मानव संसाधन का सबसे सशक्त माध्यम है साहित्य

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:संस्कार भारती कानपुर प्रान्त के द्वारा आयोजित गोष्ठी में साहित्य का मानव जीवन पर प्रभाव पर चर्चा हुई| विद्धानो ने कहा कि मानव संसाधन का सबसे सशक्त माध्यम साहित्य है| यह लोगों के विचारों को शुद्धता प्रदान करता है|
नगर के ठंडी सड़क स्थित एक गेस्ट हॉउस में आयोजित संगोष्ठी साहित्य सृजन से राष्ट अर्चन विषय पर आधारित थी| संगोष्ठी में लखनऊ से आये पदम् कान्त शर्मा ने कहा कि साहित्य मानव कल्याण का सबसे सशक्त माध्यम है| लोगों के विचारों को शुद्दता प्रदान करता है| साहित्कार डॉ० शिवओम अम्बर ने कहा कि साहित्य बोध कराता है कि उदबोधन और सम्बोधन करता है| उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी, बल कवि बैरागी आदि कबियों का उदहारणदेकर कहा कि राष्ट्र धर्म और राष्ट अर्चन को साहित्य का धर्म बताया|
कानपुर से आये डॉ० श्याम बाबू गुप्ता ने कहा कि राष्ट्र की आराधना का काम साहित्यकार करता है| कायमगंज से आये रामबाबू रतनेश, झांसी के संजय तिवारी, सह संयोजक देवेन्द्र देव, कमलेश गुप्ता, डॉ० रजनी सरीन, सुरेन्द्र पाण्डेय आदि ने विचार व्यक्त किये| कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ० ओम प्रकाश मिश्रा कंचन ने की|
इस दौरान क्षेत्रीय संगठन मंत्री गिरीश चन्द्र गुप्ता, डॉ० कंचन, पदम् कान्त प्रभात, डॉ० शिव ओम अम्बर, रविन्द्र भदौरिया को सम्मानित किया गया| संजय गर्ग, आकांक्षा सक्सेना, अनुराग पाण्डेय, आदेश अवस्थी, अखिलेश पाण्डेय, निमिष टंडन आदि रहे| संचालन तुमषुल मिश्रा ने किया|
पांचाल प्रकाशन ने लगायी प्रदर्शनी
संस्कार भारती के कार्यक्रम के दौरान पांचाल प्रकाशन के संरक्षक डॉ० शिवओम अम्बर,परामर्शक रविन्द्र भदौरिया व निदेशक सुनील अवस्थी के द्वारा जिले के कवियों व साहित्यकारों द्वारा लिखी गयी कुल 56 पुस्तकों की प्रदर्शनी लगायी| जिसे खूब सराहा गया|

हिन्दू महासभा ने किया संगठन विस्तार

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:अखिल भारतीय हिन्दू महासभा ने बैठक कर संगठन का विस्तार किया| इसके साथ ही साथ समाज व संगठन को मजबूत करने पर भी बल दिया गया|
शहर के बढ़पुर स्थित एक गेस्ट हॉउस में आयोजित हुई बैठक में राष्ट्रीय गीत के साथ वंदना की गयी| बैठक में जिलाध्यक्ष विमलेश मिश्रा ने विभिन्य संवर्गों का विस्तार किया| जिसमें नगर स्तर, वार्ड अध्यक्ष एवं ग्राम पंचायत स्तर पर समायोजन किया गया| बैठक में निष्ठावान पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को अंगवस्त्र भेट कर उन्हें सम्मानित किया|
जिलाध्यक्ष ने समाज व संगठन को मजबूत करने पर बल दिया | इसके साथ ही जोश उत्साह व राष्ट प्रेम का संचार कराया| मंडल अध्यक्ष अंकित तिवारी ने भी विचार व्यक्त किये| बैठक का संचालन सौरभ मिश्रा ने किया| अध्यक्षता प्रदेश सहमंत्री किशन मिश्रा ने की|

