एक सप्ताह में शिकयतों का निस्तारण करे अफसर

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कायमगंज) जिलाधिकारी मोनिका रानी की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन तहसील कायमगंज में किया गया। जिसमे उन्होंने अफसरों को कहा कि एक सप्ताह के भीतर शिकायतों का निस्तारण किया जाये|
सम्पूर्ण समाधान दिवस में आये सभी शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को सुना। इस अवसर पर आवास व विधुत की शिकायतें अधिक पायी गयी । डीएम ने खण्ड विकास अधिकारी कायमगंज को तत्काल प्राप्त शिकायती पत्र के सापेक्ष आवास के लम्बित पड़े आवेदनों से मिलान कराने व नये प्राप्त आवेदनों को तत्काल आॅनलाइन कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता विधुत कायमगंज को तत्काल मौके पर टीम भेजकर विधुत समस्या संबंधित प्रकरणों का निस्तारण करने के निर्देश दिये।
सामाधान दिवस में ग्राम बिलसड़ी की शिकायतें भी अधिक पायी गयी। जिलाधिकारी ने राजस्व/ग्राम्य विकास विभाग की टीम लगाकर समस्याओं का निस्तारण कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि आज मृत्यु प्रमाण पत्र/जन्म प्रमाण पत्र में संशोधन की भी कई शिकायतें देखी गयी है। स्वयं जांचकर निस्तारण कराये। जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का निस्तारण एक सप्ताह के अन्दर मौके पर जाकर ससमय गुणवतापूर्ण किया जाये।
शिकायतों का फर्जी निस्तारण न किया जाये। अन्यथा की दशा में संबंधित पर विभागीय कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। समाधान दिवस में जिलाधिकारी द्वारा चार शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण करा दिया गया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा दुबे, मुख्य चिकित्साधिकारीडॉ० अरुण कुमार, उप जिलाधिकारी कायमगंज एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

एनएचएम टीम ने लोहिया में खंगाले अभिलेख

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) की राज्य स्तरीय टीम ने लोहिया अस्पताल में अभिलेख खंगाले| जिसमे खामियां मिलने पर उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों की जमकर क्लास भी लगायी | जल्द ही शासन के की मंशा के के तहत अभिलेख पूर्ण करने के निर्देश दिये गये|
आगामी दिनों में लोहिया अस्पताल के साथ ही जनपद के अन्य सीएचसी-पीएचसी पर भी केन्द्रीय स्वास्थ्य मिशन की टीम आकर अभिलेख चेक करेगी| जिसकी भनक लगते ही एनएचएम की राज्य स्तरीय टीम ने डॉ० पंकज सक्सेना व डॉ० अभय द्विवेदी की टीम ने डेरा डाल दिया है| जिसके चलते उन्होंने मंगलवार को लोहिया अस्पताल की महिला ओपीडी आदि का निरीक्षण कर अभिलेख देखे| उन्होंने कई अभिलेख अपूर्ण देख उन्होंने महिला चिकित्सक डॉ० नेहा व स्टाफ नर्स विमला व एएनएम से नाराजगी व्यक्त की|
साथ ही उन्होंने अभिलेख जल्द पूर्ण करने के निर्देश भी दिये| बरौन की आशा संतोष से भी पूंछतांछ की| उसे भी समय व पर व नियमानुसार कार्य करने के निर्देश दिये| टीम ने सीएमओ कार्यालय में भी अभिलेख चेक किये|

घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम, मेजर समेत चार जवान शहीद, दो आतंकी भी ढेर

