मुख्यमंत्री के नाम पर पेच,राजस्थान में समर्थक ने बसों में की तोड़फोड़

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, Politics-CONG., जिला प्रशासन

नई दिल्ली:मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में जीत के बाद कांग्रेस ने वापसी तो कर ली है, लेकिन इन राज्यों में मुख्यमंत्री किसे बनाया जाए, इसका फैसला कांग्रेस आलाकमान अभी नहीं कर पाया है। तीनों राज्यों में कांग्रेसी कार्यकर्ता अपने-अपने नेताओँ के समर्थन में नारेबाजी कर रहे हैं। भोपाल में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक आमने-सामने दिख रहे हैं। वहीं राजस्थान में कांग्रेस कार्यकर्ता उग्र होते दिख रहे हैं। सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने की मांग को लेकर कुछ कार्यकर्ताओं ने एनएच- 21 पर जाम लगा दिया है। रोडवेज की एक बस में तोड़फोड़ भी की गई है।
बतादें कि बुधवार को इन तीनों राज्यों में विधायक दल की बैठक के बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को सीएम का नाम फाइनल करने का प्रस्ताव दिया गया था। ऐसे में मुख्यमंत्री पर अंतिम फैसला पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को लेना था।
राफेल डील को लेकर कल आएगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला
– ‘फैसला जल्द लिया जाएगा, चिंता करने वाली कोई बात नहीं है। थोड़ा इंतजार कीजिए, तीन राज्यों के मुख्यमंत्री पर अभी फैसला लिया जाना है, इसमें थोड़ा वक्त लगता है। पार्टी अध्यक्ष इस पर निर्णय लेंगे। मैं कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे शांत रहें। उन्होंने कड़ी मेहनत की है। जो भी निर्णय होगा वो हम सबको मान्य होगा।’ : अशोक गहलोत
– सचिन पायलट ने पार्टी कार्यकर्ताओं से शांति और शिष्टाचार बनाए रखने की अपील की है। पायलट ने एक बयान जारी कर कहा ‘मुझे नेतृत्व पर पूरा भरोसा है। राहुल जी और सोनिया जी जो भी फैसला लेंगे वो मुझे मान्य होगा। पार्टी के सम्मान को बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है। हम पार्टी के लिए समर्पित हैं।’
– सचिन पायलट को सीएम बनाने की मांग को लेकर कांग्रेसियों ने एनएच-21 जाम किया, बस में भी लगाई आग।
– राजस्थान के करौली में सचिन पायलट के समर्थकों ने रोड जाम किया।
– जयपुर में सचिन पायलट के घर के बाहर जुटे समर्थक, नारेबाजी कर रहे हैं।
– भोपाल में कांग्रेस दफ्तर के बाहर समर्थकों ने पोस्टर लगाकर कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनने की बधाई दी।
– भोपाल में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की नारेबाजी, कमलनाथ और सिंधिया के समर्थक आमने-सामने
– राजस्थान में सीएम के पद को लेकर सस्पेंस बरकरार, अशोक गहलोत और सचिन पायलट को दिल्ली में रोका गया।
– सोनिया गांधी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के घर पहुंची।
– सूत्रों के मुताबिक राजस्थान के लिए गहलोत और मध्य प्रदेश के लिए कमलनाथ का नाम तय माना जा रहा है। उधर, सिंधिया को डिप्टी सीएम बनाए जाने की भी ख़बरें मिल रही हैं।
– सचिन पायलट और अशोक गहलोत के साथ राहुल गांधी की बैठक खत्म हो गई है। बैठक खत्‍म होने के बाद पहले राहुल के घर से बाहर सचिन पायलट निकले, उसके कुछ समय बाद अशोक गहलोत बाहर आए।
– राहुल गांधी ने सचिन पायलट और अशोक गहलोत को अपने आवास पर बुलाया है। राहुल दोनों नेताओं से भी उनकी दावेदारी पर बात करेंगे। उसके बाद ही कोई फैसला हो पाएगा। दोनों नेता राहुल गांधी के घर पहुंचे चुके हैं। जहां उनसे बातचीत जारी है।
– राजस्थान के निर्दलीय विधायक महादेव सिंह खंडेला ने अशोक गहलोत को सीएम बनाने की मांग की। खंडेला ने कहा, ‘राजस्थान की जनता अशोक गहलोत को सीएम देखना चाहती है। मैं भी यही चाहता हूं और मुझे लगता है कि हाईकमान भी यही फैसला लेगी।’
