रेलवे की अधूरी परियोजनाओं का खाका पीएम को भेजा

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन, राष्ट्रीय

फर्रुखाबाद: पूर्वोत्तर रेलवे व अन्य सम्बन्धित रेलवे की छूटी व अधूरी परियोजनाओ के सन्दर्भ में प्रधानमंत्री मोदी को खाका भेजा है| भेजे गये पत्र में यह भी कहा गया है कि यदि पत्र में दिये गये बिन्दुओं को ध्यान दिया जाये को काफी आसानी होगी|
अखिल भारतीय युवा जन सेवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष मोहित गुप्ता ने पीएम मोदी को पत्र भेजा है| जिसमे उन्होंने छूटी हुई परियोजनाओ के चार महत्वपूर्ण बिंदु अंकित किये है| पहले बिंदु में कहा है कि कासगंज व अलीगढ़ ज० आपस में जोड़ा जाये जिससे दिल्ली से वाया कासगंज की दूरी 420 किलोमीटर कम होगी| पूर्व में वर्ष 2015-16 मे सरकार ने जिले में भोलेपुर, देवरामपुर, फर्रुखाबाद व शमसाबाद में ओवर ब्रिज को मंजूरी मिली थी| उनका निर्माण कार्य जल्द कराया जाये| पत्र में चार मांगे है|
पत्र पर राहुल जैन, पंकज प्रकाश, अतुल गुप्ता, शैलेन्द्र, रानू,सनम सिंह,मंगली गुप्ता व मनोज सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं ने हस्ताक्षर किये|

टैम्पो की टक्कर से मासूम की मौत,ग्रामीणों ने लगाया जाम

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, POLICE

फर्रुखाबाद:(कायमगंज)तेज रफ्तार टैम्पो की टक्कर लगने से मासूम बालक की मौत हो गयी| ग्रामीण दर्दनाक घटना देख आक्रोशित हो गये| उन्होंने जाम लगा दिया| मौके पर पंहुचे एसडीएम के समझाने पर जाम खुल सका|
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रूटौल निवासी गुरदीप का पांच वर्षीय पुत्र हर्षित बुधवार की दोपहर बच्चों के साथ घर के बाहर खेल रहा था। तभी कायमगंज की ओर से अलीगंज जा रहे तेजरफ्तार टैम्पो ने हर्षित के जोरदार टक्कर मार दी| जिससे वह गम्भीर रूप से जख्मी हो गया| घटना के बाद परिजन उसे तत्काल सीएचसी लेकर गये| जंहा उसे मृत घोषित कर दिया गया|
घटना के बाद भीड़ ने चालक को पकड़ लिया| उसकी जमकर पिटाई की गयी| मौका देखकर चालक रफूचक्कर हो गया| उधर घटना से आक्रोशित मृतक के परिजन शव लेकर सीएचसी से घर आ गये| उन्होंने मुआबजे की मांग को लेकर सड़क पर शव रखकर जाम लगा दिया| दोनों ओर वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारें लग गईं। कई वाहन विभिन्न रास्तों से गुजरते देखे गए। जाम की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। जाम की सूचना मिलने पर एसडीएम अनिल कुमार व तहसीलदार गजेन्द्र सिंह ने मौके पर जाकर परिजनों ने वार्ता की| अधिकारियों के लिखित आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम खोला|
इसी बीच कायमगंज की ओर से एक ओवरलोड टैम्पो जो कि अलीगंज जा रहा था कि टक्कर से हर्षित गम्भीर रूप से घायल हो गया। वहां मौजूद लोगों ने टैम्पो चालक को पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। इधर कुछ लोगों का लगा कि हर्षित की सांसे चल रही हैं। सो वह उसे लेकर सीएचसी के लिए रवाना हो गए। इसी बीच टैम्पो चालक टैम्पो लेकर भाग गया। टैम्पो गुलबाजनगर निवासी प्रेमपाल का बताया गया है। सीएचसी में हर्षित को चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। उसकी मौत पर परिजन दहाड़े मार-मारकर रोने लगे। वह शव को लेकर वापस गांव पहुंचे और मुआवजे की मांग करने हेतु शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। उसने परिजनों एवं ग्रामीणों को समझाया। लेकिन वह जाम खोलने को तैयार न हुए। तब उपजिलाधिकारी अनिल कुमार व तहसीलदार गजेन्द्र सिंह वहां पर पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने परिजनों को समझाया कि वह शासन को मुआवजे हेतु अपनी संस्तुति भेजेंगे। साथ ही उन्होंनेे कहा कि आवश्यक स्थानोें पर सड़क पर ब्रेकर बनाए जाएंगे तथा डग्गामार वाहनों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। टैम्पो चालक की तलाश में पुलिस दबिशे दे रही है। अधिकारियों के लिखित आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम खोल दिया।