सेतु निगम के अफसरों को ढाई घाट पुल पर नही दिखे सपाई,अज्ञात में दी तहरीर

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, Politics-BJP

फर्रुखाबाद:(शमसाबाद)एक होता है की दखाई नही देता और दूसरा जानबूझ कर अपनी आँखे बंद कर लेना| यही कुछ सेतु निगम के अफसरों ने भी कर दिखाया| जिस मुद्दे पर पूरे जिले की राजनीति गर्म है,चैनल, सोशल मीडिया व अख़बारों में खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया| सभी में फोटो भी लगे है| लेकिन अज्ञात में तहरीर देना चर्चा का विषय बना है|
बीते दिन सपा जिलाध्यक्ष नदीम फारुखी ने अपने सैकड़ो सपा नेताओं के साथ ढाई घाट के पुल पर पंहुचकर फीता काट व नारियल तोड़कर पुल का लोकार्पण करने का दावा किया था| जो मीडिया में सुर्खियाँ बना है| बीजेपी संगठन से लेकर शासन व प्रशासन तक सभी के पास खबर है|
रविवार को शाम सेतु निगम के उप परियोजना प्रबन्धक एडी चौहान ने थाने में तहरीर दी| जिसमे उन्होंने सपा नेताओं को साफ कर दिया| उन्होंने अज्ञात अराजक तत्वों के खिलाफ तहरीर दी| जिससे जिले की सियासत में फिर उफान है| अधिकारीयों का यह लचर पन अंक जनता के गले नही उतर रहा है| जिस समय तहरीर दी गयी उस समय कई बीजेपी नेता बैठे थे| उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नही दी गयी|
थानाध्यक्ष ने बताया की अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी गयी है| किसी सपा नेता का नाम नही है| जाँच की जा रही है|
बीजेपी जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने तहरीर देने वाले उप परियोजना प्रबन्धक का बचाव किया| उन्होंने बताया की सरकारी कर्मी नामजद मुकदमा दर्ज नही करा सकता| पुलिस विवेचना कर कार्यवाही करेगी| यह सांसद व विधायकों का मामला है उन्हें देखना चाहिए| वह तो संगठन के आदमी है|

महिला सिपाही मोनिका ने की आत्महत्या,एसओ पर गंभीर आरोप

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

बाराबंकी:उत्तर प्रदेश पुलिस की एक महिला सिपाही ने आत्महत्या कर ली। बाराबंकी के हैदरगढ़ थाना में तैनात मोनिका ने एसएचओ तथा सिपाही पर गंभीर आरोप लगाया है।
उत्तर प्रदेश पुलिस में तैनात जवान इन दिनों मानसिक तौर पर प्रताडि़त हो रहे हैं। इसी कारण बाराबंकी की हैदरगढ़ कोतवाली में तैनात महिला आरक्षी मोनिका ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मृतक मोनिका के पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें एसएचओ पर असहयोग का आरोप लगाया है। मोनिका ने सुसाइड नोट में लिखा है कि उसे मानसिक तौर पर परेशान किया जा रहा था। आरक्षी मोनिका ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं मोनिका थाना हैदरगढ़, बाराबंकी में आरक्षी के पद पर नियुक्त हूं। मुझे कार्यालय में सीसीटीएनएस पर कार्यरत होने के बावजूद भी बार-बार बाहर ड्यूटी लगाकर टार्चर किया जाता है।
मोनिका ने अपना दर्द बयां करते हुए लिखा है कि बाकी सीसीटीएनएस पर कार्यरत लोगों की कही बाहर ड्यूटी नहीं लगती है। मोनिका ने लिखा है कि डिपार्टमेंट में अगर कुछ खुद के साथ गलत हो रहा है तो उसका विरोध भी करना गुनाह है। यहां तो जो भी हो रहा है चुपचाप सहते जाओ, तब ही शायद सभी खुश रहते हैं।
मोनिका के मुताबिक, जब उन्होंने इस चीज का विरोध किया तो कार्यालय में मौजूद कांस्टेबल मो. रूखसार अहमद और एसएचओ परशुराम ओझा उसे मानसिक तौर पर परेशान करने लगे। यही नहीं रजिस्टर पर गैर हाजिरी भी लगा दी गई। मोनिका ने लिखा है कि 29 सितंबर को जब वह अपनी छुट्टी लेकर एसएचओ के पास गई तो उन्होंने रजिस्टर फेंक दिया और बोले कि हम छुट्टी नहीं देंगे।
आरक्षी मोनिका हरदोई जिले की मूल निवासी है और 2016 बैच की सिपाही थी। वह करीब एक वर्ष से कोतवाली में तैनात थी। जानकारी के मुताबिक मोनिका पंजाब नेशनल बैंक के पास किराए का कमरा लेकर रह रही थी। मोनिका ने लिखा है कि मुझे समझ नहीं आता है कि आखिर जिन छुट्टियों पर हमारा हक है उनके लिए भी हमें उच्च अधिकारियों के सामने भीख मांगनी पड़ती है। आखिर कब तक यह सब कर्मचारियों को झेलना पड़ेगा। मोनिका ने लिखा है कि अगर आज छुट्टी दे दी गई होती तो यह कदम नहीं उठाना पड़ता और आज नहीं रोना व परेशान होना पड़ता। मोनिका ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि सॉरी मम्मी-पापा जो भी आप लोगों के साथ गलत किया, हो सके तो मुझे इस हरकत पर माफ कर देना।

