मांगों को लेकर कोटेदारों ने किया प्रदर्शन

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) अपनी विभिन्य मांगों को लेकर लगभग तीन दर्जन कोटेदारों ने नारेबाजी कर प्रदर्शन किया| इसके बाद उन्होंने राशन का उठान भी नही किया|
आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर एसोसिएशन के तहत कोटेदारों ने प्रदर्शन किया| उन्होंने कहा की वर्ष 2001 से लेकर 2015 तक का डोर स्टेप का भाड़ा कोटेदारों का बकाया है ,जिसके भुगतान का सरकार ने आदेश भी पारित किया है।पर कोटेदारों को भाड़ा नही दिया जा रहा है। संगठन ने सभी कोटेदारों से हड़ताल में सहयोग करने की अपील की|
मार्केटिंग इंस्पेक्टर सुधीर कुमार ने बताया कि टोटल 80 कोटेदार हैं जिसमें 8 दिन में 40 लोगों ने राशन नहीं उठाया है 40 लोगों ने धनराशि वह चालान जमा कर दी
इस दौरान बरुआ कोटेदार लज्जा राम, जागेश्वर मोहद्दीपुर, कोटेदार अनिल तिवारी, राजेंद्र, रविन्द्र, विनोद तेरा अकबरपुर आदि कोटेदार मौजूद रहे|

जिला जेल में राज्य मंत्री ने किया नेत्र ज्योति अस्पताल का लोकार्पण

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, JAIL, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: जिला जेल फतेहगढ़ में राज्य मंत्री अर्चना पांडेय ने नेत्र ज्योति अस्पताल का लोकार्पण किया| इसके साथ ही आयोजित हुई विभिन्य प्रतियोगिताओं में विजयी बंदी प्रतिभागियों को पुरस्कार भी दिया गया|
मंगलवार शाम अपने निर्धारित कार्यक्रम से लगभग दो घंटे देर से पंहुची मंत्री ने दीप जलाकर अस्पताल का शुभारम्भ किया| इसके साथ ही कारागार में निबन्ध, कविता, कैरम, लूडों आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ| जिसमे विजय प्रतिभागियों को पुरस्कार भी प्रदान किये गये| वही जेल भर्ती बीमार मरीजों को फल का वितरण भी किया गया| अस्पताल कल्याण सेवा समिति कायमगंज के डॉ० महेंद्र कुमार गुप्ता द्वारा नेत्र परीक्षण हेतु मशीने लगाने में सहयोग किया गया| बंदी रतन उर्फ़ सुनील को दीन दयाल उपाध्यय की जयंती पर कारागार से रिहा किया गया|
जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह,विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर, सीएमओ डॉ० अरुण कुमार, जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह, चिकित्साधिकारी विजय अनुरागी, कारापाल गिरिजा शंकर यादव, उप कारापाल जितेन्द्र कुमार यादव, राजेश कुमार आदि रहे|

दवा प्रतिनिधि के तमंचा मार नकदी व सामान लूटा

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद: दवा का व्यापार करके बाइक से घर लौट रहे एमआर को बदमाशों ने मारपीट कर नकदी व सामान लूट लिया| पुलिस ने पूर्व बीजेपी चेयरमैंन की सूचना पर जाँच पड़ताल की| पीड़ित ने पुलिस को तहरीर दी|
थाना शमसाबाद क्षेत्र के व्लाक रोड निवासी शिवकुमार पुत्र जगवीर एक दवा कम्पनी के प्रतिनिधि है| शिवकुमार मंगलवार शाम को काम से घर लौट रहे थे| तभी थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के ग्राम खिनमिनी के निकट बदमाशों ने उसकी बाइक रोंक ली| हमलावरों ने तमंचे की बट शिवकुमार के आँख में मारने का प्रयास किया| जिससे शिव कुमार चुटहिल हो गये| बदमाश उसका मोबाइल, 30 हजार रूपये व उसका बैंग लेकर फरार हो गये|
शिव कुमार ने घर पंहुच कर घटना की जानकारी पूर्व चेयरमैन विजय गुप्ता से की| विजय गुप्ता ने थाना नवाबगंज व थाना मऊदरवाजा पुलिस को सूचना दी| वह पीड़ित के साथ पुलिस को लेकर मौके पर पंहुचे| थाना मऊदरवाजा पुलिस ने जाँच पड़ताल की| प्रभारी निरीक्षक दधिबल तिवारी ने बताया कि जाँच की जा रही है| तहरीर मिलने पर कार्यवाही होगी|