– राजस्थान के निर्दलीय विधायक राजकुमार गौड़ ने कहा, ‘अशोक गहलोत दो बार राजस्थान के सीएम रहे हैं। उनके पास अनुभव है। राजस्थान की जनता और विधायक उन्हें ही सीएम देखना चाहते हैं।’
– राजस्थान का सीएम किसे बनाया जाए, इसे लेकर राहुल गांधी और पर्यवेक्षकों के बीच मंथन जारी है। वहीं, दूसरी ओर निर्दलीय विधायकों के बयान आ रहे हैं। ज्यादातर विधायक अशोक गहलोत को सीएम देखना चाहते हैं।
– अशोक गहलोत और सचिन पायलट के समर्थक भी दिल्ली पहुंच गए हैं। दोनों के समर्थक कांग्रेस कार्यालय के बाहर अपने-अपने नेताओं को सीएम बनाने के लिए नारेबाजी कर रहे हैं।
– संसद के लिए जाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि विधायकों और कार्यकर्ताओं से राय ली जा रही है, सीएम पद पर जल्द ही फैसला हो जाएगा।
– राजस्थान के पर्यवेक्षक के.के. वेणुगोपाल राहुल गांधी से मिलने पहुंचे हैं। वहीं, मल्लिकार्जुन खड़गे भी राहुल से मिलकर छत्तीसगढ़ के सीएम के लिए अपनी राय जता चुके हैं। अब अंतिम फैसला राहुल गांधी करेंगे।
– राजस्थान में सीएम के दावेदार सचिन पायलट और अशोक गहलोत, राहुल गांधी से मिलने दिल्ली पहुंच चुके हैं। उधर, राहुल गांधी ने पर्यवेक्षकों को भी मुलाकात के लिए बुलाया है। दोनों से बातचीत के बाद ही राहुल गांधी, राजस्थान के सीएम की घोषणा करेंगे।
– अशोक गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘पर्यवेक्षकों ने शांतिपूर्ण तरीके से सभी की राय ले ली है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को (राजस्थान के सीएम उम्मीदवार पर) निर्णय लेना है। पर्यवेक्षक दिल्ली पहुंच चुके हैं। आज बातचीत होगी और निर्णय लिया जाएगा।’
राजस्थान के दावेदार
राजस्थान में वसुंधरा सरकार को सत्ता से बेदखल कर कांग्रेस सहयोगियों की मदद से सरकार बनाने जा रही है। यहां पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और युवा नेता सचिन पायलट मुख्यमंत्री रेस में हैं। दोनों नेताओं के बीच मुख्यमंत्री पद के लिए खींचतान की ख़बरें आ रही हैं, दोनों के समर्थक अपने नेता को सीएम देखना चाहते हैं।
छत्तीसगढ़ के दावेदार
छत्तीसगढ़ में सीएम पद की चुनौती से निपटने के लिए कांग्रेस आलाकमान ने मल्लिकार्जुन खड़गे को पर्यवेक्षक बनाया है। यहां सीएम पद की रेस में पार्टी प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, पार्टी के वरिष्ठ नेता ताम्रध्वज साहू और प्रतिपक्ष के नेता टीएस सिंहदेव का नाम चल रहा है। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री चरणदास महंत का नाम भी सीएम पद के लिए लिया जा रहा है।
मध्यप्रदेश के दावेदार
मध्यप्रदेश में पार्टी प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का नाम सीएम के लिए लगभग तय है। इससे पहले यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम लिया जा रहा था। हालांकि, कल विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से कमलनाथ का नाम तय हुआ है और उस पर राहुल गांधी की मुहर बाकी है।
ये हैं इन तीन राज्यों के नतीजे
इन तीनों राज्यों में छत्तीसगढ़ को छोड़ दें तो कांग्रेस को बहुमत नहीं मिला है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस को 230 में 114 सीटों पर जीत मिली है, जबकि राजस्थान में 200 में 199 सीटों पर हुए चुनाव में 99 सीटें पार्टी की झोली में आई हैं।
दोनों ही जगह पार्टी को सरकार बनाने के लिए बसपा और निर्दलियों का समर्थन मिल गया है। इस तरह कांग्रेस का दावा है कि उसके मध्यप्रदेश में 122 विधायकों और राजस्थान में 105 से ज्यादा विधायकों का समर्थन हासिल है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने 90 में से 68 सीटों पर भारी बहुमत से जीत हासिल की है।

