Featured Posts

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

माटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रामाटी के चूल्हों से रामनगरिया में रोजगार तलाश रही इंद्रा फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)चूल्हे की रोटी का स्वाद जिसने चख रखा हो, उसे मिट्टी की हांडी का बदल अच्छा नहीं लगता। मुझे बैलगाड़ी में बैठाकर गांव ले चलिए, घुटन होती है कारों में महल अच्छा नहीं लगता। यह कुछ लाइनें नाम चीन शायर अशोक साहिल की है| यह वेदना उस धुन की पक्की महिला को देखकर...

Read more

सपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के शैलेन्द्र अध्यक्ष मनोनीत

Comments Off on सपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के शैलेन्द्र अध्यक्ष मनोनीत

Posted on : 30-11-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के विधान सभा अध्यक्ष पद पर शैलेन्द्र सिंह शाक्य की ताजपोशी कर दी गयी है| उसके साथियों ने शैलेन्द्र को बधाई दी|
राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर एंव सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के आदेशा पर पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश शर्मा ने शैलेन्द्र सिंह शाक्य को विधानसभा अमृतपुर का व्लाक अध्यक्ष बनाया है| शैलेन्द्र को पूर्व मंत्री व अमृतपुर विधानसभा के पूर्व विधायक नरेंद्र सिंह ने शैलेन्द्र सिंह को मनोनयन पत्र सौपा| इस दौरान पूर्व जिला महासचिव समीर यादव आदि रहे|

पदयात्रा कार्यक्रम के लिये कार्यकर्ताओं को दी जिम्मेदारी

Comments Off on पदयात्रा कार्यक्रम के लिये कार्यकर्ताओं को दी जिम्मेदारी

Posted on : 30-11-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद:(राजेपुर)भाजपा की पदयात्रा कार्यक्रम के तहत कार्यकर्ताओं को बड़ी संख्या में रहने के साथ ही उन्हें जिम्मेदारी भी दी गयी| बैठक में पदयात्रा के बहाने आगामी लोकसभा चुनाव को फतेह करने की रणनीति पर भी विचार किया गया|
कस्बे में आयोजित राजेपुर मंडल की बैठक में कार्यकर्ताओं को 1 दिसंबर से 15 दिसंबर तक पदयात्रा लगने की सलाह दी गयी| बैठक में पंहुचे जिला महामंत्री रुपेश गुप्ता ने सभी को कार्यक्रम से अवगत कराया| उन्होंने बताया की राजेपुर व्लाक में दो टोली बनाकर जमापुर से पदयात्रा विधायक सुशील शाक्य रवाना करेंगे| एक टोली कड़हर, दूसरी टोली गुजरपुर अमृतपुर समर्थक लेकर जाएंगे
युवा मोर्चा अध्यक्ष राजकुमार पांडेय, मंडल अध्यक्ष विभवेश सिंह, मनोज मिश्रारमेश राजपूत आदि लोग मौजूद रहे

दिव्यांगो के प्रति डॉ० रजनी का सेवा भाव देख ब्रिगेडियर दंग

Comments Off on दिव्यांगो के प्रति डॉ० रजनी का सेवा भाव देख ब्रिगेडियर दंग

Posted on : 30-11-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: लोहिया अस्पताल में चल रहे दिव्यांगों के विकलांग कल्याण शिविर में दूसरे दिन राजपूत रेजिमेंट सेंटर के ब्रिगेडियर ने पंहुच शिविर का जायजा लिया| उन्होंने दिव्यांगों के प्रति डॉ० रजनी सरीन का सेवाभाव देख उनकी हौसलाअफजाई की|
शुक्रवार को दोपहर शिविर में अपनी पत्नी मंजुला मल्होत्रा के साथ पंहुचे ब्रिगेडियर पीएन मल्होत्रा ने पूरे शिविर का जायजा लिया| बड़े पैमाने पर शिविर में बनाये जा रहे दिव्यांग उपकरणों को देखकर वह भावुक भी हो गये| उन्होंने कहा इतनी बड़ी संख्या में दिव्यागों को उपकरण कराने को उन्होंने ऐतिहासिक बताया| उन्होंने कहा की इस तरह के कैम्प के आयोजन से दिव्यांगो को काफी राहत मिलती है| जो विकलांग अपने पैरो पर चल नही सकते लेकिन शिविर में उन्हें जो उपकरण दिए जा रहे जिससे वह अपने पैरों पर खड़े हो रहे है| दूसरे दिन भी उपकरण पाकर दिव्यांग ख़ुशी-ख़ुशी अपने घर गये|
इस दौरान इस दौरान संस्था के निर्देशक रमेश चन्द्र, उदय वाथम आदि रहे|