0

श्रीनगर:उत्तरी कश्मीर के गुरेज (बांडीपोर) सेक्टर में मंगलवार को पाकिस्तान ने भारतीय ठिकानों पर भारी गोलाबारी करते हुए आतंकियों की घुसपैठ कराने का बड़ा प्रयास किया, जिसे नाकाम बनाते एक मेजर समेत चार सैन्यकर्मी शहीद हो गए। मुठभेड़ में दो आतंकी भी मारे गए हैं, हालांकि सूत्र चार आतंकियों के मारे जाने का दावा कर रहे हैं। फिलहाल, सीमा पर एहतियातन सैन्य अभियान जारी है। इसमें सेना का पैरा कमांडो दस्ता भी भाग ले रहा है।
जानकारी के अनुसार, सोमवार आधी रात के बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने अचानक संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए नियंत्रण रेखा (एलओसी) के साथ सटे बकतूर और नैनी इलाके में भारतीय सैन्य व नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी शुरू कर दी। पहले तो भारतीय सैनिकों ने संयम बनाए रखा, लेकिन जब गोलाबारी की तीव्रता बढ़ने लगी तो उन्होंने भी जवाबी फायर किया। सुबह तक दोनों तरफ से रुक रुककर गोलाबारी होती रही।
बारिश और धुंध की आड़ में हुआ दुस्साहस :पाक गोलाबारी के तौर तरीकों के आधार पर सैन्य अधिकारियों ने हालात का आकलन कर पता लगाया कि गोलाबारी का मूल उद्देश्य आतंकियों की घुसपैठ है। दरअसल, सुबह गोलाबारी के समय गुरेज के अग्रिम इलाकों में बारिश हो रही थी और तड़के धुंध भी थी। हालात को भांपते हुए 36 आरआर और 9 ग्रिनेडियर्स के जवानों ने नैनी और बकतूर के इलाकों में घेराबंदी करते हुए सुबह तलाशी अभियान चलाया। जवान जब गोविंद नाले के पास पहुंचे तो वहां एक जगह छिपे आतंकियों ने उन पर हमला कर दिया।
आतंकियों ने जवानों पर राइफल ग्रेनेड दागे और स्वचालित हथियारों से फायरिंग कर दी। इसमें सैन्य दल के चार जवान जख्मी हो गए। अन्य जवानों ने तुरंत पोजीशन ली और जवाबी फायर करते हुए आतंकियों को मुठभेड़ में उलझा लिया। इस बीच, निकटवर्ती चौकियों से भी जवानों की अतिरिक्त टुकडि़यां मौके पर पहुंच गई। जवानों ने घायल साथियों को वहां से अस्पताल पहुंचाने का बंदोबस्त करते हुए आतंकियों को मार गिराने का अभियान जारी रखा। सुबह 10.30 बजे तक दो आतंकी मारे गए थे, जबकि स्थानीय सूत्रों ने चार आतंकियों के मारे जाने का दावा किया है। इस बीच अस्पताल में डॉक्टरों ने मेजर केपी राणे, राइफलमैन हमीर सिंह, गन्नर विक्रमजीत सिंह और राइफलमैन मनदीप को शहीद घोषित कर दिया।
संबंधित सैन्य अधिकारियों ने बताया कि घुसपैठियों की संख्या छह से 10 के बीच थी। इनमें से दो मारे गए हैं, लेकिन उनके शव पाकिस्तानी सैनिकों की सीधी फाय¨रग रेंज में एलओसी के अगले हिस्से में पड़े होने के कारण तत्काल कब्जे में नहीं लिए जा सके हैं। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी की आड़ में तड़के आतंकियों के एक दल ने गुरेज सेक्टर में घुसपैठ का प्रयास किया था, लेकिन सतर्क जवानों ने इसे नाकाम बना दिया। दो घुसपैठिए मारे गए हैं और अन्य के वापस भाग निकले हैं। इस दौरान एक मेजर समेत चार सैन्यकर्मी शहीद हो गए हैं। फिलहाल, पूरे इलाके में एहतियात के तौर पर तलाशी अभियान जारी है।
शहीदों की पहचान
-29 वर्षीय मेजर कोस्तुब प्रकाश राणे। वह महाराष्ट्र में बी-9 हीरल सागर सीतल नगर के रहने वाले थे। वह 36 आरआर से संबंधित थे। मेजर के परिवार में उनकी पत्नी कनिका राणे रह गई हैं।
-25 वर्षीय शहीद गन्नर विक्रमजीत सिंह हरियाणा के जिला अंबाला के अंतर्गत टेपला, बराड़ा गांव के रहने वाले थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी हरप्रीत कौर रह गई हैं।
-28 वर्षीय शहीद राइफलमैन हमीर सिंह उत्तराखंड के जिला उत्तरकाशी के गांव पोखरियाल, डुंडा के रहने वाले थे। उनका जन्म 15 अगस्त, 1990 को हुआ था। उनकी पत्नी का नाम पूजा पोखरियाल है।
-शहीद राइफलमैन मंदीप सिंह रावत उत्तराखंड के जिला कोटदवार के अंतर्गत शिवपुर गांव के रहने वाले थे। उनके परिवार में अब उनकी मां सुमा देवी रह गई हैं।

