सम्पूर्ण समाधान दिवस में 32 शिकायतों का मौके पर निस्तारण

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(कायमगंज) जिलाधिकारी मोनिका रानी, एसपी संतोष मिश्रा व सांसद मुकेश राजपूत ने तहसील में सम्पूर्ण समाधान दिवस में जाकर शिकायतों को सुना| मौके पर कुल 32 फरियादियों को मौके पर ही न्याय मिला|
सम्पूर्ण समाधान दिवस में भूमि, बिजली, सरकारी योजनाओ से सम्बन्धित शिकायते आयी| जिसमे जिलाधिकारी ने राजस्व सम्बन्धित शिकायतों के निस्तारण हेतु पुलिस को भी मौके पर जाने के निर्देश दिए| बिजली सम्बन्धित शिकायते अधिक आने से जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता कायमगंज को खुद सभी मामलों का वास्तविकता के आधार पर निस्तारण करने को कहा| उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये की समाधान दिवस में आयी शिकायतों का मौके जाकर एक सप्ताह के भीतर समाधान करे| मौके पर कुल 32 शिकायतों का निस्तारण हो सका|
फर्रुखाबाद: जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में बाढ़ से सम्बन्धित मामलों की बैठक ली| उन्होंने पीडब्लूडी को बाढ़ में टूटी सडकों की सूची उपलब्ध कराने को कहा| उन्होंने ग्राम तीसराम की मडैया, कटरी धर्मपुर की पुलिया का निर्माण व कडहर मार्ग में हो रहे गड्डों को मिट्टी से भरने के निर्देश दिये| इसके साथ ही बाढ़ प्रभावित गाँव पथरामई,चितार,हरसिंहपुर आदि में तटबंध बनाये जाने के भी निर्देश दिये|

557 करोड़ का काशी को मोदी का ‘रिटर्न गिफ्ट’

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Narendra Modi, Politics, Politics-BJP, राष्ट्रीय