महिलायों को शिखाये नारी सशक्तिकरण के फार्मूले

0

फर्रुखाबाद:सरकार द्वारा महिलायों को सशक्तिकरण बनाने के लिए चलायी जा रही योजनाओं के बारे में ग्रामीणों महिलाओं को जानकारी देकर उन्हें सशक्तिकरण के फार्मूले सिखाये|
विकास खंड शमसाबाद के ग्राम मिल्क सुल्तान पूर्व माध्यमिक व प्राथमिक विधालय की शिक्षिका दीपा शुक्ला व अनामिका ने गाँव में ही महिलाओं के साथ गोष्ठी का आयोजन किया| जिसमे सभी महिलाओं को सरकारी की डायल 102,108 व डायल 100 के विषय में अवगत कराया गया| इसके साथ ही महिलाओं से जुडी सरकारी की अन्य योजनाओ उज्वला योजना आदि के बारे में विस्तार से बताया गया|
इस दौरान आशा रिंकी देवी,रीना,कंचन,सुनीता देवी,पिंकी,कान्ति,सुनीता,गुड्डी,सोनी,बसंती,कुसमा व रामलली आदि रही|

संसद शहीदों की शहादत की 17 बरसी पर निकाला कैंडिल मार्च

0

फर्रुखाबाद:13 दिसम्बर 2001 को संसद पर हुए हमले में शहीद हुए लोगों की शहादत को याद करते हुए कैंडिल मार्च निकालकर उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दी गयी|
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) युवजन सभा के पदाधिकारियों ने संसद भवन के सभी शहीदों को याद कर उनको श्रद्धांजलि दी गयी| पहले पदाधिकारियों ने दुर्गा नारायण महाविधालय से विकास भवन तिराहे तक कैंडिल मार्च निकाला| इस दौरान सभी संसद शहीदों को याद कर उनकी आत्मा की शांति की दुआ की गयी|
इस दौरान शिखर सक्सेना,सुनील यादव,राजेन्द्र सिंह,शेर सिंह,सचेन्द्र प्रताप सिंह,मनीष मिश्रा,किशन शर्मा,गोविन्द पाठक,जोगेंद्र यादव,राजीव कटियार देवेश शर्मा आदि रहे|

