर दिया| जिसकी एक प्रति जिलाधिकारी को भेजी गयी है|
लगभग 60 वर्ष पूर्व हुआ था भवन का निर्माण
बताते चले विधालय का निर्माण 22 फरवरी 1964 को तत्कालीन राज्यपाल विश्व नाथ दास के द्वारा कराया गया था| उस समय इसका नाम नगर पालिका मांटेसरी स्कूल था| इसके बाद 5001 रूपये शांति देवी सरीन ने अपने दिवंगत पुत्र नरेंद्र सरीन के नाम पर दिए और विधालय का नाम नरेंद्र सरीन मांटेसरी स्कूल कर दिया गया| विधालय के प्रधानाचार्य के कक्ष में नरेंद्र सरीन की तस्वीर भी लगी थी|
विधालय में विधादान का किया जायेगा प्रयास
डॉ० रजनी सरीन ने बताया कि विधालय में केबल एक ही हेड मास्टर तैनात है| जिससे विधालय के बच्चों को पढाना काफी कठिन है| इसके लिए सामजिक और सेवा निवृत लोगों से विधालय में मुफ्त में विधादान कराया जायेगा|
नरेंद्र सरीन के जन्म दिन पर होगा आयोजन
आगामी 21 जनवरी को नरेंद्र सरीन का जन्मदिन है| जिसको लेकर भी विधालय के बच्चो के साथ जन्मदिन पर कार्यक्रम किये जाने की भी तैयारी है|

राहुल गांधी के पीएम पद की उम्मीदवारी पर अखिलेश असहमत

Comments Off on राहुल गांधी के पीएम पद की उम्मीदवारी पर अखिलेश असहमत

Posted on : 18-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-CONG., सामाजिक