बार एसोसिएशन से दो सदस्य दो वर्ष के लिये निलंबित

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बार के चुनाव अधिकारियों ने दो सदस्यों को बार की गरिमा को ठेस पंहुचाने के चलते सदस्यता से दो वर्ष के लिये निलम्बित कर दिया है | उन्होंने दिये गये नोटिस का भी समय पर जबाब नही दिया|
चुनाव अधिकारी डॉ० अनुपम दुबे, दीपक द्विवेदी, शिव प्रताप सिंह ने सदस्य्ता निलंबित करने वाले आदेश में कहा है कि बीते 24 सितम्बर को 24 घंटे के भीतर बार सदस्य राजीव वाजपेयी व धर्मवीर गौतम से जबाब माँगा गया था| जिसमे जिला बार एसोसिएशन की गरिमा को ठेस पंहुचा, चुनाव कमेटी पर असत्य,मिथ्या आक्षेप लगाने व बार की छबि को आम जनमानस में खराब करने में जबाब माँगा गया था| जिसका जबाब 24 घंटे के भीतर नही दिया गया|
इस लिये दोनों सदस्यों राजीव वाजपेयी व धर्मवीर गौतम को बार एसोसिएशन की सदस्यता से आगामी दो वर्ष के लिये निलंबित किया गया है| इसके साथ ही चुनाव अधिकारियों ने नव निर्वाचित कार्यकारणी को शपथ ग्रहण के दौरान अग्रिम कार्यवाही के निर्देश दिये गये है|
न्यायालय परिसर में लगे होर्डिंग पोस्टर हटाने के निर्देश
चुनाव अधिकारियों ने यह भी निर्देश दिये है कि चुनाव प्रचार के लिये लगाये गये होर्डिंग व पोस्टर आगामी तीन दिन के भीतर खुद पूर्व प्रत्याशी हटा ले|

भाजपा की नगर कार्यकारणी में नये चेहरे शामिल

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP

फर्रुखाबाद: भारतीय जनता पार्टी की नगर कार्यकारणी की घोषणा कर दी गयी| जिसमे पूर्व में कमेटी में रहे महज एक-दो कार्यकर्ताओं को ही जगह मिली है| अन्य सभी नये चेहरे शामिल किये गये है|
फतेहगढ़ के मंडल अध्यक्ष रामवीर सिंह चौहान ने अपनी कार्यकारणी की घोषणा कर दी| जिसमे पूर्व कमेटी के संजीब गिहार व रिंकू दुबे ही नजर आ रहे है| नई कमेटी में दीपक कटियार व रिंकू दुबे को महामंत्री बनाया गया है| रमाशंकर चित्रांश,मनोज राजपूत,वैभव अवस्थी अनिल तिवारी, अरविन्द भदौरिया व गौरव कटियार को उपाध्यक्ष बनाया गया है| संजीब गिहार, महेंद्र कुशवाह शैलेन्द्र माथुर, बबिता देवी को मंत्री बनाया गया है| मोहन प्रताप सिंह को मीडिया प्रभारी बनाया गया है|
कमेटी में दो मंत्री व कोषाध्यक्ष का पद खाली
फ़तेहगढ़ मंडल की कमेटी में दो मंत्री व एक कोषाध्यक्ष पद पर जगह खाली है| जो चर्चा का विषय है| फ़िलहाल सूची में तीनो पदों के आगे रिक्त स्थान है| वही 45 को नगर कार्यकारणी का सदस्य बनाया गया है|
युवाओं के द्वारा बनी बीजेपी सरकार
युवा मोर्चा के प्रशिक्षण प्रदेश संयोजक अभि द्विवेदी ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा| उन्होंने कादरी गेट पर पार्टी के कैम्प कार्यालय में उन्होंने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित किया| उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार युवाओं की ही देंन है| इस लिये बेरोजगार नौजवानो को रोजगार के अवसर दे रही है| जिलाध्यक्ष सत्यपाल सिंह ने भी विचार व्यक्त किये| भाजयुमो जिलाध्यक्ष मयंक बुंदेला, शैलेन्द्र सिंह राजपूत,भास्कर दत्त द्विवेदी, शिवांग रस्तोगी, पियूष त्रिपाठी, रानू दीक्षित,विस्तारक धीरेन्द्र आदि रहे|