संसद हमले में शहीद हुई थी फर्रुखबाद की बेटी व कन्नौज की बहू कमलेश कुमारी

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)संसद हमले की 17वीं बरसी पर देश शहीदों को याद कर रहा है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि शहीदों की वीरता को देश सदैव याद करेगा। आपको बताते चले की संसद में जो लोग शहीद हुए उनमे जनपद फर्रुखाबाद का नाम रोशन करने वाली साहसी कमलेश कुमारी भी थी| जिसने शहीद होकर देश की सबसे बड़ी पंचायत को बचाया ही साथ ही साथ फर्रुखाबाद का नाम भी संसद की दीवार पर हमेशा की लिए दर्ज करा दिया|
शहर के ग्राम नरायनपुर निवासी राजाराम के घर में पैदा हुई कमलेश कुमारी बचपन से ही होनहार थीं। कुछ कर गुजरने की तमन्ना और सकारात्मक सोच कमलेश के अंदर कूट कूट कर भरी हुई थी। अपने साथ साथ अन्य भाइयों का भी वह पूरा मार्गदर्शन किया करतीं थीं। जवान हुईं कमलेश के पिता राजाराम को उनकी शादी की फिक्र सता रही थी तभी उन्हें एक अच्छा रिश्ता हाथ लगा। पड़ोसी जनपद कन्नौज के सिकंदरपुर छिबरामऊ निवासी किशोरीलाल के पुत्र अबधेश के साथ शादी की बात पक्की हो गयी। दोनो जनपद यह नहीं जानते थे कि एक दिन फर्रुखाबाद की बेटी और कन्नौज की बहू राष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं के लिए आदर्श बनेगी। खैर सन 1988 में अपने हाथों में मेहंदी सजाकर कमलेश अनेक तमन्नायें लिए अपनी ससुराल सिकंदरपुर आ गयीं। लेकिन शादी होने के बाद भी उनके सपनों व कुछ कर गुजरने की तमन्ना में फर्क नहीं पड़ा। 6 वर्ष बाद आखिर कमलेश को एक रास्ता नजर आया, जिसका उन्होंने बचपन से ही सपना देखा था। फतेहगढ़ में सन 1994 में सीआरपीएफ की भर्ती हुई तो वह अपने पति अबधेश के साथ अपने मायके नरायनपुर पहुंची और पिता राजाराम से सेना में भर्ती होने की इच्छा प्रकट की। पिता ने उनकी इस इच्छा का समर्थन किया और उसी दौरान कमलेश सेना के सुरक्षा बेडे में शामिल हो गयीं। ट्रेनिंग खत्म होने के बाद उन्हें संसद की सुरक्षा में लगाया गया। जहां वह अपने पति अबधेश व दो पुत्रियों स्वेता व ज्योती के साथ विकासपुरी कालोनी दिल्ली में रहने लगीं थीं।
अचानक 13 दिसम्बर 2001 को संसद भवन की खामोशी में गोलियों की गड़गड़ाहट गूंज उठी। पेड़ों पर बैठे पच्छी दहशत में ऊंचे आसमान पर दौड़े, सड़कों पर अफरा तफरी थी, हर तरफ गोलियां चलने की आवाजें आ रहीं थीं। जैस ए मोहम्मद आतंकी संगठन ने संसद भवन पर हमला बोल दिया। घटना को अंजाम देने आये अफजल गुरू के साथ एस आर गिलानी, अफसान गुरू, शौकत हसन गुरू आदि आतंकियों ने संसद को चारों तरफ से घेरा हुआ था। आखिर इन आतंकियों में से किसी एक की गोली कमलेश के शरीर में आ धंसी और वह बीरगति को प्राप्त हो गयी।

कन्नौज से अपहरण कर लाया गया व्यापारी बरामद

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(राजेपुर)बीते शनिवार को जनपद कन्नौज से अपहरण कर लाये गये आईसक्रीम व्यापारी को पुलिस ने बरामद कर लिया| घटना के सम्बन्ध में व्यापारी के परिजनों को सूचना दी गयी|
जनपद कन्नौज के कुसुपुर निवासी अब्दुल जब्बर पुत्र अब्दुल सत्तर ने बताया की उसका मुम्बई में आईस्क्रीम का बड़ा कारोबार है| बीते शनिवार को वह अपने घर रहा था| तभी कार सबार चार बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया और कार में डाल लिया| बदमाशों उसके हाथ पैर बांधकर मुंह में कपड़ा ठूंस दिया था| बदमाश उसे दो दिन तक कर में ही लेकर घूमते रहे| इसके बाद उसे किसी कमरें में बंद रखा| अब्दुल जब्बर ने बताया कि बदमाश उसके घर का नम्बर मांग रहे थे|
बीती रात बदमाश उसे लेकर थाना राजेपुर के ग्राम गाँधी के निकट हाई-वे पर पंहुचे| जंहा बदमाश गाडी से बाहर खड़े| उसी दौरान अब्दुल जब्बर ने अपने हाथ किसी तरह खोल लिए और भाग खड़ा हुआ| भागकर वह बीती देर रात लगभग 3 बजे ग्राम गाँधी में पंहुचा| जंहा उसने ग्रामीणों को पूरा मामला बताया| ग्रामीणों ने डायल 100 को फोन किया| जिसके बाद डायल 100 मौके पर आ गयी| उसे थाने पंहुचाया| थाना पुलिस ने कन्नौज पुलिस को सूचना दी| कन्नौज में अब्दुल जब्बर की रिपोर्ट दर्ज है| प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार ने बताया की जाँच की जा रही है| कन्नौज पुलिए को सूचना दी गयी है|