पांच वर्ष के बच्चे को एक दिन का विधायक बनाया,सुनी शिकायतें

Comments Off on पांच वर्ष के बच्चे को एक दिन का विधायक बनाया,सुनी शिकायतें

लखनऊ:उत्तर प्रदेश में स्कूली बच्चों को सरकारी कार्यशैली से अवगत कराने के लिए एक दिन का थानेदार या फिर एसडीएम तो बनाने की प्रक्रिया तो पुरानी पड़ गई है, लेकिन महोबा के चरखारी से चर्चित विधायक ब्रजभूषण राजपूत इस मामले में एक कदम आगे बढ़ गए हैं। उन्होंने महोबा में एक गांव के पांच वर्षीय बच्चे को एक दिन का विधायक बनाने का साहस दिखाया। दिव्यांग इस बालक ने न सिर्फ लोगों की शिकायतें सुनीं बल्कि सरकारी सुरक्षा में भी रहा।
जनप्रतिनिधि के लोगों को अपना काम दिखाने को लेकर एक फिल्म नायक बन चुकी है। इसमें अभिनेता अनिल कपूर एक दिन के लिए सूबे के मुख्यमंत्री बनते हैं और दिन भर कई सारे काम करते हैं। असल जिंदगी में भी हाल ही में एक ऐसा वाकया सामने आया है जहां एक पांच साल के बच्चे को एक दिन के लिए विधायक बनाया गया। यह घटना महोबा के चरखारी में देखने को मिली। चरखारी के विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने पांच वर्ष के बच्चे को एक दिन के लिए विधायक बनाया। यह औपचारिकता नहीं थी बल्कि बच्चे ने एक दिन तक विधानसभा क्षेत्र में कई काम भी किए और विधायक ब्रजभूषण ने एक दिन के लिए बच्चे को अपनी गाड़ी, गनर और सचिव सौंप दिए। विधायक बना यह बच्चा दिव्यांग है। एक दिन के विधायक प्रोटोकॉल के तहत बच्चे को सभी अधिकार भी दिए गए। नए नए विधायक बच्चे ने भी अपने अधिकारों का भरपूर उपयोग किया और जनसमस्याओं से लेकर औचक निरिक्षण तक सारी कारर्वाइ की। इसके अलावा पांच साल के विधायक देर रात चरखरी नगर कोतवाली के निरिक्षण करने भी जा पहुंचे।
एक दिन के छोटे विधायक चौपाल गए और यहां पर जाकर लोगों की समस्याएं सुनीं और कई लोगों की अर्जी स्वीकार की गईं। इसके बाद नन्हे विधायक को कोतवाली में ले जाया गया जहां नन्हें विधायक को दारोगा ने अपने हाथों से उठाकर कुर्सी पर बैठा दिया। यहां विधायक का स्वागत तो हुआ ही साथ ही शिकायतों के निस्तारण की क्या स्थिति है इसके लिए रजिस्टर भी दिखाया गया। एक दिन के विधायक के साथ लोगों ने सेल्फी खिचवाई।
