Featured Posts

सियासी आकाओं की परिक्रमा में जुटे टिकट के दावेदार! फर्रुखाबाद:लोक सभा की चुनावी आहट शुरू होने के साथ ही सियासी सरगर्मियां बढ़ गई है। जिले का सांसद बनने का सपना देखने वाले लोग अपने राजनैतिक आकाओं की परिक्रमा करने में जुट गये है। वैसे तो सपा,भाजपा,बीएसपी आदि के बैनर तले कई लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक है मगर सबसे बड़ी फेहरिस्त...

Read more

गणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानेंगणतंत्र की वर्षगांठ का उल्लास,तिरंगे से सजी दुकानें फर्रुखाबाद:गणतंत्र दिवस को लेकर पूरा शहर तिरंगे रंग में रंगा नजर आ रहा है। गणतंत्र दिवस की वर्षगांठ की रौनक शहर में नजर आने लगी है। बड़े व्यवसायियों और ठेली व्यापारियों ने अपनी दुकान तिरंगे, दुपट्टों, मालाओं, पतंगों से रंग दिया है। बाजार में केसरिया, सफेद और हरे रंग से बने...

Read more

जेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों की डिमांडजेएनआई विशेष: कुम्भ में बढ़ी फतेहगढ़ सेन्ट्रल जेल के भगवा झोलों... फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बनने वाले झोले आदि सामान तो वैसे भी मजबूती के मामले में बेजोड़ माना जाता है| लेकिन आम जनमानस में इसकी खरीददारी को लेकर साधन उपलब्ध नही है| लेकिन इसके बाद भी उसको खरीदने की चाहत लोगों के जगन में रहती है| अब कारोबार कम है लेकिन...

Read more

महिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफामहिलाओं का प्रतिशत कम देख नोडल अधिकारी खफा फर्रुखाबाद: अपने निरीक्षण में महिलाओं की संख्या गाँव के पुरूषों से काफी कम देख नोडल अधिकारी खफा हो गये| उन्होंने कहा की सरकार बेटी-बचाओं और बेटी पढाओ पर अपना पूरा जोर दे रही है| लेकिन इस गाँव में पुरुष वर्ग की अपेक्षा महिलाओं का प्रतिशत चिंता का विषय है| उन्होंने अधिकारियों...

Read more

कोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकारकोटेदारों का खाद्यान्न उठाने से साफ़ इंकार फर्रुखाबाद:अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे जिले के कोटेदारों ने अब राशन उठान ने मना कर आन्दोलन की राह पकड़ ली है| जिसके चलते कोतेदारों ने साफ़ कह दिया की जब तक उनकी मांगो पर विचार नही होगा तब तक वह राशन नही उठायेंगे| नगर के ग्राम चाँदपुर में आयोजित हुई उचितदर विक्रेताओं...

Read more

छुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरीछुट्टा गोवंश के भरण-पोषण को 78.5 करोड़ की मंजूरी लखनऊ:छुट्टा गोवंश के रखरखाव के लिए चरागाह की जमीनों का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसके लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधक समिति किसी गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) या कॉरपोरेट घराने से अनुबंध कर सकती है। वहीं पशु आश्रय स्थलों की स्थापना चरागाह की जमीन से हटकर अनारक्षित श्रेणी की भूमि...

Read more

सामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को मौत के घाटसामूहिक बलात्कार के बाद तीन दरिंदों ने उतारा था गोल्डी को... फर्रुखाबाद:(अमृतपुर)बीते दिन खेत में दुष्कर्म के बाद हत्या किये जाने की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी थी| घटना के बाद से एसपी ने क्षेत्र में डेरा जमा लिया था| 24 घंटे के भीतर घटना करने के आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| जबकि एक फरार आरोपी पर ईनाम भी रखा...

Read more

खास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजीखास खबर:यह शख्स रोज करता परिंदों की मेहमान नवाजी फर्रुखाबाद:(दीपक शुक्ला)ऋषि-मुनि, संत-महात्मा सही कह गए हैं कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य के ज‍ीवन में आने वाली कई परेशानियों से छुटकारा बड़ी ही आसानी से मिल जाता है। एक ओर ईश्वर की भक्ति के कृपा पात्र बनते हैं वहीं हमें अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही पुण्य-लाभ...