विधान सभाओं में बूथ सम्मेलन आयोजित करेगी सपा

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद: समाजवादी पार्टी ने अक्टूबर में जिले की चारों विधान सभाओं में बूथ सम्मेलन के आयोजन की रणनीति बनायी है| जिसके तहत चारों विधान सभाओं में अलग-अलग तिथियों को सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा|
सपा के आवास विकास स्थित पार्टी के जिला कार्यालय पर जिलाध्यक्ष नदीम फारुखी ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के निर्देश पर सभी विधान सभा क्षेत्रों में बूथ सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा| जो तीन अक्टूबर से 9 अक्टूबर तक अलग-अलग तिथियों पर चलेगा| सम्मेलन में सभी बूथ प्रभारी व बूथ कमेटी के सदस्य हिस्सा लेंगे| सदर विधान सभा का सम्मेलन 3 अक्टूबर, अमृतपुर विधान सभा का सम्मेलन आगामी 5 अक्टूबर, भोजपुर विधान सभा का सम्मेलन 8 अक्टूबर के साथ ही कायमगंज विधान सभा का सम्मेलन 9 अक्टूबर को आयोजित होगा|
बीजेपी नेताओं के विवादित वयान पर भड़के सपा जिलाध्यक्ष
बीते दिन शमसाबाद क्षेत्र के ढाई घाट के पुल का लोकर्पण सपा जिलाध्यक्ष नदीम फारुखी व जिला महासचिव मंदीप यादव के नेतृत्व में किया गया था| बीजेपी की सरकार में सपा नेताओं के द्वारा पुल का लोकार्पण चर्चा का विषय बना हुआ है| बीते दिन बीजेपी जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने सपा नेताओं को कानून तोड़ने का आदि बताया था| वही बीजेपी सांसद मुकेश राजपूत ने सपा नेताओं को गुंडा गर्दी करने वाला बताया था| जिससे सपा जिलाध्यक्ष ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है| नदीम फारुखी ने कहा है कि बीजेपी नेता पहले अपने अन्दर देखें उसके बाद किसी पर कीचड़ उझाले| यदि जिला प्रशासन मुकदमा दर्ज करता है तो करे| सपा नेताओं पर कोई फर्क नही पड़ेगा|
जिला महासचिव मंदीप यादव ने भी बीजेपी की वयानबाजी पर तीखी प्रतिक्रिया दी है| पुष्पेन्द्र यादव, मनमोहन मिश्रा, इलियास मंसूरी,रजत क्रन्तिकारी आदि रहे|

काली नदी में कई घंटे से चल रही दिव्यांग की तलाश

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) रविवार खेतों की तरफ गया ग्रामीण अचानक लापता हो गया| उसके कपड़े नदी किनारे पड़े मिले| जिससे शक जताया जा रहा है कि वह नदी में डूबा है| लेकिन कई घंटे की तलाश के बाद भी खबर लिखे जाने तक उसको बरामद नही किया जा सका है|
थाना क्षेत्र के ग्राम मुरादपुर निवासी 45 वर्षीय रामविलास पुत्र घासीराम की पत्नी राजरानी ने बताया कि रामविलास सुबह लगभग 8:30 बजे काली नदी के पार सरसों के खेत पर जाने की बात कहकर गये थे| लेकिन जब काफी देर तक नही लौटे तो उसकी पुत्री संध्या पिता की तलाश में गयी तो उसका डंडा, कपड़े, बनियान आदि नदी किनारे रखे ड्रम में पड़ी मिली|
संध्या ने मामले से अपने परिजनों को अवगत कराया| जिसके बाद रामविलास की पत्नी राजरानी परिजनों के साथ मौके पर आ गयी| राम विलास दिव्यांग है | प्रभारी निरीक्षक संजीब राठौर आदि मौके पर आ गये| वही एसडीएम के निर्देश पर गोताखोर बुलाकर तलाश शुरू करायी| लेकिन काफी देर बाद भी कोई पता नही चला क्षेत्र में मगरमच्छ के द्वारा रामनिवास का शिकार करने की भी चर्चा है|

