Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

अधिशासी अधिकारी का वेतन रोकने के आदेश

Comments Off on अधिशासी अधिकारी का वेतन रोकने के आदेश

Posted on : 13-09-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रूखाबाद:कलेक्ट्रेट सभागार में सचिव नगर विकास विभाग व जिल के नोडल अधिकारी जीएस प्रियदर्शी की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक का हुई| जिसमे अनुपस्थित अधिशासी अधिकारी मोहम्मदाबाद का वेतन रोकने के आदेश दिये|
सचिव ने कहा कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में बच्चों की उपस्थिति सुनिश्चित कर आरवीएसके टीम को क्षेत्र में सक्रीय करे।टीम पेर लगातार निगरानी रखी जाये| हर ब्लाक में सबसे कम सेवा प्रदान करने वाली आरवीएसके टीम पर कार्यवाही के निर्देश दिये|
ब्लाक पर स्टाक का सत्यापन जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा कराने के निर्देश दिए। बैठक में अप्रूव मार्गों की सही सूचना एआरटीओ नहीं उपलब्ध करा पाये। जिस पर उन्होंने फटकार लगा दी। उन्होंने बीते पांच वर्षो में लोक निर्माण विभाग व पीएमजीएसवाई के अन्तर्गत बनाए गए मार्गों की सूची एआरटीओ को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।काॅलेज के छात्राओं हेतु विद्यालय में ही कैम्प लगाकर ड्राविंग लाइसेन्स व प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था कराने के निर्देश एआरटीओ को दिए।
भू-माफिया अभियान में बड़े भू-माफियों को चिन्हित कर कार्यवाही अमल में लायी जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ से 107 ग्राम प्रभावित हुए है। इन ग्रामों में प्रभावित परिवारों को 24000 पैकेट राहत सामग्री व मिट्टी का तेल वितरित कराया गया है। क्षतिग्रस्त परिवारों को निर्धारित समय में समुचित सहायता उपलब्ध करायी गयी है। उन्होंने कहा कि ऐसे ग्राम जो चकबन्दी से राजस्व में आए है उनका अन्तिमीकरण कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि डा0 राममनोहर लोहिया महिला चिकित्सालय में महिलाओं का अल्ट्रासाउण्ड नहीं हो पारहा है। अल्ट्रासाउण्ड व्यवस्था ठीक कराने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए।
निरीक्षण के दौरान यह भी बताया गया कि लोहिया अस्पताल में आशा व एएनएम का गैंग चलता है जो कि गर्भवती महिलाओं को भ्रमित कर निजी अस्पतालों में ले जाती है। उनको चिन्हित कर गम्भीर व दण्डात्मक कार्यवाही करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिए। उन्होंने ढ़ाई घाट शमसाबाद सेतु को 15 दिन के अन्दर चालू करने के निर्देश दिए। गड्ढामुक्ति का कार्य गुणवत्ता पूर्ण कराया जाए। बैठक में बताया कि पेयजल कनेक्शन का कार्य ठीक नहीं चल रहा है। संबंधित ठेकेदार द्वारा कनेक्शन करने के पश्चात मार्ग को यथास्थिति छोड़ दिया जाता है। उन्होंने कहा कि भविष्य में शिकायत आयी तो शासन स्तर से कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।
इसके साथ ही सचिव ने कहा कि फर्रूखाबाद शहर में पार्कों का निर्माण कराया जाये।अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मोहम्मदाबाद अनुपस्थित थे। तत्काल प्रभाव से वेतन रोकने के निर्देश दिये। बेसिक शिक्षा अधिकारी को जर्जर विद्यालयों को तुड़वाने के निर्देश दिये।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा दुबे, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० अरुण कुमार, अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह, उप जिलाधिकारी सदर निशांत सिंह आदि रहे|

घरों में दस दिन के लिये विराजे श्रीगणेश

Comments Off on घरों में दस दिन के लिये विराजे श्रीगणेश

Posted on : 13-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS

फर्रुखाबाद: जनपद में लगभग जगह-जगह गणेश प्रतिमा को विराजमान किया गया है| पूरे जिले में गणेश महोत्सव की धूम है| इसके चलते गणपति दस दिन के लिये विराजे है| अपनी सुबिधा के अनुसार प्रतिमा का विर्सजन किया जायेगा|
गुरुवार सुबह आठ बजे तक पूजा और आरती का दौर शूरू हुआ| सरकारी आंकड़ों के अनुसार लगभग 108 जगह गणपति विराजमान किया गया है| जिसमे नगर में सर्वाधिक 86 प्रतिमा स्थापित की गयी है| इसमे मऊदरवाजा भी शामिल है| इसी प्रकार फतेहगढ़ में कुल 13 , कमालगंज में केबल एक, मोहम्मदाबाद में पांच,कंपिल में दो व शमसाबाद में एक प्रतिमा स्थापित की गयी है| लेकिन यदि हकीकत में देखा जाये तो यह संख्या सैकड़ो में है|
नगर में धूमधाम से पूजा और आरती के साथ श्रीगनेश को एस्थापित किया गया| पूजा आदि का दौर आगामी दस दिन तक चलेगा|