Read more

मिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वादमिक्सी ने मिस कर दिया सिल-बट्टा के मसालों का स्वाद फर्रुखाबाद:(दीपक-शुक्ला)पुराने समय में खाना पकाने के लिए मसाले पीसने के लिए ओखली-मूसल और सिल बट्टा का इस्तेमाल किया करते थे। बेशक इन चीजों में मसाला पीसने में मेहनत और समय दोनों खर्च होते थे लेकिन खाने का जो स्वाद आता था, यब बात आपके परिजन अच्छी तरह जानते होंगे। आजकल लोगों...

Read more

मोदी की हत्या के लिए खरीदे जाने वाले थे ये हथियार,पढ़े

Comments Off on मोदी की हत्या के लिए खरीदे जाने वाले थे ये हथियार,पढ़े

नई दिल्ली:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश के आरोप में जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनसे कई सनसनीखेज सबूत हाथ लगे हैं। महाराष्‍ट्र पुलिस के एडीशनल डायरेक्‍टर जनरल (एडीजी) परम बीर सिंह ने बताया कि छापेमारी के दौरान कई ऐसे सबूत मिले हैं जो गिरफ्तार आरोपियों और माओवादियों का और साजिश का संबंध स्‍पष्‍ट कर रहे हैं। इसकी पुष्‍टि होने के बाद ही पुलिस ने इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की।
महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक आरोपी रोना विल्सन के कंप्यूटर से इस मामले में अहम सबूत हाथ लगे हैं। ये सबूत कंप्यूटर में फाइलों के रूप में सुरक्षित थे। बताया गया है कि ये पासवर्ड प्रोटेक्टेड फाइल्स थी। जिनमें एक बड़ी आपराधिक साजिश के लिए कई आधुनिक हथियारों की लिस्ट थी।
इन हथियारों का है जिक्र
पुलिस की मानें तो रोना विल्सन के कंप्यूटर से मिली हथियारों की लिस्ट वाली फाइल में रूसी, चीनी और अमेरिकी ग्रेनेड लॉन्चर का जिक्र है। जानिए कौन-कौन से हैं ये हथियारः
जीएम-94 ग्रेनेड लॉन्चर
ये एक रशियन ग्रेनेड लॉन्चर है। जिसकी मारक क्षमता 300 मीटर तक है। इसमें तीन राउंड की मैगजीन कैपेसिटी है। यह करीब 5 किलो वजन का होता है और इससे मैनुअली रीलोड किया जाता है।
क्यूएलजेड डब्ल्यू87
यह चाइनीज ग्रेनेड लॉन्चर है, जिसकी मारक क्षमता 600 मीटर तक है। यह एक ऑटोमैटिक हथियार है। जिससे करीब एक मिनट में 500 राउंड तक फायर किए जा सकते हैं।
एम 203 (एम4)
यह एक अमेरिकी हथियार है। डेढ़ किलो वजनी इस हथियार की मारक क्षमता 150 मीटर से लेकर 300 मीटर तक है। इसे एम-4 के नाम से भी जाना जाता है।
चिट्ठी में भी हथियारों का जिक्र
पीबी सिंह ने प्रेसवार्ता में रोना विल्सन की ओर से कामरेड प्रकाश को लिखी गई चिट्ठठी का कुछ अंश भी पढ़ा। जिसमें प्रधानमंत्री मोदी को मारने की साजिश का साफ-साफ जिक्र था। इसमें लिखा है, ‘मुझे उम्मीद है कि आपको ग्रेनेड सप्लाई के लिए दिए जाने वाले 8 करोड़ रुपये की जानकारी मिल गई है। कॉमरेड किशन और बाकी लोगों ने राजीव गांधी की तर्ज पर मोदी राज को खत्म करने का प्रस्ताव रखा है।’
एडीजी ने बताया कि इन पत्रों से जाहिर होता है कि ये कार्यकर्ता माओवादियों के साथ संपर्क में थे और कानूनी रूप से चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने की कोशिश में जुटे थे। उन्‍होंने कहा कि 31 दिसंबर, 2017 को हुई घटना के संबंध में 8 जनवरी, 2018 को मामला दर्ज किया गया। जांच से खुलासा हुआ कि माओवादी बड़ी वारदात को अंजाम देने की साजिश कर रहे थे और गिरफ्तार आरोपी इसमें उनकी मदद कर रहे थे।