महोबा के चरखारी में एक दिन का विधायक बनने का गौरव हासिल करने का श्रेय अरुण अहिरवार को मिला। यह यह बच्चा जन्म से ही बोल पाने में असमर्थ है। उसकी यह स्थिति को देखकर मां-बाप उसके भविष्य को लेकर चिंता में रहते हैं। विधायक बनाने की घटना ने बच्चे को तो खुश किया ही साथ ही उसके मां-बाप के चेहरे पर भी मुस्कान बिखर गई। अपने दिव्यांग बेटे को इस तरह सम्मान मिलने से पिता तुलसीराम की आंखें नम हो गईं। बताया कि उसका पुत्र जन्म से नहीं बोल पाता है। लेकिन, आज चरखारी के विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने बेटे को जो सम्मान दिया है, उसे वह जीवन भर नहीं भुला पाएंगे।
चरखारी विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने दिव्यांग को अपनी जगह जन चौपाल पर बैठा दिया। नन्हा अरुण विधायक की तरह जनसमस्याओं की अर्जी लेता रहा। उसने इशारों में कोतवाल को भी निर्देश दिए। अरुण का परिवार खुशी के मारे फूला नहीं समा रहा है।विधायक ब्रजभूषण का तामझाम लेकर नन्हें अरुण कोतवाली पहुंचे। यहां तैनात दरोगा ने उन्हें गोद में उठाकर कुर्सी पर बैठाया। कोतवाली में अरुण की खूब आवभगत हुई। अरुण को शिकायत निस्तारण रजिस्टर भी दिखाया गया। चरखारी विधानसभा के जैतपुर कस्बे से पहुंचे फरियादियों की खासी भीड़ रही। लोगों ने नन्हें बालक के साथ खूब सेल्फी ली।
पेशे से दिहाड़ी मजदूर तुलसीराम के घर का चूल्हा मजदूरी मिलने पर जलता है। ऐसे में अरुण को पढ़ाने की व्यवस्था नहीं है। इस पर विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने अरुण को पढ़ाने का पूरा खर्च वहन करने की घोषणा की। वह जहां तक पढ़ेगा, विधायक उसे पढ़ाएंगे। चरखारी के विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने कहा कि अरुण की सामान्य बच्चों से इतर महत्वाकांक्षी देख यह निर्णय लिया। उन्होंने आज थाने का निरीक्षण किया, संभव है कल जिलाधिकारी से भी मिलें। उन्हें एक दिन का पूरा वेतन भी मिलेगा।
भाजपा के चर्चित विधायक ब्रजभूषण राजपूत
ब्रजभूषण राजपूत के पिता गंगाचरण राजपूत लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य रह चुके हैं। वह भाजपा, कांग्रेस, बसपा और सपा के नेता रह चुके हैं। बुंदेलखंड के दिग्गज नेताओं में शामिल गंगाचरण राजपूत के पुत्र भी उनकी लाइन पर है। खानदानी राजनीतिक भाजपा के विधायक भाजपा के विधायक ब्रजभूषण राजपूत को चर्चाओं में रहने का शौक है। यहां से विधायक बनने के बाद पहली बार चर्चाओं में तब आए थे जब उन्होंने हज यात्रा को लेकर विवादित बयान दिया था। ब्रजभूषण ने कहा था कि अगर राम मंदिर नहीं बना तो हज यात्रा पर रोक लगा दी जाएगी। हालांकि, भाजपा ने उनके इस बयान से पल्ला झाड़ लिया था।