प्रधान से मारपीट में पिता-पुत्र पर मुकदमा दर्ज

0

फर्रुखाबाद: बीते दिन ग्राम प्रधान से मारपीट होने के मामले में आखिर पुलिस ने पिता-पुत्र के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है|
कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के ग्राम विजाधरपुर के ग्राम प्रधान ओम प्रकाश सक्सेना (ओपी) ने बीते दिन कोतवाली में तहरीर दी थी| जिसमे प्रधान ने आरोप लगाया था कि एक सीमेंट की सड़क निधि से निर्मित करायी थी| अभी वह पूर्ण रूप से पक भी नही पायी थी कि गाँव के ही पूर्व बैंक मैनेजर राधवेन्द्र कुमार यादव व उनके पुत्र सचिन यादव (काका) ने मना करने के बाद भी उसके ऊपर से ट्रैक्टर निकाला| जिससे रोड टूट गयी| प्रधान का आरोप था कि जब मना किया तो पिता-पुत्र ने उनके साथ गाली-गलौज कर खीचतान कर दी| उन्हें ईंट लेकर मारने का प्रयास किया| आरोप यह भी है की गले में सोने की चेन भी तोड़ ली|
मंगलवार को अखिल भारतीय पंचायत परिषद के कानपुर मंडल अध्यक्ष सुरजीत कुमार के नेतृत्व में तकरीबन एक दर्जन से अधिक प्रधान प्रभारी निरीक्षक से मिले| कार्यवाही ना होने पर आन्दोलन की चेतावनी दी| पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया| इस दौरान प्रधान जमील अहमद, जितेन्द्र यादव, धनश्याम यादव, हर्ष वर्धन सुबोध कुमार आदि रहे| प्रभारी निरीक्षक झाँझन लाल सोनकर ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है| कार्यवाही की जायेगी|

व्यापार मंडल बाजार बंद कर निकालेगा मशाल जुलूस

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: जिला उद्योग व्यापार मंडल ने बाजार बंद कर मशाल जुलूस निकालने की घोषणा की है| यह आक्रामक तेबर व्यापारियों ने महंगाई के विरोध में दिखाये है|
टाउन हाल हाल तिराहे पर स्थित संगठन के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल के प्रतिष्ठान पर आयोजित वार्ता में कहा गया कि संगठन के प्रदेश अध्यक्ष बनवारी लाल कंछल के आवाहन पर डीजल, पेट्रोल, गैस, जीएसटी व चरम सीमा पर बढ़ रही मंहगाई के विरोध में व्यापार मंडल ने आगामी 28 सितम्बर को बंद की घोषणा की है| इससे पूर्व 27 सितम्बर को व्यापारी लाल सराय टंकी से चौक तक मशाल जुलूस भी निकालेंगे|
इस दौरान अतुल गुप्ता, पुन्नी शुक्ला, बंटी सरदार, अल्लादीन, प्रमोद जैन आदि रहे|