9 तरह की बचत योजनाएं चला रहे पोस्ट ऑफिस,देखे किस्मे कितना व्याज

0

नई दिल्ली:क्या आप जानते हैं कि भारतीय डाकघर यानी इंडियन पोस्ट ऑफिस में कई तरह के सेविंग अकाउंट खोलने की सुविधा मिलती है। डाक सेवा के अलावा इंडिया पोस्ट के देशभर में फैले 1.5 लाख पोस्ट ऑफिस कई प्रकार की बैंकिंग और रेमिटेंस सेवाएं भी प्रदान करते हैं।
पोस्ट ऑफिस में करीब 9 तरह की बचत योजनाएं संचालित होती हैं। इनमें सेविंग अकाउंटस रेकरिंग डिपॉजिट अकाउंट, टाइम डिपॉजिट अकाउंट, मंथली इनकम स्कीम अकाउंट, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम अकाउंट, पब्लिक प्रोविडंट फंड या पीपीएफ अकाउंट, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, किसान विकास पत्र और सुकन्या समृद्धि अकाउंट। इन बचत योजनाओं में इंडिया पोस्ट का ओर से 4 से लेकर 8.3 फीसद तक का ब्याज उपलब्ध करवाया जाता है। यह जानकारी इंडिया पोस्ट की वेबसाइट पर उपलब्ध है।
पोस्ट ऑफिस की ये 5 स्कीमें देती है सेविंग अकाउंट से ज्यादा ब्याज
पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम: आप मात्र 20 रुपये में यह अकाउंट खोल सकते हैं। यह अकाउंट सिर्फ कैश के माध्यम से ही खोला जा सकता है। अगर आप यह खाता 500 रुपये से खोलते हैं तो आपको इस खाते पर चेक की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है हालांकि इसके लिए आपको अपने खाते में न्यूनतम 500 रुपये रखने ही होंगे। यह खाता खुलवाने के पहले या बाद में इसमें किसी को नॉमिनी बना सकते हैं। वहीं इस खाते को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांस्फर भी करवाया जा सकता है। हालांकि इस खाते को एक्टिव रखने के लिए तीन वित्तीय वर्षों में जमा या निकासी का कम से कम एक लेनदेन जरूरी है। इस अकाउंट में एटीएम की सुविधा भी उपलब्ध होती है। वहीं इस खाते में जमा राशि पर 4 फीसद का ब्याज दिया जाता है।
पांच वर्षीय डाकघर आवर्ती जमा खाता (पोस्ट ऑफिस रेकरिंग डिपॉजिट अकाउंट): इस खाते को आप चैक या कैश जिस भी माध्यम से चाहें खुलवा सकते हैं। इस खाते में भी आप किसी को अपना नॉमिनी बना सकते हैं। इस खाते में जमा राशि पर 6.9 फीसद की दर से ब्याज मिलता है। वहीं इस बचत योजना में एक साल के बाद 50 फीसद रकम निकलाने की भी सुविधा उपलब्ध होती है।
पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट अकाउंट: इस खाते में जमा राशि पर ब्याज सालाना आधार पर दिया जाता है लेकिन उसकी गणना तिमाही आधार पर की जाती है। इसमें जमा करने की कोई लिमिट नहीं हैं। खाते को आप दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करवा सकते हैं। पोस्ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट पर ब्याज दरें निम्न हैं…
