यूपी में 16 हजार से अधिक पदों पर भर्ती जल्द

1

लखनऊ:लंबे समय से नियुक्ति एवं विभागीय प्रोन्नति की परीक्षा कर रहे युवाओं और कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। चुनावी अधिसूचना लागू होने से पहले ही उप्र लोक सेवा आयोग और अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा 16 हजार से अधिक पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी। मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय ने बुधवार को इन दोनों चयन आयोगों के वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक की और उन्हें दो माह में प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने बुधवार को शास्त्री भवन में दोनों आयोगों से विभागों की ओर से भेजे अधियाचन के बारे में जानकारी ली।
इन पदों पर होनी नियुक्ति
खंड विकास अधिकारी : 145
पुलिस उपाधीक्षक : 685
चिकित्सक : 2354
नर्स : 4000
लेखपाल : 4000
कनिष्ठ सहायक : 5281
विभागीय डीपीसी कार्यवाही लंबित
उप्र लोक सेवा आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि अधियाचन के अनुसार 236 पुलिस उपाधीक्षकों के रिक्त पदों पर चयन और 449 पुलिस उपाधीक्षकों के पद पर विभागीय डीपीसी की कार्यवाही लंबित है। इसी प्रकार 2354 चिकित्सकों और लगभग चार हजार नर्सों की भर्ती भी लंबित है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के सचिव अरविंद कुमार चौरसिया ने बताया कि 2015 से 2017 तक भेजे गए अधियाचन के अनुसार लगभग 145 खंड विकास अधिकारियों का चयन किया जाना है। कनिष्ठ सहायकों के 5281 पदों का साक्षात्कार एक-दो दिनों में पूरा हो जाएगा और जल्द ही नियुक्ति कर दी जाएगी। 4000 लेखपालों की नियुक्ति के लिए शासन से अनुमति लेकर जल्द ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।
जल्द नियुक्ति के निर्देश
मुख्य सचिव ने विकासपरक योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में तेजी लाने के लिए खाली पदों को जल्द भरने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि दो माह के भीतर नियुक्ति प्रक्रिया पूरी कर ली जाए। उन्होंने सचिवालय के रिक्त समीक्षा अधिकारी एवं सहायक समीक्षा अधिकारी पदों पर भी अधियाचन के अनुसार जल्द नियुक्ति के निर्देश दिए। विभागीय प्रोन्नति की प्रक्रिया भी जल्द पूरी की जाए। बैठक में अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी, प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास अनुराग श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी थे।

पाठक की प्रतिक्रिया (1)

Government job