एफडी का भुगतान न होने पर सहारा इंडिया का पुतला फूंका

0

फर्रुखाबाद:व्यापारियों द्वारा सहारा इंडिया में जमा की गयी एफडी का भुगतान ना होने से खफा युवा व्यापार मंडल ने सहारा का पुतला फुंककर नारेबाजी की|
युवा नगर उद्योग व्यापार मंडल (मिश्रा गुट) के युवा नगर अध्यक्ष अंकुर श्रीवास्तव के नेतृत्व में कार्यकर्ता बैंक के सामने ठंडी सड़क पर एकत्रित हुये| उन्होंने आरोप लगाया की तमाम कार्यकर्ताओं ने सहारा इंडिया बैंक में एफडी कर भुगतान जमा किया था| एफडी का समय पूरा होने के बाद भी बैंक भुगतान देने से आनाकानी कर रही है| जिससे व्यापारियों ने आक्रोशित होकर सहारा बैंक का पुतला फूंककर नारेबाजी की|
सुजीत कश्यप, फारुख हसीन,शिवम्, फरमान खान, सलमान खान, राजू भारद्वाज आदि रहे|

आगरा में विधायक के भतीजे व गोखपुरके दो प्रोफेसर और पर एससी/एसटी का मुकदमा

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, Politics-BJP, जिला प्रशासन

लखनऊ:गोरखपुर विश्वविद्यालय में दो प्रोफेसरों पर वहां के छात्र ने एससी एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कराया है। अारोप है कि प्रोफेसर छात्र को परेशान करते थे। जबकि अागरा में विधायक के भतीजे पर एससी एसटी का मुकदमा दर्ज कराया है। बताया जाता है कि एक युवक अपनी तेज रफ्तार बाइक से जा रहा था और उसने विधायक के भतीजे पर बाइक से कीचड़ उछाल दिया। विधायक के भतीजे ने कीचड़ उछालने पर युवक की पिटाई कर दी बस फिर क्या था उक्त युवक संयोग से हरिजन निकला और उसने एससी एसटी एक्ट का सहारा लेकर मुकदमा दर्ज करा दिया।
शोध छात्र दीपक के जहर खाने के मामले में दर्ज धमकी के मुकदमे में अनुसूचित जाति-जनजाति उत्पीडऩ निवारक अधिनियम (एससी-एसटी एक्ट) की धाराएं भी बढ़ा दी गई हैं। विवेचक ने छात्र के बयान के आधार पर दर्शन शास्त्र विभाग के दो शिक्षकों को इस मामले में अभियुक्त बना दिया है। एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज होने के बाद अब इस मामले की जांच सीओ कैंट करेंगे।
दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में दर्शन शास्त्र के शोध छात्र दीपक कुमार ने 20 सितंबर को जहर खाकर आत्महत्या की कोशिश की थी। दोस्तों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था। जांच में पता चला कि 18 सितंबर को दीपक ने कुलपति को प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया था कि दर्शन शास्त्र विभाग में कार्यरत शिक्षक द्वारका नाथ और चंद्रप्रकाश श्रीवास्तव उसका उत्पीडऩ कर रहे हैं। पत्र में उसने लिखा था कि 18 सितंबर की सुबह छात्र संघ चौराहे के पास कुछ युवकों ने दोनों प्रोफेसर का नाम लेकर उनके खिलाफ की गई शिकायत वापस लेने की धमकी दी। बात न मानने पर जान से मारने की धमकी दी।
युवकों ने जाति सूचक गाली भी दी। मुख्य नियंता प्रो. गोपाल प्रसाद ने दीपक द्वारा कुलपति को भेजी गए शिकायती पत्र के आधार पर दो अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया था। मामले की जांच कर रही कैंट पुलिस ने सोमवार को आरोपित शिक्षकों को नामजद करते हुए एससी-एसटी एक्ट की धारा बढ़ा दी।
विधायक के भतीजे पर मुकदमा
आगरा : ताजगंज में विधायक के रिश्ते के भतीजे ने सोमवार को अपने खिलाफ एससी एसटी का मुकदमा कराने पर दलित पर हमला बोल दिया। उसकी परिवार समेत पिटाई के बाद मेटाडोर में तोडफ़ोड़ कर दी। तनाव के चलते गांव में पुलिस तैनात कर दी है।
ताजगंज के नगला टीन निवासी अजय कुमार सोमवार सुबह धांधूपुरा से निकलकर जा रहा था। उसकी तेज बाइक सड़क पर हुए गड्ढे में भरे पानी में से निकली तो कीचड़ उछल कर वहां खड़े जयपाल के कपड़ों पर पड़ गिर गया। वह भाजपा विधायक चौधरी उदयभान सिंह के रिश्ते का भतीजा बताया जाता है। उसने अजय की जमकर पिटाई कर दी।
इस पर अजय ने थाने पहुंच जयपाल के खिलाफ तहरीर दे दी। पुलिस ने जयपाल पर मारपीट एवं एससी/एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया। रात साढ़े आठ बजे अजय और परिवार के लोग रिपोर्ट कराके मेटाडोर से घर लौट रहे थे। नगला टीन के पास बाइक सवार जयपाल और उसके साथियों ने रोक लिया। मेटाडोर चालक, अजय और उसमें सवार अन्य की जमकर पिटाई की।
दोनों पक्ष में तनाव के मद्देनजर गांव में पुलिस तैनात कर दी है। इंस्पेक्टर डॉ. विनोद कुमार पायल ने बताया जयपाल की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। मामले में विधायक से संपर्क का प्रयास किया। उनके प्रवक्ता मनीष ने बताया कि विधायक अस्वस्थ हैं, उनसे बात होना फिलहाल संभव नहीं है।