डाकघर मासिक बचत आय (Post Office Monthly Income Scheme Account -MIS): इस खाते को कोई भी व्यक्ति कैश या फिर चेक किसी भी माध्यम से खोल सकता है। खाता खुलवाने के पहले या बाद आप नॉमिनेशन करवा सकते हैं। इस खाते को ट्रांसफर भी करवाया जा सकता है। इस खाते में जमा राशि पर 7.3 फीसद का ब्याज मिलता है।
वरिष्ठ नागरिक बचत खाता (एससीएसएस): 60 साल या उससे ऊपर का व्यक्ति इसमें अकाउंट खोल सकते हैं। 55 साल से 60 साल की उम्र के बीच में रिटायर होने वाले या वीआरएस (स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति) लेने वाले व्यक्ति भी रिटायरमेंट के तीन माह पहले तक यह खाता खोल सकते हैं। इस खाते को आप न्यूनतम 1000 रुपये या फिर इसके गुणांकों में खुलवा सकते हैं। इस खाते में अधिकतम 15 लाख रुपये तक जमा करवाए जा सकते हैं जिस पर सालाना आधार पर 8.3 फीसद का ब्याज मिलता है। इस अकाउंट का मैच्योरिटी पीरियड पांच साल का है। इस खाते को पत्नी-पति ज्वाइंट अकाउंट के रुप में भी खुलवा सकते हैं। इस खाते में भी नॉमिनेशन की सुविधा मिलती है। वहीं इस अकाउंट को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर किया जा सकता है। वहीं अगर इस खाते में जमा राशि पर मिलने वाला सालाना ब्याज 10,000 रुपये से ऊपर होता है तो उस पर टीडीएस भी काटा जाता है।
15 वर्षीय पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ): यह खाता महज 100 रुपये में खोला जा सकता है। खाताधारकों को इस खाते में पूरे वित्त वर्ष में न्यूनतम 500 रुपये एवं अधिकतम 1.50 लाख जमा करवाने होते हैं। इस खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल का है। इसमें आप ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं। इसमें भी नॉमिनेशन की सुविधा मिलती है। इसमें एक वित्त वर्ष में अधिकतम एक लाख रुपए तक के निवेश पर कर छूट का लाभ मिलता है। इसमें जमा राशि पर 7.6 फीसद का ब्याज मिलता है।
पोस्ट ऑफिस सुकन्या समृद्धि अकाउंट: पोस्ट ऑफिस में खोला जाने वाला यह अकाउंट भी कमाल का है। इस स्कीम में एक वित्त वर्ष के दौरान न्यूनतम 1,000 रुपये और अधिकतम 1,50,000 रुपयों का निवेश करना होता है। इसमें लंप-संप निवेश किया जा सकता है। एक महीने में या वित्तीय वर्ष में जमा की संख्या पर कोई सीमा नहीं है। एक वैधानिक अभिभावक या मूल अभिभावक लड़की के नाम पर अकाउंट खुलवा सकते हैं। यह खाता लड़की के पैदा होने के अगले 10 वर्षों के भीतर खुलवाया जा सकता है। इस खाते पर 8.1 फीसद की दर से ब्याज मिलता है। लड़की के 21 साल पूरे होने पर यह खाता बंद हो जाता है।

