अधिशासी अधिकारी का वेतन रोकने के आदेश

0

JNI NEWS : 13-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रूखाबाद:कलेक्ट्रेट सभागार में सचिव नगर विकास विभाग व जिल के नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक का हुई| जिसमे अनुपस्थित अधिशासी अधिकारी मोहम्मदाबाद का वेतन रोकने के आदेश दिये|
सचिव ने कहा कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में बच्चों की उपस्थिति सुनिश्चित कर आरवीएसके टीम को क्षेत्र में सक्रीय करे।टीम पेर लगातार निगरानी रखी जाये| हर ब्लाक में सबसे कम सेवा प्रदान करने वाली आरवीएसके टीम पर कार्यवाही के निर्देश दिये|
ब्लाक पर स्टाक का सत्यापन जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा कराने के निर्देश दिए। बैठक में अप्रूव मार्गों की सही सूचना एआरटीओ नहीं उपलब्ध करा पाये। जिस पर उन्होंने फटकार लगा दी। उन्होंने बीते पांच वर्षो में लोक निर्माण विभाग व पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत बनाए गए मार्गों की सूची एआरटीओ को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।काॅलेज के छात्राओं हेतु विद्यालय में ही कैम्प लगाकर ड्राविंग लाइसेन्स व प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था कराने के निर्देश एआरटीओ को दिए।
भू-माफिया अभियान में बड़े भू-माफियों को चिन्हित कर कार्यवाही अमल में लायी जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ से 107 ग्राम प्रभावित हुए है। इन ग्रामों में प्रभावित परिवारों को 24000 पैकेट राहत सामग्री व मिट्टी का तेल वितरित कराया गया है। क्षतिग्रस्त परिवारों को निर्धारित समय में समुचित सहायता उपलब्ध करायी गयी है। उन्होंने कहा कि ऐसे ग्राम जो चकबन्दी से राजस्व में आए है उनका अन्तिमीकरण कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि डा0 राममनोहर लोहिया महिला चिकित्सालय में महिलाओं का अल्ट्रासाउण्ड नहीं हो पारहा है। अल्ट्रासाउण्ड व्यवस्था ठीक कराने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए।
निरीक्षण के दौरान यह भी बताया गया कि लोहिया अस्पताल में आशा व एएनएम का गैंग चलता है जो कि गर्भवती महिलाओं को भ्रमित कर निजी अस्पतालों में ले जाती है। उनको चिन्हित कर गम्भीर व दण्डात्मक कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए। उन्होंने ढ़ाई घाट शमसाबाद सेतु को 15 दिन के अन्दर चालू करने के निर्देश दिए। गड्ढामुक्ति का कार्य गुणवत्ता पूर्ण कराया जाए। बैठक में बताया कि पेयजल कनेक्शन का कार्य ठीक नहीं चल रहा है। संबंधित ठेकेदार द्वारा कनेक्शन करने के पश्चात मार्ग को यथास्थिति छोड़ दिया जाता है। उन्होंने कहा कि भविष्य में शिकायत आयी तो शासन स्तर से कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।
इसके साथ ही सचिव ने कहा कि फर्रूखाबाद शहर में पार्कों का निर्माण कराया जाये।अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मोहम्मदाबाद अनुपस्थित थे। तत्काल प्रभाव से वेतन रोकने के निर्देश दिये। बेसिक शिक्षा अधिकारी को जर्जर विद्यालयों को तुड़वाने के निर्देश दिये।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा दुबे, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० अरुण कुमार, अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह, उप जिलाधिकारी सदर निशांत सिंह आदि रहे|

Comments are closed.