गरीब बेटी का विवाह मददगारों का ‘कन्यादान’

Comments Off on गरीब बेटी का विवाह मददगारों का ‘कन्यादान’

फर्रुखाबाद:(मोहम्मदाबाद) समाज में एक दूसरे का दुःख बाँटने का समय किसी के पास ना हो लेकर अभी भी समाज में बहुत से लोग है जो किसी मददगार के लिये हमेशा उठे रहते है| इसका जीता जागता उदाहरण तब देखने को मिला जब एक गरीब दलित कन्या के विवाद में समाज के लोगों ने अपना सहयोग देकर उसका कन्यादान कराकर उसको विदा किया|
मामला कोतवाली क्षेत्र के ग्राम किदवई नगर निवासी कैलाश वाल्मीकि के घर का है| कैलाश बीते लगभग चार महीने से चारपाई पर लेटे है वह गम्भीर बीमारी से परेशान है| उनकी पत्नी मंजू देवी की मौत बीते लगभग 15 वर्ष पूर्व हो गयी थी| एक पुत्र पंकज विकलांग है व अविवाहित पुत्री स्वाती थी| जिसके विवाह को लेकर कैलाश चारपाई पर लेकर सोचते रहते थे लेकिन गरीबी उनकी पुत्री के विवाह में बाधा बनी थी| जिस पर उन्होंने अपने साथ बसपा के विधान सभा अध्यक्ष रामदत्त गौतम को बुलाकर अपना दर्द बताया और कहा कि वह गम्भीर बीमार है उनकी पुत्री का विवाह उनके सामने हो जाये तो मौत भी शांति से आ जायेगी|
जिसके बाद रामदत्त गौतम ने मीडिया कर्मियों से सम्पर्क किया| उधर उन्होंने शहर कोतवाली क्षेत्र के बढ़पुर निवासी अमन पुत्र बाबू राम के साथ विवाह भी तय कर दिया| जब यह बात सामाजिक लोगो क ओ पता चली तो तत्काल अवनीश यादव सचिव ने एक जोड़ी पाजेब, प्रदीप कौशल ने बेड, बसपा नेता अशोक गोल्डन ने ड्रेसिंग टेबिल, ब्रजेश दुबे ने अलमारी, नीटू यादव ने पायल, पंखा व वर्तन, शराफ़त ने बारात को खाना खिलाया, राधेश्याम चिक ने दरवाजे के वर्तन दिये|
बारात लगभग 2 बजे और 5 बजे भांबर व कन्यादान के बाद बारात विदा हो गयी|

सीमा विवाद में फंसे दो सौ परिवार,राहत सामिग्री के लिये तरस रहे ग्रामीण

Comments Off on सीमा विवाद में फंसे दो सौ परिवार,राहत सामिग्री के लिये तरस रहे ग्रामीण