सेन्ट्रल जेल में वीडियो कांफ्रेंसिंग से कुख्यात सुनील राठी की हुई पेशी

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, JAIL, POLICE, जिला प्रशासन

बागपत:(फर्रुखाबाद) सेन्ट्रल जेल फतेहगढ़ में बंद कुख्यात सुनील राठी ने पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या बागपत जेल में गोली मारकर की थी| इसी केस में सुनील राठी की बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग से बागपत सीजेएम कोर्ट में पेशी हुई। केस के विवेचक का कहना है कि राठी के केस में दोबारा रिमांड बन गया है।
बीते नौ जुलाई की सुबह बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। कुख्यात सुनील राठी ने बजरंगी की हत्या करना स्वीकार किया था और उसकी निशानदेही पर पुलिस ने जेल के सेफ्टी टैंक से वारदात में प्रयुक्त पिस्टल, दो मैग्जीन और 22 कारतूस बरामद किए थे। खेकड़ा थाने में राठी के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज हुए थे। इनमें एक हत्या व दूसरा राठी की निशानदेही पर पिस्टल बरामदगी का केस शामिल है। सुरक्षा की लिहाज से उसे से फतेहगढ़ सेंट्रल जेल से राठी को पेशी पर नहीं लाया गया। केस के विवेचक एवं खेकड़ा थानाध्यक्ष एसपी सिंह का कहना है राठी की वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी हुई है। उसका 14 दिन का न्यायिक रिमांड बन गया है।
बता दें कि बजरंगी की हत्या के केस में राठी का 21 जुलाई को रिमांड बना था। दूसरी ओर कुख्यात अजीत उर्फ हप्पू निवासी बावली भी फतेहगढ़ की सेंट्रल जेल में बंद है। उसकी भी बुधवार को सीजेएम अदालत में पेशी थी। वह न्यायालय में पेशी पर नहीं आया। न्यायालय ने पेशी की अगली तारीख नियत कर दी है। मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में न्यायिक जांच भी तेजी से आगे बढ़ रही है। इस मामले में निलंबित जेलर, डिप्टी जेलर समेत चारों कर्मचारियों के बयान दर्ज होंगे। इसके लिए अदालत ने उनको तलब किया है। इससे पहले विक्की सुन्हैड़ा समेत तीन बंदियों के बयान दर्ज हो चुके हैं। जेल सूत्रों के मुताबिक अदालत ने निलंबित जेलर यूपी सिंह, डिप्टी जेलर शिवाजी यादव और दो मुख्य बंदीरक्षक अरजिंदर और माधव कुमार को बयान दर्ज कराने के लिए तलब किया है। ये चारों जल्द ही बयान देने के लिए अदालत पहुंचेंगे। अदालत ने मुन्ना बजंरगी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी तलब कर रखी है। इसके अलावा मजिस्ट्रेटी, पुलिस और जेल के अधिकारी भी जांच करने में लगे हुए है। बुधवार को भी पुलिस की टीम ने जेल में पहुंचकर जांच पड़ताल कर बंदियों से पूछताछ की।
साक्ष्य देने की तिथि बढ़ेगी
बजरंगी हत्याकांड की मजिस्ट्रीयल जांच में बुधवार को कोई भी साक्ष्य देने नहीं पहुंचा। अब साक्ष्य देने की तारीख बढ़ाई जाएगी। एडीएम वित्त व राजस्व लोकपाल सिंह मजिस्ट्रीयल जांच कर रहे हैं। हत्याकांड के संबंध में कोई भी लिखित या मौखिक साक्ष्य 25 जुलाई तक दे सकता था। परिजनों को भी सूचना दी गई थी।