वाराणसी :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी को बड़ा रिटर्न गिफ्ट देने के बाद जनसभा को संबोधित किया। बीएचयू के एम्फीथियेटर ग्राउंड में उन्होंने वाराणसी को पूर्वी भारत के गेट-वे के रूप में विकसित करने की अपनी योजना के बारे में भी बताया।
प्रधानमंत्री ने अपने करीब 48 मिनट के संबोधन में सियासी बातों से पूरी तरह परहेज किया। इस दौरान उन्होने बतौर सांसद सवा चार सालों में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कराए गए विकास कार्यों का एक तरह से रिपोर्ट कार्ड पेश किया और कहा कि यह तो एक छोटी सी झलक है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीएचयू एम्फीथिएटर, में 557 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया।
उन्होंने कहा कि हम चार सवा चार साल पहले काशीवासी बदलाव के इस संकल्प को लेकर निकले थे। आज अंतर स्पष्ट दिखाई दे रहा है। उन्होंने जनसभा में बैठे लोगों से सवाल किया कि बदलाव नजर आ रहा या नहीं। उन्होंने कहा कि आज मुझे संतोष है कि बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से वाराणसी को विकास की नई दिशा देने मे सफल हुए हैं। हमने वो दिनभी देखें हैं, जब यहां की व्यवस्था को देखकर बेहाल दिखता था। यह शहर भी बिजली के उलझे तारों की तरह अव्यवस्थाओं से उलझा हुआ था। आज काशी में हर जगह परिवर्तन होता दिख रहा है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमरे काशी का लोगन हमरा के एतना प्यार देलन की मन गदगद हो जाला। बार-बार काशी आवे के मन करैला। इसके साथ ही हर-हर महादेव।विकास के कार्य बनारस शहर ही नहीं, आसपास के गांवों से भी जुड़े हैं। बिजली, पानी जैसी मूलभूत आवश्यकताओं से जुड़ी परियोनाएं तो हैं किसानों, बुनकार की योजनाएं भी शामिल है। बनारस हिंदू विश्विविद्लय को 21 वी सदी का नॉलेज सेंटर बनाने की कई परियोजनाएं शुरू की गई है। फिर यााद दिलाया-हम काशी में जो भी बदलाव लाने की कोशिश कर रहे है, उसमें काशी की परंपराओं-पौराणिकताओं को बचाते हुए किया जा रहा है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यहां सांसद बनने से पहले बिजली के लटकते तारों को देखकर सोचता था इससे कब मुक्ति मिलेगी। देखिए आज शहर के एक बड़े हिस्से से बिजली के लटकते तार गायब हैं।वराणसी में चार साल के दौरान कराए गए विकास कार्यों की पूरी फेहरिस्त सुनाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वारणसी में हो रहे विकास के गवाह यहां एयरपोर्ट पर आ रहे लोग भी बन गए। टूरिस्टों की तादाद लागातार बढ़ रही है। बाबतपुर एयरपोर्ट पर आने वाले की संख्या प्रतिवर्ष आठ लाख से बढ़कर 11 लाख हो गई है। यह शहर ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक के बड़े हब के तौर पर उभरने वाला है।
उन्होंने कहा कि वाराणसी ही नहीं, पास के क्षेत्रों को हर पल बिजली मिलने वाली है। एक और बिजली केंद्र के साथ लो वोल्टेज की समस्या से छुटकारा मिलेगा। वाराणसी को पूर्वी भारत के रूप में विकसित करने का प्रयास हो रहा है। इसके तहत वाराणसी वर्ल्ड क्लास की सुविधा से जोड़ने की कोशिश की जा रही है। आज काशी की सड़कों पर रात में भी मां गंगा का प्रवाह सा दिखता है। एलईडी बल्बों से रोशनी तो दिखती है, बिजली के बिल में भी कमी आई है। बनारस में रिंग रोड की चर्चा हो रही थी, लेकिन काम फाइलों में दबा हुआ था। 