नवजात को स्तनपान नव जीवन की नींव

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: 7 अगस्त को विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान जिला महिला अस्पताल में स्तनपान के महत्त्व को समझाने के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया| जिसमे नवजात को स्तनपान कराने के लाभ को प्रमुखता से समझाया गया|
लोहिया अस्पताल की महिला ओपीडी में बाल रोग विशेषज्ञ डॉ० शिवाशीष उपाध्याय ने महिलाओं व प्रसुताओ को स्तनपान से नवजात के लिये होने बाले लाभों के विषय में अवगत कराया| उन्होंने बताया कि माँ के प्रथम दूध में मौजूद पोषक तत्व और एंटीबॉडी बच्चे को दीर्घजीवी और निरोगी बनाने में का कार्य करते हैं| माँ जन्म के प्रथम घंटे में स्तनपान से वंचित बच्चों में बीमारी की सम्भावना अधिक होती है और उनकी रोग.प्रतिरोधक क्षमता बहुत कम होती है| विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं यूनिसेफ के अनुसार उत्तरप्रदेश में औसतन 25 प्रतिशत बच्चे जन्म के एक घंटे के अन्दर माँ का स्तनपान नहीं कर पा रहे हैं|उन्होंने क़ि माँ को जन्म के बाद उन महत्वपूर्ण मिनटों में स्तनपान कराने के लिए चिकित्सा विभाग के कर्मियों और परिवारीजनों को भी समर्थन करना चाहिए ताकि बच्चे को जन्म के तुरन बाद स्तनपान कराया जा सके|
स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ०स्वेता तिवारी ने बताया कि स्तनपान कराने वाली धात्री माँ को प्रत्येक स्तर पर पूर्ण सहयोग प्रदान करके ही हम स्वस्थ शिशु की कल्पना कर सकते हैं| इसके लिए जरुरी है कि परिवार समुदाय और कार्य स्थल सभी स्थानों पर माँ को पूर्ण सहयोग दिया जाए| तथा उसे छह माह तक केवल स्तनपान कराने हेतु प्रेरित किया जाए| इसके साथ ही आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता भी घर.परिवार में जाकर धात्री माँ और शिशु को स्तनपान कराने में मदद करें|
उन्होंने कहा क़ि आंगनबाड़ी केंद्र पर या ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस पर प्रसव पूर्व और प्रसवोत्तर सत्र के दौरान भी माताओं को स्तनपान के महत्त्व की जानकारी दे सकती हैं| विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान स्तनपान को हर स्तर पर बढ़ावा देने का प्रयास किया जाना चाहिए| वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री द्वारा पोषण अभियान की शुरुआत की गयी है| इस अभियान के अंतर्गत भी स्तनपान और ऊपरी आहार को अत्यंत महत्वपूर्ण गतिविधियों के रूप में चिन्हित किया गया है| माँ कार्यक्रम को आधार मानते हुए हर साल की भांति इस वर्ष भी हम सभी को व्यक्तिगत रूप से इस सप्ताह में स्तनपान के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक करना है| .इस दौरान आरके,एसके कोऑर्डिनेटर चंद्रपाल सिंह, परवीन,अनीता,रामबेटी व रूबी आदि मौजूद रहे |

अपडेट: पेंड गिरने से कांवड़िये की ददर्नाक मौत

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कम्पिल)बरसात के दौरान अचानक सूखा शीशम का पेंड गिरने से जल भरने जा रहे कांवड़िए की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी| जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी| सूचना मिलने पर पुलिस काफी देरी से पंहुची|
थाना क्षेत्र के ग्राम गौरखेड़ा निवासी 25 वर्षीय ओमरूप पुत्र हाकिम अपने गाँव के लगभग 60 लोगों की टोली के साथ पटना शहजंहापुर जलाभिषेक करने के लिये जा रहा था| उससे पूर्व सभी अटैना घाट से जल भरने के लिये जा रहे थे| टोली के साथ चल रहे ट्रेक्टर के आगे ओमरूप कंबाड लेकर चल रहा था| थाना क्षेत्र के ग्राम अकबरपुर गढिया के निकट अचानक सड़क किनारे खड़ी शीशम ओमरूप के ऊपर गिर गया| जिससे उसका सिर फट गया|
ओमरूप का विवाह बीते दो वर्ष पूर्व ग्राम उलियापुर निवासी सुषमा के साथ हुआ था| वह तीन भाईओं में दूसरे नम्बर का था| घटना की सूचना देने के काफी समय के बाद डायल 100 मौके पर पंहुची| घटना की जाँच पड़ताल की| इसके बाद सीओ अखिलेश राय, एसडीएम
अनिल कुमार व थानाध्यक्ष महेंद्र त्रिपाठी आदि भी मौके पर आ गये| अधिकारीयों ने परिजनों से वार्त्ता की| एसडीएम ने कहा की मृतक को सरकारी मुआवजा दिलाया जायेगा| इसके बाद परिजन ने शव उठने दिया| पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा|