भूमि विवाद के मारपीट के साथ फायरिंग,तीन घायल

1

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(कायमगंज) भूमि विवाद के चलते दो पक्षों में जमकर महाभारत हो गयी| मारपीट के दौरान फायरिंग भी की गयी| विवाद में महिलाओं सहित तीन गम्भीर रूप से जख्मी हो गये| उन्हें सीएचसी से लोहिया अस्पताल के लिये रिफर कर दिया गया|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पपड़ी निवासी 45 वर्षीय इरशाद पुत्र छिद्दू खां का रिश्तेदारों से भूमि पर कब्जे को लेकर विवाद चल रहा था| विवादित भूमि का मामला न्यायालय में चल रहा था| विवादित भूमि पर आरोपी निर्माण कराने लगे| जब इरशाद ने इसका विरोध किया तो आरोपियों से विवाद हो गया| विवाद के दौरान दोनों पक्षों में मारपीट हो गयी| विवाद के दौरान फायरिंग भी हुई| जिससे इरशाद का हाथ जख्मी हो गया| वही इरशाद के साथ ही उसकी पत्नी सीमा उर्फ़ आसमा परबीन, माँ 70 वर्षीय इस्लामी बेगम बुरी तरह जख्मी हो गयी|
घटना की सूचना पर कोतवाली के अपराध निरीक्षक राधेश्याम व कस्बा चौकी इंचार्ज बलराज भाटी आदि फ़ोर्स के साथ मौके पर आ गये| उन्होंने जाँच पड़ताल की| सभी घायलों को उपचार हेतु सीएचसी पर भर्ती कराया| जंहा से हालत गम्भीर होने पर उन्हें लोहिया अस्पताल के लिये रिफर कर दिया|प्रभारी निरीक्षक ने बताया की फायरिंग नहीं हुई है| मारपीट हो गयी थी| जाँच की जा रही है| जांच के बाद कार्यवाही की जायेगी|

समाजवादी सेकुलर मोर्चा जिलाध्यक्ष पद पर डॉ० जितेन्द्र की ताजपोशी

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:समाजवादी पार्टी की सरकार में कैबिनेट मंत्री के पद पर रहे शिवपाल सिंह यादव ने लोकसभा चुनाव 2019 में अपनी ताकत का एहसास कराने के लिए समाजवादी सेकुलर मोर्चा के 30 जिलाध्यक्षों का एलान कर दिया है। जिसमे फर्रुखाबाद के जिलाध्यक्ष पद पर डॉ० जितेन्द्र सिंह यादव की ताजपोशी की गयी है|
शिवपाल सिंह ने जिले में सपा नेताओ में सेंधमारी शुरू कर दी है| उन्होंने डॉ० जितेन्द्र सिंह यादव को मोर्चा का जिलाध्यक्ष मनोनीत किया है| वही वारिस अली उर्फ़ बन्ने खां को मोर्चा का महानगर अध्यक्ष बनाया है| सपा का एक महात्वपूर्ण चेहरा अपने मोर्चा में शामिल करने की खबर से जिले की समाजवादी पार्टी में भी अन्दरखाने में हडकंप है| जितेन्द्र सिंह यादव ने जेएनआई को फोन पर बताया की मोर्चा में उन्हें जिलाध्यक्ष का जो पद दिया है| अभी उनके पास आधिकारिक सूचना नही है| इस सम्बन्ध में वार्ता की जायेगी|
वही सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रहे विश्वास गुप्ता, पूर्व सपा जिला महासचिव असलम शेर खां, पूर्व महानगर अध्यक्ष चाँद मोहम्मद खां,शिवपाल सिंह यूथ ब्रिगेड प्रदेश महासचिव मोहन सिंह आदि दर्जनों सपा नेताओं ने मोर्चा के महानगर अध्यक्ष मिन्ना खां के आवास पर जाकर उन्हें बधाई दी|
सपा जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फारुखी ने बताया की आगमी लोक सभा चुनाव में सेकुलर मोर्चा से कोई फर्क नही पड़ेगा| बड़ी पार्टियों से ही नई पार्टियों का गठन कोई नई बात नही है|

कीमती को आखिर क्या दिखा की उसने लगा ली फांसी!