बीजेपी विधायक बोले:सवर्णों को नाराज कर सत्ता में नहीं रह सकती भाजपा

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics, Politics-BJP

बलिया:बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने एक बार फ‍िर अपनी पार्टी को अपने बयानाें से असहज किया है। उन्‍हाेंने कहा है कि कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, यूं कोई बेवफ़ा नहीं होता। अपना दिल भी टटोल कर देखो फासला बेवजह नही होता….। ये पंक्तियां पूरी चरितार्थ है तीन राज्यों में भाजपा सरकार के पराजय की। तीनों राज्य सरकारें अच्छा काम कर रही थी, जनहित का काम कर रही थीं। बावजूद इसके केंद्र सरकार की एससी, एसटी एक्ट की नीति ले डूबी। सवर्णों को नाराज कर भाजपा सत्ता में नहीं रह सकती।
यह इतना ही सत्य है जितना पूरब से सूर्य उदय होना। मेरे कहने के मतलब यह नहीं है कि दलित भाइयों के साथ हकतल्फी हो किंतु गैर दलितों का भी सरकार को ख्याल रखना चाहिए क्योंकि भाजपा की नीति सबका साथ- सबका विकास का है। इस एक्ट के कारण पूरा सवर्ण समाज भयभीत है। जितना वोट तीनों राज्यों में गैर दलित समाज के लोगों ने नोटा में डाला है, उतने से ही यहां का चुनाव परिणाम बदल सकता था।सुरेंद्र सिंह गुरुवार को बैरिया में पत्रकारों से मुखातिब थे।
उन्होंने कहा कि अगर 2019 में केंद्र सरकार पुन: सत्ता में वापसी चाहती है तो उसे एससी, एसटी एक्ट पर पुन: विचार करना पड़ेगा और राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू कराना पड़ेगा अन्यथा की स्थिति में भाजपा का 2019 के चुनाव में भी भारी नुकसान होने की आशंका है। विधायक ने कहा कि मैं शुरू से एससी, एसटी एक्ट का विरोध कर रहा हूं किंतु हमारे जैसे छोटे कार्यकर्ता के बातों को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है।
जिस दिन बूछ स्तर के कार्यकर्ताओं के सुझावों पर हाई कमान गंभीरता से लेकर उसे अमली जामा पहनाने लगेगा, उसी दिन से पार्टी काफी सशक्त हो जाएगी क्योंकि कार्यकर्ताओं का मनोबल काफी ऊंचा हो जाएगा। वह पूरे उत्साह के साथ काम करेंगे और उन्हीं के बदौलत जनता -जनार्दन का आशीर्वाद हमें पाप्त होगा। उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार दोनों जनहित में कार्य कर रही है किंतु उस जनहित पर ये दोनों मुद्दे भारी पड़े हैं, और आगे भी भारी पड़ेंगे।