2014 में सरकार बनने के बाद रिंग रोड की फाइल को फिर से निकाला गया। लेकिन यूपी की पहले की सरकार ने काम आगे नहीं बढ़ने दिया गया। उनको फिक्र सता रही थी कि यह काम हो गया तो मोदी की जय-जय हो जाएगी। काशी रिंग रोड के निर्माण से सिर्फ काशी ही नहीं, आसपास के जिलों को भी लाभ मिलने वाला है। वाराणसी शहर के भीतर और दूसरे राज्यों से जोड़ने वाली सड़कों का विस्तार किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर लोगों को खुशी में वाराणसी कैंट की तस्वीर पोस्ट करते हुए देखता हूं तो मेरी खुशी दोगुनी हो जाती है। स्वच्छता के मामले में भी काशी ने परिवर्तन देखा है, आज यहाँ के घाटों, सड़कों और गलियों में स्वच्छता स्थाई बनती जा रही है। वाराणसी में क्रूज सेवा की शुरुआत भी हो चुकी है। कैंट स्टेशन हो, मडुआडीह हो या फिर सिटी स्टेशन, सभी पर विकास के कार्यों को गति दी गई है, उन्हें आधुनिक बनाने का काम किया जा रहा है। रेल से काशी आने वालों को रेलवे स्टेशन पर आते नई काशी के दर्शन हो जाते हैं। इलाहाबाद-छपरा के रेल लाइन दोहरीकरण का कार्य प्रगति पर है। आधुनिक सुविधाओं वाली ट्रेनों ने भी लोगों का ध्यान खींचा है। आज काशी में न सिर्फ आना जाना आसान हो रहा है। बल्कि इसका सौंदर्य भी निखर रहा है। घाटों पर अब गंदगी नहीं रोशनी स्वागत करती है। पर्यटन से परिवर्तन का अभियान लगातार जारी है। काशी आज हेल्थ हब के रूप में उभरने लगा है। बीएचयू में आधुनिक ट्रॉमा सेंटर हजारों लोगों के जीवन को बचाने का काम कर रहा है। नए कैंसर और सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल लोगों को इलाज की आधुनिक सुविधाएं देंगे। बीएचयू ने एम्स के साथ एक वर्ल्ड क्लास हेल्थ इंस्टीट्यूट बनाने के लिए समझौता किया है। पीएम मोदी ने कहा कि आज यहां एक तरफ वैदिक विज्ञान केंद्र का शिलान्यास हुआ है तो दूसरी तरफ अटल इन्क्यूबेशन सेंटर की भी शुरुआत हुई है। हम सभी को जितना अपनी पुरातन संस्कृति और सभ्यता पर गर्व है उतना ही भविष्य की तकनीक के प्रति हमारा आकर्षण है।
पिछले चार साल ने कई देशों के नेताओं का काशी ने स्वागत किया है। इन नेताओं ने काशी के आतिथ्य को सराहा है। काशी में नए वर्ष की शुरूआत पर दुनियाभर की नजरें होंगी। दुनियाभर में बसे भारतीयों का कुंभ काशी में लगने वाला है। इसके लिए सरकार अपने स्‍तर पर काम कर रही है। लेकिन जनसहयोग जरूरी होगा। एक-एक काशीवासी को आगे आना होगा। हर नुक्कड-गली पर काशी का रस और रंग नजर आना चाहिए। प्रवासी भारतीय दिवस में आए लोग ऐसा अनुभव करके जाएं तो दुनिया में हमेशा के लिए काशी के ट्रेंड सेटर बन जाए।मां गंगा की सफाई के लिए गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक प्रबंध किए जा रहे हैं। इसके लिए 21 हजार से अधिक की 200 परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं। मां गंगा की सफाई के लिए गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक प्रबंध किए जा रहे हैं। इसके लिए 21 हजार से अधिक की 200 परियोजनाएं स्‍वीकृत की गई हैं। यूपी में भाजपा की सरकार बनने के बाद विकास योजनाओं में तेजी आई है। आयुष्मान भारत योजना के क्रियान्वयन के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार को बधाई।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वाराणसी में ‘पर्यटन से परिवर्तन’ का अभियान निरंतर जारी है। बुद्धा थीम पार्क, सारंग नाथ तालाब, गुरुधाम मंदिर, मारकंडेय महादेव मंदिर जैसे अनेक स्थलों का सुंदरीकरण किया जा चुका है। काशी देश के चुनींदा शहरों में शामिल हैं, जहां घरों में पाइप से कुकिंग गैस की सुविधा मिलने जा रही है। वाराणसी शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों को भी सड़क, बिजली, पानी जैसी सुविधाएं पहुंचाई गई हैं।
सांसद के रूप में जिन गांवों को विशेष रूप से विकसित करने का जिम्मा मेरे पास है, उनमें से एक नागेपुर गांव के लिए आज पानी के एक बड़े प्रोजेक्ट का लोकार्पण किया गया है। किसानों और ग्रामीण अर्थव्यवस्था को भी गति देने का काम चार सालों में तेज हुआ है। हम सभी को जितना अपनी पुरातन संस्कृति और सभ्यता पर गर्व है उतना ही भविष्य की तकनीक के प्रति हमारा आकर्षण है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नई काशी नए भारत के निर्माण में योगदान का आह्वान। कहा-आप यूं ही स्‍नेह देते रहें। आपने भले प्रधानमंत्री बनाया है, लेकिन आप बतौर सांसद मुझसे चार साल में कराए गए कार्यों का हिसाब लेने के लिए जिम्‍मेदार है। आप हमारे मालिक है। आप हमारे हाई कमान हैं।