जयंती: पांच दशक से रहस्य ही है पंडित दीनदयाल उपाध्याय की मौत

0

Posted on : 25-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

लखनऊ:विख्यात संघ विचारक तथा भारतीय जनसंघ पार्टी के संस्थापक पंडित दीन दयाल उपाध्याय की आज 102वीं जयंती है। देशभर में उनकी जयंती काफी धूमधाम से मनाई जा रही है। केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार ने उनके नाम पर अनेक योजनाएं चालू की हैं। इसके बाद भी उनकी मौत के पचास वर्ष बाद भी उसका कारण अभी भी रहस्य बना है।
पंडित दीन दयाल उपाध्याय की आज 102वीं जयंती है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय संघ विचारक और भारतीय जनसंघ पार्टी के सह-संस्थापक के साथ जनता पार्टी के अग्रदूत हैं। उनका जन्म 25 सितंबर 1916 को हुआ था और वह दिसंबर के 1967 में जनसंघ के अध्यक्ष बने थे। उन्होंने भारत की सनातन विचारधारा को युगानुकूल रूप में प्रस्तुत करते हुए देश को एकात्म मानववाद जैसी प्रगतिशील विचारधारा दी थी।
पंडित दीन दयाल उपाध्याय के पिता पेशे से एक ज्योतिषी थे। जब वह सिर्फ तीन वर्ष के थे, तब उनकी माता का देहांत हो गया था। उसके कुछ वर्ष बाद ही जब उनकी उम्र आठ वर्ष थी तब पिता का साया भी सिर से उठ गया। ‘एकात्म मानववाद’ का संदेश देने वाले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विचारक दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितंबर 1916 को मथुरा के नगला चंद्रबन में हुआ था। इनके पिता का नाम भगवती प्रसाद उपाध्याय था। माता रामप्यारी धार्मिक प्रवृत्ति की थीं।
पंडित दीन दयाल उपाध्याय का शव 11 फरवरी 1968 को मुगल सराय रेलवे स्टेशन (अब दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन) के पास मिला था। दीन दयाल उपाध्याय की मौत हुई थी या फिर हत्या ये अब तक राज बना हुआ है। यूपी सरकार ने हाल ही में इसकी जांच करवाने का फैसला भी किया है। 11 फरवरी, 1968 को सुबह तकरीबन 3.30 बजे के प्लेटफॉर्म से करीब 150 गज पहले रेलवे लाइन के दक्षिणी ओर के बिजली के खंभे से लगभग तीन फीट की दूरी पर पंडित दीन दयाल उपाध्याय शव मिला था। लोहे और कंकड़ों के ढेर पर दीनदयाल उपाध्याय पीठ के बल सीधे पड़े हुए थे और कमर से मुंह तक का भाग दुशाले से ढका हुआ था। उनकी जेब से प्रथम श्रेणी का टिकट नं 04348 रिजर्वेशन रसीद नं 47506 और 26 रुपये बरामद हुए। उनके दाएं हाथ में एक घड़ी बंधी हुई थी, जिस पर ‘नानाजी देशमुख’ लिखा था। उस दौरान उनके हाथ में एक पांच रुपया का नोट भी था।