कांवड़ यात्रा के दौरान डीजे बजाने पर प्रतिबंध

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन

फर्रूखाबाद:कलेक्ट्रट सभागार में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने कावड़ यात्रा को सफल बनाने हेतु एक बैठक का आयोजन किया| जिसमे उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा के दौरान डीजे पर प्रतिबन्ध रहेगा व डीजे मालिकों को नोटिस भी जारी किये जायेंगे| सभी कावड़ मार्ग/मन्दिरों के आस-पास सफाई कराने के निर्देश दिये।
डीएम ने कहा कि सभी घाटों पर पर्याप्त मात्रा में गोताघोर लगाये जाये।सिचाई,पंचायती राज,चिकित्सा विभाग एवं खाद्य विभाग को अपने विभागीय कर्मचारियों की डियूटी सभी संबंधित स्थलों पर लगाकर सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।अधिशासी अभियन्ता विद्युत को कावड़ मार्गो व मंदिरों के आस-पास जर्जर तारों को बदलवाने तथा अन्य विद्युत समस्याओं को ठीक कराकर प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। सभी घाटों पर स्वास्थ्य कैम्प व चिकित्सकों की ड्यूटी व एक एम्बुलेंस की व्यवस्था कराने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिये। घाटों पर नावों की क्षमता निर्धारित की जाये।
काॅवड़ मार्ग व मंदिरों के आस-पास की मीट की दुकानों को बन्द कराने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। काॅवड़ यात्रा के दौरान डीजे पर प्रतिबन्ध लगाने व डीजे मालिकों को नोटिस देने के निर्देश दिये। उन्होंने ने कहा कि डीजे/भण्डारा करने वालोें के साथ थानों में बैठक करके निर्धारित शर्तो के आधार पर पाबन्द कराया जाये। बैठक में उप जिलाधिकारी ने बताया कि श्रृंगीरामपुर के सम्पर्क कावड़ मार्गों पर गडढ़े है तथा गन्दगी भी अधिक पायी जाती है। डीएम ने अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण को कावड़ मार्गों की मरम्मत कराने के निर्देश दिये।
जिला पंचायत राज अधिकारी अमित त्यागी को सभी कावड़ मार्ग व मन्दिरों के आस-पास सफाई कराने के निर्देश दिये। उन्होंने श्रृंगीरामपुर मेले का आयोजन जिला पंचायत विभाग द्वारा कराने के निर्देश दिये एवं सभी व्यवस्थायें भी जिला पंचायत द्वारा ही करायी जाये। मेले में अगर किसी प्रकार की घटना हुई तो जिला पंचायत अधिकारी की जिम्मेदारी मानकर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने कहा कि श्रृंगीरामपुर जाने हेतु सम्पर्क कावड़ मार्गो पर मुश्लिम ग्राम पड़ते है वहां अकसर झगड़े की सम्भावना रहती है। थानाध्यक्ष कमालगंज को विशेष ध्यान रखने एवं संबंधित मार्गो पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल लगाने के निर्देश दिये। काॅवड़ यात्रा के दौरान ट्रेफिक का विशेष ध्यान रखा जाये। पांचाल घाट के अतिक्रमण को हटाने के निर्देश दिये।
श्रावण माह के विशेष पर्वो पर एक दिन पहले ही कर्मचारियों की ड्यूटी लगाना सुनिश्चित करें सभी संबंधित अधिकारी। जिलाधिकारी ने कहा कि काॅवड़ियों के काॅवड़ों अथवा वस्तुओं का किसी अन्य से छू जाने पर अपवित्र होने जाने पर समाधान हेतु पांचाल घाट पर अतिरिक्त कावड़ की व्यवस्था रखी जाये। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित करते हुये कहा कि कावड़ यात्रा मार्ग के रूट का पूर्व से भ्रमण कर लिया जाये तथा मार्ग पर मोबाइल पुलिस बल की तैनाती की जाये। संवेदन व अतिसंवेदनशील स्थलों पर कावड़ यात्रा की वीडियोंग्राफी करायी जाये। संवेदनशील स्थलों को चिन्हित कर पर्याप्त पुलिस बल लगाया जाये। कावड़ मार्गो पर पर्याप्त सफाई एवं प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। गंगा नदी में सुरक्षित स्थान के द्रष्टिगत बेरीकेटिंग कराकर लाल झण्डे लगवाकर नहाने वाले क्षेत्र को चिन्हित कर लिया जाये तथा घाटों पर गोताखोरों की व्यवस्था की जाये।
कावड़ियों के मार्ग पर अवरोध उत्पन्न करने वाले पेड़ों व झाड़ियों की छटाई व सफाई करा ली जाये। यातायात को बाधित करने वाले अतिक्रमण को चिन्हित कर तत्काल हटवाया जाये। महिला काॅवड़ियों की सुरक्षा व्यवस्था हेतु महिला पुलिस की तैनाती व घाटों पर सीसीटीवी कैमरा लगवाने के निर्देश पुलिस अधीक्षक ने दिये। निर्धारित ध्वनि में डीजे बजाने की अनुमति दी जाये अन्यथा की दशा में कार्यवाही अमल में लायी जाये। 107-116 की कार्यवाही वास्तविकता के आधार पर करायी जाये। उन्होंने कहा कि परम्परा के विपरीत कार्यक्रम/कार्य सम्पादित करने वाले कर्मचारी के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
उन्होंने सभी थानाध्यक्षों को सचेत करते हुये कहा कि किसी भी दशा में लाॅ-इन-आर्डर प्रभावित न होने पाये। पुलिस कर्मचारियों की किसी भी लापरवाही को बर्दास्त नहीं किया जायेगा। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ० अरुण कुमार , समस्त उप जिलाधिकारी, नगर मजिस्ट्रेट एवं समस्त जनपदस्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