मकान का बरामदा गिरने से ग्रामीण गंभीर

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद: बरसात के कारण अचानक मकान का बरामदा टूट कर गिर गया| जिससे गृहस्वामी गम्भीर रूप से जख्मी हो गया| उसे उपचार हेतु लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया है|
शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम नरायनपुर निवासी 40 वर्षीय संतोष कठेरिया अपने घर के बाहर बरामदे में हाथपैर धो रहे थे| तभी अचानक बरामदा भरभरा कर गिर गया| जिससे संतोष उनके नीचे दबकर गम्भीर रूप से जख्मी हो गया| जिसके बाद 108 एम्बुलेंस से उसे लोहिया अस्पताल भेजा गया| घायल की पत्नी लाजवती ने बताया कि घर पुराना हो गया था| उसके साथ ही जलभराव से मकान की निहास ही कमजोर हो गयी थी| जिसके चलते उसका बरामदा गिर गया|

जेएनआई पर खास खबर:शासन की साख को ताक पर रख सीएमओ चला रहे निजी अस्पताल!

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:योगी सरकार में यूपी का यह शायद पहला मामला होगा जब जिला स्तर का अधिकारी उस काम को अंजाम दे रहा हो जिसे रोकने के लिये उसे जनपद में तैनात किया गया हो| यह ताजा मामला जिले में तैनात मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० अरुण कुमार का है जिनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है| जिसमे वह वाकायद बीते दो दिन पूर्व ही जनपद मैनपुरी में अपना एक निजी अस्पताल चलाते दिख रहे है| वह वाकायदा मरीज भी देख रहे है| वीडियो वायरल होने के बाद जिलाधिकारी मोनिका रानी सख्त हो गयी है| उन्होंने सीएमओ से इस सम्बन्ध में जबाब तलब करने की बात कही है|
जनपद में तैनात सीएमओं अरुण कुमार उपाध्याय का वीडियो सोशल मीडिया में बायरल होते ही स्वास्थ्य बिभाग मे हडकंप मच गया आरोप है कि जिले के सीएमओं फर्रुखाबाद जनपद छोड़ पिछली तैनाती के जिले मैनपुरी में आज भी प्राइवेट तौर पर क्लिनिक चला रहे है| जिले में लगभग हर रविवार को सीएमओं परिबार की समस्या बता कर छुट्टी लेकर जिले से गायब हो जाते है| सीएमओं के इस वीडियो के वायरल होने से सभी हैरान है कि जिले स्वास्थ बिभाग के मुखिया का यह हाल है तो स्वास्थ विभाग के अन्य कर्मियों का क्या हाल होगा यह तो वीडियो देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है|
सीएमओ का निजी अस्पताल में मरीज देखने का चाब यंहा तक है कि रविवार को पोलियो अभियान के दिन भी आधे घंटे की छुट्टी लेकर मैनपुरी चले गये| जंहा उन्होंने अपने प्राइवेट अस्पताल का संचालन खुले आम शुरू कर कर दिया सीएमओ की इस करतूत उस पीड़ित मरीज ने अपने कैमरे में कैद कर लिया जो सीएमओ फर्रुखाबाद को अपना अल्ट्रासाउंड दिखाने और इलाज लेने के लिये उनके निजी अस्पताल में गया था| वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है| जेएनआई की खबर पर जिलाधिकारी मोनिका रानी शख्त हो गयी|
डीएम ने बताया कि सीएमओ का वीडियो उनके संज्ञान में आया है| तख्तों की जानकारी कर फ़िलहाल सीएमओ से जबाब तलब किया जायेगा| उन्होंने शख्त लहजे में कहा कि निजी चिकित्सा करना किसी भी श्रेणी में मान्य नही है| यदि वीडियो की सत्यता सिद्ध हो गयी तो कार्यवाही के लिये शासन को लिखा जायेगा|