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक भावनात्मक रिश्ता है। उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के साथ प्रदेश को इतना दिया है, जितनी कल्पना नहीं की गई थी।इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने 557 करोड़ की परियोजना का शिलान्यास-लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी जनपद के हर घर तक बिजली लाइन पहुंचाने और हर घर को रौशन करने के लिए एक बड़े कार्यक्रम का आज शुभारंभ हो रहा है, इसके लिए भी मैं आदरणीय प्रधानमंत्री जी का अभिनंदन करता हूं।
पीएम मोदी का वाराणसी से भावनात्मक रिश्ता : योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक भावनात्मक रिश्ता है। उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के साथ प्रदेश को इतना दिया है, जितनी कल्पना नहीं की गई थी। उन्होंने कहा कि विगत एक वर्ष के दौरान उत्तर प्रदेश के अंदर के प्रधानमंत्री के नेतृत्व में 72 हजार मजरों का विद्युतीकरण कराया गया। जिन्हें बिजली सुलभ नहीं मिल पाती है, उन्हें सौभाग्य योजना के अंतर्गत नि:शुल्क बिजली मिल रही है। मोदी जी के नेतृत्व में बिना किसी भेदभाव के योजनाओं को लागू किया जा रहा है। चार वर्ष के दौरान काशी की जनता विकास की प्रक्रिया को लगातार देखा तथा महसूस किया है। पीएम के प्रयास से काशी में योजनाएं आगे बढी हैं। आइपीडीएस के अंतर्गत काशी में लटके तारों को केबलिंग के माध्यम से अंडर ग्राउंड करना भी शामिल है। विगत चार वर्षों के दौरान विद्युतीकरण का काम शुरू हुआ है, 52 लाख परिवारों को सौभाग्‍य योजना के तहत नि:शुल्क बिजली देने का कार्य भी हुआ है। जिन्‍हें बिजली सुलभ नहीं हो जाती थी उन्‍हें बिजली मिल रही है। प्रदेश के अंदर बिना भेदभाव के नरेंद्र मोदी ने योजनाओं को पहुंचाने का काम किया है। काशी के अंदर बीएचयू मालवीय जी की साधना स्थली है। बीएचयू में दो नए केंद्रों का उदघाटन हो रहा है जिससे विकास को गति मिलेगी। आंखों के उपचार की बात आती थी तो दक्षिण भारत के शंकर नेत्रालय की बात याद आती थी लेकिन अब नेत्र संस्थान को आधुनिक रूप मिलने जा रहा है।
इससे पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पाण्डेय ने पीएम मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने भोजपुरी में कहा कि न बनारस अइसन आपन सांसद देखलस, ना अइसन प्रधानमंत्री देखलस। हे बाबा भालेनाथ, अइसन प्रधानमंत्री क लगातार जरूरत बा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वाराणसी को रिटर्न गिफ्ट देने वाराणसी के बीएचयू के एम्फीथियेटर ग्राउंड पहुंचे। वहां पर भाजपा अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कल अपना 68वां जन्मदिन मनाया है। बीएचयू की सभा के बाद पीएम मोदी वाराणसी से रवाना हो जाएंगे।
मिले तोहफे – लोकार्पण
-362 करोड़ : शहरी विद्युत सुधार कार्य, पुरानी काशी (आइपीडीएस)
-84.61 करोड़ : 3722 मजरो में विद्युतीकरण का काम
-9.90 करोड़ : सिंगल फेज के 90 हजार मीटर लगाने का काम
-2.80 करोड़ : 33 केवी विद्युत उपकेंद्र बेटावर का निर्माण
-2.58 करोड़ : 33 केवी विद्युत उपकेंद्र कुरुसातो का निर्माण
-2.74 करोड़ : नागेपुर ग्राम पेयजल योजना
-20 करोड़ : बीएचयू में अटल इन्क्यूबेशन सेंटर।
मिले तोहफे- आधारशिला
-14.10 करोड़ : बीएचयू में वैदिक विज्ञान केंद्र की स्थापना
-34 करोड़ : रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ आफ्थेल्मोलाजी
-23.08 करोड़ : 132 केवी विद्युत उपकेंद्र चोलापुर का निर्माण।
मिले तोहफे- बांटे रोजगार
-98 लाख : कुंभकारी उद्योग के तहत 260 विद्युत चालित चाक, आधुनिक भट्ठी
-53.25 लाख : हनी मिशन के तहत 500 मधुमक्खी बॉक्स
-7.50 लाख : खादी व सोलर वस्त्र के अंतर्गत 3 रेडीबार्प मशीन।