Posted on : 31-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, सामाजिक

फर्रुखाबाद:(कंपिल) दो जनपदों के बीच बाढ़ में फंसे ग्रामीणों को राहत सामिग्री उपलब्ध कराने के लिये गेंद दोनों जिलों का प्रशासन एक दुसरे की गोद में फेंक रहा है| 200 परिवार वाला गांव सीमा रेखा के चक्कर में बाढ़ के पानी में तड़प रहा है
जनपद फर्रुखाबाद और जनपद बदायूं के मध्य एक गांव जटा जिसमें करीब 200 परिवार रहते हैं| भीषण बारिश और बाढ़ के चलते गंगा के किनारे बसा गांव जटा की हालत बेहद नाजुक है| ग्रामीणों को 2 किलोमीटर पानी में ही चलकर बाजार के लिए आना पड़ता है कई घरों में पानी भरा हुआ है ना ही इस गांव की ओर जनपद बदायूं का प्रशासन ध्यान दे रहा है और ना ही फर्रुखाबाद का| अब ऐसे में यह लोग यह आस लगाए हुए बैठे हैं कि किस जनपद का प्रशासन उनकी तरफ कोई ध्यान दे देता है। ग्रामीणों की खेती जनपद फर्रुखाबाद में है जो कि जलमग्न हो चुकी है और गांव जनपद बदायूं में बसा हुआ है|
बदायूं की तरफ से भी ग्रामीणों को कोई राहत सामग्री या राहत बचाव कार्य के लिए कोई भी इंतजाम नहीं किया गया है| और ना ही दवाई आज के लिए कोई डॉक्टर की टीम उस गांव में नजर आई है। ग्रामीण इसरार, समीर,शमशाद आदि ने बताया कि गंगा के कटान में गांव के 12 घर कट चुके हैं।
एसडीएम ने बांटी राहत सामिग्री
कंपिल के पथरामयी,पलीतपुरा,गढ़ी,हमीरपुर मजरा, जात ,मंतपुरा ,चौडेरा सहित इकलहरा, शेखपुर में भी बाढ़ का पानी पहुंच चुका है। शुक्रवार को एसडीएम अनिल कुमार ने ग्राम पथरा मई के प्राथमिक विद्यालय में पहुंचकर बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री बांटी| ग्राम समाज की जगह में 50 परिवारों को पॉलिथीन दिलवाकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने की व्यवस्था की। ग्रामीणों की मांग पर दो नावों की व्यवस्था की गईं। इस दौरान नायब तहसीलदार पवन गुप्ता, जिला पंचायत सदस्य किशनपाल सिंह यादव,ग्राम प्रधान अवधेश यादव किशनू चतुर्वेदी ,सुदेश राजपूत आदि लोग रहे|

मुस्लिम महासभा ने फूंका पालिकाध्यक्ष का पुतला

Comments Off on मुस्लिम महासभा ने फूंका पालिकाध्यक्ष का पुतला

फर्रुखाबाद:पालिका अध्यक्ष को दिये गये 6 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन के बाद कोई कार्यवाही न होने पर मुस्लिम महासभा ने उनका पुतला फूंक दिया|
संगठन ने कहा कि बीते दिनों दिये गये ज्ञापन में शहर की मुख्य समस्याओ से सम्बन्धित ज्ञापन पालिकाध्यक्ष को दिया था| लेकिन उसके बाद भी कोई कार्यवाही नही हुई| जिससे आक्रोशित होकर मुस्लिम महासभा के पदाधिकारियों ने थाना मऊदरवाजा क्षेत्र के टाउन हाल तिराहे पर पालिकाध्यक्ष वत्सला अग्रवाल का पुतला फूंक दिया|
इस दौरान अनवर पठान, अकरम, जिलाध्यक्ष करीयाब खान, इमरान, आसिफ व अकरम आदि रहे|

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर सरकार को कोसा

Comments Off on पुरानी पेंशन बहाली को लेकर सरकार को कोसा

Posted on : 31-08-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, Politics, सामाजिक

फर्रुखाबाद:पुरानी पेंशन बहाली मंच की ओर से कलक्ट्रेट में प्रस्तावित धरने में सभी संगठनो ने एक स्वर में प्रदर्शन कर अपनी मांगो को जल्द पूरा करने की बात कही
जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के साथ ही अन्य संगठनों के कलेक्ट्रेट में पुरानी पेंशन बहाली को लेकर शेष नरायण सचान की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन किया गया| जिसमे सभी ने एक स्वर से सरकार से पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग की गयी| जिसमे कहा गया कि सांसद, विधायक को एक बार चंद दिनों के नेतृत्व के बदले जीवन भर पेंशन मिलती है। जबकि शिक्षक कर्मचारी जीवन भर सेवा करने पर भी उसे पेंशन से महरूम करना अधिकारों का हनन है।कर्मीचारियों ने एक स्वर में केंद्र व प्रदेश सरकार को कोसा|
इस दौरान कर्मचारी नेता अखिलेश अग्निहोत्री, पंकज शुक्ला,जूनियरहाई स्कूल शिक्षक संघ के प्रांतीय संयुक्त मंत्री मज़हर मुहम्मद खां,प्रवेश कटियार,विमलेश शाक्य, नीरज शुक्ला,अनुराग सिंह, विजय कनौजिया, फिरोज़ अली, अज़गर हुसैन, त्रिपुरारी त्रिवेदी, अजीत यादव, गौरव शाक्य व अमरीश सिंह आदि सैकड़ों कर्मचारी रहे|

[bannergarden id="12"]