गणेश चतुर्थी पर कानपुर में धमाका करने की साजिश,आतंकी गिरफ्तार

Comments Off on गणेश चतुर्थी पर कानपुर में धमाका करने की साजिश,आतंकी गिरफ्तार

लखनऊ:आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) ने कानपुर के चकेरी क्षेत्र से हिजबुल मुजाहिदीन के संदिग्ध आतंकी कमरुज्जमा उर्फ डॉ.हुरैरा उर्फ कमरुद्दीन (38) को गिरफ्तार किया है। उसके मोबाइल में कानपुर के कलेक्टरगंज स्थित सिद्धि विनायक मंदिर की बुधवार को बनाई गई करीब साढ़े पांच मिनट की वीडियो क्लिप भी मिली है। अप्रैल में एके-47 लेकर खिंचवाई गई उसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद वह सुरक्षा व खुफिया एजेंसियों की नजर में आया था। इस पोस्ट में उसने खुद को हिजबुल मुजाहिदीन का डॉ.हुरैरा होने का दावा किया था।
डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि आरोपित कमरुज्जमा गणेश उत्सव के दौरान कानपुर में बड़ी घटना करने की फिराक में था। आशंका है कि गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान बड़ी आतंकी साजिश रची जा रही थी। इसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने सतर्कता बढ़ा दी है। कमरुज्जमा का यूपी कनेक्शन खंगालने के साथ ही उसके स्थानीय मददगारों के बारे में भी गहनता से छानबीन की जा रही है। मूलरूप से असम के जमुनामुख निवासी कमरुज्जमा करीब दो माह पूर्व कानपुर आया था और शिवनगर में किराये के मकान में रह रहा था। जहां उसने खुद को मोबाइल टॉवर इंजीनियर बताया था। एटीएस उसे पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर आगे की पूछताछ करेगी। कमरुज्जमा विवाहित है और उसके एक बेटा है। खुफिया इनपुट मिलने के बाद एनआइए व एटीएस पिछले कई दिनों से उसके बारे में छानबीन कर रही थी। गुरुवार को एटीएस ने कानपुर पुलिस की मदद से चकेरी क्षेत्र के शिवनगर मोहल्ले से उसे गिरफ्तार किया।
ओसामा बिन जावेद के साथ ज्वाइन किया था हिजबुल
आइजी एटीएस असीम अरुण के अनुसार आरोपित ने खुद को हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य होने की बात स्वीकार की है। वह अप्रैल, 2017 में कश्मीर के किश्तवार निवासी ओसामा बिन जावेद के संपर्क में आया था, जिसके बाद दोनों ने एक साथ आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ज्वाइन किया था। करीब एक साल पहले दोनों कश्मीर से गायब हो गए थे। दोनों को कश्मीर में नौ माह की ट्रेनिंग भी दी गई थी। तभी से जम्मू-कश्मीर की खुफिया एजेंसियां दोनों की तलाश कर रही हैं। ओसामा अब तक जांच एजेंसियों के हाथ नहीं लग सका है। कमरुज्जमा बीए तृतीय वर्ष की परीक्षा में फेल हो गया था। उसने टाइपिंग व कंप्यूटर का डिप्लोमा कर रखा है। वह अच्छी अंग्रेजी बोलता है। आरोपित को पकडऩे में एटीएस के एएसपी दिनेश यादव व सीओ दिनेश पुरी की अहम भूमिका रही।
चार साल आइलैंड में रहा
कमरुज्जमा वर्ष 2008 से 2012 तक फिलीपींस के निकट स्थित आइलैंड रिपब्लिक ऑफ पलाऊ में रहा था। वहां वह एक स्टोर में हेल्पर का काम कर रहा था। यह आइलैंड इंडोनेशिया के पास है। इसके बाद वह कश्मीर चला गया था, जहां 2016 में ओसामा के संपर्क में आया।
फोन पर सेव थे सिर्फ दो नंबर
कमरुज्जमा के स्मार्टफोन में सिर्फ दो मोबाइल नंबर ही सेव थे। वह वाट्सएप ग्रुप के जरिये आतंकी संगठनों के संपर्क में था। उसके मोबाइल से कई चैट व नंबर मिटा दिये गए थे। उसकी कॉल डिटेल के आधार पर भी छानबीन की जा रही है।
बैंक खातों की भी पड़ताल
कमरुज्जमा के बैंक खातों की पड़ताल भी की जा रही है। खासकर उसकी फंडिंग व सहयोगियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। यह भी पता लगाया जा रहा है कि वह कश्मीर से भागने के बाद कहां और किन लोगों के संपर्क में रहा और उनकी योजनाएं क्या-क्या थीं।