अबीर-गुलाल उड़ाकर गणेश प्रतिमा का विसर्जन

0

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) अबीर-गुलाल उड़ाकर श्रधालुओं ने गनेश प्रतिमा का भू-विसर्जन पांचाल घाट पर किया| जिसमे बड़ी संख्या में ग्रामीणों व महीलाओं ने हिस्सा लिया|
नगर के ग्रामीण बैंक के पीछे बाग़ में श्रीगणेश की प्रतिमा की स्थापना की गयी थी| स्थापना के बाद से लगातार पूजा-पाठ का दौर चला| इस दौरान आरती और प्रसाद लेने के लिये भीड़ उमड़ी| जिसके बाद स्थापना के एक सप्ताह बाद गणपति की विसर्जन यात्रा निकाली गयी| जिसमे जमकर अबीर-गुलाल उड़ाकर श्रद्धालु थिरकते हुये पांचाल घाट तक गये और प्रतिमा का भू-विसर्जन किया गया|
इस दौरान कमेटी के अध्यक्ष सुनील शुक्ला, संयोजक डॉ- संजय सिंह कटियार, सौरभ कटियार, अपना दल जिलाध्यक्ष रिंकू कटियार, राहुल गुप्ता आदि रहे|

कल होगा बार प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:जिला बार एसोसिएशन के चुनाव के लिये बुधवार को मतदान कराये जाने की तैयारी पूर्ण कर ली गयी है| पहले मतदान प्रक्रिया सम्पन्न करायी जायेगी उसके बाद मतगणना परिणाम घोषित होने तक होगी|
चुनाव अधिकारी डॉ० अनुपम दुबे, दीपक द्विवेदी व शिव प्रताप सिंह ने जारी पत्र में बताया है कि 19 सितम्बर को सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान सम्पन्न होगा| इसके बाद 5:30 बजे से परिणाम घोषित होने तक मतगणना होगी| चुनाव अधिकारी ने बार के सभी सदस्यों को अपने निर्धारित गणवेश में आने को कहा है| इसके साथ ही प्रत्येक मतदाता को बार कौसिल आफ उत्तर प्रदेश द्वारा जारी मूल परिचय पत्र या मूल प्रमाण पत्र लाना अनिवार्य किया गया है| इसके साथ ही चुनाव अधिकारियों ने चुनाव के दौरान कचेहरी के बाहर पुलिस सुरक्षा व्यवस्था लगाये जाने को पत्र भी दिया है|
सीओ सिटी रामलखन सिंह सरोज ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था पर्याप्त रखी जायेगी| चुनाव समिति से वार्ता कर जंहा उचित होगा वहां पुलिस सुरक्षा दी जायेगी|

पाँच दिन से खड़ा मक्का लदा ट्रक पलटा,बड़ा हादसा टला

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) बीते लगभग पांच दिन से खराब खड़ा ट्रक अचानक रिपेयरिंग के दौरान जेक हटने से पलट गया| जिससे भगदड़ मच गयी| पांच खोखे टूट गये| लेकिन कोई भी जनहानि नही हुई|
थाना क्षेत्र के कस्बा में गोरखपुर मक्का लेकर जा रहा ट्रक खराब हो जाने से खड़ा था| मंगलवार को उसको ठीक करने के लिये कारीगर पंहुचे| उन्होंने उसमे जैसे ही जेक लगाने का प्रयास किया कीट्रक अचानक पलट गया| ट्रक पलटने से उसमे रखे इकबालुद्दीन निवासी पंजूखिरिया साबिर निवासी जहानगंज व कमरुद्दीन निवासी पंजूखिरिया व रामकुमार व शिव कुमार के खोखे दबकर छतिग्रस्त हो गये| लेकिन गणपति विसर्जन के कारण दुकान बंद होने से कोई जनहानि नही हुई|
तेजरफ्तार एम्बुलेंस ने दो को कुचला
फर्रुखाबाद: शहर कोतवाली क्षेत्र के आवास विकास स्थित आरके अस्पताल के निकट तेजरफ्तार एम्बुलेंस अचानक अनियंत्रत होकर दो को कुचल दिया| मौका देखकर चालक मौके से फरार हो गया| जिसके बाद मौके पर भीड़ लग गयी| घायलों का निजी अस्पताल में उपचार कराया गया|