बाढ़ के खौफ से ग्रामीण ने तोड़ डाले तीन दर्जन आवास

0

Posted on : 25-07-2018 | By : JNI-Desk | In : CRIME, FARRUKHABAD NEWS, जिला प्रशासन

फर्रुखाबाद:(राजेपुर) बरसात में जब गंगा का पानी उफान पर आने तैयारी पर होता है तो ग्रामीणों की धडकने बढना लाजमी है| जिला प्रशासन के द्वारा फाइलों में ही योजनाओ को पूरा कर इतिश्री कर ली जाती है| जिसका खामियाजा हर वर्ष गंगापार के ग्रामीणों को भुगतना पड़ता है| बाढ़ का पानी कब सब कुछ बहा ले जाये कोई नही जानता| लेकिन इसके बाद भी अभी तक कोई व्यवस्था नही की गयी है| है| प्राथमिक विधालय से गंगा का कटान चंद कदम दूर ही रह गया है|
गांव के करीब कटान आ जाने से ग्रामीणों में भय और आतंक है| लोग रात-रात भर जाग रहे है| पानी मेहनत की कमाई से बनाये गये गाँव के लगभग तीन दर्जन आवासों को ग्रामीणों ने खुद ही तोड़ लिया है| गंगा में उफान होने से बिजली की व्यवस्था भी बाधित हो गयी है| जिससे ग्रामीणों को अँधेरे में ही रात काटनी पड़ रही है| ग्रामीणों का कहना है कि अभी तक किसी भी अधिकारी ने आकर मौके पर ग्रामीणों का दर्द नही सुना| स्कूल में बच्चों को कई दिनों से चावल के अलावा रोटी तक नसीब नहीं हुई ग्रामीणों ने इधर उधर अपने मढैया बनाकर रात गुजारने पर मजबूर हैं
बाढ़ के भय से किस-किस ने तोड़े मकान
गंगा के लगातार कटान करने से परेशान कांति देवी पत्नी रमेश चन्द्र, नन्ही पत्नी विनोद, सुनीता पत्नी रंगलाल, ईश्वरी पत्नी राजपाल, ममता पत्नी अशोक, पूनम पत्नी राम रहीश, लता पत्नी राजेश, गंगादेवी पत्नी रंजित, ममता पत्नी भारत,साबित्री पत्नी देशराज, आशा पत्नी रामवीर व अनीता पत्नी बबलू आदि लगभग 35 ग्रामीणों ने अपने आवास तोड़ डाले है|
कितना है गंगा का जल स्तर
गंगा के खतरे का निशान 136.60 पर है| गंगा खतरे के निशान पर आने से बाढ़ का विकराल रूप होता है| कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार को गंगा का जल स्तर 135.55 पर है| वही बुधवार को नरौरा से 41374 क्यूसेक पानी गंगा में छोड़ा गया| जिससे जल स्तर बढ़ सकता है| बीते दिन जलस्तर 135.50 था|
पत्तो से कटान रोकने का प्रयास
ग्रामीणों का आरोप है कि पत्तो से गंगा के कटान को रोकने का प्रयास सम्बन्धित अधिकारी कर रहे है| कटान के लिये बोरी डाली जाये| जिससे कटान कम हो सके|
एसडीएम अमृतपुर रमेश यादव ने बताया कि उन्हें मामले की जानकारी नही थी|मौके का निरीक्षण कर जल्द कार्यवाही होगी|
राजेपुर से शिवा दुबे