अपडेट:अधिक रक्तस्राव होने से हुई विवाहिता की मौत,मुकदमा दर्ज

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद:बीते दिन मृत विवाहिता को रिफर करने के मामले में परिजन भडक गये| वह शव लेकर पुन: अस्पताल पंहुचे और हंगामा किया| जिसके बाद पुलिस मौके पर आ गयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल की| मृतका के पति ने कोतवाली पुलिस को तहरीर दी| पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा कर लिया गया|
जनपद बदायूँ कादरचौक निवासी वीरपाल ने बीते लगभग 9 वर्ष पूर्व अपनी पुत्री मायादेवी का विवाह जनपद कासगंज गंजडूबारा धनपाल निवासी रजनी कान्त शाक्य के साथ हुआ था| रजनी कान्त का आरोप है कि बीते 12 दिसम्बर को वह पत्नी माया देवी को पेट के दर्द के चलते आवास विकास के सिद्धार्थ अस्पताल में लेकर आये थे| अस्पताल में 18 हजार का पैकेज में पथरी का आपरेशन तय हुआ था| डॉ० ऋषिकान्त जैन ने मायादेवी का आपरेशन किया| आपरेशन के दौरान ही अस्पताल कर्मियों ने एम्बुलेंस बुलाकर मायादेवी को आक्सीजन लगाकर रिफर कर दिया|
रजनीकांत उसे लेकर आगरा पंहुचे जंहा चिकित्सक ने बताया कि माया की मौत बीते लगभग चार घंटे पूर्व हुई है| जिस पर परिजन भडक गये| उन्होंने बीती रात लगभग एक बजे शव लाकर अस्पताल के बाहर रख दिया| लेकिन अस्पताल का गेट कर्मियों ने नही खोला| परिजनों ने जमकर हंगामा किया| इसके बाद पुलिस मौके पर आयी| पुलिस ने जाँच पड़ताल की|
मृतका के पति रजनीकान्त ने सिद्धार्थ अस्पताल के संचालक डॉ० विकास अग्निहोत्री,डॉ० ऋषिकान्त जैन के साथ आदि कर्मियों के खिलाफ तहरीर दी| पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा धारा 304 ए के तहत दर्ज कर लिया|
आपरेशन के दौरान अधिक रक्तस्राव से हुई थी विवाहिता की मौत
पुलिस ने विवाहिता का पोस्टमार्टम कराया | पोस्टमार्टम डॉ० सोमेश अग्निहोत्री,डॉ० सर्वेश कुमार के पैनल में किया गया| सूत्रों पर मिली जानकारी के मुताबिक मायादेवी की मौत आपरेशन के दौरान महिला का अधिक रक्तस्राव होना बताया गया है|

मातम में बदली खुशियां:बहन की डोली से पहले उठी भाई की अर्थी

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:शादी की खुशियों में बिन बुलाए मेहमान की तरह जब मौत शरीक हुई तो मातम छा गया। बहन की डोली उठने से पहले भाई की अर्थी उठ गई। दरअसल बहन की शादी में काम कर रहेभाई को तेज रफ्तार ट्रैक्टर ने कुचल दिया| जिससे भाई की दर्दनाक मौत हो गयी| बहन शादी के जोड़े में अपने भाई के शव पर बिलख-बिलख कर रो रही थी| जिसे देख हर किसी की आँख में आंसू आ गये|
थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के ग्राम कुईयांबूट निवासी राकेश बाबू नागर ट्रैक्टर के मिस्त्री का काम करते है| उनकी पुत्री राधा की बारात बीती रात शहर कोतवाली क्षेत्र के ठंडी सड़क स्थित नवभारत सभा भवन में आयी थी| शादी की लगभग सभी रस्मे पूरी हो गयी थी| फेरे पड़ने जा रहे थे| सुबह लगभग पांच बजे दुल्हन राधा का छोटा भाई 18 वर्षीय सनी अपने घर किसी काम से बाइक से निकला| उसी समय आलू लेकर जा रहे तेज रफ्तार ट्रैक्टर ने उसे कुचल दिया| जिससे वह गम्भीर रूप से जख्मी हो गया| जख्मी सनी को परिजनों ने लोहिया अस्पताल पंहुचाया| जंहा सनी को मृत घोषित कर दिया गया|
घटना की सूचना मिलते ही विवाह समारोह में मौत का मातम छा गया| परिजनों के साथ शादी के जोड़े में ससुराल जाने के लिए सजी मृतक की बहन राधा लोहिया अस्पताल पंहुची| शादी के जोड़ें में बहन व मृतक सनी की माँ किरन देवी को बिलख-बिलख कर रोते देखे हर किसी की आँखों में आंसू आ गये| पुलिस ने ट्रैक्टर को कब्जे में ले लिया| वही आईटीआई चौकी इंचार्ज राजीव कुमार ने शव का पंचनामा भरा|