पति छोड़ ननद को बनाया ‘सुहाग, पांच माह पहले ही हुई है शादी

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, POLICE

कानपुर:अब तो कानून बन गया है, तुम क्या कर लोगे…, यह कहकर एक नवविवाहिता ने परिवार में खुलकर मुखालफत कर दी। उसने पति की मौसेरी बहन से समलैंगिक संबंध बना लिए। सुलभ शौचालय में दोनों के आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े जाने पर लोगों ने पति को जानकारी दी तो उसका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। उसने मां के साथ सोमवार को एसएसपी कार्यालय में एसपी ग्रामीण को प्रार्थनापत्र देकर इस समस्या से निजात दिलाने की गुहार लगाई है।
मामला कोतवाली के सिविल लाइंस क्षेत्र का है। यहां रहने वाले एक फैक्ट्रीकर्मी की शादी पांच महीने पहले फतेहपुर की एक लड़की से हुई थी। शादी के कुछ ही दिन बाद युवती का पड़ोस में रहने वाली मौसी से मेलजोल बढ़ गया। पति का आरोप है कि मौसेरी बहन और पत्नी उसकी गैरहाजिरी में घंटों बंद कमरे में रहती थीं। एक दिन मां ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देखा भी लेकिन, समलैंगिक संबंधों का ख्याल उनके मन में नहीं आया। कई बार आपत्तिजनक हालत में देखे जाने पर विरोध किया गया।
शनिवार को पत्नी व मौसेरी बहन को पड़ोस की महिलाओं ने सार्वजनिक शौचालय में भी अश्लील हरकतें करते देखा, जिसके बाद यह बात पूरे इलाके में फैल गई। पत्नी व मौसेरी बहन को बुलाकर पूछताछ की तो दोनों ने खुलकर अपने समलैंगिक संबंधों को स्वीकार किया। दोनों को इज्जत की दुहाई दी गई, समाज का डर दिखाया गया पर वे अलग रहने को तैयार नहीं है।
उल्टा कानूनन इसे जायज बताते हुए धमकी दी कि अगर किसी ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो वे अपनी जान दे देंगी और सुसाइड नोट लिखकर पूरे परिवार को फंसा देंगी। इसके बाद से पूरा परिवार परेशान है। एसपी ग्र्रामीण प्रद्युम्न सिंह का कहना है कि पूरे मामले की जांच कोतवाली पुलिस को दी गई है। जांच के बाद कानूनी पहलुओं को ध्यान रखते हुए कार्रवाई की जाएगी।

बीएसएफ ने सब-इंस्पेक्टर और जूनियर इंजीनियर के पदों पर निकाली वैकेंसी

0

नई दिल्ली: बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) ने सब-इंस्पेक्टर और जूनियर इंजीनियर/सब-इंस्पेक्टर (इलेक्ट्रिकल) के पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन निकाला है. सब-इंस्पेक्टर के 103 और जूनियर इंजीनियर के 36 पदों पर वैकेंसी निकाली गई हैं. इन पदों पर आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 सितंबर है. अगर आप BSF में नौकरी करने के लिए इच्छुक हैं, तो नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ने के बाद ही अप्लाई करें.
पद का नाम
सब-इंस्पेक्टर
जूनियर इंजीनियर/सब-इंस्पेक्टर (इलेक्ट्रिकल)
कुल पदों की संख्या
139
योग्यता
सब-इंस्पेक्टर- आवेदन करने के लिए उम्मीदवार के पास सिविल इंजीनियरिंग में 3 साल का डिप्लोमा होना चाहिए.
जूनियर इंजीनियर/सब-इंस्पेक्टर (इलेक्ट्रिकल)- उम्मीदवार के पास इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में 3 साल का डिप्लोमा होना चाहिए.
उम्र सीमा
इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 30 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.
अनुभव
इन पदों पर आवेदन करने वालों के पास संबंधित कार्यक्षेत्र में 2 से 5 साल का अनुभव होना चाहिए.
इस आधार पर होगा चयन
उम्मीदवारों का चयन BSF मानदंडों या लिखित परीक्षा के आधार पर होगा.
सैलरी
35,400 से 1,12,400 रुपये.
उम्मीदवार वैकेंसी से संबंधित और अधिक जानकारी ऑफिशियल वेबसाइट bsf.nic.in पर जाकर चेक कर सकते हैं.