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बाद एमके स्टालिन के बयान पर अपनी सहमति नहीं दी है। डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के गठबंधन के पीएम उम्मीदवार के रूप में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नाम को आगे करने पर अखिलेश यादव सहमत नहीं हैं।
अखिलेश यादव ने साफ कहा है कि यह जरूरी नहीं है कि एमके स्टालिन की राय पर गठबंधन के सभी सदस्य एकमत हों। गठबंधन के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में राहुल गांधी का नाम सामने लाने पर अखिलेश यादव ने कहा कि जनता अब भाजपा से नाराज है। इसी कारण कांग्रेस को तीन राज्यों में सफलता मिली है।अब गठबंधन को तैयार होना होगा। उन्होंने कहा कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री, ममता जी और शरद पवार जी ने गठबंधन बनाने के लिए सभी नेताओं को एक साथ लाने का प्रयास किया था। इस प्रयास में अगर कोई अपनी राय दे रहा है, तो जरूरी नहीं है कि गठबंधन की राय समान हो। प्रधानमंत्री पद के नाम पर किसी का भी नाम गठबंधन के सभी नेता तय करें तो बेहतर है।
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत न करने के बाद अब उनके बयान का भी विरोध किया है। कमलनाथ ने शपथ लेने के बाद बिहार व उत्तर प्रदेश के निवासियों के कारण मध्य प्रदेश के युवकों को नौकरी नहीं मिल पाती है।समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि कमलनाथ का यह बयान गलत है। अक्सर आप महाराष्ट्र से भी यही सुनते हैं। उत्तर भारतीय यहां क्यों आये हैं। उन्होंने यहां नौकरियां क्यों ली हैं। दिल्ली से और अब एमपी से भी। उन्होंने कहा कि अब तो उत्तर भारतीयों को फैसला करना होगा कि केंद्र सरकार उनके लिए क्या करेगी।
मध्य प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश व बिहार के लोग यहां पर आकर नौकरी करते हैं। स्थानीय लोगों को काम नहीं मिलता है। उनके इस बयान पर सोशल मीडिया के काफी हंगामा मचा था। कमलनाथ ने यह भी कहा था कि हमारी रोजगारपरक योजना का लाभ उन्हीं कंपनियों को मिलेगा जो कि 70 फीसदी स्थानीय लोगों को जॉब देंगी। इससे उत्तर प्रदेश व बिहार के लोग अपने आप कम होंगे। निवेश के प्रोत्साहन प्रदान करने की हमारी योजनाएं केवल मध्य प्रदेश के 70 प्रतिशत लोगों को रोजगार देने की शर्त पर लगाई जाएंगी। बिहार व उत्तर प्रदेश जैसे अन्य राज्यों के लोग यहां आते हैं और स्थानीय लोगों को नौकरी नहीं मिलती है। मैंने इस के लिए फाइल पर हस्ताक्षर किए हैं।
अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ का उत्तर प्रदेश व बिहार के लोगों को निशाना बनाना सही नहीं है। यहां के लोग ही केंद्र सरकार बनाते हैं। अखिलेश ने कहा जैसा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बोला वही महाराष्ट्र के लोग यूपी व बिहार के लोगों के बारे में बोलते हैं। यह सही नहीं है।समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत न करने के बाद अब उनके बयान का भी विरोध किया है। कमलनाथ ने शपथ लेने के बाद कहा कि बिहार व उत्तर प्रदेश के निवासियों के कारण मध्य प्रदेश के युवकों को नौकरी नहीं मिल पाती है।
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का यह बयान गलत है। अक्सर आप महाराष्ट्र से भी यही सुनते हैं। उत्तर भारतीय यहां क्यों आये हैं। उन्होंने यहां नौकरियां क्यों ली हैं। उन्होंने कहा कि अब तो उत्तर भारतीयों को फैसला करना होगा कि केंद्र सरकार उनके लिए क्या करेगी। मध्य प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश व बिहार के लोग यहां पर आकर नौकरी करते हैं। स्थानीय लोगों को काम नहीं मिलता है। उनके इस बयान पर सोशल मीडिया के काफी हंगामा मचा था। कमलनाथ ने यह भी कहा था कि हमारी रोजगारपरक योजना का लाभ उन्हीं कंपनियों को मिलेगा जो कि 70 फीसदी स्थानीय लोगों को जॉब देंगी।
इससे उत्तर प्रदेश व बिहार के लोग अपने आप कम होंगे। निवेश के प्रोत्साहन प्रदान करने की हमारी योजनाएं केवल मध्य प्रदेश के 70 प्रतिशत लोगों को रोजगार देने की शर्त पर लगाई जाएंगी। बिहार व उत्तर प्रदेश जैसे अन्य राज्यों के लोग यहां आते हैं और स्थानीय लोगों को नौकरी नहीं मिलती है। मैंने इस के लिए फाइल पर हस्ताक्षर किए हैं।अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ का उत्तर प्रदेश व बिहार के लोगों को निशाना बनाना सही नहीं है। यहां के लोग ही केंद्र सरकार बनाते हैं। अखिलेश यादव ने कहा जैसा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बोला वही महाराष्ट्र के लोग उत्तर प्रदेश व बिहार के लोगों के बारे में बोलते हैं। यह सही नहीं है।

पंपसेट में फंसने से महिला की दर्दनाक मौत

Comments Off on पंपसेट में फंसने से महिला की दर्दनाक मौत

Posted on : 18-12-2018 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(राजेपुर)पम्प सेट के निकट नहाने गयी महिला की उसमे उलझने से दर्दनाक मौत हो गयी| परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया| घटना के बाद पुलिस ने जाँच पड़ताल की|
थाना अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम चपरा निवासी 55 वर्षीय मीरा पत्नी मदन लाल दोपहर लगभग 2 बजे खेतों में लगे पम्पसेट के पानी से नहाने के लिए गयी थी| उसी दौरान महिला की साड़ी पम्पसेट में फंस गयी| जिसमे महिला भी उसमे फंस गयी| देखते ही देखते महिला की दर्दनाक मौत हो गयी| कुछ दूर खेत में पानी लगा रहे उसके पत्नी मदन लाल ने जब देखा तो चीखपुकारमच गयी| मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गयी| सूचना मिलने पर उपनिरीक्षक तहसीलदार वर्मा पंहुचे| उन्होंने जाँच पड़ताल की|

[bannergarden id="12"]