ट्रेक्टर की टक्कर से प्रतीक्षालय गिरा,वृद्ध की मौत दो जख्मी

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) बरसात से बचने के लिए सड़क किनारे प्रतीक्षालय में तीन ग्रामीण खड़े थे| उसी बालू लेकर जा रहे तेज रफ्तार ट्रेक्टर ने प्रतीक्षालय में टक्कर मार दी| जिससे एक वृद्ध की मौके पर ही मौत हो गयी| जबकि दो जख्मी हो गये|दोनों घायलों को पुलिस ने लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया|
थाना अमृतपुर क्षेत्र के ग्राम ताजपुर निवासी 70 वर्षीय जगदीश के साथ ही इसी गाँव के 65 वर्षीय लाल सिंह भी खड़े थे| इसके अलावा ग्राम ताजपुर निवासी 40 वर्षीय जगनेश पुत्र सत्यप्रकाश भी खड़ा था| जगनेश पीएससी अमृतपुर में दवा लेकर लौटा था| उसी समय अचानक राजेपुर की तरफ से बालू लेकर अमृतपुर की तरफ जा रहे तेज रफ्तार ट्रेक्टर ने सड़क किनारे बने प्रतीक्षालय में जोरदार टक्कर मार दी| जिससे प्रतीक्षालय भरभरा कर गिर गया| जिससे उसमे खड़े जगदीश की मौके पर ही मौत हो गयी| जबकि लाल सिंह व जगनेश बुरी तरह जख्मी हो गये| चीखपुकार सुनकर ग्रामीण मौके पर एकत्रित हो गये| सूचना पर डायल 100 मौके पर आ गयी| जिससे जगनेश व लाल सिंह को लोहिया अस्पताल में भर्ती किया|
घटना की सूचना पर सीओ सुरेन्द्र तिवारी,प्रभारी निरीक्षक रामप्रकाश व थानाध्यक्ष राजेपुर अंगद सिंह आदि मौके पर पंहुचे| पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया|

मिक्सर मशीन से मजदूर का हाथ उखड़ा

0

Posted on : 07-08-2018 | By : JNI-Desk | In : ACCIDENT, CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(जहानगंज) बीती सोमवार की देर शाम सीमेन्ट मिक्सर मशीन पर मजदूरी कर रहे मजदूर का हाथ अचानक उसमे जाने से उखड़ गया| उपचारके लिये उसे लोहिया अस्पताल भेजा गया जंहा से सैफई रिफर कर दिया गया|
थाना क्षेत्र के ग्राम घाटमपुर निवासी अमर सिंह पुत्र कांता के मकान का लेंटर पड़ रहा था| जिसमे ग्राम फरीदपुर निवासी पुष्पेन्द्र पुत्र मान सिंह की मिक्सर मशीन लगी थी| मशीन पर लगभग एक दर्जन मजदूर कार्य कर कर रहे थे| अचानक मशीन के निकट खड़े 23 वर्षीय मजदूर संतोष पुत्र बाबूराम का हाथ मशीन के भीतर चला गया| जिसमे अचानक संतोष का हाथ मशीन में चला गया| जिससे उसका हाथ ही उखड़ गया| जिससे बाद काम बंद हो गया| मौके पर भीड़ एकत्रित हो गयी| उसे गम्भीर हालत में लोहिया अस्पताल भेजा गया| जंहा से उसे सैफई के लिये रिफर कर दिया गया|