गणपति की विसर्जन यात्रा में थिरके श्रद्धालु

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(अमृतपुर) मंगलवार को भी अमृतपुर से विसर्जन यात्रा धूमधाम से निकाली गयी| इस दौरान यात्रा में श्रद्धालु अपने अआप को थिरकने से नही रोंक पाये| स्थापना स्थल से विसर्जन तक सड़क पर डीजे की धुन पर थिरके|
क्षेत्र के गांव अमृतपुर कस्बा में प्राचीन ठाकुरद्वारा स्थल परबीते लगभग एक सप्ताह पूर्व गणेश प्रतिमा की स्थापना की गई थी| मंगलवार को गणेश प्रतिमा के विसर्जन की शोभायात्रा निकली| विसर्जन में जन सैलाब उमड़ा| हर वर्ष की भांति गणेश जी की विशाल मूर्ति रखी जाती है| ठाकुरद्वार स्थल पर समस्त ग्रामीण विसर्जन यात्रा में शामिल हुये|
कमेटी के सदस्य अध्यक्ष प्रिंस चौहान, उपाध्यक्ष महेंद्र गहलबार, अनिकेत सोमवंशी,अन्नू गहलबार, नितेश कुमार, पप्पू शुक्ला,गांधी सोमवंशी,वरिष्ठ समाजसेवी अजय चौहान पूर्व जिला पंचायत प्रत्याशी, भूपेंद्र गहलबार, संजय सोमवंशी आदि लोग भारी संख्या में रहे| प्रभारी निरीक्षक रामप्रकाश आदि फ़ोर्स के साथ तैनात रहे| इसके बाद उसे कुठिला झील के निकट विसर्जित किया गया| बाद में भंडारे का आयोजन किया गया|

एक टीका करेगा खसरे व रूबेला से बचाव

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:सरकार द्वारा एम.आर. (मीजल्स रूबेला) वैक्सीन की शुरुआत प्रदेश के सभी जिलों में की जा रही है। यह वैक्सीन बच्चों में होने वाले खसरे एवं रूबेला से बचाव के लिए पूरा कार्य करेगी| एक टीका दोनों बिमारियों के लिए सुरक्षा कबच होगा|
नगर के ठंडी सड़क स्थित एक होटल में विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक कार्यशाला का आयोजन किया गया| जिसमे एम.आर. (मीजल्स रूबेला) वैक्सीन की शुरुआत के विषय में जानकारी दी गयी| जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ॰अनुज त्रिपाठी ने बताया कि बच्चों को दी जाने वाली खसरे के टीके की जगह अब खसरा एवं रूबेला दोनों रोगों से संयुक्त बचाव के लिए एमआर वैक्सीन को नियमित टीकाकरण में शामिल किया जाएगा। उन्होने बताया कि इस नए टीके का डोज़ खसरे के पुराने डोज़ की ही तरह रहेगा । नियमित टीकाकरण के दौरान 9 महीने के बच्चे को पहला डोज़ एवं 16 से 24 महीने के बच्चे को दूसरा डोज़ दिया जाएगा ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 अरुण कुमार ने बताया कि आगामी 26 नवम्बर से इस टीके को अभियान के रूप में 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगाया जायेगा| अभियान के दौरान 9 माह से 15 साल तक के सभी बच्चे एवं किशोरों को स्कूलो में जाकर यह टीका लगाया जाएगा।इसके बाद एक सप्ताह तक इस अभियान में सभी छूटे हुये बच्चों का टीकाकारण सुनिश्चित करने के बाद अगले दो सप्ताह तक सामुदायिक स्तर पर इस अभियान को चलाकर बच्चों एवं किशोरों को प्रतिरक्षित किया जाएगा।
विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलान्स मेडिकल ऑफिसर डॉ० शुतांशु ने बताया कि रूबेला वायरस से फैलने वाली एक संक्रामक एवं खतरनाक बीमारी है। इसलिए 2020 तक रूबेला पर पूर्ण नियंत्रण एवं ख़सरा को ख़त्म करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है । उन्होने बताया 95 प्रतिशत रूबेला का वायरस 15 साल तक के बच्चों के माध्यम से वायुमंडल में फ़ैलता रहता है। यह वायरस गर्भवती माता के माध्यम से गर्भ में पल रहे बच्चों पर गंभीर रूप से असर डालता है एवं इस वायरस से बच्चा अंधा, गूंगा, हृदय रोग, गुर्दे के रोग, अपंग होने के साथ गर्भ में ही उसकी मृत्यु तक हो जाती है। इस वायरस से होने वाली विभिन्न समस्याओं को कोनजीनैटल रूबेला सिंड्रोम के भी नाम से जाना जाता है।
उन्होने बताया कि इस टीके के मदद से इस ख़तरनाक वायरस को बच्चों के माध्यम से वायुमंडल में फैलने से रोका जा सकेगा। उन्होने बताया कि प्रतिवर्ष देश में लगभग 40 से 50 हजार रूबेला वायरस से संक्रमित मामलों की पुष्टि होती है। इसके अलावा रूबेला वायरस से संक्रमित महिला में अचानक गर्भपात एवं गर्भ नहीं ठहरने की भी समस्या आम तौर पर देखी जा सकती है।
कार्यशाला के दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰ दलवीर सिंह एवं डॉ॰ राजीव शाक्य, जिला कार्यक्रम प्रबंधक कंचन बाला, विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉ॰ तनुज, यू.एन.डी.पी. से मानव शर्मा, अपर शोध अधिकारी हरिमोहन कटियार, सभी ब्लॉकों के अधीक्षक, अपर सोध अधिकारी, प्रतिरक्षण अधिकारी, बीपीएम एवं ए.एन.एम. आदि लोग उपस्थित रहे।

जीएचटी के अंतर्गत रखें जाये पेट्रोल-डीजल व गैस

0

Posted on : 18-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: जिला उद्योग व्यापार मंडल ने कलेक्ट्रट पंहुचकर पेट्रोलियम मंत्री को ज्ञापन सौपा| इसके साथ ही व्यापार मंडल ने पेट्रोल डीजल व गैस को जीएसटी के अंतर्गत लाने की मांग की गयी|
संगठन के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल के नेतृत्व में व्यापारियों ने कलेक्ट्रेट पंहुचकर ज्ञापन सौपा| जिसमे कहा गया कि व्यापारी वर्ग लगातार बढ़ रही पेट्रोल, डीजल एवं गैस की कीमतों से उप्तादन पर होने वाले नुकसान के कारण व्यापार करने में अपने आपको असमर्थ पा रहा है| व्यापार करने में बहुत ही परेशानी उठानी पड़ रही रही है| व्यापार मंडल ने मांग कि है कि व्यापारियों के हित में तत्काल पेट्रोल,डीजल व गैस की कीमतों पर नियंत्रण किया जाये|इसके साथ ही साथ व्यापारियों ने पेट्रोल, डीजल व गैस को तत्काल जीएसटी के अंतर्गत लाने की मांग की| ज्ञापन पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को भेजा गया है|
इस दौरान जरदोजी व्यापार मंडल के अध्यक्ष अतीक अहमद, पुन्नी शुक्ला प्रभात कटियार, रिजवान अहमद ताज, राम जी मिश्रा, हसीन अहमद, डालचंद कठेरिया, अल्लादीन, मोहित आदि रहे|