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics- Sapaa

फर्रुखाबाद:बीती शाम घर के भीतर किशोरी की लाश फांसी पर झूलती मिली| जिसके बाद सूचना पुलिस को दी गयी| पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया|
शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला जंगबाज निवासी राजा ठेली चलाकर अपने परिवार का पेट भरते है| राजा की पत्नी अपने आठ वर्षीय पुत्र के साथ बीते एक वर्ष से मायके में रह रही थी| बीते दिन राजा अपने पुत्र अमित व शोभित के साथ काम पर चला गया| घर पर 12 वर्षीय पुत्री कीमती व 5 वर्षीय पुत्र जानकी ही थे| शाम को जब राजा काम से घर लौटा तो गेट ही नही खुला| जिसके बाद उसने जंगले से देखा तो कीमती का शव फांसी पर झूल रहा था|
राजा ने घर का दरवाजा खोलकर कीमती को बाहर निकाला| घटना की सूचना पुलिस को देर रात दी गयी| राजा की पत्नी सुनीता भी आ गयी| उसका भी रो-रो कर बुरा हाल हो गया| रविवार को सुबह नखास चौकी इंचार्ज बनी सिंह ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया| चौकी इंचार्ज ने बताया की पिता शराब पीने का आदी था| पुलिस का अनुमान है की पिता के डांटने से आक्रोशित होकर उसने फांसी लगा ली| किसी संदिग्ध चीज को मृतका द्वारा देखे जाने की चर्चा है| जाँच की जा रही है| शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया है|

गृहमंत्री के क्षेत्र में आम आदमी असुरक्षित,सीएम को शर्म आनी चाहिए

0

Posted on : 30-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

लखनऊ:उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर राजधानी लखनऊ में विवेक तिवारी की हत्या से आहत है। उन्होंने योगी सरकार की पुलिस एनकाउंटर नीति पर सवाल उठाए और कहा कि देश के केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के चुनाव क्षेत्र में आम आदमी सुरक्षित नहीं है। ऐसे में प्रदेश के अन्य हिस्सों के हालात का अंदाजा लगाया जा सकता है। इस तरह की जघन्य वारदातों पर मुख्यमंत्री को शर्म आनी चाहिए। उल्लेखनीय है कि कार सवार विवेक को रात लखनऊ पुलिस ने चेकिंग के दौरान गाड़ी न रोकने पर गोली मार दी थी जिससे उनकी मौत हो गई।
मुख्यमंत्री को शर्म आनी चाहिए। लखनऊ में एक आम शहरी का एनकाउंटर कर दिया गया। मुख्यमंत्री ने पुलिस की वर्दी में गुंडों की फौज पाल रखी है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस की वर्दी में गुंडों की फौज पाल रखी है। लखनऊ में कितनी बेरहमी से एक आम शहरी का एनकाउंटर कर दिया गया। प्रवचनकर्ता प्रधानमंत्री अब विवेक तिवारी के परिवार को क्या जवाब देंगे ? मामले को गंभीरता से लेते हुए राजबब्बर ने कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल जांच करने और परिजनों को ढांढस बंधाने पहुंचा।
पुलिस कर्मियों को फांसी की मांग
मौके पर महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ममता चौधरी, कांग्रेस नेता आरके त्रिपाठी, आशीष अवस्थी समेत अन्य लोग पहुंचे। उन्होंने पुलिस और प्रशासन की कड़ी निंदा की और कहा कि प्रदेश में गुंडा राज है। पुलिस को किसी भी व्यक्ति को राज चलते मारने का हक नहीं है। वहीं, सपा नेता अरविंद सिंह, नगर अध्यक्ष फाकिर सिद्दीकी भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि आम आदमी का अब सड़क पर चलना मुश्किल हो गया है। उन्होंने दोषी पुलिस कर्मियों के लिए फांसी की मांग की। कांग्रेसियों ने प्रदेश की कानून व्यवस्था के विरोध में लखनऊ के हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा के समक्ष कैंडल लेकर धरना भी दिया।
गृहमंत्री राजनाथ ने लिया संज्ञान
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री योगी को फ़ोन कर विवेक तिवारी की पुलिस की गोली लगने से मौत मामले की जानकारी ली। योगी ने राजनाथ सिंह को आश्वस्त कराया कि जांच की जा रही है। निष्पक्ष और न्यायसंगत कार्रवाई होगी। डीजीपी को भी गृहमंत्री ने फ़ोन कर कार्रवाई का ब्यौरा लिया।