खबर का असर: बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने नाव से पंहुची डीएम

1

JNI NEWS : 11-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कंपिल)शनिवार को जिलाधिकारी ने बाढ़ ग्रस्त इलाके का दौरा नाव पर बैठकर किया| उन्होंने ग्रामीणों से बात कर उन्हें सभी सुबिधाओं का लाभ जल्द से जल्द उपलब्ध कराने का भरोसा दिया| उन्होंने एसडीएम को भी बाढ़ क्षेत्र का लगातार दौरा करने के निर्देश दिये| इस समय लगभग क्षेत्र के लगभग आधा दर्जन गाँव बाढ की चपेट में आ गये है| बीते दिन जेएनआई में गाँव में बाढ़ के हालत का समाचार प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था| बाढ़ के पानी ने चारों तरफ से घेर लिया है। प्रशासन ने 2 नाव उपलब्ध कराई है| जिसके सहयोग से ग्रामीण नाव द्वारा अपने परिवार को जरूरत का सामान लेने जा पा रहे हैं।
क्षेत्र के ग्राम पथरामई में आज डीएम मोनिका रानी का दौरा था। सभी अधिकारी व्यवस्था देखने के लिए समय से घंटों पहले पहुंच गए। प्राथमिक विद्यालय पथरामई में डीएम मोनिका रानी के बैठने के लिए टैंट लगाया गया था ।वहाँ अधिकारियों ने पहले पहुंच कर साफ सफाई की व्यवस्था को दुरुस्त किया। विद्यालय में पीड़ित परिवार को रुकने,खाने-पीने,और दवाई ,रोशनी के लिए पेट्रो मैक्स , तिरपाल आदि की व्यवस्था कराई गई।उसके बाद भी पथरामई के ग्रामीणों ने खाना खाने जाने से मना कर दिया।
डीएम मोनिका रानी, एसडीएम अनिल कुमार ने ग्रामीणों की समस्या को सुना। ग्रामीणों ने बताया कि घर का सामान चोरी हो सकता है।जानवरों की रखवाली का भी जिम्मा है। मक्के ,बाजरे,धान,गन्ने की फसल भी प्रभावित हुई है,बच्चे बीमार हैं। इस पर जिलाधिकारी ने सीओ अखिलेश राय को निर्देशित किया कि गाँव मे सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर 20 कमांडेंट होम गार्ड तैनात हों। बीमार ग्रामीणों के लिए दवाईयों और डॉक्टरों की व्यवस्था विद्यालय में की गई है। फसलों का सर्वे करबाकर सहायता राशि दे दी जाये।

जिलाधिकारी ने कहा कि गांव में बाढ़ से 120 परिवार प्रभावित है। जिनके लिए पात्र लोगो को सरकारी आवास मुहैया करा दिए जाएंगे। यहाँ पर आहलादपुर भटौली जैसी परियोजना पर पानी कम होते ही कार्य शुरू कर दिया जायेगा। जिससे गंगा के बाढ़ का पानी गांव को नुकसान न पहुचा सके। उन्होंने कहा कि 2-3 दिन तक जल स्तर और बढ़ेगा । शनिवार को भी 1लाख 42 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। गांव के लोग कटान के डर से डरे व सहमे हुए हैं। एसडीएम अनिल कुमार ने 6 लेखपालों सहित कई अन्य विभागीय अधिकारियों को 3 दिन तक बाढ़ ग्रस्त गांव पथरामई में रहने को निर्देशित किया है।
इस दौरान तहसीलदार गजेन्द्र सिंह, नायब तहशीलदार पवन गुप्ता, सीओ अखिलेश राय, जिला पंचायत सदस्य किशनपाल सिंह, प्रधान अबधेश, प्रधान मेघ सिंह, सचिव कमल कुमार व मुरारी लाल आदि लोग रहे।

पाठक की प्रतिक्रिया (1)

Jald se Jald kuch kiya Jay