राशिफल:देखें कैसा रहेगा आज आपका दिन

0

Posted on : 13-12-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

डेस्क:आज के दिन का राशिफल, कैसा होगा आपका दिन, किसे मिलेगा प्यार, किसका चलेगा व्यापार, करियर में किसे मिलेगी उड़ान, किसे मिलेगा धन अपार… हर वर्ग के लिए जानिए दैनिक राशिफल
मेष- पराक्रम व प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार से अधिक लाभ होगा। नौकरी में प्रशंसा मिलेगी। उत्साह वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बेचैनी रहेगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। व्यस्तता के चलते स्वयं का ध्यान नहीं रख पाएंगे। विवाद को बढ़ावा न दें।
वृष- सुख के साधन जुटेंगे। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। नई योजना बनेगी। समाज में मान-सम्मान मिलेगा। कोई बड़ी मुश्किल का हल मिलेगा। आय में वृद्धि होगी। पार्टनरों का सहयोग मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। जीवनसाथी की चिंता रहेगी। शत्रुभय रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा।
मिथुन- शारीरिक कष्ट संभव है। विवाद में न पड़ें। क्लेश होगा। बेचैनी रहेगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। शत्रुओं का पराभव होगा। लेन-देन में सावधानी रखें। आय में वृद्धि होगी। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। शुभ समय।
कर्क- गृह क्लेश हो सकता है। पार्टनरों से मतभेद संभव है। कुसंगति से हानि होगी। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। क्रोध व उत्तेजना से समस्या बढ़ सकती है। अपेक्षाकृत कार्यों में विलंब होगा। तनाव रहेगा। मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। व्यवसाय में उतार-चढ़ाव रहेगा। आय बनी रहेगी।
सिंह- कीमती वस्तु गुम हो सकती है। चोट व रोग से बचें। आशंका-कुशंका से बाधा संभव है। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल रहेगी। नौकरी में मातहतों का साथ रहेगा। व्यापार अच्छा चलेगा। जल्दबाजी न करें। रुके कामों में गति आएगी।
कन्या- शत्रुओं का का पराभव होगा। सुख के साधन जुटेंगे। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। नए कार्य करने का मन बनेगा। भाइयों का सहयोग मिलेगा। उत्साह वृद्धि होगी। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। सावधानी आवश्यक है। भाग्य साथ है। अपने काम पर ध्यान दें।
तुला- वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का मौका मिलेगा। परिवार व मित्रों के साथ जीवन सुखमय गुजरेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता प्राप्त करेगा। अध्ययन में मन लगेगा। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। बेचैनी रहेगी। व्यस्तता के चलते थकान हो सकती है। व्यापार में लाभ के योग हैं।
वृश्चिक- राजकीय कोप भुगतना पड़ सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। भागदौड़ अधिक रहेगी। दु:खद समाचार मिल सकता है। किसी अपने के व्यवहार से मन को ठेस पहुंच सकती है। दूसरों के उकसावे में न आएं। व्यापार धीमा चलेगा। नौकरी में मातहतों का सहयोग नहीं मिलेगा। आय में निश्चितता रहेगी।
धनु- अज्ञात भय सताएगा। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। जल्दबाजी न करें। अच्छी बात भी लोगों को समझ नहीं आएगी। विरोध होगा। जीवन सुखमय करने के लिए व्यय होगा। प्रयास सफल रहेंगे। कार्य की प्रशंसा होगी। सामाजिक कार्य में मन लगेगा। मान-सम्मान मिलेगा। आय में वृद्धि होगी। व्यापार में वृद्धि होगी।
मकर- आंखों का विशेष ध्यान रखें। चोट व रोग से बचाएं। चिंता रहेगी। घर में मेहमानों का आगमन होगा। व्यय होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। प्रसन्नता बनी रहेगी।
कुंभ- किसी अनहोनी होने का भय सताएगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। जुए व सट्टे से दूर रहें। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। कोई बड़ा काम होने से उत्साह व प्रसन्नता में वृद्धि होगी। जीवन सुखमय रहेगा। अपरिचितों पर अतिविश्वास न करें।
मीन- पुराना रोग उभर सकता है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। कर्ज लेना पड़ सकता है। चिंता तथा निराशा हावी रहेंगी। बेकार बातों पर ध्यान न दें। आय में निश्चितता रहेगी। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा।