निरीक्षण में खफा दिखे नोडल अधिकारी,कई को कार्यवाही की चेतावनी

0

JNI NEWS : 14-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(राजेपुर/अमृतपुर)शुक्रवार को नगर विकास विभाग के सचिव व जिले में नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने तहसील, व्लाक व थाने का निरीक्षण किया| इस दौरान वह एसडीएम से लेकर अधिकारीयों व कर्मचरियो कि क्लास लगा दी| वही कई पर कार्यवाही के संकेत दिये|
सचिव ने अमृतपुर तहसील का निरीक्षण किया| अधिवक्ता प्रभाकर,विनोद कुमार दुबे, कुलदीप अवस्थी, अमर सिंह, अमरजीत एक दर्जन ने सचिव से शिकायत की है प्रधान लोग मच्छर की दवा नहीं छिडकावा रहे| मच्छर से ज्यादा बीमारी होती है| सबसे ज्यादा मच्छर अमृतपुर तहसील में है| उन्होंने दवा छिडकाने के निर्देश दिये| सचिव को एसडीएम रमेश यादव 2015 से 2018 तक का तामिला नहीं दिखा सके| जिस पर सचिव ने एसडीएम की फटकार लगा दी| सचिव को आरसी का भी सही से जबाब नही मिला| इस पर अमीनो की फटकार लगायी| फर्जी पट्टे की शिकायत मिलने पर सचिव ने कानून-गो गोविंद सिंह की क्लास लगा दी| लेखपाल को चेतावनी देकर छोड़ दिया|इसके बाद उन्होंने आईटीआई का भी निरीक्षण किया| जंहा उन्हें जरनेटर बंद मिला| उन्होंने प्रधानाचार्य उमेश कुमार की फटकार लगा दी| उन्होंने व्यवस्था दुरस्त करने के निर्देश दिये|
इसके बाद सचिव जीएस प्रियदर्शी ने राजेपुर व्लाक व थाने का निरीक्षण किया| उन्होंने विकास खंड कार्यालय में जरनेटर खराब मिला| वही बिजली व्यवस्था दुरस्त देख सचिव का पारा चढ़ गया| इसके बाद उन्होंने एडीओ पंचायत अजीत पाठक का आवास देखा बीडियो से भी आवास की जानकारी ली| बीडीओ नजमा सिद्दीकी ने बताया की उनके आवास पर सांप अधिक है इस लिए वह सरकारी आवास में नही रहती| विकास खंड कार्यालय में गंदगी देख नाराजगी व्यक्त की|
जिला पंचायत रमेश राजपूत ने राजेपुर में नाला निर्माण में अमानक निर्माण सामग्री लगाये जाने की शिकायत की| एडीओ पंचायत अजित पाठक को डाटा फीड की जानकारी ना देने पर कड़ी फटकार लगायी| सचिव ने दारापुर निवासी माया देवी के द्वारा आवास 12 सितंबर 2018 को ऑनलाइन किया था| जिस पर तथ्यात्मक रिपोर्ट ना लगी होने पर ग्राम सचिव कुलदीप की क्लास लगा दी|
नोडल अधिकारी ने थाने का भी जायजा लिया| उन्होंने कंप्यूटर कक्ष में कनेक्टिविटी, सीसीटीवी, चार्जसीट की जानकारी ली| थाने का भवन देखा| सीओ अमृतपुर ने बताया कि 7 करोड़ 19 लाख रुपया तोड़ने व बनवाने का स्वीकृत हुआ है| नोडल अधिकारी ने आदेश दिया कि एक बैरिंग में आधा दर्जन ही पुलिसकर्मी रहेंगे| लाइट गन को देखा था|उन्हें अभिलेख दुरस्त नही मिले और हथकड़ी में जंग मिली|
जसुपूर गढ़िया रजिस्टर देखा 2017 से 2018 तक रजिस्टर चेक नहीं हुआ जिस पर पुलिसकर्मियों पर नाराजगी जताई वही कई रजिस्टर में कटे फटे कागज मिले जो कि कहीं कागज गायब मिले फरियादियों के मोबाइल नंबर फरियादियो के नम्वर नहीं लिखे थे हथकड़ी में जंग होने से खराब हो गई मोटरसाइकिल की नीलामी की जानकारी ली| नोडल अधिकारी ने जेएनआई को बताया कि निरीक्षण में खामियां मिली है| जिसमे लापरवाही की पुष्टि होगी उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी|

इस लेख/समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया लिखें-