शहीद इंस्पेक्टर के परिवार ने की सीएम से मुलाकात,योगी बोले जल्द सच आयेगा सामने

0

लखनऊ:बुलंदशहर में गोकशी के सूचना के बाद भड़की हिंसा में शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह ने परिवारीजन ने आज सीएम योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर भेंट की। इनको सीएम योगी आदित्यनाथ ने भेंट करने के लिए अपने आवास पर बुलाया था।
बुलंदशहर में तीन दिसंबर को हिंसा के दौरान शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिवारीजन ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास में मुलाकात की। इनके साथ विधायक अतुल गर्ग और डीजीपी ओपी सिंह भी वहां मौजूद रहे। योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर के स्याना थाने के इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के परिजनों से कहा दोषी कोई भी हो बचेगा नहीं। हमारी तीन टीमें वहाँ काम रही हैं। शीघ्र ही साजिश का सच सामने होगा।
मुख्यमंत्री ने सुबोध की पत्नी और माँ को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। सीएम ने कहा कि सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है। सीएम में पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि इस मामले में सरकार निष्पक्ष कार्रवाई कर रही है। कोई भी आरोपी बख्शा नहीं जायेगा। सीएम ने पीड़ित परिवार से करीब आधे घंटे तक मुलाकात की। सुबोध सिंह राठौर की पत्नी ने मीडिया को बताया कि वह सरकार की कार्रवाई से खुश हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीन दिसंबर को बुलंदशहर की घटना में दिवंगत पुलिस इंस्पेक्टर की पत्नी को 40 लाख रुपये और माता-पिता को 10 लाख रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने दिवंगत इंस्पेक्टर के आश्रित परिवार को पेंशन तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की है।
इस मामले में एसआइटी जांच की रिपोर्ट कल देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मिल गई है। यहां पर हिंसा के बाद आरोपियों की धरपकड़ जारी है।इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने कल कानून-व्यवस्था पर अधिकारियों के साथ बैठक की। बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी के शक में हिंसा भड़क उठी थी। इस हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक नौजवान सुमित चौधरी की मौत हो गई थी।अभी तक इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्य आरोपी बजरंग दल के नेता योगेश राज अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। कल योगेश ने एक वीडियो जारी कर सफाई जारी की। वीडियो में योगेश ने कहा कि स्याना में हुई घटना में पुलिस उसे अपराधी बताने में तुली हुई है।

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-