बेटियों ने किया मां का कन्यादान

Comments Off on बेटियों ने किया मां का कन्यादान

Posted on : 13-09-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, धार्मिक, सामाजिक

मेरठ:सदियों से मां-बाप बेटियों को अपने दर से ससुराल के लिए विदा करते आए हैं, लेकिन मेरठ में मर्मस्पर्शी वाकया सामने आया। यहां बेटियां बाबुल के किरदार में नजर आईं। इन बेटियों ने अपनी विधवा मां की सूनी मांग को फिर से रंग-बिरंगी कर दिया। दरअसल, एक बेटे ने अपनी मां को घर से निकाल दिया था। बदनसीब मां को उसकी दो बेटियों ने गले ही नहीं लगाया, बल्कि गुरुवार को उसकी शादी कराकर ससुराल के लिए विदा कर दिया। इस नेक काम में दुनियावालों ने बाधा डाली, लेकिन बेटियों ने हार नहीं मानी।
मेरठ के जागृति विहार निवासी एक महिला के पति की मृत्यु करीब 15 वर्ष पहले हो गई थी। महिला ने मेहनत-मजदूरी कर एक बेटे और दो बेटियों को बड़ा किया। बेटियों को धूमधाम से ससुराल विदा किया। बेटा गलत संगत में पड़ गया। मां से हर दिन बुरा बर्ताव करने लगा। सप्ताहभर पहले आवारा बेटे ने अपनी मां को मारपीट कर घर से निकाल दिया। आए दिन मां को अपमानित किए जाने से आहत बेटियों ने मां के कन्यादान का फैसला किया और वर की तलाश शुरू कर दी। इस दौरान सहारनपुर निवासी रिश्तेदारी का ही एक व्यक्ति शादी के लिए तैयार हो गया। इस व्यक्ति की पत्नी की मौत हो चुकी थी। दोनों बेटियों ने मां को भी शादी के लिए मना लिया। कई रिश्तेदार मदद के बजाय विरोध पर उतर आए। बेटियों ने हार नहीं मानी और खुद ही कन्यादान करने का फैसला लिया। गुरुवार को बेटियों ने मां की विधिवत शादी कराई और ससुराल के लिए विदा कर दिया।
समाज से ज्यादा मां की खुशी सर्वोपरि
विधवा की शादी को लेकर क्षेत्र में कई लोग बेटियों की तारीफ के पुल बांध रहे हैं। पूछे जाने पर बेटियों ने बताया कि भाई के बर्ताव से मां दुखी थीं और हम आहत। ऐसे में समाज की सोच से अधिक मां की खुशी को देखते हुए शादी कराने का निर्णय लिया।

अरुण जेटली के खिलाफ विजय माल्या को देश से भगाने में तहरीर

Comments Off on अरुण जेटली के खिलाफ विजय माल्या को देश से भगाने में तहरीर

Posted on : 13-09-2018 | By : JNI-Desk | In : Politics, Politics-BJP, Politics-CONG., राष्ट्रीय

कानपुर:विजय माल्या को देश से भगाने में वित्तमंत्री अरुण जेटली को जिम्मेदार बताते हुए गुरुवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोतवाली में तहरीर दी। तहरीर लेकर पुलिस ने कांग्रेसियों को जांच का आश्वासन दिया है।
आज कांग्रेस के शहर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में कार्यकर्ता पैदल मार्च करते हुए कोतवाली पहुंचे। वित्तमंत्री अरुण जेटली पर नौ हजार करोड़ की धोखाधड़ी के अरोपित विजय माल्या को देश से भागने में मदद, देश की जनता के साथ धोखाधड़ी करने, जनता की गाढ़ी कमाई की लूट कराने में मुकदमा दर्ज करने की तहरीर इंस्पेक्टर पीके शुक्ला को दी। शहर अध्यक्ष ने कहा कि लंदन की अदालत में पेशी के बाद माल्या ने स्वयं स्वीकार किया कि भारत छोडऩे से पहले वह वित्तमंत्री से मिला था। ऐसे में उसके देश से भागने में वित्तमंत्री की प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष भूमिका की जांच होनी चाहिए।

[bannergarden id="12"]