हमारी पार्टी मजदूर, किसान और जवान का हित करने को संकल्पित:राजा भईया

Comments Off on हमारी पार्टी मजदूर, किसान और जवान का हित करने को संकल्पित:राजा भईया

Posted on : 30-11-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, राष्ट्रीय

लखनऊ:निर्दलीय विधायक के रूप में 25 वर्ष पूरा कर चुके दबंग रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने आज अपनी पार्टी के गठन की घोषण कर दी। सक्रिय राजनीति में आज ही दिन यानी 30 नवंबर को 25 वर्ष पूरा करने के उपलक्ष्य में उनके समर्थकों ने इस रैली को ‘राजा भैया रजत जयंती अभिनंदन समारोह’ का नाम दिया है।
रघुराज प्रताप सिंह ने मंच से सभी का अभिवादन करने के साथ ही खुलकर अपनी बात कही। लखनऊ के रमाबाई अम्बेडकर मैदान में उन्होंने कहा कि अब हम भी दलगत राजनीति में उतर रहे हैं। हमारे समर्थकों ने लंबे समय तक सर्वे किया और उसके बाद हमने उनके सम्मान में पार्टी का गठन करने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के नाम के लिए चुनाव आयोग में प्रक्रिया तेजी से चल रही है। हमारी पार्टी को जनसत्ता दल, जनसत्ता पार्टी या जनसत्ता लोक तांत्रिक पार्टी में से कोई नाम मिलेगा। हमारे क्षेत्र के लोगों ने विधानसभा में हमारे 25 साल पूरे होने पर बड़ा सर्वे कराया गया। इसमें 20 लाख लोगों नेभाग लिया और 80 फीसदी से ज्यादा लोगों ने नए दल के गठन के लिए अपनी राय रखी। हम उनका पालन कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि आरक्षण का लाभ ले चुके आइएएस-आइपीएस अधिकारियों को आरक्षण से बाहर करके गरीबों को लाभ देना चाहिये। उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में संसोधन एक्ट पर सभी राजनैतिक दल एकजुट हो गये। इसके बाद भी सरकार गंभीर नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी तो समानता की लड़ाई के लिए काम करेगी।
दबंग विधायक के रूप में विख्यात राजा भैया ने कहा कि हमारे प्रदेश में मुआवजा देने के मामले में भी बड़ा भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकारी मुआवजा जाति देखकर नहीं होना चाहिए। इसके बाद रैली में मौजूद लोगों से पूछा कि क्या हत्या और बलात्कार पर क्या जाति देखकर मुआवजा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि जाति के आधार पर मिलने वाला हर प्रकार का मुआवजा बंद हो। सरकार पर इस पर ध्यान देना चाहिए. क्योकि किसी भी पीडि़त परिवार में दुर्घटना होने के बाद उसकी जाति पूछकर मदद नहीं करनी चाहिए। हम इसका विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी प्रदेश के मजदूर, किसान तथा बहादुर जवानों के हर प्रकार के हित को लेकर संकल्पित है। उन्होंने कहा कि किसी ने नहीं सोचा था कि हम लोग भी अपने अधिकारों की मांग कर सकते हैं।
राजा भैया ने कहा कि हम तो जरा भी दलित विरोधी नही हैं। हम चाहते है कि दलितों को न्याय मिलना चाहिए और मुआवजा भी लेकिन गैर दलितों को भी मुआवजा मिले यह भी हमारा एजेंडा है। हम दलितों के स्थान पर मजबूत लोगों को मुआवजा तथा मदद मिलने के घोर विरोधी है। हमने इस प्रकार की मदद का हमेशा खुलकर विरोध भी किया है। हम पार्टी बनाने के बाद दलित और गैर दलित के बीच के खाई को समाप्त करेंगे।उत्तर प्रदेश सरकार में लंबे समय तक कैबिनेट मंत्री रहे रघुराज प्रताप सिंह ने कहा कि हमारी पार्टी का एजेंडा है कि सेना और अर्धसैनिक बल के जवानों के सीमा पर शहीद होने पर एक करोड़ रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। हमारी पार्टी सेना व अर्धसैनिक जवानों के हितों की रक्षा के लिए काफी बड़ा काम करेगी। हमारी पार्टी प्रदेश के मजदूर, किसान और जवान के लिए संकल्पित है।
राजा भैया की प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, अमेठी और इलाहबाद में अच्छी पकड़ मानी जाती है। यह पूरी कवायद राजा भैया को उत्तर भारत में बतौर क्षत्रिय नेता स्थापित करने की है। उनकी राजनीति अगड़ा बनाम पिछड़ा ही रहेगी। पिछले दिनों उन्होंने एससी/एसटी एक्ट में बदलाव के चलते सवर्णों के उत्पीडऩ का मुद्दा उठाया था। पूरी कवायद राजा भैया को उत्तर भारत में बतौर क्षत्रिय नेता स्थापित करने की है। उनकी राजनीति अगड़ा बनाम पिछड़ा ही रहेगी। पिछले दिनों उन्होंने एससी/एसटी एक्ट में बदलाव के चलते सवर्णों के उत्पीड़न का मुद्दा उठाया था।

[bannergarden id="12"]