लखनऊ से चलकर बारांबकी, फैजाबाद, अकबरपुर शाहगंड होते हुए ट्रेन आधी रात जौनपुर पहुंची। जौनपुर के महाराज दीनदयाल के दोस्त थे, तो उन्होंने अपने सेवक कन्हैया के हाथों एक पत्र दीनदयाल उपाध्याय को भिजवाया और रात को 12 बजे उन्हें यह पत्र मिला। उसके बाद रात 2.15 बजे गाड़ी मुगलसराय स्टेशन पर पहुंची और पठानकोट-सियालदह एक्सप्रेस पटना नहीं जाती थी, इसलिए बोगी काटकर दिल्ली-हावड़ा ट्रेन से जोड़ दी गई। इसमें करीब आधे घंटे का वक्त लगा और दो बजकर 50 मिनट पर ट्रेन फिर से पटना के लिए चल पड़ी और उसके बाद 3 बजे उनका शव ट्रेन की पटरियों पर मिला। वहीं दूसरी ओर ट्रेन 6 बजे ट्रेन पटना स्टेशन पर पहुंची, जहां बिहार जनसंघ के नेता उनका इंतजार कर रहे थे। इस बीच जब सुबह करीब 9.30 बजे दिल्ली-हावड़ा एक्सप्रेस मुकामा रेलवे स्टेशन पहुंची। यहां गाड़ी की प्रथम श्रेणी बोगी में चढ़े यात्री ने सीट के नीचे एक लावारिस सूटकेस देखा। उसने इसे उठाकर रेलवे कर्मचारियों के सुपुर्द कर दिया। बाद में पता चला कि यह सूटकेस पंडित जी का था। उन्होंने लखनऊ वाली बोगी भी देखी, लेकिन दीनदयाल उपाध्याय नहीं मिले और साढ़े 9 बजे गाड़ी मुकामा स्टेशन पर पहुंची। वहीं किसी की नजर बी कंपार्टमेंट में सीट के नीटे रखे हुए सूटकेस पर पड़ी। उसने रेलवे अधिकारियों को यह सूट जमा करवाया और यह सूटकेस पं दीनदयाल का था।
बताया जाता है कि बिहार प्रदेश के जनसंघ के तत्कालीन संगठन मंत्री अश्विनी कुमार के आग्रह पर पंडित दीन दयाल उपाध्याय पटना में बिहार प्रदेश भारतीय जनसंघ की कार्यकारिणी की बैठक में हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे। उन्होंने पठानकोट-सियालदह एक्सप्रेस में प्रथम श्रेणी की टिकट करवा ली और गाड़ी का समय शाम 7 बजे था और पंडित जी सही वक्त पर स्टेशन पर पहुंच गए। दीनदयाल उपाध्याय लखनऊ में अपनी मुंहबोली बहन लता खन्ना के घर ठहरे हुए थे। उस दौरान उनके पास एक सूटकेस, बिस्तर, टिफिन और किताबों का थैला था। उन्होंने बिना आस्तीन वाली बनियान, उसके ऊपर तीन स्वेटर पहन रखे थे। इन सबसे ऊपर उन्होंने कुर्ता और जैकेट पहन रखा था।